अन्य खबरें

पत्रकारिता विश्वविद्यालय में रक्तदान शिविर, 32 विद्यार्थियों ने किया रक्तदान….

Share this

रायपुर। कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय के प्रबंधन विभाग एवं रामकृष्ण केयर हॉस्पिटल के संयुक्त तत्वावधान में एक दिवसीय रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। रक्तदान शिविर में 32 विद्यार्थियों ने रक्तदान किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डॉ. किशोर सिंहा संचालक, संवेदना हॉस्पिटल, रायपुर ने कहा कि रक्तदान अत्यंत पुनीत कार्य है।गलतफहमी व भ्रामक जानकारी के कारण लोग रक्तदान करने से डरते हैं। कई बार खुद परिवार वाले भी दूरी बनाने लगते हैं। इसलिए लोगों के भ्रम को दूर करने की बहुत जरूरत है। लोगों को सबसे ज्यादा ब्लड की जरूरत इमरजेंसी एक्सीडेंट के समय पड़ती है। एक बार रक्तदान करने से दानदाता के रक्त की जांच निःशुल्क हो जाती है। कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि डॉ. अद्रजा पाठक, रामकृष्ण केयर हॉस्पिटल, रायपुर ने कहा कि रक्तदान बहुत आवश्यक है, क्योंकि आपका रक्त किसी का जीवन बचा सकता है।

किसी के द्वारा दिए गए ब्लड को हम तीन अलग-अलग बीमारियों के इलाज में उपयोग करते हैं। एक यूनिट ब्लड को तीन पार्ट में डिवाइड करते हैं, जिसमें से प्लाज्मा, प्लेटलेट्स को अलग करके सुरक्षित रख लेते हैं, ताकि जरूरतमंद मरीजों का इलाज किया जा सके। इस महत्वपूर्ण कार्य में युवाओं को बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे कुलसचिव डॉ. आनंद शंकर बहादुर ने कहा कि विज्ञान ने बहुत तरक्की कर ली है, बावजूद विज्ञान एक बूंद खून नहीं बना पाया। रक्तदान के महत्व को हर दौर में हर बार बताया जाना जरूरी है। रक्तदान महज दान नहीं है, यह फिर से बेहतर रक्त पाना है। कुलसचिव ने कहा कि ब्लड बैंक में विश्वविद्यालय का एक अलग से अकाउंट बनाया जाना चाहिए। ताकि जरुरतमंद विद्यार्थी समय आने पर इसका लाभ ले सके।कार्यक्रम के संयोजक व प्रबंधन विभाग के अध्यक्ष डॉ. नरेंद्र त्रिपाठी ने रक्तदान के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि युवाओं को इस तरह की मुहिम से जुड़ने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि किसी के जीवन को बचाने की संकल्पना ही रक्तदान है। एक बार रक्तदान करने पर यह शीघ्र ही पुनः बन जाता है।इसलिए रक्तदान कम से कम साल में दो बार अवश्य करना चाहिए। आभार प्रदर्शन अतुल प्रधान ने किया। कार्यक्रम का संचालन कृति शर्मा ने किया। कार्यक्रम में डॉ साबर आलम, हरिपाल, सोमेंद्र, अनिता, वर्षा, आमिर, कल्पना, अंजली बल्ड डोनेशन टीम सहित डॉ. वैशाली गोलाप, चंद्रशेखर शिवहरे, विभाग के शिक्षक व विद्यार्थी शामिल हुए। रक्तदान शिविर में बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित रहे।