राज्य

खरसियां से कोरीछापर तक 44 किलोमीटर लंबी नवनिर्मित रेल लाइन पर पहली मालगाड़ी का सफलतापूर्वक परिचालन ।

खरसियां-धरमजयगढ़ (102 कि.मी.) नई रेल लाइन परियोजना के अंतर्गत खरसियां से कोरीछापर तक 44 किलोमीटर लंबी रेल लाइन का निर्माण कार्य पूर्ण ।

नई लाइनों के निर्माण से छत्तीसगढ़ के सुदूर एवं रेल विहीन क्षेत्रों में आर्थिक व सामाजिक विकास को मिलेगी एक नई गति ।

बिलासपुर 12 अक्टूबर, 2019

दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में महत्वपूर्ण रेल कारीडोर परियोजनाओं पर कार्य किए जा रहे है । इसी के अंतर्गत ईस्ट रेल परियोजना के प्रथम चरण में खरसियां से गरे पेलमा सहित धरमजयगढ़ तक 102 किलोमीटर लंबी रेल लाइन का निर्माण किया जा रहा । इस परियोजना के अंतर्गत खरसियां से कोरीछापर तक 44 किलोमीटर लंबी रेल लाइन का निर्माण कार्य पूर्ण कर शुरुआती दौर में इस लाइन को मालगाड़ी के परिचालन के लिए अधिकारियों के निरीक्षण पश्चात फिट दिया गया है ।

इसी कड़ी में आज दिनांक 12 अक्टूबर, 2019 को इस नवनिर्मित रेल लाइन पर पहली मालगाड़ी का सफलतापूर्वक परिचालन किया गया । आज प्रातः 7.05 बजे खरसियां स्टेशन से 58 वैगन की एक खाली मालगाड़ी को कोरीछापर के लिए रवाना किया गया, जो कि 9.00 बजे कोरीछापर रेलवे स्टेशन पहुँची । वापसी में इस मालगाड़ी में कोयला लोड कर दोपहर 13.40 बजे कोरीछापर स्टेशन से कुम्हारी स्टेशन के लिए रवाना किया गया जो कि दोपहर 15.35 बजे खरसियां स्टेशन पहुँची एवं आगे गंतव्य के लिए रवाना की गई ।

ईस्ट रेल कारीडोर परियोजना के अंतर्गत प्रथम चरण में खरसियां-घरघोड़ा-कोरीछापर- धरमजयगढ़ सहित घरघोड़ा से डोंगा महुआ, गरे पेल्मा तक 102 किलोमीटर नई रेल लाइन का निर्माण किया जा रहा है । नई रेल लाइन परियोजना के अंतर्गत खरसिया से धरमजयगढ़ तक गुरदा, छाल, घरघोड़ा, कोरीछापर, कुरुमकेला, धरमजयगढ़, भालूमाड़ा एवं गरे पेलमा में 09 रेलवे स्टेशन बनाने की योजना है । इस परियोजना के प्रथम चरण की वर्तमान अनुमानित लागत लगभग 3055 करोड़ है एवं इस परियोजना की कुल लागत का एसईसीएल.64%, इरकान.26%ए एवं छत्तीसगढ़ शासन के द्वारा 10% की राशि संयुक्त रूप से साझा की जा रही है । ईस्ट रेल कारीडोर परियोजना के दूसरे चरण के अंतर्गत धरमजयगढ़ से उरगा तक 62.5 किलोमीटर रेल लाइन का निर्माण किया जाएगा ।

इन रेल लाईनों के निर्माण से न सिर्फ माल परिवहन को बढ़ावा मिलेगा बल्कि छत्तीसगढ़ के सुदूर एवं रेल विहीन क्षेत्रों के निवासियों को रेल आवागमन की सुविधा भी उपलब्ध हो सकेगी । साथ ही इन क्षेत्रों में आर्थिक व सामाजिक विकास को भी एक नई गति मिलेगी ।

अब से उत्कल एक्सप्रेस में यात्रियों को मिलेगी 02 अतिरिक्त अस्थायी कोच की सुविधा।

अजीत मिश्रा ll रेलवे प्रशासन द्वारा गाडियों में त्यौहारों के दौरान यात्रियों की होने वाली अतिरिक्त भीड़़़ को ध्यान में रखते हुए विभिन्न गाडियों में अतिरिक्त कोचों की सुविधा प्रदान की जा रही है। इसी कडी में गाडी संख्या 18477/18478 पुरी-हरिद्वार-पुरी उत्कल एक्सप्रेस में 01 अतिरिक्त एसी-3 एवं 01 शयनयान कोच की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। एसी-3 कोच की सुविधा यात्रियों को पुरी से दिनांक 11 अक्टूबर 2019 से 12 अक्टूबर 2019 तक एवं हरिद्वार से दिनांक 14 अक्टूबर 2019 से 13 अक्टूबर 2019 तक तथा शयनकोच कोच की सुविधा पुरी से दिनांक 13 अक्टूबर 2019 से 14 अक्टूबर 2019 तक एवं हरिद्वार से दिनांक 16 अक्टूबर 2019 से 17 अक्टूबर 2019 तक प्राप्त होगी। इन अस्थायी अतिरिक्त कोचों की उपलब्धता से इस गाडी के अधिकाधिक यात्रियों को कंफर्म सीट की सुविधा प्राप्त होगी।


421 सीसीटीवी कैमरे की मदद से कि जा रही है दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के विभिन्न स्टेशनों में सुरक्षा की निगरानी ।

अजीत मिश्रा ll बिलासपुर 11 अक्टूबर, 2019 ll दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के तीनो मंडलों के सैकड़ों स्टेशनों में प्रतिदिन हजारों की संख्या में यात्री एक स्थान से दूसरे स्थानों के लिए यात्रा कराते है । प्रतिदिन यात्री रेल के द्वारा सफ़र करने के लिए स्टेशनों में पहुचते है और उनके सामान एवं बच्चों सहित सभी यात्रियों की सुरक्षा की व्यवस्था को बनाए रखने की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी रेल सुरक्षा बल एवं जीआरपी के जवानो के ऊपर रहती है, जिसके लिए वे चौबीसों घंटों निगरानी में तैनात रहते है । इस काम को सुचारू रूप से करने के लिए रेल सुरक्षा बल एवं जीआरपी के जवानो द्वारा स्टेशनों के चप्पे चप्पे पर अपने जवानो को तैनात करते है इसके साथ ही स्टेशनों में लगे हुए सीसीटीवी कैमरा के द्वारा भी एक-एक गतिविधियों पर नज़र रखी जाती है । दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के तीनो मंडलों के रेल सुरक्षा बल के द्वारा यात्रियों की शत-प्रतिशत सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए 17 महत्वपूर्ण स्टेशनों में 421 सीसीटीवी कैमरे लगाये गए है, जिनकी मदद से स्टेशनों के प्लेटफार्मों एवं पूरे स्टेशन परिसरों पर नज़र रखी जाती है । सीसीटीवी कैमरे की मानीटरिंग में किसी भी प्रकार के संदेहास्पद व्यक्ति या घटना के सामने आते ही तुरंत ही उस पर संज्ञान लेते हुए कार्यवाही की जाती है | दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा सुरक्षा के लिए 421 सीसीटीवी कैमरा विभिन्न 17 स्टेशनों में लगाये गए है जिनका मंडल एवं स्टेशनवार विवरण इस प्रकार है – बिलासपुर मंडल के 5 महत्वपूर्ण स्टेशनों में लगाये गए है जिनमें रायगढ़ में – 9, चम्पा में – 8, बिलासपुर में – 85, शहडोल स्टेशन में - 8 एवं कोरबा स्टेशन में 8 इस प्रकार बिलासपुर मंडल के 5 महत्वपूर्ण स्टेशनों में कुल 118 सीसीटीवी कैमरा लगाये गए है ।


इसी प्रकार रायपुर मंडल के रायपुर स्टेशन में -75 कैमरे, दुर्ग स्टेशन में - 26 कैमरे एवं डीआरएम ऑफिस परिसर में 07 कैमरे लगाये गए है, इस प्रकार रायपुर मंडल के रायपुर, दुर्ग स्टेशन एवं डीआरएम ऑफिस परिसर में कुल 108 सीसीटीवी कैमरा लगाये गए है । नागपुर मंडल के 9 महत्वपूर्ण स्टेशनों में सीसीटीवी कैमरे लगाये गए है जिनमें इतवारी में –19, काम्पटी में 13, तुमसर में 13, गोंदिया में 87, बालाघाट में 12, डोंगरगढ़ में 15, राजनांदगांव में 15, भंडारा में 13 एवं छिंदवाडा में 8 है । इस प्रकार नागपुर मंडल के 9 महत्वपूर्ण स्टेशनों में कुल 195 सीसीटीवी कैमरा लगाये गए है । इस प्रकार दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे द्वारा सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बिलासपुर,रायपुर एवं नागपुर मंडल के 17 स्टेशनों में कुल 421 सीसीटीवी कैमरा लगाये गए है ।

साकेत रंजन ने दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के उपमहाप्रबंधक (सामान्य) का पदभार ग्रहण किया

अजीत मिश्रा ।। बिलासपुर : साकेत रंजन ने उपमहाप्रबंधक (सामान्य) के पद का कार्यभार आज दिनांक 11 अक्टूबर, 2019 को ग्रहण किया। साकेत रंजन भारतीय रेलवे ट्रैफिक सेवा (प्त्ज्ै) के 2011 बैच के अधिकारी है एवं पूर्व में बिलासपुर मंडल में मंडल परिचालन प्रबंधक (सीआईसी) के पद पर भी कार्य कर चुके है। उन्होने भारतीय रेल परिवहन प्रबंधक संस्थान, लखनऊ से यातायात योजना और कार्यक्रम प्रबंधन में प्रशिक्षण प्राप्त किया है। सामान्य प्रशासन विभाग में स्थापना से पहले श्री साकेत रंजन बिलासपुर मंडल में मंडल परिचालन प्रबंधक (सीआईसी), बिलासपुर के पद पर कार्यरत थे। रवीश कुमार सिंह की पदस्थापना बिलासपुर मंडल में वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबंधक (समन्वय) के पद पर ही गई है।


दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल के दगोरी स्टेशन पर नवनिर्मित फुट ओवर ब्रिज बनकर तैयार

रायपुर - दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल के दगोरी स्टेशन पर नवनिर्मित फुट ओवर ब्रिज (एफओबी) के निर्माण का कार्य 09 अक्टूबर 2019 को पूर्ण कर लिया गया है इस ब्रिज का कार्य दिनांक 10 फरवरी 2019 से किया जा रहा था इस ब्रिज के बनने से यात्रियों को एक प्लेटफार्म से दूसरे प्लेटफार्म पर आने जाने में सहूलियत होगी । यह प्लेटफार्म रेलवे परिक्षेत्र को जोड़ते हुए प्लेटफार्म नंबर 1 से प्लेटफार्म नंबर 2 - 3 से जुड़ा हुआ है । यह प्लेटफार्म पर आने जाने वाले यात्रियों के लिए संरक्षा की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण है इस फुट ओवरब्रिज की कुल लंबाई 36 मीटर है एवं चौड़ाई 3 मीटर है । इस फुट ओवरब्रिज में भी 25.10 एवं 20. 38 मीटर के क्लियर स्पान लगे हुए हैं । यह फुट ओवर ब्रिज लगभग 1.20 करोड़ की लागत से बनाया गया है । मंडल रेल प्रबंधक श्री कौशल किशोर ने फुट ओवरब्रिज बनने पर यात्री सुविधा में बढ़ोतरी के लिए इंजीनियरिंग विभाग की प्रशंसा की ।


क्वालिटी काउंसिल आँफ इंडिया की स्टेशन स्वच्छता सर्वे 2019 की स्वच्छता रैंकिंग मे दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन मे राजनांदगाँव रेलवे स्टेशन पहला स्थान पर

राजनांदगांव-- स्टेशन साफ सफाई सर्वेक्षण रिपोर्ट मे स्वच्छता और साफ सफाई के विभिन्न मानको के आधार पर 720 रेलवे स्टेशनों की रैकिंग की गई है......क्वालिटी काउंसिल आँफ इंडिया की स्टेशन स्वच्छता सर्वे 2019 की स्वच्छता रैंकिंग मे दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन मे राजनांदगाँव रेलवे स्टेशन का पहला स्थान है....वही पुरे देश मे राजनांदगाँव रेलवे स्टेशन सफाई और स्वच्छता के मामले मे 13 वां स्थान मिला है....दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन दुसरे स्थान पर है....उसे 801 व 301 अंक मिले है.....हालाकि रायपुर रेलवे स्टेशन ने टॉप 10 रेलवे स्टेशन मे 9 स्थान प्राप्त किया है.....जबकि स्वच्छता की रैंकिंग मे 24 स्थान मिला है....वहीं राजनांदगाँव रेलवे स्टेशन ने स्वच्छता रैंकिंग मे लंबी छलांग लगाई है...और अपनी एक अलग पहचान पूरे देश भर मे बना ली है....इधर राजनांदगाँव व रायपुर स्टेशन को एनएसजी थ्री की श्रेणी में है....

150 वीं महात्मा गांधी जयंती के अवसर पर रायपुर रेल मंडल के स्टेशनों पर स्वच्छ्ता शपथ, स्वच्छता अभियान एवं श्रमदान किया

रायपुर दक्षिण पूर्व मध्य रेल रायपुर रेल मंडल के रायपुर में महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती के अवसर पर रायपुर स्टेशन पर मंडल रेल प्रबंधक श्री कौशल किशोर ने महात्मा गांधी जी के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किए तत्पश्चात सभी को स्वच्छता की शपथ दिलाई। दुर्ग भाटापारा तिल्दा नेवरा भिलाई पावर हाउस बालोद दल्लीराजहरा सहित सभी स्टेशनों पर महात्मा गांधी जी की 150वीं जयंती मनाई गई। इस अवसर पर सभी स्टेशनों पर श्रमदान, स्वच्छ्ता स्वच्छता कार्यक्रम पौधारोपण किया गया।


जिसमें कई सामाजिक संगठनों संत निरंकारी संगठन गायत्री परिवार सुलभ इंटरनेशनल आवा में हिन्द सोशल वेलफेयर कमेटी तिलक भारती स्कूल के स्कूली बच्चे रायपुर रेल मंडल के स्काउट गाइड के बच्चों द्वारा भी भाग लिया गया। मंडल रेल प्रबंधक श्री कौशल किशोर ने सभी को शपथ दिलाई कि अपने आसपास साफ-सफाई रखेंगे सिंगल यूज़ प्लास्टिक का उपयोग नहीं करेंगे। मंडल रेल प्रबंधक ने सभी सामाजिक संगठनों अधिकारियों कर्मचारियों को 150वीं महात्मा गांधी जी की जयंती की शुभकामनाएं दी सभी को कहा कि आज महात्मा गांधी जी के लिए सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी जब हम हमारे परिसर हमारे समाज हमारी कॉलोनियों हमारे कार्यालय परिसरों सार्वजनिक स्थलों पर सफाई को महत्व देंगे गंदगी मिटाने का सबसे आसान तरीका है कि गंदगी को हो नहीं ना दिया जाए और अपने कचरे के प्रति जिम्मेदार बने 150 वी जयंती से रायपुर स्टेशन पर पीले रंग के डस्टबिन भी उपलब्ध करा दिए गए हैं इन दिनों का उपयोग प्लास्टिक के कचरे को फेंकने के लिए किया जाएगा कैरी बैग्स के स्थान पर कपड़े या जूट, इको फ्रेंडली बैग्स का यूज़ करें पर्यावरण के प्रति अपनी जिम्मेदारियों को समझें तभी महात्मा गांधी जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी साथ ही सभी सामाजिक संगठनों ने अपने अपने उद्देश्यों से सभी को अवगत कराया सभी का सार समाज में फैले प्रदूषण को मुक्त करना रहा। इस अवसर पर स्काउट गाइड द्वारा नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरूक किया गया कि प्लास्टिक खाने से हमारे जानवरों को किस प्रकार नुकसान हो रहा है और उसके द्वारा हमारे समाज में प्लास्टिक का जहर फैलता जा रहा है अतः यथासंभव प्लास्टिक का उपयोग ना करें सिंगल यूज प्लास्टिक को पूर्णता बंद कर दें इस अवसर पर सभी प्रमुख स्टेशनों पर रायपुर रेल मंडल के अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित रहें।

भाटापारा स्टेशन को -मिल आईएसओ 14001: 2015 एनवायरमेंट मैनेजमेंट सिस्टम प्रमाण पत्र

जोनल सलाहकार सदस्य राजेश शर्मा ने दी बधाई भाटापारा ;- दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल के सभागार में आज आयोजित समारोह में भाटापारा स्टेशन को आईएसओ 14001:2015 एनवायरमेंट मैनेजमेंट सिस्टम प्रमाण पत्र प्रदीप कुमार, लीड ऑडिटर द्वारा अपर मंडल रेल प्रबंधक शिव शंकर लकड़ा एवं अमिताव चौधरी को सौंपा गया ,जो कि अपने आप में भाटापारा रेलवे स्टेशन के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि है । तत्पश्चात अपर मंडल रेल प्रबंधक ने भाटापारा स्टेशन प्रबंधको को आईएसओ 14001: 2015 एनवायरनमेंट मैनेजमेंट सिस्टम सर्टिफिकेट प्रदान किया ।भाटापारा स्टेशन को प्रमाण पत्र मिलने पर जोनल रेलवे सलाहकार सदस्य राजेश शर्मा ने रेल डिवीज़न के आला अधिकारीयो को बधाई दी है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल के अंतर्गत रायपुर, दुर्ग, भिलाई पावर हाउस रेलवे स्टेशन ऐसे स्टेशन है जिन्हें आईएसओ 14001: 2015 एनवायरनमेंट मैनेजमेंट सिस्टम सर्टिफिकेट मिला चुका है अब भाटापारा भी आई एस ओ स्टेशन हो गया है। यह प्रमाण पत्र इंटरनेशनल एक्यूरेट सार्टिफिकेट फोरम एल एम एस सर्टिफिकेशन लिमिटेड के द्वारा विभिन्न मापदंडों को जांचने के पश्चात दिया गया है । भाटापारा रेलवे स्टेशन पर स्वच्छता, स्टेशन परिसर में स्वच्छ वातावरण एवं हाइजीनिक सिस्टम, हैल्थ एवं सेफ्टी , ग्रीनरी, आरक्षित लांज, वेटिंग रूम, रिटायरिंग रूम्, रिफ्रेशमेंट , यात्रियों के लिए पेयजल सुविधा, कचरे का समुचित ढंग से निष्पादन, ऊर्जा संरक्षण के लिए लगाई गई एलइडी लाइटिंग के संदर्भ में 3 वर्षों के लिए प्रदान किया गया है । जिसमें प्रति वर्ष औचक निरीक्षण कर उपरोक्त मापदंडों को समय-समय पर जांचा जाएगा । अपर मंडल रेल प्रबंधको ने आईएसओ सर्टिफिकेट मिलने पर रायपुर रेल मंडल के अधिकारियों, कर्मचारियों को बधाई दी एवं साथ ही हमें और सजगता से कार्य करना है, स्वच्छता के प्रति जागरूक रहना है, पर्यावरण के प्रति अपनी जवाबदेही को समझना है , ताकि इस सर्टिफिकेट की गरिमा बरकरार रहे । बहुत ही खुशी की बात है । यह सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों की मेहनत का परिणाम है । इस अवसर पर अपर मंडल रेल प्रबंधक शिव शंकर लकड़ा अमिताव चौधरी , वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक, तन्मय मुखोपाध्याय, सहित रायपुर मंडल के संबंधित, वरिष्ठ अधिकारीगण एवं कर्मचारी उपस्थित रहे ।

भाटापारा स्टेशन को -मिल आईएसओ 14001: 2015 एनवायरमेंट मैनेजमेंट सिस्टम प्रमाण पत्र

जोनल सलाहकार सदस्य राजेश शर्मा ने दी बधाई भाटापारा ;- दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल के सभागार में आज आयोजित समारोह में भाटापारा स्टेशन को आईएसओ 14001:2015 एनवायरमेंट मैनेजमेंट सिस्टम प्रमाण पत्र प्रदीप कुमार, लीड ऑडिटर द्वारा अपर मंडल रेल प्रबंधक शिव शंकर लकड़ा एवं अमिताव चौधरी को सौंपा गया ,जो कि अपने आप में भाटापारा रेलवे स्टेशन के लिए एक बहुत बड़ी उपलब्धि है । तत्पश्चात अपर मंडल रेल प्रबंधक ने भाटापारा स्टेशन प्रबंधको को आईएसओ 14001: 2015 एनवायरनमेंट मैनेजमेंट सिस्टम सर्टिफिकेट प्रदान किया ।भाटापारा स्टेशन को प्रमाण पत्र मिलने पर जोनल रेलवे सलाहकार सदस्य राजेश शर्मा ने रेल डिवीज़न के आला अधिकारीयो को बधाई दी है। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल के अंतर्गत रायपुर, दुर्ग, भिलाई पावर हाउस रेलवे स्टेशन ऐसे स्टेशन है जिन्हें आईएसओ 14001: 2015 एनवायरनमेंट मैनेजमेंट सिस्टम सर्टिफिकेट मिला चुका है अब भाटापारा भी आई एस ओ स्टेशन हो गया है। यह प्रमाण पत्र इंटरनेशनल एक्यूरेट सार्टिफिकेट फोरम एल एम एस सर्टिफिकेशन लिमिटेड के द्वारा विभिन्न मापदंडों को जांचने के पश्चात दिया गया है । भाटापारा रेलवे स्टेशन पर स्वच्छता, स्टेशन परिसर में स्वच्छ वातावरण एवं हाइजीनिक सिस्टम, हैल्थ एवं सेफ्टी , ग्रीनरी, आरक्षित लांज, वेटिंग रूम, रिटायरिंग रूम्, रिफ्रेशमेंट , यात्रियों के लिए पेयजल सुविधा, कचरे का समुचित ढंग से निष्पादन, ऊर्जा संरक्षण के लिए लगाई गई एलइडी लाइटिंग के संदर्भ में 3 वर्षों के लिए प्रदान किया गया है । जिसमें प्रति वर्ष औचक निरीक्षण कर उपरोक्त मापदंडों को समय-समय पर जांचा जाएगा । अपर मंडल रेल प्रबंधको ने आईएसओ सर्टिफिकेट मिलने पर रायपुर रेल मंडल के अधिकारियों, कर्मचारियों को बधाई दी एवं साथ ही हमें और सजगता से कार्य करना है, स्वच्छता के प्रति जागरूक रहना है, पर्यावरण के प्रति अपनी जवाबदेही को समझना है , ताकि इस सर्टिफिकेट की गरिमा बरकरार रहे । बहुत ही खुशी की बात है । यह सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों की मेहनत का परिणाम है । इस अवसर पर अपर मंडल रेल प्रबंधक शिव शंकर लकड़ा अमिताव चौधरी , वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक, तन्मय मुखोपाध्याय, सहित रायपुर मंडल के संबंधित, वरिष्ठ अधिकारीगण एवं कर्मचारी उपस्थित रहे ।

गाँधी जयंती पर 15 घंटे का संवाद और उपवास आयोजन आनन्द समाज वाचनालय में

- रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड का सहयोग

- शहर के प्रथम नागरिक सहित प्रमुख जन होंगे शामिल

- गाँधीबाबा के गैर राजनीतिक चिंतन और व्यवहार पर होगी दिनभर चर्चा

रायपुर। महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर 15 घंटे का संवाद और उपवास का आयोजन आनंद समाज वाचनालय, कंकाली पारा में 2 अक्टूबर को किया जा रहा है।

इस दौरान गाँधीबाबा की स्मृति में कठोर निर्जला उपवास रखा जाएगा। इस संवाद और उपवास में शहर प्रथम नागरिक प्रमोद दुबे सहित विभिन्न आमजन और गणमान्य उपवास स्थल पर जुटेंगे।

ज्ञातव्य हो कि रायपुर में गाँधीबाबा ने पहली सभा यहां नजदीक ही की थी। सभा में बापू के गैरराजनीतिक चिंतन और व्यवहार पर चर्चा होगी। उपवासकर्ता ज्योतिषविद अरुणेश कुमार शर्मा ने बताया कि गांधीबाबा पूर्णतः गैरराजनीतिक रहे। वे भारत के शिखर स्वतंत्रता-आंदोलनकर्ता, समाजसेवी, वक्ता, पत्रकार, लेखक, धर्म-दर्शनवेत्ता और सफल पारिवारिक व्यक्ति थे।

उक्त जानकारी देते हुए चाणक्य वार्ता के स्टेट हेड आदेश ठाकुर ने बताया कि उनके अद्भुत प्रयोगों से विश्व आज भी अचंभित है। गांधीबाबा के इन्हीं नवाचारी चिंतन और व्यवहार को लोगों तक पहुंचाने के प्रयास में इस सांकेतिक व्रत सभा और संवाद का आयोजन किया जा रहा है। इससे लोग उनके मूल स्वरूप से परिचित हो सकेंगे।

राष्ट्रीय पाक्षिक पत्रिका चाणक्य वार्ता के संयोजन में आयोजित इस कार्यक्रम में रायपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड का महती सहयोग है।