व्यापार

छतीसगढ़ : "धान खरीदी केन्द्रों में किसानों के लिए होगी सुविधाओं में बढ़ोतरी"

खाद्य मंत्री अमरजीत भगत की अध्यक्षता में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी एवं कस्टम मिलिंग की नीति पर मंत्री मंडलीय उप समिति की बैठक में धान खरीदी केन्द्रों को व्यवस्थित करने और यहां सुविधाओं में वृद्धि पर बल दिया गया। श्री भगत ने कहा कि राज्य के सभी धान खरीदी केन्द्रों में किसानों की सुविधा के लिए पक्का फड़, पेयजल, शौचालय आदि की व्यवस्था होनी चाहिए। इसके अलावा मंडी शुल्क की राशि से संग्रहण केन्द्रों एवं समितियों भी अधोसंरचना निर्माण पर भी सहमति व्यक्त की गई। बैठक कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल और अपर मुख्य सचिव श्री के.डी.पी. राव सहित संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ विस्तृत चर्चा की गई। 

मंत्री मंडलीय उप समिति की बैठक में खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में धान और मक्का की खरीदी के लिए किसानों के पंजीयन के लिए 16 अगस्त से 31 अक्टूबर 2019 तक की अवधि पर सहमति व्यक्त की गई। पंजीयन करानेे के लिए किसानों को भूमि के रकबे, बोये गए धान के रकबे, आधार नम्बर, बैंक खाता, ऋण पुस्तिका, मोबाइल नम्बर आदि की जानकारी दर्ज करानी होगी। पंजीयन की शेष व्यवस्था गत खरीफ विपणन वर्ष के अनुसार होगी। समर्थन मूल्य पर खरीदे गए धान और मक्का का भुगतान कृषकों के खातों में किया जाएगा। 

बैठक में अधिकारियों ने बताया कि खरीफ विपणन वर्ष 2019-20 में किसानों से समर्थन मूल्य पर 85 लाख टन धान उपार्जन होने का अनुमान है, इसके लिए बारदानों की व्यवस्था गत वर्षों के अनुरूप की जाएगी। धान खरीदी केन्द्रों में कृषकों की सुविधा के लिए अपेक्स बैंक द्वारा सहकारी समितियों में 162 करोड 63 लाख रूपए की लागत से 537 पक्के फड़, 2500 पक्के चबूतरे एवं 537 पक्के शेड-चबूतरे, उपार्जन केन्द्रों में 13 करोड़ 57 लाख 1286 शौचालय और 14 करोड़ 31 लाख रूपए की लागत से पेयजल व्यवस्था के लिए 1286 नलकूप स्थापना का प्रस्ताव भेजा गया है। 

रिटायरमेंट से 6 महीने पहले ही रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने दिया इस्तीफा

मुंबई - अपने रिटायरमेंट के 6 महीने पहले ही रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के डिप्टी गवर्नर विरल आचार्य ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। 7 महीने में यह दूसरी बार है जब रिजर्व बैंक के किसी अधिकारी ने इस तरह से इस्तीफा दिया है। इससे पहले गवर्नर उर्जित पटेल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

रिटायरमेंट के 6 महीने पहले इस्तीफा देने वाले विरल आचार्य भी उर्जित पटेल की टीम का हिस्सा थे। 23 जनवरी 2017 को केंद्रीय बैंक जॉइन करने वाले विरल ईकोनॉमिक लिबरेशन के बाद सबसे युवा डिप्टी गवर्नर थे।
खबरों के अनुसार पद से इस्तीफा देने के बाद विरल न्यूयॉर्क जाएंगे और वहां न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी में पढ़ाएंगे। उनका परिवार वहीं रहता है। बताया जाता है कि उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद से ही विरल आचार्य भी खुद को काफी असहज महसूस कर रहे थे। पिछली दो मौद्रीक नीति की समीक्षा बैठकों में उनके विचार गवर्नर के विचारों से भिन्न रहे थे।

अब बिना एटीएम कार्ड से भी निकाल सकते हैं पैसे, जानिए कैसे

नई दिल्ली: एसबीआई ने ग्राहकों की सुविधा के लिए योनो एप लॉंच किया है। एसबीआई ने अपने ग्राहकों के लिए नई सुविधा प्रदान की है। इसके तहत ग्राहक बिना एटीएम कार्ड के एसबीआई के योनो एप की मदद से पैसे निकाल सकते हैं। इस एप की मदद से आपको पैसों के लिए रिक्वेस्ट करना होगा, जिसके बाद आपको एक पिन मिलेगा। इस पिन की मदद से आप किसी भी एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं। बता दें कि ये बिन सिर्फ 30 मिनट के लिए ही वैध होगा।

मुम्बई की जानी पहचानी संस्था एस्योर क्लीनिक अब आपके शहर रायपुर में

रायपुर। मुम्बई की जानी पहचानी संस्था एस्योर क्लीनिक अब आपके शहर रायपुर में प्रांरभ हुई । आपको बतादें कि एस्योर क्लीनिक अब तक मुम्बई के अंधेरी, खार, पेडर रोड, सूरत व बैंग्लोर इन पांच जगहों में संचलित हो रही है। वहीं आगामी आने वाले माह में अंतर्राष्ट्रीय शाखा के रुप में दुबई जल्द प्रारंभ कि जायेगी। इस सभी संस्थाओं के सफलताओं को देखते हुए एस्योर के संस्थापक डॉ. अभिषेक पिलानी व डॉ. प्रियंका देसाई पिलानी ने रायपुर में शुरू का प्रयास किया। वहीं एस्योर क्लीनिक के ग्रैंड ओपनिंग में फिल्म अभिनेत्री उर्वशी रौतेला रायपुर पहुंच रही है। आपको बतादें एस्योर प्रसिद्ध हास्तिों द्वारा नामांकित एवं स्थापित क्लीनिक का पयार्य है, जहां हेयर ट्रांस्पालांट एवं स्क्रीन (चमड़े) से संबंधित सभी प्रकारों का ईलाज किया जायेगा। एस्योर के संस्थापक डॉ. अभिषेक पिलानीव डॉ. प्रियंका देसाई पिलानी ने बताया कि इसके सफलता का मुख्य कारण इसकी क्रांतिकारी एडवांस F.U.E. Combined With Ultra High Density Direct Implantation Technology है, जो त्वचा के लिए अपनाया गया है, यह उच्च क्रांतिकारी तकनीक है, जो कि श्रेष्ठ चर्मरोज विशेषज्ञों की एक टीम के द्वारा संचालित किया जाता है। जिस वजह से इस ब्राण्ड को बहुत ही सम्मान व पुरस्कारों से नवाजा गया है। इसी टैक्नॉलाजी के चलते यह क्लीनिक आज मुम्बई का अति लोकप्रिय बना गया है। यही वजह है कि यह क्लीनिक एक बहुत ही विश्वसनीय एवं अपने आप में अनोखा है। ज्ञात है कि एस्योर के संस्थापक डॉ. अभिषेक पिलानी एवं डॉ. प्रियंका देसाई पिलानी सेलिब्रेटियों के चेहते है और उनके बीच में बहुत लोकप्रिय है। वहीं रायपुर के शंकर नगर में एस्योर क्लीनिक का ग्रैंड ऑपनिंग १० मार्च २०१९ को होने जा रहा है, जिसमें मुख्य आतिथि के रुप में मुम्बई फिल्म अभिनेत्री उर्वशी रौतेला पहुंच रही है। आपकों बतादें यह क्लीनिक आईडीएफसी बैंक के ऊपर प्रथम तल, आरोग्य हॉस्पिटल के बाजू शंकर नगर रायपुर में स्थित है। साथ ही इस भव्य समारोह में एस्योर के संस्थापक व उनके चर्मरोग विशेषज्ञों की टीम रायपुर पहुंची। साथ ही इस समारोह में शहर के गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

अदाणी गैस को मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ के अनूपपुर-बिलासपुर भौगोलिक क्षेत्र में एक और सीजीडी परियोजना मिली

बिलासपुर, 07 मार्च 2019 : अदाणी गैस लिमिटेड (एजीएल), अदाणी ग्रुप के सिटी गैस डिस्‍ट्रीब्‍यूशन बिजनेस, को पेट्रोलियम एंड नैचुरल गैस रेगुलेटरी बोर्ड (पीएनजीआरबी), भारत सरकार से परिचालन के लिए एक और भौगोलिक क्षेत्र प्राप्‍त हुआ है। कंपनी पहले अनूपपुर-बिलासपुर भौगोलिक क्षेत्र में अपनी सिटी गैस उपस्थिति बढ़ाने के लिए तैयार है और हाल में समाप्‍त हुये सीजीडी नीलामी के 10वें राउंड में मध्‍य प्रदेश और छत्‍तीसगढ़ को कवर कर रही है। माननीय पेट्रोलियम एवं नैचुरल गैस और कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेन्‍द्र प्रधान ने 1 मार्च 2019 को हुये 10वें सीजीडी बिडिंग राउंड के अंतर्गत 50 भौगोलिक क्षेत्रों (जीए)के लिए 12 सफल कंपनियों को आशय पत्र (लेटर ऑफ इंटेंट या एलओआइ) प्रदान किये। यह विकास 27 राज्‍यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में रह रही देश की 70 प्रतिशत से अधिक आबादी के लिए सुविधाजनक, पर्यावरण-हितैषी और सस्‍ती नैचुरल गैस की उपलब्‍धता में नये युग का सूत्रपात करता है। प्रणव अदाणी, मैनेजिंग डायरेक्‍टर, एग्रो, ऑयल एवं गैस, अदाणी ग्रुप ने बताया, “अदाणी गैस अपने संयुक्‍त उपक्रम भागीदार आइओसी के साथ, पहले ही देश के 35 भौगोलिक क्षेत्रों में गैस का वितरण करने के लिए अधिकृत है जहां तकरीबन 10 करोड़ लोग रहते हैं। अनूपपुर जिले में हमारी उपस्थिति बढ़ाने का अवसर कुछ और मिलियन तक महत्‍व को विस्‍तारित करेगा और एक स्‍वस्‍थ ऊर्जा मिश्रण को अपनाने में भारत के सपने की दिशा में एक और कदम होगा।” यह एमपीओएनजी, भारत सरकार की एक और प्रमुख उपलब्धि होगी, जोकि माननीय प्रधानमंत्री पीएम के साथ घरेलू उत्‍पादन बढ़ाने और देश में गैस इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को विस्‍तारित करने के लिए प्रतिबद्ध है ताकि एक गैस आधारित अर्थव्‍यवस्‍था को आगे बढ़ाया जा सके। अदाणी गैस लिमिटेड ने इससे पहले 9वें सीजीडी बिडिंग राउंड में 13 नये भौगोलिक क्षेत्रों  को जीतकर अपनी सीजीडी उपस्थिति को विस्‍तारित किया था। कंपनी ने व्‍यक्तिगत कंपनी के तौर पर 13 भौगोलिक क्षेत्र जीते, इंडियन ऑयल कॉर्प (आइओसी) के साथ इसके संयुक्‍त उपक्रम को 9 भौगोलिक क्षेत्र प्रदान किये गये। अदाणी गैस के विषय में अदाणी गैस लिमिटेड औद्योगिक, कॉमर्शियल एवं घरेलू (आवासीय) ग्राहकों को पाइप्‍ड नैचुरल गैस (पीएनजी) तथा ट्रांसपोर्ट सेक्‍टर को कम्‍प्रेस्‍ड नैचुरल गैस( सीएनजी) की आपूर्ति करने के लिए सिटी गैस डिस्‍ट्रीब्‍यूशन (सीजीडी) नेटवर्क्‍स का विकास एवं परिचालन करने के काम में संलग्‍न है। नैचुरल गैस एक सुविधाजनक, भरोसेमंद एवं पर्यावरण हितैषी ईंधन है जोकि उपभोक्‍ताओं को सुरक्षा, सुविधा एवं आर्थिक दक्षता के उच्‍च स्‍तर का आनंद उठाने की अनुमति देता है। कंपनी का मुख्‍यालय अहमदाबाद में है और इसने गुजरात के अहमदाबाद एवं वडोदरा, हरियाणा में फरीदाबाद और उत्‍तर प्रदेश में खुर्जा में सिटी गैस डिस्‍ट्रीब्‍यूशन नेटवर्क्‍स स्‍थापित किया है। इसके अलावा, प्रयागराज, चंडीगढ़, एर्नाकुलम,पानीपत, दमन, धारवाड़ा,उधमसिंह नगर,दक्षिण गोवा, बुलंदशहर गैस डिस्‍ट्रीब्‍यूशन के विकास का कार्य अदाणी गैस लिमिटेड एवं इंडियल ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड को सौंपा गया है।

मिसेस इंडिया नीतू मंडल नज़र आयेगी टॉप गोल्ड टी के विज्ञापन में

रायपुर : मिसेस इंडिया नीतू मंडल टॉप गोल्ड टी के विज्ञापन फ़िल्म में दर्शकों को नज़र आयेगी । सवांददाता ने जब उनसे पूछा कि आप को टी का ऐड करके कैसा लगा तो उन्होंने कहा कि ये मेरा पहेला ऐड है और मुझे बहुत ही खुशी हो रही है कि मुझे इस ऐड फ़िल्म में काम करने का मौका मिला।आने वाले समय मे मैं और भी ऐड फ़िल्म करने वाली हूँ । मुझे अभी से ऑफर भी आने लगे है ऐड फ़िल्म में काम करने के लिए। मुझे फिल्मों के भी ऑफर है पर मैं अभिनेत्री मीनाक्षी शेषाद्रि से में बहुत ही प्राभवित हूँ  उन्होंने जिस तरह "दामिनी" फिल्म में चुनौतीपूर्ण भूमिका निभाई थी उसी तरह का रोल में  भी करना चाहती हूँ

22 दिसम्बर से 2 जनवरी तक वीवो मोबाइल खरीदने पर लक्की ड्रा में मिलेगा उपहार,आज भाटापारा के मोहन साहू बने वीवो ग्रहक विजेता

भाटापारा – वीवो मोबाइल इंडिया .प्राइवेट .लिमिटेड ” के दवारा “22 दिसम्बर से 2 जनवरी” तक प्रतिदिन छत्तीसगढ़ में वीवो का मोबाइल खरीदने पर ग्राहकों को ऑनलाइन लक्की ड्रा फार्म भरा जायेगा | जिसका ऑन लाइन ड्रा रोज निकलता है जिसमे प्रथम पुरुस्कार के रूप में 11000 रुपये दिया जाता है दूसरा पुरुस्कार में 4 ग्राहको को प्रति ग्राहक लक्की ड्रा में जिनका नाम होगा उनको 2000 रुपये का पुरुस्कार दिया जाता है , तीसरा पुरुस्कार 5 ग्राहकों को दिया जाता है जिनका ड्रा में नाम होगा उन्हें 1000 रुपये है यह सभी नाम कंपनी के द्वारा ऑन लाइन ड्रा के माध्यम से निकाले जाते है, भाटापारा में माँ दुर्गा मोबाइल बलौदाबाजार से ग्राहक मोहन साहू (प्रहलाद साहू) पिता भारतलाल साहू जी का लक्की ड्रा में नाम आया है | जिनकी माता अंजनी साहू जी को प्रथम पुरुस्कार के रूप में 11000 रुपये दिया गया | पुरुस्कार वीवो मोबाइल बलौदाबाजार के डीलर ” ए.ए सेल्स से अमरजीत सलूजा के द्वारा दिया गया | जिसमे माँ दुर्गा मोबाइल से अनिरुद्ध साहू , कंपनी से सविनय श्रीवास ,लोकनाथ साहू ,राहुल प्रसाद आदि सदस्य उपलब्ध थे | ए.ए सेल्स से अमरजीत सलूजा ने मोहन साहू और उनकी माताजी को प्रथम पुरुस्कार पाने की बधाई दी

सोने की कीमतों में आई बड़ी गिरावट, चांदी भी फिसली

मुंबई : तीन कारोबारी दिनों में बढ़त बनाए रखने के बाद बुधवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोने की कीमत 110 रुपये की गिरावट के साथ 32,540 रुपये प्रति 10 ग्राम रही. कमजोर वैश्विक संकेत और स्थानीय आभूषण निर्माताओं की ओर से मांग का घटना इसकी अहम वजह रही है. सिक्का ढलाई करने वाली और औद्योगिक इकाइयों की ओर से मांग का समर्थन कम होने चांदी भी 25 रुपये टूटकर 38,550 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई.

दिल्ली सर्राफा में 99.9 और 99.5 प्रतिशत शुद्धता वाले सोने का भाव 110-110 रुपये घटकर क्रमश: 32,540 रुपये और 32,390 रुपये प्रति 10 ग्राम रहा. पिछले तीन कारोबारी दिनों में सोना भाव 550 रुपये चढ़ गया था.

सर्राफा कारोबारियों के अनुसार इसकी अहम वजह स्थानीय आभूषण निर्माताओं की ओर से मांग का कमजोर होना और वैश्विक बाजार में नकारात्मक संदेश होना है. सोने की 8 ग्राम वजनी गिन्नी की कीमत 25,000 रुपये प्रति इकाई पर बनी रही. वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोने का भाव 1,242.08 डॉलर प्रति औंस और चांदी का भाव 14.57 डॉलर प्रति औंस रहा.

पत्रकार खबरीलाल बिज़नेस रिपोर्ट ::- सुख सागर कार केअर ने कम समय मे जीत ग्राहकों का दिल।।

मध्यप्रदेश के सतना शहर के एनएच 75 , सोहावल पर स्थित "कारएक्सपर्ट" - सुख सागर कार केअर मात्र देड़ वर्ष के अल्प अवधि मे 1300 से अधिक ग्राहकों को अपने सर्वोत्तम सर्विस से संतुष्ट किये हैं और इस संस्थान में ग्राहकों के प्रति आत्मीयता और त्वरित सर्विस के कारण कस्टमर अनायस ही सुख सागर कार केअर में अपनी गाड़ी की सर्विस करवाने आते हैं। महज देड़ वर्ष के अल्प समय मे 500 से अधिक कस्टमर इस संस्थान के रेगुलर कस्टमर बन गए हैं जो अपनी गाड़ी की डेंटिंग, पेंटिंग, वाशिंग, सर्विसिंग, पार्ट्स, व्हील अलाइनमेंट, व्हील बैलेंसिंग, बाहरी व अंदरूनी सफाई, कार मॉडिफिकेशन आदि कार्य इस संस्थान के वर्कशॉप में प्रशिक्षण प्राप्त कुशल मैकेनिकों द्वारा करवाते हैं साथ ही प्रांप्ट डिलीवरी इनका यूएसपी भी है।

ए एन्ड ए बिजनेस कंसल्टिंग ने आज अपने क्षेत्रीय एमएसएमई सर्वेक्षण के निष्कर्ष जारी किए

मुंबई: -भारत की सबसे तेजी से बढ़ती हुई बिजनेस कंसल्टिंग कंपनी ए एन्ड ए  बिजनेस कंसल्टिंग ने आज अपने क्षेत्रीय एमएसएमई सर्वेक्षण के निष्कर्ष जारी किए हैं। इस सर्वेक्षण में यह मूल्यांकन किया गया की ‘कैसे क्षेत्रीय एमएसएमई योजना बना कर विकास कर सकते हैं और स्थिरता बनाए रख सकते हैं?’

छत्तीसगढ़ की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में किए गए एक महीने के सर्वेक्षण में कुछ दिलचस्प आंकड़े सामने आए जिनमें गोल सेटिंग, नीतियों की जागरूकता, वित्तीय अनुकूलन और बहुत कुछ शामिल है।

आंकड़ों का विवरण करते हुए ए एन्ड ए बिजनेस कंसल्टिंग के मैनेजिंग डायरेक्टर, प्रवीण दरयानी, ने कहा - हमें डेटा और इसके विश्लेषण को साझा करने तथा एसएमई समुदाय के साथ आगे बढ़ते हुए ख़ुशी हो रही है। हमें पूरा भरोसा है कि यह अभ्यास अगली पीढ़ी के ऑन्त्रप्रेन्योर्स को उनके समस्याओं की पहचान करने, समाधान खोजने और उन्हें अपने व्यवसाय को बेहतर बनाने में मदद करेगा।

दरयानी ने 2009 में एक ऑन्त्रप्रेन्योर् कोच के रूप में अपनी यात्रा की शुरूआत की थी और 8000 से अधिक एमएसएमई ओनर्स को उन्होंने प्रशिक्षित किया है। उनकी सेल्स टीम ने कार्यक्रम के लिए पंजीकरण करने से पहले हर ऑन्त्रप्रेन्योर् के साथ उनकी चुनौतियों के बारे में विस्तृत चर्चा की है, और आज तक पंजीकृत सभी ऑन्त्रप्रेन्योर्स के क्वालिटेटिव डाटा लगभग 300 ऑन्त्रप्रेन्योर्स के क्वांटिटेटिव डाटा से समानता रखते हैं। यह पहली बार है जब हमने प्रोफेशनल्स की एक टीम नियुक्त कर यह सर्वेक्षण किया है। इसके परिणाम एमएसएमई को अपने व्यापार को अगले स्तर तक ले जाने में हमारी सहायता करेंगे।

इस संबंध में दरयानी ने आगे बताया की "आंकड़ों से पता चलता है कि 71% एमएसएमई को सरकार से कोई सब्सिडी नहीं मिली है और उन्होंने ऐसी किसी भी योजना के लिए आवेदन भी नहीं किया। इसका कारण सरकारी योजनाओं के सम्बन्ध मे कमी है एवं उनकी यह धारणा है कि इस योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया जटिल होगी। दिलचस्प बात यह है कि दुनिया भर में भारत की ईज ऑफ़ डूइंग बिज़नस रैंकिंग में सुधार हुआ है, लेकिन ऐसा लगता है कि हमारे उद्दमीयों की योजनाओं के बारे में नकारात्मक या गलत धारणा है। सरकार को इस छवि को बदलने की जरूरत है।"

संजय शर्मा, प्रेसिडेंट, ए एन्ड ए बिजनेस कंसल्टिंग ने कहा एमएसएमई हमारे देश की जीडीपी में करीब 40 प्रतिशत का योगदान देती हैं और करीब 80 मिलियन लोगों को रोजगार देती हैं जो एक बड़ी संख्या हैl बिजनेस एन्टरप्रायजेस में, एमएसएमई पर विशेष ध्यान देने की ज़रूरत है।

ए एंड ए बिजनेस कंसल्टिंग एमएसएमई ऑन्त्रप्रेन्योर्स को अधिक सुनियोजित और बेस्ट प्रैक्टिसेस को लागू करने में सहायता करने के लिए काम करता है ताकि उनका आर्थिक विकास हो सके।

स्पीड फॉर बिजनेस तथा स्ट्रैटेजिक एलायंस इन बिजनेस नामक कंसल्टिंग प्रोग्राम के माध्यम से ए एंड ए बिजनेस कंसल्टिंग एमएसएमई ऑन्त्रप्रेन्योर्स को विकसित कर रहा है और उन्हें अपने व्यवसाय में सुधार करने में मदद कर रहा है। इस संबंध में श्री दरयानी ने आगे बताया कि, ए एंड ए बिजनेस कंसल्टिंग मानव संसाधनों को मजबूत बनाना, उत्पाद पर काम करना, ब्रांड धारणाओं में सुधार करना और एमएसएमई बिजनेस में प्रक्रियाओं और प्रणालियों को शुरू करने जैसे प्रमुख क्षेत्रों पर अपना ध्यान केंद्रित कर रहा है। इन पर काम करने के बाद वृद्धि और टर्नओवर अपने आप आ जाते है।

ए एन्ड ए  बिज़नेस कंसल्टिंग- क्षेत्रीय एमएसएमई सर्वेक्षण जुलाई 2018 क्षेत्रीय एमएसएमई की योजना, विकास और स्थिरता के मूल्यांकन पर एक अध्ययन मुख्य विशेषताएं:

1. सर्वेक्षण में छत्तीसगढ़ के विभिन्न उद्योगों को शामिल किया गया, जिनके टर्नओवर 5 करोड़ से 1000 करोड़ तक है। इन कंपनियों के कर्मचारियों की संख्या 10 कर्मचारीयों से ज्यादा है।

2. एमबीए के प्रथम वर्ष के छात्रों के सहयोग से जुलाई 2018 से अगस्त 2018 तक फील्डवर्क करवाया गया।

3. सर्वेक्षण में कृषि और उससे संबंधित व्यवसायों वाले संगठन शामिल नहीं थे।

4. इस सर्वेक्षण में 300 एमएसएमई ओनर्स का इंटरव्यू लिया गया जिसमें ऑब्जेक्टिव/सब्जेक्टिव प्रकार के प्रश्न थे। इसमें 25 प्रश्न एसएमई की चुनौतियों को समझने के लिए थे।

5. इस सर्वेक्षण में डाटा इकट्ठा करने और उसकी व्याख्या करने के लिए लगभग 25 एन्युमरेटर्स एवं सुपरवाइज़र्स शामिल थे।

मुख्य निष्कर्ष:

कोई मानव संसाधन प्रणाली और लिखित में नौकरी का विवरण न होना - 70% एमएसएमई इस बात से सहमत हैं कि संगठन में अच्छी प्रतिभा हासिल करने और बनाए रखने के लिए कोई मानव संसाधन विभाग नहीं है और न ही कर्मचारियों को उनकी नौकरी के बारे में समझाने के लिए कोई मजबूत प्रणाली है। 85% एमएसएम

Previous123456Next