बड़ी खबर

जांजगीर चापा : प्रशासन की अनदेखी : क्रेशर संचालक उड़ा रहा नियमों की धज्जियां , ब्लास्टिंग और क्रेशर से निकलने वाली धूल से ग्रामीण परेशान .. पढ़े यह विशेष रिपोर्ट

 

शनि सूर्यवंशी-BBN24NEWS.COM

पकरिया- पकरिया से लगरा सिल्ली मुख्य मार्ग से लगा हुआ सड़क किनारे संचालित हो रहा बाके बिहारी मिनरल्स क्रेसर द्वारा नियमो की धज्जिया उड़ाते हुए मनमानी पूर्वक संचालित हो रहे है।

जानकारी के अनुसार ग्रामीणों का कहना है कि शुक्रवार को  क्रेशर संचालक द्वारा ब्लास्टिंग किया गया था जिसके  चपेट में आने से एक गर्भवती गाय की मौके पर मौत हो गई ,  वही घटना स्थल पर पत्थर का टुकड़ा पाया गया है , जिसके बाद ग्रामीणों का कहना है कि  मवेशि गाय की मौत ब्लास्टिंग के दौरान पत्थर से हुआ है। गाय मालिक को जब इस बात का  जानकारी मिला तो  वह अपने परिवार के  साथ गांव के कोटवार को लेकर घटना स्थल पर पहुँचा वही कुछ देर के बाद गांव के सरपंच उपसरपंच ने ग्रामीणों के साथ क्रेसर के पास पहुचकर घटना के संबंध में जानकारी लिया । वही जब इस घटना के बारे में सरपंच ने क्रेशर संचालक से  घटना के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि क्रेशर से लगभग 300 मीटर की दूरी पर गाय खेत पर चिल्ला रही थी और  उठ बैठ रही थी तो मेरे और मेरे स्टॉप के द्वारा उसे पानी पिला गया वही  साफ शब्दों में  क्रेशर मालिक ने  कह दिया कि  ये मेरे यहाँ ब्लास्टिंग से मवेशि गाय  खत्म नही हुई  है । वही गाय मालिक के साथ ग्रामीणों ने मुआवाज़ा कि  मांग किया तो संचालक ने साफ कहा कि यहाँ घटना मेरे से संबंधित नहीं  है |

देखे विडियों....

 
वही गाय मालिक अपना और अपना पूरा परिवार का गाय दूध बेचकर  भरण पालन करता था अब उसके ऊपर बड़ी समस्या खड़ी हो गयी है।
वही क्रेशर के पास रह रहे करीब आधा दर्जन घर बलस्टिंग के चपेट में आया है जैसे कि कच्चा खप्पर का घर  सीट  वाला मकान व बलस्टिंग से टूटे- फूटे  पाया गए । वही वहा पे रह रहे ग्रामीण मनसराम सुमन ने बताया कि बलस्टिंग के दौरान मैं और मेरे परिवार  छोटे छोटे बच्चो को तखत के नीचे  छुपाना पड़ता है । वही विजय चौहान ने बताया कि मेरे घर पर भी खप्पर पर कई बार पत्थर गिर चुका है जिससे मैं और मेरा परिवार के साथ कई बार घटना होते हुए बच गए है। साथ ही वहाँ के एक परिबार ने क्रेशर के बलस्टिंग से त्रस्त होकर अपने परिवार के साथ ससुराल के घर में रहना मुनासिब समझा । इतना ही नही पकरिया के होटल संचालक अजय कैवर्त्य के घर पर बलस्टिंग के पत्थर से पूरा दीवार से फट गया। जोकि अजय के द्वारा कई बार इसकी जानकारी क्रेसर संचालक को दिया गया उसके बावजूद भी संचालक मनमानी तरीके से अपना काम धड़ले से  किया जा रहा  है। 

 धूल निकलने से राहगीरों को हो रही है परेशानी ....
आपको बता दे कि क्रेशर प्लांट से पत्थर तोड़ने के दौरान धूल निकलने का सिलसिला चलता रहता है। लेकिन क्रेशर स्थित  मुख्य मार्ग  पकरिया से ग्राम  लगरा सिल्ली खपरी जोगीदीपा जुड़ा हुआ है जिससे आसपास के गांव के लोग सैकड़ो की संख्या में अपने रोजमर्रा दिनचर्या के कामो  को लेकर यहाँ से रोजाना आवागमन करते है ।  वही यहाँ से  प्रतिदिन गुजरने वाले राहगीरों ग्रमीणों छात्र छात्राओं का कहना है कि क्रेशर के धूल के कारण यहाँ से गुजरना जी का जंजाल साबित होता  है कई बार तो ब्लास्टिंग के समय वहा रुकना पड़ जाता है जिससे हमारे जान का खतरा बना रहता है। 

जानकारी के बावजूद भी कार्यवाही नही....

इतना ही नही  इस तरह की घटना के बारे में कई बार अधिकारीयो को  अवगत कराया गया , फिर भी इस ओर कार्यवाही नहीं होना समझ से परे है। जिससे क्रेशर संचालक की मनमानी चरम सीमा पर है। यहाँ तक क्रेशर संचालक शासन के मानकों  को मानने तैयार नही है।  क्रेशर संचालको  के लिए शासन ने जो नियम निर्धारित किया है उसका उद्ददेश् क्रेशर मशीनों के आसपास ग्रमीणों को प्रदूषण से बचाना है। इतना ही नही क्रेशर संचालन को लाइसेंस देते समय यह दिशा निर्देश का पालन अनिवार्य है। वही क्रेशर संचालन का लाइसेंस लेते समय क्रेशर प्लांट के संचालको को  नियमो का पालन करने का हवाला लिखित में देते\ है लेकिन लाइसेंस मिलने के बाद क्रेशर संचालको की मनमानी देखते ही शुरू हो जाती है।  

विभाग का कार्यवाही न करना एक  बड़ा सवाल ....

वही शासन द्वारा जारी गाइडलाइन का किसी भी तरह से पालन नही होने के बाद इस तरह से विभाग का कार्यवाही न करना बड़ा सवाल है।  क्रेशरों से बड़ी मात्रा में  धूल के कण दिन रात निकलते रहते है वही इससे आसपास के वातावरण में धूल के गुबार से वहाँ  से गुजरने वाले राहगीरों को बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ता है। क्रेशर  संचालक के द्वारा लगातार नियमो की अनदेखी करने के बाद भी शासन के अधिकारियों द्वारा किसी भी प्रकार के कार्यवाही नही होने से संचालक के  हौसले बुलंद है। पकरिया में संचालित क्रेशर प्लांट के संचालक ने न तो पर्यावरण  की सुरक्षा  की दृष्टि से अपने क्रेशर प्लांट में नियम के मुताबिक पौधारोपण किया है। और न ही क्रेशर के परिछेत्र में जहा पत्थर तोड़ने की मशीन लगाई गई है वहाँ के आसपास पानी का छिड़काव भी नही किया जाता है।

सरपंच ने लगाया आरोप....

ग्राम पकरिया के सरपंच ने मनीष सिंगसर्वा ने बताया कि क्रेशर संचालक के द्वारा अपने लीज जमीन के बाद पंचायत के बिना अनुमति के क्रेशर पर ही अपने लीज जमीन से ज्यादा शासकीय जमीन पर  दंबगई पूर्वक मिट्टी डपिंग किया  है इतना ही नही सरपंच ने इसकी शिकायत  कई बार पटवारी से  की उसके बावजूद भी क्रेशर संचालक सरपंच को नेतागिरी का दौंश दिखाते हुए कब्जा कर रखा हुआ है। वही मौके पर पटवारी ने दोबारा सीमांकन कर जांच कर कार्यवाही करने की बात कही है।

आधुनिकीकरण एवं संरक्षा संबंधी कार्यों के फलस्वरुप कुछ गाड़ियां रहेगी रद्द ....दखे लिस्ट

 
रेलवे प्रशासन द्वारा दुर्घटनारहित परिचालन सुनिश्चित करने आधुनिकीकरण एवं संरक्षा संबंधी कार्यों को जल्दी से जल्दी पूरा करने पर जोर दिया जा रहा है । इसी क्रम में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के विभिन्न सेक्शनों में आधुनिकीकरण एवं संरक्षा संबंधी कार्यों के फलस्वरूप कुछ सवारी गाड़ियों का परिचालन प्रभावित रहेगा । विस्तृत विवरण इस प्रकार है ....
 
दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं  रविवार को रद्द होने वाली गाड़ियां:-
 
1. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को रायपुर एवं इतवारी के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 58205 रायपुर-इतवारी पैसेंजर रद्द रहेगी ।
 
2. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को इतवारी एवं रायपुर के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 58206 इतवारी-रायपुर पैसेंजर रद्द रहेगी ।
 
3. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को रायपुर एवं डोंगरगढ़ के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 68709 रायपुर-डोंगरगढ़ मेमु रद्द रहेगी ।
 
4. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को डोंगरगढ़ एवं रायपुर के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 68710 डोंगरगढ़-रायपुर मेमु रद्द रहेगी ।
 
5. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को रायपुर एवं डोंगरगढ़ के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 68721 रायपुर-डोंगरगढ़ मेमु रद्द रहेगी ।
 
6. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को डोंगरगढ़ एवं गोंदिया के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 68723 डोंगरगढ़-गोंदिया मेमु रद्द रहेगी ।
 
7. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को गोंदिया एवं रायपुर के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 68724 गोंदिया-रायपुर मेमु रद्द रहेगी ।
 
8. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को रायपुर एवं डोंगरगढ़ के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 68729 रायपुर-डोंगरगढ़ मेमु रद्द रहेगी ।
 
9. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक गुरुवार एवं रविवार को डोंगरगढ़ एवं रायपुर के मध्य चलने वाली गाड़ी संख्या 68730 डोंगरगढ़-रायपुर मेमु रद्द रहेगी ।
 
दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक रविवार को आंशिक रद्द होने वाली गाड़ियां:-
 
1. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक रविवार को गोंदिया एवं झारसुगुडा से छुटने वाली 58118/58117 गोंदिया - झारसुगुडा - गोंदिया पैसेंजर, बिलासपुर-दुर्ग-बिलासपुर के मध्य रद्द रहेगी |
 
2. दिनांक 26 मई से 30 जून, 2019 तक प्रत्येक रविवार को रायपुर एवं गेवरारोड से छुटने वाली 68746/68745 रायपुर-गेवरारोड-रायपुर मेमु, रायपुर-बिलासपुर-रायपुर के मध्य रद्द रहेगी ।
 
 
        

शासकीय नर्स ने घर में कि नसबंदी, तबीयत बिगड़ी तो रायपुर रेफर किया, इलाज के दौरान मौत....

 

खैंदा में पदस्थ है नर्स, निजी डॉ. की मदद से घर पर ही करती है डिलीवरी , ओपरेशन 

 

प्रशासन जिस दौर में फर्जी डॉक्टरों की सेहत से खिलवाड़ कर रहे हैं उसी दौर में रजिस्टर्ड प्रेक्टिशनर भी अपने स्टाफ के भरोसे निजी तौर पर इलाज के नाम पर मरीजों की जान से खेल रहे हैं। इसी तरह का एक मामला प्रकाश में आया है, जिसमें कम उम्र में मां बनने से बचने की हसरत लिए नसबंदी कराने एक नर्स से मदद लेने गई महिला उसके जाल में फंसकर जान गंवा बैठी। दरअसल वह नशबंदी कराने एक नर्स के पास गई थी, जो निजी प्रेक्टिशनर की मदद से अपने घर पर ही यह काम करती है। कुल 10 हजार रुपए खर्च करने के बाद 3 दिन तक जीवन और मौत से जूझती महिला ने 24 मई को दम तोड़ दिया। पीड़िता के परिजनों के अनुसार बिना एसी और ओटी के हुए इस ऑपरेशन में महिला को जीते जी मार डाला।  

पूरा मामला, पलारी ब्लाक के ग्राम गुमा निवासी गुमान पाल की बेटी पूर्णिमा पति राजू पाल 26 साल जो ग्राम पुर्नबोड बेमेतरा में शादी हो कर गई थी जिसके 4 छोटे-छोटे बच्चे हैं। एक साढ़े तीन साल, एक ढाई साल के अलावा 3 माह पहले उसे दो जुड़वा बच्चे भी हुए हैं। 8 मई को पूर्णिमा के माता पिता का सड़क हादसे में चोट लगने पर उन्हें देखने दुधमुंहे दो जुड़वा बच्चों के साथ मायके गुमा गई तो मां ने उसे समझाया इतनी जल्दी-जल्दी गर्भ धारण करने से सेहत गिरती है अत: नसबंदी करवा ले। समझाइश पर वह अपनी मां शिवबती व भाभी लक्ष्मी के साथ 20 मई को 10 बजे शासकीय अस्पताल खैंदा की नर्स डागेश्वरी यदु से, जो निजी डॉक्टर की मदद से इस तरह के काम करती है, से सलाह लेने 15 किमी दूर बलौदाबाजार गई। नर्स ने कहा कि ये काम वह खुद कर देगी, जिसके 7 हजार रुपए लगेंगे। दो घंटे बाद 12 बजे 45 डिग्री तापमान में बिना वातानुकूल ओटी के उसने पूर्णिमा की नसबंदी निजी प्रेक्टिशनर डॉ. प्रमोद तिवारी की मदद से अपने घर पर ही करा दी और शाम 5 बजे छुट्टी भी दे दी। 

 22 तारीख को अचानक पूर्णिमा की तबीयत खराब हो गई ....

डागेश्वरी के घर पहुंचे। नर्स ने डॉ. तिवारी से फोन पर सलाह लेकर एक दिन घर पर ही इलाज किया और 23 तारीख को डेढ़ बजे डिस्चार्ज कर दिया। इस बार दोनों ने पीड़िता से 3 हजार रुपए फिर लिे। उसी दिन रात को पूर्णिमा की फिर तबीयत खराब हुई तो रात 10 बजे घर वाले पिर नर्स के घर पहुंचे, जहां डॉ. प्रमोद तिवारी मौजूद थे। उन्होंने पीड़िता का चेकअप करने के बाद  रात 12 बजे अपने बेटे डॉ. नितिन तिवारी के बलौदाबाजार स्थित चंदादेवी अस्पताल रेफर कर दिया। वहां स्थिति गंभीर होते देख रात दो बजे आरोग्य अस्पताल रायपुर रेफर कर दिया। पीड़िता 4.45 बजे आरोग्य पहुंची पर इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। पीड़िता के परिजनों ने इसकी रिपोर्ट सिविल लाइंस थाने रायपुर में दर्ज कराई है, जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

परिवार ने लगाया आरोप..

पूर्णिमा की भाभी लक्ष्मी, मां शिवबती और पति गुमा के हेमकुमार धुव्र राजू ने कहा कि पैसे के लालच में बिना सुविधा के लापरवाहीपूर्वक नसबंदी कर नर्स डिगेश्वरी यदु व डॉ. प्रमोद तिवारी ने मासूम बच्चों के सिर से मां का साया छीन लिया। दोनों ने मिलकर हमें धोखा दिया। 

बिलासपुर जिला पंचायत में आग लगने से हड़कप ... देखे विडियों

 

अजीत मिश्रा - BBN24NEWS

देखे विडियों....

बिलासपुर जिला पंचायत के फस्ट फ्लोर में आग लगने से हड़कप मच गया ।भीषण आग की लपटों के बीच जरूरी दस्तावेज जलने की भी खबर है जिस वक्त जिला पंचायत की बिल्डिंग में आग लगी उस फ्लोर में कोई कर्मचारी आग में फंसा तो नही है इस बात की पुष्टि की जा रही है बिल्डिंग से धुआं निकलते देख हल्ला मच गया जिसके बाद आग पर काबू पाने का प्रयास जारी है वही आग कब और कैसे लगी इसकी फिलहाल पुष्टि नही हो पाई है।इधर आगजनी की खबर लगते ही नगर विधयाक शैलेश पांडेय, कलेक्टर संजय अलंग मौके पर पहुच गए हैं इस घटना में आग की लपटों से सीईओ चेम्बर पूरी तरह से जल गया है। वही इस आगजनी की घटना में बिल्डिंग में धुंआ भरने से 5 लोगो का दम घुट गया जिन्हें इलाज के लिए सिम्स अस्पताल में भर्ती करवाया गया है ।

जिला पंचायत में लगी आग

 

बिलासपुर:- जिला पंचायत बिलासपुर कार्यालय के नई बिल्डिंग स्थित पहली मंजिल में अचानक आग लग गई। देखते ही देखते आग ने भीषण रूप धारण कर लिया । आग इतनी भीषण थी कि कुछ ही देर में पूरा चेंबर जलकर खाख हो गया। सीईओ के चेंबर में रखे हुए महत्वपूर्ण दस्तावेज भी आग की चपेट में आ गए । घटना की जानकारी मिलते ही कलेक्टर सहित प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचे है । 

छत्तीसगढ़ में बीजेपी 9 और कांग्रेस 2 सीटों से आगे

 

लोकसभा चुनाव 2019 के मतगणना का रुझान आना शुरू हो गया है। छत्तीसगढ़ में बीजेपी 6 सीटों से आगे चल रही है। प्रदेश में लगातार बीजेपी लीड बनाते दिख रही है। लोकसभा चुनाव में डाक मत पत्र की गणना शुरू हो चुकी है। बता दें कि कुल 3700 डाकमत में से 3250 मत पड़े हैं। डाकमत की गिनती के बाद ईवीएम की गणना शुरू की जाएगी।

सूरजपुर के तीनों विधानसभा से भाजपा प्रत्यासी रेणुका सिंह पहले राउंड में 5500 मतों से आगे निकल गई  है। मुंगेली विधानसभा से पहले राउंड में बीजेपी आगे है। गरियाबंद की राजिम और बिन्द्रानवागढ़ दोनों को मिलाकर भाजपा को 1220 की बढ़त मिली हुई है। राजनांदगांव से संतोष पांडे बीजेपी के 5000 मतों से आगे चल रहे हैं। महासमुंद सीट से गरियाबंद राजिम विधानसभा से बीजेपी प्रत्याशी चुन्नी लाल साहू अपने निकटतम प्रतिद्वंदी कांग्रेस के धनेंद्र साहू से 449 वोट से आगे चल चल रहें हैं।

जांजगीर चापा : भीषण हादसे में 2 महिला और 1 बच्चे की मौत,कैप्सूल ट्रक और बोलेरो में भिड़ंत वही अन्य 5 लोगो की हालत गंभीर

जांजगीर चांपा:- जिले के डभरा थाना क्षेत्र अंतर्गत भद्री चौकी के पास स्थित चौक में शनिवार रात 10:00 बजे के आसपास कैप्सूल वाहन ने बोलेरो को टक्कर मारी जिसमें बोलेरो सवार 8 लोगों में से 2 महिला एवं 1 बच्चे की अस्पताल ले जाते वक्त पर ही मौत हो गई वहीं 5 लोग घायल हैं जिसे पुलिस एवं ग्रामीणों की मदद से तत्काल इलाज के लिए खरसिया सिविल अस्पताल में इलाज हेतु भर्ती किया गया। आपको बता दें कि दुर्घटनाग्रस्त बोलेरो वाहन शासकीय वाहन है वही बताया जा रहा है कि जांजगीर में पदस्थ कृषि वैज्ञानिक खेमा दास के परिवार शादी कार्यक्रम हेतु कुधरी आए हुए थे। लौटते वक्त भदरी चौक के पास यह घटना हुआ इस घटना में सक्ति में विद्युत विभाग में पदस्थ महिला जेई नेहा महंत एवं उसके 10 माह के बेटे तन्मय महंत की भी इस सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। वहीं कैप्सूल वाहन चालक एवं वाहन को हिरासत में ले लिया गया।

तुम्हारी बेटी है तुम खोजो तुम्हारी परवरीश ठीक रहती तो नही होती गुमशुदा - पुलिस , पिडित ने लगाया पुलिस पर कई गभीर आरोप , अपहरण के तीन माह बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली ... पुलिस कि कार्यप्रणाली पर उठ रहे सवाल... पढ़े पूरी खबर

ग्राम कुकराचुन्दा से नाबालिक का अपहरण तीन माह बीत जाने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली,गुमसुदगी का रिपोर्ट लिख कर कि जा रही  खाना पुर्ति।
 

आप को बता दे कि भाटापारा के समिप ग्राम कुकराचुन्दा से 26 फरवरी 2019 को आसनी बाई की नाबालिक नातिन को किसी अज्ञात व्यक्ति के द्वारा बहला फुसलाकर अपने साथ व्यपहरित कर ले गया। जिसकी सुचना आसनी बाई ने ग्रामिण थाने मे दी, ग्रामीण थाना पुलिस ने आसनी बाई की सुचना पर गुम इंसान कायम कर ली, कुछ दिन बीतने के बाद आसनी बाई की नातीन उम्र 15 साल 10 माह ने घर के मोबाईल मे फोन लगाकर रोने लगी जब उससे पुछा गया कहा हो तो वह बोली मुझे नही पता की मै कहा हुॅ लेकिन जितनी जल्दी हो सके मुझे यहां से  ले जाओ वर्ना मेरे साथ कुछ भी घटना घट सकती है। जिसके बाद आसनी बाई ने ग्रामीण थाना पहुचकर पुलिस वालो को पुरी घटना सुनाई , पुलिस वालो से आसनी बाई को जो जवाब मिला उसे सुनकर वह पुरी तरह से टुट गई, आसनी बाई ने रोते हुए बताया कि पुलिस वालो ने कहा की तुम्हारी परवरीश ठीक नही है इसलिए तुम्हारी नातीन किसी के साथ भाग गई है। जब पिडित आसनी ने अपनी नातीन को खोजने की बात कही तो पुलिस ने जवाब दिया की पुलिस अपने तरह से खोज बीन कर रही है पुलिस के पास एक ही काम नही है।  

 आप को बता दे कि पिडित आसनी को किसी के माध्यम से पता चला कि उसकी नाबालिक नातीन को ग्राम मोहभट्ठा के सुर्यकांत अपने पास लेकर कही गया है तो इसकी लिखित शिकायत जिला पुलिस अधिक्षक के पास की वही पुलिस अधिक्षक को लिखि तमे यह भी बताया कि मै जब अपनी नातीन के संबंध मे जानकारी लेने जाती हु तो मुझे यह कहकर भगा दिया जाता है कि तुम्हारी नातीन है तुम खुद खोज लो,  

 आप को बता दे कि पिडित आसनी बाई ने पुलिस अधिक्षक को लिखि तमे शिकायत कि है कि सुर्यकांत के पिता किर्ताराम के द्वारा लगातार धमकी दी जा रही है कि तुम्हारी लडकी से मेरा लडका शादी कर लिया है अब उसके विरूद्व रिपोर्ट लिखाने की बात भुल जाओं नही तो तुम्हारी नातिन का अंजाम बुरा होगा।


 जब इस पुरे मामले मे भाटापारा ग्रामीण थाना टी आई राजेश सिह से बात कि गई तो उन्होने बताया कि शिकायत के अधार पर टीम गठीत कर उज्जैन भेजी गई थी लेकिन पता नही चला खोज बीन अभी जारी है।

 राजेश सिह { टी आई ग्रामीण थाना भाटापारा }  


 आप को बता दे कि अपनी नातनी के लिए जिस तरह से आसनी बाई ने कैमरे के सामने फुट-फुट कर रोते हुए पुलिस के अभद्र व्यवहार करने का आरोप लगा रही है। उससे वर्दीधारियो पर कई सवाल खडे होते है। 

अकलतरा के मुरलीडीह में मालगाड़ी ने कार को मारी टक्कर 11 लोग घायल 4 लोगो को किया गया बिलासपुर रेफर...पढ़े पूरी खबर

 

यश लाटा - bbn24news ..

जांजगीर चांपा :- जिले के अकलतरा थाना क्षेत्र अंतर्गत मुरलीडीह में आज सुबह एक इको स्पोर्ट कार जो जांजगीर से उज्जैन की ओर  जा रही थी  जो मालगाड़ी ट्रेन से जा टकराई जिसमें कार में सवार 11 लोगों को चोट आई जिसमें 4 लोगों की हालत गंभीर है जिन्हें उपचार के लिए बिलासपुर रिफर किया गया है वहीं अन्य घायलों के उपचार के लिए अकलतरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया इस घटना में कार के परखच्चे उड़ गए। आपको बतादे कि  रेलवे ट्रैक सीमेंट प्लांट के लिए बनाई गया  है जो कि माल गाड़ी का रूट है वहीं प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि मालगाड़ी धीमी रफ्तार से जा रही थी उसी दौरान कार वाले  आगे निकालने की कोशिश की मगर वह मालगाड़ी ट्रेन की चपेट में आ गया। वही अकलतरा पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की जांच में जुटी है।

जांजगीर चापा : तेज रफ़्तार कार ने मवेशियों को मारी ठोकर कार सवार 1 युवक सहित 3 भैंस कि मौत..पढ़े क्या है पूरा मामला

 

शनि सूर्यवंशी- BBN24NEWS

मुलमुला थानांतर्गत ग्राम पकरिया झुलन बस स्टैंड के पास  चंद्रा निवास  के  घर के सामने बीते रात करीब 9 बजे तेज रफ्तार कार सड़क पर मवेशी से टकरागईं , वही कार की रफ्तार इतनी तेज थी कि पांच में से तीन मवेशी भैंस की तुरंत मौत हो गई । वही आल्टो कार पर 4 लोग सवार थे जिसमे मौके पर युवक दुर्गेश साहू पिता चैत्रराम साहू निवासी विद्याडीह की मौत हो गया साथ ही कार पर सवार अन्य तीन युवक जो कि खुन से लतपथ  अचेत अवस्था मे सड़क किनारे पड़े हुए थे जिसे ग्रामीणों के सहयोग से 112 डॉयल के टीम के द्वारा वाहन पर पामगढ़ हॉस्पिटल ले जाया गया ।

वही  हॉस्पिटल में  कार चला रहे  ड्राइवर मुलमुला निवासी रकेश साहू साथ ही उसके साला रोहित साहू को  प्राथमिक उपचार के बाद हालात को देखते हुए बिलासपुर रेफर किया गया । बताया जा रहा है कि मृतक दुर्गेश साहू अपने मामा मिट्ठू साहू निवासी पकरिया के यहाँ कुछ काम से अपने दोस्तों के साथ आल्टो कार से मुलुमला से पकरिया आ रहे थे जिसकी  सड़क दुर्घटना के चपेट में आने से मौत हो गई | 

साथ ही जिनका भैंस खत्म हो गया था  वो लोग अपने परिवार के साथ  घटना स्थल पर पहुँचकर  विरोध करते हुए काफी ज्यादा  गुस्सा में नजर आ  रहे  थे ।

 धीरे धीरे  घटना की जानकारी गांव में आग की तरह फैल गई और घटना के कुछ देर बाद वहा पे एक - एक करके  लोगो  का हुजूम उमड़ पड़ा । साथ ही वहाँ के लोगो ने इस  घटना के संबंध में  मुलमुला पुलिस को जानकारी दिया कुछ देर बाद वहा मुलुमला  पुलिस एस आई शर्मा एएसआई केशव जैसवाल के द्वारा अपने दलबल के साथ  घटना स्थल पर  पहुँचकर जांच पड़ताल किया गया साथ ही दुर्घटनाकारीत कार के  सामने अंदर के परखच्चे उड़ गए थे जिसे पुलिस ने अपने कब्जे में लेकर ट्रेक्टर से थाना ले जाया गया ।

 

Previous123456789...8081Next