छत्तीसगढ़

अपात्र किसानों के खातों में फिर पहुंचा पीएम किसान निधि की राशि, बड़ी गड़बड़ी का खुलासा

Share this

रायपुर 29 अक्टूबर 2022: प्रधाानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिवाली से ठीक पहले पीएम किसान निधि की राशि जारी कर दिए। पीएम मोदी ने 12वीं किस्त जारी कर किसानों को दिवाली गिफ्ट दिया है। वहीं इस मामले में बड़ी खबर सामने आई है। यहां छत्तीसगढ़ के एक ही जिले में करीब 2 लाख से ज्यादा किसानों एक झटके में अपात्र से पात्र हो गए और खाते में राशि ट्रांसफर हो गई। करीब अरबों रुपए किसानों के खाते में ट्रासफर हुआ है। वहीं जब यह मामला कलेक्ट्रेट पहुंचा तो हड़कंप मच गया।

इस खुलासे के बाद अब कलेक्टर ने रिकवरी के आदेश दिए हैं। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार जांजगीर चांपा जिले का यह मामला है। बताया जा रहा है कि जिले के करीब 2 लाख 63 हजार अपात्र किसानों को भी पीएम किसान सम्मान निधि की राशि भी ट्रांसफर हुए हैं। इन किसानों को करीब 2 अरब 16 करोड़ से अधिक राशि ट्रांसफर हुआ है। इस गड़बड़ी का खुलासा होने के बाद अब कई तरह के सवाल उठ रहे हैं कि आखिर ये कैसे हुआ। संभवना जताई जा रही है कि अधिकारी कर्मचारियों की मिलीभगत से अपात्र किसानों को पात्र बनाकर राशि ट्रांसफर करवा दिया। इसे लेकर अब कलेक्टर ने जांच के आदेश दिए हैं।

वहीं रिकवरी करने को भी कहा है। अपात्र किसानों को एक झटके में पात्र घोषित कर राशि ट्रांसफर कर दिया गया। लेकिन यहां पात्र किसानों को भी राशि नहीं मिला है। पात्र किसानों को राशि नहीं मिलने की वजह e-KYC हो सकता हैं। वहीं उन लोगों के खाते में 12वीं किस्त का पैसा नहीं दिया गया है। लेकिन अगर कुछ किसानों ने ई-केवाईसी करा ली है लेकिन इसके बाद भी किसानों के खाते में पैसा नहीं आया है तो लैंड सिडिंग इसके पीछे बड़ी वजह हो सकती है।