बड़ी खबर

शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने रायपुर पहुंचे राहुल गांधी सहित सभी दिग्गज नेता, CM भूपेश ने एयरपोर्ट पर किया स्वागत

रायपुर। मध्यप्रदेश में शपथ ग्रहण समारोह सम्पन्न होते ही राहुल गाँधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भोपाल से रायपुर पहुंच चुके हैं। एयरपोर्ट पर भूपेश बघेल, पी एल पुनिया समेत अन्य कांग्रेसी नेताओं ने उनका स्वागत किया और वहां से शपथ ग्रहण समारोह स्थल बलवर सिंह जुनेजा इंडोर स्टेडियम के लिए रवाना हो चुके हैं। गौरतलब है कि बदलते मौसम के कारण शपथ ग्रहण समारोह स्थल बदलकर इंडोर स्टेडियम कर दिया गया है।
शपथ ग्रहण में दिखेगी महागठबंधन की ताकत – राकांपा : शरद पवार, प्रफुल्ल पटेल, तेदेपा : चंद्रबाबू नायडू, लोजद : शरद यादव, नेशनल कॉन्फ्रेंस: फारुक अब्दुल्ला, झारखंड मुक्ति मोर्चा : हेमंत सोरेन, द्रमुक : स्टालिन, कनिमोझी और टीआर बालू. तृणमूल कांग्रेस: दिनेश त्रिवेदी, जेडीएस: पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा, कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमार स्वामी, राजद : तेजस्वी यादव, झारखंड विकास मोर्चा : बाबूलाल मरांडी

राज्यपाल ने भूपेश बघेल को दिया मुख्यमंत्री का पद ग्रहण करने आमंत्रण

रायपुर, इंडियन नेशनल कांग्रेस विधायक दल के नेता भूपेश बघेल ने रविवार को राजभवन आकर सरकार गठन करने का दावा पेश किया। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल की प्रतिनिधि के तौर पर राज्यपाल के सचिव सुरेन्द्र कुमार जायसवाल ने उनका दावा पत्र ग्रहण किया। उसके बाद राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने 17 दिसंबर की शाम 4:30 बजे भूपेश बघेल को मुख्यमंत्री के पद की शपथ लेने के लिए आमंत्रित किया। इस आशय का पत्र राज्यपाल के सचिव जायसवाल ने भूपेश बघेल को सौंपा। इस अवसर पर विधायक सर्वश्री रविन्द्र चौबे, सत्यनारायण शर्मा, अमितेश शुक्ल, रामपुकार सिंह, मोहम्मद अकबर, मनोज मंडावी, कवासी लखमा, शिवकुमार डहरिया, अमरजीत भगत, विकास उपाध्याय, देवेन्द्र यादव और अन्य विधायकगण उपस्थित थे।

CM का नाम फाइनल दोपहर तक चार्टर प्लेन से रायपुर पहुंचेंगे कांग्रेसी दिग्गज, छत्तीसगढ़ आने के बाद तय होगा मुख्यमंत्री का नाम

रायपुर : छत्तीसगढ़ के चुनाव में जनता ने कांग्रेस पार्टी का साथ देकर अपना इरादा साफ़ कर दिया है, लेकिन कांग्रेस  मुख्यमंत्री को लेकर अब तक संसय में लग रही है . मुख्यमंत्री को लेकर कांग्रेस में बैठकों का दौर थमने का नाम ही नहीं ले रहा है. बीते दिनों काग्रेस के पर्यवेक्षक से लेकर छत्तीसगढ़ प्रभारी पुनिया का सतत रायपुर दौरा भी कोई नतीजा नहीं दे पाया.

इस सिलसिले में कांग्रेस आला कमान ने पीसीसी चीफ भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, चरणदास महंत और ताम्रध्वज साहू को दिल्ली बुलाया. दिल्ली में चारों नेताओं से राहुल गांधी ने अलग-अलग चर्चा की. फिर चारों नेताओं ने राहुल गांधी के द्वारा लिए गए फैसले पर अपनी मंजूरी भी दी. दे दी है 

 इधर आज मुख्यमंत्री पद के दावेदार भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, ताम्र्ध्वज साहू और महंत विशेष विमान से  थोड़ी देर में  दिल्ली से रायपुर के लिए उड़ान भरेंगे. इसके साथ ही कांग्रेस प्रभारी पीएल पुनिया और पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे दोपहर 1 बजे रायपुर पहुंचेंगे. वहां से आने के बाद सीधे विधायकों की बैठक होगी. विधायक दल के बैठक में राहुल गांधी का संदेश सुनाकर एक मत से प्रस्ताव पारित करवाया जाएगा.

मुख्यमंत्री पद के सभी दावेदार पहुंचे राहुल गांधी के बंगले ताम्रध्वज,टी एस सिंहदेव भूपेश बघेल व महंत बंगले के अंदर तो शिव डहरिया, देवेंद्र यादव, जयसिंह अग्रवाल बंगले के बाहर है मौजूद

नई दिल्ली 15 दिसंबर 2018। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री चयन को लेकर एक बार फिर बैठकों का दौर शुरू हो गया है। अब से कुछ देर पहले मुख्यमंत्री पद के चारों दावेदार राहुल गांधी के बंगले पहुंचे हैं। सबसे पहले पीएल पुनिया और मल्लिकार्जुन खड़गे, राहुल गांधी के बंगले में दाखिल हुए।

उसके बाद 11 बजकर 8 मिनट पर भूपेश बघेल,चरणदास महंत और ताम्रध्ज साहू एक साथ गाड़ी से राहुल गांधी के बंगले में पहुंचे। सभी अंदर दाखिल हो चुके थे, उसके करीब 8 मिनट पर टीएस सिंहदेव करीब 11 बजकर 16 मिनट पर सिंहदेव सफेद रंग की कार से राहुल गांधी के बंगले में पहुंचे।

सभी दावेदार और आब्जर्बर व प्रभारी राहुल गांधी के बंगले में पहुंच चुके थे, लेकिन राहुल गांधी बंगले में मौजूद नहीं थे, करीब 11 बजकर 25 मिनट पर राहुल गांधी बंगले में लौटे हैं। अब बैठक का दौर शुरू हो गया है।

माना जा रहा है कि ये आखिरी दौर की बैठक होगी, बैठक के बाद मुख्यमंत्री के नामों का बंद लिफाफा मल्लिकार्जुन खड़गे और पीएल पुनिया रायपुर पहुंचेंगे और शाम में रायपुर विधायक दल की बैठक में नामों का ऐलान किया जायेगा। इधर राहुल गांधी के बंगले के बाहर कई विधायक भी मौजूद हैं। विकास उपाध्याय, शिव डहरिया, देवेंद्र यादव, जयसिंह अग्रवाल अभी भी राहुल गांधी के बंगले के बाहर मौजूद हैं।

अब से कुछ देर बाद मुख्यमंत्री के नामों का ऐलान कर दिया जायेगा। आपको बता दें कि कल भी बैठक हुई थी, जिसमें राहुल गांधी ने सभी दावेदारों से बारी-बारी से बातचीत की थी।

सुप्रीम कोर्ट का फैसला कांग्रेस के मुंह पर तमाचा : डॉ. रमन

 रायपुर,सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ. रमन सिंह ने कहा कि यह फैसला कांग्रेस के मुंह पर तमाचा है। इस फैसले के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को देश से और सेना से माफी मांगनी चाहिए। इससे कांग्रेस के झूठ का पर्दाफाश हो गया है।
डॉ. रमन सिंह ने कहा कि याचिका का खारिज होना मोदी सरकार की बड़ी जीत है। अब भाजपा सभी राज्यों में इस फैसले पर आक्रामक हो गई है। उन्होंने राहुल गांधी से पूछा कि क्या कांग्रेस के शासन में जो खरीदी हुई उसमें कमीशनखोरी हुई है। रमन ने कहा मुझे देश की जनता पर विश्वास है। लोकसभा के चुनाव में जनता मोदी सरकार को जीताकर इसका प्रमाण फिर से देगी।
उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के झूठ का प्रचार खत्म हो गया है। अब तक प्रधानमंत्री के खिलाफ एक भी भ्रष्टाचार के मामले नहीं आए। राहुल गांधी ने जो आरोप लगाए उसका आधार क्या है। उसे पूरे देश को बताना चाहिए। डॉ. सिंह ने कहा कि वेे प्रदेश में ही राजनीति करेंगे।

साईंस कालेज मैदान में 15 दिसंबर को होगा शपथ ग्रहण–

रायपुर / छत्तीसगढ़ के नये मुख्यमंत्री 15 दिसम्बर को साईंस कालेज मैदान में शपथ लेंगे। इसके लिए  प्रशासन की तरफ से साईंस कालेज मैदान में शपथ ग्रहण समारोह की तैयारी शुरू कर दी है। जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन की टीम रायपुर के साईंस कालेज मैदान पहुच कर इसका जायजा लिया । साईंस कालेज मैदान में भव्य पंडाल और सभास्थल को बनाने का काम शुरू हो गया है। जिला प्रशासन ने कार्यकर्ताओं का हुजूम उमड़ने की संभावना और पार्किंग की परेशानी को देखते हुए प्रशासन ने साईंस कालेज मैदान को शपथ ग्रहण के लिए उपयुक्त मान तैयारियां शुरू कर दी है ।
 

नेता चुनने कांग्रेस विधायक दल की पहली बैठक आज

रायपुर। कांग्रेस विधायक दल का नेता कौन हो पर रायशुमारी के लिए पार्टी के नव निर्वाचित विधायकों की पहली बैठक आज रात 8:00 बजे राजधानी रायपुर में होने जा रही है।इस महत्वपूर्ण बैठक में नवनिर्वाचित विधायकों के साथ अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे, छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया, प्रभारी सचिव डॉ चंदन यादव एवं अरुण उरांव मौजूद रहेंगे। मलिकार्जुन खरगे आज शाम 7:00 बजे दिल्ली से रायपुर आने वाली इंडिगो की नियमित विमान से रायपुर पहुंच रहे हैं।

एचडीएफसी बैंक ने नेक्स्ट-जनरेषन मोबाईल बैंकिंग ऐप का लाॅन्च किया

नई दिल्ली, 27 नवंबर, 2018ः आज एचडीएफसी बैंक ने नेक्स्ट जनरेषन मोबाईल बैंकिंग ऐप का अनावरण किया, जो आॅन द गो रहते हुए ग्राहकों को अपने बैंक खाते की सुगम पहुंच प्रदान करेगा। नेक्स्ट-जन ऐप द्वारा ग्राहक अपनी सुविधा के अनुसार अपने तरीके से बैंकिंग कर सकेंगे। 
 
इसमें सहज, समझदार नैविगेषन है और इसमें विस्तृत सिक्योरिटी तथा एक्सेस के लिए बायोमीट्रिक लाॅग इन जैसी खूबियां हैं। यह विनिमयों को 3 आसान श्रेणियों- पे, सेव एवं इन्वेस्ट में समूह में बांटकर ग्राहकों के लिए वित्तीय एवं तकनीकी षब्दावली के उपयोग की जरूरत को समाप्त करता है। ग्राहक डैषबोर्ड देख सकते हैं, जो बैंक के साथ सभी एस्सेट्स एवं दायित्वों का 360 डिग्री वित्तीय स्नैपषाॅट प्रदान करता है।
 
ऐप पर उपलब्ध 120$ विनिमय वर्तमान नैविगेषन के गहन अध्ययन एवं ग्राहकों की षोध एवं फीडबैक के साथ जुड़े यूसेज़ के पैटर्न के आधार पर चुने जाते हैं। मोबाईल बैंकिंग ऐप का डेमो देखने के लिए यहां पर क्लिक करें ब्सपबा ीमतम
 
नेक्स्ट-जन मोबाईल बैंकिंग ऐप की कुछ विषेषताएं हैं:
ऽ विस्तृत सिक्योरिटी के लिए फिंगरप्रिंट एवं फेषियल रिकग्निषन के साथ बायोमीट्रिक लाॅग-इन (आईफोन एक्स)।
ऽ ग्राहकों की जरूरतों जैसे पे, सेव, इन्वेस्ट के आधार पर सहज नैविगेषन।
ऽ बिल एवं यूटिलिटी पेमेंट्स पर ऐप द्वारा नोटिफिकेषन।
ऽ समस्त विनिमय के लिए सरल षर्तें जैसे ‘फंड ट्रांसफर’ की जगह ‘ट्रांसफर मनी’।
ऽ किसी भी सोषल मीडिया चैनल की भांति कस्टमाईज़्ड प्रोफाईल पिक्चर।
ऽ ग्राहकों की जरूरतों एवं उपयोग के आधार पर पर्सनलाईज़्ड नोटिफिकेषन एवं डिस्प्ले।
 
नया बैंकिंग ऐप नई दिल्ली में बैंक की वार्षिक डिजिटल इनोवेषन समिट 2018 (डीआईएस) में लाॅन्च किया गया। डिजिटल इनोवेषन समिट बैंक के लिए टेक्नाॅलाॅजी द्वारा संचालित इनोवेटिव उत्पादों एवं सेवाओं के प्रदर्षन एवं लाॅन्च के लिए मार्की ईवेंट है। ग्राहकों से नज़दीकी संबंध विकसित करने के लिए बैंक एक प्रतियोगिता लाॅन्च करेगा, जिसमें ग्राहक ऐप की समीक्षा कर सकेंगे।
 
नेक्स्ट जन मोबाईल बैंकिंग ऐप एवं डीआईएस 2018 ग्राहकों का अनुभव बेहतर बनाने के उद्देष्य से संभावनायुक्त एप्लीकेषन के लिए अत्याधुनिक टेक्नाॅलाॅजी के उपयोग के लिए बैंक के निरंतर केंद्रण का प्रमाण हैं। बैंक ने नेक्स्ट-जन ऐप के लिए डीआईएस का उपयोग भी किया। इस नए ऐप की विषेषताओं के साथ पूर्व में सफल रहे बिग क्लिपर एवं सेंसफोर्थ आदि की खूबियों का समावेष भी है।
डीआईएस 2018 में नए लाॅन्च के बारे में श्री नितिन चुग, कंट्री हेड, डिजिटल बैंकिंग, एचडीएफसी बैंक ने कहा, ‘‘नेक्स्ट-जन मोबाईल बैंकिंग ऐप आसान एवं समझदार ऐप है, जिसके माध्यम से आप अपनी सुविधानुसार और अपने तरीके से बैंकिंग कर सकते हैं। हम सन 2014 में गंगा के घाट पर ‘बैंक आपकी मुट्ठी में’ अभियान के लाॅन्च से ही मोबाईल की षक्ति को समझते थे। आज लोगों द्वारा मोबाईल का उपयोग करने का तरीका लगातार विकसित हो रहा है और हमारा नेक्स्ट-जन ऐप इस विकास को प्रतिबिंबित करता है। नेक्स्ट-जन ऐप ग्राहकों के जीवन का हिस्सा बनने, उनकी जरूरतों को समझने और रियल टाईम अनुभव प्रदान करने वाले उत्पाद एवं सेवाएं देने की बैंक की यात्रा में एक अगला कदम है।’’
 
सन 2014 में बैंक ने वाराणसी में गंगाघाट पर ‘बैंक आपकी मुट्ठी में’ टैगलाईन के साथ डिजिटल बैंकिंग की यात्रा की षुरुआत की थी। पिछले चार सालों में बैंक ने ग्राहकों के लिए टेक्नाॅलाॅजी के उपयोग में तीव्र प्रगति की है। 2014 में मोबाईल बैंकिंग ऐप ने ग्राहकों को सुविधा देने का वायदा किया। आज नेक्स्ट-जन मोबाईल बैंकिंग ऐप हमारे ग्राहकों से सुरक्षा एवं बेहतरीन अनुभव का वायदा करता है।

छत्तीसगढ़ के 72 सीटों पर दूसरे और अंतिम चरण का मतदान आज

रायपुर: आज छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के दूसरे और आखिरी चरण का मतदान है. दूसरे चरण में प्रदेश के चार संभागों के 19 जिलों की 72 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. दूसरे चरण में शांतिपूर्ण मतदान के लिए एक लाख से अधिक जवान तैनात हैं.
15 साल से सत्ता का सुख भोग रही भाजपा और विपक्ष में बैठी कांग्रेस दोनों के लिए ये दौर महत्वपूर्ण है. वहीं जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जोगी) और बसपा के गठबंधन ने मुकाबले को रोचक बना दिया है. 

 छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के दूसरे और आखिरी चरण वोटर्स की जानकारी
कुल वोटर: 1,54,00,596 मतदाता
पुरुष वोटर: 77,53,337
महिला वोटर: 76,46,382
थर्ड जेंडर: 877

मतदान केंद्र की जानकारी
मतदान केंद्र- 19,336
संगवारी मतदान केंद्र - 118
संवेदनशील मतदान केंद्र - 444

प्रत्याशियों की जानकारी
कुल प्रत्याशी: 1079
निर्दलीय: 493
सबसे ज्यादा प्रत्याशी- रायपुर दक्षिण (46)
सबसे कम प्रत्याशी- बिन्द्रानवागढ़ (6)

2013 की स्थिति
छत्तीसगढ़ में कुल विधानसभा सीट- 90
वर्तमान में बीजेपी के पास- 49 सीट
वर्तमान में कांग्रेस के पास- 39 सीट
निर्दलीय सीट- 1
नामित- 1
 दूसरे चरण के 72 विधानसभा सीटों में रायपुर ग्रामीण, रायपुर नगर (पश्चिम), रायपुर नगर (उत्तर), रायपुर नगर (दक्षिण), दुर्ग ग्रामीण, दुर्ग शहर, भिलाई नगर, वैशाली नगर, पाटन, अहिवारा, साजा, बेमेतरा, नवागढ़, पंडरिया, कवर्धा, प्रेमनगर भरतपुर सोनहत, मनेंद्रगढ़, बैकुंठपुर, प्रतापपुर, रामानुजगंज, सामरी, लुण्ड्रा, अंबिकापुर, सीतापुर, जशपुर, कुनकुरी.
पत्थरगांव, लैलूंगा, रायगढ़, सारंगढ़, खरसिया, धरमजयगढ़, रामपुर, कोरबा, कटघोरा, पाली-तानीखार, मरवाही, कोटा, लोरमी, मुंगेली, तखतपुर, बिल्हा, बिलासपुर, बेलतरा, मस्तुरी, अकलतरा, जांजगीर-चांपा, सक्ती, चन्द्रपुर, जैजेपुर, पामगढ़, सराईपाली, बसना, खल्लारी, महासमुन्द, बिलाईगढ़.कसडोल, बलौदाबाजार, भाटापारा, धरसींवा, आरंग (अ.जा.), अभनपुर, राजिम, बिन्द्रानवागढ़, सिहावा, कुरूद, धमतरी, संजारी बालोद, डौंडीलोहारा, गुण्डरदेही, समेत भटगांव में 20 नवंबर को वोट डाले जाएंगे.
 

नक्सलियों ने एंटी लैंडमाइन वाहन को उड़ाया, 6 जवान घायल, दो की हालत गंभीर

 बीजापुर -   आज फिर से चुनाव के बाद नक्सलियों से मुठभेड़ हुई है. धुर नक्सल इलाका बीजापुर के जिला मुख्यालय से लगे महादेव घाट के सीआरपीएफ कैंप के पास पुलिस-नक्सली मुठभेड़ हो गया है. नक्सलियों ने जवानों के एंटी लैंडमाइन वाहन को उड़ा दिया है. जिससे 6 जवान घायल हो गए, जबकि दो की हालत गंभीर बताई जा रही है.
मिली जानकारी के मुताबिक सुबह 9 बजे बीजापुर से 5 किलोमीटर दूर सीआरपीएफ 35 बटालियन कैंप के पास यह घटना घटी है. वहीं बीएसएफ के जवान वाहन के चुनावी ड्यूटी खत्म कर वापस लौट रहे थे तभी नक्सलियों ने ट्रक पर आईईडी विस्फोट कर उड़ा दिया. इस हमले में एक नागरिक समेत 6 के बीएसएफ जवान घायल हो गए है. जिसमें दो की हालत नाजुक है. सभी घायल जवानों को जिला हॉस्पिटल ले जाया जा रहा है.

वहीं नक्सलियों ने ब्लास्ट के बाद जवानों पर फायरिंग करना शुरु कर दिया है. जबावी कार्रवाई में जवान भी फायरिंग कर रहे है. दोनों तरफ से जबरदस्त मुठभेड़ हो रही है. बताया जा रहा है कि मुठभेड़ अभी भी जारी है. बीजापुर अस्पताल से जारी बयान कहा गया कि सभी घायल जवान खतरे से बाहर हैं और जुरुरत पड़ने पर रायपुर ले जाया जाएगा.  

छत्तीसगढ़ चुनाव: पहले चरण की वोटिंग जारी भारी उत्साह के साथ मतदान कर रहे लोग

रायपुर। छत्तीसगढ़ में पहले चरण का मतदान चल रहा है. मतदाताओं में मतदान को लेकर भारी उत्साह देखा जा रहा है. लोग बढ़-चढ़ कर मतदान में हिस्सा ले रहे हैं. वहीं कई इलाकों में मतदान की गति बेहद धीमी चल रही है. मतदान को लेकर धीमी गति की वजह नक्सलियों की धमकी के अलावा बार-बार ईवीएम का खराब होना और लंबे समय तक वोटिंग बाधित होना भी है.
प्रथम चरण में होने वाले मतदान के लिए 18 विधानसभा क्षेत्रों के 31 लाख 79 हजार 520 मतदाता हैं. मतदान के लिए चार हजार 336 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं. प्रथम चरण में 16 लाख 21 हजार 839 महिला, 15 लाख 57 हजार 592 पुरूष तथा 89 तृतीय लिंग मतदाता आज अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं.
सुबह 11 बजे तक मतदान की स्थिति
कोंडागांव में 14 प्रतिशत, अंतागढ़ 16 फीसदी, बस्तर में 13, राजनांदगांव में 15, कांकेर 15, भानुप्रतापपुर में 5 प्रतिशत, कोंटा में 7, दंतेवाड़ा में 11, खैरागढ़ में 13, केशकाल 14, मोहला मानपुर में 18 प्रतिशत, खुज्जी 12, चित्रकोट 19, जगदलपुर में 17, डोंगरगांव में 20 प्रतिशत मतदान सुबह 10 बजे तक हुआ है.

छत्तीसगढ़ में पहले चरण के लिए 12 नवंबर को होने वाले मतदान के लिए 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार-प्रसार थमा

रायपुर-  छत्तीसगढ़ में पहले चरण के लिए 12 नवंबर को होने वाले मतदान के लिए 48 घंटे पहले  बस्तर संभाग की 12 और राजनांदगांव जिले की 6 विधानसभा सीटों पर चुनाव प्रचार-प्रसार थम गया है. 
आचार संहिता के नियमों के अनुसार मतदान के दिन से 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार बंद कर दिया जाना चाहिए. इसके बाद उम्मीदवार केवल व्यक्तिगत प्रचार और घर-घर जनसंपर्क कर सकेंगे. मतदान समाप्ति के 48 घंटे पहले से सार्वजनिक मंचों से प्रचार-प्रसार प्रतिबंधित रहता है. 
 
12 नवंबर को प्रदेश में पहले चरण में छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित 18 सीटों पर मतदान कराए जाएंगे. इसके बाद दूसरे चरण में 20 नवंबर को 72 सीटों पर वोट डाले जाएंगे. मतगणना 11 दिसंबर को होगी. प्रदेश में पिछली तीन बार से भारतीय जनता पार्टी की सरकार है और रमन सिंह मुख्यमंत्री हैं.
 
राजनांदगांव, डोंगरगढ़, खैरागढ़, खुज्जी, डोंगरगांव, मोहला-मानपुर, कोंटा, नारायणपुर, अंतागढ़, भानुप्रतापपुर, कांकेर, दंतेवाड़ा, बीजापुर, बस्तर, चित्रकोट, जगदलपुर, केशकाल और कोंडगांव शामिल हैं.

इसमें हाईप्रोफाइल सीट राजनांदगांव है. यहां से मुख्यमंत्री रमन सिंह बीजेपी प्रत्याशी और कांग्रेस की करुणा शुक्ला मैदान में हैं. नक्सल प्रभावित इलाकों में मतदान को देखते हुए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले चरण के प्रचार के लिए छत्तीसगढ़ दौरे पर आज जगदलपुर में आमसभा को करेंगे संबोधित


रायपुर/ कांकेर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले चरण के प्रचार के लिए प्रदेश दौरे पर आ रहे हैं. पीएम मोदी जगदलपुर में आमसभा को संबोधित करेंगे. पीएम की सभा को देखते हुए कड़े सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं.

पीएम मोदी सुबह 9.40 मिनट पर दिल्ली से रवाना होंगे और 11.20 मिनट पर रायपुर पहुंचेंगे. पीएम 11.25 मिनट पर रायपुर से हेलीकॉप्टर से जगदलपुर जाएंगे. पीएम यहां के लालबाग मैदान में आमसभा को संबोधित करेंगे और 2 बजे के बाद यहां से रायपुर रवाना होंगे. पीएम 3.30 मिनट पर वापस दिल्ली रवाना हो जाएंगे.

पीएम मोदी लालबाग मैदान में चुनावी सभा को संबोधित करेंगे. मोदी की सभा को देखते हुए बस्तर में भाजपा ने सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं. भाजपा के पदाधिकारी मोदी की सभा में 70 से 80 हजार की संख्या में भीड़ जुटने की बात कह रहे हैं. बीजेपी के जिला अध्यक्ष बैदुराम ने बताया कि, 7 विधानसभा के कार्यकर्ता और जनता मोदी जी का संबोधन सुनेंगे.

इधर प्रधानमंत्री के बस्तर प्रवास को देखते हुए पुलिस ने भी सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए हैं. बताया जा रहा है कि 10 हजार से अधिक अर्ध सैनिक बलों को तैनात किया गया है. सुरक्षा व्यवस्था में सीआरपीएफ, एसटीएफ, बीएसएफ और सीआईएसएफ के जवान शामिल हैं.

 

राहुल गांधी का छत्तीसगढ़ दौरा कांकेर राजनांदगांव में आज प्रचार करेंगे कांग्रेस अध्यक्ष

रायपुर: विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के लिए महज तीन दिन ही बचे हैं. ऐसे में सभी राजनीतिक दल अपनी पूरी ताकत झोंकने में लगे हुए हैं. कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी कांकेर और राजनांदगांव में सभा को संबोधित करेंगे.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शुक्रवार सुबह रायपुर पहुंचेंगे. यहां से वे हेलीकॉप्टर के जरिए दोपहर 12 बजे कांकेर के पखांजूर पहुंचेंगे. यहां वे जनसभा को संबोधित करेंगे. कांकेर और राजनांदगांव में पहले चरण में मतदान होने हैं. 
 राजनांदगांव में लोगों के बीच जाएंगे
पखांजूर में सभा को संबोधित करने के बाद राहुल राजनांदगांव के लिए रवाना होंगे और 1.30 बजे वहां सभा करेंगे. सभा समाप्त होने के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष सीधे डोंगरगढ़ के नेहरू कॉलेज स्टेडियम जाएंगे और वहां मौजूद कांग्रेस कार्यकर्ताओं और आम जनता को संबोधित करेंगे.
 सभा समाप्त होने के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी यहां से प्रत्याशी करुणा शुक्ला के पक्ष में राजनांदगांव में रोड शो करेंगे. उनका रोड शो गुरुनानक चौक, मानव मंदिर चौक, सिनेमा लाइन, भारत माता चौक से होते हुए गंज चौक पर खत्म होगा. 

महेश गागड़ा की बीए डिग्री हो चुकी है अमान्य ,फिर भी नामांकन शपथपत्र में लिखा बीए पास और डिग्री की कॉपी भी लगाई ,कांग्रेस करेगी निर्वाचन अधिकारी से शिकायत

रायपुर : बीजापुर से बीजेपी प्रत्याशी महेश गागड़ा नई मुसीबत में पड़ सकते हैं।बीबीएन 24 की सहयोगी संस्था  'द एक्सपोज़र' को पड़ताल में पता चला है कि जिस डिग्री का हवाला उन्होंने अपने नामांकन पत्र में जिला निर्वाचन अधिकारी के समक्ष शपथपूर्वक दिया है वह अब अमान्य हो गया है। वर्तमान में छत्तीसगढ़ सरकार में वन मंत्री रहे महेश गागड़ा ने सालेम तमिलनाडु के विनायका मिशन यूनिवर्सिटी से वर्ष 2011 में चार वर्ष की अवधि में बीए (HEP ) कोर्स पूरा किया था। विनायका मिशन यूनिवर्सिटी डिस्टेंस एजुकेशन का कोर्स पुरे देशभर में करवाती थी लेकिन सबसे पहले यूजीसी (यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमीशन )ने फिर सुप्रीम कोर्ट ने इसी वर्ष इस यूनिवर्सिटी की सभी डिस्टेंस लर्निंग डिग्री (2005 से 2015 )सस्पेंड कर दी है।  

 

(नामांकन में दी गई शैक्षणिक जानकारी )

 

अगस्त 2018 में विनायका यूनिवर्सिटी को फर्जी बताया यूजीसी ने 

यूजीसी ने इस यूनिवर्सिटी को सिर्फ मेडिकल शिक्षा के लिए 2010 में उनके फाउंडेशन विनायका मिशन  रिसर्च फाउंडेशन को मान्यता दी थी । यूजीसी के गाइडलाइन्स के मुताबिक कोई भी प्राइवेट या डीम्ड यूनिवर्सिटी अपने स्टेट के बाहर रेग्युलर या डिस्टेंस मोड़ में डिग्री नहीं दे सकती है। लेकिन इसका दुरुपयोग करते हुए यूनिवर्सिटी  ने छत्तीसगढ़ सहित देशभर में अपने केंद्र खोलकर दूसरी अमान्य डिग्रीयां बाँटी थीं। पंजाब ,छत्तीसगढ़ से इस यूनिवर्सिटी की सर्वाधिक शिकायतें थी। इसी दिशा में कदम उठाते हुए यूजीसी ने इसी साल 09 अगस्त 2018 को एक नोटिफिकेशन जारी किया और देशभर के फर्जी 35 यूनिवर्सिटी के डिस्टेंस लर्निंग कोर्स की मान्यता खत्म कर दी है। इसमें प्रमुख तौर पर उस विनायका यूनिवर्सिटी का भी नाम है जहाँ से महेश गागड़ा ने डिग्री ली है। यूजीसी की यह लिस्ट उनके वेबसाइट में देखी जा सकती है।

(यूजीसी का नोटिफिकेशन )

 

यूजीसी ने तमिलनाडु के   सिर्फ तीन यूनिवर्सिटी को मान्यता दी है ,उनके नाम हैं- यूनिवर्सिटी ऑफ़ मद्रास ,अन्ना यूनिवर्सिटी व तमिलनाडु ओपन यूनिवर्सिटी। गागड़ा ने शपथ पत्र के साथ इस यूनिवर्सिटी को वैध बताने के लिए एक अन्य दस्तावेज भी जारी किया है जो यूनिवर्सिटी ने 2015 में उन्हें जारी किया था। लेकिन यूजीसी द्वारा और सुप्रीम कोर्ट द्वारा डिग्री अमान्य होने से 3 वर्ष पुराने उस कागज़ का अब महत्त्व नहीं रह जाता है। 

(प्रमुख अख़बारों के न्यूज़ वेबसाइट में छपी खबर)

 

कांग्रेस अब करेगी जिला निर्वाचन अधिकारी व मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से शिकायत 

चुनावी शपथ पत्र में नियमानुसार उन डिग्रीयों को प्रस्तुत नहीं किया जा सकता है,जो अमान्य हैं या फर्जी है। लेकिन इसके बावजूद महेश गागड़ा द्वारा नामांकन पत्र में अमान्य डिग्री प्रस्तुत की गई है।नामांकन शपथपत्र में गलत जानकारी या फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत किये जाते हैं तो स्क्रूटनी के बाद भी मामला दर्ज़ किया जा सकता है व नामांकन रद्द किया जा सकता है।  इस मामले में बीजापुर से कांग्रेस प्रत्याशी विक्रम मंडावी द्वारा निर्वाचन अधिकारियों के पास शिकायत करने की बात 'द एक्सपोज़र ' से कही है। महेश गागड़ा के द्वारा पिछले चुनावी शपथपत्र में भी इस डिग्री का हवाला दिया गया है।

गौरतलब है कि महेश गागड़ा के ऊपर रामकुमार निर्मलकर नामक एक धोबी की हत्या का आरोप भी था ,लेकिन वे  इस मामले में 04 जुलाई 2014 को न्यायालयीन आदेश (अपर सत्र )के द्वारा बरी हो चुके हैं। इससे पूर्व संसदीय सचिव रहते तक उनके ऊपर यह प्रकरण चल रहा था।