क्राइम

अवैध शराब के साथ 01 गिरफ्तार भाटापारा शहर थाने का मामला

भाटापारा शहर प्रशिक्षु IPS जितेन्द्र कुमार यादव, निरीक्षक विजय चौधरी के कुशल नेतृत्व में धर पकड कार्यवाही हेतु थाना के स्टाप व मुखबीर को निर्देश दिये गया था कि सूचना प्राप्त हुई कि *निर्मला मारकण्डे पति दिलीप मारकण्डे उम्र 28 साल साकिन रविदास वार्ड भाटापारा को 20 पाव कुल 3.6 बल्क लीटर देशी मदिरा मसाला किमती 1800 रूपये आरोपी के पास से एक हरा रंग का प्लास्टिक बाल्टी रखे मिली बाल्टी को चेक करने पर उसमें अवैध रूप से 20 पाव देशी मदिरा मशाला शराब रखा मिला । उक्त शराब को आरोपी को विधिवत धारा 91 सीआरपीसी का नोटिस देकर पूछताछ किया लायसेंस रसीद पेश नही करने पर आरोपी से जप्त किया गया। आरोपी का कृत्य धारा 34(ए) आबकारी एक्ट का घटित करना पाये जाने से आरोपी को समय सदर पर गिरफतार कर जमानत मुचलका पर रिहा किया गया । उक्त कार्यवाही में प्रआर. विनोद बांधे, म.प्रआर पुष्पा राठौर आर.श्रीचंद धु्रव, भूषण वर्मा का विशेष योगदान रहा । थाना भाटापारा शहर द्वारा शराब कोचियों के विरुद्ध लगातार कार्यवाही जारी है । जिससे शराब कोचियों में दहशत का माहौल है बड़े कोचियों की कुंडली तैयार कर बड़े रेड की तैयारी की जा रही है ।

वाहन शोरूम में मोटरसाइकिल की बिक्री रकम को धोखाधड़ी करने वाले 02 आरोपी चढ़े राजादेवरी पुलिस के हत्थे

बलौदा बाजार मामला 27.11.2020 को प्रार्थी उमेश अग्रवाल ने रिपोर्ट दर्ज कराया की उसका गाड़ी शोरूम का मैनेजर और उसके साथी मिलकर मोटर साइकिल की बिक्री रकम करीब 25 लाख रुपए को गबन कर धोखाधड़ी किये है। उक्त रिपोर्ट पर थाना राजादेवरी में अपराध क्र. 78/2020 धारा 406,420,468,34 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया। उक्त प्रकरण का मुख्य आरोपी शो रूम का मैनेजर को पूर्व में गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है प्रकरण के अन्य दो आरोपी फरार थे। उक्त प्रकरण में फरार आरोपी का पता तलाश निरंतर किया जा रहा था। पुलिस अधीक्षक श्री इंदिरा कल्याण ऐलसेला के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निवेदिता पाल अनुविभागीय अधिकारी पुलिस बलोदाबाजार सुभाष दास के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी उप निरीक्षक संतोष साहू के कुशल नेतृत्व में दोनों फरार आरोपी पिथौरा तरफ घूमते हुए दिखे जाने कि मुखबिर की सूचना पर हमराह स्टॉप के उक्त आरोपियों को पिथौरा पहुंचकर घेराबंदी कर हिरासत में लिया गया। आरोपी 1. संतोष कुमार साहू पिता स्व. राम कुमार साहू उम्र 27 साल साकिन राजा देवरी , 2. दसरथ सेठ पिता शुभास निषाद उम्र 21 साल साकिन चांदन को पूछताछ किया जिसने अपराध धारा सदर का अपराध घटित करना स्वीकार किया। दोनों आरोपियों को दिनांक 11.01.2021 के 23.00 बजे गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत पर भेजा गया। उक्त प्रकरण के आरोपियों को पकड़ने में प्रधान आरक्षक अरविंद राय, आरक्षक राजकुमार खुंटे, उमाशंकर साहू, भागीरथी, महेंद्र साहू का विशेष योगदान रहा है।।

जांजगीर : अंधेकत्ल की गुत्थी को बाराद्वार पुलिस ने सुलझाया

मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि सूचक सचिन कुमार लोहार पिता स्व.घनश्याम प्रसाद उम्र 27 वर्ष निवासी रायपुरा थाना बाराद्वार का दिनांक 09/01/2021 के प्रात : 08.00 बजे थाना बाराद्वार पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराया कि इसका चाचा शंकर प्रसाद लोहार पिता स्व.सरजू प्रसाद लोहार उम्र 33 वर्ष निवासी रायपुरा दिनांक 08/01/2021 के 07.15 बजे मोटर सायकल कावासाकी कैलिवर क्रमांक CG12 2187 से अपनी दीदी गायत्री के घर जा रहा हूँ कहकर निकला था दिनांक 09/01/2021 के प्रात : 06.30 बजे सूचक को पता चला कि शंकर लोहार का शव ग्राम नवागांव निवासी कुमारी बाई यादव के घर के टायलेट के सामने बिही पेड़ के नीचे आंगन मे पड़ा है शंकर प्रसाद लोहार के सिर में चोट के निशान एवं गले मे रस्सी के निशान दिख रहा था जिस पर थाना बाराद्वार मे मर्ग क्रमांक 05/21 धारा 174 जा.फौ. कायम कर मर्ग जांच पंचनामा कार्यवाही में लिया गया मृतक के शव का PM कराया गया PM रिपोर्ट पर मेडिकल आफिसर द्वारा मृतक शंकर प्रसाद लोहार की मृत्यु कड़ा एवं मजबूत वस्तु द्वारा बल पूर्वक प्रहार करने से सिर में गंभीर चोट लगने तथा रस्सी एवं हाथ से गला को बल पूर्वक दबाने पश्चात गला की हड्डी टूटने एवं श्वसन तथा हृदयगति अवरुद्ध होने से मृतक की मृत्यु होना लेख करने पर अविलंब दिनांक 09/01/2021 को मर्ग जांच पर से अपराध क्रमांक 13/21 धारा 302 भादवि कायम कर विवेचना मे लिया गया । श्रीमान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह के दिशा निर्देश एवं अनुविभागीय पुलिस अधिकारी चांपा पद्मश्री तंवर के कुशल मार्गदर्शन पर थाना स्तर पर विशेष टीम गठित कर प्रकरण की गंभीरता को देखते विवेचना प्रारंभ की गई । विवेचना के दौरान प्रकरण के संदेहिया कुमारी बाई यादव एवं उसकी मां सावित्री बाई यादव से पुछताछ पर घटना को करने से इंकार किये बार बार एवं मनोवैज्ञानिक ढंग से पुछताछ करने पर बताई की दिनांक 08/01/2021 के रात्रि 02.00 बजे शंकर प्रसाद लोहार , कुमारी बाई यादव के घर ग्राम नवागांव पहुंचा और कुमारी बाई को मै तुमसे प्रेम करता हूं बोला तब कुमारी बाई यादव एवं उसकी मां सावित्री बाई यादव दोनों शंकर प्रसाद को वापस चले जाने के लिए बोले फिर भी शंकर वापस नही गया और कुमारी बाई के हाथ बाह को पकड़ने लगा तब कुमारी बाई ने घर के परछी में चूल्हे के पास रख्ने रोटी बनाने के लोहे के गोल तवा से शंकर प्रसाद के सिर में जोर से मारी जिससे शंकर जमीन में नीचे गिर गया । फिर कुमारी बाई एवं कुमारी की मां सावित्री बाई यादव दोनो ने मिलकर प्लास्टीक की रस्सी को शंकर प्रसाद लोहार के गले में बांधकर ताकत लगाकर खींच कर हत्या करना बताये । आरोपिया के विरूद्ध अपराध धारा का अपराध करना पाये जाने से दिनांक 11/01/2021 के क्रमश 17.00 बजे व 17.10 बजे गिरफ्तार कर आज दिनांक 12/01/2021 को न्यायिक रिमाण्ड पर माननीय न्यायालय सक्ती भेजा गया उपरोक्त कार्यवाही मे थाना प्रभारी निरीक्षक देवेश सिंह राठौर , सउनि केशव जायसवाल , प्र.आर.यशवंत राठौर , बलदेव सिंह , आर.डमरू गबेल , श्याम ओग्रे , अश्वनी राठौर , कमलेश धारिया , म.आर.रूपा लहरे , हेमलता राठौर , चन्द्रकला सोन का सराहनीय योगदान रहा ।

मेवा चोपड़ा की हुई गिरफ्तारी, धोखाधड़ी के मामले में थी फरार रायपुर, जगदलपुर, चंडीगढ़, दिल्ली आदि शहरों में छुपकर रह रही थी आरोपी मेवा चोपड़ा

बलौदा बाजार - मेवा चोपड़ा बलौदाबाजार मे नौकरी लगाने एवं टेंडर दिलाने के नाम पर ठगी कर लेती थी पैसे मामला वर्ष 2017 -18 से लोगों को नौकरी एवं टेंडर दिलाने के नाम पर पैसा लेकर धोखाधड़ी के मामले में थाना सिटी कोतवाली जिला बलौदा बाजार में अपराध क्रमांक 484,485,486 487/20 धारा 420,34 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया है। प्रकरण से संबंधित आरोपियों की पूर्व में गिरफ्तारी की गई है लेकिन मुख्य आरोपिया मेवा चोपड़ा कि लगातार तलाश की जा रही थी। गिरफ्तारी सुनिश्चित करने टीम रायपुर एवं जगदलपुर भेजी गई थी। दिनांक 04.01.2021 को कोतवाली पुलिस को सूचना मिली थी कि मुख्य आरोपी मेवा चोपड़ा अपने बलोदाबाजार के घर कुछ कागजात निकालने आने वाली है कि सूचना पर सादी वर्दी में महिला बल के साथ उसके घर के आसपास पुलिस स्टाफ लगाया गया । मेवा चोपड़ा के आते ही पकड़ कर थाने लाकर महिला स्टाफ के सामने पूछताछ की गई। 

जो अपने बयान में बताई की वर्ष 2017 से अशोक पाण्डेय उर्फ महेंद्र तिवारी से जान पहचान हुई। अशोक पाण्डेय आपने आपको मंत्रालय में सयुक्त सचिव के पद में होना तथा महिला एवं बाल विकास विभाग का भी कामकाज देखना एवम संबंधित सचिव से अच्छा सम्बन्ध होना बताया। साथ ही आपका तबादला निरस्त कर बलोदा बाजार में ही रहने देना बोला।  शंका होने पर उसने मंत्रालय एवम विभाग के बारे में पूरी जानकारी दी कुछ सचिवों के नाम और कुछ नियुक्तियों की जानकारी दी और खुद का उम्र अधिक होना तथा खुद को आईएएस अफसर होना बताया। जब भी बात करता बेटा कहकर संबोधित करता था तथा उसे विभाग के बारे में पूरी जानकारी थी। उसी ने बताया कि सभी जिलों में पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की जानी है जो जल्दबाजी में की जा रही है। अब ज्यादा दिन की नौकरी भी नहीं बची है इसलिए जिनको पर्यवेक्षक के पद में भर्ती होना है उनसे बात करके सेटिंग कर लो कहकर अपना मोबाइल नंबर एवं कुछ ईमेल आईडी वगैरह भी प्रदान किए। उसी के झांसे में आकर लोगों से संपर्क किया इस तरह जो लोगों से पैसे लिए उसे उसके द्वारा बताए गए विभिन्न लोगों के अकाउंट पर ट्रांसफर करती गई तथा कुछ लोगों से नगद तथा अपने एचडीएफसी बैंक के खाते के माध्यम से भी पैसे लेकर अशोक पांडे उर्फ महेंद्र तिवारी के दिए हुए खाते नंबरों पर ट्रांसफर करते गई। इस तरह अशोक पांडे उर्फ महेंद्र तिवारी अपने आप को आईएएस अफसर एवं अपने रसुद का इस्तेमाल कर अन्य विभागों में  भी ठेका एवं टेंडर आदि दिलाने बाबत भी बताने पर लोगों से पैसे लेकर अशोक पांडे उर्फ महेंद्र तिवारी को ट्रांसफर करना बताई, जबकि महेंद्र तिवारी उर्फ अशोक पांडे से कभी नहीं मिलना तथा उससे आमने सामने नहीं होना बताई। 

यह भी बताई कि बलौदा बाजार के कुछ अन्य व्यक्ति भी उसके संपर्क में रहे हैं, लेकिन सिर्फ फोन के माध्यम से बात होती रही। न तो वह कभी बलौदा आया है और ना हीं किसी से मिला है उससे कुछ कहने पर कहता था कि मैं आईएएस ऑफिसर हूं, आप लोगों से मैं ऐसे नहीं मिला करता। इस तरह झांसे में आकर मैं उसकी बात मानती रही। अपराध दर्ज होने के अंदेशा होने पर बलोदा बाजार से भाग कर रायपुर जगदलपुर, चंडीगढ़, दिल्ली आदि शहरों में रहना बताई तथा पूछताछ में कुछ अहम सुराग भी हाथ लगे हैं। जिससे मुख्य आरोपी अशोक पांडे उर्फ महेंद्र तिवारी की जल्द गिरफ्तारी की जाएगी तथा मुख्य आरोपी द्वारा धोखाधड़ी से प्राप्त रकम से बनाई गई संपत्तियों, मकान, वाहन एवं अन्य अचल संपत्तियो की जानकारी ली जा रही है जिसे जल्द ही कुर्क करने की कार्रवाई की जाएगी। 

मेवा चोपड़ा के मेमोरेंडम कथन के आधार पर उसका एचडीएफसी बैंक का खाता को जप्त किया गया है तथा अपराध सबूत पाकर गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय पेश कर पुलिस रिमांड चाही गई थी लेकिन माननीय न्यायालय द्वारा न्यायिक रिमांड पर महिला सेंट्रल जेल रायपुर भेजा गया है संपूर्ण कार्यवाही वरिष्ठ अधिकारियों के दिशा निर्देश पर निरीक्षक विजय चौधरी एवं कोतवाली स्टाफ द्वारा की गई।

चीतल के शिकार के मामले में आरोपी को जेल

रायपुर 1 जनवरी 2021- वन मंत्री  मोहम्मद अकबर के निर्देशानुसार राज्य में वन विभाग द्वारा अवैध लकड़ी की कटाई व परिवहन तथा वन्य प्राणियों के अवैध शिकार की रोकथाम के लिए अभियान लगातार चालाया जा रहा है। इस कड़ी में गरियाबंद वनमण्डल के अंतर्गत मैनपुर वनपरिक्षेत्र में बाजा घाटी के पास एक नर चीतल के अवैध शिकार में आरोपी   रामसिंह ग्राम बेहराडीह को वन विभाग की टीम द्वारा 48 घंटे के भीतर पकड़कर जेल दाखिला कराया गया है। चीतल के अवैध शिकार में संलिप्त 7 अन्य आरोपियों को भी पकड़ लिया गया है और उनके खिलाफ वन्य जीव (संरक्षण) अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।

    प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्य प्राणी)   पी.व्ही. नरसिंग राव के मार्गदर्शन में मुख्य वन संरक्षक रायपुर श्री जे.आर. नायक के निर्देशानुसार वनमण्डलाधिकारी गरियाबंद श्री मयंक अग्रवाल के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा उक्त कार्रवाई की गई। वनमण्डल गरियाबंद के अंतर्गत मैनपुर परिक्षेत्र में विगत 27 दिसम्बर को एक नर चीतल को मृत पाया गया था। उसी स्थान पर एक नग तीर-कमान भी था। जिसके आधार पर वन विभाग की टीम द्वारा खोजबीन कर आरोपियों को पकड़ लिया गया। इनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जारी है। वन विभाग की टीम ने परिक्षेत्र अधिकारी मैनपुर   अनिल साहू तथा परिक्षेत्र अधिकारी इंदगांव श्री योगे रात्रे सहित विभागी अमले का सराहनीय योगदान रहा।

अपहरण कर बंधक बनाकर फिरौती की मांग करने वाले तीन आरोपी मेदीनीपुर पं. बंगाल से गिरफ्तार

गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से फिरौती रकम 35000 रूपये, लुटा हुआ लैपटाप, एटीएम कार्ड, आईडी कार्ड, पैन कार्ड, 02 नग मोबाईल एवं आरोपी का 02 नग मोबाइल जप्त।

 
 बलोदा बाजार भाटापारा -  थाना बिलाईगढ़ में कौशिल्या बाई पति शिवनारायण राकेश उम्र 36 वर्ष निवासी बिलाईगढ़ द्वारा लिखित आवेदन पेश कर अपने पति शिवनारायण राकेश को आरोपियों द्वारा अपहरण कर पं. बंगाल के ग्राम घाटल के पास गांव में बंधक बनाकर, पैसे की मांग करने एवं जान से मारने की धमकी देने के संबंध में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। जिला पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निवेदिता पाल, एवं प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी पुलिस बिलाईगढ़ सिद्धार्थ बघेल के मार्गदर्शन में स्पेशल टीम गठित कर अपहृतशुदा पीढि़त की सकुशल बरामदगी एवं आरोपी की गिरफ्तारी हेतु पश्चिम बंगाल रवाना किया गया। 

आरोपियों द्वारा पीडि़त से संपर्क किये गये मोबाईल नंबर का डिटेल खंगाला गया एवं बंधकशुदा पीडि़त की पृष्ठभूमि का रिकार्ड भी खंगाला गया। परिजनों से पूछताछ में मिली जानकारी के अनुसार संदेही आरोपियों को चिन्हित कर पुलिस टीम द्वारा पश्चिम बंगाल पश्चिम मेदीनीपुर जिला के दासपुर थाना क्षेत्रांतर्गत संदेही आरोपियों के द्वारा बंधक बनाकर रखे संभावित स्थानों पर दबिश दिया गया। बलौदाबाजार पुलिस टीम द्वारा काफी सुझबुझ एवं व्यवसायिक दक्षता का परिचय देते हुए मुख्य आरोपी मलय कुमार बाग उर्फ राहुल बाग के निवास स्थान का पता लगाकर दबिश दिया गया। इस दौरान मौके पर उपस्थित मिले आरोपी 01. चितरंजन बाग, 02 अरघ जाना के कब्जे से बंधक बनाकर रखे गये शिवनारायण राकेश को सकुशल एवं सुरक्षित बरामद किया गया। मौके में मिले दोनो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। मुख्य आरोपी मलय कुमार बाग के मौके पर नही मिलने पर उसके छिपने के संभावित स्थानो पर अलग अलग टीम बनाकर पश्चिम मेदीनीपुर भेजकर लगातार दबिश दिया गया। कड़ी मेंहनत से मुख्य आरोपी मलय कुमार बाग पिता चितरंजन बाग को पश्चिम मेदीनीपुर में अपनी दुसरी पत्नी के निवास से रेड कार्यवाही कर पकड़ने में सफलता मिला। 

गिरफ्तार आरोपियों एवं बरामद पीडि़त से पूछताछ से घटना के संबंध में जानकारी मिला की आरोपियों द्वारा योजनाबद्ध तरीके से पीडि़त शिवनारायण राकेश को पूर्व में स्टाक मार्केट में इन्वेस्ट कराये गये उनके रकम वापस प्राप्त होने में हो रही लगातार देरी के कारण अपहरण कर, बंधक बनाकर परिजनों को जाने से मारने की धमकी देकर फिरौती की मांग करने की योजना बनाया गया। इस क्रम में आरोपियो द्वारा एक राय होकर पीडि़त शिवनारायण राकेश को पुनः 10 लाख रूपयें इन्वेस्टमेंट कराने का झांसा देकर फ्लाईट टिकट कराकर बहला फुसलाकर मेदीनीपुर बुलाकर बंधक बना लिया। इसके बाद लगातार परिजनों को जान से मारने की धमकी देकर 25 लाख रूपये का फिरौती रकम का मांग किया गया। परिजनों के द्वारा आरोपी के खाते में 35000 रूपयें शुरूआती फिरौती रकम जमा किया था। इस प्रकार से जिला पुलिस टीम बलौदाबाजार द्वारा पुलिस अधीक्षक श्री आई कल्याण एलिसेला द्वारा लगातार घटनाक्रम का सतत् मानिटरींग करते हुए पीडि़त को सकुशल बरामदगी एवं आरोपी की गिरफ्तारी में सफलता प्राप्त हुई है। इस कार्यवाही में उपनिरीक्षक रोशन राजपूत, यशवंत सिंह, सउनि उत्तर साहू प्रआर धनंजय यादव, आर. भरत भुषण पठारे, धनेश्वर वर्मा का सराहनीय भूमिका रही। 

गिरफ्तार आरोपी का नाम - 
1.  चितरंजन बाग पिता हरिपद बाग उम्र 65 वर्ष निवासी श्यामसुन्दरपुर, थाना दासपुर, जिला पं.मेदिनीपुर (पं. बंगाल)
2. आरघ जाना पिता बैद्यनाथ जाना निवासी ग्राम हैजराबेड़, थाना दासपुर, जिला प.मेदिनीपुर (पं. बंगाल)
3. मलय उर्फ राहुल बाग पिता चितरंजन बाग उम्र 33 वर्ष निवासी श्याम सुन्दरपुर, थाना दासपुर, जिला प. मेदिनीपुर (पं. बंगाल)

आरोपी से जप्त मशरूका -   
पीडि़त का 01 नग लैपटाप, 02 नग मोबाईल फोन, आईडी कार्ड, एटीएम कार्ड, आरोपी का 01 नग मोबाईल फोन, एवं नगद 35000 रूपयें।

अपने पिता की हत्या करने वाला आरोपी पुत्र पुलिस गिरफ्त मे

गिधौरी/टुण्डरा ।दिनांक 08.11.2020 को ग्राम बासीनपाली में हत्या होने की सूचना पर चौकी प्रभारी सोनाखान सहायक उप निरीक्षक अश्विनी पड़वार द्वारा हमराह स्टाफ तत्काल मौका पहूँचकर हालात से वरिष्ठ पुलिस अधिकारी महोदय को अवगत कराकर पुलिस अधीक्षक श्री आई.के.एलेसेला के निर्देशन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक निवेदिता पाल, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस बलौदाबाजार सुभाष दास के मार्गदर्शन तथा थाना प्रभारी कसडोल के नेतृत्व में प्राथियाँ कु०सँजीता ठाकुर निवासी बासीनपाली की रिपोर्ट पर *अप०क्र० 641/2020 धारा 302 भादवि कायम कर आरोपी विजय ठाकुर पिता अतर सिँग ठाकुर उम्र 35 साल निवासी बासीनपाली* को गिरफ्तार किया गया। आरोपी द्वारा अपने पिता अतर सिँग ठाकुर उम्र 52 साल से वाद विवाद होने पर महुवा पेड़ की लकड़ी से सिर, माथे पर मारकर सँघातिक चोट पहूँचाकर हत्या कर दिया गया। कि दिनांक 08.11.2020 को आरोपी को गिरफ्तार कर आज कसडोल न्यायालय में पेश किया गया जहाँ से आरोपी को न्यायालय द्वारा जेल भेजा गया। प्रकरण की कार्यवाही मे चौकी सोनाखान के प्रआर रंजन देवाँगन आरक्षक ऋषिकेश भोग, अशोक साहू, शेखराम ध्रुव, दीपक कुर्रे, अरुण प्रताप, विजय कुर्रे, हेमंत अजगले का सराहनीय योगदान रहा।

टिकेश डनसेना के स्पष्ट फर्जीवाडा छाल थाना पहुंची शिकायत फिर जाना पड़ेगा जेल

पहले भी पिता-पुत्र 9 लाख की धोखाधड़ी व पुत्र चाचा सहित पत्रकार की जानलेवा हमला 307 सहित कई मामले में जा चुके हैं जेल

रायगढ़ :-प्रदेश में बीजेपी के सत्ता जाने के बाद और प्रदेश में कांग्रेस सरकार आने के बाद बीजेपी के कार्यकाल में गड़बड़झाला किए छूट भैय्ये नेताओं की पोल परत दर परत खुल रही है। चाहे वो धोखाधड़ी की हो या फिर पुराने रंगदारी की या फिर सरकार को चूना लगाने वाले इनके पैंतरे की। ऐसा ही मामला खरसिया क्षेत्र के बरभौना के छूट भैय्ये नेता टिकेश डनसेना की एक और फर्जीवाड़ा कारनामा सामने आया है। जिसमें ऋण पुस्तिका में छेड़छाड़ कर कम जमीन को अधिक जमीन बताकर धान की बिक्री की गई थी जिसमें सरकार को लाखों का चूना भी लगाया गया। जिसकी शिकायत अब थाने पहुंच गई है फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है। जिसमें में जल्द ही एफ आई आर दर्ज होने की संभावना है।

क्या है पूरा माजरा

दरअसल बात यह है कि कृषक टिकेश डनसेना खरीफ विपणन वर्ष 2012-13 हेतू समर्थन मूल्य में धान विक्रय के लिए पंजीयन कराया था उसके रिण पुस्तिका क्रमांक 79044 एवं ऋण पुस्तिका में दर्ज रकबा 404 अंकित था लेकिन उसके द्वारा ऋण पुस्तिका को कांटछांट कर 404 के आगे 2.लगाकर 1 एकड़ जमीन को 6 एकड़ बनाकर पंजीयन कराया गया था और उसके द्वारा रु.121500 का धान बिक्री कर शासकीय योजना का लाभ लेते हुए राशि प्राप्त कर लिया है| इस प्रकार टिकेश डनसेना के द्वारा स्पष्ट फर्जीवाडा किया गया है जिसे जांच कर उक्त अपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर क्षेत्र व समाज में बढ रहे अपराध को अंकुश लगाने के लिए छाल थाने में त्वरित कार्यवाही हेतू पहुंची शिकायत| इसके माता-पिता, रामबाई डनसेना-श्रवण डनसेना बरभौना शासकीय उचित मूल्य दूकान के हेराफेरी में SDM द्वारा जांच कराये जाने पर दोषी पाये गये हैं दबी फाईल अब खुलने लगी है जिस पर जल्द होगी कार्यवाही।

आदतन अपराधी प्रवित्ति का है आरोपी

खरसिया विकासखण्ड के ग्राम बरभौना से 420 व जानलेवा हमला 307 के साथ अन्य धाराओं सहित कई अपराधों में लिप्त टिकेश डनसेना अपने पिता श्रवण डनसेना के साथ छोटे जामपाली के गरीब आदिवासी का 9 लाख रुपये डकारने के कारण एवं सिंघनपुर में युवा पत्रकार पर जानलेवा हमला में स्वयं और अपने चाचा पिताम्बर डनसेना व अन्य के साथ जेल जा चुका है अभी जमानत पर बाहर है जिसके बाद सामने आया एक और कारनामा जिसकी शिकायत छाल थाना में हुई है ।जो अभी वर्तमान में जमानत पर जेल से बाहर है ।लेकिन पुराने करतूतों की परत ,परत दर परत खुल रही है।

नाबालिग लड़की से दुष्कर्म, आरोपी युवक गिरफ्तार, बिलासपुर जिले से हुई गिरफ्तारी, तफ्तीश में जुटी पुलिस

जांजगीर चाँपा:-मुलमुला पुलिस ने नाबालिग लड़की से दुष्कर्म करने वाले आरोपी युवक को गिरफ्तार किया है. आरोपी युवक का नाम ऋषि बंजारे है, जो मुरलीडीह गांव का रहने वाला है. मामले में तफ्तीश की जा रही है. मुलमुला थाने के प्रभारी केपी टण्डन ने बताया कि मुरलीडीह गांव का युवक ऋषि बंजारे, नाबालिग लड़की को शादी का झांसा देकर बिलासपुर जिले के मस्तूरी क्षेत्र के चौहा गांव ले गया और 27 अक्टूबर को नाबालिग लड़की से 2 बार दुष्कर्म किया. मामले की रिपोर्ट पर मुरलीडीह गांव निवासी आरोपी ऋषि बंजारे को मस्तूरी क्षेत्र के चौहा गांव से गिरफ्तार किया गया. आरोपी युवक के खिलाफ आईपीसी की धारा 363, 366 क, 376 2 ( ढ ) के तहत जुर्म दर्ज किया गया है.

अवैध कच्ची महुआ शराब साथ एक युवक गिरफ्तार

गिधौरी/टुण्डरा:-अवैध शराब के संबंध में मुखबिर से सूचना मिला की ग्राम मड़वा महुआ भाटा का राजू यादव अपने घर बाड़ी के पीछे अवैध रूप से महुआ शराब रख कर बिक्री कर रहा है सूचना पर चौकी प्रभारी ASI सुरेंद्र सिंह, प्रधान आरक्षक आदित्य सिंह ,आरक्षक कृष्ण कुमार यादव, चंद्रप्रताप ठाकुर ,राजेश पटेल, महेश्वर ध्रुव, धीरेंद्र साहू, रूपेश साहू ,अमन चैन तिर्की, नरेंद्र निषाद, दुर्गेश स्वर्णकार , चंद्रप्रताप सिंह ठाकुर दीपक कुमार ध्रुव मौके पर जाकर रेड कार्यवाही किया गया। आरोपी राजू यादव के अपने घर के पीछे बाड़ी में अवैध रूप से कच्ची महुआ शराब बिक्री कर रहा था। हमराह स्टाफ के घेराबंदी कर *राजू यादव पिता मनीराम यादव उम्र 25 साल निवासी ग्राम मड़वा* महुआ भाटा के कब्जे से घर के पीछे बाड़ी में पैरा में छिपाकर रखे *(1) एक सफेद प्लास्टिक बोरी में 140 नग पालीथिन पाऊच में कच्ची महुआ शराब प्रत्येक पाऊच में 150-150 ML (2) एक पीले रंग प्लास्टिक बोरी में 100 नग पालीथिन पाऊच में कच्ची महुआ शराब प्रत्येक पाऊच में 150-150 ML(3) एक सफेद थैला में 7 नग पालीथिन पाऊच में कच्ची महुआ शराब प्रत्येक पाऊच में 150-150 ML. जुमला 37.050 लीटर हाथ भट्टी कच्ची महुआ शराब कीमती 7400/रुपया* को समक्ष गवाहन के जप्त कर कब्जा पुलिस लिया गया। चौकी गिरौदपुरी में आरोपी राजू यादव के विरुद्ध अपराध क्र. 241/2020 धारा 34 (2) आबकारी एक्ट के अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी को न्यायिक रिमांड पर माननीय न्यायालय पेश किया गया है।

गुंडागर्दी एवं दहशत गर्दी करने वाला आरोपी संतोष कैवर्त ,उपजेल बलौदाबाजार दाखिल

गिधौरी:-पुलिस चौकी लवन अंतर्गत ग्राम पंचायत तिल्दा में आरोपी संतोष कैवर्त पिता स्वर्गीय विदेश कैवर्त शराब एवं पंच पद के नशे में चुर होकर आए दिन गांव के गली मोहल्ले में गुंडागर्दी,दहशतगर्दी एवं अशांति व्यवस्था फैला रहा था।जिससे मोहल्ले वासियों का जीना मुश्किल हो गया था । संतोष कैवर्त सार्वजनिक जगहों पर गुंडागर्दी,एवं दहशतगर्दी तो करता था लोगों के घर में घुसकर मारपीट की घटना को अंजाम देता था।जिससे गांव के लोगों में संतोष कैवर्त के खिलाफ आक्रोश का आलम निर्मित था।आरोपी संतोष कैवर्त के खिलाफ पुलिस चौकी लवन को अनगिनत शिकायत प्राप्त हुआ था।आरोपी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा था।गौरतलब हो कि आरोपी संतोष कैवर्त वर्तमान में ग्राम पंचायत तिल्दा के वार्ड क्रमांक 10 का निर्वाचित पंच है।ऐसे विवादित व्यक्ति को वार्ड वासियों ने पंच कैसे चुन लिया यह भी बहुत बड़ा आश्चर्य की बात है।यदि आपराधिक गतिविधियों में संलिप्त व्यक्ति जनप्रतिनिधि निर्वाचित होंगे तो स्वाभाविक है गांव के गलियारों एवं मोहल्ले में अशांति व्यवस्था का पनपना कोई बड़ी बात नहीं होगी।संतोष कैवर्त जैसे लोग पंच पद एवं शराब के नशे में चुर होकर गांव में अशांति व्यवस्था फैलाने के साथ साथ कोई भी अप्रिय घटना को अंजाम देने से पीछे नहीं हटते हैं ।ऐसे लोगों के चलते गॉव में रहने वाले भोले भाले लोगों का जीवन नरकीय होता है।आरोपी संतोष कैवर्त गॉव के ही लक्ष्मण पिता फिरंगी कैवर्त के साथ गाली गलौच एवं मारपीट करने पर उतारू हो गया था।जिसकी शिकायत पुलिस चौकी लवन को पीड़ित लक्ष्मण कैवर्त्य ने 23 अक्टूबर को किये थे।इसके पूर्व आरोपी संतोष कैवर्त के खिलाफ 21 सितंबर,24 सितंबर 03 अक्टूबर को भी पुलिस चौकी लवन को लिखित शिकायत प्राप्त हुआ था।आरोपी संतोष कैवर्त्य मोहल्ले वासियों एवं पुलिस के नाक में दम करके रखा था।जिसकी तलाश पुलिस को विगत कुछ दिनों से था ।आरोपी संतोष कैवर्त को गांव के कुछ अपराधिक किश्म के व्यक्तियों द्वारा पीछे से हिम्मत दिये जा रहे थे जिसके चलते वह कानून को हाथ मे लेकर अपराध को अंजाम देता था।संतोष कैवर्त केवल एक मोहरा है इसके पीछे रहने वाले भी पुलिस की रडार में हैं।संतोष कैवर्त को मोहरा बनाकर उपयोग करने वाले दरिंदे भी सलाखों के पीछे जाने वाले हैं।वहीं एक बात यह भी सामने आया है कि आरोपी संतोष कैवर्त के हरकतों से हर कोई परेशान था।कुछ ग्रामीणों ने मीडिया को बताया कि पंचायतीराज अधिनियम की धारा 40 के तहत आरोपी संतोष कैवर्त को पंच पद से बर्खास्त करने की मांग जिला कलेक्टर बलौदाबाजार एवं मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ शासन से किये जाने की बात कहा है।आरोपी संतोष कैवर्त पंच पद एवं शराब के नशे में इतना चुर था कि सार्वजनिक जगहों पर लोगों से दादागिरी कर मारपीट करने पर उतारू हो जाता है।ऐसे पंच के चलते अन्य पंच प्रतिनिधियों की छवि धूमिल हो रहा है। एक पुरानी कहावत है , हर आरोपी को उनके सही अंजाम तक पुलिस अवश्य पंहुचाता है और आखिरकार आरोपी संतोष कैवर्त के खिलाफ पुलिस चौकी प्रभारी यशवंत प्रताप सिंह के नेतृत्व में प्रधान आरक्षक देवेंद्र देवांगन,प्रधान आरक्षक मन्नू लाल ध्रुव,आरक्षक निरंजन सेन ,आरक्षक साहू, आरक्षक खटकर, आरक्षक नंदू यादव,आरक्षक राय, सहित पुलिस स्टाफ़ ने उत्कृष्ट कार्रवाई करते आरोपी संतोष कैवर्त को गुंडागर्दी करने पर धारा 151 की तहत शनिवार को गिरफ्तार कर एस डी एम न्यायालय बलौदाबाजार पेश किये थे।जहां एस डी एम ने आरोपी की हरकतों को जानकर उपजेल बलौदाबाजार भेजने का निर्देश जारी किये ।आरोपी के जेल जाने से आम जनमानस में खुशियों का माहौल है।आम जनमानस ने पुलिस चौकी लवन एवं एस डी एम बलौदाबाजार के प्रति आभार एवं धन्यवाद जताया है।

एटीएम तोड़ने का प्रयास, 1 आरोपी गिरफ्तार, 2 फरार मुलमुला पुलिस की कार्यवाही

मुलमला:-मुलमुला थाना क्षेत्र बनाहिल स्थित एसबीआई एटीएम में चोरी की नियत से तोड़फोड़ करने वाले एक आरोपी को मुलमुला पुलिस गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। जबकि इस मामले में अभी भी 2 आरोपी फरार हैं। इस आरोपी ने पूर्व में भी नरियरा ग्रामीण बैंक में भी चोरी का प्रयास किया था। पुलिस से मिली जानकरी के अनुसार 22-23 की मध्य रात्रि पुलिस गश्त पर निकली हुई थी, इसी दौरान बनाहील स्टेट बैंक के एटीएम के सामने एक बाइक खड़ी थी, जिसमें चाबी लगी हुई थी। सन्देश होने पर जब एटीएम को देखा तो एक सब्बल और प्लास नजर आया और एटीएम का सामने का हिस्सा गिरा हुआ था। पुलिस ने बैंक अधिकारी को सूचना दिया, उसके द्वारा जाँच में पाया की पैसे सही सलामत है।पुलिस ने उक्त बाइक क्र CG 22 S 8710 की पतासाजी की तो बाइक समारू गोड़ पिता स्व. श्याम गोड़ 23 साल बताया | जो हसुवा बलौदा सबरिया डेरा थाना गिधौरी जिला बलौदाबाज़ार का था | जिसके आधार पर पुलिस आरोपी तक पहुंचने में कामयाब हो गई | पूछताछ में आरोपी ने बताया की इस घटना में 2 अन्य लोग भी शामिल थे | जिसे वह शराबभट्टी में मिला था उसके साथ मिलकर एटीएम चोरी का प्रयास किया था | उन दोनों के बारे में आरोपी कुछ भी नहीं बता पा रहा है। आरोपी ने पूछताछ में बताया की इससे पूर्व में 4 जुलाई 2020 को भी नरियरा के ग्रामीण बैंक का शटर काटने का प्रयास किया था| पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेज दिया है।

पुलिस मुखबिरी के शक में तीन लोगों की नक्सलियों ने की पिटाई, एक को उतारा मौत के घाट

ओड़िसा के मलकानगिरी में नक्सलियों का आतंक लगातार बढ़ रहा है। यहां बीती रात भी नक्सलियों ने जिले के जोदम्बा पुलिस सीमा के अंतर्गत खजुरिगडा में तीन ग्रामीणों की पिटाई कर दी र और पुलिस मुखबिर होने का आरोप लगाकर उनमें से एक की हत्या कर दी है। जानकारी के अनुसार 15 से अधिक माओवादियों ने मंगलवार की देर रात गांव में प्रवेश किया और दास खेमुडु, सना हंथल और समरू खिला पर हमला किया। जिसके बाद उन्होंने खेमुडु का गला रेत रक हत्या कर दी। कहा जा रहा है कि नक्सलियों को संदेह था कि तीनों ने सुरक्षा बलों को लैंडमाइन लगाने की योजना के बारे में सतर्क कर सूचना देने का काम किया है।

खून से लथपथ मिली युवक की लाश, जांच में जुटी कोतवाली पुलिस

दुर्ग:-शहर के संतराबाड़ी स्थित मॉल के पास बुधवार सुबह खून से लथपथ एक युवक की लाश मिली है। बता दें कि युवक का सिर फटा हुआ है। पुलिस ने शव बरामद कर मामले की जांच शुरू कर दी है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक संतराबाड़ी स्थित मॉल के पास खून से लथपथ लाश मिलने की जानकारी उन्हें मिली थी। जब पुलिस मौके पर पहुंची तो मृतक का फटा सिर खून से लथपथ मिला। युवक की पहचान नहीं हो पाई है। कोतवाली पुलिस ने लाश का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेज दी है।

सट्टा खेलाते हुए 01 युवक गिरफ्तार

गिधौरी /बिलाईगढ़:-जिले में जुआ सट्टा की अवैध गतिविधियों पर त्वरित रोकथाम हेतु वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी द्वारा थाना स्टाफ को निर्देषित किया गया था कि दिनाक 17.10.2020 को सूचना मिली कि नरधा रोड ग्राम पुरगांव में एक व्यक्ति लोगो को अधिक पैसा देने की लालच देकर सट्टा-पट्टी लिख रहा है कि सूचना पर मुखबीर के बतायेअनुसार स्थान पर रेड कार्यवाही किया तो पकड़े गये व्यक्ति से नाम पुछने पर अपना नाम सुनीत कुमार साहू पिता लक्ष्मीप्रसाद साहू उम्र 30 साल साकिन पुरगांव थाना बिलाईगढ का होना बताया जो अपने घर के सामने मोबाईल से सट्टा-पट्टी लिखते हुये रंगे हाथ पकड़ा गया आरोपी के कब्जे से एक ओप्पो कंपनी मोबाईल जप्त किया गया जिसमें अनेक अंको का सट्टा-पट्टी लिखा हुआ एवं नगदी रकम 3800 रूपये को वजह सबूत में जप्त कर कब्जा पुलिस में लिया गया आरोपी का कृत्य अपराध धारा 4 (क) जुआ एक्ट का घटित करना पाये जाने से अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है। सम्पुर्ण कार्यवाही में थाना बिलाईगढ के थाना प्रभारी तारेष साहु प्रषिक्षु उप पुलिस अधीक्षक, निरीक्षक राजेष साहु के नेतृत्व मे आर, क्रमांक 433 विक्की वर्मा,438 सत्यप्रकाष कवंर, 439 शातिंलाल कैवत्र्य,507 गौरी शंकर भारद्वाज का योगदान रहा।
Previous123456789...4546Next