बड़ी खबर

श्रीलंका में इंटरनेशनल बैसाख डे पर पीएम नरेंद्र मोदी का एलान- वाराणसी और कोलंबो के बीच शुरू होगी सीधी विमान सेवा

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोलंबो में बौद्ध धर्म के एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे। वह बौद्ध धर्म के सबसे बड़े पर्व इंटरनेशनल बैसाख डे में शामिल होने के लिए यहां पहुंचे हैं। श्रीलंका में बौद्ध महोत्सव में पीएम मोदी मुख्य अतिथि हैं। पीएम मोदी ने कहा कि भारत से बौद्ध धर्म श्रीलंका पहुंचा है। श्रीलंका से भारत का पुराना रिश्ता है। पीएम ने वाराणसी और कोलंबो के बीच सीधी विमान सेवा शुरू करने का एलान भी किया।

बता दें कि दो साल में मोदी की श्रीलंका के लिए यह दूसरी यात्रा है। पीएम ने कहा कि बुद्ध की धरती से सवा करोड़ लोगों की शुभकामनाएं लेकर आया हूं।  उन्होंने कहा, “मैं सम्यकसमबुद्ध, पूर्ण चैतन्य, की भूमि से अपने साथ 1.25 अरब लोगों की शुभकामनाएं लेकर आया हूं। हमारा क्षेत्र सौभाग्यशाली है कि उसने दुनिया को बुद्ध और उनके उपदेश जैसे अमूल्य उपहार दिये।”

जस्टिस सीएस कर्णन ने सजा को दी सुप्रीम कोर्ट में चुनौती, कहा- अवैध है आदेश, वापस लें

कलकत्ता हाई कोर्ट के जज जस्टिस सीएस कर्णन ने कोर्ट के फैसले की संवैधानिक वैधता को चुनौती दी है। उन्होंने कहा है कि यह आदेश अवैध है इसे वापस लें। सुप्रीम कोर्ट के सात जजों की संविधान पीठ ने मंगलवार (9 मई) को कलकत्ता हाई कोर्ट के जज को अदालत की अवमानना ​​का दोषी ठहराया था और उन्हें छह महीने की सजा सुनाई। साथ ही जस्टिस सीएस कर्णन को तुरंत हिरासत में लेने का आदेश दिया था। यह पहला मौका है, जब किसी सिटिंग जज को अवमानना मामले में ऐसी सजा दी गई है। सुप्रीम कोर्ट ने जस्टिस कर्णन को तत्काल जेल भेजने का आदेश दिया है। कर्णन जून में रिटायर हो रहे हैं।

पांच धर्मों के पांच जज आज सुप्रीम कोर्ट में शुरू करेंगे तीन तलाक से जुड़ी याचिका पर सुनवाई

गुरुवार (11 मई) को सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की पीठ तीन तलाक से जुड़ी याचिका पर सुनवाई शुरू करेगी। इस सुनवाई की खास बात ये है कि संवेदनशील माने जाने वाले इस मुद्दे पर सुनवाई करने वाले पांच जज अलग-अलग धर्म को होंगे। सुप्रीम कोर्ट ने मामले की गंभीरता को देखते हुए गर्मी कि छुट्टियों में भी इस मामले की सुनवाई करने का फैसला किया था। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में गर्मी की छुट्टी का पहला दिन है। इस मामले से जुड़ी याचिका का शीर्षक भी मामले की संवेदनशीलता के अनुरूप ही है “क्वेस्ट फॉर इक्वलिटी बनाम जमायत-उलमा-ए-हिन्द।”
तीन तलाक पर सुनवाई करने वाली पीठ में मुख्य न्यायाधीश जेएस खेहर (सिख), जस्टिस कूरियन जोसेफ (ईसाई), आरएफ नारिमन (पारसी), यूयू ललित (हिंदू) और अब्दुल नजीर (मुस्लिम) होंगे। हालांकि सुप्रीम कोर्ट के जज किसी भी मजहब के हों वो अदालत में फैसले सिर्फ और सिर्फ भारतीय संविधान की रोशनी में लेते हैं।  तीन तलाक से जुड़ी याचिका में छह याचिकाकर्ता हैं कुरान सुन्नत सोसाइटी, शायरा बानो, आफरीन रहमान, गुलशन परवीन, इशरत जहां और आतिया साबरी।
तीन तलाक के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट केंद्र सरकार की पक्ष पहले ही मांग चुका है। केंद्र सरकार ने शीर्ष अदालत से कहा है कि वो तीन तलाक को मानव अधिकारों के विरुद्ध मानती है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुस्लिम धार्मिक नेताओं से मुलाकात में तीन तलाक के मुद्दे को राजनीतिक मुद्दा न बनने दें और इसमें सुधार में अग्रणी भूमिका निभाएं।
आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (एआईएमपीएलबी) ने सर्वोच्च अदालत से कहा कि तीन तलाक इस्लाम का अंदरूनी मामला है और बोर्ड साल-डेढ़ साल मामले पर आम राय बना लेगा। हालांकि शिया मुसलमानों के पर्सनल बोर्ड ने तीन तलाक का समर्थन किया है। करीब 100 मुस्लिम बुद्धिजीवियों और पेशेवरों ने खुला खत लिखकर तीन तलाक का विरोध करते हुए कहा था कि ये इस्लाम का अनिवार्य अंग नहीं है।

अरविंद केजरीवाल के खिलाफ धरने पर बैठे कपिल मिश्रा पर हमला, खुद को बताया AAP का कार्यकर्ता

कपिल मिश्रा पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान हमला होने की बात सामने आ रही है। जिस शख्स ने हमला कि उसको पुलिस ने पकड़ लिया है। पकड़े जाने पर शख्स ने कहा कि पार्टी विरोधी काम करने पर उन्होंने कपिल पर हमला किया। उसने खुद को पार्टी का कार्यकर्ता बताया। शख्स ने कहा कि कपिल मिश्रा ने पार्टी को धोखा दिया था इसलिए उसने उनपर हमला किया। मिली जानकारी के मुताबिक, हमला करने वाले शख्स का नाम अंकित है। अंकित ने मीडिया से कहा कि वह आप का कार्यकर्ता है लेकिन उसको किसी ने भेजा नहीं है।
कपिल मिश्रा के समर्थकों ने उस शख्स के साथ मारपीट भी की। इस पूरी घटना पर कपिल मिश्रा ने कहा कि अगर उनके किसी भी समर्थक ने अगर पलटवार किया तो वह पानी भी नहीं पियेंगे।
कपिल ने इस मामले पर कहा कि वह शख्स भागते हुए उनकी तरफ आया था। कपिल के मुताबिक, उस शख्स ने उनकी गर्दन पकड़ी थी। हालांकि, कपिल ने अपने आप से किसी का नाम लेने से इंकार किया। कपिल ने कहा कि वह जिन सवालों के जवाब लेने के लिए वहां बैठे हैं उनको लेकर ही उठेंगे।
इससे पहले कपिल ने बुधवार की सुबह ही अनशन शुरू किया था। उन्होंने केजरीवाल से उनके और कुछ मंत्रियों के सभी विदेशी दौरों की जानकारी मांगी थी। कपिल ने कहा था कि वह जानना चाहते हैं कि वेिदेशी दौरे के लिए पैसा कहां से आता था। कपिल ने कहा था कि मंत्रालय चलाने के लिए विदेश जाना जरूरी नहीं होता। उन्होंने अपना उदाहरण देते हुए कहा था कि वह अपने कार्यकाल में एक बार भी विदेश नहीं गए।

अनशन शुरू करने से पहले कपिल मिश्रा ने कहा था कि उनको अंतरराष्ट्रीय नंबर से फोन आ रहे हैं जो उनको धमकी दे रहे हैं। कपिल ने कहा था कि वह खुले में बैठे हैं जिसको मारना है मारकर चला जाए।
इससे पहले कपिल मिश्रा ने अरविंद केजरीवाल पर रिश्वत लेने के आरोप लगाए हैं। कपिल मिश्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके दावा किया था कि सत्येंद्र जैन ने अरविंद केजरीवाल को दो करोड़ रुपए कैैश दिए थे। कपिल ने अपने आप को इस पूरी घटना का गवाह बताया था। कपिल ने कहा था कि उन्होंने केजरीवाल से उन पैसों के बारे में पूछा भी था। कपिल के मुताबिक, तब केजरीवाल ने कहा था कि राजनीति में कुछ बातों के बारे में बाद में बताया जाता है।

इंटरनेशनल कोर्ट ने कुलभूषण की फांसी पर रोक लगाई, सुषमा ने दी जानकारी

नई दिल्ली.नीदरलैंड्स के हेग स्थित इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस ने कुलभूषण जाधव की फांसी पर रोक लगा दी है। भारतीय नौसेना के इस पूर्व अफसर को पाकिस्तानी आर्मी कोर्ट ने जासूस बताकर गत 10 अप्रैल को मौत की सजा सुनाई थी। कोर्ट ने पाकिस्तान सरकार से इस आदेश पर अमल की रिपोर्ट भी मांगी है। हालांकि, इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले पर पाकिस्तान ने अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने देर रात ट्वीट कर फैसले की जानकारी दी। उन्होंने मुंबई में कुलभूषण की मां को भी फांसी पर रोक लगने की जानकारी दी। कानून के जानकारों का कहना है कि पाकिस्तान इंटरनेशनल कोर्ट का फैसला मानने के लिए बाध्य नहीं है। हालांकि, फैसला नहीं मानने पर वह इस अंतरराष्ट्रीय न्यायिक मंच पर अलग-थलग पड़ जाएगा। अगर वह किसी मामले में शिकायत लेकर पहुंचा तो उसकी सुनवाई नहीं होगी। सुषमा स्वराज ने कुलभूषण की मां से की बात...
- फांसी पर लगी रोक के बाद सुषमा स्वराज ने मंगलवार-बुधवार की दरमियानी रात 12:06 बजे ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि मैने कुलभूषण की मां से बात कर उन्हें इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले की जानकारी दी है।
- इसके साथ एक दूसरे ट्वीट में उन्होंने बताया कि कुलभूषण के केस में भारत की ओर से सीनियर लॉयर हरीश साल्वे इंटरनेशनल कोर्ट में दलील रख रहे हैं।
- बता दें कि इंटरनेशनल कोर्ट में भारत की तरफ से सीनियर एडवोकेट हरीश साल्वे ने 8 मई को याचिका दायर की थी। उन्होंने मांग की कि भारत के पक्ष की मेरिट जांचने से पहले जाधव की फांसी पर रोक लगाएं।
- अटर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने एक टीवी चैनल से बातचीत में इसे भारत की बहुत बड़ी जीत बताया है। हालांकि रोहतगी जाधव की सही-सलामती के बारे में कोई जानकारी नहीं दे सके।
पाकिस्तान ने जारी किया था जाधव के कबूलनामे का वीडियो
- मार्च, 2016 में पाकिस्तान आर्मी ने जाधव के कथित कबूलनामे का वीडियो जारी किया था। आर्मी ने कहा था- ''कुलभूषण जाधव ने कबूल किया है कि वह रॉ के लिए बलूचिस्तान में काम कर रहा था और टेररिस्ट एक्टिविटीज में शामिल रहा। भारत ने इस वीडियो को खारिज कर सवाल उठाया था। भारत ने शक जताया था कि जाधव को ईरान से किडनैप किया गया है।
- पाकिस्तान ने आरोप लगाया था - "जाधव इंडियन नेवी का सर्विंग अफसर है। उसे सीधे रॉ चीफ हैंडल करते हैं। वो एनएसए के भी टच में है। आपका मंकी (जासूस) हमारे पास है। उसने वो कोड भी बताया है, जिससे वह रॉ से कॉन्टैक्ट करता था। जाधव अब भी इंडियन नेवी का अफसर है। वह 2022 में रिटायर होने वाला है।"
- एक पासपोर्ट (No. L9630722) भी जारी किया गया था। जिसके बारे में कहा गया था कि यह बलूचिस्तान में गिरफ्तार भारतीय शख्स का ही है। 
- पासपोर्ट में उसका नाम हुसैन मुबारक पटेल लिखा है। जन्मस्थान महाराष्ट्र का सांगली बताया गया है। पाकिस्तान ने उसके पास ईरान का वैध वीजा होने का भी दावा किया था।
वीडियो में जाधव ने क्या कहा था?
- जाधव के मुताबिक, वे दिसंबर 2001 तक इंडियन नेवी में रहे। पार्लियामेंट अटैक के बाद डोमेस्टिक इंटेलिजेंस जुटाई। 2003 में इंडियन इंटेलिजेंस सर्विस ज्वाइन की।
- अफसर यह भी कहता है कि वह ईरान से बलूचिस्तान में टेररिस्ट एक्टिविटीज को बढ़ावा दे रहा था। 
- जाधव के बयान के मुताबिक, वे 2013 में रॉ में आए। ईरान के चाबहार इलाके में 10 साल पहले रॉ का बेस बनाया। कराची और बलूचिस्तान का दौरा किया।
भारत ने खारिज किए थे आरोप
- इंडियन फॉरेन मिनिस्ट्री ने कहा था, "वीडियो में यह शख्स (जाधव) जो बातें कह रहा है, उनमें कोई सच्चाई नहीं है। उसने जो भी कहा है, प्रेशर में कहा है।"
- हालांकि, भारत सरकार ने ये माना था कि जाधव भारतीय नागरिक ही है और नेवी में अफसर रह चुका है।
- मिनिस्ट्री ने कहा था, ''जाधव कानूनी तौर पर ईरान में बिजनेस करता था। उसे कस्टडी में हैरेस किया गया है। पाकिस्तान में उसकी मौजूदगी सवाल खड़े करती है। इससे ये शक पैदा होता है कि कहीं उसे ईरान से किडनैप तो नहीं किया गया?''
- भारत ने एम्बेसी के अफसरों की जाधव से मुलाकात कराने की इजाजत मांगी थी। पाकिस्तान ने भारत की मांग को ठुकरा दिया था।

(सोर्स -दैनिक भास्कर द्वारा लिखित )

जस्टिस कर्णन ने खारिज किया सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर, कहा- मैं नेपोलियन और डॉ. अम्बेडकर का दत्तक पुत्र हूं

सुप्रीम कोर्ट द्वारा गिरफ्तारी का आदेश दिए जाने के करीब एक घंटे बाद ही कोलकाता हाई कोर्ट के जज सीएस कर्णन ने देश की सर्वोच्च अदालत के आदेश को खारिज करते हुए कहा कि वो पहले ही सुप्रीम कोर्ट के आदेश को रद्द करने वाला आदेश दे चुके हैं। जस्टिस कर्णन ने कहा, “सुप्रीम कोर्ट ने सुबह 11 बजे आदेश दिया। मैंने सुबह 11.20 पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश को रद्द करने का आदेश दिया। वो मीडिया को मेरे बयान न छापने का आदेश कैसे दे सकते हैं?” जस्टिस कर्णन चेन्नई के चेपक गवर्नमेंट गेस्ट हाउस में मीडिया से मुखातिब थे।
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार (नौ मई) को मीडिया को जस्टिस कर्णन के किसी भी बयान को न छापने के लिए कहा था। कर्णन ने अपने लेटर पैड पर लिखा एक लिखित बयान जारी किया और कहा कि ये उनका आदेश है। जस्टिस कर्णन ने कहा कि उन्होंने सीबीआई को सुप्रीम कोर्ट के सात जजों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करने का आदेश दिया है।
जस्टिस कर्णन ने कहा, “क्या मैं असमाजिक तत्व हूं? क्या मैं आतंकी हूं? वो प्रतिबंध का आदेश कैसे दे सकते हैं? बगैर मेरा पक्ष सुने उन्होंने मेरे खिलाफ कई फैसले दिए हैं? मैं गिरफ्तारी या जेल से नहीं डरता। आम जनता मेरे साथ है। ये न्यायिक व्यवस्था की पूर्ण विफलता है। मैं पहले ही जेल देख चुका हूं।” जस्टिस कर्णन ने बताया कि हाई कोर्ट के जज के तौर पर वो करूर, शिवगंगा स्थित जेलों का दौरा कर चुके हैं। जेल जाने से डरने के सवाल पर जस्टिस कर्णन ने कहा, “मैं नेपोलियन की तरह हूं, डॉक्टर अंबेडकर का एक दत्तक पुत्र….वो कहते हैं मैं पागल हूं। अगर मैं पागल हूं तो मुझे जेल क्यों भेजा जा रहा है?”
ये पूछने पर की क्या वो राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिलने वाले हैं? जस्टिस कर्णन ने कहा कि वो पहले राष्ट्रपति को अपना प्रतिनिधित्व भेज चुके हैं। जस्टिस कर्णन ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट का आदेश लागू होने लायक नहीं है और वो मीडिया पर प्रतिबंध के सर्वोच्च अदालत के आदेश को खारिज करने वाला आदेश दे चुके हैं। जस्टिस कर्णन ने कहा कि ये मामला सुप्रीम कोर्ट के सात जजों और उनके बीच का नहीं बल्कि न्यायापालिका में भ्रष्टाचार का है जिसकी अनदेखी की जा रही है। जस्टिस कर्णन ने कहा कि एटार्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने सर्वोच्च अदालत में मामले को सही तरीके से नहीं रखा।

 

कपिल मिश्रा ने विद्रोही स्‍वर हुए तेज प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बोला हमला

दिल्‍ली कैबिनेट से हटाए गए आम आदमी पार्टी के नेता कपिल मिश्रा ने पार्टी चीफ अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। सोमवार शाम प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर कपिल ने कहा कि उनके पास केजरीवाल के भ्रष्‍टाचार के पुख्‍ता सबूत हैं जो वे मंगलवार को सीबीआई को सौंपेंगे। उन्‍होंने कहा कि वह इस मामले में एफआईआर भी दर्ज कराएंगे। कपिल ने कहा, ”मैं गवाह बनकर खड़ा रहूंगा। मैं देश को बताना चाहता हूं कि सत्‍येंन्‍द्र जैन ने मुझे खुद बताया था कि जमीन की डील के लिए 50 करोड़ रुपए, छतरपुर में एक 7 एकड़ के फॉर्म हाउस की डील और पीडब्‍ल्‍यूडी डिपार्टमेंट के 10 करोड़ के फर्जी बिलों को सही करने का काम सत्‍येन्‍द्र जी ने किया। अरविंद केजरीवाल के साढ़ू लगते हैं, बंसल परिवार की संस्‍थाएं हैं, उनके लिए किया।”
कपिल मिश्रा ने पार्टी द्वारा पीएसी की बैठक बुलाए जाने पर चुनौती देते हुए कहा, ”7 बजे पीएसी की मीटिंग है, चैलेंज देता हूं कि मुझे पार्टी से निकाल कर दिखाओ। मुझे धमकियां मिल रही हैं मैसेजेस और फोन पर।” खुद पर बीजेपी से जुड़ाव के आरोपों पर कपिल ने कहा, ”ये सब बेबुनियाद है। सब जानते हैं कि मैं आप में बीजेपी और मोदी का सबसे मुखर आलोचक रहा हूं।” कपिल ने कहा, ”हमने अरविंद को भगवान समझा था। केजरीवाल अपनी कुर्सी नहीं छोड़ सकते, वह पहले जैसे नहीं रह गए हैं।” उन्‍होंने कहा, ”अगर बंद दरवाजे के पीछे फैसले लिए जाएंगे तो मैं उन्‍हें नहीं मानूंगा।”
कपिल मिश्रा ने विद्रोही स्‍वर तेज करते हुए कहा, ”खुली चुनौती देता हूं मुझे पार्टी से निकालकर दिखाओ। सारे मंत्रियों के दो सालों के जितने भी फाइलें हैं, सारे सार्वजनिक कर दो। सारे लोगों को बुला दो, सारे एक्‍सपर्ट्स को बुला लो। फिर देखते हैं कि किसने भ्रष्‍टाचार किया है। कौन पार्टी में रहेगा और कौन निकलेगा, ये फैसला जनता करेगी।

एंटी गाइडेड मिसाइल से तबाह किए पाकिस्तान के कई बंकर

जम्मू-कश्मीर के नौशेरा में आज पाकिस्तान ने फिर सीजफायर का उल्लंघन किया, जिसका भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया। भारतीय सेना ने पाकिस्तान के कई बंकर तबाह कर दिए हैं। एक 
न्यूज चैनल रिपोर्ट के मुताबिक भारतीय सेना ने एंटी गाइडेड मिसाइल से पाकिस्तानी चौकियों पर हमला कर उन्हें ध्वस्त कर दिया है। इस हमले का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें दिख रहा है कि भारतीय सेना ने करीब 7 मिसाइलों के जरिए इन बंकरों पर हमला किया है।
इस महीने पाकिस्तान ने कई बार एलओसी पर सीजफायर का उल्लंघन किया है। 1 मई को पाकिस्तान ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ में भारतीय चौकियों पर गोलीबारी और मोर्टार से हमला किया था, जिसमें दो भारतीय जवान शहीद हो गए थे। बीएसएफ ने बताया था कि पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम यानी बैट ने जवानों के शवों के साथ बर्बरता की थी। हालांकि पाकिस्तानी सेना ने शवों से बर्बरता की बात मानने से इनकार कर दिया था और एलओसी पर सीजफायर उल्लंघन के सबूत मांगे थे। इस मामले को लेकर पूरे देश में नरेंद्र मोदी सरकार की आलोचना की गई थी। एलओसी पर तनाव को कम करने के लिए दोनों देशों के डीजीएमओ के बीच बातचीत भी हुई थी। इसके बाद भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान की दो चौकियों को तबाह कर दिया था, जिसमें उनके 7 जवान मारे गए थे

उप राज्यपाल से मिलने के बाद कपिल मिश्रा आज टैंकर घोटाले पर करेंगे खुलासा

आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे चुके कपिल मिश्रा आज टैंकर घोटाले पर बड़ा खुलासा करने जा रहे हैं। उन्होंने एलजी से म‌िलकर सारे सबूत दे द‌िए हैं इसके ल‌िए वो अपनी पत्नी संग राजघाट के ल‌िए न‌िकल चुके हैं। इससे पहले आज वो द‌िल्ली के एलजी से म‌िले और उन्होंने एलजी को सारे सबूत द‌िए। उपराज्यपाल से मुलाकात के बाद उन्होंने ट्वीट कर ल‌िखा क‌ि मैंने उन्हें अवैध तरीके से पैसे लेते देखा, अब चुप रहना असंभव है। मैंने एलजी से म‌‌िलकर सभी सबूत दे द‌िए हैं। अरविंद केजरीवाल सरकार से बर्खास्त मंत्री कपिल मिश्रा ने आज अरविंद केजरीवाल पर बड़ा आरोप लगाते हुए खुलासा कि उन्होंने दो दिन पहले केजरीवाल को सत्येंद्र जैन से दो करोड़ रुपए नकद लेते हुए देखा है और पूरी रात सो नहीं पाया। उन्होंने कहा, ‘मैंने देखा कि सत्येंद्र जैन ने 2 करोड़ कैश केजरीवाल जी को दिए। मैने केजरीवाल से इस बारे में पूछा तो उन्होंने कहा कि राजनीति में कुछ बात ऐसी होती हैं जिनके बारे में नहीं बताया जा सकता। मैंने तब भी यह कहा कि हो सकता है उनसे गलती हो गई हो तो वह जनता से इस बारे में माफी मांग लें। अब मैं केजरीवाल से मांग करता हूं कि आप बताएं कि वो कैसा कहां से आया, वो भी कैश में।’
इसके अलावा उन्होंने कहा-
केजरीवाल ने कैश क्यों लिया, क्या जरूरत पड़ गई उन्हें?
कई घोटाले सामने आए, लेकिन हमें भरोसा था केजरीवाल भ्रष्टाचार पर चुप नहीं रहेंगे
सत्येंद्र जैन ने केजरीवाल के सगे रिश्तेदार के लिए जमीन सौदे की 50 करोड़ की डील कराई।
इस आंदोलन में कुछ भ्रष्टाचारी आ गए हैं।
कपिल मिश्रा अपनी पत्नी के साथ राजघाट पहुंचे थे। इससे पहले कपिल मिश्रा ने कहा था कि आम पार्टी उनकी पार्टी है और वह पार्टी नहीं छोड़ने वाले हैं। उन्होंने कहा कि मैं अकेला ऐसा मंत्री हूं जिसपर कोई भ्रष्टाचार का आरोप नहीं है और ना ही अपने किसी रिश्तेदार को कोई फायदा पहुंचाया है। कपिल मिश्रा ने कहा कि वह मंत्री पद से हटाए जाने से पहले से भ्रष्टाचार के इस मुद्दे पर बोल रहे थे।
इससे पहले वह दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल से मिलने पहुंचे थे। एलजी से मुलाकात के बाद कपिल मिश्रा ने ट्वीट करके कहा, ‘मैने ‘उन्हें’ गलत तरीके से पैसे लेते देखा है। मैंने एलजी को सारी बात बता दी है। चुप रहना असंभव था। कुर्सी क्या प्राण भी जाए तो जाए।’ उसी बीच कुमार विश्वास और अरविंद केजरीवाल की भी मुलाकात हुई थी।

निर्भया गैंगरेप केस: सुप्रीम कोर्ट ने बरकरार रखी सजा, दोषियों को होगी फांसी

नई दिल्‍ली  निर्भया गैंग रेप केस में सुप्रीम कोर्ट फैसला आ गया है। सुप्रीम कोर्ट ने दोषियों की फांसी की सजा को बरकरार रखा गया है।इससे पहले गैंगरेप के चार दोषियों मुकेश, अक्षय, पवन और विनय को साकेत की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी, जिस पर 14 मार्च  2014 को दिल्ली हाईकोर्ट ने भी मुहर लगा दी थी. दोषियों की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने फांसी की सजा पर रोक लगा दी थी. इसके बाद तीन जजों की बेंच को मामले को भेजा गया और कोर्ट ने केस में मदद के लिए दो एमिक्‍स क्यूरी नियुक्त किए  थे.
सुप्रीम कोर्ट ने मामले की सुनवाई फास्ट ट्रैक कोर्ट की तरह की. हर सोमवार, शुक्रवार और शनिवार को भी मामले की सुनवाई की गई. करीब एक साल तक चली इस सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने 27 मार्च को अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था. देशभर को दहला देने वाली इस वारदात के बाद मुख्य आरोपी ड्राइवर राम सिंह ने तिहाड़ जेल में कथित खुदकुशी कर ली थी, जबकि नाबालिग अपनी तीन साल की सुधारगृह की सजा पूरी कर चुका है.

इसरो आज भेजेगा साउथ एशिया सैटेलाइट, PM मोदी का 6 देशों को बड़ा तोहफा

श्रीहरिकोटा। मोदी सरकार 6 सार्क देशों को 450 करोड़ का तोहफा देने जा रहे हैं और यह तोहफा है दक्षिण एशिया सैटेलाइट। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो शुक्रवार शाम 4.57 बजे सार्क देशों के लिए इस सैटेलाइट को लॉन्च करेगी जिसके बाद इन 6 दोशों को कम्युनिकेशन फेसिलिटी मिलेगी। हलांकि आठ देशों के संगठन सार्क में शामिल पाकिस्तान इस परियोजना से दूर रहा, क्योंकि उसे भारत का उपहार मंजूर नहीं है।

जीसैट को चेन्नई से करीब 135 किलोमीटर दूर श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के दूसरे लांचिंग पैड से लांच किया जाएगा। इसरो ने बताया कि जीसैट-9 मिशन के ऑपरेशन का 28 घंटे का काउंटडाउन गुरुवार दोपहर 12:57 बजे शुरू हुआ। इसका मिशन लाइफटाइम 12 साल का है। 2,230 किलो के इस उपग्रह को तीन साल में बनाया गया है जिसकी लागत 450 करोड़ रुपए आई है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 'मन की बात' कार्यक्रम में कहा कि यह सेटेलाइट 'सबका साथ, सबका विकास' के सिद्धांत पर चलते हुए तैयार किया गया है।

मोदी ने कहा कि पड़ोसी देशों के बीच सहयोग होना चाहिए और उनका भी विकास होना चाहिए। इसी इरादे से इस उपग्रह का प्रक्षेपण किया जा रहा है। इससे उनकी विकास जरूरतों की पूर्ति हो सकेगी। समूचे दक्षिण एशिया में सहयोग बढ़ाने की यह उल्लेखनीय पहल 

बढ़ी सेना की ताकत ब्रह्मोस का दूसरा परीक्षण भी सफल,

 दिल्ली  सेना ने जमीन पर मार करने वाली ब्रह्मोस क्रूज मिसाइल के उन्नत रूप का बुधवार को लगातार दूसरा सफल परीक्षण किया। अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह पर हुए परीक्षण में मिसाइल की हमला करने की क्षमता सटीक साबित हुई। इसकी मारक क्षमता की फिर से पुष्टि करने के लिए ही यह परीक्षण किया गया है।

सेना ने बयान जारी का कहा कि लगातार पांचवीं बार ब्रह्मोस लैंड अटैक क्रूज मिसाइल (एलएसीएम) के ब्लॉक-3 संस्करण का परीक्षण किया गया। बहु भूमिका वाली मिसाइल ने जमीन पर स्थित लक्ष्य को सफलतापूर्वक निशाना बनाया। सेना ने कहा कि यह अविश्वसनीय उपलब्धि है। इस प्रकार के अन्य किसी हथियार ने ऐसी उपलब्धि हासिल नहीं की थी।

मिसाइल को मोबाइल ऑटोनोमस लांचर्स (एमएएल) से छोड़ा गया। भारतीय सेना 2007 में ब्रह्माोस की तैनाती करने वाली दुनिया पहली सेना है। उसने इस हथियार के कई रेजीमेंट बनाए हैं। भारत और रूस द्वारा संयुक्त रूप से विकसित ब्रह्माोस मिसाइल जमीनी और समुद्र स्थित लक्ष्य के खिलाफ जमीन, समुद्र और हवा से मार करने में सक्षम है।

केदारनाथ धाम पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी सबसे पहले करेंगे भगवान शिव का रुद्राभिषेक


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केदारनाथ धाम पहुंच चुके हैं और भगवान शिव का रुद्राभिषेक कर रहे हैं। टीवी रिपोर्ट्स के मुताबिक पीएम वहां एक घंटे पूजा करेंगे। पीएम ने पूर्वी द्वार से मंदिर मे प्रवेश किया। पद संभालने के बाद पीएम मोदी पहली बार वहां पहुंचे हैं। केदारनाथ धाम के कपाट आज यानी 3 मई को ही खोले गए हैं और इस दिन ही दर्शन करने वाले मोदी पहले पीएम बन गए हैं। पीएम के दौरे को देखते हुए मंदिर को फूलों से सजाया गया है। केदारनाथ के दर्शन के बाद पीएम मोदी हरिद्वार स्थित पतंजलि योगपीठ में जाएंगे। पीएम मोदी वहां पर एक शोध संस्थान का उद्घाटन करने के बाद वापस दिल्ली के लिए लौटेंगे।

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी के घर पर हमला, स्टाफ के साथ हुई मारपीट, 4 आरोपी गिरफ्तार

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी के घर पर कुछ अज्ञात लोगों ने हमला किया है। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, घर के स्टाफ के साथ मारपीट भी हुई है। पुलिस ने मामला दर्ज करके 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मनोज तिवारी ने देर रात ट्वीट करके लिखा, “मेरे 159 North Avenue आवास पर 8-10 लोगों ने हमला कर दिया है।” जानकारी के मुताबिक हमला रविवार देर रात हुआ, उस समय मनोज घर पर मौजूद नहीं थे। हमलावरों ने रात को करीब एक बजे सिक्योरिटी गार्ड के साथ मारपीट की। सूत्रों के मुताबिक, यह पूरी वारदात घर के सीसीटीवी में कैद हो गई है। मनोज तिवारी ने इस हमले को साजिश करार देते हुए कहा कि हमलावरों को उनका नाम तक पता था।

मन की बात में मोदी का नया मंत्र VIP नहीं अब EPI का दौर यानी Every Person is Important

 प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने रेडियो प्रोग्राम मन की बात के जरिये देश से VIP कल्चर को खत्म करने की अपील की है और इसकी जगह EPI यानी Every Person is Important कल्चर शुरू करने की सलाह दी है। पीएम मोदी ने रविवार को (30 अप्रैल) 31वीं बार मन की बात कार्यक्रम के जरिये देश को संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि सरकार ने देश से लाल बत्ती कल्चर को तो खत्म कर दिया है, लेकिन इतने के बाद लोगों के दिमाग में जो लाल बत्ती का कल्चर बैठा है अब उसे दूर करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि VIP कल्चर देश में नफरत को बढ़ावा देता है। और ये देश की सामूहिक भावना के खिलाफ है, इसलिए इसे खत्म करने की जरूरत है।
पीएम ने मन की बात कार्यक्रम में युवाओं से गर्मी की छुट्टी में नये नये काम करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि युवा नयी जगहों पर जाएं, नये काम करें, और नये अनुभव उठाएं। उन्होंने कहा कि आज के युवाओं को कंफर्ट जोन में रहने की आदत हो गई है जो चिंताजनक है। पीएम ने कहा कि युवाओं को स्किल बढ़ाने के लिए नये काम करने चाहिए और नयी चुनौतियां स्वीकार करनी चाहिए। पीएम मोदी ने कहा कि मन की बात कार्यक्रम में देश के नागरिकों से मिलने वाले सुझाव अहम हैं और हमारी टीम इन सारे सुझावों का विश्लेषण करती है। उन्होंने कहा कि उन्हें ये जानकर काफी खुशी हुई कि देश के कई युवा भोजन की बर्बादी रोकने के लिए कई कदम उठा रहे हैं।
पीएम अपने मन की बात कार्यक्रम में देश के आम लोगों से जुड़े मुद्दे को उठाते हैं और इस पर विस्तार से चर्चा करते हैं। इस कार्यक्रम में पीएम मोदी देशवासियों से सुझाव भी मांगते हैं और उसे पूरे देश को भी सुनाते हैं। पीएम इससे पहले इस कार्यक्रम में पर्यावरण, मॉनसून, नशाखोरी, कालाधन और अर्थव्यवस्था जैसे मुद्दों को उठा चुके हैं।