बड़ी खबर

कोरिया जिले के बैकुंठपुर में पुलिस लाइन में बन रहे आवास भवन निर्माण कार्य मे काम करने वाले मजदूर लॉक डाउन के दौरान भूखे रहने को मजबूर

कोरिया जिले के बैकुंठपुर में पुलिस लाइन में बन रहे आवास भवन निर्माण कार्य मे काम करने वाले मजदूर लॉक डाउन के दौरान भूखे रहने को मजबूर

आप को बता दे कि ये मजदूर बिहार , झारखंड और महाराष्ट्र से आकर बयासी मजदूर यहा काम कर रहे थे। जिनके साथ बीस बच्चे भी रह रहे है । लॉक डाउन लगते ही आवास निर्माण का काम करने वाला ठेकेदार मजदूरों को छोड़कर चला गया और किसी भी तरह से इनकी सुध नही लिया जा रहा था मजदूरों की परेशानी की जानकारी मिलने पर मजदूरों का हाल जानने बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव और नपा अध्यक्ष अशोक जायसवाल पहुचे। मजदूरों ने अपनी परेशानी विधायक को बताई जिसके बाद उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों को मौके पर बुलाया । उन्होंने सभी का स्वास्थ्य परीक्षण कराए जाने के लिए कहा । मजदूरों के पास मास्क तक नही था तहसीलदार ऋचा सिंह ने सभी को मास्क उपलब्ध करवाए। वही मौके पर पहुचे नगरपालिका अध्यक्ष अशोक जायसवाल ने इनके लिए राशन की व्यवस्था किये जाने की बात कही । श्रम विभाग के अधिकारी भी मौके पर पहुँचे और मजदूरों से पूरी जानकारी ली । इस पहल के बाद दूसरे राज्य से आकर यहा रह रहे मजदूरों ने राहत की सांस ली। वही लॉक डाउन में मजदूरों को छोड़कर चले जाने वाले ठेकेदार के ऊपर भी कार्यवाही किये जाने की बात प्रशासन ने कही है।

राज्य

अकलतरा से टाटानगर व खरसिया से डाल्टनगंज के लिए 02 रैक भेजा गया चावल

अकलतरा से टाटानगर व खरसिया से डाल्टनगंज के लिए 02 रैक भेजा गया चावल