टमाटर के बाद अब प्याज ने निकाले आंसू, जानें कितने बढ़े दाम

Share this

नई दिल्ली: नवरात्रि के बाद देशभर में प्याज का दाम (Onion Price) आसमान छूने लगा है, 27 अक्टूबर शुक्रवार को दिल्ली के बाजार में प्याज ₹90 किलो बिका और बहुत जल्द प्याज का दाम शतक पार कर जाएगा. ऐसा इसलिए कि हर रोज प्याज 10 से 20 किलो महंगा हो रहा है. दुकानदारों को यह अंदेशा है कि दिल्ली में जल्द ही प्याज की कीमतें 100 रुपये किलो तक पहुंच सकती है.दिल्ली के आरके पुरम इलाके में शुक्रवार को एक किलो प्याज का भाव 90 किलो तक पहुंच गया. इस महंगाई से दिल्ली वाले परेशान हैं. दुकानदारों का कहना है कि मंडी में महंगे खरीदारी के कारण उन्हें महंगा बेचना पड़ रहा है. प्याज में अचानक महंगाई की वजह से बिक्री में काफी कमी आई है.टमाटर की बात करें तो वो भी 50 रुपये किलो हो गया है.

दरअसल, प्याज और टमाटर के बिना कोई भी सब्जी अधूरी रहती है. गाजियाबाद में भी प्याज के दाम आसमान छूते नजर आ रहे हैं. दामों में आए उछाल से 30 से 40 रुपये प्रति किलो तक प्याज की कीमतें बढ़ गई हैं. गाजियाबाद में प्याज 70 से 80 रुपये किलो बिक रहा है. अचानक प्याज के दामों में बढ़ोतरी से आम जनता की जेब पर खासा असर देखने को मिल रहा है. गाजियाबाद मंडी में एक हफ्ते पहले भाव प्याज 30 से 35 रुपये किलो था.वहीं अब 70 से 80 रुपये किलो मिल रहा है.दिवाली का त्योहारी सीजन आने वाला है, ऐसे में प्याज के दामों में बढ़ोतरी, दिवाली की रौनक खराब कर सकती है. प्याज लेने आए ग्राहकों ने बताया कि इतनी महंगाई के बाद हम सब्जी खाना तो नहीं बंद कर सकते.

लेकिन प्याज की मात्रा कम कर सकते हैं, जब तक प्याज की कीमत कम नहीं हो जाती. जब इस बारे में मंडी के अध्यक्ष श्रीपाल यादव से बात की गई तो उन्होंने बताया की पुराना स्टॉक खत्म होने की वजह से प्याज के दामों में अचानक उछाल देखने को मिला है, उन्होंने बताया कि आगामी 15 से 20 दिनों तक प्याज की कीमतों में महंगाई बनी रहेगी.दरअसल, कहीं कम बारिश तो कहीं अधिक वर्षा के कारण प्याज की फसलें खराब हो गई हैं.यही वजह है कि फुटकर से लेकर मंडी तक में प्याज के भाव आसमान छूते नजर आ रहे हैं. दुकानदारों का कहना है कि कीमतें बढ़ने की वजह से पहले जो कस्टमर 5 किलो प्याज ले जाते थे, अब वो कस्टमर 2 किलो, और जो ग्राहक 2 किलो प्याज लेकर जाते थे, वो अब 1 किलो ले जा रहे हैं.

प्याज की कीमतें बढ़ जाने से लोग अब इसकी खरीदारी कम कर रहे हैं.दिल्ली के आजादपुर मंडी (Onion Price Delhi) में एक हफ्ते पहले 20 से 30 रुपये किलो बिकने वाला प्याज अब 50 से 60 रुपये किलो पर पहुंच गया है. लोगों के घर पहुंचते-पहुंचते कीमतें 70 से 80 रुपये तक हो जाती है.यही नहीं, अगले 2 महीने तक प्याज के दामों में और भी बढ़ोतरी होने की आशंका है.प्याज का भाव एक हफ्ते पहले आजादपुर मंडी में ₹20 से ₹30 किलो था. आज इस प्याज की कीमत ₹65 किलो तक पहुंच चुकी है. आजादपुर मंडी में मौजूद व्यापारियों का मानना है कि डिमांड और सप्लाई में अंतर की वजह से कीमतों में बढ़ोतरी हो रही है. डिमांड ज्यादा है, लेकिन प्याज की आवक दिन प्रतिदिन कम होती जा रही है.

क्योंकि कर्नाटक और आसपास के इलाकों में बारिश न होने की वजह से प्याज की पैदावार उम्मीद के बराबर नहीं हो सकी, जिसकी वजह से अब मार्केट में प्याज नहीं आ पा रहा है.जब सप्लाई कम और डिमांड ज्यादा हो तो ऐसे में दाम बढ़ना लाजिमी है.गौरतलब है कि कुछ महीने पहले टमाटर के दाम भी इसी तरीके से बढ़े थे, तब लोगों ने महंगाई की मार झेली थी और अब प्याज लोगों को रूला रहा है. विशेषज्ञों का मानना है कि प्याज के दाम में आने वाले दो से ढाई महीने तक कमी होने की संभावना कम है, बल्कि प्याज के दाम ₹100 किलो तक जा सकते हैं और 15 जनवरी के बाद ही प्याज के दामों में कुछ गिरावट आने की उम्मीद है.