रायपुर : राजिम माघी-पुन्नी मेला के शुभारंभ अवसर पर राज्यपाल ने दी शुभकामनाएं   |   रायपुर : शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टर रमा सिंह का विशेष सहायक पद पर किया गया पदस्थापना आदेश निरस्त   |   रायपुर : राजिम माघी-पुन्नी मेला के शुभारंभ अवसर पर राज्यपाल ने दी शुभकामनाएं   |   रायपुर : राजिम माघी पुन्नी मेला हमारी समृद्ध सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक: मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं   |   ब्रेकिंग न्यूज़ : लोहर्सी और शिवरीनारायण के बीच खरौद मोड़ के पास अज्ञात वाहन ने मारी बाइक सवार को ठोकर....   |   रायपुर - विधानसभा में आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, वन मंत्री मोहम्मद अकबर और पीएचई मंत्री रूद्रकुमार गुरू करेंगे सवालों का सामना….विकास यात्रा के खर्चों को लेकर गरमा सकता है सदन…   |   रायपुर : मुख्यमंत्री आज दामाखेड़ा में आयोजित संत समागम में शामिल होंगे   |   जशपुर:- बगीचा कैलाश गुफा सड़क निर्माण युद्धस्तर पर जल्द किये जाने की मांग को लेकर जनजातीय समाज उतरा सड़कों पर,धरना प्रदर्शन कर आश्रम प्रबन्धन की तानाशाही के खिलाफ खोला मोर्चा,आगामी लोकसभा चुनाव बहिष्कार की चेतावनी,   |   रायपुर : कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित वर्तमान परिदृश्य में फेक न्यूज की चुनौतियां’’ विषय पर संगोष्ठी आज   |   रायपुर : जिला निर्वाचन अधिकारियों ने ली मतदान करने की शपथ : सीईओ सुब्रत साहू ने दिलाई शपथ   |  

 

क्राइम

Share
29-November-2018
Posted Date

पत्रकार खबरीलाल रिपोर्ट ::- सुनील जैन के हत्या की गुत्थी 3 दिन में सुलझी - आईजी सिंह ।।

जिला बालोद के डोंडी में दिनांक 24 एवं 25 नवंबर 2018 की दरमियानी रात में माईनिंग ठेकेदार सुनील जैन की हत्या की गुत्थी पुलिस ने 3 दिनों में ही सुलझा ली है। जी पी सिंह, पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज के निर्देशन में गठित विषेष टीम ने घटना को अंजाम देने वाले 07 हत्यारों को अपने गिरफ्त में ले लिया है तथा 02 आरोपी फरार है। रेंज पुलिस महानिरीक्षक जी. पी. सिंह ने सम्पूर्ण घटनाक्रम का खुलासा करते हुए बताया कि दिनांक 25 नवम्बर 2018 को प्रातः 9.30 बजे प्रार्थी अंकित तिवारी ने थाना डोंडी आकर रिपोर्ट किया कि उसके पड़ोसी माईनिंग ठेकेदार सुनील जैन पिता पुखराज जैन उम्र 55 वर्ष, जो शैलेन्द्र नगर ए-59 रायपुर में रहते है वे दिनांक 24 नवम्बर 2018 की रात 10.30 बजे स्कार्पियों वाहन से डोंडी अपने घर आये थे। घर के ऊपर मंजिल में सुनील जैन का रसोईया व नौकर शैलेन्द्र जायसवाल रहता था। आज उसके कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था, शैलेन्द्र ने उसे फोन किया तब यह छत के रास्ते से आकर शैलेन्द्र के कमरे का दरवाजा खोला। फिर मकान के नीचे सुनील जैन के कमरे मे जाकर शैलेन्द्र ने देखा तो समान बिखरा पड़ा था, अलमारी खुली हुई थी पलंग में सुनील जैन मृत अवस्था में था। अपराध की गंभीरता को देखते हुये थाना प्रभारी ने पुलिस अधीक्षक बालोद को सूचना दी एवं पुलिस अधीक्षक ने आईजी श्री जी पी सिंह को घटना से अवगत कराया। सूचना पाकर श्री सिंह तत्काल मौके पर पहुंचे तथा घटना स्थल का निरीक्षण किये। घटनास्थल के निरीक्षण पर यह स्पष्ट हो गया था कि आरोपियों का प्रवेश व निकास मुख्य दरवाजे से नहीं हुआ था, बल्कि बगल की दीवाल फांदकर मकान के उपर हिस्से में पहुंचकर आरोपियों ने मकान के अंदर पहुंचे व मृतक के नौकर के कक्ष का दरवाजा बाहर से बंद कर सीधे सीढीयों से नीचे आकर मृतक के कमरे में जाकर वारदात को अंजाम दिए। इनमें से कोई न कोई आरोपी घटनास्थल से परिचित है। पुलिस महानिरीक्षक जी. पी. सिंह के निर्देशानुसार पुलिस अधीक्षक बालोद ने अविलम्ब क्राईम स्कवाड बालोद एवं क्राईम स्कवाड भिलाई-दुर्ग के अनुभवी अधिकारियों की 4 विषेष टीम बनाई तथा बिलासपुर के निरीक्षक कलीम खान और रायपुर क्राईम स्कवाड का भी सहयोग लिया गया । इस टीम ने अथक परिश्रम और सूझबूझ से मात्र तीन दिन के भीतर अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझा दिया। टीम ने शक के आधार पर पहले मृतक के पुराने ड्राइवर रायपुर निवासी धनराज शर्मा से पूछताछ किया तथा पूछताछ के दौरान आरोपी टूट जस्य और अपने महिला मित्र हीरा नेताम के साथ मिलकर हत्या का षड्यंत्र करना बताया तथा अन्य आरोपियों को रायपुर, मंदिर हसौद और ओडिशा के संबलपुर से गिरफ्तार किया गया। इस पूरे प्रकरण को सुलझाने मे बालोद पुलिस, क्राईम ब्रांच दुर्ग के प्रभारी उप निरीक्षक राजेश मिश्रा, बिलासपुर के निरीक्षक कलीम खान, प्रधान आरक्षक चन्द्र शेखर बंजीर एवं रायपुर क्राईम ब्रांच का विशेष सहयोग रहा।

क्राइम » More Photo

क्राइम » More Video

LEAVE A COMMENT