मनोरंजन

नये जमाने के बदलते दौर में नशा नाश का जड़ पर आधरित फिल्म हार्टबीट

रायपुर - नये जमाने के बदलते दौर में नवपिढ़ी के बहके कदम यदि एक बार नशे के कुचक्र में फंस गया तो फिर उन अंधेरी गलियों से निकल पाना उनके लिए मुश्किल हो जाता है। जीवन के इसी सच्चाई के इर्द-गिर्द बुनी गईं कहानी है फिल्म 'हार्टबीट'। 
फिल्म के निर्माता नीतू सिन्हा व डायरेक्टर संतोष सोनू है। फिल्म के हीरो रक्षित जाज है जिनके अपोज़िट में सोना द्विवेदी नज़र आएंगी। फिल्म में लवस्टोरी के साथ चंद लम्हो के लिए नशे का लत किस तरह ज़िन्दगी को सर्वनाश कर सकती है। फिल्म का मुहर्त इंद्रप्रस्थ कॉलोनी रायपुर में मोहन सुंदरानी व निर्देशक उत्तम तिवारी के करकमलों से किया गया। फिल्म के असोसिएट डायरेक्टर आदिश कश्यप है। कैमरा शिवा ने सम्हाला है और फाइट डायरेक्टर जॉनसन अरुण का है। कोरियोग्राफी नंदू तांडी ने किया है।फिल्म के कैमरामैन मयंक कौसिक है |  फिल्म में  संगीत पक्ष पर भी विशेष ध्यान दिया गया है, क्योंकि फिल्मो में सदैव ही गीत संगीत सबसे मजबूत पक्ष होता है। फिल्म के डायरेक्टर संतोष सोनू बताते है कि वे लम्बे समय से फिल्म क्षेत्र से जुड़े हुए है और बतौर निर्देशन यह उनकी पहली मूवी है जो कि उनके लिए यह ड्रीम प्रोजेक्ट है। नशा समाज की सबसे बड़ी बुराई है, जिसके चंगुल में बहक कर युवा वर्ग आसानी से आ जाते है। जब तक वे समझ पाते हैं की नाश नाश का जड़ है तब तक बहुत देर हो चुकी रहती है। इसी थीम पर आधारित हमारी फिल्म 'हार्टबीट' नये संदेश के साथ नई पीढ़ी को प्रदर्शन भी करेगी।

छालीवुड पर छाया बिलासपुर के विनय कौशिक १२ से प्रदर्शित प्रेम अमर हे में नवोदित हीरो की भूमिका में

रायपुर। बिलासपुर के विनय कौशिक नए नायक के रूप में इन दिनों सुर्खियां बटोर रहे हैं हाल ही में फिल्म प्रेम अमर है में डेब्यू किये इसके पहले राधे अंगूठा छाप प्रेम के बंधना कठोर कैरेक्टर आर्टिस्ट के रूप में अभिनय कर चुके हैं .सरोज खान डांस अकैडमी कोलकाता से 2 महीने की ट्रेनिंग लिए और मुंबई से सेलिब्रिटी डांस वर्कशॉप भी  अटेंड किये हैं। मीना का कहना है कि इस 12वीं के बाद सिविल इंजीनियर बनना चाह रहे थे जिसकी पढ़ाई भी करने लगे लेकिन उनकी इच्छा बार-बार डांसिंग को लेकर के होते रहे और डांस मन की इच्छा ज्यादा रहे लेकिन उनके किसान पिता संतोष कौशिक  की इच्छा थी  कि बेटा हीरो बने पिताजी की इच्छा ने उन्हेंअभिनय की ओर खींच लाया  इंडस्ट्रीज में उन्हें धोखा में भी मिला है दो लोगों ने वादा भी किया फिल्म में हीरो और विलेन के लिए लेकिन अवसर नहीं दिया इसी बीच सुनील सागर ने उन्हें हीरो बना दिए सपने किसी और ने दिखाई लेकिन सच सुनील सर ने किए छत्तीसगढ़ी फिल्म इंडस्ट्री में अच्छा अनुभव मिल रहा है एक बार तो उन्हें लुक देखकर ही फाइनल कर लिया गया है लेकिन बाद में पूछा भी नहीं गया अब वे चाहते हैं कि अच्छा दमदार किरदार अदा करना चाहते हैं. छत्तीसगढ़ी फिल्मों में एक अलग पहचान बनाने की इच्छा है और गरीबों के लिए स्कूल खोलना चाहते हैं जहां डांस और एक्टिंग की फ्री क्लास हो।

फिल्म प्रेम अमर हे में बूढ़े मुनीम जी जवानों को पीछे छोड़ते नजर आएंगे शैलेंद्र बाजपाई

रायपुर - कालेज के दिनों में रंगमंच के आर्टिस्ट रहे शैलेंद्र बाजपाई पारिवारिक जिम्मेदारियों के वहन में अपने शौक को त्याग कर व्यस्त रहे, रिटायर होने के बाद अब जब उनको मौका मिला तो उम्र के इस पड़ाव में भी वो दुगुने उत्साह और जोश ऊर्जा से भरे फिल्मी परदे  पर  अपने अभिनय का हुनर दिखा जवानी की यादो को तरोताजा करते नजर आ रहे है,दीवाना* *36गढ़िया फिल्म में उन्होंने पंडित की भूमिका निभायी थी और अब बेहतरीन इंसान समाज सेवी दबंग निर्माता जेठू साहूजी के ॐ शिव साई फिल्म्स गरिमा* प्रॉपटी के बैनर से आने वाली ????प्रेम अमर हे???? फिल्म में ईनका रोल बड़ा और महत्वपूर्ण है,शूटिंग के दौरान इनका जोश जवान लोगो को फेल कर देता था  ऐसा फिल्म के निर्देशक सुनील सागर का कहना है, अपने समय में कई नाट्को में अपनी अभिनय से लोगो का मनोरंजन करने वाले बाजपाई कहते है कि  ????प्रेम अमर हे???? एक सार्थक सन्देश देती पारिवारिक फुल मनोरंजन से भरी फिल्म है निर्देशक सुनील सागर के कार्य शैली से वो बहुत प्रभावित है क्योंकि सुनील खुद एक थियेटर आर्टिस्ट रहे है इसलिए कलाकारो से कैसे एक्ट कराना है उन्हें बखूबी पता था इस फिल्म के डायलॉग जबर्दस्त है इसमें मेरा एक मुनीम का रोल है जिसका तकिया कलाम(ब्याज बढ़ाके)अलग ही अंदाज़ में मजेदार एक्सेंट में निर्देशक सुनील सागर ने मुझसे बोलवाया है,जो दर्शको को पसंद आएगा,एक अच्छी फिल्म का हिस्सा बनना मेरे लिए हर्ष की बात है बाजपाई का कहना है कि  छोलिवुड इंडस्ट्री सिमित संसाधन में भी बेहतर से बेहतर की ओर आगे बढ़ता जा रहा है अब फिल्मो में हमे अन्य फिल्म इंडस्ट्री की तरह मनोरंजन के साथ2 अलग अलग अच्छे विषयो पर  उद्देश्यपूर्ण प्रयोगात्मक  फिल्में बनांनी चाहिए जिससे हमारे इंडस्ट्री को पहचान मिले ।फिल्म विकास निगम बनने से अब आशा की लहर व्याप्त हुई है ,

फिल्म इंडस्ट्री को एक नए मुकाम पर ले जाना चाहता हूं - अमित सिंह

दबंग दरोगा की अपार सफलता के बाद।।फिल्म के डायरेक्टर अभिषेक सिंह की आगामी फिल्म को भी शुरू कर दिया गया है।।जिसमे फिर से महानायक अनुज शर्मा जी को साइन किया गया है।।यह एक बहुत ही शानदार पारिवारिक फिल्म है।।जिसके प्रोड्यूसर श्री अमित सिंह जी है।।जो भिलाई से ही है।।अमित सिंह ने बताया कि वो हमारी फिल्म इंडस्ट्री को एक नए मुकाम पर ले जायेंगे।।जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगो को फिल्म में काम करने का मौका मिले इस फिल्म में नए कलाकार देखने को मिलेंगे जिनको अभिषेक सिंह जी मूवी में लॉन्च करेंगे

फरत की हर सीमा को लांघती फिल्म प्रेम अमर है प्रदेश के सिनेमाघरों में १२ अक्टूबर से

रायपुर -  युवा दिलों के सच्चे प्यार पर आधारित कई फिल्मे बन चुकी है परंतु कुछ फिल्मे इतिहास भी रचती है जैसे 12 अक्टूबर को रिलीज हो रही 'प्रेम अमर है' फिल्म है। ओम शिव साँई फिल्म्स व गरिमा प्रॉपर्टीज़ निर्माता जेठू साहू  एवम सुनील सागर कृत की यह बेमिसाल प्रस्तुति है। फिल्म में प्यार की  जज्बाती दास्तां को बखूबी पिरोया गया है  जिसमे कुंठित मानसिकता के खिलाफ  विद्रोह की झलकियां भी इस फिल्म में दिखाई देगी। एक जमींदार जो अपने रसूख के आगे किसी को कुछ भी नही समझता परंतु उसका यह घमण्ड तब चुर-चुर हो जाता है, जब उसकी अपनी बेटी एक साधारण परिवार के सुन्दर, सजीले और ईमानदार युवा को  दिल दे बैठती है, फिर शुरू होता है उनके बीच संघर्ष...!  के निर्देशक सुनील सागर इस विषय पर काफी समय से काम कर रहे थे, जो अब साकार हो सका और 12 अक्टूबर को पूरे राज्य के सभी स्क्रीन्स पर एक साथ रिलीज होने जा रही है।संगीत दिलो  की धड़कने बढ़ाती है, क्योंकि प्रेम पर आधारित फिल्म होने की वजह से संगीत पर विशेष ध्यान दिया गया है। फिल्म की मुख्य भूमिका में रजनीश झांझी, केशव वैष्णव, ग्लोरी मोहंता, उपासना वैष्णव, ऊषा विश्वकर्मा,मंदिरा नायक,लेखाश्री नायक, गुलशन साहू,पूजा देवांगन, अनिकृति चौहान,शोना द्विवेदी,संतोष यादव  दुर्गा सरकार,विनु क्रोक्स,मनीषा वर्मा, हैश जैन(बॉलीवुड)किशोर मंडल,आरती वंशकार,आनंद तांबे,शैलेंद्र बाजपाई,dr प्रकाश कश्यप,संतोष पाटले,धर्मेंद्र सेन,सुनील दत्त मिश्र,इत्यादि हैं। विजय भौमिक,आशु निर्मलकर,आनंद सेन,विजय निषाद,पूजा आदित्य,सोनू महंत और भी बहुत से प्रतीभाषाली क्लाकार है ,कहानी सुनील सागर का है, पटकथा व संवाद डॉ मानक टण्डन, क्रिस कुर्रे, सुनील सागर ने लिखा है। गीतकार कैलाश मांडले,परमानंद वैष्णव,गोपी वर्मा,सुनील सागर है। संगीत पक्ष को मजबूत बनाया है परमानंद वैष्णव, जगमोहन यादव ने और कैमरा वासु ने सम्हाला है । कोरियोग्राफी विलास राउत, राम यादव, बिनु क्रोक्स ने किया है। म्यूजिक अरेंजिंग में सूरज महानन्द शामिल है और मेकअप विलास राउत और हेयर पूजा आदित्य ने किया है।vvv

टीवी सीरियल मैं तुलसी तेरे आँगन की का मुहूर्त संपन्न

मुंबई:- जय त्रिदेव फ़िल्म प्रोडक्शन द्वारा निर्मित किया जा रहा टीवी सीरियल मै तुलसी तेरे आँगन की का मुहूर्त आज सम्पन्न हुआ। इस सीरियल के निर्माता ओमप्रकाश गिरि, निर्देशक माधव सक्सेना, लेखक चन्दर, कैमरामैन अजय आर्य, कास्टिंग डिरेक्टर मेहबूब है। मुहूर्त के मौके पर उपस्थित अतिथियों में सिद्धि टेलीविज़न के सीईओ सुरजीत सिंह, चैनल सुपरवॉइजिंग प्रोड्यूसर योगेश शर्मा, चैनल क्रिएटिव हेड प्रेम राज, राजीव रञ्जन दास, मीना सिंह, जवाहर वर्मा, संचित आदि लोगों ने सीरियल के निर्माता को बधाई दी।

भिलाई के युवा निर्देशक की सफल फ़िल्म - दबंग दरोगा

भिलाई निवासी यंग उर्जावान निर्देशक अभिषेक सिंह ने छत्तीसगढ़ के सुपरस्टार अनुज शर्मा को लेकर दबंग दरोगा छत्तीसगढ़ी फिल्म का निर्माण किया जो विगत दिनों छत्तीसगढ़ के सिनेमाघरों में तहलका मचाई हुई है हाल ही में अभिषेक सिंह से एक बातचीत के दौरान अपने फिल्मी जीवन के कुछ पल हमसे साझा किया अभिषेक सिंह ने अपने फिल्म कैर्रिर की शुरुआत मुम्बई से फिल्म मेकिंग का कोर्स करके किया।।उन्होंने सबसे पहले परेड रावल की प्रोडक्शन हाउस में पहला काम किया सीरियल लगी तुझसे लगन।।उसके बाद उनके काम को देख कर बहुत से फिल्म प्रोडक्शन वालो ने काम दिया।।इस तरह अभिषेक सिंह ने 10 साल तक बड़े बाद सीरियल जैसे महादेव,दिया बाति, साथ निभाना साथिया,वीर शिवाजी,बालिका बधु जौसे बड़े बड़े 15 सीरियल में अपना डायरेक्शन दिखाया।। अभिषेक सिंह ने सलमान खान की एक टीवी ऐड एवरग्रीन बैट्री में भी काम किया।।उनके मुम्बई के 10 साल के कैर्रिर में दो हिंदी फिल्मों में भी काम किया।। अब वह छत्तीशगढ़ी फिल्मो को आगे बढ़ने के लिए काम कर रहे है।।उनकी अभी की फिल्म दबंग दरोगा को बहुत पसंद किया जा रहा है।।

पारिवारिक छत्तीसगढ़ी फिल्म "हमर फैमिली न 1"प्रदेश के सिनेमघरो में 14 सितम्बर से

 रायपुर - बिलासपुर के  निर्माता जेठू साहू की फिल्म छत्तीसगढ़ी पारिवारिक फिल्म "हमर फैमिली न 1" 14 सितम्बर को प्रदेश के रायपुर ,बिलासपुर, दुर्ग-भिलाई ,धमतरी ,रायगढ़ ,कोरबा, चांपा ,अम्बिकापुर ,पिथौरा वा अन्य सिनेमघरो में प्रदर्शित होगी , फिल्म के निर्माता जेठू साहू ने बताया की ये फिल्म पूरी तरह से पारिवारिक ,मनोरंजक साफ़ सुथरी और दिल को सुकून देने वाली फिल्म है , फिल्म के निर्देशक अनुपम भार्गव ने बताया की हमर फॅमिली न 1 में समाज के लिए एक बहुत ही अच्छा सन्देश भी है , आज के इस आधुनिक युग में हर कोई अपनी ज़िन्दगी में व्यस्त है लोगो के पास हर तरह की सुख सुविधा उपलब्ध है लेकिन परिवार का सुख बहुत ही कम लोगो के पास है , अनुपम बताते हैं की उनका मकसद है की अगर इस फिल्म को देखने के बाद एक भी परिवार जो किसी भी कारन से बिछड़ा या टूट है अगर फिर से मिल जाता है तो उनका ये फिल्म बनाने का मकसद पूरा हो जायेगा। छत्तीसगढ़ी सिनेमा के सितारों से सजी इस फिल्म में मुख्य भूमिका में तीन ठन भोकवा फेम अनुपम भार्गव नजर आएंगे उनका साथ देंगी 2017 की बेस्ट एक्ट्रेस बी ए सेकंड ईयर फेम सोनाली सहारे , साथ ही फिल्म में राधे अँगूठाछाप्प फेम संतोष यादव , नीलम राम , प्रतिभा चौहान , अमित चक्रवर्ती , रजनीश झांझी , सरला सेन , उपासना वैष्णव , उषा विश्वकर्मा , विनय अम्बस्ट , अमित गोस्वामी और एक बहुत ही शानदार रोल में खुद फिल्म के निर्माता जेठू साहू नजर आएंगे , फिल्म में संगीत दिया है मनोहर यादव , और रोशन वैष्णव ने , साथ ही फिल्म की सिनेमेटोग्राफी और एडिटिंग गौरांग त्रिवेदी ने की है , फिल्म १४ सितम्बर से सिनेमाघरों के साथ साथ मल्टीप्लेक्स में भी प्रदर्शित की जायेगी |

बेहतरीन अदाकारों और अदाकारी से सजी फिल्म हमर फैमिली नंबर वन

छालीवुड सिनेमा जबसे अस्तित्व में आया है तब से छत्तीसगढ़ी फिल्मों के लिए छत्तीसगढ़ के दर्शकों का प्यार स्नेह और रुझान एक अलग ही लेवल पर है आगामी 7 सितंबर को रिलीज हो रही छत्तीसगढ़ी फिल्म हमर फैमिली नंबर वन के बारे में बताते हुए फिल्म के निर्देशक अनुपम भार्गव ने कहा कि यह फिल्म उनके कैरियर की सबसे महत्वपूर्ण फिल्म है और साथ ही उन्होंने अपने आप को सौभाग्यशाली ठहराते हुए कहा कि मेरा सौभाग्य है कि मैंने छत्तीसगढ़ के दिग्गज कलाकार रजनीश झांझी उपासना वैष्णव विनय अंबष्ट सरला सेन उषा विश्वकर्मा जैसे सदाबहार अभिनेताओं को डायरेक्ट किया एक एक युवा निर्देशक जब कोई फिल्म बनाता है सीनियर कलाकारों के साथ तो उसके मन में हमेशा इस बात का संशय रहता है कि क्या वह इन दिग्गज कलाकारों से वह काम निकलवा पाएगा जिस लेवल का काम हमारे सारे कलाकार करते हैं लेकिन अनुपम ने बताया कि जब सेट पर पहला दिन उन्होंने इन सारे सीनियर कलाकारों के साथ बिताया उसके बाद उनकी सारी शंकाएं दूर हो गई हमर फैमिली नंबर वन जो मुख्यता तीन भाइयों की कहानी है और इन तीन भाइयों का किरदार रजनीश झंझि विनय अंबष्ट और फिल्म निर्माता जेठु साहू निभा रहे हैं उनका साथ दे रही है उपासना वैष्णव सरला सेन और उषा विश्वकर्मा इन कलाकारों की एक्टिंग कमाल की है और इनकी सबसे खास बात यह है कि यह तुरंत ही कहानी की आत्मा तक जाकर उसे आत्मसात कर लेते हैं और बड़ी ही खूबसूरती से अपने किरदार को निभाते हैं उन्होंने बताया कि फिल्म के कई सीन और कई शॉट 1 टेक में ओके हुए हैं छत्तीसगढ़ के सिनेमा के लिए यह गर्व का विषय है कि ऐसे कलाकार हमारी माटी से जन्मे है तो ना सिर्फ छत्तीसगढ़ बल्कि भोजपुरी और बॉलीवुड सिनेमा में भी अपना एक मुकाम हासिल कर रहे हैं हमर फैमिली नंबर वन में इन दिग्गज कलाकारों की अदाकारी का जादू देखने के लिए सभी बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं

जोहार छत्तीसगढ़ फ़िल्म की पहली दिन की शूटिंग भिलाई में संपन्न

रायपुर-  आर.जे. इंटरटेनमेंट वर्ल्ड निर्माता राज साहू के बैनर पर बनने जा रही फिल्म छत्तीसगढ़ का बीतों दिनों भिलाई में एक जबर हरेली रैली के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना ने पूरे जोर शोर से छत्तीसगढ़ की परंपरा को सजाते हुआ व नाच गाना के साथ करीब 2 किलोमीटर की रैली निकली गई, उसी में जोहार छत्तीसगढ़ फ़िल्म की पहला दिन का शूटिंग संपन्न हुआ। वहीं इस शूटिंग में फ़िल्म के दोनों अभिनेता मौजूद रहें। वहीं फिल्म के दोनों हीरों जिप्सी में सवार होकर व हाथों में तलवार लेकर एक छत्तीसगढ़िया क्रांति सेना के सेनानी की भूमिका में दिखे। आपकों बता दें कि यह छत्तीसगढी फिल्म इंडस्टी का पहला फिल्म है जो इतने भीड़ भाड़ के बीच शूटिंग हुआ है। फ़िल्म के डायरेक्टर देवेन्द्र जांगड़े व प्रोड्यूसर ने सोशल मीडिया के द्वारा छत्तीसगढ़ क्रांति सेना का आभार व्यक्त किया। आपकों बता दें इस फिल्म में एक्शन स्टार देवेन्द्र जांगड़े (तहलका मोर नाव फेम) और राज साहू है। इस फिल्म में अभिनीत व निर्देशित खुद देवेन्द्र जांगड़े ने किया है। फिल्म में शिखा चितंबरे (लैला टिप टॉप छैला अंगूठा छाप के सुपरहिट फिल्म की हीरोइन) नजर आयेगी। वहीं न्यू रोमांटिक हीरो के राज साहू जो की इस फिल्म के निर्माता भी है तथा सोनाली सहारे बीए सेंकेड ईयर की हीरोइन के साथ नजर आयेगा। गीतकार देवेन्द्र जांगड़े का है जो इस फिल्म का अभिनेता व निर्देशक है। फिल्म का सह—निर्देशक दीपक आदित्या का है तथा कैमरामेन लक्ष्मण यादव का है। वहीं फिल्म के प्रोडक्शन टीम में रोशन, शिखर, योगेश, विपिन है।

‘यंग बाइकर्स’ फिल्म के पोस्टर का फर्स्ट लुक लॉन्च सड़क सुरक्षा का संदेश देगी फिल्म ‘यंग बाइकर्स’

मुंबई। वैसे तो बड़े पर्दे पर आने वाली हर फिल्म मनोरंजन पूर्ण होती है या फिल्म के पीछे मनोरंजन के साथ कोई संदेश छिपा होता है जो समाज के किसी मुद्दे पर जाग्रति के उद्देश्य से उसमें शामिल किया जाता है। लेकिन यंग बाइकर्स फिल्म खासकर युवाओं को केंद्र में रखकर बनाई गई है। जिसमें मनोरंजन के साथ युवा वर्ग को सड़क सुरक्षा का संदेश दिया गया है। बीते दिनों यूट्यूब पर फिल्म का प्रोमो जारी होने के बाद से ही ये फिल्म युवा वर्ग के बीच चर्चाओं में है। साथ ही साथ फिल्म के पूरी यूनिट ‘यंग बाइकर्स’ फिल्म के पोस्टर का फर्स्ट लुक लॉन्च किया। इस फिल्म में मुख्य भूमिका के रूप में मोहित मंघानी व सरिता जोशी ने है।

युवाओं के बीच फिल्म को लेकर उत्सुक्ता से लेखक और निदेशक विमल पाण्डेय इसे सड़क सुरक्षा के संदेश की सफलता मान रहे हैं। सड़क सुरक्षा, जीवन रक्षा के उद्देश्य को लेकर एआरटीओ विमल पाण्डेय के निर्देशन में बनी फिल्म यंग बाइकर्स अपने में शायद सड़क सुरक्षा को लेकर बनी पहली फिल्म होगी। जिसमें खासकर युवा वर्ग को ध्यान में रखकर मनोरंजन और ग्लैमर के साथ सड़क सुरक्षा का भी संदेश दिया गया है।

फिल्म के ज्यादा हिस्सों के विषय में उन्होंने ज्यादा तो नहीं बताया मगर इतना जरूर बताया कि फिल्म हल्द्वानी, रूद्रपुर, देहरादून, बनवसा, टनकपुर और कुल्लू मनाली में सूट की गई है। साथ ही ये बताया कि फिल्म में पांच गाने शामिल किए गए हैं। जिनमें शीर्षक गीत यंग बाइकर्स धीरे चल, सम्भल कर चल है। फिल्म के दो गाने एआरटीओ पांडेय ने खुद और दो गान कवि हरीश उप्रेती ने लिखे हैं। फिल्म के गानों को आवाज कुमार शानू, उदित नारायण, पामेला जैन, वैशाली विजय और व्यापक जोशी ने दी है। विमल पांडेय की पत्नी उप शिक्षाधिकारी गीतिका जोशी फिल्म की क्रिएटिव डायरेक्टर है। पांडेय ने कहा है कि फिल्म को दिवाली तक रिलीज कर दिया जाएगा। 

फिल्म रजनी रॉक स्टार का मुहूर्त भिलाई में धूम धाम से संपन्न

भिलाई में फिल्म रजनी रॉक स्टार का मुहूर्त मंत्री प्रेम प्रकाश पाण्डे के कर कमलों द्वारा संपन्न हुआ 
फिल्म रजनी रॉक स्टार का मुहूर्त कार्यकर्म भिलाई के निजी होटल में किया गया इस अवसर पर एक भव्य पार्टी भी की गई। बता दे फिल्म के निर्देशक इरफ़ान अली व निर्माता नीता कंबोज ने रथ यात्रा के अवसर पर रजनी रॉक स्टार के मुहूर्त किया इस अवसर  पर फिल्म की नायिका सान्या कंबोज सहित  छत्तीसगढ़ की महान हस्तियां इस कार्यक्रम में संमलित हुई,बतया गया की कास्टिंग पूरी होते ही फिल्म की शूटिंग सुरुवात   कर दी जाएगी 

फिल्म जोहार छत्तीसगढ़ का हुआ ऑडियो रिकॉर्डिंग देवेन्द्र बने अभिनेता से निर्देशक

रायपुर आर.जे. इंटरटेनमेंट वर्ल्ड निर्माता राज साहू  के बैनर पर बनाने जा रही फिल्म जोहार  छत्तीसगढ़ का बीते दिनों स्थानीय स्वपनिल  में  ऑडियों(गानो ) का रिकॉर्डिंग  किया गया। छत्तीसगढ़ी फिल्म इंडस्ट्रीज से जुड़े म्यूज़िक डायरेक्टर सूरज महानंद  के निर्देशन गायक अल्का चंद्राकर ,सुनील सोनी ,अनुराग शर्मा चंपा निषाद  ने अपनी आवाज के जलवे से गानो  को करणप्रिय बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी है | । आपको बता दें फिल्म में छत्तीसगढ़ के एक्शन स्टार देवेन्द्र जांगड़े (तहलका मोर नाव फेम  ) है। इस फिल्म में अभिनीत व निर्देशित खुद देवेन्द्र जांगड़े ने ही किया है। फिल्म में शिखा चितंबरे (लैला टिप टॉप छैला अंगूठा छाप फेम ) नजर आयेगी। वहीं न्यू रोमांटिक हीरो राज साहू, जो की इस फिल्म के निर्माता भी है  के साथ  बीए सेंकेड ईयर की हीरोइन सोनाली सहारे है । गीतकार देवेन्द्र जांगड़े का है जो इस फिल्म का अभिनेता व निर्देशक है। फिल्म का सह निर्देशक दीपक आदित्या जी का है। तथा कैमरामेन लक्ष्मण यादव का है।  वहीं फिल्म के प्रोडक्शन टीम में रोशन, शिखर, योगेश, विपिन है। फिल्म का सॉन्ग ट्रैक रिकॉडिंग मिनल स्टूडियों कटक  एवं सान्ग वाईस रिकॉर्डिंग स्वपनिल रायपुर में किया गया है।फिल्म की शूटिंग संभवतः जुलाई से प्रांरभ हो जाएगी 

टीवी सीरियल की जानी मानी अभिनेत्रियों से एक है अनिल कपूर की बहन

अपने 40 साल के करियर में अनिल कपूर ने 100 से भी अधिक फ़िल्में की हैं जिसमें शामिल हैं तेज़ाब,मिस्टर इंडिया, विरासत पुकार, ईश्वर, स्लमडॉग मिलियनेयर जैसी फिल्में। 60 साल के अनिल कपूर आज भी नए कलाकारों को टक्कर दे रहे हैं पर बढ़ती उम्र ने उन्हें रिटायरमेंट पर सोचने के लिए मजबूर कर दिया है। अनिल कपूर को तो आप सभी जानते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं उनकी बहन भी है एक बहुत बड़ी TV स्टार...

अनिल कपूर की बहन का नाम रीना मारवाह है, जिन्होंने संदीप मारवाह से शादी की है। उनके 2 बेटे है। रीना फिल्मों से दूर ही रही हैं लेकिन, उनका बेटा मोहित मारवाह फिल्म फगली’ के जरिए बॉलीवुड में एंट्री कर चुका है। रीना मारवाह भी TV सीरियल की एक बहुत बड़ी जानी मानी अभिनेत्रियों में से एक है। हालांकि आजकल वे लाइमलाइट से दूर रहती हैं।

पौराणिक सीरियल ‘जय गंगा मइया’ भी बहुत हिट हुआ था। इसमें मुख्य रोल निभाया था रीना कपूर ने। रीना वहीं हैं जिन्हें ‘वो रहने वाली महलों की’ से भी पहचान हासिल हुई। लेकिन साथ ही वे गंगा मइया का रोल उनके लिए ऐतिहासिक हो गया। सौम्य और करुणा से भरी गंगा मां का रोल रीना ने बखूबी निभाया था।

सहारा वन पर प्रसारित होने वाला धारावाहिक ‘वो रहने वाली महलों की’ बेहद लोकप्रिय है और इसके 850 से भी ज्यादा एपिसोड्‍स प्रसारित हुए थे । धारावाहिक में मुख्य भूमिका निभाने वाली रीना कपूर घर-घर में लोकप्रिय हो गई थी। बाद में इस धारवाहिक में थोड़े बदलाव किए और रीना कपूर को दुबारा से इस सीरियल में काम करने का मौका दिया।

इस बारे में रीना कहती हैं ‘वो रहने वाली महलों की ने मेरे जीवन में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इस शो में वापस आकर मैं बेहद खुश हूँ। मैं अपने प्रशंसकों को धन्यवाद देना चाहूँगी कि उन्होंने मुझे इतना प्यार दिया।‘ अब रीना सोशल मीडिया पर एक्टिव आती है लेकिन फिल्मी लाइट लाइट से उन्होंने खुद को दूर कर दिया है।

पद्मश्री अनुज शर्मा छत्तीसगढ़ के कलाकारों पर चिंता जाहिर करते हुए चुनाव लड़ने के भी दिए संकेत

दुर्ग  छतीसगढ़ी फ़िल्म अभिनेता पद्मश्री अनुज शर्मा स्काउट गाइड के समापन कार्यक्रम में शामिल होने दुर्ग आये हुए थे. जहा उन्होंने प्रदेश सरकार के रैवैये ही सवाल उठाते हुए कहा की 
लोक कलाकारों की दयनीय स्तिथि ओर प्रसिद्ध रंग कर्मी दीपक तिवारी (चरणदास चोर) के स्वास्थ को लेकर पूछे गए सवाल पर  कहा कि सरकार का रवैया निराशाजनक है सरकार को कलाकरों के लिए बेहतर योजना बनानी चाहिए. जिससे कलाकार आर्थिक संकट से उभर सके. वही सरकार के द्वारा फ़िल्म आयोग नही बनाने और भी जमकर निशाना साधा.
उन्होंने आगे कहा की  प्रदेश बनने के 18 साल बाद भी यदि कलाकारों को सम्मान न मिले तो तकलीफ होती है. वही कलाकारों के राजनीति में आने के मुद्दे पर अनुज ने कहा कि दूसरे राज्यो में कलाकारों को कुछ पार्टियां मौका दे रही है. जो अच्छा भी है पर छ.ग. में स्थिति अलग दिखाई देती है, वही ख़ुद के चुनाव लड़ने पर अनुज ने कहा की आने वाला समय बताएगा कि चुनाव लड़ना है कि नही