छत्तीसगढ़भाटापारा

स्पंज आयरन फैक्ट्री का विरोध शुरू, दामाखेड़ा सिमगा क्षेत्र में सर्वदलीय मंच ने बैठक कर बनाई रणनीति- फैक्ट्री के विरोध में उतरे अंतरराष्ट्रीय कबीर धर्मनगर दामाखेड़ा पंथ श्री हुजूर प्रकाश मुनि नाम साहब

Share this

बलौदाबाजार सिमगा । अंतरराष्ट्रीय कबीर धर्मनगर दामाखेड़ा पंथ श्री हुजूर प्रकाश मुनि नाम साहब दामाखेड़ा सिमगा क्षेत्र में लगने वाली फैक्ट्री के विरोध में उतर आए हैं। उन्होंने सोशल मीडिया के माध्यम से अपना विरोध दर्ज कराया है। इसके साथ ही सर्वदलीय मंच के सदस्यों ने आगामी 10 फरवरी को ग्राम अकलतरा में होने वाली जन सुनवाई के संबंध में भी पंथ श्री हुजूर प्रकाश मुनि नाम साहब जी से चर्चा किया है। पंथ श्री हुजूर प्रकाश मुनि नाम साहब जी ने भी सर्वदलीय मंच के सदस्यों को बोला है कि समय आने पर उग्र आंदोलन किया जायेगा।अंचल में प्रस्तावित विभिन्न स्पंज आयरन फैक्ट्री का विरोध शुरू हो चुका है। जिसमें दो दर्जन से ज्यादा गांवों के किसान फैक्ट्री लगाने के विरोध में लामबंद हो चुके हैं। जिसे लेकर स्थानीय ग्राम मांडर अकलतरा में सर्वदलीय मंच के बैनर तले ग्रामीण किसान एवं जनप्रतिनिधियों की बैठक आहूत की गई। इस बैठक में 55 गांव के बड़ी संख्या किसान उपस्थित हुए। विरोध और लड़अई लड़ने रणनीति बनायी गयी। किसान नेता शैली भाटिया, जीतेन्द्र बंजारे, रमेश सोनी, चंदू साहू, बिल्ला टोंडे के नेतृत्व में हजारों किसान जुड़ चुके हैं। किसानों का कहना है कि सिमगा ब्लाक कृषि प्रधान क्षेत्र है। इस क्षेत्र का मुख्य व्यवसाय कृषि है। जहां क्षेत्र के निवासी धान, गेहूं, दलहन, तिलहन, सब्जी और फलों का उत्पादन करते हैं। यहां आय का प्रमुख स्रोत खेती है ऐसे में प्लांट लगा तो किसानों को नुकसान होना तय है।

ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में 30 से 35 स्टील प्लांट व स्पंज आयरन फैक्ट्री की स्थापना की तैयारी की जा रही है। जिससे कृषि क्षेत्र के साथ साथ फसल उत्पादन पर इसका विपरीत प्रभाव पड़ेगा। साथ ही प्रदूषण की समस्या ग्रामीणों को झेलना पड़ेगा। आस-पास के गांव में उद्योग लगने से कृषि कार्य में प्लांट से निकलने वाले धुंए, वेस्ट वाटर और अपशिष्ट पदार्थों से कृषि कार्य के साथ-साथ आमजन भी प्रभावित होंगे। एक समय के बाद यहां कृषि कार्य समाप्त हो जाएगा। जिससे किसानों के सामने जीविकोपार्जन की समस्या उत्पन्न हो जाएगी। इसलिए किसान इसका विरोध कर रहे हैं। बैठक में मुख्य रूप से रमेश सोनी, शैली भाटिया, चंद्र कुमार साहू, सूर्य कांत ताम्रकार, जितेन्द्र बंजारे, गोलू साहू, गंगा ओगरे, पूरन देवांगन, रविंद यादव, मालिक बंजारे, अर्जुन निर्मलकर, गीतेश बंजारे, कोमल टण्डन, सागर टोन्डे, मोनू अग्रवाल, गया राम धुरू, रोहित साहू, क्रांति सेना सुरेंद्र यदु क्रांति सेना चंद्रकांत यदु, क्रांति सेना , भूपेंद्र सेन, सनत यदु , गोपाल साहू, सरपंच प्रतिनिधि चंद्रमणि तिवारी, पूर्व जनपद अध्यक्ष आनन्द यादव, पूर्व जिला पंचायत सभापति मुरारी मिश्रा आदि मौजूद रहे।