ब्रेकिंग न्यूज़ : लोहर्सी और शिवरीनारायण के बीच खरौद मोड़ के पास अज्ञात वाहन ने मारी बाइक सवार को ठोकर....   |   रायपुर - विधानसभा में आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, वन मंत्री मोहम्मद अकबर और पीएचई मंत्री रूद्रकुमार गुरू करेंगे सवालों का सामना….विकास यात्रा के खर्चों को लेकर गरमा सकता है सदन…   |   रायपुर : मुख्यमंत्री आज दामाखेड़ा में आयोजित संत समागम में शामिल होंगे   |   जशपुर:- बगीचा कैलाश गुफा सड़क निर्माण युद्धस्तर पर जल्द किये जाने की मांग को लेकर जनजातीय समाज उतरा सड़कों पर,धरना प्रदर्शन कर आश्रम प्रबन्धन की तानाशाही के खिलाफ खोला मोर्चा,आगामी लोकसभा चुनाव बहिष्कार की चेतावनी,   |   रायपुर : कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित वर्तमान परिदृश्य में फेक न्यूज की चुनौतियां’’ विषय पर संगोष्ठी आज   |   रायपुर : जिला निर्वाचन अधिकारियों ने ली मतदान करने की शपथ : सीईओ सुब्रत साहू ने दिलाई शपथ   |   रायपुर : छत्तीसगढ़ का शत-प्रतिशत घर होगा बिजली से रोशन : मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और केन्द्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री आर.के.सिंह द्वारा सौभाग्य योजना की समीक्षा   |   रायपुर : बस्तर के धुरागांव में होगा विशाल किसान-आदिवासी सम्मेलन : लोहण्डीगुड़ा क्षेत्र के संयंत्र प्रभावित किसानों को मिलेंगे जमीन के दस्तावेज   |   रायपुर - पिछली सरकार के स्वीकृत कामों को रोकने पर विधानसभा में जमकर हंगामा   |   बिलासपुर - मालगाड़ी के बोगी में लगी भीषण आग, ट्रेन का डिब्बा हुआ जलकर खाक बाल-बाल बचे कर्मचारी   |  

 

छत्तीसगढ़

Share
03-December-2018
Posted Date

प्रसव पूर्व लिंग परीक्षण के लिए गठित सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न जिले के सभी 18 सोनोग्राफी केन्द्रों की आॅनलाईन मैंपिंग

बलौदाबाजार 3 नवंबर 2018/प्रसव पूर्व लिंग चयन प्रतिषेध अधिनियम के तहत अब राज्य में सभी सोनोग्राफी केन्द्रों की आॅनलाईन मैपिंग अनिवार्य की गई है। जिसके तहत जिले के 18 सोनोग्राफी केन्द्रों की आॅनलाईन मैपिंग की जा चुकी है। यह जानकारी पीएनडीटी एक्ट के तहत गठित जिला सलाहकार समिति की बैठक में दी गई। बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ वाय के शर्मा ने बताया कि इस एक्ट के बारे में अधिक से अधिक प्रचार प्रसार करने के लिए फ्लैक्स, बैनर, पोस्टर और पाम्पलेट प्रिन्ट कराकर विकासखंडों में प्रदाय किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि प्रसव पूर्व जाॅच एवं निदान तकनीक एक्ट के तहत जन्म से पूर्व शिशु के लिंग की जाॅच दण्डनीय अपराध है। यदि अल्ट्रा साऊंड या अल्ट्रा सोनोग्राफी कराने वाले दम्पत्ति या करने वाले डाॅक्टर, लैब कर्मी के द्वारा ऐसा किया जाता है, तो तीन से पाॅच साल की सजा तथा दस से पचास हजार रूपए जुर्माने का प्रावधान है। बैठक में बताया गया कि जिले में चार सोनाग्राफी केन्द्रों के नवीनीकरण और नए पंजीयन हेतु एक आवेदन प्राप्त हुआ है। बैठक में समिति के सदस्य डाॅ. एस आर बंजारे, डाॅ. के.के टैम्बुरने, विधि सलाहकार संजय तिवारी, सामाजिक कार्यकर्ता अरविंद शुक्ला और हेमचंद केशरवानी, सहायक संचालक जनसम्पके एम. डी पटेल, सहायक जनसम्पर्क अधिकारी आमना सहित उपस्थित थे। 

छत्तीसगढ़ » More Photo

छत्तीसगढ़ » More Video

LEAVE A COMMENT