छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में बुलडोजर चलाना भय और आतंक का प्रतीक : कांग्रेस

Share this

रायपुर। छत्तीसगढ़ में सरकार बदलते ही प्रशासन के एक्शन को लेकर कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा, अधिकारी मर्यादाओं के इतर जाकर काम ना करें. आज भाजपा की सरकार है अगर सरकार ने आदेश नहीं दिया है तो ऐसी कार्रवाई आप कर रहे तो गलत है. ठेले, खोमचे वालों पर बुलडोजर चलाकर क्या संदेश देना चाहते हैं. अगर किसी ने गलत किया है तो कानून के तहत कार्रवाई करें. रोजी रोटी पर बुलडोजर चला रहे हैं. हम विपक्ष पर रहकर लड़ाई लड़ेंगे.सरकार बदलने के बाद पुलिस गुंडे बदमाशों की सूची लेकर घूम रही. इस सवाल पर शुक्ला ने कहा, जब जब सरकार बदलती है कई अधिकारी अतिस्वामी भक्ति और और ओवरएक्टिंग करते हैं. कानून के हिसाब से शासन चलता है. बुलडोजर भय और आतंक का प्रतीक है. आप कानून के हिसाब से कार्रवाई करें. राजनीति और जुमलेबाजी के लिए इस तरह की कार्रवाई नहीं होनी चाहिए.छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार की योजनाओं को बंद किए जाने के सवाल पर सुशील आनंद ने कहा, हर सरकार की प्राथमिकता होती है. गोधन न्याय योजना ऐसी जिसकी प्रधानमंत्री ने भी तारीफ की थी. आगे इसको चालू करना नहीं करना बीजेपी के ऊपर है, लेकिन दलगत राजनीति से उठकर इसे आगे बढ़ाएं.