छत्तीसगढ़

जांजगीर चाँपा जिले में 5 से 12 अक्टूबर तक कोरोना संक्रमण के लक्षण वालों की जुटाई जाएगी जानकारी-कलेक्टर यशवंत कुमार

जांजगीर-चांपा:-कलेक्टर यशवंत कुमार के मार्गनिर्देशन में कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान के अंतर्गत 5 से 12 अक्टूबर तक स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जाकर कोविड-19 के लक्षणात्मक मरीजों की पहचान करेगी। अभियान के लिए ग्रामीण और शहरी इलाकों में मितानिनों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं, बहुउद्देश्यीय स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारियों, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग तथा नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के मैदानी अमले की ड्यूटी लगाई गई है।

कलेक्टर ने कहा, सर्वे टीम को सही जानकारी दें और सहयोग करें

कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे का काम 5 से 12 अक्टूबर तक किया जाएगा। कलेक्टर ने जिले के नागरिकों से अपील की है कि सर्वे टीम को सही जानकारी दें और आवश्यक सहयोग करें। लक्षण वाले मरीजों की कोरोना जांच कर समुचित उपचार का प्रबंध किया जाएगा। कलेक्टर ने जिले के नागरिकों से अपील की है कि सर्वे टीम को सही जानकारी दें और आवश्यक सहयोग करें। लक्षण वाले मरीजों की कोरोना जांच कर समुचित उपचार का प्रबंध किया जाएगा। कलेक्टर ने कहा है कि कोरोना से संबंधित सुरक्षात्मक उपायों का स्वयं अनुशासित होकर पालन करें। सुरक्षात्मक उपायों से ही कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव किया जा सकता है। उन्होंने कहा है कि वे अपने व अपने परिवार की सुरक्षा के लिए अति आवश्यक होने पर ही घर से निकले, अन्यथा अपने घर पर ही सुरक्षित रहें। कलेक्टर ने कहा है कि चूंकि अभी तक कोरोना वायरस के इलाज से संबंधित कोई वैक्सीन का इजाद नहीं हो पाया है। इसलिए फिलहाल इस खतरनाक वायरस से बचने सावधानी ही एकमात्र उपाय है।

स्वास्थ्य विभाग ने सभी सर्वे दलों को अभियान के दौरान कोरोना संक्रमण से बचने के सभी उपायों और प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए गए हैं। अभियान के दौरान घर-घर जाकर सघन सामुदायिक सर्वे कर कोविड-19 के सभी मरीजों की जल्द से जल्द पहचान कर त्वरित उपचार सुनिश्चित किया जाएगा। साथ ही आइसोलेशन के जरिए संक्रमण की श्रृंखला भी तोड़ी जाएगी। अभियान के लिए गठित सर्वे दल क्षेत्रवार घरों में भ्रमण कर कोरोना संक्रमण के लक्षण वाले लोगों की जानकारी जुटाएगी। जानकारी के आधार पर खंड चिकित्सा अधिकारी द्वारा इनकी जांच की व्यवस्था की जाएगी। बुखार, सर्दी, खांसी, सांस लेने में तकलीफ, बदन दर्द, दस्त तथा उल्टी, सूंघने या स्वाद की क्षमता घटने जैसे लक्षणों वाले व्यक्तियों को संदिग्ध मरीजों की श्रेणी में रखा जाएगा। कोरोना के संदिग्ध मरीजों की संख्या ज्यादा होने पर प्राथमिकता के आधार पर उच्च जोखिम समूहों की पहले जांच की जाएगी। 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों, गर्भवती महिलाओं, पांच वर्ष से कम आयु के बच्चों, मधुमेह, उच्च रक्तचाप, किडनी रोग, कैंसर, टी.बी., सिकलसेल एवं एड्स के पीड़ितों को उच्च जोखिम वर्ग में शामिल किया गया है। उच्च जोखिम समूह के लक्षणात्मक व्यक्तियों की रैपिड एंटीजन जांच रिपोर्ट निगेटिव आने पर ऐसे सभी व्यक्तियों के सैंपल की आरटीपीसीआर जांच करवाई जाएगी।

चोरी की रेत भरकर जा रही 3 हाइवा और 1 जेसीबी पर खनिज विभाग ने की कार्यवाही, किया जब्त

कांकेर:-अवैध रेत परिवहन करते फिर 3 हाइवा व 1 जेसीबी को खनिज विभाग की टीम ने जब्त किया है। विदित हो कि रेत तस्कर मुड़पार नदी के आस-पास कई स्थानों में जैसे कि कोकड़ी, नारा, भीरावाही व आस पास भारी मात्रा में अवैध रूप से रेत का भंडारण किया गया था। उस रेत को बालोद, दुर्ग, भिलाई व रायपुर हाइवा के माध्यम से भेजा जा रहा था। इसकी बार बार खनिज विभाग को शिकायत मिल रही थी। कई बार चोरी से भरे हाइवा को खनिज विभाग ने जब्त भी किया है इसके बाद भी रेत तस्कर रेत की चोरी करने से बाज नही आ रहे थे। इसके बाद कोकड़ी में गौठान जाने वाले मार्ग से हाइवा वाहन में रेत भरने वाली जेसीबी जिसे मौके से चालक लेकर भाग रहा था उसे पीछा करके खनिज विभाग द्वारा पकड़ा गया है। एक हाइवा लखनपुरी से ,एक हाइवा को कोकड़ी से एवं एक हाइवा को नाथिया नवागांव के बांध के किनारे से पकड़ा गया है। सभी वाहनों में कार्यवाही के दौरान वाहन के चालक फरार हो गये थे। खनिज विभाग कोकड़ी के सरपंच व ग्रामीणों के समक्ष पंचनामा बनाकर उनके सुपुर्द किया गया।इस पूरे कार्यवाही में खनिज विभाग के अधिकारी प्रमोद नायक ने मौके पर पहुँच कर कार्यवाही की।

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक 5 अक्टूबर को बस्तर में पार्टी कार्यकर्ता और पदाधिकारियों से करेंगे मुलाकात

रायपुर:-नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक 5 अक्टूबर को बस्तर जाएंगे। निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक 5 अक्टूबर की सुबह सड़क मार्ग से 7.30 बजे रायपुर निवास से जगदलपुर के लिये रवाना होंगे। जगदलपुर पहुंचकर में पार्टी कार्यकर्ता व पदाधिकारियों से मुलाकात के बाद 4.30 को रायपुर रवाना होंगे। नेता प्रतिपक्ष कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों से मुलाकात कर बैठक में शामिल होंगे।

NSUI द्वारा रायपुर के जयस्तंभ चौक में विकास उपाध्याय व आकाश शर्मा के नेतृत्व में राहुल गांधी एवं प्रियंका गांधी पर लाठीचार्ज को लेकर विरोध दर्ज कर आसमान में काले गुब्बारे छोड़े

रायपुर:-एन एस यु आई कार्यकर्ताओं द्वारा जमकर यूपी पुलिस और उत्तर प्रदेश प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की साथी साथ संसदीय सचिव विकास उपाध्याय द्वारा कार्यकर्ताओं के साथ जमकर नारेबाजी की और जिस प्रकार यूपी में पुलिस प्रशासन द्वारा कांग्रेस के नेताओं पर अत्याचार किया जा रहा है उसको लेकर अपना विरोध दर्ज कराया।

संसदीय सचिव विकास उपाध्याय ने कहा की गांधी परिवार आजादी के समय से ही देश को आजाद कराने से लेकर समय-समय पर इस देश के लिए अपना बलिदान दिया है और उसी परिवार के 2 सदस्य द्वारा जब पीड़िता के घर जाकर उनका हालचाल पूछने जा रहे थे तो पुलिस द्वारा अभद्र व्यवहार किया गया यह घटना बेहद शर्मनाक है इसी के साथ आज एनएसयूआई के द्वारा विरोध प्रदर्शन कार्यक्रम किया गया इसमें मेन के साथ आज खड़ा हूं।

प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा कहां की कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी पर पुरुष पुलिस कर्मी द्वारा उनके कपड़े को खींचतान किया जा रहा था और उनके साथ धक्का-मुक्की जा रही थी यह घटना बहुत ही ज्यादा निंदनीय है इसी को लेकर आज हमने पूरे प्रदेश में काले गुब्बारे छोड़कर अपना विरोध दर्ज कराया और उत्तर प्रदेश पुलिस और प्रशासन से ही मांग है कि महिलाओं के साथ अत्याचार बंद हो।

इस कार्यक्रम में संसदीय सचिव विकास उपाध्याय प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा प्रदेश उपाध्यक्ष भावेश शुक्ला प्रदेश महासचिव प्रतीक सिंह जिला अध्यक्ष रायपुर अमित शर्मा प्रदेश सचिव हनी बग्गा, जनपद उपाध्यक्ष योगेश साहू शान सैफी, चेयरमैन तुषार गुहा, प्रवक्ता सौरव सोनकर जिला अध्यक्ष धमतरी राजा देवांगन जिला कार्यकारिणी अध्यक्ष विनोद कश्यप, अजय साहू महासचिव संकल्प मिश्रा, निखिल बंजारी, सचिव विकास दुबे, अभिनव शर्मा, मेहताब हुसैन, विधानसभा अध्यक्ष देव सेन आदि।

शबरी सेतु महानदी पुल पर हुए दर्दनाक हादसे में स्कुटी सवार मां बेटी ट्रेलर के चपेट मे आने से युवती की मौत वही मां की अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते मे तोडा दम

मदन खांडेकर

गिधौरी/लाकडाउन खुलते ही गिधौरी शिवरीनारायण तथा बलौदाबाजार मार्ग पर भारी वाहनो के चलते हो रहे भयंकर ट्राफिक जाम और गिधौरी शिवरीनारायण पुल पर दोनो तरफ होता है. जाम की स्थिति ।जिससॆ गिधौरी शिवरीनारायण शबरी सेतु पर भारी वाहनो का आना जाना तथा पुल पर बडेबडे गड्ढे हो जाने से स्कुटी सवार मां और बेटी की स्कुटी की की बैलेंस बिगडऩे से ट्रेलर ट्रक के चपेट मे आ जाने से बेटी की घटना स्थल ही मौत हो गई तथा और मां गम्भीर रुप से घायल हो गया था जिसमे मां की स्थिति भी बहुत गम्भीर थे हैंऔर कसडोल अस्पताल ले जाते समय मां की भी हुई मौत हो गई ।मिली जानकारी के अनुसार जिला बलौदाबाजार के बिलाईगढ़ टिकरीपारा वार्ड05 निवासी कु. नंदनी राकेश पिता गोपाल राकेश 27वर्ष एवं उनकी महिला मां रामबाई राकेश पति गोपाल राकेश 50वर्ष पर स्कुटी क्र .सीजी 11,ए एम 7024 पर दोनो मां बेटी ने शिवरीनारायण किसी काम से आया हुआ था तथा स्कुटी पर सैलेंडर रखा हुआ थे वापस अपने गांव बिलाईगढ़ जा रहे थे की गिधौरी शिवरीनारायण महानदी शबरी सेतु पुल पर गिधौरी थाना अंतर्गत बलौदाबाजार से शिवरीनारायण तरफ जा रहे ट्रेलर ट्रक क्र. सीजी 04एम ई 0627 घटना करीबन 11बजे के आसपास महानदी शबरी सेतु पुल ट्रेलर ट्रक ने स्कुटी को अपने चपेट मे लिया ।जिससे स्कुटी मे सवार मा, बेटी की दर्दनाक घटना से युवती की सिर पर पर चक्का चढ जाने से घटना स्थल पर ही मौत हो गई और मां गम्भीर रुप से घायल हो गई जिसे कसडोल अस्पताल ले जाते मां रामबाई पति गोपाल की मौत हो गई । रामबाई की कमर पर ट्रेलर चढ गया था । स्कुटी को खरोंच तक नही आई ।इधर ट्रेलर को चालक भगाकर ले जा रहे थे जिसे शिवरीनारायण पुलिस पकड लिया और गिधौरी पुलिस को सुपुर्द किया गया ट्रेलर और चालक गिधौरी थाना मे रखा है। ट्रेलर चालक सकीम अंसारी पिता मोहम्मद नसीम अंसारी 35वर्ष ग्राम मितगई रामानुज गंज जिला बलरामपुर निवासी ट्रेलर चला रहे थे है .गिधौरी पुलिस मामले जांच मे जुटे हुये है ।

स्कूटी सवार मां बेटी ट्रेलर की चपेट में आने से बेटी की मौत माँ घायल भेजा गया अस्पताल

गिधौरी:-शिवरीनारायण को जोड़ने वाली शबरी सेतु में आज सुबह एक ट्रेलर ने स्कूटी सवार माँ बेटी को अपनी चपेट में ले लिया, जिससे स्कूटी सवार युवती की घटना स्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गयी, जबकि मां की हालत गंभीर बताई जा रही है। वही ट्रेलर ड्राइवर को शिवरीनारायण पुलिस ने पकड़ लिया है पूरा मामला गिधौरी थाना क्षेत्र का है, वही शिवरीनारायण और गिधौरी पूरे मामले में जाँच कर रही है। वही आरोपी ड्राइवर घटना को अंजाम देने के बाद गाड़ी लेकर भाग रहा था जिसे शिवरीनारायण पुलिस ने पकड़ा उसके बाद उसे गिधौरी पुलिस को सुपुर्द वही अभी ट्रेलर शिवरीनारायण थाना में ही खड़ी है आरोपी ड्राइवर से पुलिस अभी पूछताछ कर रही है।

गिधौरी थाना प्रभारी ने बताया कि मां बेटी शिवरीनारायण से गैस सिलेंडर व घरेलू सामान लेकर गिधौरी की ओर आ रहे थे तभी वो ट्रेलर के चपेट में आ गए जिससे स्कूटी चला रही युवती की मौके पर ही मौत हो गयी वही माँ गंभीर रूप से घायल है जिसे तत्काल कसडोल हॉस्पिटल भेजा गया वही दोनों माँ बेटी तेलीपारा बिलाईगढ़ के रहने वाले है बताया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ में मिले 2610 कोरोना मरीज व 2416 स्वस्थ, आज 15 और पूर्व में हुई 14 मौत

रायपुर:-छत्तीसगढ़ में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों के बीच राहत की जानकारी लगातार मिल रही है। प्रदेश में स्वस्थ होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ी है। खासकर होमआइसोलेशन में बड़ी संख्या में मरीज स्वस्थ हो रहे हैं, लेकिन मौत के आंकड़े चिंता का विषय है। स्वास्थ्य विभाग ने रात 8 बजे की स्थिति में मेडिकल बुलेटिन जारी की है। प्रदेश में शनिवार को 2610 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है। 2416 मरीज स्वस्थ हुए हैं। इनमें 505 मरीज अस्पताल से डिस्चार्ज किए गए हैं और 1911 मरीजों को होमआइसोलेशन कम्पलीट करने पर डिस्चार्ज किया गया है। 15 मरीजों की मौत हुई है। इनमें 6 कोविड कैटेगरी की और 9 अन्य गंभीर बीमारियों से भी ग्रसित संक्रमित मरीज की हुई है। बताया गया है कि पूर्व में हुई 14 मौत की जानकारी विभाग को विलंब से आज मिली है। इनमें 6 कोविड कैटेगरी व 8 को-मॉर्बिडिटी की है। ये रायपुर, रायगढ़ और दुर्ग जिले के चिकित्सा संस्थानों से संबंधित है। इन मौत को कुल मौत की संख्या में शामिल किया गया है।

संचालक मछली पालन छत्तीसगढ़ ने राज्य के मत्स्य पालक कृषकों से मछली पालन के नाम पर होने वाली ठगी से सावधान रहने की अपील

रायपुर:-संचालक मछली पालन छत्तीसगढ़ ने राज्य के मत्स्य पालक कृषकों से मछली पालन के नाम पर होने वाली ठगी से सावधान रहने की अपील की है। संचालक मछली पालन ने कहा है कि प्रदेश में कुछ अशासकीय संस्थाओं और फर्मों की ओर से मत्स्य कृषकों की भूमि पर तालाब निर्माण करवाकर मछली पालन का व्यवसाय करने के संबंध में प्रलोभन दिए जाने की शिकायत विभाग को मिली है। इन संस्थाओं की ओर से मत्स्य कृषकों से एक बड़ी राशि लेकर उनकी भूमि पर मत्स्य पालन का व्यवसाय करने और उन्हें एक निश्चित मासिक आय का भी लालच दिया जा रहा है। कांट्रेक्ट फार्मिंग या राशि दोगुना करने का प्रस्ताव अशासकीय संस्थाओं और फर्मों की ओर से कृषकों को दिया जा रहा है। संचालक मछली पालन ने कहा है कि छत्तीसगढ़ शासन के मछली पालन विभाग अथवा छत्तीसगढ़ शासन की ओर से ऐसी किसी भी योजना को प्रमाणित नहीं किया गया है। मत्स्य कृषकों से अपील की गई है कि इस तरह के प्रलोभन से बचें। अशासकीय संस्थाओं/फर्मों की किसी भी योजना में स्वयं विचार कर, वैधानिक एवं आर्थिक पक्षों को भली-भांति समझ-बूझ कर ही राशि का निवेश करें अन्यथा शासन या मछली पालन विभाग इसके लिए किसी भी तरह से जिम्मेदार नहीं होगा।

पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी 7 अक्टूबर को पुलिस अधिकारियों से करेंगे बातचीत

रायपुर:-पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने स्पंदन कार्यक्रम के अंतर्गत स्पेशल इंटरेक्शन प्रोग्राम के तहत वीडियो कॉल के माध्यम से आरक्षक से लेकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारियों से पुलिसिंग के संबंध में संवाद करने का निर्णय लिया है। इसके तहत पहला संवाद कार्यक्रम 7 अक्टूबर को रखा गया है। इसमें उप पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारियों से चर्चा की जाएगी। इसके पश्चात् अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, निरीक्षक, उप निरीक्षक, सहायक उप निरीक्षक, प्रधान आरक्षक एवं आरक्षक स्तर के अधिकारी-कर्मचारियों से पृथक-पृथक सप्ताहवार चर्चा की जायेगी। उक्त चर्चा के लिए तिथि एवं समय पृथक से निर्धारित किया जाएगा। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य छत्तीसगढ़ पुलिस के समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों से चर्चा कर पुलिसिंग को और अधिक बेहतर बनाना है, जिससे आम जनता को पुलिसिंग के माध्यम से और बेहतर सेवा मिल सके।

बलरामपुर गैंगरेप को छोटी-मोटी घटना बताकर डहरिया ने हैवानियत और दरिंदगी को हल्के में लिया : विष्णुदेव साय

रायपुर:-भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने प्रदेश के श्रममंत्री शिव डहरिया के कथन को प्रदेश की बेटियों के प्रति कलंकपूर्ण मानसिकता का परिचायक बताया है। साय ने कहा है कि मंत्री डहरिया ने सरगुजा संभाग के बलरामपुर में एक नाबालिग बच्ची के साथ हुए गैंगरेप को छोटी-मोटी घटना बताकर हैवानियत और दरिंदगी को हल्के में लिया है। इस शर्मनाक कथन के लिए मंत्री डहरिया प्रदेश की मातृ-शक्ति से निशर्त क्षमायाचना करें। राहुल गांधी व प्रियंका वाड्रा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को मंत्री पद से डहरिया को तत्काल बर्खास्त करने कहें।साय ने कहा है कि हाथरस मामले में राहुल गांधी व प्रियंका वाड्रा राजनीतिक ड्रामा कर रहे हैं। छत्तीसगढ़ में दुष्कर्म के मामलों पर कुछ कहने के बजाए भाई-बहन मुंह बंद कर बैठे हैं। बेटी तो बेटी होती है, चाहे वह हाथरस की हो या छत्तीसगढ़ की। फिर कांग्रेस क्यों दुष्कर्म मामलों में दोहरे राजनीतिक चरित्र का प्रदर्शन कर रही है? बार-बार हाथरस जाकर सियासी नौटंकी रचने पर आमादा राहुल-प्रियंका के एजेंडे में छत्तीसगढ़ के पीड़ित-परिवारों से मिलना क्या इसीलिए शामिल नहीं है, क्योंकि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार है।

साय ने छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के बगीचा थाना क्षेत्र में एक 63 वर्षीय वृद्ध महिला के साथ हुए सामूहिक अनाचार मामले का जिक्र किया है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश सरकार के नाकारापन के कारण राज्य में नाबालिग बेटियों से लेकर वृद्ध महिलाओं तक की अस्मत और जान सांसत में है। साय ने राहुल-प्रियंका को छत्तीसगढ़ आकर पीड़ित परिवारों से मिलने और इंसाफ दिलाने की पहल करने को कहा है और यह प्रस्ताव रखा है कि उनके आने-जाने का खर्च वहन करने को भाजपा तैयार है। छत्तीसगढ़ में पिछले एक सप्ताह में घटी दुष्कर्म की घटनाओं पर संजीदा होने के बजाए मंत्री डहरिया ने अपनी संवेदनहीनता का प्रदर्शन किया है। समूचा प्रदेश महिलाओं की अस्मत और जान से हो रहे घिनौने खिलवाड़ से क्षुब्ध है। प्रदेश सरकार और कांग्रेस के लोग राजनीतिक पाखंड रचते हुए जरा भी शर्म महसूस नहीं कर रहे हैं।

सहायक प्राध्यापक परीक्षा 5 नवम्बर से 8 नवम्बर तक,1384 पदों पर होनी है भर्ती, परीक्षा की तिथि 5 नवम्बर से 8 नवम्बर तक नियत की गई है

रायपुर:-छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग द्वारा विज्ञापित उच्च शिक्षा विभाग में सहायक प्राध्यापक के रिक्त 1384 पदों की पूर्ति के लिए लिखित परीक्षा की तिथि 5 नवम्बर से 8 नवम्बर तक नियत की गई है। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग के सचिव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि इस परीक्षा की समय-सारणी पृथक से जारी की जाएगी।

छत्तीसगढ़ के 10 जिलों में 5.56 प्रतिशत लोगों में पाई गईं एंटीबॉडीज,आईसीएमआर ने जारी की रिपोर्ट

रायपुर:-आईसीएमआर ने छत्तीसगढ़ के 10 जिलों में हुए सीरो सर्विलेंस की रिपोर्ट जारी की है। सर्विलेंस में प्रदेश के 5.56 प्रतिशत लोगों के शरीर में कोरोना संक्रमण के विरुद्ध लड़ने वाले एंटीबॉडीज की मौजूदगी पाई गई है। आईसीएमआर की टीम ने सीरो सर्विलेंस के लिए दस जिलों से कुल 5083 सैंपल संकलित किए गए थे। इनमें से 283 सैंपलों में एंटीबॉडीज मिली हैं। इनमें आम लोगों के 97 और उच्च जोखिम समूह के 186 सैंपल शामिल हैं।सीरो सर्विलेंस के लिए हर जिले से आम नागरिकों के औसतन 240 और उच्च जोखिम वर्गों से 260 सैंपल लिए गए थे। आईसीएमआर, नई दिल्ली और आरएमआरसी , भुवनेश्वर की ओर से राज्य शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अंतर्गत राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के सहयोग से दस जिलों के 20 विकासखंडों के 60 क्लस्टर्स में सीरो सर्विलेंस के लिए सैंपल संकलित किए गए थे। सर्विलेंस के लिए शहरी और ग्रामीण दोनों इलाकों से सैंपल लिए गए थे। सीरो सर्विलेंस की रिपोर्ट के अनुसार रायपुर जिले के 13.06 प्रतिशत, राजनांदगांव के 3.75 प्रतिशत, दुर्ग के 8.61 प्रतिशत, बिलासपुर के 7.2 प्रतिशत, जशपुर के 1.51 प्रतिशत, बलौदाबाजार-भाटापारा के 5.57 प्रतिशत, बलरामपुर-रामानुजगंज के 1.74 प्रतिशत, कोरबा के 2.79 प्रतिशत, जांजगीर-चांपा के 8.2 प्रतिशत और मुंगेली के 3.64 प्रतिशत लोगों के शरीर में एंटीबॉडीज पाई गई हैं।

सीरो सर्विलेंस के दौरान रायपुर जिले के दो विकासखंडों के तीन-तीन क्लस्टर्स में संकलित कुल 505 सैंपलों में से 66 पॉजिटिव पाए गए हैं। तिल्दा विकासखंड से लिए गए 158 सैंपलों में से 13 और धरसींवा (रायपुर) विकासखंड से संकलित 347 सैंपलों में से 53 एंटीबॉडी पॉजिटिव पाए गए हैं। राजनांदगांव जिले से लिए गए 506 सैंपलों में से 19 पॉजिटिव हैं। राजनांदगांव विकासखंड से संकलित 321 में से 15 तथा डोंगरगढ़ विकासखंड के 185 सैंपलों में से चार पॉजिटिव पाए गए हैं। दुर्ग जिले में लिए गए 499 सैंपलों में से 43 में एंडीबॉडीज की मौजूदगी पाई गई है। दुर्ग विकासखंड में संकलित 248 सैंपलों में से 25 तथा पाटन विकासखंड के 251 सैंपलों में से 18 पॉजिटिव पाए गए हैं।अविभाजित बिलासपुर जिले के 500 सैंपलों में से 36 में एंडीबॉडीज मिले हैं। बिल्हा (बिलासपुर) विकासखंड के 282 में से 28 और पेंड्रा विकासखंड के 218 में से आठ सैंपल पॉजिटिव हैं। जशपुर जिले के 524 सैंपलों में से आठ पॉजिटिव पाए गए हैं। वहां जशपुर विकासखंड से संकलित 333 में से पांच में और फरसाबहार विकासखंड के 191 में से चार सैंपलों में एंटीबॉडीज मिले हैं।

बलौदाबाजार-भाटापारा जिले में लिए गए 502 सैंपलों में से 28 एंटीबॉडी पॉजिटिव हैं। भाटापारा विकासखंड के 196 सैंपलों में से छह एवं बलौदाबाजार विकासखंड के 306 सैंपलों में से 22 पॉजिटिव पाए गए हैं। बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के 515 सैंपलों में से नौ पॉजिटिव मिले हैं। बलरामपुर विकासखंड के 334 सैंपलों में से पांच तथा रामचंद्रपुर के 181 में से चार में एंटीबॉडीज मिले हैं।सीरो सर्विलेंस के लिए कोरबा जिले से संकलित 537 सैंपलों में से 15 पॉजिटिव पाए गए हैं। कोरबा विकासखंड के 373 में से 11 और कटघोरा विकासखंड के 164 में से चार सैंपल पॉजिटिव हैं। जांजगीर-चांपा जिले के 500 सैंपलों में से 41 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। नवागढ़ (जांजगीर) विकासखंड के 171 में से 16 एवं बम्हनीडीह (चांपा) विकासखंड के 329 में से 25 सैंपलों में एंटीबॉडीज मिली हैं। सर्विलेंस के लिए मुंगेली जिले से लिए गए 495 सैंपलों में से 18 एंटीबॉडी पॉजिटिव हैं। वहां पथरिया विकासखंड के 206 में से तीन तथा मुंगेली विकासखंड के 289 में से 15 सैंपलों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

धारधार हथियार हँसिया एवं लाठी लेकर घर मे घुसकर महिला के साथ मारपीट करने वाले सभी आरोपियों के खिलाफ पीड़िता ने पुलिस से की शिकायत

मदन खांडेकर

गिधौरी--पुलिस चौकी लवन अंतर्गत ग्राम पंचायत तिल्दा में शनिवार 3 अक्टूबर 2020 को पीड़िता श्रीमती माधुरी कैवर्त पति लक्ष्मण कैवर्त के घर सुबह 6-7 बजे के बीच आरोपी संतोष कैवर्त, आजु कैवर्त, राजू कैवर्त, ओमप्रकाश कैवर्त, जगबाई कैवर्त, दिलबाई कैवर्त, कुंदिया बाई कैवर्त एवं संतोष कैवर्त की बहू इन सभी पर पीड़िता ने आरोप लगाया है कि डंडे एवं धारधार हथियार हँसिया से लैस होकर पीड़िता के घर घुसकर अश्लील गाली गलौज करते जान सहित मारने की धमकी देते हुए बहुत मारपीट किये हैं।जिसके चलते पीड़िता माधुरी कैवर्त को शरीर के कुछ हिस्सों में छोटे आयी है।जिसका पुलिस चौकी लवन के द्वारा मुलाहिजा भी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लवन में कराए गए हैं।घटना के संबंध में पीड़िता ने मीडिया को बताया कि उनके पति लक्ष्मण कैवर्त के साथ गांव का ही आरोपी संतोष पिता विदेश कैवर्त ने मारपीट किये थे जिसकी शिकायत मेरे पति ने आरोपी के विरुद्ध पुलिस चौकी लवन में विगत किये हैं ।जिसको लेकर आरोपी पक्ष मेरे पति को केस वापस लेने की धमकी देते थे गांव में कोरोना कॉल के समय भी मेरे पति सामाजिक बैठक में दबाव पूर्वक केस वापस लेने की धमकी दिये थे।जब मेरे पति ने आरोपी के खिलाफ केस वापस नहीं लिए तो उसी बात को लेकर आरोपी पक्ष से उक्त सभी लोग डंडे एवं हँसिया लेकर घर में घुसकर गंदी गन्दी गालियां देकर मारपीट किये और जान सहित मारकर फेंक देने की बात पीड़िता से किये।पीड़िता ने इसकी शिकायत घटना दिनाँक को ही पुलिस चौकी लवन पहुँचकर आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराए हैं।पीड़िता ने यह भी बताया कि पुलिस चौकी लवन से कार्रवाई का उम्मीद है । सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार आरोपी पक्ष आए दिन किसी के घर मे घुसकर मारपीट करने से बाज नहीं आने की खबर हैं।आरोपी पक्ष आए दिन कानून हाथ मे लेकर काम करने की सूचना मीडिया को मिला है।इस संबंध में पुलिस चौकी प्रभारी पुरुषोत्तम कुर्रे ने बताया कि कानून तोड़ने वाले चाहे जो कोई भी हो कार्रवाई एवं गिरफ्तारी होगी।वंही इस घटना को लेकर प्रेस क्लब यूनियन लवन का वर्तमान अध्यक्ष योगेश सिंघम ने कड़ी निंदा किये हैं।कुछ लोगों ने नाम नहीं छापने के शर्त पर बताया कि गांव में अपराधियों के हौसले बुलंद हैं।अपराधियों को कानून का खौफ नहीं है।और नहीं अपराधियों पर कोई ठोस कार्रवाई हो रहा है।इसी करण आरोपियों के हौसले दिनों दिन बढ़ रहा।

यदि आप यातायात नियमों का पालन करेंगे तो रायपुर पुलिस करेगी सम्मान, इस माह 15 चालक बने ट्रैफिक मितान

रायपुर:-राजधानी में यातायात नियमों का पालन करने वाले वाहन चलाकों को सम्मानित किया जाएगा। अनुशासित चालकों को सम्मानित किए जाने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव के निर्देशानुसार 2 अक्टूबर को गांधी जयंती पर ट्रैफिक मितान कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यालय अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात रायपुर के कॉंफ्रेंस हॉल में हुए कार्यक्रम में एसएसपी अजय यादव उपस्थित थे। साथ ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात एमआर मंडावी, पुलिस अधीक्षक यातायात कामता सिंह दीवान, सदानंद सिंह, विंध्य राज, सतीश ठाकुर और उप पुलिस अधीक्षक लाइन मणिशंकर चंद्रा व सुरक्षित भव फाऊंडेशन के सदस्य उपस्थित थे। कार्यक्रम का प्रमुख उद्देश्य यातायात नियमों का पालन कर वाहन चलाने वाले चालकों को सम्मानित किया जाना है।

इसकी शुरुआत 2 अक्टूबर गांधी जयंती के उपलक्ष में हुई। यातायात नियमों का पालन कर वाहन चलाने वाले 15 चालकों को पुरस्कृत कर ट्रैफिक मितान बनाया गया। यह ट्रैफिक मितान यातायात पुलिस के सूत्रधार होंगे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने नागरिकों से अपील की है कि वाहन चलाने के दौरान हमेशा यातायात नियमों का पालन करें। अपने घर परिवार के लोगों को भी नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित कर समाज में एक जिम्मेदार नागरिक होने का कर्तव्य निभाएं।स्मार्ट सिटी रायपुर में स्मार्ट ट्रैफिक बनाने के उद्देश्य से आईटीएमएस सिस्टम के तहत कैमरे लगाए गए हैं। इन कैमरों के माध्यम से अनुशासित तरीके से यातायात नियमों का पालन करते हुए वाहन चलाने वाले चालकों को चयन किया जाएगा। उन्हें यातायात मितान बनाते हुए प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। ट्रैफिक मितान का प्रमाण पत्र अनुशासित तरीके से वाहन चलाने वाले वाहन चालकों को उनके घर के पते पर जाकर ट्रैफिक पुलिस देगी।

ट्रैफिक मितान यातायात नियमों के प्रति आम लोगों को जागरूक भी करेंगे। यातायात पुलिस के साथ मिलकर यातायात व्यवस्था को सरल ,सुगम ,एवं सुव्यवस्थित ,बनाने में रायपुर यातायात पुलिस की मदद करेंगे। रायपुर पुलिस ट्रैफिक मितान माह अक्टूबर के तहत प्रवीण कुमार यादव पेंशन बाड़ा, हरी राम निषाद,सुरेश सिंह बिरगांव, बीएल अग्रवाल शंकर नगर, विजय शंकर चौबे देवेंद्र नगर, सुरेश तिवारी बोरियाखुर्द,हर्षलाल जयसवाल, मुकेश विश्वकर्मा भनपुरी, हरीश कुमार दवे उरला, आकाश जैन प्रोफेसर कॉलोनी, माकन साहू पचपेड़ी नाका, सुनीता संचोरीया छत्तीसगढ़ नगर, पल्लवी यादव, सुभ्रा ठाकुर और सुरक्षित भव फाउंडेशन के चेयरमैन संदीप धूपर को रायपुर पुलिस ट्रैफिक मितान के सम्मान से सम्मानित कर प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।

राहौद में ऐसा क्या हुआ कि डॉक्टर के शव के साथ उसके परिजन और ग्रामीणों ने किया रोड पर बैठकर प्रदर्शन

जांजगीर चाँपा:-जिले के पामगढ़ ब्लॉक अंतर्गत राहौद निवासी मेडिकल छात्र डॉ. भागवत देवांगन ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस मेडिकल अस्पताल जबलपुर में बुधवार को खुदकुशी कर ली। शव को जबलपुर से जिला लाया गया, जहां डॉ. भागवत के मृत शरीर को सड़क पर रख प्रदर्शन किया गया।

परिजनों ने आरोप लगाया है कि मेडिकल कॉलेज में कुछ सीनियर छात्र भागवत को रैगिंग के नाम पर काफी टॉर्चर कर रहे थे। इससे वह मानसिक रूप से परेशान था और इसे लेकर पहले भी सुसाइड करने जैसा कदम उठा चुका था। कॉलेज प्रबंधन द्वारा इस समस्या पर ध्यान न देने और लगातार रैगिंग किए जाने से भागवत ने खुदकुशी करने जैसा कदम उठाया है।

परिजनों की शिकायत पर मध्यप्रदेश पुलिस द्वारा ध्यान नही देने पर उन्होंने शिवरीनारायण थाने में मामले की लिखित शिकायत कर अपनी मांगों को लेकर आज चक्काजाम किया। पामगढ़ तहसीलदार ने मौके पर पहुंचकर परिजनों को मामले में कार्यवाही का आश्वासन दिया। इसके बाद परिजनों ने महामहीम राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर धरने को समाप्त किया। परिजनों का कहना है कि यदि उन्हें जल्द न्याय नहीं मिलता तो वह फिर से मामले को लेकर धरना प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे।

डॉ. भागवत देवांगन द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या करने के मामले में भागवत के भाई ने रैगिंग करने वाले सीनियर छात्र विकाश दिवेदी, सलमान खान, अमन गौतम, सुभम शिंदे, अभिषेक गेमे अदि छात्रों का नाम लिया है। आरोप है कि इन सभी छात्रों ने भागवत देवांगन की रैगिंग लेकर मानसिक एवं शारीरिक रूप से प्रताड़ित कर उसे आत्महत्या करने के लिए मजबूर किया।