छत्तीसगढ़

जिला पंचायत प्रतिनिधियों ने किया कार्यों का निरीक्षण- बीजापुर

Danteshwar kumar ( chintu)

बीजापुर- जिले की ग्राम पंचायतों में महात्मा गाँधी नरेगा योजना से सोसल डिस्टेंसिग का पालन करते हुए निर्माण कार्य किये जा रहे हैं। योजनान्तर्गत जल संरक्षण जल संचय के कार्यो को प्राथमिकता के रूप में किया जा रहा है । इन्हीं कार्यो का निरीक्षण करने जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियम और उपाध्यक्ष कमलेश कारम ग्राम पंचायत चेरपल्ली व अन्य ग्राम पंचायतों का गौठान और निर्माणाधिन चेकडेम का निरीक्षण किया । श्री कुडियम ने इस दौरान जनपद पंचायत भोपालपटनम क्षेत्रान्तर्गत चल रहे विभागीय कार्यों की जानकारी भी ली। जनपद पंचायत अध्यक्ष श्रीमती विमला मरपल्ली की उपस्थिति में मुख्य कार्यपालन अधिकारी गौतम ने विभागीय योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी , कुडियम ने उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों से कहा कि इस समय अधिक से अधिक ग्रामीणों को रोजगार देने की प्राथमिकता तय करें। ताकि उन्हें गांव में रहकर ही काम मिल जाये। जिला पंचायत उपाध्यक्ष कमलेश कारम ने महात्मा गांधी नरेगा योजना में अधिक से अधिक जल संरक्षण व जल संचय के कार्यो को प्राथमिकता से कार्य स्वीकृत कराने को कहा।

गोद मे बच्चा लेकर दूसरे राज्यों से आने वाले लोगो की जांच कर रही रही ये नर्स पढ़े ये खास रिपोर्ट

कोरिया।छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले से सटे मध्यप्रदेश के बॉडर पर देर रात डॉक्टरों और पुलिस विभाग की टीम लगातार दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों की स्वास्थ्य जांच करती हुई एक ऐसी नर्स नजर आई जिसे देखकर आप भी दंग रह जाएंगे

देश व प्रदेश में कोरोना जैसे गम्भीर बीमारी से जंग लड़ रही सरकार व प्रशासन हर सम्भव आम जनता को कोरोना से बचाने के लिए दिन रात काम कर रही है लेकिन आज हम आपको छत्तीसगढ़ के एक ऐसे कोरोना योद्धा की बात बताएंगे

छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के बॉडर पर एक ऐसी नर्स अपने डॉक्टरों की टीम के साथ नजर आई जिसे देखकर हमारी टीम भी सोच में पड़ गई जी हां ये नर्स मनेन्द्रगढ़ समुदायक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत है जिसकी डियूटी बॉडर पर लगी है लेकिन बॉडर पर डियूटी के दौरान इस नर्स के गोद मे एक मासूम बच्चा भी आपको नजर आ रहा है ।

गोद मे बच्चा लेकर दूसरे राज्यों से आने वाले लोगो को किस तरह से जांच कर रही है एक हाथ मे जांच किट और दूसरे हाथ मे मासूम बच्चा जो अपनी माँ को छोड़ने के लिए तैयार नही है लेकिन कोरोना से जंग जितना है तो सेवा करना ही पड़ेगा ये नर्स हर रोज रात 11 बजे तक मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के बॉडर पर अपना फर्ज निभाते हुए आपको नजर आएगी दअरसल इस नर्स का पति भी कर्मचारी है और घर मे कोई नही होने के कारण अपने बच्चे को साथ लेकर अपना फर्ज निभाने में कोई कसर नही छोड़ती है कोरोना वायरस आज दुनियाभर में तेजी से पैर पसार रहा है। इस मुश्किल घड़ी में कुछ लोग ऐसे हैं जो इस वैश्विक महामारी के खिलाफ डटकर खड़े हैं और पूरी ताकत से लड़ रहे हैं। इन्हें कोरोना के योद्धा कहा जाए तो गलत नहीं होगा

अग्रवाल समाज के द्वारा बिलासपुर के अलग अलग क्षेत्रो में बांटा गया आइसक्रीम व पानी के बॉटल

सुरज सिंह मस्तुरी

हंगर फ्री बिलासपुर ने शहर की विभिन्न जगहों पर अपनी सेवा दे रहे पुलिसकर्मी एवं अलग-अलग जगहों से आए शरणार्थियों जो कि कर्फ्यू के कारण बिलासपुर में फंसे हुए हैं उन सभी को इस भीषण गर्मी पर आइसक्रीम का वितरण किया गया, जैसा कि हम सब गर्मी के मौसम में चाहते है कुछ ठंडा खाने या पीने का मिले, उसी प्रकार यहां जो भी रुके हुए शरणार्थी हैं उनके पास पैसे तो हैं उनके मन में खूब सारी इच्छाएं भी है किंतु वो बाहर नही जा सकते, इसलिए उनके इच्छा को एवं गर्मी को देखते हुवे, आज अग्रवाल समाज के सहयोग से 150 आइसक्रीम का वितरण किया गया, जिसमें मुख्य रुप से रैन बसेरा यादव भवन तिलक नगर समुदायिक भवन एवं शहर के विभिन्न चौक चौराहों पर अपनी सेवा दे रहे हैं पुलिसकर्मियों को भी आइसक्रीम वितरण किया गया जैसा कि आप सभी को ज्ञात है बिलासपुर में अभी तक लगभग 37,000 से अधिक भोजन पैकेट का वितरण किया जा चुका है जिसमें मुख्य रूप से अग्रवाल समाज के उपाध्यक्ष संजय मित्तल जी, टायल टिफ्फिनॉक्स के संचालक अजय अग्रवाल जी, नरेश अग्रवाल जी, एवं हंगर फ्री बिलासपुर के नीरज गेमनानी, चंद्रकांत साहू, रोशन साहू, रूपेश शुक्ला, प्रकाश झा, लकी, अनुराग, मनीष, चुन्नी मौर्या, नेहा तिवारी, एवं सौम्य रंजीता शामिल है

मस्तुरी एस डी एम मोनिका वर्मा के त्वरित एक्शन से मजदूरों को मिला राशन व सहायता

सूरज सिंह : मस्तुरी :

खबर का असर :

कोरोना वाइरस के चलते छत्तीसगढ़ के 105 तिहाड़ी मजदूर जो लोग गुजरात के इट भठ्ठे में फंसे हैं गुजरात के चंडीसरगांव ढोलका में इनका सभी का कहना था कि उनको खाने पीने के लिए भी नही मिल रहा था ना ही गुजरात सरकार इनकी कोई मदद कर रही थी पर हमने मस्तुरी एस डी एम मोनिका वर्मा तक यह बात पहुचाई जिसके तुरंत बाद उन्होंने गुजरात के अहमदाबाद जिले के डी एम से बात कर मजदूरों की समस्याओं से उनको अवगत कराया जिसके बाद सभी मजदूरों को राशन व अन्य सहायता पहुँचाई गई जिस पर सभी मजदूरों ने एस डी एम मस्तुरी को धन्यवाद ज्ञापित किया है आपको यह बताते चले कि अहमदाबाद में छत्तीसगढ़ के 105 मजदूर फसे है जिनको राशन व अन्य समस्याओं का लॉकडाउन काम बंद होने के कारण सामना करना पड़ रहा था जिस पर मस्तुरी एस डी एम ने हर संभव मदद का आस्वासन दिया था

मनरेगा मजदूरों को बताए गए कोरोना वाइरस से बचाव के तरीके ,ग्राम पंचायत गोडाडीह में मनरेगा में काम करने गए मजदूरों को बाटे गए मास्क और साबुन

संवाददाता : सूरज सिंह : मस्तुरी ( छतीसगढ़ )

मस्तूरी- कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए जनपद पंचायत मस्तूरी के अंतर्गत आने वाले ग्राम पंचायत गोडाडीह में मनरेगा में कार्य करने गए मज़दूरो को ,सरपंच प्रतिनिधि जगदीश्वर यादव उपसरपंच सुरेश भारती पंच झगरू कोसले गोरेलाल कश्यप रोजगार सहायक डीगेश भारद्वाज के द्वारा माक्स व साबुन वितरण किया गया सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर विशेष ध्यान मनरेगा के कार्य मे सभी सभी के द्वारा दिया जा रहा है इस लॉक डाउन में लोग अपने घर से निकल नही पा रहे हैं काम काज पूरी तरह से बंद है लोगों को खाने पीने को लेकर काफी समस्या से जूझना पड़ रहा है फिर भी आम लोग इससे डट कर लड़ाई लड़ रहे हैं इंजीनिअर राहुल सोनी ने बताया कि इस समय मनरेगा का कार्य मिल पाना लोगों के लिए राहत भरी है साथ साथ सभी मनरेगा मजदूरों को किलर कोरोना वाइरस से बचाव के भी सुझाव राहुल सोनी के द्वारा दिया गया और मास्क,के फायदे के बारे में भी बताया गया साथ मे सामाजिक दूरी रखने की सलाह सभी मजदूरों को सलाह दिया गया औऱ हाथ से बार बार नाक,आंख,और मुंह को छूने से बचने के लिए भी बताया गया खाने से पहले साबुन से हाथ धोने की सलाह सभी को दिया गया

पचपेड़ी में किया गया उप पुलिस अधीक्षक व स्टाफ का फूल मालाओं से स्वागत

संवाददाता : सूरज सिंह : मस्तुरी ( छतीसगढ़ )

कोरोनावायरस जैसी वैश्विक महामारी को मात देने के लिए संपूर्ण भारत में लॉकडाउन है। लोग घरों में रहकर इस बीमारी के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे हैं। वहीं पुलिस, स्वास्थ्य कर्मी, सफाईकर्मी जैसे तमाम जरूरी सेवाओं से जुड़े कर्मी जो 24 घंटे अपनी जान जोखिम में डालकर अपने दायित्वों का बखूबी निवर्हन कर रहे हैं।इसी कड़ी में पचपेड़ी क्षेत्र के ग्राम पंचायत पचपेड़ी ग्रमीणों व जनप्रतिनिधियों के नेतृत्व में सरपंच जिला पंचायत सदस्य एवं जनप्रतिनिधियों ने पचपेड़ी थाना क्षेत्र के पुलिस कर्मचारीयो एवं उप पुलिस अधीक्षक निमिषा पाण्डे को पुष्प गुच्छ के साथ श्रीफल देकर सम्मानित किया जो पुलिस कर्मी अपनी जान की परवाह न करके दिन रात एक करके हमारे व देश राज्य के लिए काम कर रहे हैं। उनका सम्मान भी जरूरी है। वही जिला पंचायत सदस्य किरण संतोष यादव ने कहा कि अगर हमें इस कोरोना जैसी वैश्विक महामारी से जीतना है तो और धैर्य से काम करना होगा लाक डाउन का पालन करना और सभी को अपने घर मे ही रहना होगा और सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करना होगा बिना मास्क के रहने की आदत को छोड़ना होगा सभी को मास्क की आदत डालनी होगी और खाने से पहले 20 सेकंड तक हाथ धोना होगा तभी यह लड़ाई हम जीत पाएंगे पचपेड़ी क्षेत्र के ऐसे ग्रामीण जिसके पास राशन कार्ड नही हैं उसे भी जीवनयापन करने राशन का वितरण करने के लिए शासन द्वारा सभी ग्राम पंचायत को निर्देश दिया गया हैं सरपंच जिला पंचायत सदस्य एवं जनप्रतिनिधियों के मौजूदगी में उप पुलिस अधीक्षक निमिषा पांडे के द्वारा गरीबो को चावल का वितरण किया गया

दुतीय लॉक डाउन में अब तीसरे चरण का राशन वितरण का किया जा रहा है कार्य

निगम प्रशासन अपने कर्मचारियो की उपस्थिति में कड़ाई से कर रहा निगरानी.

चिरमिरी । राज्य शासन के आदेश के बाद निगम प्रशासन ने दुतीय लॉक डाउन में अब तीसरे चरण का राशन वितरण का कार्य सोमवार से नगर निगम चिरमिरी के वार्ड क्रमांक एक से प्रारंभ कर दिया जिसकी जानकारी मिलते ही स्थानीय वार्ड वासियों ने राहत की साँस ली बीते राज्य सरकार ने आदेश जारी करते हुए स्थानीय स्तर पर किसी भी निजी व्यक्तियों द्वारा राहत सामग्री वितरण पर रोक लगा दी थी तथा पके हुए भोजन और राशन सामग्री वितरण का सत्यापन करने अपने शासकीय कर्मचारियों की नियुक्ति कर वास्तविक जरूरतमंदों को राशन और सेवा पहुंचाने का निर्देश दिया था ।

ज्ञात हो कि राहत सामग्री वितरण के नाम पर धमक चौकड़ी और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ने के बाद राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश में व्यक्तिगत रूप से राहत सामग्री और भोजन बांटने पर प्रतिबंध लगाने का निर्देश जारी किया था इसमें प्रशासन की देखरेख में लगी समाजसेवी संस्थाओं को छूट दी गई थी । परंतु ऐसे लोग जो शासन की बगैर अनुमति के राशन एवं भोजन उपलब्ध करा रहे हैं या वितरण कर रहे हैं उन्हें अब स्थानीय प्रशासन को अपनी सामग्री उपलब्ध करानी होगी जिसका खुला निर्देश दिया गया था ।

महापौर और पार्षद निधी से खरीदी कर राशन का हो रहा वितरण / अब तक महापौर राहत कोष में तीन लाख 11 हजार 4 सौ सात रुपए की जमा हुई डोनेशन राशि -

डोनेशन और व्हील की तर्ज पर नगर निगम चिरमिरी में महापौर राहत कोष बनाया गया था जिसके माध्यम से निगम प्रशासन राहत सामग्री की व्यवस्था के लिए स्थानीय समाज सेवी संस्थाओ से डोनेशन वाली मोटी राशि लेकर शहर के असहाय लोगो तक उन्हें भोजन की व्यवस्था का जिम्मा लिया गया था । स्थानीय प्रशासन ने महापौर राहत कोष बनाकर स्थानीय संस्थाओं को इसमें अपना सहयोग करने की बात कही है इसको लेकर कलेक्टर कोरिया डोमन सिंह ने भी जिले स्तर पर इस बात की जानकारी सम्बंधित सभी राजस्व अधिकारियों को देते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए थे की जिले में अब किसी भी अन्य समाज सेवी संस्थाए या कोई निजी व्यक्ति राहत सामग्री का वितरण नहीं करेगा । जिसको लेकर निगम कमिश्नर सुश्री सुमन राज एवं महापौर कंचन जायसवाल इस कार्य की जमीनी स्तर पर मॉनीटरिंग करते हुए नगर पालिक निगम चिरमिरी के समस्त वार्डो का निरिक्षण कर पके हुए भोजन वितरण करने वाली संस्थाओं के साथ निगम अथवा प्रशासन के सदस्य भी अनिवार्य रूप से उपस्थित रहेंगे जो टीम संस्थाओं के साथ जाकर जरूरतमंदों का निरिक्षण कर उन्हें राहत सामग्री उपलब्ध कराएगी । या वह संस्थाये अपनी सामग्रियों को निगम प्रशासन तक पहुचायेगी जिसका वितरण निगम प्रशासन अपनी व्यवस्था अनुरूप करेगा की कड़ाई से दिशा निर्देश दे रही है जो शहर में बखूबी नजर आ रहा है ।

- राज्य शासन के आदेश पर निगम कमिश्नर से चर्चा कर इस आदेश का पालन जमीनी स्तर पर इस बात की जाँच की जा रही । निगम प्रशासन स्वयं अपने अधिकारियों एवं कर्मचारियों की मदद से शहर के अंतिम व्यक्ति तक उसकी राहत सामग्री पहुचाई जा रही है जो हमारी पहली प्रथमिकता है जिसका पालन हम सभी एक जुट होकर कर रहे है । लॉक डाउन की अवधि आगे बढ़ने से हमारी जिम्मेदारी और भी दुगनी हो गई शहर का हर व्यक्ति हमारे परिवार का सदस्य है ।।
कंचन जायसवाल महापौर नगर पालिक निगम चिरमिरी

 

कोरोना महामारी के प्रकोप को लेकर प्रदेशाध्यक्ष रमेश यदु ने की वीडियो कान्फ्रेंस

संवादाता : सन्नी यादव : पामगढ़ 

सर्व यादव समाज छत्तीसगढ़ के प्रदेशाध्यक्ष रमेश यदु ने  रविवार को  प्रदेश के सभी प्रदेश पदाधिकारियों , जिलाध्यक्षों एवं समाज प्रमुखों के साथ सामाजिक विषय पर चर्चा की  ,वीडियो कान्फ्रेंसिंग में मुख्यरूप से छत्तीसगढ़ में वैश्विक कोरोना महामारी के कारण समाज के निम्न तबके के मदद करने जो प्रदेश से बाहर जीवन यापन हेतु गये लोगों की जानकारी कर प्रदेश ईकाई की जानकारी देने वही सभी जिलों में जनप्रतिनिधियों कि सूची बनाने की बात कही गई  जिसमें प्रमुख रूप से नगर पालिका , जनपद पंचायत , जिला पंचायत के अध्यक्ष , उपाध्यक्ष तथा नगर निगम के महापौर , सभापति नाम , पता , मोबाईल नंबर सहित जानकारी एक माह के अन्दर प्रदेश कार्यालय को भेजने तथा मई माह में आयोजित लाठी रैली जिसे कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण स्थगित किया गया है उक्त कार्यक्रम को आगामी जनवरी 2021 में करने पर विचार विमर्श किया गया

इनरव्हील क्लब लोगो को कोरोना के प्रति कर रहा है जागरूक

संवाददाता : सूरज सिंह :मस्तुरी


सोशल डिस्टेंसिंग के बताए जा रहे फायदे 

कोरोना वायरस से बचाव के लिए सभी अपने-अपने स्तर पर जुड़ कर सेवा के कार्य कर रहे हैं, वहीं कुछ महिला सदस्य समाज सेवा के कार्य में निरंतर लगी हुई हैं, इस कड़ी में संपूर्ण देश में लॉक डाउन शुरू होने के पहले से ही श्रीमती ज्योति सक्सेना (समाज सेविका) इनरव्हील क्लब आफ बिलासपुर 326 कोरोना वायरस से बचाने की मुहिम की शुरुआत अपने आसपास की जरूरतमंद महिलाओं ,बच्चियों एवं अपने घर में सेवा कार्य करने वाली महिलाओं को मास्क, सैनिटाइजर, हैंड वास ,डेटॉल साबुन, सैनिटरी नैपकिन, पैड, आदि का वितरण किया, साथ ही इसके उपयोग के लिए प्रेरित किया, कहा कि स्वच्छता सुरक्षा सतर्कता, मास्क लगाकर रहना, हाथों को बार-बार धोते रहना, दूरी बनाकर रहना, सर्दी, बुखार, खांसी, सिर दर्द, सांस लेने में तकलीफ होने पर डॉक्टर को तत्काल दिखाएं, बहुत जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकले संपूर्ण देश में लॉक डाउन होने के बाद भी ज्योति सक्सेना के द्वारा जरूरतमंद लोगों को डीहारी मजदूरों को आवश्यकता की पूर्ति हेतु किसी ना किसी माध्यम के द्वारा सहयोग राशि प्रदान की जा रही है ।।               

 1.इनरव्हील क्लब आफ बिलासपुर 326 के द्वारा राशन वितरण 

2. इनरव्हील क्लब आफ बिलासपुर 326 के द्वारा रेलवे में दिहाड़ी मजदूर तथा कुली को एक दिन का भोजन

3.सेवा में उम्मीद एक किरण फाउंडेशन के द्वारा एक दिन की अन्य सेवा तथा दूध पैकेट सेवा 

4. इनरव्हील क्लब आफ बिलासपुर 326 के द्वारा मार्मिक चेतना में  मवेशियों को भोजन एवं अन्य सेवा,

5. सौम्य एक उड़ान के माध्यम से सेनेटरी नैपकिन पैड वितरण में सहयोग राशि

6.  मुख्यमंत्री सहायता कोष में 1 दिन का वेतन सहयोग राशि के रूप में

7.  हंगर फ्री के टीम के माध्यम से  1 दिन के नाश्ते में सहयोग राशि तथा पुराने कपड़ों का वितरण

8.मार्मिक चेतना की टीम को मुक पशु पक्षियों तथा मवेशियों के लिए खली भूसी, दाना, अनाज एवं जल पात्र के लिए सहयोग राशि  प्रदान की गई ।

घर बैठे ऑनलाइन प्रतियोगिता में भी कोरोना वायरस से संबंधित निबंध, लेख, स्लोगन, पेंटिंग, ड्राइंग, पोस्टर, रंगोली तथा कान्हा सजाओ, व्यंजन प्रतियोगिता में बढ़-चढ़कर सहभागिता निभा रही हैं, घर में रहकर भी निरंतर सेवा कार्य जारी  है ,समाज सेवा के साथ ही साथ वह एक व्याख्याता का फर्ज भी निभा रही हैं, अपने विद्यालय के बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई में पूर्ण सहयोग कर रही हैं,साथ ही आगे भी उनकी समाजसेवा का कार्य निरंतर जारी रहेगा,   

जिला पंचायत उपाध्यक्ष अपने क्षेत्र में सक्रिय मिशन सैनीटाइजिंग तहत लगातार ग्राम पंचायतों में करवा रहे है छिड़काव

सन्नी यादव पामगढ़ :

जिला पंचायत उपाध्यक्ष राघवेंद्र प्रताप सिंह अपने क्षेत्र में सक्रिय मिशन सैनीटाइजिंग के तहत लगातार ग्राम पंचायतों में छिड़काव करा रहे है वही आज वे अपने क्षेत्र के ग्राम पंचायत महका पहुंचे और वहां उन लोगों को मार्क्स और साबुन का वितरण किया

मिशन मोड में शुरू करें महात्मा गांधी नरेगा के काम-चंद्राकर

Danteshwar kumar ( chintu)

बीजापुर- जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में महात्मा गांधी नरेगा योजना अंतर्गत पर्याप्त मात्रा में कार्य स्वीकृत किये जा रहे हैं , ताकि इस लॉक डाउन के समय ग्रामीणों को काम की कमी ना हो। इसी का नतीजा है कि लॉक डाउन के दौरान भी जिले की ग्रामीण क्षेत्रों में जाबकार्डधारी परिवारों को काम की कमी नहीं हुई। जिन ग्राम पंचायतों में कार्य पूर्ण हो चुके हों या काम नहीं हो वह भी जल्द कार्य स्वीकृत कराने के निर्देश दिए गए हैं।

भाजपा युवा मोर्चा बम्हनीडीह के नेतृत्व में गल्ला व्यवसायी सनी जायसवाल ने दिया पीएम राहत कोष में दान

हेमंत जायसवाल @BBN24 जांजगीर-चांपा :- देश में फैले वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव व संक्रमण से प्रभावित लोगों के सहायतार्थ के लिये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आम नागरिकों से पीएम राहत कोष में यथा संभव मदद करने कि अपील की थी,माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के "प्रधानमंत्री राहत कोष" बनाने की घोषणा के बाद से देश भर से लोग मदद के लिए आगे आ रहे हैं। हर कोई अपनी क्षमता के अनुसार "पीएम केयर्स फंड" में दान कर रहा है। इसी कड़ी में आज भाजपा युवा मोर्चा बम्हनीडीह के नेतृत्व में प्रतिष्ठित नागरिक और गल्ला किराना व्यापारी शरद जायसवाल (सनी) के द्वारा पीएम केयर्स फंड में 11000 (ग्यारह हजार ) रूपए का दान किया गया। शरद जायसवाल क्षेत्र में एक ऐसे समाजसेवी के रूप में जाने जाते है जो गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहते है। गल्ला व्यवसायी सन्नी ने कहा कि देश इस समय विषम परिस्थितियों के दौर से गुज़र रहा है,ऐसे में हम सबको मिलकर जरूरतमंद लोगों को सहयोग करना चाहिए।ताकि लोगों को सहयोग मिल सके।। उनके इस सहयोग के लिए भाजपा के वरिष्ठ नेता और बम्हनीडीह जनपद के पूर्व अध्यक्ष राजेंद्र जायसवाल, भारतीय जनता युवा मोर्चा बम्हनीडीह के सक्रिय सिपाही भाई सोनू जायसवाल, आशीष तिवारी और जिला पंचायत सदस्य गगन जयपुरिया ने आभार और धन्यवाद व्यक्त किया है एवं क्षेत्र के आम जन से अपील की कि इस वैश्विक त्रासदी में लोग ज्यादा से ज्यादा मदद के लिए आगे आये और अपने देश तथा राज्य के जिम्मेदार एवं जागरूक नागरिक होने का परिचय देवे।।

सरपंच ने गांवों में पहले बांटी राशन आब घर घर जा कर दे रही है मास्क ...साथ ही कि अपील लॉक डाउन का पालन करे

रायगढ़- जिले के सारंगढ़ ब्लाक अंतर्गत ग्राम पंचायत खुड़ूभांठा के सरपंच मिनादिलीप खूंटे ने किया मास्क वितरण। मनरेगा के तहत काम कर रहे मजदूरों और ग्रामवासियों को किया वितरण। सरपंच ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए मास्क सबसे जरूरी। इससे पहले गांव में लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद लोगों को कर चुके हैं राशन वितरण। अब घर-घर जाकर कर दे रही है मास्क। अभी मनरेगा मजदूरी के लिए घर से निकलने वाले सभी को मास्क पहने और गमछा से मुंह को बांधने की दी सलाह। ग्राम पंचायत के आश्रित ग्राम और पंचायत में बांटे हैं सैकड़ों मास्क। कोरोनावायरस से बच कर सुरक्षित रहने की लिए हाथ धोने, सोशल डिस्टेंसिंग बनाने के लिए की अपील।

पूरा देश जहां कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव के लिए लॉकडाउन में रोजी रोटी कमाने में असमर्थ हो रहा है तो प्रदेश में माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जी के निर्देशानुसार सभी पंचायत में मनरेगा के तहत सैकड़ों ग्रामीणों को रोजगार मिल रहा है। रोजगार मिलने से वे सक्षम हो रहे हैं। रायगढ़ जिले के एक छोटे से ग्राम पंचायत खुड़ूभांठा में जहां मनरेगा मजदूरी कर रहे मजदूरों को वहां के जागरूक सरपंच ने सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने और संक्रमण से बचाव के लिए मास्क देकर अपनी जागरूकता का परिचय दिया। गांव वालों की सेहत पर कोई नुकसान ना हो इसके लिए सभी ग्राम वासियों को भी मास्क का वितरण किया। मास्क मिलने से मनरेगा मजदूरों के चेहरे खिल उठे और उन्होंने सरपंच का धन्यवाद दिया और कहा कि महिला होने के नाते सरपंच सभी को अपने परिवार के समान मानती है और उनका ख्याल रखती हैं। सभी मजदूर और ग्राम वासियों ने संकल्प लिया कि वे बेवजह घर से बाहर नहीं निकलेंगे और जब जरूरत के समय निकलेंगे तो मुंह में मास्क बांधकर ही निकलेंगे साथ ही मजदूरी करने के दौरान मास्क लगा रहेंगे। रोजगार मिलने की वजह से उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी का भी धन्यवाद ज्ञापन किया।

उड़ाई जा रही है शासन के नियमों कि धज्जियां ,पिरदा में बिना मास्क, व् सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन कर पिरदा में कराया जा रहा हैं कार्य

बुनियादी सुविधाओं पानी,छाया, फर्स्ट कीट मेडिकल बाक्स से भी किया गया है वनचिंत


जांजगीर-चाँम्पा :- कोरोना महामारी को देखते हुए 3 मई तक के लिये लाॅकडाउन को बढ़ा दिया गया है, छत्तीसगढ़ में भी कोरोना के आंकड़े तेजी से लगातार बढ़ रहे हैं,वहीं सरकार द्वारा इसके बचाओ के लिए अनेक कदम उठाए जा रहे हैं,छत्तीसगढ़ सरकार ने आदेशित किया है कि घर से बाहर निकलने पर मास्क लगाना अनिवार्य है।वहीं इन सब नियमों कि धज्जियां ग्राम पंचायत पिरदा में उड़ाया जा रहा है।। 

दरअसल पूरा मामला जनपद पंचायत मालखरौदा अंर्तगत ग्राम पंचायत पिरदा का हैं जहां इनदिनों रोजगार गारंटी योजना के तहत मनरेगा कार्य कराया जा रहा है जिसमें रोजगार सहायक, सरपंच द्वारा जमकर लापरवाही बरती जा रही है, उनके द्वारा लोगों को बिना मास्क, बिना बुनियादी चीज कि व्यवस्था किये उनसे काम लिया जा रहा है, साथ ही उनके जान से खिलवाड़ किया जा रहा है।

सरकार के नियमों को उड़ा रहे हैं धज्जियां

छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा रोजगार गारंटी योजना के तहत मनरेगा में काम करने कि अनुमति दी गई हैं साथ ही काम करते हुए मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंस का पालन करने कि सख्त हिदायत दी गई हैं, वहीं शासन के नियमों कि धज्जियां उड़ाते हुए ग्राम पंचायत पिरदा के रोजगार सहायक, सरपंच के द्वारा ग्रामीण से बिना मास्क के ही कार्य करते नजर आयें साथ ही सोशल डिस्टेंस का भी धज्जियां उड़ाते नजर आये।।

बुनियादी सुविधाओं का नहीं किया गया व्यवस्था

वहीं मनरेगा में काम शुरू किये लगभग 2-3 दिन हो गये हैं रोजगार सहायक, सरपंच  कि घोर लापरवाही सामने आ रही है,उनके द्वारा अभी तक शासन के नियमों के अनुसार जो बुनियादी सुविधाएं पानी, छाया,फर्स्ट कीट कि व्यवस्था है उनके द्वारा नहीं किया गया है, इनके द्वारा ग्रामीणों के जान से खिलवाड़ किया जा रहा है।

रोजगार सहायक कि लापरवाही का खमियाजा ग्रामीणों को उठाना ना पड़ जाये

रोजगार सहायक, सरपंच ,सचिव  अपने जेब भरने में लगे हैं उनको लोगों के जान कि कोई परवाह नहीं है, ग्रामीणों से बिना मास्क लगाये, सोशल डिस्टेंस का धज्जियां उड़ाया जा रहा है साथ ही इनके द्वारा बुनियादी सुविधाओं का भी व्यवस्था अभी तक नहीं किया गया है,  जिससे संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है,रोजगार सहायक, सरपंच , सचिव  बस अपने जेब भरने में लगे हुए हैं और इसतरह कि मनमानी कर रहे हैं जिसका खामियाजा कहीं आनेवाले दिनों में ग्रामीणों को भुगतान पड़ सकता है।

अब देखना होगा कि जहां सभी इस महामारी से जुझ रहा हैं, ग्राम पंचायत पिरदा के रोजगार सहायक, सरपंच सचिव के इस लापरवाही पर अधिकारी संज्ञान लेकर इनपर कोई बड़ी कार्यवाही करते हैं या मामला ठंडे बस्ते में डाल दिया जाता हैं।।

रेत माफियाओं पर गिरी गाज ... चार ट्रैक्टर जप्त... SDM ने कहा आगे भी होगी कार्यवाही

जांजगीर चाम्पा- वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते लॉक डाउन कर दिया गया है ऐसे में शासन और प्रशासन द्वारा सभी को अपने घर में ही रहने की हिदायत दी जा रही है लेकिन रेत माफिया अभी प्रकृति का दोहन कर रहे हैं आज रेत माफियाओं के ऊपर चांपा एसडीएम के निर्देष पर बड़ी कार्यवाही हुई है .दरसल में स्थानीय पत्रकार से सूचना मिलने पर की नगर पालिका चाम्पा क्षेत्रान्तर्गत हनुमानधारा क्षेत्र में रेत उत्खनन हो रहा है इस पर अनुविभागीय दंडाधिकारी चाम्पा बजरंग दुबे ने तत्काल तहसीलदार के साथ पुलिस बल को मौके पर रवाना किया जिसमें अवैध रेत उत्खनन करते हुए 4 ट्रैक्टर्स जप्त किये गए जिसमें 2 ट्रैक्टर्स तो बगैर नंबर के थे इन सभी ट्रैक्टर्स को अभी थाना प्रभारी चाम्पा के सुपुर्दगी में दिया गया है।सभी जप्त वाहनों को अग्रिम आवश्यक कार्यवाही के लिए कलेक्टर(खनिज) शाखा को प्रेषित किया जावेगा।पुलिस इन वाहनों पर मोटर व्हीकल एक्ट के तहत वैधानिक कार्यवाही भी कर रही है।अनुविभागीय दंडाधिकारी बजरंग दुबे का कहना है कि मेरे द्वारा पहले भी वहाँ कई बार कार्यवाही की जा चुकी है और इस प्रकार की किसी अवैध गतिविधि को आगे भी बर्दाश्त नहीं किया जावेगा।