नयी दिल्ली- छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा ने प्रत्याशियों के नामों का किया ऐलान   |   नई दिल्ली- छत्तीसगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी ने अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान थोड़ी देर में   |   गरियाबंद - सुपाडोंगर पहाड़ी पर चुनाव पूर्व नक्सलियों की धमक मुठभेड़ के बाद भाग खड़े हुए नक्सली, सामग्री जप्त   |   अमृतसर में बड़ा रेल हादसा - रावण दहन देख रहे लोगों पर चढ़ी ट्रेन, कई लोगों की मौत   |   रायपुर - पहले चरण के चुनाव के लिए कांग्रेस ने जारी की अपने 12 प्रत्याशियों की सूची   |   नई दिल्ली - विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर ने पद से इस्तीफा दिया अकबर पर लगे थे यौन शोषण के आरोप   |   रायपुर - मुख्यमंत्री ने सड़क हादसे में दस यात्रियों की मृत्यु पर गहरा दु:ख व्यक्त किया   |   रायपुर - छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने बुधवार को विधानसभा चुनाव 2018 के मद्देनजर पार्टी के स्टार प्रचारकों की सूची जारी की   |   रायपुर - 19 या 20 अक्टूबर को भाजपा जारी करेगी 70 से 75 उम्मीदवारों की लिस्ट….मुख्यमंत्री रमन सिंह ने दिये संकेत   |   बरीमाला: सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद आज खुलेगा सबरीमाला मंदिर, तनाव की स्थिति | दिल्ली पुलिस ने 5 स्टार होटल हयात के खिलाफ किया केस दर्ज | हरियाणाः हत्या के मामले में रामपाल को उम्रकैद की सजा | योगी कैबिनेट में प्रस्ताव पास, इलाहाबाद का नाम अब प्रयाग राज | पीएम मोदी ने तेल उत्पादक देशों के साथ साझेदारी का किया आह्वान | एएसईएम सम्मेलन में भाग लेने ब्रसेल्स जाएंगे उपराष्ट्रपति   |  

 

संपादकीय

Share
24-June-2017 12:44:41 pm
Posted Date

सभी चाहते है सुख-दुःख,प्यार-घृणा में स्पर्श

सभी सुख-दुःख,प्यार-घृणा में एक दूसरे का स्पर्श चाहते और करते हैं। माँ का वात्सल्य बच्चे को सीने से स्पर्श में ही प्रकट होता है। हम जब किसी को प्रेम करते हैं तो उसे आलिंगनबद्ध करना चाहते हैं।  
जब कोई दोस्त किसी बात से परेशान होता है तो हम उसका हाथ अपने हाथ में लेकर बिना कुछ कहे ही बहुत कुछ कह देते है..रात को जब बच्चा सोता है तो माँ उसके सर पर हाथ फेरती है और बच्चा सुकून से सो जाता है...आप सोच रहे होगे की मैं क्या लिखना चाह रही हूँ......मैं एक ऐसे शब्द  के बारे में लिखना चाह रही हूँ जो सोचने में बहुत छोटा लगता है पर ये शब्द बहुत बड़ा...जी हाँ मैं बात कर रही हूँ “स्पर्ष” शब्द के बारे में ...ये शब्द की सुनने में कितना साधारण सा शब्द लगता है....पर है कितना सुकून पहुचने वाला..आप को मुन्ना भाई MBBS फिल्म तो याद होगी उसमें हीरो जो भी व्यक्ति दुखी होता या परेशां होता उसे वो “हग” करता यानि की गले से लगाता और सब को यही करने को कहता..जिसे वो जादू की “झप्पी” कहता....आप ने कभी सोचा है की इस फिल्म के माध्यम से क्या दिखाना और समझाना चाह रहा था....ये स्पर्ष ही है जो इस फिल्म में दिखाया गया था...हम इसे “टचिंग पावर ” भी कह सकते है....इसमे इतनी शक्ति होती है की एक बीमार आदमी को  भी ठीक कर सकता है....एक रोते इन्सान को सुकून दे सकता है... स्पर्ष के बहुत से रूप है जैसे माता–पिता का स्पर्ष, पति-पत्नी का स्पर्ष, दोस्त का स्पर्ष, दादा-दादी का स्पर्ष, स्पर्ष चाहे जिस रूप में भी हो सच यही है की स्पर्ष हमेशा ख़ुशी ही देता है....
वर्षा.....


संपादकीय » More Photo

संपादकीय » More Video

LEAVE A COMMENT