छत्तीसगढ़

मानस मंडली प्रतियोगिता आज से, छत्तीसगढ़ के गांव-गांव में 25 नवंबर से 15दिसंबर तक राम कथा का गायन

Share this

रायपुर 25 नवम्बर 2022: छत्तीसगढ़ में इस साल की रामायण मंडली प्रतियोगिता शुक्रवार से शुरू हो रही है। पहले चरण में गांव स्तर की प्रतियोगिता होगी। इसका आयोजन 25 नवम्बर से 15 दिसम्बर के बीच होगा। राज्य स्तरीय रामायण मंडली प्रतियोगिता का आयोजन इस वर्ष गरियाबंद जिले के राजिम में होगी। यह प्रतियोगिता 16 से 18 फरवरी तक होनी है।

अधिकारियों ने बताया

2022-23 के प्रतियोगिता के प्रथम चरण के अंतर्गत जिले के प्रत्येक ग्राम पंचायत में 25 नवंबर से 15 दिसम्बर तक प्रतियोगिता का आयोजन किया जाना है। इसी तरह जनपद पंचायत स्तरीय प्रतियोगिता 5 जनवरी से 25 जनवरी के बीच होगी। जिला स्तरीय प्रतियोगिता 27 जनवरी से 3 फरवरी तक आयोजित होना है। इसमें से जिला स्तरीय विजेता रामायण मंडली का चयन किया जाना है। यह मंडली राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में जिले का प्रतिनिधित्सव करेगी।

राज्य स्तरीय प्रतियोगिता राजिम में होगी। महानदी, पैरी और सोंढुर नदियों के संगम पर बसा यह तीर्थक्षेत्र राम वन गमन पर्यटन परिपथ का भी हिस्सा है। इस प्रतियोगिता की विजेता मंडली को पांच लाख रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। दूसरे स्थान पर रही मंडली को तीन लाख रुपए और तृतीय पुरस्कार के तौर पर दो लाख रुपए की नकद राशि दी जानी है।

2021 से शुरू हुई है यह प्रतियोगिता

छत्तीसगढ़ की संस्कृति में रामायण मानस मंडलियों का महत्वपूर्ण स्थान है। पूरे मैदानी क्षेत्र में गांव-गांव में ऐसी मानस मंडलियां हैं। रामकथा का इन मंडलियों की गायन शैली भी विशिष्ट है। मानस मंडलियों की प्रस्तुति का आयोजन यहां के सामाजिक जीवन का महत्वपूर्ण अंग है। राज्य सरकार ने 2021 में पहली बार इसकी प्रतियोगिता का आयोजन किया था।

शिवरीनारायण में हुआ था आयोजन

पिछले साल की प्रतियोगिता का राज्य स्तरीय आयोजन जांजगीर-चांपा के शिवरीनारायण में हुआ था। महानदी, शिवनाथ और जोंक नदियों के संगम पर स्थित यह छत्तीसगढ़ का महत्वपूर्ण तीर्थ क्षेत्र है। यहां भगवान नर-नारायण का मंदिर है। 2021 से शुरू हुई प्रतियोगिता का फाइनल यहां अप्रैल 2022 में आयोजित हुआ। इसमें जांजगीर-चांपा जिले के बम्हनीडीह की मानस मंडली ने पहला पुरस्कार जीता था।