बड़ी खबर

राज्य में धान खरीदी के पहले दिन 30 हजार 446 किसानों ने बेचा धान : पहले दिन एक दिसम्बर को 98 हजार 968 मीट्रिक टन धान की खरीदी : किसानों में भारी उत्साह

रायपुर ;  खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में धान खरीदी के पहले दिन एक दिसम्बर को आज 30 हजार 446 किसानों से 98 हजार 968 मीट्रिक धान खरीदी की गई है। धान बेचने वाले किसानों में उत्साह का वातावरण है। खाद्य विभाग के अनुसार सभी खरीदी केन्द्रों में सुचारू रूप से धान खरीदी हुई है। कोरोना वायरस संक्रमण से सुरक्षा के लिए जारी दिशा-निर्देशों का पालन किया गया है।

    खरीफ वर्ष 2020-21 में एक दिसम्बर को राज्य के महासमुंद जिले में सबसे अधिक 12 हजार 28 मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है। इसी प्रकार बस्तर जिले में 133.32 मीट्रिक टन, बीजापुर जिले में 69.64 मीट्रिक टन, दंतेवाड़ा जिले में 21.52 मीट्रिक टन, कांकेर जिले में एक हजार 869 मीट्रिक टन, कोण्डागांव जिले में एक हजार 270 मीट्रिक टन, नारायणपुर जिले में 33.92 मीट्रिक टन, सुकमा जिले में 10.16 मीट्रिक टन, बिलासपुर जिले में 3 हजार 751 मीट्रिक टन, गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही 753 मीट्रिक टन, जांजगीर-चांपा जिले में एक हजार 215 मीट्रिक टन, कोरबा जिले में 48.44 मीट्रिक टन, मुंगेली जिले में एक हजार 967 मीट्रिक टन, रायगढ़ जिले में 3 हजार 223 मीट्रिक टन, बालोद जिले में 7 हजार 829 मीट्रिक टन, बेमेतरा जिले में 7 हजार 587 मीट्रिक टन, दुर्ग जिले में 6 हजार 695 मीट्रिक टन, कवर्धा में 8 हजार 429 मीट्रिक टन, राजनांदगांव जिले में 9 हजार 706 मीट्रिक टन, बलौदाबाजार जिले में 7 हजार 907 मीट्रिक टन, धमतरी जिले में 6 हजार 737 मीट्रिक टन, गरियाबंद जिले में 4 हजार 852 मीट्रिक टन, रायपुर जिले में 9 हजार 996 मीट्रिक टन, बलरामपुर जिले में 13.28 मीट्रिक टन, जशपुर जिले में 664.28 मीट्रिक टन, कोरिया जिले में 364.12 मीट्रिक टन, सरगुजा जिले में एक हजार 97 मीट्रिक टन और सूरजपुर जिले में 694.06 मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई है।

छत्तीसगढ़ में समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का महा अभियान आज 01 दिसम्बर से शुरू सभी तैयारियां पूर्ण: प्रदेश में बनाए गए 2305 धान खरीदी केन्द्र

रायपुर, 1 दिस्मबर 2020 छत्तीसगढ़ में धान उत्पादक किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का महा अभियान एक दिसम्बर से शुरू होगा। राज्य सरकार द्वारा इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि धान खरीदी के दौरान किसानों को किसी प्रकार की असुविधा न हो। किसानों की सहूलियत का पूरा ध्यान रखा जाए। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में इस माह की 28 तारीख को आयोजित केबिनेट की बैठक में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी 01 दिसम्बर से 31 जनवरी 2021 तक और मक्का की खरीदी 01 दिसम्बर से 31 मई 2021 तक करने के निर्देश दिए गए हैं। 01 दिसम्बर से प्रदेश में 2 हजार 305 धान खरीदी केन्द्रों में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी शुरू की जाएगी। इस वर्ष 257 नए धान खरीदी केन्द्र बनाए गए हैं। 
    राज्य सरकार की किसान हितैषी नीतियों से खेती-किसानी छोड़ चुके 2 लाख से अधिक किसान खेतों की ओर लौटे हैं, जिससे खेती के रकबे में वृद्धि हुई है। खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में पिछले वर्ष की तुलना में 2 लाख 49 हजार ज्यादा किसानों ने धान बेचने के लिए पंजीयन कराया है। इन्हें मिलाकर इस वर्ष समर्थन मूल्य पर धान बेचने के लिए कुल 21 लाख 29 हजार 764 किसानों ने पंजीयन कराया है। इन किसानों द्वारा बोये गए धान का रकबा 27 लाख 59 हजार 385 हेक्टेयर से अधिक है। दो सालों में धान बेचने वाले किसानों का रकबा 19.36 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 22.68 लाख हेक्टेयर और किसानों की संख्या 12 लाख 6 हजार बढ़कर 18 लाख 38 हजार हो गई है। इस प्रकार देखा जाए तो रकबे में 3 लाख 32 हजार हेक्टेयर तथा समर्थन मूल्य पर धान बेचेने वाले किसानों की संख्या में 6.32 लाख बढ़ोत्तरी हुई है।
    पिछले दो वर्षाें में समर्थन मूल्य पर खरीदे गए धान की मात्रा में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है। वर्ष 2017-18 में छत्तीसगढ़ राज्य में समर्थन मूल्य पर 56.85 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई थी। दो सालों के दौरान धान खरीदी का यह आंकड़ा 83.94 लाख मीट्रिक टन पहुंच गया। इस साल धान बेचने के लिए पंजीकृत किसानों की संख्या और धान की रकबे को देखते हुए समर्थन मूल्य पर बीते वर्ष की तुलना में ज्यादा खरीदी का अनुमान है। इसको लेकर राज्य शासन द्वारा हर संभव व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा रही है। धान उपार्जन के लिए बारदाने की कमी के बावजूद भी सरकार इसके प्रबंध में जुटी है।
    मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने धान खरीदी के दौरान सीमावर्ती राज्यों से लाए जाने वाले धान पर कड़ाई से रोक लगाने के निर्देश जिला प्रशासन के अधिकारियों को दिए हैं। उन्हांेने कहा है कि अवैध धान परिवहन करते पाए जाने पर तत्काल कार्रवाई की जाए। इसकी जिम्मेदारी सभी जिलों के जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और संबंधित विभाग को सौंपी गई है। सीमावर्ती जिलों की सीमा से लगे 3-3 खरीदी केन्द्रों में विशेष निगरानी रखने, चेक पोस्ट लगाकर जांच करने के निर्देश दिए गए हैं। श्री बघेल ने यह निर्देश भी दिए हैं कि राज्य के भीतर एक से दूसरे जिलों से धान लाने ले जाने वाले किसानों को अनावश्यक रूप से परेशान नहीं किया जाए।
    मुख्यमंत्री ने निर्देश पर धान खरीदी के लिए समुचित संख्या में बारदानों की व्यवस्था की जा रही है। धान उपार्जन के लिए 4 लाख 75 हजार गठान बारदानों की आवश्यकता संभावित है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा धान खरीदी के लिए भारत सरकार ने छत्तीसगढ़ को केवल एक लाख 43 हजार गठान बारदानों की ही आपूर्ति की स्वीकृति दी है तथा इसमें से मात्र 56 हजार गठान बारदाने प्राप्त हुए हैं। बारदानों की कमी की पूर्ति के लिए राज्य शासन द्वारा 70 हजार गठान प्लास्टिक के बारदाने खरीदी जा रही है। बारदानों की कमी से धान खरीदी प्रभावित न हो, इसके लिए राज्य में पीडीएस बारदानों का संकलन एवं मिलर के पुराने बारदानों का सत्यापन किया जा रहा है। 
    छत्तीसगढ़ सरकार ने वर्ष 2018-19 में 15.71 लाख किसानों से 80.38 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई थी। वर्ष 2019-20 में 18.38 लाख किसानों से 83.94 लाख मीट्रिक टन धान की रिकॉर्ड खरीदी की गई थी। राज्य में दो सालों में पंजीकृत किसानों की तुलना में धान बेचने वाले कृषकों के प्रतिशत में भी बढ़ोत्तरी हुई है। वर्ष 2017-18 में 76.47 प्रतिशत किसानों ने धान बेचा था। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा प्रदेश की बागडोर संभालते ही वर्ष 2018-19 में यह आंकड़ा 92.61 प्रतिशत हो गया है। बीते विपणन वर्ष 2019-20 में राज्य में 94.02 प्रतिशत किसानों ने समर्थन मूल्य पर धान बेचा था।

 

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल का निधन, कोरोना से थे संक्रमित मुख्यमंत्री बघेल सहित अन्य नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

नई दिल्लीः कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पार्टी के शीर्ष रणनीतिकार अहमद पटेल का बुधवार को गुरुग्राम के अस्पताल में निधन हो गया। वह पिछले कुछ समय से कोरोना से संक्रमित थे। अहमद पटेल (71) की तबियत ज्यादा खराब होने पर उनको 15 नवंबर को गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पटेल ने कोरोना संक्रमित होने की जानकारी देते हुए अपने सभी करीबियों और संपर्क में आने वाले लोगों से खुद को आइसोलेट करने और कोविड टेस्ट कराने की अपील की थी। उनके बेटे फैसल ने ट्वीट कर उनके निधन की सूचना दी।

अहमद के बेटे फैजल ने ट्वीट में बताया, ‘बड़े दुख के साथ मैं यह बताना चाहता हूं कि मेरे पिता अहमद पटेल का बुधवार देर रात 3.30 बजे निधन हो गया है। करीब एक महीने पहले उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी और उनके शरीर के कई अंग काम करना बंद कर चुके थे, जिसके बाद उनकी मौत हो गई। अल्लाह उन्हें जन्नत फरमाए।’ फैजल ने अपने सभी शुभचिंतकों से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने की अपील की और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने को कहा है।

 छत्तीसगढ़ के  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने ट्वीट किया- कांग्रेस विचारधारा के प्रति दृढ़ संकल्पित, जुझारू योद्धा, पार्टी के अनमोल रत्न अहमद भाई पटेल के निधन का समाचार हम सबके लिए स्तब्ध कर देने वाला है। उनका जाना कांग्रेस पार्टी, गुजरात के साथ देश की भी अपूर्णीय क्षति है। ईश्वर परिवाजनों को संबल प्रदान करे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने निवास कार्यालय से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा आयोजित मुख्यमंत्रियों की बैठक में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल हुए.

नई दिल्ली 24 नवम्बर। देश की राजधानी दिल्ली हो, आर्थिक राजधानी मुंबई हो या फिर देश के अन्य छोटे-बड़े राज्य। कोरोना ने देश के सभी इलाकों में दूसरी बार हमला किया है। देश के कई राज्य ऐसे हैं, जहां कोरोना के दूसरे हमले का असर ज्यादा नजर आ रहा है, इसमें दिल्ली, छत्तीसगढ़, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल शामिल हैं।

आज पीएम मोदी ने इन सभी आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वर्चुअल बैठक की और राज्यों में कोरोना के खिलाफ जारी जंग को लेकर चर्चा की। इस दौरान मुख्यमंत्रियों ने अपने स्तर पर किए जा रहे प्रयासों को बताया और केंद्र की मदद पर भी बात रखी।

सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बात सुनने के बाद पीएम मोदी ने कहा कि इस बार केंद्र कोई भी फैसला देश पर नहीं थोपेगा, बल्कि राज्यों के मुख्यमंत्री लिखित में अपनी सलाह केंद्र के पास भेजें। पीएम मोदी ने कहा कि जिन राज्यों में जिस तरह की परिस्थितियां हैं, उसमेें केंद्र का सहयोग किस तरह होना चाहिए, इसे भी लिखें, ताकि केंद्र सरकार आगे कदम बढ़ा सके।इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, गृहमंत्री  ताम्रध्वज साहू, मुख्य सचिव   आर.पी.मण्डल, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव   सुब्रत साहू, अपर मुख्य सचिव  रेणू पिल्ले, पुलिस महानिदेशक डी. एम. अवस्थी सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री 24 नवम्बर को राजधानी रायपुर में लगभग 33.25 करोड़ रूपए के कार्यों का करेंगे लोकर्पण

रायपुर, 23 नवम्बर 2020 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 24 नवम्बर को राजधानी रायपुर में नागरिक सुविधाओं से संबंधित लगभग 33 करोड़ 25 लाख रूपए की लागत के कार्यों का लोकार्पण करेंगे। ये कार्य रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा पूर्ण कराए गए हैं। बघेल इनमें से 3 करोड़ 28 लाख रूपए की लागत से निर्मित देवेन्द्र नगर ग्लोबल चौक व सड़क चौड़ीकरण कार्य, लगभग 2 करोड़ 52 लाख रूपए की लागत से आक्सीजोन स्मार्ट रोड में कराए गए कार्य, लगभग 75 लाख रूपए की लागत से कलेक्टोरेट उद्यान में जन सुविधाओं के उन्नयन कार्यों, लगभग 20 करोड़ 70 लाख रूपए की लागत से कराए गए जवाहर बाजार परिसर के सौंदर्यीकरण कार्य, लगभग 6 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित नए सिटी कोतवाली थाना भवन और बूढ़ा तालाब में लगाए गए म्यूजिकल फाउंटेन का लोकार्पण करेंगे। देवेन्द्र नगर ग्लोबल चौक व सड़क चौड़ीकरण कार्य - आवागमन को सुव्यवस्थित करने रिक्त भू-खंड का सदुपायोग करते हुए नगर निगम, रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड व लोक निर्माण विभाग द्वारा देवेन्द्र नगर चौक से एक्सप्रेस वे तक की दूरी के मार्ग के चौड़ीकरण व उन्नयन का कार्य किया गया है। इसमें लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़क निर्माण (बी.टी.रोड) किया गया है एवं नगर निगम व रायपुर स्मार्ट सिटी द्वारा मिलकर लगभग 3 करोड़ 28 लाख रूपए की लागत से 47 दुकानों, नाली व सड़क निर्माण कार्य, वृक्षारोपण, चौक सौंदर्यीकरण, विद्युतिकरण कार्य निष्पादित किया गया है। भविष्य में एक्सप्रेेस वे प्रारंभ होने से सघन आवागन के दबाव को व्यवस्थित करने में सड़क चौड़ीकरण का यह कार्य अत्यधिक उपयोगी होगा। ऑक्सीजोन स्मार्ट रोड कार्य - रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा ऑक्सीजोन के समीप 220 मीटर सड़क का स्मार्ट सड़क के रूप में उन्नयन किया गया है। लगभग 2.52 करोड़ रूपए की लागत से निर्मित इस सड़क में अंडरग्राउंड केबलिंग की व्यवस्था है। इस स्मार्ट रोड में प्रकाश व्यवस्था हेतु सोलर पैनल लगाए गए है। भूमिगत जल निकास व्यवस्था के साथ ही साइनेज व रोड मार्किंग कर इस मार्ग को आकर्षक स्वरूप दिया गया है। कलेक्टोरेट उद्यान में जन सुविधाओं का उन्नयन - कलेक्टोरेट पुलिस अधीक्षक कार्यालय सहित अन्य विभागीय कार्यालयों में आने वाले आम नागरिकों की सुविधा हेतु लगभग 75 लाख रूपए की लागत से कलेक्टोरेट परिसर में आगंतुकों की बैठक व्यवस्था एवं लैंडस्केपिंग, लाइटिंग व पेवर लगाकर आकर्षक उद्यान विकसित किया गया है। जवाहर बाजार परिसर का कायाकल्य - रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड द्वारा नगर के सबसे पुराने व ऐतिहासिक जवाहर बाजार में पार्किंग सह व्यवसायिक परिसर निर्माण कार्य पूर्ण किया गया है। लगभग 20 करोड़ 70 लाख रूपए की लागत से इस परिसर के जीर्णोद्धार उपरांत दशकों से किराएदार के रूप में व्यवसाय कर रहे 67 व्यवसायियों को मालिकाना हक प्रदान करने का ऐतिहासिक कार्य भी इस वर्ष छत्तीसगढ़ शासन द्वारा किया गया है। इस योजना के तहत पार्किंग हेतु लोवर बेसमेंट के साथ ही अपर बेसमेंट, ग्राउंड फ्लोर व तीन मंजिला व्यवसायकि परिसर सह साईट डेवलपमेंट का कार्य किया गया है। इस परिसर के जीर्णोद्धार में ऐतिहासिक मुख्य द्वार को यथावत रखा गया है। सिटी कोतवाली थाना निर्माण कार्य - रायपुर स्मार्ट सिटी मिशन के तहत शहर के हृदय स्थल व सघन क्षेत्र में बने पुराने सिटी कोतवाली थाने को सर्वसुवधिायुक्त थाना के रूप में निर्मित किया गया है। इस निर्माण के बाद जहां मुख्य व्यापारिक क्षेत्र में बरसों पुराने सिटी कोतवाली के आसपास यातायात व्यवस्थित हो सकेगा, वहीं हाईटेक स्मार्ट सिटी कोतवाली थाने के सुव्यवस्थित संचालन होगा। लगभग 14 हजार वर्ग फुट के क्षेत्र में कुल 30 हजार वर्ग फुट में भूतल के साथ 6 मंजिल की भवन निर्मित है। लगभग 6 करोड़ रूपए की लागत से इस भवन का निर्माण 10 माह की अल्पावधि में पूर्ण किया गया है। इस भवन के भू-तल में टी.आई. और उनके स्टॉफ के बैठने की व्यवस्था होगी। प्रथम तल मंे ए.एस.आई. एवं टी.आई. के बैठने की व्यवस्था के साथ ही इन्वेस्टिंगेशन हॉल और वेटिंग कक्ष बनाया गया है। द्वितीय तल में मीटिंग कक्ष, डॉक्यूमेंट्स कक्ष और इन्वेस्टिगेशन कक्ष, तृतीय तल में शस्त्रागार, माल खाना, कम्प्यूटर कक्ष और भोजन कक्ष एवं चौथे माले में महिला व पुरूष सिपाहियों के लिए अलग-अलग 50-50 बिस्तरों की क्षमता वाला आराम गृह और रीक्रिएशन कक्ष निर्धारित है। पांचवे माले में सी.एस.पी. और एस.आई. के कक्ष होंगे और पूरे स्टॉफ के लिए वर्क स्टेशन इसी माले में होगा। छठवें माले में 2 बड़े हॉल है, जिसमें मीटिंग और सेमीनार का आयोजन किया जा सकेगा। सिटी मॉनिटरिंग की उन्नत सुविधा इस थाने में उपलब्ध है। बूढ़ा तालाब में म्यूजिकल फाउंटेन की स्थापना - ऐतिहासिक बूढ़ा तालाब के सौंदर्यीकरण के तहत आकर्षक म्यूजिकल फाउंटेन की स्थापना की गई है। यह फाउंटेन देश में क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा फाउंटेन है। इस फाउंटेन के शुरू होने से तालाब की नैसर्गिक भव्यता को आकर्षक स्वरूप मिलेगा।

देश में कोरोना के 55839 नए मामले आए, कुल संक्रमितों का आंकड़ा 77 लाख के पार

नई दिल्ली:-देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। लेकिन सक्रिय मामलों में लगातार कमी हो रही है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 55,839 नए मामले सामने आए और 702 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 55,839 नए मामले आए और संक्रमितों की कुल संख्या 77 लाख को पार कर 77,06,946 हो गई। इसी अवधि में 79,415 लोगों ने कोरोना को मात दी है और इसे मिलाकर देश में अब तक 68,74,518 मरीज कोरोनामुक्त हो चुके हैं। नए मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वालों की संख्या अधिक होने से सक्रिय मामले 24,278 घटकर 7,15,812 हो गए हैं। इस दौरान 702 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई और इस संख्या को मिलाकर अब तक 1,16,616 लोगों की कोरोना से मौत हो चुकी है। देश में स्वस्थ होने वालों की दर बढ़कर 89.20 प्रतिशत और सक्रिय मामलों की दर घटकर 9.29 प्रतिशत पर आ गई है जबकि मृत्यु दर अभी 1.51 फीसदी है।

राजधानी रायपुर में मर्डर रेलवे स्टेशन के पास युवक पर हमला गंज थाना पुलिस जांच में जुटी

राजधानी रायपुर से बड़ी खबर:-रेलवे स्टेशन के पास आपसी रंजिश में शंकर महानंद नामक युवक पर आरोपी महेश यादव द्वारा धारदार हथियार से हमला करके हत्या कर दी गई. हत्या के बाद गंज थाने की पुलिस ने शव कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है. जानकारी के मुताबिक पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. हत्या की पूरी वारदात देर रात 2 बजे के आस पास की बताई जा रही है. मौके पर पुलिस के आला अधिकारी भी पहुंचे थे. आरोपी ने मृतक ने गले पर खैंची से वार करके मौत के घाट उतार दिया. पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ करने के साथ सीसीटीवी फुटेजकी की जाँच कर रही है. सूत्रों के मुताबिक मृतक महासमुंद जिले का रहने वाला है।

देश में कोरोना के 61871 नए मामले, 1033 की मौत, कुल संक्रमितों का आंकड़ा 74 लाख के पार

नई दिल्ली:-देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 61,871 नए मामले सामने आए और 1033 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से रविवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 1033 संक्रमितों की मौत के साथ इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 1.14 लाख हो गई। इसी अवधि में 72,614 लोगों ने कोरोना को मात दी है और इसे मिलाकर देश में अब तक करीब 66 लाख मरीज कोरोनामुक्त हो चुके हैं। नए मामलों में कमी आने से सक्रिय मामले 11,776 घटकर 7.83 लाख रह गए। इस दौरान 61,871 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद इनका आंकड़ा 74.94 लाख हो गया। देश में स्वस्थ होने वालों की दर 88 प्रतिशत हो गई है जबकि मृत्यु दर अभी 1.52 फीसदी है।

देश में 24 घंटों में 63371 नए मरीज, कुल संक्रमितों का आंकड़ा 73 लाख के पार

नई दिल्ली:-देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 63,371 नए मामले सामने आए और 895 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 70,348 कोरोना संक्रमितों के स्वास्थ्य में सुधार हुआ, जिन्हें विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई। देश में अब तक 64,53,789 मरीज कोरोनामुक्त हो चुके हैं। इसी अवधि में 63,371 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद संक्रमण का आंकड़ा 73,70,478 हो गया है। कोरोना संक्रमण के नए मामलों में कमी आने के कारण सक्रिय मामले 7862 घटकर 8,04,528 हो गए। कोरोना संक्रमण के मामले में भारत दुनियाभर में अमेरिका के बाद दूसरे क्रम पर है। अमेरिका में संक्रमितों की कुल संख्या 79,79,448 है और इस हिसाब से भारत अब केवल 6.08 लाख ही पीछे हैं। वहीं मृतकों की संख्या के लिहाज से यह अमेरिका और ब्राजील के बाद तीसरे स्थान पर है। अमेरिका और ब्राजील में क्रमश: 2.17 लाख और 1.52 लाख से अधिक कोरोना की महामारी में कालकवलित हो चुके हैं जबकि भारत में पिछले 24 घंटों के दौरान 895 और संक्रमितों की मृत्यु के साथ इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 1,12,161 हो गई है। देश में अभी सक्रिय मामलों का प्रतिशत 10.92 और रोगमुक्त होने वालों की दर 87.56 प्रतिशत है जबकि मृत्यु दर 1.52 फीसदी रह गयी है।

देश में 24 घंटों में मिले 67708 नए कोरोना पॉजिटिव, 680 की मौत

नई दिल्ली:-देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 67,708 नए मामले सामने आए और 680 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 81,514 कोरोना संक्रमितों के स्वास्थ्य में सुधार हुआ, जिन्हें विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई। देश में अब तक 63,83,441 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। इसी अवधि में 67,708 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद संक्रमण का आंकड़ा 73,07,097 हो गया है। पिछले 24 घंटों के दौरान 680 संक्रमित अपनी जान गंवा बैठे और इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 1,11,266 हो गई है। कोरोना संक्रमण के नए मामलों में कमी आने के कारण सक्रिय मामले 14,486 घटकर 8,12,390 हो गए। देश में अभी सक्रिय मामलों का प्रतिशत 11.12 और रोगमुक्त होने वालों की दर 87.36 प्रतिशत है जबकि मृत्यु दर 1.52 फीसदी रह गयी है।

देश में कोरोना के 63509 नए मामले आए, 730 की मौत नई दिल्ली

देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 63,509 नए मामले सामने आए और 730 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से बुधवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 74,632 कोरोना संक्रमितों के स्वास्थ्य में सुधार हुआ, जिन्हें विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई। देश में अब तक 63,01,927 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। इसी अवधि में 63,509 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद संक्रमण का आंकड़ा 72,39,389 हो गया है। पिछले 24 घंटों के दौरान 730 संक्रमित अपनी जान गंवा बैठे और इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 1,10,586 हो गई है। कोरोना संक्रमण के नए मामलों में कमी आने के कारण सक्रिय मामले 11,853 घटकर 8,26,876 हो गए। देश में अभी सक्रिय मामलों का प्रतिशत 11.42 और रोगमुक्त होने वालों की दर 87.05 प्रतिशत है जबकि मृत्यु दर 1.53 फीसदी रह गई है।

देश में 55342 नए मरीज, 706 की मौत, कुल संक्रमितों की संख्या 71 लाख 75 हजार के पार

नई दिल्ली:-देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 55,342 नए मामले सामने आए और 706 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से मंगलवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 77,760 कोरोना संक्रमितों के स्वास्थ्य में सुधार हुआ, जिन्हें विभिन्न अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई। देश में अब तक 62,27,295 मरीजों ने कोरोना को मात दी है। इसी अवधि में 55,342 लोगों के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद संक्रमण का आंकड़ा 71,75,880 हो गया। पिछले 24 घंटों के दौरान 706 संक्रमित अपनी जान गंवा बैठे और इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 1,09,856 हो गई है। कोरोना संक्रमण के नए मामलों में कमी आने के कारण सक्रिय मामले 23,124 घटकर 8,38,729 हो गए। देश में अभी सक्रिय मामलों का प्रतिशत 11.69 और रोगमुक्त होने वालों की दर 86.78 प्रतिशत है जबकि मृत्यु दर 1.53 फीसदी रह गई है।

भारत में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 66 लाख के पार, 24 घंटे में 61,267 नए मामले और 884 मौतें

नई दिल्ली:-कोरोना संक्रमण अब भी दुनिया में सबसे तेजी से भारत में ही फैल रहा है. हालांकि अच्छी बात ये है कि नए संक्रमण से ज्यादा ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है. देश में पिछले 24 घंटों में 61,267 नए कोरोना मामले दर्ज किए गए. हालांकि 884 मरीजों की जान भी चली गई. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में अब कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 66 लाख 85 हजार हो गई है. इनमें से एक लाख तीन हजार लोगों की मौत हो चुकी है. एक्टिव केस की संख्या घटकर 9 लाख 19 हजार हो गई और कुल 56 लाख 62 हजार लोग ठीक हो चुके हैं. संक्रमण के एक्टिव केस की संख्या की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या करीब छह गुना ज्यादा है.

भारत में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 66 लाख के पार, 24 घंटे में 74,442 नए मामले और 903 मौतें

नईदिल्ली:-कोरोना संक्रमण अब भी दुनिया में सबसे तेजी से भारत में ही फैल रहा है. हालांकि अच्छी बात ये है कि नए संक्रमण से ज्यादा ठीक होने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है. देश में पिछले 24 घंटों में 74,442 नए कोरोना मामले दर्ज किए गए. जबकि 76,737 मरीज कोरोना से ठीक हो गए. हालांकि 903 मरीजों की जान भी चली गई. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में अब कुल कोरोना संक्रमितों की संख्या 66 लाख 23 हजार हो गई है. इनमें से एक लाख 2 हजार 685 लोगों की मौत हो चुकी है. एक्टिव केस की संख्या घटकर 9 लाख 34 हजार हो गई और कुल 55 लाख 86 हजार लोग ठीक हो चुके हैं. संक्रमण के एक्टिव केस की संख्या की तुलना में स्वस्थ हुए लोगों की संख्या करीब छह गुना ज्यादा है।

ICMR के मुताबिक, 4 अक्टूबर तक कोरोना वायरस के कुल 7 करोड़ 99 लाख सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 10 लाख सैंपल की टेस्टिंग कल की गई. पॉजिटिविटी रेट करीब सात फीसदी है. मृत्यु दर में गिरावट राहत की बात है कि मृत्यु दर और एक्टिव केस रेट में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है. मृत्यु दर गिरकर 1.55% हो गई. इसके अलावा एक्टिव केस जिनका इलाज चल है उनकी दर भी घटकर 14% हो गई है. इसके साथ ही रिकवरी रेट यानी ठीक होने की दर 84% पर है. भारत में रिकवरी रेट लगातार बढ़ रहा है।

देश में सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं. महाराष्ट्र लगातार कोरोना की सबसे बुरी मार झेलने वाला राज्य बना हुआ है. यहां अब तक 14 लाख मामले दर्ज हो चुके हैं. इसके बाद आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक और उत्तर प्रदेश हैं. इन पांच राज्यों में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं. एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का दूसरा स्थान है. कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है. मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत का नंबर है।

हाथरस केस की सीबीआई जांच होगी, सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए आदेश

हाथरस गैंगरेप केस की सीबीआई जांच होगी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इसके आदेश दे दिए हैं. आज उत्तर प्रदेश अपर सचिव गृह अवनीश अवस्थी और डीजीपी हितेश चंद्र ने परिवार से मुलाकात की थी. जानकारी के मुताबिक इसी मुलाकात में परिवार ने सीबीआई जांच की मांग की थी. परिवार का कहना था कि हमें उत्तर प्रदेश की पुलिस पर भरोसा नहीं है. बता दें कि परिवार ने जिलाधिकारी पर भी गंभीर आरोप लगाए गए थे. जानकारी के मुताबिक जिलाधिकारी के खिलाफ भी जल्द कार्रवाई हो सकती है।
Previous123456789...9192Next