बड़ी खबरराजनीति

एनआईए को पत्र लिखकर सार्वजनिक करना भूपेश बघेल की राजनीतिक चाल- अरुण साव

Share this

छत्तीसगढ़ प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सांसद अरुण साव ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर एनआईए के लिए दोहरा मापदंड रखने का आरोप लगाते हुए कहा कि मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस महानिदेशक ने भाजपा नेताओं की हत्या की जांच के लिए एनआईए को चिट्ठी लिखी है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव ने कांग्रेस से सवाल किए हैं कि1: क्या कांग्रेस अब एनआईए पर विश्वास करने लगी है क्योंकि इससे पहले हमेशा उसे भला-बुरा कहती रही है।2. राज्य सरकार ने क्या अब यह मान लिया है कि वह भाजपा नेताओं को सुरक्षा देने में भी असफल रही एवं अब स्वयं जांच करने में भी सक्षम नहीं है?3. ऐसे गंभीर व संवेदनशील मामलों पर लिखी चिट्ठी को सार्वजनिक क्यों किया गया?प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अरुण साव ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर बड़ा हमला बोलते हुए कहा कि उन्हें यह स्पष्ट करना चाहिए कि क्या अब उन्हें एनआईए की जांच पर भरोसा हो गया है, क्योंकि पहले वे लगातार एनआईए की जांच पर प्रश्न उठाते रहे हैं। लगातार इस विषय पर वह बहुत कुछ बोलते रहे हैं और अब इस तरह के पत्र को सार्वजनिक किया जाना यह स्पष्ट करता है कि राज्य सरकार ऐसे गंभीर मामलों पर भी राजनीति कर रही है। राज्य का प्रशासनिक अमला किस तरह काम कर रहा है,यह भी इस पत्र से स्पष्ट होता है कि प्रशासनिक अधिकारियों में कितनी गंभीरता है? यह पत्र यह भी स्पष्ट कर रहा है कि राज्य सरकार कानून व्यवस्था पर अपना नियंत्रण खो चुकी है। लोगों को सुरक्षा देने में राज्य सरकार असफल हुई है और घटना की जांच करने में भी सरकार पूरी तरह से फेल हो गई है। उन्होंने कहा कि अब भूपेश बघेल को छत्तीसगढ़ की जनता से हाथ जोड़कर माफी मांगनी चाहिए जो वे प्रदेश की जनता को सुरक्षा का विश्वास नहीं दिला पा रहे हैं