रायपुर : जल आवंटन के पूर्व स्थल परीक्षण और भौतिक सत्यापन के निर्देश : औद्योगिक प्रयोजन के लिए भू-जल के उपयोग पर होगी कार्रवाई   |   रायपुर : रायपुर आबकारी कार्यालय में पदस्थ सहायक जिला आबकारी अधिकारी जे.पी.एन. दीक्षित को शासकीय कर्तव्यों में लापरवाही बरतने के फलस्वरूप निलम्बित कर दिया गया है   |   रायपुर : मुख्यमंत्री ने दी मकर संक्रांति, लोहड़ी और पोंगल की शुभकामनाएं   |   नई दिल्ली - आलोक वर्मा को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के निदेशक पद से गुरुवार को हटा दिया गया।   |   नई दिल्ली - दिल्ली के प्रगति मैदान में चल रहे विश्व पुस्तक मेले में गुरुवार को राजकमल प्रकाशन के स्टॉल जलसाघर` में लगा लेखकों का जमघट   |   नई दिल्ली- भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शुक्रवार से शुरू हो रहे राष्ट्रीय परिषद के दो दिवसीय सम्मेलन में आगामी लोकसभा चुनाव के लिए तय होगा एजेंडा   |   रायपुर - नशीली सीरप जब्त, एक गिरफ्तार सिविल लाईन थाने का इलाके का मामला   |   रायपुर - तेलीबांधा थाना इलाके के काशीरामनगर में आपसी रंजिश में एक व्यक्ति से मारपीट का मामला सामने आया है।   |   रायपुर - पुरानी बस्ती थाना इलाके से 5 दिनों से नाबालिग लड़का लापता है। लड़के की मां ने मामले में शिकायत की है।   |   बलोदा बाजार भाटापारा ट्रक यार्ड में हज़ारो रुपये एवम मोबाइल लूट के मामले सुहेला पुलिस ने तीन आरोपियों को किया गिरफ्तार   |  

 

बड़ी खबर

Share
30-December-2018
Posted Date

बाबा गुरूघासी दास के संदेश को जीवन मे आत्मसात करने की जरूरत, जांजगीर मे मुख्यमंत्री ने दिया किसान हितैषी उद्बोधन

जांजगीर चाम्पा:- छत्तीसगढ़ के मुख्य मंत्री भूपेश बघेल सर्व सतनामी समाज के द्वारा आयोजित गुरूघासी दास जयंती समारोह मे शामिल होने जांजगीर पहुॅचे इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया, सांसद कमला देवी पाटले जांजगीर विधायक नारायण चंदेल मौजूद रहे। गुरूघासी दास जयंती के अवसर मुख्य मंत्री ने उन्हे स्मरण करते हुए उनके संदेश मनखे मनखे एक समाम को जीवन मे आत्मसात करने की अपील की वहीं उन्होंने कहा कि बाबा गुरूघासीदास अकेले ऐसे संत हैं जिन्होंने अपना संदेश छत्तीसगढ़ी भाषा मे दिया। मंच भूपेश बघेल ने कहा कि प्रदेश के लोंगों को पहली बार ये अहसास हो रहा है कि अब उनकी सरकार बनी है छत्तीसगढ़िया सरकार बनी है उन्होंने कहा कि पंद्रह साल लगा लेकिन जनता को ठगने वाले खुद ठगी के शिकार हो गये। उन्होंने अपना पूरा उद्बोधन छत्तीसगढ़ मे दिया।

बस्तर मे टाटा के लिए अधिग्रहित जमीन किसानों को वापस कर दी गई है। जांजगीर-चांपा जिले मे लगभग 18 सौ हेक्टेयर जमीन ऐसी है जिसे किसानों से प्लांट लगाने अधिग्रहित किया गया था मगर अब ये प्लांट नही लग रहे हैं और यहॉ के किसानों को उम्मीद है कि उनकी भी जमीन वापस होगी। मीडिया द्वारा इस संबंध मे पूछे गये सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि अगर ऐसी मांग आती है तो केस टू केस स्टडी कर के इस पर कार्यवाई की जाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानांे को फसल के लिए पानी देने विशेष कार्ययोजना बनाई जाएगी। उन्होंने कहा कि किसानों को पानी दे दीजिये वे रोजगार खुद पैदा कर लेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश मे न नदियों की कमी है ना नालों की कमी है और बारहों महिने बहने वाली नदियां है इस पानी को खेत के तरफ मोड़ने आवश्यकता है किसाना खुद रोजगार पैदा कर लेगा।


बड़ी खबर » More Photo

बड़ी खबर » More Video

LEAVE A COMMENT