बड़ी खबर

चीनी सेना की धमकी- किसी भी कीमत पर करेंगे संप्रभुता की रक्षा, सेना हटाए भारत

सिक्किम क्षेत्र के डोकलाम में भारत के साथ सैन्य तनातनी के बीच चीनी सेना लगातार भारत पर दबाव बनाने की कोशिश कर रही है. चीनी सेना ने अब कहा है कि वो संप्रभुता की रक्षा के लिए कुछ भी करेंगे. पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने भारत से कहा है कि किसी भी कीमत पर संप्रभुता की रक्षा की जाएगी.

1 अगस्त को पीएलए की 90 वीं वर्षगांठ से पहले एक विशेष ब्रीफिंग में पीएलए ने डॉकलाम पर एक मजबूत संदेश दिया है. PLA की तरफ से साथ ही कहा गया है कि डोकलाम में तैनाती भी बढ़ाई जाएगी. राष्ट्रीय रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता वरिष्ठ कर्नल वू कियान ने कहा कि पिछले 90 वर्षों में पीएलए का इतिहास संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए हमारे संकल्प, क्षमता को साबित करता है.

पीएलए ने यह भी कहा कि इस घटना के जवाब में एक "आपातकालीन प्रतिक्रिया" के तौर पर क्षेत्र में और अधिक चीनी सेना उतार सकती है. इसके साथ ही वरिष्ठ कर्नल वू कि़आन ने रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता से डोकलाम पठार पर चीन के सड़क निर्माण का पक्ष भी रखा. आपको बता दें कि डोकलाम को डोंगलंग के नाम से संबोधित करता है.

कि़आन ने कहा, "जून के मध्य में, चीनी सेना ने एक सड़क के निर्माण की जिम्मेदारी ली थी. डोंगलंग चीन का क्षेत्र है और चीन का अपने क्षेत्र में सड़क निर्माण करना एक सामान्य घटना है. यह चीन की संप्रभुता का कार्य है और वैध है."

उन्होंने आगे कहा, "भारत द्वारा चीन के क्षेत्र में घुसना परस्पर मान्यता प्राप्त अंतरराष्ट्रीय सीमा का एक गंभीर उल्लंघन है और यह अंतरराष्ट्रीय कानून के खिलाफ है. हम अपनी संप्रभुता की रक्षा किसी भी कीमत पर करेंगे."
sabhar

रामनाथ कोविंद की हुई जीत ,मेरी जीत निष्ठा के साथ कर्तव्यों का निर्वहन करने वालों के लिए संदेश है

राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद की जीत हुई है. कोविंद को यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार से करीब दोगुने वोट मिले हैं. वैसे तो कोविंद की जीत शुरू से ही पक्की मानी जा रही थी, लेकिन अब ये तय हो गया है कि कोविंद ही देश के अगले राष्ट्रपति होंगे
राष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी संभालने जा रहे रामनाथ कोविंद ने कहा, ' अपने समाज एवं देश के लिए अथक सेवाभाव आज मुझे यहां तक ले आया है। इस पद पर रहते हुए संविधान की रक्षा करने और उसकी मर्यादा को बनाए रखना मेरा कर्त्‍तव्‍य होगा।'
राष्ट्रपति पद का चुनाव जीतने के बाद रामनाथ कोविंद ने कहा है कि उनकी राष्ट्रपति बनने की कभी आंकक्षा नहीं थी, लेकिन निष्ठा के साथ अपने कर्तव्यों का निर्वहन उन्हें इस ऊंचाई तक ले आया। राष्ट्रपति पद के लिए चुने गये रामनाथ कोविंद ने कहा कि राष्ट्रपति पद पर उनका निर्वाचन भारतीय लोकतंत्र की महानता का साक्ष्य है। उन्होंने कहा, ‘ मैं आज बहुत भावुक हूं और मैं उन सभी का प्रतिनिधित्व करूंगा जो जीवित रहने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।’ रामनाथ कोविंद ने कहा कि वे उन सभी लोगों का धन्यवाद करते हैं जिन्होंने राष्ट्रपति पद के लिए पूरे देश से उनका समर्थन किया। रामनाथ कोविंद 25 जुलाई को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। 66 प्रतिशत मतों के साथ जीतने वाले 71 साल के रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्ट्रपति बनेंगे। राष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी संभालने जा रहे रामनाथ कोविंद ने कहा, ‘ अपने समाज एवं देश के लिए अथक सेवाभाव आज मुझे यहां तक ले आया है। इस पद पर रहते हुए संविधान की रक्षा करने और उसकी मर्यादा को बनाए रखना मेरा कर्त्‍तव्‍य होगा।’ राष्ट्रपति पद के लिए निर्वाचित होने के बाद रामनाथ कोविंद के घर जाकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें शुभकामनाएं दी।

आज होगा वोटों की गिनती और देश को मिलेगा 14वां राष्ट्रपति, NDA के राम और विपक्ष की मीरा में है मुकाबला

देश को आज नया राष्ट्रपति मिल जाएगा. आज शाम करीब 5 बजे तक साफ हो जाएदा कि देश का 14वां राष्ट्रपति कौन होगा. राष्ट्रपति चुनाव के लिए 17 जुलाई को जो मतदान हुआ था उसकी गिनती 20 जुलाई यानी आज संसद के रूम नंबर 62 में होगी. लोकसभा के सेक्रेटरी जनरल अनूप मिश्रा के मुताबिक वोटों की गिनती सुबह 11:00 बजे से शुरू होगी और शाम लगभग 4:00 से 5:00 बजे के बीच नतीजे आने की उम्मीद है. राष्ट्रपति चुनाव के लिए अनूप मिश्रा ही रिटर्निंग ऑफिसर हैं. राष्ट्रपति पद के NDA उम्मीदवार रामनाथ कोविंद नतीजों से एक दिन पहले बंगला साहब गुरुद्वारा में मत्था टेकने पहुंचे.

सभी राज्यों से वोट के बैलेट बॉक्स संसद पहले ही पहुंच चुके हैं और संसद में कड़ी सुरक्षा में उसे रखा गया है. राष्ट्रपति चुनाव के लिए कुल 32 जगहों पर मतदान हुआ था. इनमें 29 राज्य, दिल्ली और पुडुचेरी समेत दो केंद्र शासित प्रदेश और संसद भवन शामिल है जहां पर राज्यसभा और लोकसभा के सांसदों ने मतदान किया.

8 राउंड में होगी गिनती

राष्ट्रपति के चुनाव में लोकसभा और राज्यसभा के सांसद और विधान सभा के सदस्य मतदान करते हैं. एमएलसी यानी विधान परिषद के सदस्य राष्ट्रपति के चुनाव में मतदान नहीं करते. आज जब वोटों की गिनती शुरू होगी तो सबसे पहले संसद भवन में डाले गए वोटों का बक्सा खुलेगा. उसके बाद राज्यों के वोटों की गिनती होगी. राज्यों का बक्सा अल्फाबेटिकल ऑर्डर पर खोला जाएगा. वोटों के गिनती चार अलग अलग टेबल पर होगी और गिनती के कुल 8 राउंड होंगे

अमरनाथ यात्रियों की बस खाई में गिरी, अबतक 16 की मौत, 26 अन्य गंभीर रूप से घायल मोदी ने जताया दुख

जम्मू एवं कश्मीर राज्य सड़क परिवहन की बस जम्मू से कश्मीर घाटी की ओर जा रही थी। इसी दौरान जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर बनिहाल में नचनाला के पास चालक ने बस पर से नियंत्रण खो दिया और यह खाई में जा गिरी। एक पुलिस अधिकारी ने बताया, “इस हादसे में 16 श्रद्धालुओं की मौके पर ही मौत हो गई और 26 अन्य घायल हो गए। मरने वालों में 14 पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं।” गंभीर रूप से घायल श्रद्धालुओं में से पांच को श्रीनगर ले जाया गया, 19 अन्य को सेना के हेलीकॉप्टर से जम्मू के गवर्मेट मेडिकल कॉलेज सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल लाया गया। दो का इलाज बनिहाल के अस्पताल में हो रहा है। अधिकारी ने कहा कि बस में चालक समेत कुल 43 यात्री सवार थे। दुर्घटना स्थल पर स्थानीय निवासियों के साथ सेना, पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवान राहत एवं बचाव कार्य में जुटे हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बस दुर्घटना में 16 अमरनाथ यात्रियों की मौत पर शोक जताया है। मोदी ने ट्वीट किया, “जम्मू एवं कश्मीर में बस हादसे में अमरनाथ यात्रियों की मौत से बेहद तकलीफ हुई है। मेरी प्रार्थनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। बस हादसे में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना कर रहा हूं।” केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि उन्होंने हादसे पर मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से बात की है। महबूबा ने उन्हें बचाव अभियान की जानकारी दी। उन्होंने कहा, “बस हादसे में अपनों की जान गंवाने वाले अमरनाथ तीर्थयात्रियों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना है। मेरी दुआएं घायलों के साथ हैं।

 

गृहमंत्री राजनाथ से मिलीं महबूबा मुफ्ती, बोलीं कश्मीर घाटी में हिंसा के पीछे चीन और पाकिस्तान का हाथ

जम्मू और कश्मीर के अनंतनाग में अमरानाथ यात्रियों पर हुए हमले के बाद मोदी सरकार और महबूबा सरकार गंभीर हो गई है। राज्य की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती  शनिवार को दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलने के लिए पहुंच गई हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक दोनों मिलकर घाटी में लगातार बढ़ रही हिंसक घटनाओं पर चर्चा की।
महबूबा ने मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि सोमवार रात को अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर किया गया हमला ‘सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने’ के उद्देश्य से किया गया था। हमले में सात श्रद्धालुओं की जान चली गई थी। महबूबा ने कहा, “हम कश्मीर में कानून और व्यवस्था की स्थिति के लिए नहीं लड़ रहे..जब तक पूरा देश और सभी राजनीतिक दल एकजुट नहीं होते, तब तक हम यह लड़ाई नहीं जीत सकते।”
महबूबा ने घाटी में अशांति के लिए ‘बाहरी ताकतों’ को जिम्मेदार ठहराया और ‘कठिन समय में समर्थन’ देने के लिए गृहमंत्री को धन्यवाद भी दिया। महबूबा ने कहा, “इस लड़ाई में बाहरी ताकतें शामिल हैं। घुसपैठ हो रही है और आतंकवादी घुस रहे हैं। वे जम्मू एवं कश्मीर का माहौल बिगड़ाने का प्रयास कर रहे हैं।”
महबूबा ने कहा, “अब दुर्भाग्य से चीन ने भी हस्तक्षेप शुरू कर दिया है।” उन्होंने कहा, “पूरे देश में जिस प्रकार सांप्रदायिक सद्भाव कायम था..शत्रु इस हमले के जरिए पूरे देश में सांप्रदायिक दंगे कराना चाहते थे।” उन्होंने कहा, “मैं अपने देश के लोगों और गृहमंत्री की आभारी हूं कि उन्होंने इस कठिन स्थिति में हमारा समर्थन किया, इस स्थिति में जिसमें बाहरी ताकतें शामिल हैं..और मैं खुश हूं कि हमारे सभी राजनीतिक दल साथ हैं।

पाकिस्तानी फायरिंग में शहीद फौजी के बेटे ने कहा सेना में भर्ती होकर लूंगा बदला

गुरुवार की सुबह कुपवाड़ा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से की गई फायरिंग में दो भारतीय जवान शहीद हो गए।जिसमे  रंजीत सिंह के दोनों बच्चे काजल और कार्तिक अपने शहीद पिता का सपना पूरा करना चाहते हैं। दोनों देश की सेवा करना चाहते हैं। 5वीं क्लास में पढ़ने वाली काजल का कहना है कि मेरे पिता चाहते थे मैं पुलिस अफसर बनूं और देश की सेवा करूं। मैं उनकी इच्छा पूरी करूंगी। वहीं चौथी में पढ़ने वाले कार्तिक का कहना है कि वह अपने पिता की तरह ही एक आर्मी ऑफिसर बनेगा। इधर शहीद लांस नायक रंजीत सिंह की पत्नी नेहा देवी अपने पति की मौत की खबर से सदमे में हैं। वह चीख-चीख कर एक ही बात कह रही हैं, 'मुझे मेरे पति पर गर्व है, उन्होंने देश के लिए अपनी जान कुर्बान कर दी, लेकिन मैं इंसाफ चाहती हूं। मुझे मेरे पति की हत्या का बदला चाहिए।'
शहीद की मां वीना देवी भी सरकार से कुछ ऐसी ही मांग कर रही हैं। उन्होंने कहा कि मेरे इकलौता बच्चे की जगह मुझे उनके 100 सैनिक चाहिए। मुझे इंसाफ चाहिए। मैं सरकार से कुछ और नहीं चाहती, बस मुझे भी एक गोली मार दो। मेरा परिवार बर्बाद हो गया है। 

ऐसा ही कुछ मंजर शहीद सतीश भगत के घर का भी है। सतीश के चाचा रशपाल ने बताया कि तीन दिनों पहले उसने फोन किया था, उसने बताया कि वह एलओसी पर है। उन्होंने कहा, वह बोल रहा था इस एरिया में फोन में नेटवर्क नहीं आता लेकिन मेरी चिंता मत करों। हमने कभी नहीं सोचा था कि उसके साथ ऐसा कुछ हो जाएगा। 

वहीं भगत के एक दोस्त ने बताया कि भगत हमेशा से अपने पिता की तरह आर्मी ज्वाइन करना चाहता था। देखिए क्या हो गया, अब यह समय बदला लेने का है। भारत को पाकिस्तान को सबक सिखाना चाहिए। सतीश दो हफ्ते पहले ही छुट्टी पर घर आया था।

जम्मू-कश्मीर कुपवाड़ा में फिर सीजफायर का उल्लंघन, सेना के दो भारतीय जवान शहीद

जम्मू-कश्मीर में एक बार फिर सेना को निशाना बनाया गया है। यहां कुपवाड़ा में पाकिस्तान की ओर से फायरिंग की गई जिसमें सेना के दो जवान शहीद हो गए हैं जबकि तीन भारतीय सैनिकों के घायल होने की सूचना है। हालांकि इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं है। बाकी जानकारी का इंतजार है। 
इससे पहले सोमवार देर रात एलओसी पर पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन करते हुए जिले के शाहपुर सेक्टर में भी गोलाबारी की थी। पाकिस्तान की 59 बलोच ने 9 राजपूत रेजीमेंट की चौकियों को निशाना बनाया।
किरनी, काइयां, मंधार आदि इलाकों में अग्रिम चौकियों पर स्वचालित हथियारों से फायरिंग किए जाने के बाद भारतीय जवानों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया। इससे पहले आठ और नौ जुलाई को भी पाक ने पुंछ जिले में एलओसी पर गोले बरसाए थे। 

अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमला 7 अमरनाथ यात्रियों के मारे जाने की खबर

अमरनाथ यात्रा पर आतंकी हमले से पूरे देश में गुस्से का माहौल है। सोमवार रात को हुए आतंकी हमले में 7 श्रद्धालुओं की मौत हो गई है कश्मीर के आईजी मुनीर खान ने बताया है कि अमरनाथ यात्रा के श्रद्धालुओं पर हुए हमले को लश्कर ए तयैबा ने अंजाम दिया जिसका मास्टरमाइंड पाकिस्तानी आतंकी इस्माइल था। ट्विटर पर कई सभी पार्टियों, नेताओं और कई जानी मानी हस्तियों ने ट्विट करके इस हमले की निंदा की है। खुद प्रधानमंत्री मोदी ने कई ट्वीट करके हमले पर दुख जताया है। साथ ही गर्वनर और मुख्यमंत्री से बात करके घायलों को जरूरी चीजें पहुंचाने की बात कही है। वहीं एक घायल ने बताया कि अमित शाह और पीएम मोदी ने फोन करके घायलों से बात की है। उनका हालचाल पूछा और दूसरी जरूरी चीजें पहुंचानी की बात की। वहीं जम्मू कश्मीर की मुख्य मंत्री महबूबा मुफ्ती ने चैनल से बात करते हुए इस हमले पर दुख जताया। साथ ही इस हमले को कुश्मीर और मुसलमानों पर धब्बा बताया। महबूबा ने कहा कि हमारी सुरक्षाबल जब तक इस हमले में शामिल लोगों पकड़कर सजा नहीं देंगे तबतक चैन से नहीं बैठेंगे।

चीन के सरकारी अखबार ने लिखा पाकिस्तान के कहने पर कभी भी कश्मीर में घुस सकती है:तीसरे देश की सेना

 चीन के सरकारी मीडिया ने एक ताजा लेख में परोक्ष रूप से भारत को धमकी देते हुए कहा कि अगर पाकिस्तान चाहे तो कश्मीर में “तीसरे देश” की सेना घुस सकती है। चीनी के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने लिखा है कि जिस तरह सिक्किम में भारत डोकलाम में भूटान की तरफ से चीनी सेना द्वारा सड़क निर्माण पर रोक लगाई है “उसी तर्क” से “तीसरे देश” की सेना कश्मीर में घुस सकती है। ग्लोबल टाइम्स में चीन के वेस्ट नॉर्मल यूनिवर्सिटी के भारत अध्ययन विभाग के प्रोफेसर और निदेशक लॉन्ग शिंगचुन ने लिखा है कि अगर भूटान ने भारत से मदद मांगी भी है तो ये मदद केवल स्थापित सीमा तक सीमित रहनी चाहिए। ग्लोबल टाइम्स के लेख में कहा गया है कि भूटान की मदद के नाम पर भारत चीन के डोकलाम इलाके में जबरन घुस गया है।

आलेख में कहा गया है, 'वरना, भारत के तर्क के हिसाब से अगर पाकिस्तान सरकार अनुरोध करे तो तीसरे देश की सेना भारत नियंत्रित कश्मीर सहित भारत और पाकिस्तान के बीच विवादित क्षेत्र में घुस सकती है।' चीन के सरकारी मीडिया ने डोकलाम तकरार पर भारत की आलोचना करते हुए कई आलेख प्रकाशित किए हैं, लेकिन पहली बार संदर्भ में पाकिस्तान और कश्मीर को लाया गया है। 

भारत के विदेश मंत्रालय की ओर से 30 जून को जारी बयान का जिक्र करते हुए इसमें कहा गया है , 'भारतीय सैनिकों ने भूटान की मदद के नाम पर चीन के डोकलाम इलाके में प्रवेश किया, लेकिन घुसपैठ का मकसद भूटान का इस्तेमाल करते हुए भारत की मदद करना है।' गौरतलब है कि सिक्किम सीमा पर भारतीय सेना और चीनी सेना में तनातनी के बाद दोनों देशों के बीच तल्खी बढ़ गई है। 

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव के 12 ठिकानों पर सीबीआई का छापा

राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव पर सीबीआई की जांच का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है। बताते चलें कि लालू यादव पर रेलमंत्री के तौर पर निजी कंपनी को लाभ पहुंचाने का आरोप है। मामले में सीबीआई ने देशभर में लालू के 12 ठिकानों पर छापे मारे हैं।
दरअसल मामला यह है कि 2006 में रेलमंत्री रहते हुए लालू पर निजी कंपनी को आवंटन के जरिये लाभ पहुंचाने का आरोप है। अभी भी दिल्ली, पटना, रांची और पुरी में सीबीआई की ओर से लालू परिवार के ठिकानों पर  सर्च ऑपरेशन जारी है। सीबीआई सूत्रों ने बताया कि तत्कालीन रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी, बिहार के उप मुख्यमंत्री और उनके बेटे तेजस्वी यादव, आईआरसीटीसी के तत्कालीन एमडी पी के गोयल, यादव के विश्वासपात्र प्रेमचंद गुप्ता की पत्नी सुजाता और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।सीबीआई का कहना है कि 2006 में रेल मंत्री रहते लालू यादव ने रांची और पुरी के बीएनआर होटलों के रखरखाव के लिए प्राइवेट कंपनियों को टेंडर दिया था। यह टेंडर निजी सुजाता होटेल्स को दी गई थीं। बीएनआर होटल रेलवे के हैरिटेज होटल हैं जिन्हें उसी साल (2006 में) आईआरसीटीसी ने अपने नियंत्रण में ले लिया था। केस दर्ज किए जाने के बाद छापेमारी की गई है।

भारत-इजरायल के बीच हुए 7 अहम समझौते,मिलकर करेंगे गंगा की सफाई

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इजरायल दौरे पर दोनों देशों के बीच महत्वपूर्ण समझौते हुए हैं। भारत और इजरायल के बीच अंतरिक्ष में इसरो को सहयोग देने, गंगा नदी की सफाई, जल संरक्षण, स्वच्छता कार्यक्रम, सैनिटरी कार्यक्रम समेत 7 मुद्दों पर एमओयू साझा किए गए। पीएम मोदी ने इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू को भारत आने का न्यौता भी दिया।
 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इजराइल के दौरे पर हैं। वहां उनके रहने का खास बंदोबस्त किया गया है। पीएम मोदी जिस होटल में रह रहे हैं उसकी सुरक्षा में सेंध लगाना किसी के लिए भी आसान नहीं होगा। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, पीएम मोदी जिस कमरे (सुइट) में ठहरे हुए हैं उसपर किसी भी बम, रसायनिक हमले का असर नहीं होगा। मोदी जिस होटल में रुके हुए हैं उसका नाम किंग डेविड होटल है। होटल के डायरेक्टर ऑफ ऑपरेशन रिट्ज ने बताया कि मोदी के पूरे दौरे के दौरान उनके रहने की व्यवस्था करने की जिम्मेदारी उन्हीं पर है। खबर के मुताबिक, रिट्ज ने बताया कि अगर पूरे होटल को बम से उड़ा दिया गया तो भी पीएम के कमरे पर कोई असर नहीं होगा।

होटल में कुल 110 कमरे हैं जिनको मोदी के आने से पहले ही खाली करवा लिया गया था। उस होटल में अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन, जॉर्ज बुश, ओबामा और डोनाल्ड ट्रंप भी ठहर चुके हैं। खबर के मुताबिक, होटल में मोदी के लिए गुजराती खाना ही बन रहा है। जिसमें बिना अंडे और बिना चीनी का खास ध्यान रखा जाता है। साथ ही उन्हीं फूलों का इस्तेमाल किया गया है जो कि भारतीय प्रतिनिधिमंडल को पसंद हैं।
मोदी के कमरे में भी किचन है। जिसमें भारतीय खाना बनाने की पूरी व्यवस्था है। भारतीय खाने में मसालों का भी जमकर इस्तेमाल किया जा रहा है। पीएम मोदी मंगलवार शाम को इजराइल पहुंचे थे। मोदी को एयरपोर्ट पर लेने के लिए स्वंय इजराइल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू आए थे। जिस वक्त दोनों ने साझा बयान दिया तब बेंजामिन नेतन्याहू ने हिंदी में मोदी को ‘मेरे दोस्त आपका स्वागत है’ कहा था।

जीएसटी के बाद जानिए किन वस्तुओं और सेवाओं पर कितना टैक्स लगेगा

जीएसटी क्या है? 
जानिए किन वस्तुओं और सेवाओं पर लगेगा कितना टैक्स, देखिए पूरी लिस्ट
वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) शुक्रवार (30 जून) को रात 12 बजे) जम्मू-कश्मीर को छोड़कर पूरे देश में लागू हो जाएगा। आजाद भारत के सबसे बड़े कर सुधार बताए जा रहे जीएसटी को संसद के विशेष कार्यक्रम में राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उप-राष्ट्रपति हामिद अंसारी, लोक सभा स्पीकर सुमित्रा महाजन और वित्त मंत्री अरुण जेटली की मौजूदगी में लॉन्च किया जाएगा। कार्यक्रम में सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के अलावा कई राज्यों के मुख्यमंत्री भी उपस्थित रहेंगे। नरेंद्र मोदी सरकार ने अमिताभ बच्चन, लता मंगेशकर, रतन टाटा जैसी हस्तियों को भी कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया है। वहीं जदयू को छोड़कर कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दलों ने कार्यक्रम के बहिष्कार का एलान किया है।

क्या है जीएसटी?- भारत में आम नागरिकों पर दो तरह के टैक्स लगते हैं- प्रत्यक्ष कर और अप्रत्यक्ष कर। आयकर और कॉर्पोरेट टैक्स इत्यादि प्रत्यक्ष कर हैं। बिक्री कर और सेवा कर इत्यादि अप्रत्यक्ष कर हैं। संविधान में 122वें संशोधन विधेयक के जरिए देश में लगने वाले सभी अप्रत्यक्ष करों की जगह एक जुलाई 2017 से केवल एक टैक्स “वस्तु एवं सेवा कर” लगाया जाएगा। दुनिया के 150 से अधिक देशों में ऐसी ही कर व्यवस्था लागू है।

जीएसटी पर किस चीज पर लगेगी कितना टैक्स?- जीएसटी परिषद ने सभी वस्तुओं और सेवाओं को चार टैक्स स्लैब (पांच प्रतिशत, 12 प्रतिशत, 18 प्रतिशत और 28 प्रतिशत) में विभाजित किया है। जीएसटी परिषद ने 12011 वस्तुओं को इन चार वर्गों में रखा है। आम जनता के लिए उपयोगी करीब 80 वस्तुओं पर शून्य  टैक्स (कर मुक्त ) लगेगा। सिगरेट, शराब और पेट्रोलियम उत्पादों (पेट्रोल, डीजल इत्यादि) को अभी जीएसटी से बाहर रखा गया है।

 टैक्स फ्री  जूट, ताजा मीट, मछली, चिकन, अंडा, दूध, छाछ, दही, प्राकृतिक शहद, ताजा फल, सब्जियां, आटा, बेसन, ब्रेड, प्रसाद, नमक, बिंदी, सिंदूर, स्टांप पेपर, मुद्रित किताबें, अखबार, चूड़ियां, हैंडलूम, अनाज, काजल, बच्चों की ड्राइंग, कलर बुक इत्यादि। एक हजार रुपये से कम कीमत वाले होटल और लॉज इत्यादि।

चुनाव आयोग का ऐलान, 5 अगस्त को होगा उपराष्ट्रपति पद के लिए चुनाव

 

नई दिल्ली। भारत निर्वाचन आयोग आज गुरुवार को  देश के उपराष्ट्रपति पद के लिए होने वाले आगामी चुनाव की तिथियों की घोषणा की गई। बता दें कि मौजूदा  उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है ऐसे में उससे पहले चुनाव संपन्न कराया जाना है।

  जिसमे आज मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए 5 अगस्त को सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक मतदान होगा और इसी दिन नतीजे भी आएंगे।

इसके लिए 4 जुलाई को अधिसूचना जारी होगी जबकि नामांकन आखिरी तारीख 18 जुलाई हैं वहीं 21 जुलाई तक आवेदन वापिस लिए जा सकते हैं। बता दें कि मौजूदा उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी का कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है। वह दो बार से इस पद पर हैं।

राज्यसभा और लोकसभा के निर्वाचित और नामांकित सदस्य उपराष्ट्रपति का चुनाव करते हैं। गौरतलब है कि उपराष्ट्रपति राज्यसभा का पदेन सभापति भी होता है। इस समय दोनों सदनों की कुल सदस्य संख्या 790 है लेकिन कुछ सीट रिक्त हैं।

गुजरात में आज PM मोदी का शक्ति प्रदर्शन साबरमती आश्रम से शुरू करेंगे दो दिवसीय यात्रा

 

 नई दिल्ली: पीएम नरेंद्र मोदी गुरुवार से गुजरात की दो दिवसीय यात्रा पर जा रहे हैं. इस साल के आखिर में राज्‍य में चुनाव से होने से पहले यह पीएम मोदी की चौथी यात्रा है. साबरमती आश्रम से अपनी यात्रा की शुरुआत करेंगे. इसके बाद वह राजकोट में रोडशो करेंगे और प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में अन्य कार्यक्रमों में भाग लेंगे. इस संबंध में प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा, मैं गुरुवार से दो दिन के लिए गुजरात में हूं. मैं अहमदाबाद, राजकोट, मोदासा और गांधीनगर में विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लूंगा.

उनका पहला कार्यक्रम साबरमती आश्रम में होगा. भाजपा की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, मोदी गुरुवार सुबह साबरमती आश्रम पहुंचेंगे, जो इस वर्ष अपनी 100वीं वर्षगांठ मना रहा है. आश्रम में वह महात्मा गांधी के आध्यात्मिक गुरु माने जाने वाले श्रीमद राजचन्द्र पर स्मारक डाक टिकट और सिक्का जारी करेंगे.
दो दिवसीय इस  दौरे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मुख्य फोकस पाटीदार, दलित और ओबीसी पर रहने वाला है. पिछले पांच महीनों में नरेंद्र मोदी का ये नौंवा गुजरात दौरा है. राजकोट में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 8 किलोमीटर लंबा रोड शो शाम 7 बजे से 8.30 बजे तक चलेगा.

7वें वेतन आयोग के भत्तों को सरकार की मंजूरी लाखों केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा

नई दिल्लीः देश के 47 लाख केंद्रीय कर्मचारियों को आज सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है. केंद्र सरकार ने आज 7वें वेतन आयोग के एचआरए समेत कई भत्‍तों पर सुझाव मंजूर कर लिए गए हैं. आज शाम को हुई यूनियन कैबिनेट की बैठक के बाद वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने 7वें वेतन आयोग की भत्तों पर सिफारिशों को मंजूरी देने का ऐलान किया. इसके तहत केंद्रीय कर्मचारियों के भत्‍तों में बदलाव 1 जुलाई से लागू हो जाएगा
नए भत्ते और पेंशन से सरकार पर लगभग 30 हजार करोड़ का अतिरिक्त खर्च आएगा। तीन देशों की यात्रा से लौटे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कैबिनेट बैठक में यह फैसला लिया। सरकार ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को 34 संशोधनों के साथ मंजूरी दी है। उन्‍होंने कहा, ”जो पे कमीशन के सुझाव थे कर्मचारियों के पक्ष में, उनकों स्‍वीकार करके उनमें सुधार किया गया।”