छत्तीसगढ़

विश्व डायबिटीज दिवस पर अडानी फाउंडेशन ने जागरुकता और स्वास्थ्य शिविर का किया आयोजन

Share this

रायगढ़ 19 नवम्बर 2022: विश्व मधुमेह दिवस (World Diabetes Day) पर अडानी फाउंडेशन (Adani Foundation) की ओर से गुरूवार को विशेष जागरूकता और स्वास्थ्य जांच शिविर का आयोजन किया गया। रायगढ़ जिले के तमनार विकासखंड के गारे पेल्मा- III (जीपी-III) खुली कोयला खदान के आसपास के ग्रामों ढोलनारा, खमरिया, कुंजेमुरा इत्यादि में मोबाइल मेडिकल वाहन के हेल्पेज इंडिया की मेडिकल टीम ने इस उपलक्ष्य में ब्लड शुगर की जांच की।

साथ ही ग्राम मिलूपारा स्थित सर्विस बिल्डिंग में अधिकारी, कर्मचारी, माइन्स वर्कर्स के लिए जागरूकता कार्यक्रम भी आयोजित हुआ। दोनों शिविरों में 100 से अधिक व्यक्ति लाभान्वित हुए।

मधुमेह या डायबिटीज वैश्विक स्तर पर गंभीर बीमारी का रूप ले चुकी है और समाज का काफी बड़ा अंग इसके द्वारा होने वाली स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानियों से ग्रषित है। इंटरनेशनल डायबिटीज फेडरेशन की रिपोर्ट कहती है कि 2019 तक भारत में डायबिटीज के करीब 77 मिलियन मरीज हो चुके थे।

20-79 आयु वर्ग को होने वाली डायबिटीज

जिनकी संख्या 2030 तक 101 मिलियन हो सकती है, तो 2045 तक यह आंकड़ा 134.2 मिलियन को भी छू सकता है। डाइबिटिज की समस्या अनुवाशिंक के साथ साथ ख़राब जीवनशैली की वजह से भी हो सकती है। 20-79 आयु वर्ग को होने वाली डायबिटीज के मामले में भारत दूसरे नंबर पर है।

शिविर में मधुमेह स्पेशलिस्ट डॉ. अनिल पटेल के द्वारा लोगों के सवालों का जवाब भी दिया गया। जहां पर उन्होंने मधुमेह और उससे होने वाली स्वास्थ्य संबधी परेशानियों और उनके रोकथथम के बारे में लोगों को जागरूक किया।

अडानी फाउंडेशन (Adani Foundation) रायगढ़ जिले के तमनार विकासखंड में छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड के सामाजिक सरोकार के तहत आस-पास के 14 ग्राम पंचायतों में शिक्षा, स्वास्थ्य, आजीविका संवर्धन और संरचना विकास के कई कार्यक्रम संचालित करता है। जिसमें गुणवत्तायुक्त स्वास्थ्य सेवाओं हेतु समय समय पर विशेष स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन करता है।

अडानी फाउंडेशन के बारे में:

1996 में स्थापित, अडानी फाउंडेशन (Adani Foundation) वर्तमान में 18 राज्यों में सक्रिय है, जिसमें देश भर के 2250 गांव और कस्बे शामिल हैं। फाउंडेशन के पास प्रोफेशनल लोगों की टीम है। जो नवाचार, जन भागीदारी और सहयोग की भावना के साथ काम करती है। वार्षिक रूप से 3.2 मिलियन से अधिक लोगों के जीवन को प्रभावित करते हुए अदाणी फाउंडेशन चार प्रमुख क्षेत्रों- शिक्षा, सामुदायिक स्वास्थ्य, सतत आजीविका विकास और बुनियादी ढांचे के विकास, पर ध्यान केंद्रित करने के साथ सामाजिक पूंजी बनाने की दिशा में काम करता है। अडानी फाउंडेशन (Adani Foundation) ग्रामीण और शहरी समुदायों के समावेशी विकास और टिकाऊ प्रगति के लिए कार्य करता है, और इस तरह, राष्ट्र-निर्माण में अपना योगदान देता है।