ज्योतिष

आज का पंचांग चौघडिया राशिफल आपका दिन शुभ मंगलमय हो

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात* ::::::::------- ●★● *आज का पंचांग*::::---- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द................5120 ●विक्रम संवत्..............2075 ●शक संवत्.................1940 ●मास...........................ज्येष्ठ ●पक्ष...........................शुक्ल ●तिथी....................प्रतिपदा रात्रि 09.41 पर्यंत पश्चात द्वितीया ●रवि.....................उत्तरायण ●सूर्योदय...........05.45.54 पर ●सूर्यास्त...........07.08.36 पर ●सूर्य राशि..................वृषभ ●चन्द्र राशि.................मिथुन ●नक्षत्र......................मृगशिरा दोप 02.02 पर्यंत पश्चात आर्द्रा ●योग.............................गंड रात्रि 01.18 पर्यंत पश्चात वृद्धि ●करण....................किस्तुघन प्रातः 11.27 पर्यंत पश्चात बव ●ऋतु........................ग्रीष्म ●दिन.........................गुरुवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 14 जून सन 2018 ईस्वी । ==================== ★★ *राहुकाल* :- दोपहर 02.07 से 03.47 तक । ==================== ★★ *दिशाशूल* :- दक्षिणदिशा - यदि आवश्यक हो तो दही या जीरा का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें । ==================== ★ शुभ अंक.................5 ★ शुभ रंग................पीला ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 05.44 से 07.25 तक शुभ प्रात: 10.45 से 12.26 तक चंचल दोप. 12.26 से 02.06 तक लाभ सायं 05.27 से 07.07 तक शुभ सायं 07.07 से 08.27 तक अमृत रात्रि 08.27 से 09.47 तक चंचल | ==================== ★★ *आज का मंत्र* :- || ॐ परमात्मने नमः || ==================== ★★ *सुभाषितम्* :- तिष्ठेत् लोको विना सूर्यं सस्यमं वा सलिलं विना । न हि रामं विना देहे तिष्ठेत् तु मम जीवितम् ॥ ◆ *अर्थात :- कैकेयी जब राजा दशरथ से श्रीराम को वनवास भेजनेका वर मांगती है तब राजा दशरथ कहते है की हो सकता है के सूर्य के बिना सॄष्टी टीकी रहे या पानी के बिना धान्य विकसीत हो । पर श्रीराम के बिना इस देह में प्रााण रहना असंभव है । भविष्य में राजा दशरथ की यह बात सिद्ध हुई ।* ==================== ★★ *आरोग्यं* :- ◆◆ *आंवला के औषधीय अनुप्रयोग :-* ◆ 1. श्वेत प्रदर : आंवले के बीजों को जल में पिस ठंडाई की तरह छानकर शक्कर और शहद मिलकर पिने से 4-6 दिन में श्वेत प्रदर का शमन होता है | ◆ 2. मुखशोष : ज्वारवस्था में मुहं सूखने और तृषा की शांति ण होने पर आंवले और मुनक्का को पिस कर चटनी बनाकर चटावे | ◆ 3. मूत्रकृच्छ : आंवले का स्वरस और ईख का तुरंत निकाला हुआ रस, दोनों मिलकर या केवल आंवले का रस में शहद मिलकर पिलाने से शारीर की गर्मी ख़त्म होती है | ==================== ★★ *राशिफल* :- ★ *मेष :-* प्रतिष्ठा व पराक्रम में वृद्धि होगी। कार्यसिद्धि से प्रसन्नता रहेगी। आय के स्रोत मिलेंगे। विरोध होगा। ★ *वृष :-* मेहमानों का आगमन होगा। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। सुख के साधन जुटेंगे। प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। ★ *मिथुन :-* राजभय रहेगा। वाणी में संयम रखें। जल्दबाजी न करें। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। यात्रा व नौकरी फलदायी रहेंगे। ★ *कर्क :-* प्रेम-प्रसंग में जोखिम न लें। अप्रत्याशित खर्च होंगे। लेनदेन में सावधानी रखें। झंझटों में न पड़ें। ★ *सिंह :-* रुका हुआ धन मिल सकता है। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। धनार्जन होगा। चिंता बनी रहेगी। ★ *कन्या :-* प्रतिद्वंद्वी सक्रिय रहेंगे। नई योजना बनेगी। कार्य का विस्तार होगा। मान-सम्मान मिलेगा। जोखिम न लें। ★ *तुला :-* शारीरिक कष्ट संभव है। मित्रों से मेल बढ़ेगा। कोर्ट व कचहरी में अनुकूलता रहेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। ★ *वृश्चिक :-* जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। विवाद से बचें। ★ *धनु :-* शत्रु परास्त होंगे। लाभ के अवसर बढ़ेंगे। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। कानूनी बाधा दूर होगी। ★ *मकर :-* उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। शत्रु भय रहेगा। घर-परिवार की चिंता रहेगी। संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। ★ *कुंभ :-* पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। ★ *मीन :-* भागदौड़ रहेगी। लाभ के अवसर टलेंगे। शोक समाचार मिल सकता है। वाणी पर नियंत्रण रखें। ***************[जय गुरुदेव]

मंगलवार आज का पंचांग, चौघडिया ,राशिफल ,आरोग्यं, आपका दिन शुभ मंगलमय हो

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात*::::::::------ ●★● *आज का पंचांग*::::--- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द................5120 ●विक्रम संवत्...............2075 ●शक संवत्..................1940 ●रवि......................उत्तरायण ●मास.................अधिक ज्येष्ठ ●पक्ष...........................कृष्ण ●तिथी......................त्रयोदशी प्रातः 07.33 पर्यंत पश्चात चतुर्दशी ●सूर्योदय..........05.45.23 पर ●सूर्यास्त..........07.07.58 पर ●सूर्य राशि....................वृषभ ●चन्द्र राशि...................वृषभ ●नक्षत्र.....................कृत्तिका संध्या 07.02 पर्यंत पश्चात रोहिणी ●योग.........................सुकर्मा दोप 12.43 पर्यंत पश्चात धृति ●करण.......................वणिज प्रातः 07.33 पर्यंत पश्चात विष्टि ●ऋतु..........................ग्रीष्म ●दिन......................मंगलवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 12 जून सन 2018 ईस्वी | ==================== ★ शुभ अंक.............3 ★ शुभ रंग...........काला ==================== ★★ *राहुकाल* : दोप 03.47 से 05.27 तक । ==================== ★★ *दिशाशूल* :- उत्तरदिशा - यदि आवश्यक हो तो गुड़ का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें। ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 09.05 से 10.45 तक चंचल प्रात: 10.45 से 12.25 तक लाभ दोप. 12.25 से 02.06 तक अमृत रात्रि 08.26 से 09.46 तक लाभ । ==================== ★★ *आज का मंत्र* :- ।। ॐ आमोदाय नमः ।। ==================== ★★ *सुभाषितानि* :- दूरस्था: पर्वता: रम्या: वेश्या: च मुखमण्डने । युध्यस्य तु कथा रम्या त्रीणि रम्याणि दूरत: ॥ ◆ *अर्थात :- पहाड दूर से बहुत अच्छे दिखते है । मुख विभुषित करने के बाद वैश्या भी अच्छी दिखती है । युद्ध की कहानिया सुनने को बहौत अच्छी लगती है । ये तिनो चिजे पर्याप्त अंतर रखने से ही अच्छी लगती है ।* ==================== ★★ *आरोग्यं :-* ◆◆ *कान में दर्द के घरेलू उपाय -* ◆ 01. नमक को अच्छी तरह गर्म करके उसे किसी कपड़े में बांध कर कान के जिस जगह पर दर्द हो रहा है उस जगह पर रखने से कान दर्द से आराम मिलती है। ◆ 02. वैसे सरसों के तेल को हल्का गर्म करके कान में डालने से कान के दर्द से राहत मिलती है। ◆ 03. समय-समय पर कान की सफाई करवाते रहिए। ध्यान रखिए कान की सफाई हमेशा अच्छे डॉक्टर से करवानी चाहिए। ◆ 04. शरीर में आंख की तरह कान को भी नाजूक अंगों की श्रेणी में रखा जाता है। इसलिए कान में दर्द होने पर उसे जोर जोर से हिलाना नहीं चाहिए और न ही किसी नुकीली चीज से साफ करनी चाहिए। ◆ 05. अगर कान में मैल जमा हो जाए तो कॉटन स्कैब को कान के ज्यादा भीतर न ले जाइए और इससे जोर से कान की सफाई नहीं करनी चाहिए। ==================== ★★ *राशिफल* :- ★ *मेष* :- कोर्ट व कचहरी में बाधा दूर होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। विरोधी सक्रिय होंगे। ★ *वृष* :- भूमि व भवन संबंधी बाधा दूर होगी। रोजगार मिलेगा, प्रयास करें। शत्रु भय बना रहेगा। प्रसन्नता रहेगी। नवीन योजनाओं से लाभ होगा। ★ *मिथुन* :- विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। धनलाभ होगा। पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। प्रसन्नता रहेगी। परोपकार में रुचि बढ़ेगी। ★ *कर्क* :- पुराना रोग उभर सकता है। शोक समाचार मिल सकता है। लेन-देन में सावधानी रखें। नकारात्मकता बढ़ेगी। लापरवाही से काम न करें। ★ *सिंह* :- वस्तुएं संभालकर रखें। कम प्रयास से कार्य पूर्ण होंगे। प्रशंसा होगी। चोट व रोग से बचें। लाभ होगा। आय से अधिक व्यय न करें। ★ *कन्या* :- शुभ समाचार मिलेंगे। धनलाभ होगा। पुराने मित्र व संबंधियों से मुलाकात होगी। झंझटों में न पड़ें। क्रोध एवं उत्तेजना पर संयम रखें। ★ *तुला* :- भेंट व उपहार की प्राप्ति होगी। संतान पक्ष की चिंता रहेगी। भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। यात्रा होगी। पारिवारिक जिम्मेदारी बढ़ेगी। ★ *वृश्चिक* :- फालतू खर्च बढ़ेगा। लेन-देन में सावधानी रखें। विवाद को बढ़ावा न दें। बेचैनी रहेगी। देनदारी में वृद्धि होगी। कार्य में नवीनता के भी योग हैं। ★ *धनु* :- व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। आय में वृद्धि होगी। डूबी हुई रकम प्राप्त होगी। पुराना रोग उभर सकता है। रुके धन के लिए प्रयत्न जरूर करें। ★ *मकर* :- वस्तुएं संभालकर रखें। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार से लाभ होगा। स्वास्थ्य कमजोर रहेगा। दूसरे के कार्यों में हस्तक्षेप से बचें। ★ *कुंभ* :- कानूनी अड़चन दूर होगी। लाभ में वृद्धि होगी। यात्रा सफल रहेगी। पूजा-पाठ में मन लगेगा। प्रमाद न करें। विलासिता के प्रति रुझान बढ़ेगा। ★ *मीन* :- चोट, चोरी व विवाद आदि से हानि संभव है। ऐश्वर्य की प्राप्ति के प्रयास विफल रहेंगे। जोखिम न लें। दांपत्य जीवन सुखद रहेगा। ************[जय श्री हनुमान]

आज का पंचांग ★चौघडिया राशिफल आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात*::::::------ ●★● *आज का पंचांग*::::---- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द................5120 ●विक्रम संवत्...............2075 ●शक संवत्..................1940 ●मास...........................ज्येष्ठ ●पक्ष...........................कृष्ण ●तिथी........................द्वादशी प्रातः 10.00 पर्यंत पश्चात त्रयोदशी ●रवि.....................उत्तरायण ●सूर्योदय...........05.45.15 पर ●सूर्यास्त..........07.07.55 पर ●सूर्य राशि.....................वृषभ ●चन्द्र राशि.....................मेष ●नक्षत्र........................भरणी रात्रि 09.00 पर्यंत पश्चात कृत्तिका ●योग.......................अतिगंड दोप 03.55 पर्यंत पश्चात सुकर्मा ●करण........................तैतिल प्रातः 10.00 पर्यन्त पश्चात गरज ●ऋतु...........................ग्रीष्म ●दिन........................सोमवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 11 जून सन 2018 ईस्वी । ==================== ★★ *राहुकाल* :- प्रात: 07.25 से 09.05 तक । ==================== ★★ *दिशाशूल* :- पूर्व दिशा- यदि आवश्यक हो तो दर्पण देखकर यात्रा प्रारंभ करें। ==================== ★ शुभ अंक..............4 ★ शुभ रंग.............लाल ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 05.44 से 07.24 तक अमृत प्रात: 09.05 से 10.45 तक शुभ दोप. 02.05 से 03.46 तक चंचल अप. 03.46 से 05.26 तक लाभ सायं 05.26 से 07.06 तक अमृत सायं 07.06 से 08.26 तक चंचल । ==================== ★★ *आज का मंत्र* :- || ॐ चन्द्रशेखराय नमः || ==================== ★★ *सुभाषितानि* :- उपाध्यात् दश आचार्य: आचार्याणां शतं पिता । सहस्रं तु पितॄन् माता गौरवेण अतिरिच्यते ॥ ◆ अर्थात : आचार्य उपाध्यायसे दस गुना श्रेष्ठ होते है । पिता सौ आचार्य के समान होते है । माता पिता से हजार गुना श्रेष्ठ होती है । ==================== ★★ *आरोग्यं* :- ◆◆ *कान में दर्द के घरेलू उपाय -* ◆ 1. कान में हो रहे दर्द के लिए अदरक का रस एक कारगर दवा है। इसका रस निकालकर कानों में डालने से दर्द से राहत मिलती है। ◆ 2. कई रोगों में रामबाण की तरह काम करने वाला जैतून का तेल कान दर्द में भी राहत देता है। ◆ 3. प्याज का रस भी कान के दर्द में बहुत ही फायदेमंद है। इसका रस निकालकर रूई की मदद से कान में कुछ बूंदे डालने से कान दर्द से राहत मिलती है। ◆ 4. खाने की चीज में विटामिन सी की मात्रा अधिक हो, उसका भरपूर सेवन करना चाहिए। कान दर्द में आराम मिलती है। ◆ 5. अगर आप कान के दर्द से पीड़ित हैं तो तुलसी की ताजी पत्तियों का रस निकालकर उसकी बूंदे कान में डालिए। इससे कान दर्द से राहत मिलेगी। यह बहुत ही पुराना और कारगर उपाय है। ==================== ★★ *राशिफल* :- ★ *मेष* :- बौद्धिक कार्य सफल रहेंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। जोखिम न लें। प्रसन्नता रहेगी। ★ *वृष* :- जोखिम न उठाएं। वाणी पर नियंत्रण रखें। प्रयास अधिक करना पड़ेंगे। बुरी सूचना मिल सकती है। दांपत्य संबंधी विवादों का समाधान निकलेगा। ★ *मिथुन* :- मेहनत का फल मिलेगा। कार्यक्षेत्र में लाभदायी अवसर मिलेंगे। प्रतिष्ठा बढ़ेगी। यात्रा सफल रहेगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। जल्दबाजी न करें। ★ *कर्क* :- अपने लोगों से संबंध सुधरेंगे। विवाद न करें। उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। जीवनसाथी के स्वास्थ्य का ध्यान रखें। ★ *सिंह* :- कोर्ट व कचहरी में अनुकूलता रहेगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। रोजगार प्राप्ति के प्रयास सफल रहेंगे। व्यापार-व्यवसाय लाभदायी रहेगा। ★ *कन्या* :- व्ययवृद्धि होगी। कर्ज लेना पड़ सकता है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। अपेक्षाकृत कार्य रुकेंगे। घर में शुभ कार्य के आयोजन की भूमिका बनेगी। ★ *तुला* :- बकाया वसूली होगी। रुके कार्यों में गति आएगी। जोखिम न उठाएं। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। अपने पराक्रम से धन एवं यश प्राप्त करेंगे। ★ *वृश्चिक* :- कार्यस्थल पर सुधार होगा। योजना फलीभूत होगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। यात्रा सफल रहेगी। सोचा हुआ कार्य वक्त पर होने से हर्ष रहेगा। ★ *धनु* :- पूजा-पाठ में मन लगेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। राजकीय बाधा दूर होगी। ईष्ट मित्रों से मिलन होगा। कार्य बनने से हर्ष रहेगा। ★ *मकर* :- जोखिम व जमानत के कार्य टालें। चोट, चोरी व विवाद से हानि संभव है। विवेक से कार्य करें। अधिकारी आपके गुणों की प्रशंसा करेंगे। ★ *कुंभ* :- कानूनी बाधा दूर होगी। प्रतिद्वंद्वी शांत रहेंगे। वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। व्यवसाय ठीक चलेगा। कार्यक्षेत्र में लाभदायी अवसर मिलेंगे। ★ *मीन* :- परिवार की चिंता रहेगी। भागदौड़ रहेगी। संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। उन्नति होगी। नवीन कार्य की योजना के अवसर प्राप्त होंगे। *************[जय शिव शंभू]

आज का पंचांग ★चौघडिया * राशिफल आपका दिन शुभ मंगलमय हो

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात* ::::::------ ●★● *आज का पंचांग*::::---- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द................5120 ●विक्रम संवत्...............2075 ●शक संवत्..................1940 ●मास...........................ज्येष्ठ ●पक्ष...........................कृष्ण ●तिथी.........................दशमी दोप 12.53 पर्यंत पश्चात एकादशी ●रवि......................उत्तरायण ●सूर्योदय..........05.45.18 पर ●सूर्यास्त..........07.06.29 पर ●सूर्य राशि....................वृषभ ●चन्द्र राशि....................मीन ●नक्षत्र.........................रेवती प्रातः 05.05 पर्यंत पश्चात अश्विनी ●योग.......................सौभाग्य रात्रि 08.44 पर्यंत पश्चात शोभन ●करण........................विष्टि दोप 12.53 पर्यंत पश्चत बव ●ऋतु..........................ग्रीष्म ●दिन.......................शनिवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 09 जून सन 2018 ईस्वी । ==================== ★ शुभ अंक......................9 ★ शुभ रंग....................नीला ==================== ★★ *राहुकाल* :- प्रात: 09.05 से 10.45 तक । ==================== ★★ *दिशाशूल* :- पूर्वदिशा- यदि आवश्यक हो तो उड़द का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें। ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 07.24 से 09.04 तक शुभ दोप. 12.24 से 02.05 तक चंचल दोप. 02.05 से 03.45 तक लाभ दोप. 03.45 से 05.25 तक अमृत सायं 07.06 से 08.25 तक लाभ रात्रि 09.45 से 11.05 तक शुभ। ==================== ★★ *आज का मंत्र* :- || ॐ आंजनेय नमः || ==================== ★★ *सुभाषितानि* :- शोको नाशयते धैर्य, शोको नाशयते श्रॄतम् । शोको नाशयते सर्वं, नास्ति शोकसमो रिपु: ॥ ◆ अर्थात :- शोक धैर्य को नष्ट करता है, शोक ज्ञान को नष्ट करता है, शोक सर्वस्व का नाश करता है । इस लिए शोक जैसा कोइ शत्रू नही है । ==================== ★★ *आरोग्यं* :- ◆◆ *बालों का झड़ना कैसे कम हो घरेलू उपाय -* ◆ *1. प्याज का जूस -* उच्च सल्फर सामग्री के कारण, प्याज का रस बालों के झड़ने के इलाज में मदद करता है और बालों के रोम में रक्त के संचलन को बढ़ाता है तथा हेयर फॉलिकलको पुनर्जीवित करता है और सूजन को कम करता है। प्याज के रस में एंटी-बैक्टीरियल गुणों की उपस्थिति उन रोगाणुओं को मारने में मदद करता है जो स्कैल्प संक्रमण का कारण बनता है, जो बालों के झड़ने की वजह बन सकता है। एक अध्ययन के अनुसार, बालों में नियमित रूप से प्याज के रस का इस्तेमाल करने और दूसरे पोषक तत्व लेते रहने से बालों से जुड़ी कई तरह की दिक्कते दूर हो जाती है। ◆ *2. एलोवेरा -* एलोवेरा जितना आपके सेहत के लिए लाभप्रद होता है उतना ही आपके बालों और त्वचा के लिए भी फायदेमंद है। हफ्ते में दो बार एलोवेरा जेल लगाने से आपके बालों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इसके लिए एलोवेरा के पत्ते को काट लें और जलन को कम करने के लिए अपने स्कैल्प पर पत्ते के रसदार वाले हिस्से को धीरे-धीरे रगड़ें। गर्म पानी के साथ इसे धोने से पहले कुछ घंटों तक प्रतीक्षा करें। ==================== ◆◆ *राशिफल* :- ★ *मेष* :- राजकीय बाधा दूर होगी। पूजा-पाठ में मन लगेगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। ★ *वृष* :- कुसंगति से बचें। विवेक का प्रयोग करें। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। लाभ होगा। ★ *मिथुन* :- राजकीय बाधा दूर होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। शत्रु परास्त होंगे। ★ *कर्क* :- दुष्टजन हानि पहुंचा सकते हैं। संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। परीक्षा व साक्षात्कार में लाभ होगा। ★ *सिंह* :- स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। यात्रा मनोरंजक रहेगी। विद्यार्थी वर्ग सफल रहेगा। ★ *कन्या* :- व्यस्तता रहेगी। शोक समाचार मिल सकता है। विवाद न करें। अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। ★ *तुला* :- मान-सम्मान मिलेगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। मेहनत का फल मिलेगा। नए अनुबंध संभव हैं। ★ *वृश्चिक* :- विवाद में न पड़ें। उत्साहवर्द्धक सूचना मिलेगी। स्वाभिमान बना रहेगा। व्यवसाय ठीक चलेगा। ★ *धनु* :- भेंट व उपहार की प्राप्ति होगी। बेरोजगारी दूर होगी। यात्रा, निवेश व नौकरी मनोनुकूल रहेंगे। प्रमाद न करें। ★ *मकर* :- अपरिचितों पर विश्वास न करें। व्ययवृद्धि होगी। उत्तेजना पर नियंत्रण रखें। चिंता बढ़ेगी। ★ *कुंभ* :- स्वास्थ्य का ध्यान रखें। रुका हुआ धन प्राप्त होगा। यात्रा, निवेश व नौकरी मनोनुकूल रहेंगे। ★ *मीन* :- कार्यस्थल पर परिवर्तन संभव है। योजना फलीभूत होगी। धन प्राप्ति सुगम होगी। ***************[जय शनिदेव]

आज का पंचाग ★ चौघडिया ★ राशिफल आपका दिन शुभ मंगलमय हो

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात* :::::::----- ●★● *आज का पंचांग* ::::--- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द................5120 ●विक्रम संवत्...............2075 ●शक संवत्..................1940 ●मास...........................ज्येष्ठ ●पक्ष...........................कृष्ण ●तिथी.......................नवमी दोप 01.07 पर्यंत पश्चात दशमी ◆रवि.....................उत्तरायण ●सूर्योदय...........05.45.48 पर ●सूर्यास्त...........07.06.54 पर ●सूर्य राशि...................वृषभ ●चन्द्र राशि....................मीन ●नक्षत्र................उत्तराभाद्रपद रात्रि 10.47 पर्यंत पश्चात रेवती ●योग....................आयुष्मान रात्रि 10.12 पर्यंत पश्चात सौभाग्य ●करण.........................गरज दोप 01.07 पर्यंत पश्चात वणिज ●ऋतु........................ग्रीष्म ●दिन........................शुक्रवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 08 जून सन 2018 ईस्वी । ==================== ★ शुभ अंक......................8 ★ शुभ रंग.....................नीला ==================== ????‍???? *राहुकाल* :- प्रात: 10.45 से 12.25 तक । ==================== ???? *दिशाशूल* :- पश्चिमदिशा - यदि आवश्यक हो तो जौ का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें। ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 07.24 से 09.04 तक लाभ प्रात: 09.04 से 10.44 तक अमृत दोप. 12.25 से 02.05 तक शुभ सायं 05.25 से 07.05 तक चंचल रात्रि 09.45 से 11.05 तक लाभ । ==================== ★★ *आज का मंत्र* :- ।। ॐ वक्रतुण्डाय नमः ।। =≠≠================= ★★ *सुभाषितानि* -- अश्वत्थामविकर्णघोरमकरा दुर्योधनावर्तिनी । सोत्तीर्णा खलु पाण्डवै: रणनदी कैवर्तक: केशव: ॥ ◆अर्थात :- अश्वत्थामा और विकर्ण जिस के घोर मगर है ऐसी भयंकर और दुर्योधन रूपी भंवर से युक्त रणनदी को केवल श्रीकॄष्ण रूपी नाविक की सहायता से पाण्डव पार कर गये । =============≠====== ★★ *आरोग्यं सलाह* :- ◆◆ *बालों का झड़ना कैसे कम हो घरेलू उपाय -* ◆ *1. शहद और जैतून का तेल मालिश -* एक कटोरी में शहद की दो चम्मच और बराबर मात्रा में जैतून का तेल मिलाएं। इसमें ताजा दालचीनी पाउडर जोड़ें और इसे चिकना पेस्ट बना लें। इस मिश्रण को नियमित रूप से लगाने से आपके बाल और इसके विकास में सुखदायक मदद मिलेगी। ◆ *2. लैवेंडर तेल से करें मसाज -* बैंगनी रंग के खूशबूदार पौधे लैवेंडर से मिलने वाला लैवेंडर तेल का इस्तेमाल सदियो से अरोमाथेरेपी में किया जाता आ रहा है। एंटी-ऑक्सीडेंट होने के साथ-साथ लैवेंडर में एंटीसेप्टिक और एंटी-फंगल गुण भी होते हैं जो बालों के झड़ने और डैंड्रफ को एक ही समय में रोकते हैं। ◆ *3. नीम का पत्ता -* बालों का झड़ना कैसे कम हो, इसमें नीम का पत्ता बहुत ही योगदान दे सकता है। नीम का पत्ता तरह से फायदेमंद है। फोड़े और दूसरे जख्मों के लिए कई बार नीम की पत्ती को पीसकर प्रभावित जगह पर लगाने से फायदा होगा। इसके अलावा नीम का पत्ता अपने औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है बालों के झड़ने के इलाज के लिए एक प्रभावी जड़ी बूटी है। इसका पेस्ट बनाने के लिए नीम के पत्तों को उबालें और पीसकर अपने बालों को शैम्पू के बाद इसे अपने स्कैल्प पर लगाएं। 30 मिनट के बाद इसे पानी से धो लें। सप्ताह में दो बार इस प्रक्रिया को दोहराएं और परिवर्तन पर ध्यान दें। ==================== ★★ *राशिफल* :- ★ *मेष* :- जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। जोखिम न लें। राजकीय सहयोग मिलेगा। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। ★ *वृष* :- शत्रु परास्त होंगे। व्यवसाय ठीक चलेगा। जोखिम न उठाएं। संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। रोजगार मिलेगा। बकाया वसूली होगी। ★ *मिथुन* :- व्यवसाय ठीक चलेगा। रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। ★ *कर्क* :- दौड़धूप अधिक होगी। लाभ के अवसर टलेंगे। बुरी सूचना मिल सकती है। वाणी पर नियंत्रण रखें। दांपत्य जीवन संबंधी विवादों का समाधान निकलेगा। ★ *सिंह* :- प्रयास सफल रहेंगे। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। बुद्धि का प्रयोग लाभ में वृद्धि करेगा। मान-सम्मान मिलेगा। कार्य बनने से हर्ष रहेगा। ★ *कन्या* :- दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। धनलाभ होगा। उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। स्वाभिमान बना रहेगा। व्यर्थ के विवादों से दूर रहें। ★ *तुला* :- प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। यात्रा मनोनुकूल रहेगी। बेरोजगारी दूर होगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। व्यापार में नवीन योजना का शुभारंभ होगा। ★ *वृश्चिक* :- जल्दबाजी से कार्य बिगड़ेंगे। विवाद को बढ़ावा न दें। फालतू खर्च होगा। कर्ज लेना पड़ सकता है। अपने पराक्रम से धन एवं यश प्राप्त करेंगे। ★ *धनु* :- उन्नति के मार्ग प्रशस्त होंगे। प्रमाद न करें। डूबी हुई रकम प्राप्त हो सकती है। भय रहेगा। यात्रादि लाभप्रद रहेंगे। प्रसन्नता रहेगी। ★ *मकर* :- सरकारी कार्यसिद्धि होगी। मान बढ़ेगा। जोखिम न लें। कार्यपद्धति में परिवर्तन लाभदायक रहेगा। योजना फलीभूत होगी। उन्नति होगी। ★ *कुंभ* :- कोर्ट-कचहरी में अनुकूलता रहेगी। विवेक का प्रयोग करें। धार्मिक आस्था बढ़ेगी। सत्संग का लाभ मिलेगा। गणमान्य व्यक्ति आपकी प्रशंसा करेंगे। ★ *मीन* :- वाणी पर नियंत्रण रखें। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। सोचा हुआ कार्य वक्त पर होने से हर्ष रहेगा। **************[जय माता की]

आज का पंचांग, चौघडिया राशिफल आपका दिन शुभ मंगलमय हो

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात* ::::::::-------- ●★● *आज का पंचांग*::::---- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द................5120 ●विक्रम संवत्.............2075 ●शक संवत्................1940 ●मास..........................ज्येष्ठ ●पक्ष...........................कृष्ण ●तिथी......................अष्टमी दोप 12.32 पर्यंत पश्चात नवमी ●रवि....................उत्तरायण ●सूर्योदय..........05.45.32 पर ●सूर्यास्त..........07.06.48 पर ●सूर्य राशि...................वृषभ ●चन्द्र राशि.................कुम्भ ●नक्षत्र.................पूर्वाभाद्रपद रात्रि 09.50 पर्यंत पश्चात उत्तराषाढ़ा ●योग..........................प्रीति रात्रि 11.00 पर्यंत पश्चात आयुष्मान ◆करण......................कौलव दोप 12.32 पर्यंत पश्चात तैतिल ◆ऋतु........................ग्रीष्म ●दिन.........................गुरुवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 07 जून सन 2018 ईस्वी । ==================== ★★ *राहुकाल* :- दोपहर 02.05 से 03.45 तक । ==================== ★★ *दिशाशूल* :- दक्षिणदिशा - यदि आवश्यक हो तो दही या जीरा का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें । ==================== ★ शुभ अंक.................7 ★ शुभ रंग................पीला ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 05.44 से 07.24 तक शुभ प्रात: 10.44 से 12.24 तक चंचल दोप. 12.24 से 02.04 तक लाभ सायं 05.25 से 07.05 तक शुभ सायं 07.05 से 08.25 तक अमृत रात्रि 08.25 से 09.45 तक चंचल | ==================== ★★ *आज का मंत्र* :- || ॐ दिव्यात्मने नमः || ==================== ★★ *सुभाषितम्* :- भीष्मद्रोणतटा जयद्रथजला गान्धारनीलोत्पला । शल्यग्राहवती कॄपेण महता कर्णेन वेलाकुला ॥ ◆ *अर्थात :- भीष्म और द्रोण जिसके दो तट है जयद्रथ जिसका जल है शकुनि ही जिसमें नीलकमल है शल्य जलचर ग्राह है कर्ण तथा कॄपाचार्य ने जिसकी मर्यादा को आकुल कर डाला है |* ==================== ★★ *आरोग्यं* :- ◆◆ *लिवर का रामबाण इलाज -* ◆ *1. लिकोरिस चाय -* लिवर के इलाज करने के लिए आयुर्वेदिक में लिकोरिस का उपयोग बहुत ही किया जाता है। लिकोरिस चाय बनाने के लिए, लीकोरिस रूट को पीसकर उसे उबलते पानी में डालें और कुछ मिनटों के लिए इसे छोड़ दें। लिवर की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए दिन में दो बार इस चाय का सेवन करें। ◆ *2. अलसी का बीज -* अलसी के बीज सेहत के लिए बहुत फायदेमंद हैं। इसमें ओमेगा-3 एसिड पाया जाता है, जो कि कई रोगों के लिए बहुत ही लाभकारी होता है। अलसी का बीज लिवर पर तनाव को कम कर सकता है। फाइबर के गुणों से भरपूर अलसी को अपनी आहार में शामिल करने आपका लिवर स्वस्थ रहता है। ==================== ★★ *राशिफल* ★ *मेष :-* मेहमानों पर आकस्मिक व्यय होगा। दूसरों से अपेक्षा न करें। वाणी पर नियंत्रण रखें। चिंता बनी रहेगी। ★ *वृष :-* मेहमानों पर आकस्मिक व्यय होगा। दूसरों से अपेक्षा न करें। वाणी पर नियंत्रण रखें। चिंता बनी रहेगी। ★ *मिथुन :-* प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। लेन-देन में सावधानी रखें। नई योजना बनेगी। धनार्जन होगा। ★ *कर्क :-* पूजा-पाठ में मन लगेगा। कोर्ट व कचहरी में बाधा दूर होकर लाभ की स्थिति बनेगी। आय बढ़ेगी। ★ *सिंह :-* चोट, चोरी व विवाद आदि से हानि संभव है। नकारात्मकता में वृद्धि होगी। लाभ कम है। ★ *कन्या :-* वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। कानूनी अड़चन दूर होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। प्रमाद न करें। ★ *तुला :-* शारीरिक कष्ट संभव है। भूमि व भवन संबंधी योजना बनेगी। रोजगार मिलेगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। ★ *वृश्चिक :-* पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। लाभ होगा। प्रसन्नता रहेगी। ★ *धनु :-* भय, पीड़ा व चिंता का माहौल बनेगा। शोक संदेश मिल सकता है। दौड़धूप अधिक होगी। थकान रहेगी। ★ *मकर :-* प्रयास सफल रहेंगे। मान-सम्मान मिलेगा। आय में वृद्धि होगी। शारीरिक कष्ट संभव है। विवाद न करें। ★ *कुंभ :-* शुभ समाचार मिलेंगे। मेहमानों का आगमन होगा। क्रोध न करें। व्यवसाय ठीक चलेगा। लाभ होगा। ★ *मीन :-* रोजगार प्राप्ति होगी। भेंट व उपहार मिलेंगे। आय में वृद्धि होगी। व्यावसायिक यात्रा मनोनुकूल रहेगी। ***************[जय गुरुदेव]

आपका दिन शुभ मंगलमय हो आज का पंचांग ,चौघडिया ,आरोग्यं ,राशिफल

 ●●ऊँ●● 
●★● *सुप्रभात*:::::::------
 ●★● *आज का पंचांग* :::--- 
★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★
 ==================== 
●कलियुगाब्द..............5120 ●
विक्रम संवत्............2075 ●
शक संवत्...............1940 
◆मास.........................ज्येष्ठ 
●पक्ष..........................कृष्ण 
●तिथी.....................सप्तमी प्रातः 11.12 पर्यंत पश्चात अष्टमी
 ●रवि....................उत्तरायण 
●सूर्योदय.........05.45.16 पर 
●सूर्यास्त..........07.05.36 पर
 ●सूर्य राशि..................वृषभ 
●चन्द्र राशि..................कुम्भ
 ●नक्षत्र...................शतभिषा रात्रि 08.07 पर्यंत पश्चात पूर्वाभाद्रपद 
●योग......................विष्कुम्भ रात्रि 11.10 पर्यंत पश्चात प्रीती
 ●करण..........................बव प्रातः 11.12 पर्यंत पश्चात बालव 
●ऋतु..........................ग्रीष्म 
●दिन........................बुधवार 
==================== ★
★ *आंग्ल मतानुसार* :- 06 जून सन 2018 ईस्वी । 
==================== ★
★ *राहुकाल* :- दोपहर 12.25 से 02.05 तक 
। ==================== ★
★ *दिशाशूल* :- उत्तरदिशा - यदि आवश्यक हो तो तिल का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें। ==================== ★
 शुभ अंक...............6 
★ शुभ रंग...............हरा
 ==================== ★
★ *चौघडिया :-* प्रात: 05.44 से 07.24 तक लाभ प्रात: 07.24 से 09.04 तक अमृत प्रात: 10.44 से 12.24 तक शुभ अप. 03.44 से 05.24 तक चंचल सायं 05.24 से 07.04 तक लाभ रात्रि 08.24 से 09.44 तक शुभ 
==================== ★
★ *आज का मंत्र* :- ।।ॐ महादेवाय नम: ।।
 ==================== ★
★ *सुभाषितम्* :- श्रिय: प्रसूते विपद: रुणद्धि, यशांसि दुग्धे मलिनं प्रमार्ष्टि । संस्कार सौधेन परं पुनीते, शुद्धा हि बुद्धि: किलकामधेनु: ॥
 ◆अर्थात :- शुद्ध बुद्धि निश्चय ही कामधेनु जैसी है क्योंकि वह धन-धान्य पैदा करती है; आने वाली आफतों से बचाती है; यश और कीर्ति रूपी दूध से मलिनता को धो डालती है; और दूसरों को अपने पवित्र संस्कारों से पवित्र करती है। इस तरह विद्या सभी गुणों से परिपूर्ण है।
 ==================== ★
★ *आरोग्यं* :- ◆◆ *लिवर का रामबाण इलाज -* 
◆ *1. पालक और गाजर का रस -* पालक खाने से आपके स्वास्थ्य को बहुत् फायदे मिलते हैं। लेकिन आपको जानकार हैरानी होगी कि अधिक मात्रा में पालक खाने से आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर भी पड़ सकता है। पालक और गाजर के रस का एक मिश्रण लिवर सिरोसिस के लिए एक उत्कृष्ट उपाय है। पालक और गाजर के रस को बराबर भाग में मिलाएं। लीवर के उपचार के लिए प्रतिदिन कम से कम एक बार इसका रस जरूर पीजिए।
 ◆ *2. आंवला -* आंवला को सुपर फूड का दर्जा मिला है। इस छोटे से फल में कई ऐसे चमत्कादरिक गुण है, जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद हैं। यह न सिर्फ हमारे शरीर की इम्यू निटी बढ़ाता है बल्किय कई रोगों को जड़ से भी खत्म करता है। इसमें विटामिन सी, विटामिन एबी कॉम्ले्म क्सू, कैलशियम, पोटैशियम, मैग्नीशशियम, कार्बोहाइड्रेट, आयरन और फाइबर पाए जाते हैं। अगर अपने लिवर को सेहतमंद रखना चाहते हैं, तो आप आंवले का सेवन करना शुरू कर दीजिए। आमला लिवर को सुरक्षा प्रदान करता हैं और विटामिन सी का एक समृद्ध स्रोत है, जो लिवर के फंक्शन को बेहतर करता है। ====================
 ★★ *राशिफल :-* ★ 
*मेष* :- यात्रा, निवेश व नौकरी में अनुकूलता रहेगी। बकाया वसूली होगी। विवाद को बढ़ावा न दें। 
★ *वृष* :- योजना फलीभूत होगी। कार्यपद्धति में सुधार होगा। आय में वृद्धि होगी। नए अनुबंध हो सकते हैं।
 ★ *मिथुन* :- पूजा-पाठ में मन लगेगा। कानूनी अड़चन दूर होकर लाभ की स्थिति बनेगी। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी।
 ★ *कर्क* :- वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। जोखिम न लें। पुराना रोग उभर सकता है। विवाद न करें।
 ★ *सिंह* :- वैवाहिक प्रस्ताव मिल सकता है। कानूनी अड़चन दूर होगी। प्रतिद्वंद्वी शांत रहेंगे। लाभ होगा। 
★ *कन्या* :- परीक्षा व साक्षात्कार आदि में सफलता मिलेगी। संपत्ति के कार्य लाभ देंगे। प्रमाद न करें। 
★ *तुला* :- रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। व्यस्तता रहेगी। आय में वृद्धि होगी। 
★ *वृश्चिक* :- दुखद समाचार मिल सकता है, धीरज रखें। वाणी पर नियंत्रण रखें। भागदौड़ रहेगी। आय में कमी होगी।
 ★ *धनु* :- मेहनत का फल मिलेगा। कार्य की प्रशंसा होगी। व्यवसाय ठीक चलेगा। जल्दबाजी न करे। थकान रहेगी। 
★ *मकर* :- मेहमानों का आवागमन रहेगा। उत्साहवर्धक सूचना मिलेगी। क्रोध पर नियंत्रण रखें। प्रसन्नता रहेगी। 
★ *कुंभ* :- भेंट व उपहार की प्राप्ति होगी। व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। रोजगार में वृद्धि होगी। प्रमाद न करें। 
★ *मीन* :- विवाद को बढ़ावा न दें। कुसंगति से हानि होगी। व्ययवृद्धि होगी। अपेक्षित कार्यो में बाधा होगी। 
***********[श्री गणेशाय नमः]

आज का पंचांग, चौघडिया, आरोग्यं ,राशिफल ,आपका दिन शुभ मंगलमय हो

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात* :::::::------ ●★● *आज का पंचांग*::::---- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द...............5120 ●विक्रम संवत्..............2075 ●शक संवत्.................1940 ●रवि.....................उत्तरायण ●मास.........................ज्येष्ठ ●पक्ष..........................कृष्ण ●तिथी....................... ..षष्ठी प्रातः 09.15 पर्यंत पश्चात सप्तमी ●सूर्योदय..........05.45.11 पर ●सूर्यास्त..........07.05.18 पर ●सूर्य राशि....................वृषभ ●चन्द्र राशि...................कुम्भ ●नक्षत्र.......................धनिष्ठा संध्या 05.44 पर्यंत पश्चात शतभिषा ●योग..........................वैधृति रात्रि 10.37 पर्यंत पश्चात विष्कुम्भ ●करण.......................वणिज प्रातः 09.15 पर्यंत पश्चात विष्टि ●ऋतु...........................ग्रीष्म ●दिन......................मंगलवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 05 जून सन 2018 ईस्वी | ==================== ★ शुभ अंक.............5 ★ शुभ रंग...........काला ==================== ★★ *राहुकाल* : दोप 03.45 से 05.25 तक । ==================== ★★ *दिशाशूल* :- उत्तरदिशा - यदि आवश्यक हो तो गुड़ का सेवन कर यात्रा प्रारंभ करें। ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 09.04 से 10.44 तक चंचल प्रात: 10.44 से 12.24 तक लाभ दोप. 12.24 से 02.04 तक अमृत रात्रि 08.24 से 09.44 तक लाभ । ==================== ★★ *आज का मंत्र* :- || ॐ गन्धर्वाय नमः || ==================== ★★ *सुभाषितानि* :- यदि सन्ति गुणा: पुंसां विकसन्त्येव ते स्वयम् न हि कस्तूरिकामोद: शपथेन विभाव्यते।। ◆ अर्थात :- मनुष्य के गुण अपने आप फैलते है, बताने नही पडते| (जिस तरह), कस्तूरी का गंध सिद्ध नही करना पडता। ==================== ★★ * :-* ◆◆ *लिवर का रामबाण इलाज -* ◆ *1. हल्दी -* हल्दी को सबसे ताकतवर मसालों के रूप में जाना जाता है। हल्दी हर भारतीय परिवारों की स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में सक्षम है अब चाहे वह लिवर की ही समस्या क्यों न हो। आपके लिवर के स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए हल्दी अत्यंत उपयोगी हो सकता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण हैं और यह एंटीऑक्सिडेंट के रूप में भी कार्य करता है। हल्दी हेपेटाइटिस बी और हेपेटाइटिस सी के कारण उत्पन वायरस को रोक सकता है। आप हल्दी को खाना पकाने के दौरान शामिल कर सकते हैं या इसे दूध के साथ मिकालर पी सकते हैं। ◆ *2. सेब का सिरका -* वजन घटाने, रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने, ब्लड शुगर को स्थिर करने, त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ाने देने और एसिडिटी के लक्षणों से राहत में सेब का सिरका बहुत ही काम आता है। ऐप्पल साइडर सिरका जिसे हम सेब का सिरका भी कहते हैं। लिवर की विषाक्तता को दूर करने में मदद करता है। ऐसे बहुत से तरीके हैं जिसकी सहायता से आप सेब के सिरके का सेवन कर सकते हैं। आप एक गिलास पानी में एक चम्मच सेब का सिरका और शहद को मिलाकर पीजिए। इसे आप दिन में दो से तीन बार पी सकते हैं। यह लिवर को साफ करने में मदद कर सकता है। ==================== ★★ *राशिफल* :- ★ *मेष* :- दौड़धूप अधिक रहेगी। झंझटों में न पड़ें। व्यवसाय धीमा चलेगा। बुरी सूचना से व्यथा रहेगी। जोखिम न लें। ★ *वृष* :- कार्य की प्रशंसा होगी। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। धनार्जन होगा। मेहनत सफल रहेगी। प्रसन्नता रहेगी। ★ *मिथुन* :- उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। भूले-बिसरे साथियों से मुलाकात होगी। विवाद न करें। व्यवसाय ठीक चलेगा। ★ *कर्क* :- भेंट व उपहार की प्राप्ति हो सकती है। यात्रा, निवेश व नौकरी में विशेष लाभ प्राप्त होगा। रोजगार मिलेगा। जोखिम न लें। ★ *सिंह* :- फालतू खर्च होगा। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। अपेक्षित कार्यों में बाधा होगी। बाकी सामान्य रहेगा। ★ *कन्या* :- बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। भागदौड़ अधिक रहेगी। यात्रा, निवेश व नौकरी मनोनुकूल रहेंगे। प्रमाद न करें। ★ *तुला* :- योजना फलीभूत होगी। विवाद को बढ़ावा न दें। जोखिम न लें। कार्यस्थल पर सुधार होगा। प्रसन्नता रहेगी। ★ *वृश्चिक* :- कोर्ट व कचहरी में लाभ होगा। धन प्राप्ति सुगम होगी। पूजा-पाठ में मन लगेगा। घर की चिंता रहेगी। लाभ होगा। ★ *धनु* :- आय में कमी रहेगी। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। चोट, चोरी व विवाद आदि से हानि होगी। स्वास्‍थ्य का ध्यान रखें। ★ *मकर* :- प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। राजकीय सहयोग मिलेगा। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। ★ *कुंभ* :- कोर्ट व कचहरी के कार्य मनोनुकूल रहेंगे। रोजगार प्राप्ति होगी। संपत्ति के कार्य बड़ा लाभ देंगे। जल्दबाजी न करें। ★ *मीन* :- रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। लेन-देन में सावधानी रखें। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। प्रसन्नता रहेगी। ***************[जय हनुमान]

आज का पंचांग, चौघडिया ,राशिफल ,आरोग्यं, आपका दिन शुभ मंगलमय हो

●●ऊँ●●
●★● *सुप्रभात*::::::::-------
●★◆ *आज का पंचांग* ::::---
★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★
====================
●कलियुगाब्द...............5120
●विक्रम संवत्..............2075
●शक संवत्.................1940
●मास..........................ज्येष्ठ
●पक्ष..........................शुक्ल
●तिथी........................पंचमी
प्रातः 06.52 पर्यंत पश्चात षष्ठी
●रवि.....................उत्तरायण
●सूर्योदय.........05.45.08 पर
◆सूर्यास्त.........07.04.47 पर
●सूर्य राशि....................वृषभ
●चन्द्र राशि...................मकर
●नक्षत्र........................श्रवण
दोप 02.54 पर्यंत पश्चात धनिष्ठा
●योग.............................इंद्र
रात्रि 09.51 पर्यंत पश्चात वैधृति
●करण........................तैतिल
प्रातः 06.52 पर्यन्त पश्चात गरज
●ऋतु...........................ग्रीष्म
●दिन........................सोमवार
====================
★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 
04 जून सन 2018 ईस्वी ।
====================
★★ *राहुकाल* :-
प्रात: 07.25 से 09.05 तक । 
====================
★★ *दिशाशूल* :-
पूर्व दिशा- यदि आवश्यक हो तो दर्पण देखकर यात्रा प्रारंभ करें। 
====================
★ शुभ अंक..............4
★ शुभ रंग.............लाल
====================
★★ *चौघडिया* :-
प्रात: 05.44 से 07.24 तक अमृत
प्रात: 09.04 से 10.44 तक शुभ
दोप. 02.04 से 03.44 तक चंचल
अप. 03.44 से 05.24 तक लाभ
सायं 05.24 से 07.04 तक अमृत
सायं 07.04 से 08.24 तक चंचल ।
====================
★★ *आज का मंत्र* :-
|| ॐ पिनाकहस्ताय नमः ||
====================
★★ *सुभाषितानि* :-
अप्यब्धिपानान्महत: सुमेरून्मूलनादपि ।
अपि वहन्यशनात् साधो विषमश्चित्तनिग्रह: ॥ 
◆अर्थात : अपने स्वयं के मन का स्वामी होना यह संपूर्ण सागर के जल को पिना, मेरू पर्वत को उखाडना या फिर अग्नी को खाना ऐसे असंभव बातों से भी कठिन है ।
====================
★★ *आरोग्यं* :-
◆◆ *कपूर के फायदे :-*
◆ *1. जोड़ों का दर्द -*
जोड़ों के दर्द के लिए कपूर बहुत ही लाभकारी होता है। जब भी हमारे जोड़ों में दर्द होती है तो हमें कपूर से मालिश करनी चाहिए। इससे जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है।
◆ *2. लूज मोशन में राहत -*
मौसम के बदलने पर या बाहर का कुछ खा लेने पर हमें अक्सर लूज मोशन की शिकायत हो जाती है, ऐसे में हमें कपूर, अजवाइन, पिपरमेंट को बराबर मात्रा में मिलाकर कांच की बरनी में भर लेना चाहिए, फिर इसको धूप में रख दें। छह से आठ घंटे तक इसे वही रहने दें, फिर इसे वहां से उठा लें, जो मिश्रण तैयार हुआ है उसकी चार से पांच बूंदे शरबत बना कर पियें।
◆ *3. दांत के दर्द से राहत -*
जब भी आपके दांत में दर्द हो तो आपको कपूर का पाउडर बनाकर दर्द वाली जगह पर लगाना चाहिए इससे आपको दर्द से निजात मिलता है।
====================
★★ *राशिफल* :-
★ *मेष* :- व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। योजना फलीभूत होगी। धनार्जन होगा।
★ *वृष* :- धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। कोर्ट व कचहरी के कार्यों में अनुकूलता रहेगी। शारीरिक कष्ट संभव है। 
★ *मिथुन* :- चोट, चोरी व विवाद आदि से हानि संभव है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। लाभ में कमी रहेगी। 
★ *कर्क* :- राजकीय बाधा दूर होगी। लाभ की स्थिति बनेगी। जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। शत्रु सक्रिय रहेंगे। 
★ *सिंह* :- संपत्ति के बड़े सौदे बड़ा लाभ दे सकते हैं। प्रतिद्वंद्वी शांत रहेंगे। ऐश्वर्य के साधन प्राप्त होंगे। 
★ *कन्या* :- किसी आनंदोत्सव में शामिल होने का मौका मिलेगा। रचनात्मक कार्य सफल रहेंगे। चिंता रहेगी। 
★ *तुला* :- दुखद समाचार मिल सकता है, धैर्य रखें। दौड़धूप अधिक रहेगी। आराम नहीं मिलेगा। जल्दबाजी न करें। 
★ *वृश्चिक* :- व्यवसाय ठीक चलेगा। मेहनत का फल मिलेगा। कार्य की प्रशंसा होगी। प्रसन्नता बनी रहेगी। 
★ *धनु* :- उत्साहवर्धक सूचना प्राप्त होगी। घर में प्रसन्नता रहेगी। पुराना रोग उभर सकता है। लाभ होगा। 
★ *मकर* :- बेरोजगारी दूर होगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। जोखिम न लें। यात्रा व निवेश मनोनुकूल रहेंगे। 
★ *कुंभ* :- फालतू खर्च होगा। कर्ज लेना पड़ सकता है। अपेक्षित कार्यों में विलंब होगा। चिंता रहेगी। 
★ *मीन* :- व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। प्रतिष्ठा वृद्धि होगी। लेनदारी वसूल होगी। प्रसन्नता बनी रहेगी।
***********[जय श्री महाकाल]

आज का पंचांग राशिफल आरोग्यं आपका दिन शुभ मंगलमय हो.

●●ऊँ●● ●★● *सुप्रभात*::::::::------ ●★● *आज का पंचांग*::::---- ★आपका दिन शुभ मंगलमय हो.★ ==================== ●कलियुगाब्द...............5120 ●विक्रम संवत्.............2075 ●शक संवत्................1940 ●मास.................अधिक ज्येष्ठ ●पक्ष ........................कृष्ण ●तिथी.......................पंचमी दुसरे दिन प्रातः 06.52 पर्यंत पश्चात षष्ठी ●रवि....................उत्तरायण ●सूर्योदय.........05.45.29 पर ●सूर्यास्त.........07.04.59 पर ●सूर्य राशि...................वृषभ ●चन्द्र राशि..................मकर ●नक्षत्र..................उत्तराषाढ़ा प्रातः 11.49 पर्यंत पश्चात श्रवण ●योग..........................ब्रह्मा रात्रि 08.50 पर्यंत पश्चात इंद्र ●करण.......................कौलव संध्या 05.35 पर्यन्त पश्चात तैतिल ●ऋतु.........................ग्रीष्म ●दिन.......................रविवार ==================== ★★ *आंग्ल मतानुसार* :- 03 जून सन 2018 ईस्वी । ==================== ★ शुभ अंक............3 ★ शुभ रंग...........लाल ==================== ★★ *राहुकाल* :- संध्या 05.24 से 07.04 तक । ==================== ★★ *दिशाशूल* :- पश्चिमदिशा - यदि आवश्यक हो तो दलिया, घी या पान का सेवनकर यात्रा प्रारंभ करें। ==================== ★★ *चौघडिया* :- प्रात: 07.24 से 09.04 तक चंचल प्रात: 09.04 से 10.44 तक लाभ प्रात: 10.44 से 12.24 तक अमृत दोप. 02.04 से 03.43 तक शुभ रात्रि 08.23 से 09.43 तक अमृत रात्रि 09.43 से 11.04 तक चंचल । ==================== ★★ *आज का मंत्रः* || ॐ आदित्याय नमः || ==================== ★★ *सुभाषितानि* :- किम् कुलेन विशालेन विद्याहीनस्य देहिन: । अकुलीनोऽपि विद्यावान् देवैरपि सुपूज्यते ।। ◆अर्थात :- अच्छे कुलमे जन्मी हुई व्यक्ति अगर ज्ञानी न हो, तो (उसके अच्छे कुल का) क्या फायदा। ज्ञानी व्यक्ति अगर कुलीन न हो, तो भी, इश्वर भी उसकी पूजा करते है । ==================== ★★ *आरोग्यं* :- ◆◆ *कपूर के फायदे :-* ◆ *1. स्किन का हेल्दी रहना -* हर कोई सुंदर दिखना चाहता है, ऐसे में अगर हम कपूर का इस्तेमाल करें, तो हमारी त्वचा ग्लो करने लगेगी। इसके लिए नियमित रूप से रात को सोने से पहले कच्चे दूध में थोडा सा कपूर का पाउडर डालें फिर इसे अपने चेहरे पर रुई की मदद से लगायें। 5 मिनट तक इसे अपने चेहरे पर रहने दें और बाद में अपना चेहरा साफ पानी के साथ धो लें। इसका इस्तेमाल करने से आप का चेहरा साफ हो जाता है और साथ में बहुत ग्लो करने लगता है। ◆ *2. चोट का जल्दी ठीक होना -* कपूर में एंटीबायोटिक प्रोपर्टी होती है, जो हमारी चोट को जल्दी ठीक करने के लिए बहुत ही मददगार माना जाता है। जब भी हमें चोट लग जाती है या फिर कट लग जाता है, तो हमें कपूर को पानी में मिक्स करके लगाना चाहिए। ऐसा करने से हम जल्दी ठीक हो सकते हैं। एड़ियां नहीं फटती कपूर का इस्तेमाल हम अपने पैरों पर भी करते हैं, इसके लिए गर्म पानी में थोड़ा सा कपूर और नमक डाल लें फिर अपने पैरों को कुछ देर तक पानी में ही रहने दें। उसके बाद अपने पैरों में मॉइश्चराइजर लगाएं। ऐसा करने से आप की फटी हुई एड़ियों को बहुत ही राहत मिलती है। ◆ *3. पेट दर्द से राहत -* पेट दर्द होने पर एक गिलास पानी में एक चम्मच आजवाइन डाल के उबालें और जब वो पानी आधा रह जाता है, तो उसमें थोडा सा कपूर डाल लें फिर इस पानी का सेवन करें। इससे आप को पेट दर्द से राहत मिलती है। ==================== ★★ *राशिफल* :- ★ *मेष* :- नई योजना बनेगी। यात्रा मनोरंजक रहेगी। घर-बाहर प्रसन्नता रहेगी। कुसंगति से बचें। लाभ होगा। ★ *वृष* :- नेत्र पीड़ा हो सकती है, सावधानी रखें। तीर्थ दर्शन संभव है। सत्संग का लाभ मिलेगा। आय बढ़ेगी। ★ *मिथुन* :- जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। वाहन व मशीनरी के प्रयोग में सावधानी रखें। चिंता बनी रहेगी। ★ *कर्क* :- शत्रु सक्रिय रहेंगे। प्रेम-प्रसंग में अनुकूलता रहेगी। प्रसन्नता रहेगी। वरिष्‍ठ जनों का सहयोग मिलेगा। ★ *सिंह* :- शत्रु परास्त होंगे। सुख के साधन जुटेंगे। भूमि व भवन संबंधी बाधा दूर होकर लाभ होगा। ★ *कन्या* :- रोग, भय व चिंता का वातावरण बन सकता है। पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। प्रसन्नता रहेगी। ★ *तुला* :- कष्ट, भय व तनाव का माहौल रहेगा। दु:खद सूचना मिल सकती है। भागदौड़ रहेगी। जोखिम न उठाएं। ★ *वृश्चिक* :- प्रयास सफल रहेंगे। कार्यसिद्धि होगी। प्रतिष्ठा बढ़ेगी। प्रसन्नता में वृद्धि होगी। वस्तुएं संभालकर रखें। ★ *धनु* :- शारीरिक कष्ट संभव है। शुभ समाचार प्राप्त होंगे। घर में मेहमान आएंगे। प्रसन्नता बनी रहेगी। ★ *मकर* :- भाग्योन्नति के प्रयास सफल रहेंगे। नवीन वस्त्राभूषण की प्राप्ति होगी। मनोरंजक यात्रा होगी। लाभ होगा। ★ *कुंभ* :- पुराना रोग उभर सकता है। आगंतुकों पर अधिक व्यय होगा। दूसरों से अपेक्षा न करें, धैर्य रखें। ★ *मीन* :- बकाया वसूली के प्रयास सफल रहेंगे। यात्रा मनोरंजक रहेगी। मान-सम्मान मिलेगा। आय बढ़ेगी। ***************[जय सूर्यदेव]