छत्तीसगढ़

ड्राइवर और चपरासी ने अपने ही दफ्तर में की चोरी,देखा कि मालिक नहीं है तो अंदर से उड़ाए 3 लाख कैश, अब पकड़े गए

Share this

रायपुर के तेलीबांधा क्षेत्र में पुलिस ने चोरी के आरोप में 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। इन दोनों ने वहीं से चोरी कर ली, जहां पर यह काम किया करते थे। इन्होंने कुछ दिन पहले रात में ताला तोड़कर ऑफिस से घुसकर लगभग 3 लाख रुपए कैश पार कर दिया था।

तेलीबांधा इलाके के ऐश्वर्या चेंबर में एसआर कॉरपोरेट कंपनी का ऑफिस है। जिसके मालिक सुरेंद्र कुमार जैन और ऋतु जैन 22 नवंबर से बिजनेस के काम से दिल्ली गए हुए थे। उन्होंने कंपनी की चाबी वहां काम करने वाली सहयोगी श्रद्धा ठाकुर को दिया था। श्रद्धा रोज की तरह 25 नवंबर की सुबह भी 9:30 बजे से शाम करीब 7:00 बजे तक ऑफिस में काम करके फिर शाम को ताला लगाकर घर निकल गई थी।

26 नवम्बर की सुबह 9:30 बजे वह ऑफिस पहुंची, तब उसने देखा की ऑफिस का ताला टूटा हुआ पड़ा था और अंदर का सारा सामान भी फैला हुआ दिखा। जिसकी सूचना उसने वहां के सीनियर मैनेजर शुभेंदु सतपति को दी। ऑफिस में कैमरे का तार भी टूटा हुआ मिला। कंपनी के मालिक दिल्ली से वापस लौटे तो बताया 3 लाख नगद, 1 लैपटॉप और 1 घड़ी गायब थी। पुलिस ने कंपनी के मैनेजर के शिकायत पर FIR दर्ज कर लिया और जांच में जुट गई थी।

चोरों ने कंपनी में लगे हुए सीसीटीवी कैमरे और DVR को साथ में उखाड़ कर ले गए थे। जिससे कोई परिचित व्यक्ति के द्वारा ही चोरी करने के एंगल में पुलिस का शक गहराया। पुलिस ने जब कंपनी के ही वर्करों से पूछताछ की तो कंपनी के ड्राइवर अनुराग ढिढि(24) और चपरासी हितेश चतुर्वेदी(26) ही चोर निकल गए। शुरुआत में आरोपियों द्वारा पुलिस को गुमराह करने का प्रयास किया गया। मगर सख्ती से पूछताछ करने पर उन्होंने चोरी करना कबूल कर लिया। पुलिस ने आरोपियों के पास से चोरी की नगद रकम, लैपटॉप, घड़ी को जब्त कर लिया है।