देशबड़ी खबर

आफताब ने कोर्ट में जुर्म कबूला:वकील बोला- ऐसा कोई बयान नहीं दिया, सिर्फ उकसावे की बात कही

Share this

नई दिल्ली 22 नवम्बर 2022: श्रद्धा मर्डर केस में आरोपी आफताब अमीन पूनावाला की पुलिस रिमांड 4 दिन बढ़ा दी गई है। आफताब को मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए साकेत कोर्ट में पेश किया गया था। जहां बहस हुई कि एक महीने बाद भी आफताब मर्डर का सिलसिलेवार ब्योरा नहीं दे पा रहा है। उसके बयान एक जैसे नहीं हैं। ये कोर्ट में आफताब की दूसरी वर्चुअल पेशी थी।

लीगल न्यूज वेबसाइट बार एंड बेंच और कुछ दूसरी मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया गया कि आफताब ने कोर्ट में मर्डर की बात कुबूल ली। जज से कहा कि उसने उकसावे और गुस्से में श्रद्धा का मर्डर किया। यह भी कहा कि पुलिस को सबकुछ बता चुका हूं। अब घटना याद करने में मुश्किल आ रही है।

ये रिपोर्ट्स सामने आने के करीब एक घंटे बाद अफताब के वकील अविनाश कुमार ने मर्डर के कुबूलनामे को अफवाह करार दिया। कैमरे पर बोले- आफताब ने ऐसा कोई कुबूनामा नहीं दिया है। ऐसा कोई स्टेटमेंट रिकॉर्ड में नहीं लिया गया है। हां, वह यह जरूर बताने की कोशिश कर रहा था कि श्रद्धा उसे उकसाती थी और दोनों के बीच झगड़े होते थे।

अविनाश ने बताया कि आफताब ने उस तालाब का स्केच बनाकर दिया है, जिसमें उसने श्रद्धा के टुकड़े फेंके थे। अविनाश ने आफताब से मिलने की इजाजत मांगी थी, जो कोर्ट ने उन्हें दे दी है। गिरफ्तारी के बाद से आफताब से कोई नहीं मिल पाया है।

आज बड़ा सुबूत मिला, नया खुलासा भी

सुबूत: दिल्ली पुलिस को आफताब के बाथरूम की टाइल्स से अहम सुबूत मिले हैं। फोरेंसिक एक्सपर्ट ने ये सुबूत हासिल किए हैं। सुबूत क्या हैं, ये अभी नहीं बताया गया है। पहले आफताब के बाथरूम की टाइल्स पर भी खून के निशान मिले थे। एक्सपर्ट की रिपोर्ट आने में 2 हफ्ते का वक्त लगेगा।

खुलासा: पुलिस सूत्रों के मुताबिक, श्रद्धा और आफताब का एक कॉमन फ्रेंड भी सामने आया है, जो ड्रग्स बेचा करता था। यह भी पता चला कि श्रद्धा और आफताब के बीच कई बार ब्रेकअप हो चुका था और दोनों बाद में सुलह कर साथ रहने लगते थे।

श्रद्धा मर्डर केस के अपडेट्स…

आज आफताब का पॉलीग्राफी टेस्ट किया जा सकता है।
दिल्ली हाई कोर्ट ने इस मामले की जांच को CBI को ट्रांसफर करने की मांग वाली याचिका खारिज कर दी है। कोर्ट ने कहा- दिल्ली पुलिस की जांच पर विश्वास क्यों न करें।
दिल्ली पुलिस की टीम का अभी तक आफताब के परिवार से कोई संपर्क नहीं हो पाया है। उनकी तलाश जारी है।
पुलिस अब भी क्षद्धा के फोन और हत्या के दौरान पहने गए कपड़ों की तलाश कर रही है।
आफताब ने बताया- ब्लेड और आरी गुरुग्राम में फेंके
कुछ रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि आफताब ने मर्डर वेपन के बारे में पुलिस को जानकारी दी है। पूछताछ में बताया कि हत्या के बाद शव के टुकड़े करने के लिए इस्तेमाल किया ब्लेड और आरी उसने गुरुग्राम में फेंके हैं। दिल्ली पुलिस मर्डर वेपन की तलाश के लिए अब तक दो बार गुरुग्राम के जंगली इलाके में सर्चिंग कर चुकी है। अब पुलिस फिर से जंगल में तलाशी अभियान चलाएगी।

श्रद्धा के टुकड़े तलाश रही पुलिस को मिला इंसानी जबड़ा

दिल्ली पुलिस को सोमवार को लाश के टुकड़े ढूंढने के दौरान एक इंसानी जबड़ा मिला है। यह जबड़ा श्रद्धा का है या नहीं, ये पता लगाने के लिए डेंटिस्ट की मदद ली जा रही है। अब तक पुलिस ने जितने मानव अंग बरामद किए हैं, उन्हें जांच के लिए फॉरेंसिक साइंस लैबोरेटरी भेजा गया है।

एजेंसी के मुताबिक, जबड़े की जांच कर रहे डेंटिस्ट ने बताया- मैंने पुलिस से कहा कि मुंबई में जिस डॉक्टर ने श्रद्धा का रूट-कैनाल ट्रीटमेंट किया था, उससे श्रद्धा के जबड़े का एक्स-रे मांगिए। बिना एक्स-रे के कुछ भी कह पाना मुश्किल है।

पुलिस को आफताब के पॉलीग्राफ टेस्ट की अनुमति मिली

पुलिस को आरोपी आफताब के पॉलीग्राफ या लाई डिटेक्टर टेस्ट की अनुमति मिल गई है। दिल्ली पुलिस ने पहले अदालत में कहा था कि आफताब गलत जानकारी दे रहा है और जांच को गुमराह कर रहा है। इस टेस्ट में व्यक्ति की धड़कन, नब्ज, सांस लेने की प्रक्रिया को नोट किया जाता है और उससे सवाल पूछे जाते हैं। झूठा जवाब देने पर व्यक्ति की धड़कन, नब्ज और सांस अनियमित हो जाती हैं, इससे उसके जवाबों को सही और गलत माना जाता है।

आफताब का नार्को टेस्ट भी होगा। यह टेस्ट रोहिणी के डॉ. बाबा साहेब अंबेडकर अस्पताल में किया जाएगा। इसके लिए दिल्ली पुलिस ने 50 सवालों की लिस्ट तैयार की है।