राजनीति

भाजपा किसान हित में आंदोलन करें यह अच्छी बात है - कांग्रेस

छत्तीसगढ़ के किसानों के धान से बना 32 लाख टन चांवल सेन्ट्रल पूल में खरीदने की मांग केन्द्र सरकार से भी करें भाजपा

मोदी के 1815 रू. और भूपेश बघेल के 2500 रू. का अंतर समझते है छत्तीसगढ़ के किसान

रायपुर/14 नवंबर 2019। भाजपा द्वारा किसान हित में आंदोलन की घोषणा पर कांग्रेस ने कहा है कि राज्य की सरकार तो 2500 रू. में खरीदी कर ही रही है। भाजपा को आंदोलन करना है तो अपने मांग पत्र में केन्द्र सरकार से मांग करें कि छत्तीसगढ़ के किसानों के धान से बना चांवल सेन्ट्रल पूल में खरीदा जाये। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने भाजपा नेताओं से आव्हान किया है कि किसानों की समस्याओं के लिये आंदोलन राज्य में भी करें और हमारे साथ दिल्ली भी चलें। समस्या तो दिल्ली सरकार ने पैदा की है।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा किसान हित में आंदोलन करें यह अच्छी बात है। छत्तीसगढ़ के किसिनों के धान से बना 32 लाख टन चांवल सेन्ट्रल पूल में खरीदने की मांग भाजपा केन्द्र सरकार से भी करें। छत्तीसगढ़ की धरती पर बने एफसीआई के गोदामों में छत्तीसगढ़ की माटी से उपजे धान से बना चावल नहीं रखा जाएगा तो और क्या रखा जाएगा। पूरे देश में चावल केंद्र सरकार 32 रू. 50 पैसे प्रति किलो की दर पर लेती है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा 1815 रू. की जगह 2500 रू. देने के कारण न तो किसी भी प्रकार की अतिरिक्त राशि की मांग केंद्र सरकार से की गई है और न ही की जाएगी। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इस वर्ष 32 लाख टन चावल की खरीदी हेतु केंद्र सरकार से आग्रह किया गया।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि किसानो से धोखाधड़ी कांग्रेस का नहीं भाजपा का चरित्र है। भाजपा जब सरकार में थी तब तो भाजपा ने वायदा कर के किसानों को धोखाधड़ी के अलावा और कुछ भी नहीं दिया। रमन सिंह जी ने कहा था कि 5 हॉर्स पावर पंपों की मुफ्त बिजली दी जाएगी। रमन सिंह जी ने कहा था कि एक-एक दाना किसान की धान की खरीद होगी। रमन सिंह जी ने कहा था कि 2100 रु. का धान का समर्थन मूल्य देंगे और 300 रू. बोनस 5 साल तक देंगे। एक भी वादा न पूरा करने वाले रमन सिंह जी और भाजपा को एक-एक वादा पूरा करने वाली कांग्रेस सरकार के मुखिया भूपेश बघेल पर झूठे और निराधार आरोप लगाने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि छत्तीसगढ़ के किसान मोदी के 1815 रू. और भूपेश बघेल के 2500 रू. का अंतर समझते है । भाजपा नेताओं को याद दिलाते है कि भूपेश बघेल की सरकार में इन पंजीकृत किसानों की संख्या 16.5 लाख से बढ़कर 19 लाख होने के बावजूद किसानों के पंजीकरण की तिथी को मंत्रीमंडल की बैठक में फैसला लेकर 7 दिनों के लिये और बढ़ाया गया है। यह भूपेश बघेल सरकार के किसानों के प्रति समर्पण का जीता-जागता सबूत है।

अकलतरा क्षेत्र के पूर्व विधायक चुन्नीलाल साहू किए गए प्राभारी नियुक्त

कोटमी सोनार। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा नगरीय निकाय चुनाव को लेकर प्राभारी नियुक्त किया गया है। कोरिया जिले के चिरमिरी नगर निगम के लिए अकलतरा विधान सभा के पूर्व विधायक श्री चुन्नीलाल साहू जी को प्राभारी नियुक्त किया गया है ।अकलतरा क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकताओ में ख़ुशी की लहर है ।

सरकार को जल्द से जल्द करना चाहिए शिक्षाकर्मियों का संविलियन - विधायक शिवरतन शर्मा

प्रदेश में शिक्षाकर्मी अपने संविलियन की मांग को लेकर संविलियन अधिकार मंच के बैनर तले प्रदेश संयोजक विवेक दुबे की अगुवाई में और जिला अध्यक्षों के नेतृत्व में सभी 90 विधानसभा के विधायकों को ज्ञापन सौंपकर अपनी संविलियन की गुहार लगा रहे हैं इसी कड़ी में संविलियन अधिकार मंच के प्रतिनिधि मंडल ने बलौदा बाजार- भाटापारा विधानसभा क्षेत्र के विधायक शिवरतन शर्मा से मुलाकात की और उन से निवेदन किया की क्षेत्र के जनप्रतिनिधि होने के नाते संविलियन की मांग को लेकर आप भी आवाज उठाएं । शिक्षाकर्मियों ने विधायक शिवरतन शर्मा को बताया कि 8 वर्ष की सेवा बंधन पूर्ववर्ती सरकार द्वारा लागू किए जाने के चलते वह सभी संविलियन से वंचित हो गए हैं और अब उन्हें न तो समय पर वेतन मिलता है, न ही 3 साल से महंगाई भत्ता मिला है और न ही उनके लिए कोई स्थानांतरण नीति बनाई गई , ऐसे में उनका संविलियन ही एकमात्र रास्ता है जिससे यह पूरी व्यवस्था सुधर सकती है और यह कांग्रेस पार्टी के जनघोषणा पत्र में भी शामिल है । विधानसभा के सदस्य होने के नाते आप भी इसके लिए प्रदेश के मुखिया से निवेदन करें ताकि हमें जल्द से जल्द अपना हक मिल सके । विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि मैं आप लोगों के लिए आवाज जरूर उठाऊंगा और सरकार से इस विषय में बात भी करूंगा ताकि शिक्षाकर्मी परंपरा ही हमेशा के लिए समाप्त हो जाए और नई भर्ती के पूर्व आप सब का संविलियन हो जाए इसके लिए उन्होंने अनुशंसा पत्र भी लिखा है । विधायक शिवरतन शर्मा को ज्ञापन सौंपने वालों में संविलियन अधिकार मंच के सदस्य अभय कुमार पांडे, हर प्रसाद कश्यप, दयाराम साहू,सुरेन्द्र बंजारे,नागेश्वर ध्रुव,जितेंद्र देवांगन, तिलक राम साहू, कोमल प्रसाद देवांगन, प्रियतम भारद्वाज, दुर्योधन साव,प्रवीण शर्मा, शशिभूषण पटेल, जगदीश प्रसाद साहू, देवेंद्र कुमार डडसेना शामिल थे ।

भाजपा पहले जवाब दे कि वह 2500 रू. में धान खरीदी के खिलाफ क्यों?

रायपुर/12 नवंबर 2019। राजीव भवन में आज पत्रकारों से चर्चा करते हुये कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ने कहा है कि भाजपा के पास न कोई कहने के लिये मुद्दा है न घेरने का मुद्दा है अगर वो हमसे जवाब चाहेंगे तो इतना तो जरूर बतायेंगे किसानों को 5 साल 270 रू. देने की घोषणा किया था लेकिन उन्होंने धोखा क्यों दिया विधानसभा में इतना उत्तर तो जरूर दे देना की 300 रू. प्रति वर्ष प्रति क्विंटल बोनस देने का वायदा उन्होंने किया था किसानों के साथ धोखा क्यों किया? इतना तो उत्तर तो वो देंगे न केन्द्र में उनकी सरकार बनने के पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था स्वामीनाथन की रिपोर्ट लागू करेंगे इसे लागू क्यों नहीं किया गया इसका उत्तर भी उत्तर देंगे सभी अनाजो मिनिमम सपोट प्राईज डेढ़ गुना करने का वादा किया था तो उसको क्यों नहीं किया? देश में मोदी की सरकार बनने के बाद की उन्होंने के कहा था फेटेलाईजर साइड इनपुट जो होता है आधा कर देंगे कम कर देंगे मंहगाई कम कर देंगे इसको आपने नहीं कर पाया। इन सारे प्रश्न में ज्वलन प्रश्न है जिसका उत्तर उनको पहले देना है तब तो हम प्रश्न करेंगे और हमसे प्रश्न यहीं करेंगे न 2500 रू. प्रति क्विंटल आप अपने संसाधनों से दे रहे हो के मोदी जी प्रधानमंत्री के सपोट से दे रहे हो और इसको तो हम सार्वजनिक कह रहे है। हमारे मुख्यमंत्री ने कहा है कि छत्तीसगढ़  के किसानों को पिछले साल भी हम छत्तीसगढ़ की राज्य के बजट से दिये थे और इस साल भी हम छत्तीसगढ़ की राज्य की बजट से देंगे। पिछले साल 80 लाख मेट्रिक टन धान खरीदी की थी इस बार 85 लाख मेट्रिक टन से अधिक धान खरीदेंगे ये हमारा वादा है सरकार का वादा है।  शिकायत लेने के बाद शिकायत भी लोग करते है लेकिन कुछ सुझाव भी आते है कुछ कार्यक्रम की नयी रूपरेखा तैयार की जाती है। जनमानस से लगातार संवाद होगा, संपर्क होगा, कुछ अच्छे सुझाव आ जाते है जिसको लेकर के हम लोगो को लगता है हमारे विभाग में काम हो जाना चाहिये और निश्चित रूप से पहली की तुलना में अब एप्लीकेशन कम आते है परिस्थितिया अलग-अलग होते है। स्थानंतरण सत्र था एप्लीकेशन ज्यादा अभी नगरीय निकाय चुनाव होने वाले है तो कुछ लोगो के रिज्यूम ज्यादा आये है अलग-अलग समय में अलग-अलग प्रकार की बाते आते रहती है। लेकिन मूल रूप से 3-4 प्रमुख बाते आते है। थोड़ा सा कर्मचारी बेरोजगार भी बड़े जागरूक हो गये है उनको भी लगता है राजीव भवन में जाने से उनकी ये समस्या सुन ली जायेगी। इस प्रकार की भी एप्लीकेशन आते है। अभी जैसे धान खरीदी शुरू होना है तो धान खरीदी केन्द्र खोलने की बात आती है। कुछ किसानों ने ज्यादा दिन में धान खरीदी के समय को बढ़ाया जाये इसके बारे में अपना सुझाव देते है। पहले भी पिछले हफ्ते बैठे तो लोगो ने कहा कि किसानों का पंजीयन अभी हो नहीं पाया है इसलिये सरकार को पंजीयन की तारीके बढ़ाना चाहिये। पिछली बार लोगो ने सुझाव दिया था कि बारिश अधिक हो रही हारवेस्टर से कटाई करने वाले किसानों के खेतो में जाने की स्थिति में नही है इस कारण मुख्यमंत्री को हमने सुझाव दिया कि किसानों को 15 दिन बढ़ाया गया लेकिन 15 दिन आगे भी धान खरीदने का वक्त दिया गया है लेकिन किसानो को किसी भी प्रकार तकलीफ न हो उनका धान बचत न रहे इस प्रकार से समस्या आते है एक अच्छी पंरपरा है हमारे राजीव भवन में बैठकर लोगो की बात को सुनना और निंदान करने की व्यवस्था करना। पिछले विधानसभा में सप्लाई का मामला सामने आया था तो हमने विधानसभा में कार्यवाही करने का निर्देश दिया था। कुछ किसानों को दूसरी बार देकर के अगर खानापूर्ति की गयी है, इसके जांच की जायेगी। क्योंकि अगर दूसरी बार एप्लीकेशन किसानों से लिया गया और उसको स्प्रिलिंकर दिया गया तो इसमें कोई खामी है लेकिन एप्लीकेशन लिया और स्प्रिलिंकर नहीं दिया गया अडजेस्टमेंट किया गया तो इसके खिलाफ निलंबित भी करेंगे और कार्यवाही भी करेंगे। लेकिन ये थोड़ा जांच का विषय है। हम लोग भी किसान है जानते है कि किसानों को लगातार सत्त स्प्रिलिंकर की जरूरत होती है पहली बार लेते है दूसरी के खेत में भी लेते है तीन-तीन, चार-चार बार भी लेते है बड़े-बड़े खेत होते है एक बार में स्प्रिलिंकर कितना दिया जाता है। दूसरी बार उनको पाइप लाईन की और जरूरत हो जाती है कि ये जांच करने के बाद ही लेकिन कहीं भी इस प्रकार से करप्शन के कारण दूसरी बार किसानों का एप्लीकेशन लेकर के कागज में कार्यवाही करके कोई अधिकारी किया होगा उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।  पूरे प्रदेश में कुछ जगह लगभग बारिश हुई है अधिकांश जो सोयाबीन उत्पादक अधिकांश जिले में वहां तो क्षति भरपूर हुआ है। उड़द की फसल तो काफी नुकसान हुआ है। धान की अर्ली वेयराटी का जो धान था उस फसलों को भी कुछ प्रतिशत तक के नुकसान हुआ है। हमने और मुख्यमंत्री जी ने स्पष्ट रूप से जिला कलेक्टरो को और अपने विभाग के अधिकारी को निर्देश दिया हुआ है सर्वे करने के लिये कहा है कि ताकि तत्काल आरवीसी की साहयता उन किसानों को मिल जाये उसके बाद सोयाबीन इतना विस्तृत फसल है उसमें स्वयं किसानों को कवर करने वाले है तो इंश्योरेंस के अधिकारी को भी निर्देश दिया हुआ है जहां-जहां ऐसी शिकायत आयी है वहां इस प्रकार की सर्वे करे आरवीसी की मद्द और इंश्योरेंस की मद्द किसानों को मिलेगी। विभाग को निर्देश दिये हुये है और उसका आंकलन चल रहा है।  वर्षा ज्यादा हुयी जहां धान खरीदी का करते है आज पर्यन्त गीला है, अभी भी बहुत किसान आये हुये है धान खरीदी के पत्रकार मित्रों ने बताया कि खेत गीला है हारवेस्टर खेतो में चल नहीं पा रहा है एकदम अर्ली वेयराटी के कुछ किसानों के धान कुछ हजार क्विंटल अभी मार्केट में आये हुये है लेकिन हम चाहते है कि जितना समय धान खरीदी के लिये प्रदेश में दिया जाता है उतना ही समय राज्य सरकार ने घोषित का इधर 15 दिन अगर बढ़ाया गया तो फरवरी माह 15 दिन आगे उसको बढ़ाया जाये इसलिये किसानों के धान को जितना किसान लायेंगे 15 क्विंटल के हिसाब से हम पूरा खरीदेंगे अभी जो मार्केट में दिख रहा है। उतना तो हमेशा पहले भी शुरूआत होता था अभी वैसी शुरूआत है लेकिन व्यापक पैमाने से किसान उसका स्वागत कर रहे है क्योंकि खेत भी गिला है और पंजीयन का काम भी लेट हुआ किसान ने मांग किया है इसलिये 7 दिन पंजीयन की तारीक बढ़ाया गया था। पहली बार छत्तीसगढ़ में 2500 रू. की धान खरीदी का निर्णय मुख्यमंत्री जी ने लिया तो ऐसे नौजवान जिन्होंने गांव में खेती करना छोड़ दिया था लगभग 2 लाख से अधिक किसान नये गांव में पंजीकृत हुये और लगभग साढ़े तीन लाख एकड़ के अतिरिक्त की जमीन में धान का रकबा बढ़ाया ये संकेत है सरकार के इस प्रकार निर्णयों का किसानों में उत्साह जनक स्वागत किया।  इनका पहले से पंजीयन होता है कितनी जमीन का धान आयेगा किसान की सहमति से तारीके तय होती है और जिन तारीको तक सोसायटी उनको देता इन तारीखो में खरीदी होगी। सौभाग्य से छत्तीसगढ़ में अभी 10 से 11 महीनें की हमारी सरकार में अधिकांश जो रोजगार के अवसर हो सकते है उसको उपलब्ध करवाये। कुटीर उद्योग को बढ़ावा दिया गया है कुछ प्रोसेसिंग की ईकाईया बढ़ाने के लिये हम लोगो ने राशि स्वीकृत किया है और अरसे बाद एक इतना सरल उद्योग नीति छत्तीसगढ़ को प्रस्तुत किया गया है इस राज्योत्सव में माननीय मुख्यमंत्री जी ने इसका विमोचन किया है और प्रदेश की जनता को समर्पित किया है ताकि उद्योग छत्तीसगढ़ में आये नये लड़को को रोजगार मिल सके। रोजगार के एप्लीकेशन तो आयेंगे पिछले 15-20 सालों में ये जो छत्तीसगढ़ की स्थिति बनी हुयी है लगभग 27 से 28 लाख शिक्षित बेरोजगार हमारे कार्यालय रोजगार दफ्तर के पंजीकृत है। एप्लीकेशन तो आयेंगे लेकिन हम लोगो का प्रयास है रोजगार का अवसर नौकरी से है स्वरोजगार की दिशा में भी कैसे किया जाये सरकार इसके लिये काम कर रही है।

जांजगीर चापा : भाजपा के मंडल चुनाव में विवाद,,, चुनाव के दौरान भारी शोर शराबे और नारे बाजी

भारतीय जनता पार्टी द्वारा पूरे छत्तीसगढ़ में मंडल अध्यक्षो का चुनाव सम्पन्न कराया जा रहा है,, इसी कड़ी में आज मण्डल डभरा में अध्यक्ष चुनाव सम्पन्न होना था जिसमे आधे से ज्यादा कार्यकर्ताओ ने बूथ अध्यक्षो को नजर बन्द करने का आरोप सांसद गुहाराम अजगल्ले के ऊपर लगाया और चुनाव रद्द करने की मांग किये,,,और नही मानने पर चुनाव का बहिष्कार कर दिया गया,,, भारी शोर शराबे और नारे बाजी के बीच सांसद गुहराम अजगळे के दबाव में चुनाव अधिकारी ने नाम मात्र के कार्यकर्ताओं की उपस्थिति में चुनाव सम्पन्न कराए और मंडल अध्यक्ष की घोषणा भी कर दिए,,,जिससे नाराज कार्यकर्ताओ ने चुनाव रद्द करने का मांग किया गया और सांसद गुहराम मुर्दाबाद के नारे लगाए वही इस चुनाव के संबंध में जब मीडिया ने सांसद से जानकारी चाही तो बिना जवाब दिए मीडिया से बचते हुए चलते बने,,, इस चुनाव से कार्यकर्ताओ में भारी रोष व्याप्त है,,,,

नोटबंदी के 3 वर्ष पूरे होने पर मोदी सरकार के खिलाफ शव यात्रा एवं पुतला दहन कार्यकम

नोटबंदी के 3 वर्ष पूरे हो गए हैं इन 3 वर्षों में भारत देश की अर्थव्यवस्था चरमरा चुकी है आज पूरे देश में मंदी का माहौल है नोटबंदी के कारण लाखों लोगों की नौकरी चली गई है एवं छोटे उद्योग बंद पड़ गए हैं किसी को देखते हुए आज एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष श्री आकाश शर्मा के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ एनएसयूआई ने राजधानी रायपुर में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की शव यात्रा निकाली एवं पुतला दहन किया इस शव यात्रा में सैकड़ों की संख्या में एनएसयूआई के पद्धति पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद थे शव यात्रा रायपुर के आजाद चौक से लेकर बूढ़ा तालाब तक निकाली गई और बुरा तालाब में नरेंद्र मोदी का पुतला दहन किया गया इस यात्रा में कार्यकर्ताओं ने नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और अपना विरोध जताया।। प्रदेश अध्यक्ष श्री आकाश शर्मा ने कहा पिछले 3 वर्ष में नोटबंदी की वजह से हजारों लाखों लोगों की नौकरी एवं छोटे उद्योग बंद हो गए हैं जिस कारण आज भारत की अर्थव्यवस्था सबसे निचले स्तर पर है पूरे देश में मंदी का माहौल देखा जा रहा है आज जिस क्षेत्र को भी पकड़ लीजिए उस क्षेत्र में मंदी देखी जा रही है चाहे वह ऑटोमोबाइल का क्षेत्र हो बैंक हो या कोई छोटे उद्योग सभी जगह नोटबंदी की वजह से मंदी देखी जा रही है इसी को लेकर आज हमने रायपुर में प्रधानमंत्री की शव यात्रा निकाली एवं पुतला दहन किया।। इस शव यात्रा में मुख्य तौर पर प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा प्रदेश उपाध्यक्ष भावेश शुक्ला जिला अध्यक्ष अमित शर्मा प्रदेश सचिव हनी बग्गा, हेमंत पाल, अरुणेश मिश्रा प्रदेश प्रवक्ता तुषार गुहा जिला कार्यकारिणी अध्यक्ष बब्बी सोनकर, विनोद कश्यप जिला महासचिव संकल्प मिश्रा, निखिल बंजारी विधानसभा अध्यक्ष विकास राजपूत, किशोर सिन्हा, अभिषेक साह, मुनकाद अली ,अंकित पांडे आदि मौजूद थे।।

गृह मंत्री ताम्रध्वज साहु अपने एक दिवसीय प्रवास पर पहुँचे राजनांदगाँव,कांग्रेस कार्यकर्ताओ और आम लोगो से की मुलाकात

गृह मंत्री ताम्रध्वज साहु अपने एक दिवसीय प्रवास पर राजनांदगाँव के दौरे पर थे...अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार वह सर्किट हाउस पहुचे जहा उन्होने कांग्रेस कार्यकर्ताओ और आम लोगो से मुलाकात की...साथ ही गृह मंत्री आज कलेक्ट्रेट सभा कक्ष मे जिले के आला धिकारीयो की लिये बैठक...मीडिया के सवालो का जबाव देते हुए कहा की प्रदेश मे तीन हजार से अधिक पुलिस की भर्ती की जायेगी...और पुलिस की छवि  सुधारने काम किया जा रहा है....साथ ही उन्होने कहा कि मै यहा समीक्षा मे भी विकास कार्यो की रूपरेखा और जिले मे विकास कार्यो की स्थिति को लेकर यह बैठक का ओयजन किया गया था....योजनाओ की स्थिती और विकास कार्यो को लेकर गृह मंत्री ने अपनी बात रखी...

नरियरा मंडल अध्यक्ष के रूप में विष्णु कश्यप

भारतीय जनता पार्टी नरियरा मंडल के अध्यक्ष पद पर सर्वसहमति से पकरिया निवासी विष्णु कश्यप को मनोनीत किया गया। जिसमे चुनाव प्रभारी के रूप में मुख्य रूप से चाम्पा से सलीम मेमन नैला नगर पालिका अध्यक्ष मालतीदेवी रात्रे गुलाब चंद्र उपस्थित थे। वही कार्यक्रम में अकलतरा विधायक सौरभ सिंह , पूर्व अकलतरा भाजपा प्रत्याशी दिनेश सिंह पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा राजकुमार शर्मा राजेश्वर पाटले, रामफल शर्मा , कृष्ण कुमार सिंगसर्वा , सुमित प्रताप सिंह , गुहा दास महंत , कृपाराम कैवर्त्य , रामलाल साहू, महेश कर्ष, सन्तोष यादव, कृष्ण कुमार यादव , साथ ही नरियरा मंडल के वरिष्ठ नेता युवा नेता भाजपा कार्यकर्ताओं की उपस्थिति रही । सभी ने मनोनीत अध्यक्ष विष्णु कस्यप को केशरिया गमछा पहना कर बधाई दिया। वही इनके अध्यक्ष बनने पर परिवारजन ईष्टजन में हर्ष ब्यक्त किया है।

भाजपाई को 2500 रू. में आपत्ति हो तो केंद्र सरकार द्वारा घोषित प्रति क्विंटल 1815 रू. का दाम लेने की घोषणा करें

रायपुर/06 नवंबर 2019। रमन सिंह जी के धान खरीदी के ट्विटों पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं सचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने पूछा है कि कोई भी राजनीतिक पार्टी जब घोषणापत्र तैयार करती है तो वह विपक्षी पार्टियों से पूछ कर तय नही करती है। रमन सिंह जी यह बताए कि जब 2013 में उन्होंने छत्तीसगढ़ के किसानों से 300रू. बोनस का वादा किया था, तो क्या उस समय केंद्र की यूपीए सरकार से पूछ कर किया था? न पूछने के बाद भी माननीय मनमोहन सिंह जी की सरकार ने बिना भेदभाव के ना केवल रमन सिंह को अनुमति दी थी बल्कि केंद्रीय पूल के लिये चावल भी खरीदा था। 2014 में मोदी सरकार ने किसान को धान के समर्थन मूल्य के अतिरिक्त बोनस दिये जाने पर रोक लगाई। मोदी सरकार ने किसान विरोधी नियम बनाएं। फिर चुनाव को देखते हुये रमन सिंह सरकार को बोनस देने की अनुमति दी गयी, फिर अब क्या भाजपा की जगह कांग्रेस सरकार बदल जाने से परिस्थितियां बदल गई? प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि अब रमन सिंह जी और भाजपा का किसान विरोधी चेहरा अब बेनकाब हो चुका है। एक और तो देश के प्रधानमंत्री 2022 तक अन्नदाताओं की आय दुगुनी करने की बाते करते है एवं लागत से डेढ़ गुना दाम देने की घोषणा करते है। दूसरी ओर अपनी जिम्मेदारियो से पल्ला झाड़ रहा है। प्रधानमंत्री मोदी का किसान विरोधी चेहरा बेनकाब हो गया है। भाजपा 2500 रू. किसानों को देने में बाधा न डाले। भाजपाई को 2500रू. में आपत्ति हो तो केंद्र सरकार द्वारा घोषित प्रति क्विंटल 1815 रू. का दाम लेने की घोषणा करें। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भूपेश बघेल जी के नेतृत्व में कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ के किसानों से जो वादा किया था धान के 2500रू. प्रति क्विंटल समर्थन मूल्य देने का उस पर कांग्रेस सरकार आज भी पूरी तरह कायम है और छत्तीसगढ़ के किसानों से धान 2500रू. प्रति क्विंटल के समर्थन मूल्य पर ही खरीदा जाएगा। प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह और भाजपा नेता यह बताएं कि वे छत्तीसगढ़ के किसान को 2500रू. प्रति क्विंटल धान के समर्थन मूल्य देने के खिलाफ क्यों हैं? केंद्रीय पूल के तहत चावल खरीदना केंद्र सरकार का कर्तव्य है और संघीय व्यवस्था के तहत राज्य और राज्य के किसानों का अधिकार भी। केन्द्र जब छत्तीसगढ़ का कोयला खरीदने को तैयार है, छत्तीसगढ़ का बाक्साइट और लौहअयस्क खरीदने तैयार है। छत्त्तीसगढ़ का बिजली खरीदने को तैयार है, फिर केन्द्रीय पूल में छत्तीसगढ़ का चांवल खरीदने से पीछे क्यों हट रही है? 2500 रू. समर्थन मूल्य पर धान खरीदी से प्रदेश में व्यापार बढ़ा है। आर्थिकमंदी के दुष्प्रभाव से छत्तीसगढ़ का व्यापार उद्योग बचा रहा है। भारतीय जनता पार्टी किसानों और छत्तीसगढ़ के हितो के खिलाफ क्यों है? क्या रमन सिंह और भाजपा नेताओं और खासकर सांसदो का व्यक्तिगत अहंकार किसानों की समस्या से बढ़कर है? केंद्र के कृषि लागत और मूल्य निर्धारण आयोग द्वारा निर्धारित धान के लागत मूल्य पर स्वामिनाथन कमेटी की रिपोर्ट के अनुसार 50 प्रतिशत लाभ जोड़ने पर समर्थन मूल्य लगभग 2450रू. से भी अधिक होता है। कांग्रेस सरकार 2500रू. किसानों को समर्थन मूल्य दे रही है तो इससे भाजपा को आपत्ति क्यों है? 15 साल तक लगातार छत्तीसगढ़ के किसानों को ठगने वाले रमन सिंह ने 2018 के घोषणा पत्र में वादा करने से पूर्व केंद्र सरकार से अनुमति लिये जाने का सवाल उठाकर खुद मोदी सरकार को ही कटघरे में खड़ा किया है। धान की 2500 रू. खरीदी के संदर्भ में रमन सिंह का रवैय्या आपत्तिजक किसान विरोधी और छत्तीसगढ़ विरोधी है।

केंद्र सरकार के खिलाफ 7 मुद्दो को लेकर कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन

सूर्यकान्त यादव - प्रदेश कांग्रेस कमेटी के आह्वान पर आज केन्द्र की मोदी सरकार के द्वारा किसानों को ठगने और छत्तीसगढ़ प्रदेश के साथ दूजा भाव दिखाने ले लिए राजनांदगाँव शहर के जय स्तंभ चौक में कांग्रेसी कार्यकताओं ने धरना प्रदर्शन किया...यह धरना प्रदर्शन जिले के सभी ब्लाकों मे भी आयोजित किया गया है...धरना प्रदर्शन केंद्र सरकार के खिलाफ किया गया जिसमे 7 मुद्दो को लेकर यह प्रदर्शन कांग्रेसियों द्वारा आयोजित किया गया...वही हम आप को बता दे कि प्रदेश मे सत्ता मे काबिज काग्रेस के इस कार्यक्रम मे गिनती के ही कांग्रेसी नजर आये...शहर के जय स्तंभ चौक मे आयोजित इस प्रदर्शन मे कुर्सीया खाली दिखी और गिनती के कांग्रेसी कार्यकर्ता और नेता नजर आये, वहीं कांग्रेस ले जिला अध्यक्ष ने बताया कि आज से ब्लाक स्तर पर हस्ताक्षर अभियान चलाया जा रहा है, 9 तारीख़ को जिला स्तरीय आयोजन रखा गया है, वहीं 13 तारीख को प्रदेश स्तर पर प्रदेश ले मुख्यमंत्री भूपेश   बघेल के साथ हजारों की संख्या में कांग्रेसी  सड़क मार्ग से दिल्ली ले लिए कूच करेंगे।  

भारतीय जनता पार्टी भाटापारा शहर मंडल के संगठन का चुनाव लोकतांत्रिक पद्धति से सम्पन्न

भारतीय जनता पार्टी भाटापारा शहर मंडल के संगठन का चुनाव लोकतांत्रिक पद्धति से सम्पन्न हुआ। चुनाव की प्रक्रिया में भाटापारा के विधायक शिवरतन शर्मा के साथ चुनाव प्रभारी विपिन बिहारी वर्मा व सह प्रभारी रामनारायण देवांगन तथा वरिष्ठ भाजपा नेता सियाराम कहार , ज़िला महामंत्री राकेश तिवारी , सलीम खान व वरिष्ठ संतराम साहु उपस्थित थे। बैठक में सक्रिय सदस्य व बूथ अध्यक्षों की उपस्थिति में मंडल अध्यक्ष महाबल बघेल ने मनेन्दर सिंह गुम्बर के नाम को मंडल अध्यक्ष के लिए प्रस्तावित किया जिसका नगर पालिका अध्यक्ष डॉ मोहन बांधे व सभी सक्रिय सदस्यों ने समर्थन किया इसके साथ ही सभी बूथ अध्यक्षों ने अपनी सहमति प्रदान कर सर्व सम्मति से मनेन्दर सिंह गुम्बर को मंडल अध्यक्ष चुना गया। चुनाव अधिकारी वर्मा ने सभी कार्यकर्ताओं की सहमति से विधिवत मंडल अध्यक्ष के नाम की घोषणा की। इस अवसर पर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए विधायक शिवरतन शर्मा ने कहा कि-- 1980 में जब भाजपा का गठन हुआ तब संस्थापक अध्यक्ष अटल बिहारी बाजपेयी ने अपने अध्यक्षिय उद्बोधन में कहा था कि भाजपा पार्टी में पद नही दायित्व दिया जाता है जिसका निर्वहन कार्यकर्ता पुरी जिम्मेदारी से पूरा करता है। वरिष्ठ नेता लालकृष्ण अडवाणी जी ने कहा था कि भाजपा की नीतियाँ अन्य राजनीतिक पार्टियों से अलग होगी जो मतदान केन्द्र के अध्यक्ष से लेकर राष्ट्रीय स्तर के चुनाव को लोकतांत्रिक पद्धति से कार्यकर्ताओं की सहमति व समर्थन से सम्पन्न कराएगा। हमारी पार्टी का बूथ अध्यक्ष का कार्यकर्ता भी अपनी योग्यता व सक्रियता के बल पर राष्ट्रीय स्तर का पदाधिकारी बन सकता है। जबकी दुसरी पार्टीयों में उच्च स्तर के नेताओं द्वारा ही पदाधिकारी थोपे जाते हैं। चुनाव अधिकारी विपिन बिहारी वर्मा ने कहा कि -- पार्टी को सुचारू रुप से संचालित करने के लिए पार्टी जिम्मेदार कार्यकर्ता को दायित्व देता है जिसका निर्वहन केवल अध्यक्ष नही बल्कि पूरे कार्यकर्ता मिल कर करते है। संगठन की यही एकता और कार्यप्रणाली भारतीय जनता पार्टी को अन्य पार्टियों से अलग पहचान देती है। वर्तमान समय में छत्तीसगढ़ की सरकार के द्वारा भाजपा कार्यकर्ताओं को लक्ष्य बनाकर बदलापूर की कार्यवाही कर रही है जिसका मुकाबला पार्टी के कार्यकर्ता एकजुटता से ही कर सकते हैं। बैठक को सह प्रभारी रामनारायण देवांगन ने भी संबोधित किया तथा पूरे कार्यक्रम का संचालन मंडल अध्यक्ष महाबल बघेल ने किया। इस अवसर पर मंडल महामंत्री सजीवन साव व धनेश तिवारी , मंडल उपाध्यक्ष पुरुषोत्तम यदु , राजाकामनानी, सुखदेव यदु, नंदकिशोर अग्रवाल, आशीष जायसवाल, नगर पालिका उपाध्यक्ष सुनील यदु, महिला मोर्चा अध्यक्ष आयशा खान, नीरा साहू, गायत्री आडिल, राजीव शर्मा, सुरेश मिश्रा अशोक साहू, प्रदीप शर्मा, देवेन्द्र साहू, उमाशंकर वर्मा, कमलेश केशरवानी, वेद प्रकाश पटेल , गोविन्द पटेल , मोन्टू ध्रुव , योगेश अनंत , रवि पांडे , कुंजराम कोसले , सुनंद मिश्रा, लाला शर्मा , राजा जायसवाल, सुरज भोंई, व्यास यदु , सुदामा मंधान, शेखर ठाकुर , सतीश तलरेजा , देवेन्द्र साहू, प्रदीप शर्मा , लुकु साहू, नारायण साहू, घनश्याम आर्य, नरेन्द्र पूंशी,आनंद शर्मा, कमलेश केशरवानी, रुपेश ध्रुतलहरे, हारुन खान , सुर्यकांती योगी, मालती त्रिपाठी, कल्याणी साहु, जयश्री शर्मा, मुकेश सोनी , फलीत भारती, भरत डहरिया, अभिषेक दास, पिन्टु, शुभम् राजपूत , मालिकराम बांधें, रवि पांडे , बंशी यादव , मनोज पांडे सहित पूरे बूथ अध्यक्ष व सक्रिय सदस्य उपस्थित थे।

केंद्र की मोदी सरकार किसान विरोधी सरकार है- लालू राठौर

Danteshwar kumar (chintu)

बीजापुर: छत्तीसगढ़ राज्य सरकार की घोषणा अनुसार राज्य के किसानों के धान का समर्थन मूल्य 2500 प्रतिक्विंटल पर क्रय करने का निर्णय शासन द्वारा लिया गया है किंतु राज्य शासन की माँगों के विपरीत केंद्र की मोदी सरकार द्वारा धान क्रय पर बोनस दिए जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया और छत्तीसगढ़ राज्य और किसानो से सौतेला व्यवहार करते हुए छत्तीसगढ़ राज्य से अपने केंद्रीय पुल की धान ख़रीदी में असमर्थता जता कर किसान विरोधी मानसिकता का परिचय दिया है, केंद्र की मोदी सरकार के अड़ियल रवैए के बाद भी प्रदेश की भूपेश बघेल की सरकार किसानों से किया वादा निभाते हुए किसानों से धान का समर्थन मूल्य 2500/- में ही 1 दिसम्बर 2019 से ख़रीदी कर रही है। केंद्र की मोदी सरकार द्वारा किसानों और राज्य सरकार के प्रति नकारात्मक रवैये के कारण छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस द्वारा केंद्र की मोदी सरकार के किसान विरोधी रवैये का विरोध विभिन्न चरणो में करने का निर्णय लिया गया है। जिसके तहत जिला कांग्रेस कमेटी बीजापुर द्वारा ब्लाक स्तर पर किसान हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा जिसके लिए ब्लाक स्तर पर किसान हस्ताक्षर अभियान के प्रभारियों एवं सहप्रभारियों की नियुक्ति की गयी है जिसमें प्रमुख रूप से भोपालपटनम ब्लाक के लिए प्रभारी बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं विधायक विक्रम शाह मंडावी एवं सह प्रभारी ब्लाक कांग्रेस के अध्यक्ष रमेश पामभोई, भैरमगढ़ के लिए प्रभारी सदस्य बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण एवं सदस्य जिला पंचायत बीजापुर की श्रीमती नीना रावतिया उद्दे एवं सहप्रभारी ब्लाक कांग्रेस कमेटी भैरमगढ़ के अध्यक्ष लच्छुराम मौर्य, बीजापुर ब्लाक के लिए प्रभारी जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री सुखदेव नाग एवं सहप्रभारी जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता जगबंधु माँझी, उसूर ब्लाक के लिए प्रभारी सदस्य जिला पंचायत बीजापुर के बसंत ताटी एवं सहप्रभारी सुकलू पुनेम, कुटरु ब्लाक के लिए प्रभारी जिला पंचायत सदस्य श्री कमलेश कारम एवं सहप्रभारी ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सोमारु नाग को नियुक्त किया गया है इसी तरह गंगालूर ब्लाक के लिए जिला पंचायत बीजापुर के उपाध्यक्ष शंकर कुडियाम एवं सहप्रभारी ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष गंगालूर के अध्यक्ष मंगल राना को नियुक्त किया गया है ये सभी प्रभारीगण एवं सहप्रभारीगण अपने अपने ब्लाक में बूथ स्तर पर किसानों एवं आमजनो का हस्ताक्षर अभियान चलाते हुए हस्ताक्षर युक्त पत्र 10 नवम्बर 2019 तक जिला मुख्यालयों तक एवं 11 नवम्बर 2019 को जिला मुख्यालय से प्रस्थान कर 12 नवम्बर 2019 तक प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के मुख्यालय तक पहुँचने के उपरांत 13 नवम्बर 2019 को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय से AICC मुख्यालय नई दिल्ली के लिए सड़क मार्ग से प्रस्तान करेंगे।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पी.एल. पुनिया और एआईसीसी के छत्तीसगढ़ के पर्यवक्षक पूर्व केन्द्रीय मंत्री भक्तचरण दास का दौरा कार्यक्रम

रायपुर/02 नवंबर 2019। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पी.एल. पुनिया दिनांक 3 नवंबर 2019 रविवार को इंडिगो के नियमित विमान सेवा द्वारा सुबह 10.15 बजे को नई दिल्ली से रायपुर पहुंचेंगे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पी.एल. पुनिया और एआईसीसी के छत्तीसगढ़ के पर्यवक्षक पूर्व केन्द्रीय मंत्री भक्तचरण दास सुबह 11 बजे राजीव भवन में आयोजित प्रदेश कांग्रेस कमेटी उपाध्यक्षों, महामंत्रियों, विधायकों, जिला एवं शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्षों एवं सभी मोर्चा संगठनों विभागों के प्रदेश अध्यक्षों की सयुंक्त बैठक में भाग लेंगे। इस बैठक में देश की बिगड़ती आर्थिक स्थिति, बढ़ती बेरोजगारी केन्द्र सरकार में किसान विरोधी रवैय्ये, महंगाई सहित भाजपा की केन्द्र सरकार के जनविरोधी रवैय्ये के खिलाफ 5 से 15 नवंबर तक देश व्यापी आंदोलन की छत्तीसगढ़ में रूपरेखा और मुद्दों पर चर्चा होंगे। छत्तीसगढ़ की स्थानीय परिस्थितियों के साथ-साथ मुद्दों पर केन्द्र सरकार के जनविरोधी रवैय्ये पर भी बैठक में चर्चा की जायेगी और आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जायेगी। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पी.एल. पुनिया, एआईसीसी के छत्तीसगढ़ के पर्यवक्षक पूर्व केन्द्रीय मंत्री भक्तचरण दास और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम दोपहर 3 बजे राजीव भवन में आयोजित पत्रकारवार्ता को संबोधित करेंगे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रदेश प्रभारी पी.एल. पुनिया शाम 06.50 बजे रायपुर से नई दिल्ली के रवाना होंगे।

पूर्व केंद्रीय मंत्री भक्त चरण दास बनाए गए छत्तीसगढ़ के पर्यवेक्षक

एआईसीसी के छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया के साथ छत्तीसगढ़ के पर्यवेक्षक पूर्व केंद्रीय मंत्री भक्तचरण दास 3 नवम्बर रविवार को रायपुर में लेंगे प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्षों प्रदेश कांग्रेस के महामंत्रियों विधायकों और जिला कांग्रेस अध्यक्षों की बैठक 5 से 15 नवंबर तक केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आंदोलन की तैयारियों पर बैठक में होगी

भारतीय जनता पार्टी का संगठन चुनाव संपन्न भैरमगढ़ मंडल के मंडल अध्यक्ष का हुआ चुनाव

Danteshwar kumar(chintu)

बीजापुर: भैरमगढ़ के संगठन कार्यक्रम में पूर्व वन मंत्री व भूतपूर्व क्षेत्रीय विधायक महेश गागड़ा ने सभी को बधाई देते हुए संगठन को और मजबूत करने की बात कही सभी बूथ समितियों को केंद्र की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने की बात की साथ ही जिला अध्यक्ष जी वेंकट ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए नवनियुक्त मंडल अध्यक्ष को बधाई देते हुए संगठन की रूपरेखा रखी साथी आने वाले पंचायत चुनाव के लिए सभी को जीत और मेहनत और बुथ को मजबूत रखने की बात कही , किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष जग्गू तेलामी नहीं भारतीय जनता पार्टी के समस्त कार्यकर्ताओं को बधाई एवं संगठन को किसानों के लिए हितकारी बताया जिस प्रकार गुट्टा राम कश्यप एक किसान होते हुए मंडल का दायित्व देने पर संगठन को बधाई दी भूतपूर्व मंडल अध्यक्ष नकुल ठाकुर ने वर्तमान मंडल अध्यक्ष को माला पहनाकर अपना दायित्व उन्हें दिया और अच्छा कार्यकाल होने का मार्गदर्शन दिया । युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष मुरली कृष्णा नायडू जनपद सदस्य बलदेव उरसा मनधर नाग जिला सदस्य सुमन कोरशा जनपद सदस्य चैतू राम लेकाम चमन ठाकुर श्रीधर सेठिया एवं समस्त भाजपा मंडल भैरमगढ़ के कार्यकर्ता उपस्थित रहे।