बड़ी खबर

69 वें गणतंत्र दिवस की परेड में इस साल 23 झांकियांहोंगी शामिल

नई दिल्ली। इस साल 69वें गणतंत्र दिवस की परेड में कुल 23 झांकियां शामिल होंगी। इनमें 14 झांकियां राज्यों की तथा नौ झांकियां विभिन्न सरकारी विभागों की होंगी। पहली बार राजपथ पर आसियान देशों की भी दो झांकियां रहेंगी। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान की झांकी को इस बार प्रतिनिधित्व नहीं मिला है। सोमवार को दिल्ली कैंट स्थित राष्ट्रीय रंगशाला में आयोजित पत्रकार वार्ता में यह जानकारी रंगशाला के विशेष कार्य अधिकारी दलपत सिंह ने दी। उनके साथ रक्षा विभाग के जनसंपर्क अधिकारी मरीन मई भी मौजूद थे। दलपत सिंह ने बताया कि सभी झांकियों का चयन रक्षा मंत्रालय द्वारा गठित 12 सदस्यीय विशेषज्ञ समिति द्वारा किया गया है। इस समिति में कला संस्कृति से जुड़ी हस्तियों में भजन सोपोरी, ए रामानाथन, मुकुल पंवार, किरण सहगल व कौशल वालिया भी शामिल थे। इन 23 झांकियों के अलावा दो झांकियां जलसेना और वायुसेना की भी रहेंगी। हालांकि ये दोनों झांकियां भी साथ ही चलेंगी, लेकिन उन्हें उक्त 23 झांकियों में शामिल नहीं किया गया है। इन झांकियों के साथ 342 कलाकार भी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने बताया कि रविवार शाम रंगशाला में सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया गया। इसमें विभिन्न राज्यों और सरकारी विभागों की 16 टीमों ने भाग लिया। इस अवसर पर महाराष्ट्र की टीम को प्रथम, युवा एवं खेल मंत्रालय की टीम को द्वितीय, गुजरात की टीम को तृतीय जबकि उत्तराखंड की टीम को सांत्वना पुरस्कार मिला। परेड में शामिल होने वाले राज्य व उनकी थीम राज्य थीम कर्नाटक प्रकृति, वन क्षेत्र, पशु पक्षी मध्य प्रदेश सांची स्तूप त्रिपुरा हस्तशिल्प एवं संस्कृति पंजाब संगत-पंगत-लंगर जम्मू-कश्मीर रहन-सहन उत्तराखंड ग्रामीण पर्यटन महाराष्ट्र छत्रपति शिवाजी महाराज का राज्याभिषेक छत्तीसगढ़ रामगढ़ के प्राचीन एम्फी थियेटर केरल मंदिर उत्सव में श्रद्धालुओं की भेंट असम मुखौटा बनाने की कला मणिपुर खंबा थोयभी लोक नृत्य गुजरात साबरमती आश्रम और गांधी जी के सौ वर्ष हिमाचल प्रदेश बौद्ध विहार के गोंपा नईदुनिया

छत्तीसगढ़ में जिला स्तर पर संगठन को मजबूत करने का प्रयास जारी रायपुर में बैठक जारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ में अब बीजेपी ने जिला स्तर पर संगठन को मजबूत करना शुरु कर दिया है। इसके लिए मंगलवार को रायपुर ग्रामीण और भिलाई के जिला संगठन की बैठक आयोजित की गई। बैठक में बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री सौदान सिंह, प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक और प्रदेश संगठन महामंत्री पवन साय मौजूद रहेंगे।

कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में होने वाली इस बैठक की खास बात ये है कि बीजेपी के राष्ट्रीय पदाधिकारी अब तक सम्भाग स्तरीय बैठक में सक्रिय रहे हैं, लेकिन जिला स्तर पर भी बैठकें लेना बीजेपी की बूथ स्तर पर अपनी रणनीति मजबूत करने के लिहाज से महत्वपूर्ण होगा। क्योंकि सीधे राष्ट्रीय पदाधिकारियों से कार्यकर्ताओ को जुड़ने का मौका मिलेगा।
राष्ट्रीय पदाधिकारियों से जुड़ेंगे कार्यकर्ता
बैठक में कार्यकर्ता सीधे राष्ट्रीय पदाधिकारियों के सामने अपनी बात रख पाएंगे साथ ही अपनी समस्या भी उनके सामने रख पाएंगे। इससे राष्ट्रीय पदाधिकारियों के सामने जिले में पार्टी की स्थिति साफ हो पाएगी। जिससे पदाधिकारियों आगे की रणनीति बनाने में मदद मिलेगी।

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता सच्चिदानंद उपासने ने बैठक के बारे में बताया कि ये सामान्य प्रक्रिया है और वो जब रायपुर जिला अध्यक्ष थे तब भी ऐसी बैठकें होती थीं। उन्होंने बताया कि बैठक में पदाधिकारी कार्यकर्ताओं की समस्याओं का समाधान करते हैं और रणनीति तैयार करते हैं।

मुख्यमंत्री 25 जनवरी को जगदलपुर जाएंगे

रायपुर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह 25 जनवरी को बस्तर जिले के ग्राम नेतानार सहित बस्तर संभाग के मुख्यालय जगदलपुर में आयोजित अनेक कार्यक्रमों में शामिल होंगे। डॉ. सिंह निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार रायपुर से दोपहर एक बजे हेलीकॉप्टर द्वारा रवाना होकर दोपहर 2 बजे ग्राम नेतानार (जिला बस्तर) पहुंचेंगे और अमर शहीद गुण्डाधुर की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। मुख्यमंत्री अपरान्ह 3 बजे जगदलपुर आएंगे और लालबाग में संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। डॉ. सिंह अपरान्ह 3.40 बजे हाता मैदान में आमसभा को संबोधित करेंगे और शाम 6.30 बजे कृषि महाविद्यालय कुम्हरावंड में नव-निर्मित आडिटोरियम का लोकार्पण करेंगे। मुख्यमंत्री रात्रि विश्राम जगदलपुर में करेंगे। डॉ. सिंह अगले दिन 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के अवसर पर जगदलपुर के लाल बाग मैदान में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेंगे। मुख्यमंत्री पूर्वान्ह 11.40 बजे सिरहासार स्थित शहीद स्मारक में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। डॉ. सिंह दोपहर 2.30 बजे रायपुर लौट आएंगे। 

राष्ट्रीय कृषि मेला 2018 : कृषि मंत्री ने लिया तैयारियों का जायजा : मेला ग्राउंड में ही अधिकारियों की बैठक लेकर दिए जरूरी निर्देश

 रायपुर - छत्तीसगढ़ के तीसरे राष्ट्रीय कृषि मेले के लिए ग्राम जोरा के नजदीक कृषि मेला ग्राउण्ड में जोर-शोर से तैयारी चल रही है। कृषि मंत्री   बृजमोहन अग्रवाल ने आज मेला ग्राउंड में तैयारियों का जायजा लिया। राष्ट्रीय कृषि मेला 24 से 28 जनवरी तक लगेगा। कृषि मंत्री  अग्रवाल ने स्थल निरीक्षण के बाद मेला ग्राउंड में ही अधिकारियों की बैठक में तैयारियों की समीक्षा की।
कृषि मंत्री ने बारी-बारी से विभागीय तैयारियों की जानकारी लेने के बाद जरूरी निर्देश दिए। श्री अग्रवाल ने बैठक में कहा कि पिछले दो साल से आयोजित राष्ट्रीय कृषि मेले की लोकप्रियता बढ़ी है। किसानों को उन्नत तकनीक से खेती के लिए प्रेरित करने राष्ट्रीय कृषि मेले का आयोजन किया जा रहा है। मेले में कृषि विभाग से जुड़े सभी संस्थाओं के स्टालों में किसानों को खेती-किसानी में नवाचार करने की प्रेरणा मिलनी चाहिए। इसके लिए स्टालों में पिछले सालों से अलग प्रदर्शनी लगनी चाहिए। विभागीय स्टालों में किसानों को शासकीय योजनाओं से मिलने वाले फायदों के बारे में लाईव प्रदर्शन करने से मेला अधिक सार्थक हो जाएगा। अग्रवाल ने बैठक में पेयजल, यातायात, सुरक्षा, चिकित्सा सुविधा आदि की तैयारियों की समीक्षा भी की। इस अवसर पर कृषि विभाग के अपर मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त   सुनील कुजूर, सचिव कृषि अनूप श्रीवास्तव, मंडी बोर्ड के प्रबंध संचालक  अभिजीत सिंह सहित अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

विक्टोरिया के साथ अनुभवों की साझेदारी के लिए छत्तीसगढ़ उत्सुक: डॉ. रमन

 रायपुर - अपनी आस्ट्रेलिया-यात्रा के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉं.रमन सिंह ने आज विक्टोरिया राज्य के विधान परिषद अध्यक्ष श्री ब्रूस एटकिंसन से मुलाकात की। मुख्यमंत्री ने उन्हें छत्तीसगढ़ में हो रहे विकास तथा उपलब्धियों के बारे में बताया। साथ ही कहा कि वे विक्टोरिया और छत्तीसगढ़ के बीच अनुभवों की साझेदारी को लेकर उत्सुक हैं।
स्मार्ट सिटी के रूप में मेलबर्न का स्थान विश्व में सातवां है।
 मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने श्री एटकिंसन को बताया कि छत्तीसगढ़ सरकार ने 92 वर्गमील क्षेत्र में भारत की पहली हरित स्मार्ट सिटी ‘नया रायपुर’ विकसित किया है। यह शहर विश्वस्तरीय अधोसंरचना के साथ स्वयं को सच्ची स्मार्ट सिटी साबित करता है। छत्तीसगढ़ द्वारा यहां 1.9 अरब आस्ट्रेलियन डालर का निवेश किया जा चुका है और लगभग 2.5 अरब आस्ट्रेलियन डालर का निवेश किया जा रहा है। इस शहर में कमर्शियल काम्पलेक्स, नॉलेज पार्क, हेल्थ सिटी, इंटरटेनमेंट एंड रिक्रिएशन क्लस्टर, थीम टाउनशिप, स्पोर्ट्स काम्पलेक्स समेत वे सभी सुविधाएं विकसित की जा रही है, जो इसे एक विश्वस्तरीय शहर के रूप में पहचान देती हैं। नया रायपुर ऐसे गैर-प्रदूषणकारी उद्योगों को प्लग एंड प्ले अधोसंरचना की सुविधा प्रदान करता है, जो छत्तीसगढ़ में व्यापारिक लाभ उठाना चाहते हैं। सूचना आईटी, आईटीज टेक्नालॉजी, इलेक्ट्रानिक्स और लाजिस्टिक सेक्टर यूनिट्स के लिए नया रायपुर की भौगोलिक स्थिति बहुत फायदेमंद है। मेलबर्न और नया रायपुर के विकास के लिए छत्तीसगढ़ सरकार परस्पर समझौता करना चाहती है।
 उन्होंने  एटकिंसन को बताया कि छत्तीसगढ़ प्रदेश भारत के मध्य में स्थित है। उसकी यह स्थिति निवेश और व्यवसाय की दृष्टि से बहुत फायदेमंद है। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी भारत में मेक इन इंडिया को बढ़ावा दे रहे हैं, छत्तीसगढ़ राज्य इसके लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने बताया कि आस्ट्रेलिया की तरह छत्तीसगढ़ भी एक खनिज समृद्ध राज्य है। कोयले और डोलेमाइट के उत्पादन में यह देश में अव्वल और लौह अयस्क के उत्पादन में दूसरे स्थान पर है। एल्यूमिनियम में राज्य का देश में योगदान 15 प्रतिशत, लोहे और इस्पात में 25 प्रतिशत, सीमेंट में 16 प्रतिशत और चूना पत्थर में 8 प्रतिशत है। आस्ट्रेलिया की स्वयं की पहचान माइनिंग हब के रूप में है। छत्तीसगढ़ सरकार खनन तकनीक, सुरक्षा, उपकरण और निर्माण के क्षेत्र में सहयोग कर सकती है।

छत्तीसगढ़ तेजी से निवेश गंतव्य के रूप में विकसित हो रहा है : डॉ. रमन सिंह

 रायपुर - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज आस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर में आयोजित निवेशक सम्मेलन में कहा कि छत्तीसगढ़ में प्रचुर मात्रा में खनिज संसाधन उपलब्ध है। यहां सरप्लस बिजली है और निवेश का बेहतर वातावरण है। भारत के मध्य में स्थित होने के कारण छत्तीसगढ़ में लॉजिस्टिक हब बनने की पूरी संभावना है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ रेल, एयरपोर्ट, औद्योगिक अधोसंरचना, स्मार्ट शहर और ऊर्जा के क्षेत्र में तेजी से निवेश गंतव्य के रूप में विकसित हो रहा है।
    मुख्यमंत्री डॉ. सिंह ने सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा कि आस्ट्रेलिया के सबसे बड़े ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक विरासत को सहेजने वाले विक्टोरिया प्रांत के मेलबर्न शहर में आकर मुझे खुशी हो रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री श्री मेलकम टर्नबुल ने दोनों देशों के बीच संबंधों की नई इबारत लिखी है। भारत और आस्ट्रेलिया के बीच आपसी समझ, सामाजिक एवं आर्थिक विकास की नई दृष्टि और दोनों देशों के बीच तरक्की के साझे रास्तों ने भारत और आस्ट्रेलिया केे बीच नई आस्थाओं का संचार किया है। उन्होंने कहा कि मैं आस्ट्रेलिया में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का सदभावना दूत हूं। प्रधानमंत्री   मोदी के नेतृत्व में भारत में विकास और सुधारों के तेजी से विकास की नई इबारत लिखी जा रही है।

पतंजलि मेगा स्टोर पर आज खाद्य विभाग ने छापा मारा।

रायपुर:- छापेमारी की इस कार्रवाई में खाद्य विभाग की टीम को एक्सपायरी फूड प्रोडेक्ट के अलावे मिस्ब्रांडिंग की भी कई शिकायतें सही मिली.. कुछ समानों के सैंपल जब्त किये गये हैं.. कुछ समान सीज भी किया गया है। आज शाम फूड एंड ड्रग विभाग के सहायक आयुक्त अश्विनी देवांगन के नेतृत्व में चार सदस्यीय टीम ने सुंदर नगर स्थित पतंजलि मेगा स्टोर में छापा मारा। इस छापेमारी में कूकीज के 98 सैंपल को सीज किया गया। वहीं पतंजलि स्टोर में एक्सपायरी डेट के डेरी वाइटनर मिल्क भी मिली है।

लोक सुराज अभियान 2018 : प्रथम चरण के दूसरे दिन मुख्यमंत्री अचानक पहुंचे भाटापारा ग्राम खैरा : चौपाल में अटल समरसता भवन और मिनी स्टेडियम की घोषणा

भाटापारा - मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने प्रदेशव्यापी लोक सुराज अभियान के तीन दिवसीय प्रथम चरण के दूसरे दिन आज बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के ग्राम खैरा में अचानक पहुंचकर आवेदन संकलन शिविर को देखा और ग्रामीणों को संबोधित किया। शिविर में 43 आवेदन प्राप्त हो चुके थे।
    डॉ. सिंह ने खैरा में अटल समरसता भवन और मिनी स्टेडियम निर्माण की मांग तत्काल मंजूर करने की घोषणा की। उन्होंने अटल समरसता भवन के लिए बीस लाख रूपए और मिनी स्टेडियम निर्माण के लिए 40 लाख रूपए मंजूर करने का भी ऐलान किया। उन्होंने यह भी कहा कि खैरा के एक सौ परिवारों को एक माह के भीतर आबादी पट्टा दे दिया जाएगा। डॉ. सिंह ने इस बात पर खुशी जताई कि ग्राम खैरा में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना (सौभाग्य) के तहत 378 घरों को कनेक्शन दिए जा चुके हैं। उन्होंने किसानों को बताया कि बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के सूखा प्रभावित किसानों की मदद के लिए जिलों को पहली किश्त में 25 करोड़ रूपए दिए जा चुके हैं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि राजस्व पुस्तक परिपत्र (आरबीसी) 6-4 के तहत इस राशि का वितरण एक माह के भीतर कर दिया जाए।
     उल्लेखनीय है कि अभियान का पहला चरण कल 12 जनवरी से शुरू हो गया है, जो 14 जनवरी तक चलेगा। इस अवधि में तीन दिनों तक ग्राम पंचायतों और नगरीय निकायों के स्तर पर जनता से आवेदन पत्र संकलित किए जा रहे हैं। इसके लिए समाधान पेटियां लगाई गई है। मुख्यमंत्री आज संभागीय मुख्यालय बिलासपुर के कार्यक्रमों के बाद हेलीकॉप्टर में सीधे इस गांव में पहुंचे। वहां उन्होंने पेड़ के नीचे चौपाल में ग्रामीणों से बातचीत करते हुए इस वर्ष के लोक सुराज अभियान के बारे में भी बताया।

मुख्यमंत्री अपने प्रतिनिधि मंडल के साथ 14 जनवरी से 24 जनवरी तक ऑस्ट्रेलिया दौरे पर : औद्योगिक विकास के नये क्षेत्रों में निवेश आकर्षित करने ऑस्ट्रेलिया दौरा

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि वे छत्तीसगढ़ में औद्योगिक विकास की व्यापक संभावनाओं वाले नये क्षेत्रों में निवेश आकर्षित करने के लिए ऑस्ट्रेलिया जा रहे हैं। इनमें कृषि और खाद्य प्रसंस्करण, रक्षा सामग्री निर्माण, सूचना प्रौद्योगिकी, इलेक्ट्रॉनिक्स और इलेक्ट्रिकल, इंजीनियरिंग, अक्षय ऊर्जा (सौर ऊर्जा) जैसे क्षेत्र शामिल हैं। इनमें उद्योग लगाने के लिए निवेशकों को छत्तीसगढ़ सरकार की उद्योग हितैषी नीतियों की जानकारी दी जाएगी और उन्हें राज्य में उद्योग लगाने के लिए आमंत्रित किया जाएगा।
    डॉ. सिंह ने ऑस्ट्रेलिया प्रवास के लिए आज शाम राजधानी रायपुर से नई दिल्ली रवाना होने के पहले यह जानकारी दी।    उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के ‘मेक-इन-इंडिया’ अभियान के अनुरूप राज्य सरकार ने ‘मेक-इन-छत्तीसगढ़’ को भी बढ़ावा देने के लिए अपनी पहल तेज कर दी है। निवेश के इन सभी नये क्षेत्रों में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर छत्तीसगढ़ सरकार भी सार्थक प्रयास कर रही है। डॉ. रमन सिंह ने कहा - भारत के आर्थिक और औद्योगिक विकास में ऑस्ट्रेलिया की भूमिका एक सहयोगी देश के रूप में है। नये छत्तीसगढ़ राज्य ने भी विगत 14 वर्षों में औद्योगिक पूंजी निवेश के एक बेहतर गंतव्य के रूप में अपनी पहचान बनाई है।

जांजगीर चाम्पा सांसद की गाड़ी का हुआ एक्सीडेंट

BBN24 @ बलौदा बाजार :-जांजगीर चाम्पा सांसद कमला देवी पाटले की गाड़ी का एक्सीडेंट हुआ कमला देवी पाटले CM बैठक के लिए रायपुर जा रही थी तभी उनकी गाड़ी ट्रैक्टर से टकरा गई जिसमें कमला देवी पाटले को गंभीर चोटें आई जिसे जिला अस्पताल बलौदा बाजार में ले जाया गया जहां उसका बाया हाथ फैक्चर होना पाया गया जिसका इलाज जारी है जिसके बाद उन्हें रायपुर रिफर करने का विचार करने की तैयारी की जा रही है।

भाजपा की बैठक शुरू

रायपुर- भाजपा पदाधिकारियों की बैठक शुरू राष्ट्रीय संगठन महामंत्री रामलाल ले रहे हैं बैठक प्रदेश अध्यक्ष धरम लाल कौशिक, राज्यसभा सदस्य रामविचार नेताम सहित कई नेता मौजूद पहली बैठक- निगम- मंडल अध्यक्षों की हुई दूसरी बैठक- प्रदेश पदाधिकारियों और जिला प्रभारियों की तीसरी बैठक- मोर्चा प्रकोष्ठों की चौथी बैठक- विभाग-प्रकल्पों की होगी दिनभर-लगातार चलेगी बैठक बैठक में मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, अमर अग्रवाल, पुन्नूलाल मोहिले, केदार कश्यप भी मौजूद

दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) बस और ट्रक के बीच हुई भीषण टक्कर चार बच्चों सहित बस ड्राइवर की मौत

इंदौर। बायपास स्थित बिचौली-हप्सी पुल पर शुक्रवार शाम दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) बस और ट्रक के बीच हुई भीषण टक्कर में चार बच्चों और बस ड्राइवर की मौत हो गई। टक्कर इतनी जबर्दस्त थी कि बस के अगले हिस्से के परखच्चे उड़ गए। काफी देर तक बच्चे बस में फंसे रहे।
हादसा शाम करीब चार बजे हुआ। डीपीएस की बस (एमपी-09 एफए-2029) छुट्टी के बाद बच्चों को लेकर निकली थी। हादसे के पीछे बस का स्टेयरिंग फेल होने का अंदेशा जताया जा रहा है। घटना के प्रत्यक्षदर्शी के मुताबिक बस की रफ्तार तेज थी।
पहले बस सही लेन में थी, लेकिन अचानक लहराते हुए डिवाइडर पार कर रांग साइड आ गई। इसी दौरान राऊ की ओर से कनाड़िया की तरफ आ रहे ट्रक (यूपी-78, सीटी-7890) को सामने से टक्कर मार दी। तेज धमाके के साथ बस का ड्राइवर कैबिन चकनाचूर हो गया और ड्राइवर राहुल यादव की मौके पर ही मौत हो गई। बस का ईंधन टैंक भी फट गया था। घटना देख आसपास के गांव वाले दौड़े और सब्बल आदि से बस को तोड़कर बच्चों को निकालने में जुटे। थोड़ी देर में एंबुलेंस और पुलिस की गाड़ियां भी पहुंच गईं। 
जानकारी के मुताबिक मृत बच्चों में माध्यमिक कक्षा के हरप्रीत कौर, श्रुति लुधियानी, स्वस्तिक पंडया, कृति अग्रवाल हैं। ट्रक ड्राइवर का अब तक पता नहीं चल सका है। बस में 20 बच्चे थे। इनमें 10 से ज्यादा घायलों को बॉम्बे अस्पताल में भर्ती किया गया है। 
बच्चों के माता-पिता व परिजन बॉम्बे अस्पताल पहुंचे तो वहां अफरातफरी मच गई। दूसरे और चौथे माले के वार्ड में परिजन अपने बच्चों को तलाश रहे थे। महिलाओं के रोने से माहौल गमगीन हो गया। वरिष्‍ठ प्रशासनिक और पुलिस अधिकारियों के साथ महापौर मालिनी गौड़ भी अस्‍पताल पहुंची।
सभार

 

उत्तर भारत में पड़ रही कड़ाके की ठंड के चलते छत्तीसगढ़ आने वाली कई ट्रेनें घंटों लेट

 रायपुर - ट्रेन में सफर करने से पहले एक बार टाइम टेबल जरूर देख ले  क्यों की उत्तर भारत में पड़ रही कड़ाके की ठंड का असर अब छत्तीसगढ़ से गुजरने वाली ट्रेनों पर भी पड़ रहा है. कोहरे के चलते छत्तीसगढ़ आने वाली कई ट्रेन घंटों लेट चल रही है. हरिद्वार पूरी उत्कल एक्सप्रेस 7 घंटे लेट चल रही है. हजरत निजामुदीन से दुर्ग जाने वाली हमसफर एक्सप्रेस 07.30 घंटे लेट हैबरौनी से गोंदिया की ओर जाने वाली बरौनी एक्सप्रेस 6 घंटे लेट है। कुल मिलाकर कड़ाके की ठंड और कोहरे ने ट्रेनों की रफ्तार धीमी कर दी है.
वही कानपुर से दुर्ग की ओर जाने वाली बेतवा एक्सप्रेस 2 घंटे लेट है. ट्रेन में सफर करने वाले यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. छपरा से दुर्ग की ओर जाने वाली सारनाथ एक्सप्रेस भी 10 घंटे लेट चल रही है

मुख्यमंत्री शामिल हुए पंडित शभ्भूशरण लाटा महाराज की श्रीराम कथा में

रायपुर : मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह आज यहां शाम को पंडित शभ्भूशरण लाटा जी महाराज की श्रीराम कथा में शामिल हुए और राम कथा का श्रवण किया। उन्होंने पंडित शभ्भूशरण लाटा जी से आशीर्वाद लिया। इसका आयोजन राष्ट्रीय दिशा मंच, श्री हनुमान पाठ सेवा समिति और रायपुर स्वागत एवं प्रोत्साहन समिति द्वारा संयुक्त रूप से स्वर्गीय बलबीर जुनेजा इंडोर स्टेडियम में किया गया । मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ के लिए यह बहुत अच्छा अवसर है जब उन्हें पंडित शभ्भूशरण लाटा जी से राम कथा सुनने मिल रहा है। नव वर्ष की शुरूआत के लिए इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता। श्रीराम कथा में सम्पूर्ण जीवन का दर्शन का परिचय होता है। इसमें हमें एक पिता का, एक पुत्र का, एक भाई का और एक राजा का प्रजा के प्रति कर्तव्य की सीख मिलती हैं। मेरे लिए भी यह सौभाग्य है कि मुझे पंडित शभ्भूशरण जी की राम कथा सुनने का अवसर प्राप्त हुआ है। इस कार्यक्रम में कृषि मंत्री  बृजमोहन अग्रवाल, वन मंत्री श्री महेश गागड़ा, महिला एवं बाल विकास मंत्री  रमशीला साहू सहित अन्य जनप्रतिनिधि और गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

डिजिटल क्रांति के नये युग में प्रवेश कर रहा है छत्तीसगढ़: डॉ. रमन सिंह

रायपुर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि छत्तीसगढ़ आज डिजिटल क्रांति के नये युग में प्रवेश कर रहा है। आज भारत नेट परियोजना के द्वितीय चरण के लिए हो रहे समझौते से नये युग की आधुनिक तकनीकी का लाभ दूरस्थ अंचल के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचना संभव हो सकेगा। इस ब्रांड बैंड हाईवे के माध्यम से सभी कल्याणकारी योजनाएं बेहतर तरीके से गांवों तक पहुंचेंगी।
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह आज यहां एक निजी होटल में छत्तीसगढ़ में भारत नेट परियोजना के दूसरे चरण के लिए केन्द्र और राज्य सरकार के बीच परस्पर समझौते के ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर के लिए आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। केन्द्रीय संचार राज्यमंत्री मनोज सिन्हा समारोह के मुख्य अतिथि थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि भारत नेट परियोजना के जरिए गांवों और शहरों के बीच डिजिटल दूरी कम करने के लिए छत्तीसगढ़ के 85 विकासखण्डों की पांच हजार 987 ग्राम पंचायतों को लगभग 1624 करोड़ रुपए की लागत से ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ा जाएगा। वर्तमान में लगभग चार हजार ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल नेटवर्क से जोड़ने का काम चल रहा है। भारत नेट परियोजना के द्वितीय चरण के लिए हुए एमओयू पर केन्द्र सरकार की ओर से भारत नेट परियोजना से संबंधित यूनिवर्सल सर्विस ऑब्लिगेशन फंड के प्रशासक श्री संजय सिंह और राज्य सरकार की ओर से इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव  संजय शुक्ला ने हस्ताक्षर किए। इस अवसर पर रायपुर के लोकसभा सांसद   रमेश बैस, प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव श्री विवेक ढांड, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी विभाग के प्रमुख सचिव   अमन कुमार सिंह सहित अनेक वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।