छत्तीसगढ़

लाठी और कुल्हाड़ी लेकर महिलाओं ने किया हमला,घर से निकालकर युवती को जमकर पीटा

Share this

बिलासपुर 28 नवम्बर 2022: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में दीनदयाल आवासीय कॉलोनी में पेड़-पौधे लगाने से नाराज स्व सहायता समूह की महिलाओं ने लाठी-डंडा और कुल्हाड़ी लेकर जमकर हंगामा मचाया। उन्होंने युवती और महिला पर हमला भी कर दिया। महिलाओं की दबंगई का VIDEO भी सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, जिसमें महिलाएं मिलकर एक युवती की डंडे से पिटाई करती नजर आ रही हैं। पुलिस ने मामले में समूह की महिलाओं पर बलवा का केस दर्ज कर लिया है। मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के अनुसार हेमीन वस्त्रकार मंगला के दीनदयाल आवासीय कॉलोनी में रहती हैं। वे गृहणी हैं। उन्होंने अपने घर के सामने की जमीन को घेरकर उसमें पौधे लगाए हैं। आवासीय कॉलोनी से लगे ग्राम लोखंडी में महिला स्व सहायता समूह की महिलाएं सक्रिय हैं, जो आवासीय कॉलोनी में शासकीय जमीन पर कब्जा करने का विरोध कर रही हैं। रविवार दोपहर समूह की महिलाएं बड़ी संख्या में पहुंच गईं। उनके हाथ में लाठी-डंडा और कुल्हाड़ी रखा था।

दरवाजा खटखटाकर घर में घुसीं महिलाएं

हेमीन वस्त्रकार ने बताया कि रविवार दोपहर को वह अपने घर पर थीं। उसी समय महिलाएं उनके घर का दरवाजा खटखटाने लगीं। दरवाजा खोलते ही अंदर घुसकर हंगामा मचाते हुए महिलाएं गाली-गलौज करते हुए मारपीट करने लगीं। उनका कहना था कि घर के सामने की जमीन पर जो पौधे लगाएं हैं उसे तत्काल हटाओ। नहीं तो उसे हम तोड़फोड़ कर हटा देंगे।

विरोध करने और बीच-बचाव करने पर की मारपीट

आरोप है कि उनकी हरकतों का विरोध करने पर महिलाओं ने उनके साथ झूमा-झटकी करते हुए मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान पड़ोसी प्रभा जायसवाल बीच-बचाव करने आई, तब उनके साथ भी मारपीट की गई।

घर में बंद कर निकलने नहीं दिया

बताया जा रहा है कि हंगामा मचाने और मारपीट करने के बाद महिलाओं ने उन्हें बाहर निकलने नहीं दिया और घेर लिया। परेशान हेमीन बाई और परिवार के सदस्यों ने पुलिस को डायल 112 पर कॉल किया, तब पुलिस के आने से पहले ही महिलाएं वहां से चली गई। इधर, हेमीन वस्त्रकार ने इस घटना की शिकायत की, जिस पर पुलिस ने स्व सहायता समूह की महिलाओं पर केस दर्ज कर लिया है।

सोशल मीडिया में वायरल हो रहा VIDEO

स्व सहायता समूह की महिलाओं का हंगामा और मारपीट करने का ये VIDEO भी सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है, जिसमें महिलाएं हाथ में लाठी-डंडा और कुल्हाड़ी लेकर हंगामा करते हुए युवती के साथ मारपीट करती नजर आ रही हैं।

समूह की महिलाएं बोलीं- गांव की सरकारी जमीन पर हो रहा अवैध कब्जा

इधर, गांव की स्व सहायता समूह की महिलाओं ने बताया कि लोखंडी ग्राम अब शहरी क्षेत्र में शामिल हो गया है, जिसके कारण यहां की जमीनों की कीमतों में बढ़ोतरी हो गई है। ऐसे में आसपास के दर्जनों कॉलोनियों में लगातार निर्माण हो रहा है। भूमाफियाओं और कब्जाधारियों ने यहां की शासकीय जमीन पर कब्जा करना शुरू कर दिया है, जिसका महिला स्व सहायता समूह की महिलाओं की ओर से विरोध किया जा रहा है। बार-बार समझाने के बाद भी जब कब्जाधारियों ने कब्जा हटाने का काम नहीं किया, तब ये महिलाएं खुद ही अतिक्रमण हटा रही हैं।

प्रदेश में तरह की कई घटनाएं सामने आईं थी.. यहां पढ़ें.

बिलासपुर में 2 महीने पहले स्कूटी सवार बदमाशों ने महिला के घर में घुसकर लाठी-डंडा और लकड़ी के बत्ते से उनकी जमकर पिटाई की थी। पुलिस ने इस मामले में नाबालिग समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया था। बताया जा रहा है कि महिला ने गुंडागर्दी करने वाले युवक के खिलाफ महिलाओं को इकट्‌ठा कर अपने घर में बैठक बुलाई थी और शिकायत लेकर SP ऑफिस जाने की योजना बनाई थी। इधर, बदमाशों का CCTV फुटेज भी सामने आया था, जिसमें वे हमला करने के बाद भागते नजर आए थे। घटना सकरी थाना क्षेत्र की थी।