क्राइम

खमतराई पुलिस ने 4 लाख 29 हजार नकदी के साथ 15 जुआरी को किया गिरफ्तार

रायपुर:-खमतराई पुलिस ने 4 लाख 29 हजार नकदी के साथ 15 जुआरी को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक सायबर सेल की टीम को सूचना प्राप्त हुई कि थाना खमतराई क्षेत्रांतर्गत शिवानंद नगर स्थित अंडरब्रीज के पास कुछ व्यक्ति जुआ खेल रहे है। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा प्रभारी सायबर सेल एवं थाना प्रभारी खमतराई को जुआरियों को गिरफ्तार करने हेतु निर्देशित किया गया। जिस पर सायबर सेल एवं थाना खमतराई पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा मुखबीर द्वारा बताये स्थान में जाकर देखने पर पाया गया कि कुछ व्यक्ति ताश पत्ती में रकम का दांव लगाकर जुआ खेल रहे है, जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा रेड कार्यवाही व घेराबंदी कर ताश पत्ती से जुआ खेलते कुल 15 जुआरियों को गिरफ्तार कर जुआरियों के कब्जे से नगदी 4,29,200/- रूपये जप्त किया जाकर जुआरियों के विरूद्ध थाना खमतराई में अपराध क्रमांक 698/21 धारा 13 जुआ एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर अग्रिम कार्यवाही किया गया। जुआरियों के विरूद्ध पृथक से प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत् भी कार्यवाही की जा रहीं है। दिल्ली-एनसीआरभारतराज्यछत्तीसगढ़विश्वमनोरंजनवीडियोव्यापारखेललाइफ स्टाइलजरा हटकेधर्म-अध्यात्मविज्ञानसम्पादकीयCG-DPREPaperCOVID-19 BREAKING 14 हजार का डीज़ल डलवाकर 2 आरोपी फरार, पुलिस ने दर्ज किया मामलारायपुर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 4 लाख 29 हजार नकदी के साथ 15 जुआरी गिरफ्तारआर्यन खान ने उठाया बड़ा कदम, फैसला जानकर हर कोई हुए शॉक्डApple पर भारी डिस्काउंट, iPhone पर मिल रही 24,000 रुपये की छूटBigg Boss 15: तेजस्वी प्रकाश ने की अजीब टोन में बात, सलमान का फूटा गुस्सासोने-चांदी से भी ज्यादा शुभ होता है धनतेरस के दिन ये चीजें खरीदनामाता-पिता ने ज़हर देकर बेटी को उतारा मौत के घाट, जानिए पूरा मामलाराजस्थान में वेकेशन मना रहीं करीना कपूर, इंस्टाग्राम पर शेयर की तस्वीरसरकारी नौकरी: कलेक्ट्रेट में 117 पदों पर निकली भर्ती, 8वीं और 12वीं पास बेरोजगार करें आवेदनफैंस को लुभा रही है एक्ट्रेस शिविका दीवान की ये लेटेस्ट हॉट तस्वीरें Home/राज्य/छत्तीसगढ़/रायपुर पुलिस की बड़ी... छत्तीसगढ़ रायपुर पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 4 लाख 29 हजार नकदी के साथ 15 जुआरी गिरफ्तार Janta Se Rishta Admin31 Oct 2021 4:15 PM x रायपुर। खमतराई पुलिस ने 4 लाख 29 हजार नकदी के साथ 15 जुआरी को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक सायबर सेल की टीम को सूचना प्राप्त हुई कि थाना खमतराई क्षेत्रांतर्गत शिवानंद नगर स्थित अंडरब्रीज के पास कुछ व्यक्ति जुआ खेल रहे है। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा प्रभारी सायबर सेल एवं थाना प्रभारी खमतराई को जुआरियों को गिरफ्तार करने हेतु निर्देशित किया गया। जिस पर सायबर सेल एवं थाना खमतराई पुलिस की संयुक्त टीम द्वारा मुखबीर द्वारा बताये स्थान में जाकर देखने पर पाया गया कि कुछ व्यक्ति ताश पत्ती में रकम का दांव लगाकर जुआ खेल रहे है, जिस पर टीम के सदस्यों द्वारा रेड कार्यवाही व घेराबंदी कर ताश पत्ती से जुआ खेलते कुल 15 जुआरियों को गिरफ्तार कर जुआरियों के कब्जे से नगदी 4,29,200/- रूपये जप्त किया जाकर जुआरियों के विरूद्ध थाना खमतराई में अपराध क्रमांक 698/21 धारा 13 जुआ एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर अग्रिम कार्यवाही किया गया। जुआरियों के विरूद्ध पृथक से प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत् भी कार्यवाही की जा रहीं है। गिरफ्तार आरोपी में 01. हरीश कुमार पिता संत कुमार चेलक उम्र 22 साल निवासी मुरेठी थाना मंदिर हसौद रायपुर। 02. मंजीत सिंह पिता बलवंत सिंह उम्र 27 साल निवासी अनुग्रह काम्पलेक्स गोंदवारा थाना खमतराई रायपुर। 03. राम कुमार पिता संतोष प्रसाद उम्र 30 साल निवासी शीतलापारा थाना गुढ़ियारी रायपुर। 04. राम कुमार साहू पिता बलवंत साहू उम्र 48 साल निवासी अहिरवारा थाना नंदनी जिला दुर्ग। 05. मोह0 इकरार पिता ख्वाजूद्दीन उम्र 37 साला निवासी सांई निवास कालोनी थाना कुम्हारी जिला दुर्ग। शामिल हैं।

पांच दिन से लापता होमगार्ड उप निरीक्षक दीपेन्द्र सिंह की हत्या की गुत्थी कोरिया पुलिस ने सुलझाया

बैकुंठपुर:-पांच दिन से लापता होमगार्ड उप निरीक्षक दीपेन्द्र सिंह की हत्या की गुत्थी कोरिया पुलिस ने सुलझा ली है। आज प्रेसवार्ता में पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने बताया कि हत्या के 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के अनुसार होमगार्ड कार्यालय में पदस्थ उप निरीक्षक (आफिक) दीपेन्द्र सिंह (35) मिशन कॉलोनी बैकुण्ठपुर जिला कोरिया गत 25 अक्टूबर से कार्यालय नहीं जा रहा था। सताईस अक्टूबर को शैलेन्द्र सिंह (32) ने थाना बैकुण्ठपुर में गुम इंसान की रिपोर्ट दर्ज कराई कि इसका बड़ा भाई उप निरीक्षक (आफिस) होमगार्ड दीपेन्द्र सिंह 25 अक्टूबर की शाम 7.30 बजे भट्टी पारा में था, तब अंतिम बार बात हुई थी, फिर उसका भाई 27 अक्टूबर तक पर वापस नहीं आया है। एसपी संतोष कुमार सिंह ने तत्काल अति. पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह एवं नगर पुलिस अधीक्षक पी.पी. सिंह के नेतृत्व में उप निरीक्षक रंभा साहू थाना बैकुण्ठपुर एवं थाना प्रभारी खडग़वा विजय सिंह की संयुक्त टीम गठित करते हुए पतासाजी हेतु निर्देशित किया गया। गुम इंसान की जांच में मृतक के मोबाईल लोकेशन ग्राम सोस का मिला था, जो होमगार्ड कार्यालय में पदस्थ महिला होमगार्ड अपने कमाण्डेट से बताई कि 25 अक्टूबर को उसके घर दीपेन्द्र सिंह उससे मिलने कुछ काम से आया था तथा उस दिन उसके घर पर रिश्तेदार मौजूद थे। इस सूचना पर थाना बैकुण्ठपुर में संदिग्धों को तलब कर कड़ाई से पूछताछ की गई। तब उनके द्वारा बताया गया कि दिपेन्द्र सिंह हमेशा घर पर आते-जाते थे, जिससे आरोपी नाराज रहते थे। चारों आरोपियों के द्वारा उसकी हत्या करने का प्लान बनाकर 25 अक्टूबर को जब दीपेन्द्र घर आया और घर से बाहर निकला तो चारों आरोपियों क्रमश: विकास कुमार, मथ्रूराम, सुशील, संदीप मिंज साकिन सोंस, बिहीडाँड़ के द्वारा उसके साथ डंडा से मारपीट कर सिर में चोट पहुँचाकर हत्या कर शव को छिपाने के उद्देश्य से मृतक को उसी के मोटर सायकल में लादकर सोस जंगल होते हुए उपरोक्त चारों आरोपी हथनीनदाह गेज नदी में ले जाकर नाइलोन की रस्सी से पत्थर से बांधकर शव को पानी में डूबाकर छिपा दिये तथा उसके मोबाईल को वहीं पानी में फेंक दिये। मृतक का जैकेट सोस के जंगल में छिपा दिये एवं मृतक के पैंट को उतारकर ग्राम चेर सुनीत ढाबा के पास फेंक दिये तथा उसकी मोटर सायकल को रामविचार के बांध डबरी में मृतक के टोपी एवं जूता मोटर सायकल के डिक्की में डालकर मोटर सायफल को पानी में डाल दिये। आरोपियों के बयान के आधार पर एसआई के शव को हथनीनदाह गेजनदी से बरामद किया गया एवं उसका मोबाईल भी हथनीनदाह गेज नदी से गोताखोरों की मदद से बरामद किया गया है तथा मृतक के जैकेट सोस जंगल से, पेंट ग्राम चेर सुनील ढाबा के सामने पुलिया के नीचे से तथा मोटर सायकल एवं टोपी और जूता रामविचार के बांध से बरामद किया गया है एवं घटना में इस्तेमाल किये गये टीवीएस लूना को भी जब्त किया गया है तथा हत्या में प्रयुक्त हथियार डण्डा भी बरामद किया गया है। आरोपियों के विरूद्ध धारा 302, 201, 120 बी, 34 का अपराध घटित करना पाये जाने से थाना खडग़वा में अपराध कायम कर चारों आरोपियों विकास तिर्की (48 वर्ष), मथरूराम (30 वर्ष), सुशील एक्का (21 वर्ष) और संदीप मिंज को गिरफ्तार किया गया है।

सरगुजा पुलिस ने 5 सटोरिए को पकड़ा, 9 करोड़ के ट्रांजेक्शन का खुलासा

अंबिकापुर:-सरगुजा पुलिस ने शहर से करोड़ों का सट्टा पकड़ा है। इसके साथ ही पुलिस ने मामले में 5 आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी लंबे समय से सट्टे के कारोबार में संलिप्त थे। एडिशनल एसपी विवेक शुक्ला ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों के बैंक खातों को खंगाला जा रहा है। अप्रैल से लेकर अभी तक के खातों में अरबों रुपए का ट्रांजैक्शन हो सकता है, लेकिन अभी के ट्रांजेक्शन से 9 करोड़ की जानकारी मिली है। पुलिस ने कहा कि इस पूरे गिरोह का सरगना आयुष दीप सिन्हा युवक है, जो अम्बिकापुर के सत्तीपारा का रहने वाला है। सभी आरोपी इसे ही पैसे देते थे और यह उन पैसों को बाहर ट्रांसफर करता था। पकड़े गए आरोपियों में ब्रम्ह रोड निवासी हरीश मनवाणी, आयुष दीप सिन्हा, संदीप अग्रवाल निवासी बिलासपुर चौक, मुजाहिद अली निवासी नवागढ़ और संदीप बरनवाल निवासी घुटरापारा शामिल है।

20 लाख के गांजे के साथ 2 आरोपी गिरफ्तार, मूंगफली के आड़ में कर रहे थे तस्करी,मुखबिर की सूचना पर हुई कार्यवाही

रायगढ़:-पुलिस ने गांव की तत्काल घेराबंदी कर दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक थाना प्रभारी डोंगरीपाली निरीक्षक जितेन्द्र एसैया को मुखबिर से सूचना मिली थी, कि 2 व्यक्ति एक सफेद रंग का पिकअप वाहन क्रमांक UP-70- JT- 4128 में भारी मात्रा में अवैध मादक पदार्थ गांजा लेकर सोहेला बरमकेला रोड में जाने वाले है, सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर थाना प्रभारी अपना स्टाफ लेकर नाकेबंदी करने मौका स्थल सोहेला बरमकेला मेन रोड़ बिरनीपाली बार्डर गेट के पास पंहुचकर घेराबंदी किया, कुछ देर में मुखबीर द्वारा बताये अनुसार एक सफेद रंग का पिकप वाहन सोहेला ओड़िसा से बरमकेला की ओर आते दिखी जिसे बिरनीपाली बार्डर गेट के पास रोकने पर पुलिस को देखकर वाहन को कुछ दूर पहले 02 तस्कर खड़ी कर बिरनीपाली गांव खेत की ओर भाग गये । थाना प्रभारी द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों से दिशा निर्देश प्राप्त कर सर्चिंग टीम की सुरक्षा उपाय कर गांव की घेराबंदी कर दोनों आरोपियों को पकडा गया। पकडे गये तस्करों से पूछताछ करने पर अपना नाम (1). कृपा शंकर देवांगन पिता रामलोचन देवांगन उम्र 22 वर्ष ( 2). अक्षय कुमार गुप्ता पिता शिवपूजन गुप्ता उम्र 19 वर्ष दोनेा साकिनान ग्राम पोखरा थाना बभनी तहसील दुधी जिला सोनभद्र उ0प्र के रहने वाले बताये । जिन्हें कार्यवाही की जानकारी देकर उनके पिकअप वाहन क्र. UP70 JT 4128 का तलाशी लिया जो वाहन पिकअप के पीछे डाला में मुंगफली बोरियो के नीचे छिपाकर रखे 5 सफदे रंग की बोरी में खाकी रंग के टेप से लपेटा हुआ 5 बोरी में 148 पैकेट संदिग्ध पदार्थ गांजा मिला, जिसका कुल वजन 148 किलो गांजा अनुमानित कीमत करीबन 14,80,000/- रूपये है तथा आरोपियों से जप्त पिकअप वाहन की कीमत करीब 5 लाख है । इस प्रकार आरोपियों से करीब 20 लाख जप्त की सम्पत्ति की जप्ती की जाकर दोनों आरोपियों पर थाना डोंगरीपाली में 20(बी) एनडीपीएस एक्ट की कार्यवाही कर रिमांड पर भेजा गया है । एसडीओपी सारंगढ़ प्रभात पटेल के मार्गदर्शन में कार्यवाही में थाना प्रभारी डोंगरीपाली निरीक्षक जितेन्द्र एसैया, साइबर सेल के प्रधान आरक्षक दुर्गेश सिंह तथा डोंगरीपाली के स्टाफ आरक्षक सुशील कुमार यादव, जगजीवन जोल्हे, गजानंद पटेल, विनय कुमार तिवारी, भीमसेन भोई, मुरलीधर सिदार, विशाल यादव की सराहनीय भूमिका रही है।

भरूवाडीह के सरपंच को तलवार लेकर दौड़ाकर मारने का प्रयाश करने वाले दो आरोपी गिरफ्तार

बलौदा बाजार ग्राम पंचायत भरूवाडीह के सरपंच आनंद बंदे पिता उदल बंदे तालाब से दुर्गा विर्सन कर वापस घर जाते समय महामाया चौक पर रास्ते में आरोपीगण 01.अश्वनी घृतलहरे, 02.सुनिल सतनामी साकिनान भरूवाडीह दोनों एक राय होकर दिनांक 02.10.2021 की घटना को थाना में जाकर केश को रोकवाये हो कहकर मां बहन गंदी गंदी गालियां देते हुए जान से मारने की धमकी देकर अश्वनी घृतलहरे ने कमर छिपाकर रखे तलवार को निकाल कर हाथ में लेकर लहराते हुए मारने के लिए दौड़ाया कि प्रार्थी के लिखित आवेदन पर दिनांक 16.10.2021 को थाना पलारी में अपराध धारा 341, 294, 506, 34 भादवि एवं 25,27 आर्म्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी से घटना में प्रयुक्त तलवार को जप्त किया गया दोनो आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर माननीय न्यायालय पेश किया गया है ।

44 नग रेलवे आरक्षित -ई -तत्काल एवं सामान्य टिकट के साथ दो दलाल गिरफ्तार 46,958 रुपये के टिकट जप्त भाटापारा आर पी एफ निरीक्षक कर्मपाल सिंह गुर्जर की कार्यवाही

भाटापारा:-पलारी क्षेत्र में अनाधिकृत रूप से रेलवे आरक्षित टिकट एवं ई -टिकट दलालो के विरुद्ध चेकिंग, कार्यवाही के दौरान रेसुब पोस्ट भाटापारा के प्रभारी निरीक्षक कर्मपाल सिंह गुर्जर साथ उपनिरी. बीएल बरेठा ,सउनि एल एन सिंह, प्र आ श्रीनवास एवं केके साहू के साथ मुखबिर की सूचना पर रेलवे आरक्षित ई- टिकट बनाने वाले दुकान पोस्ट आफिस पलारी के सामने " सिद्धांत कंप्यूटर्स " के मालिक/ संचालक व्यक्ति नाम (1) रुद्रदत्त पांडेय वल्द स्व महर्षि भृगु पांडेय उम्र 41 वर्ष, साकिन- वार्ड नं 10, पलारी, थाना- पलारी जिला - बलौदाबाजार (छग) एवं उसकी दुकान के सह संचालक रोशन यादव वल्द तिलक राम यादव उम्र-19 वर्ष साकिन- वार्ड नं 10, पलारी थाना -पलारी, जिला बलौदाबाजार को रेलवे आरक्षित ई-टिकटो के अवैध व्यापार करने के अपराध धारा 143/179 रेलवे अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर उसके कब्जे से कमशः(1) कुल 44 नग रेलवे आरक्षित -ई -तत्काल एवं सामान्य टिकट मूल्य कुल कीमत 46,958 रुपये (2) दो नग मोबाइल (3) दो नग सिपुयु ,प्रिंटर (4) पर्सनल आईडी-03 नग एवं दुकान के कागज को मौके पर जप्त किया गया ! आरोपी व्यक्ति के विरुद्ध रेसुब पोस्ट भाटापारा में अपराध क्रमांक 957/2021 धारा 143 रेलवे अधिनियम दिनांक 25.09.2021 दर्ज कर विवेचना में लिया गया!

क्राइम पेट्रोल देखकर चोरी करने वाला गिरफ्तार:

अंबिकापुर - 30 लाख के जेवर चुराकर कमरे की जमीन में गाड़ दिए, जुए की लत ने शेयर मार्केट ट्रेडर को बना दिया शातिर चोर अंबिकापुर की पुलिस ने एक शातिर चोर को गिरफ्तार किया है। 16 सितंबर को ही इसने शहर के सत्यम ज्वेलरी शॉप में 30 लाख की चोरी को अंजाम दिया था। पुलिस ने CCTV फुटेज और कई लोगों से पूछताछ के बाद इस शातिर चोर का पता लगा लिया। इससे पहले की चोरी का माल आरोपी बेच पाता इसके घर पहुंचकर पुलिस ने दबिश दे दी। आरोपी को न सिर्फ गिरफ्तार किया बल्कि चोरी का सारा सामान भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। ज्वेलरी शॉप से चुराई रकम 17 हजार को बदमाश ने अपने बैंक अकाउंट में जमा कर दिया था। इसे भी पुलिस ने सीज कर दिया है। सत्यम ज्वेलर्स में हुई चोरी के मामले में गिरफ्तार युवक का नाम रवि रजक है, रवि पेशे से शेयर मार्केट में ऑनलाइन ट्रेडिंग का काम भी किया करता है। सत्यम ज्वेलर्स में करीब 30 लाख की हुई चोरी की शिकायत मिलने के बाद पुलिस की टीम एक्टिव होकर चोर का पता लगाने में जुटी हुई थी। 17 सितंबर को दुकान के मालिक सत्यम अशोक सोनी ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि इनकी शॉप से सोने चांदी के जेवर चोरी कर लिए गए हैं। जानकारी मिली थी कि चोर दीवार तोड़ कर अंदर घुसा और अपने साथ चोरी का माल लेकर फरार हो गया। इसके बाद सरगुजा रेंज के आईजी अजय यादव, SP अमित काबले ने जांच टीम बनाकर चोर को पकड़ने का टास्क दिया। ऑटो वाले की वजह से पकड़ा गया पुलिस ने चोरी के खुलासे के लिए उन तमाम लोगों की जानकारी निकाली जो हाल फिलहाल में चोरी के मामलों में जेल से छूटे थे। पुलिस को इस दौरान रवि रजक के बारे में भी जानकारी मिली। जांच टीम लगातार वारदात वाली जगह पर पूछताछ कर रही थी। एक ऑटो वाले से जानकारी मिली कि घटना की सुबह रवि बैग लेकर यहीं से एक ऑटो के जरिए अपने घर गया है। पुलिस ने इसके बाद रवि के घर पर छापा मारा। पूछताछ में उसने बताया कि वो यूट्यूब पर क्राइम सीरीज के कई धारावाहिक देखा करता था जिससे उसे पुलिस को गुमराह करने की तरकीब मिल जाया करती थी। इस चोरी की घटना को अंजाम देने के लिए भी रवि ने गजब की प्लानिंग की। चोरी से एक-दो दिन पहले रवि अंबिकापुर शहर से बाहर चला गया था। बिलासपुर से उसने ड्रिल मशीन खरीदी और इसे शहर से बाहर छुपा दिया था। घटना के दिन जानबूझकर रवि प्रतापपुर गया और वहां से वापस अंबिकापुर बस के जरिए पहुंचा, ताकि पुलिस को छानबीन में रवि के शहर से बाहर होने की जानकारी मिले। इसके बाद पहले से एक स्कूल के कंपाउंड में उसने ड्रिल मशीन, कुछ रस्सियां और बांस छुपा कर रखे थे। 16 सितंबर की रात के अंधेरे में रवि वहां पहुंचा और यहां से सत्यम ज्वेलर्स जाकर ड्रिल मशीन के जरिए दीवार में सुराख बनाकर दुकान में दााखिल हुआ। पुलिस को गुमराह करने के लिए रवि ने रेनकोट भी पहन रखा था। रवि के घर से ये रेनकोट भी मिला। पूछताछ करने पर रवि ने बताया कि उसने अपने कमरे में जमीन के नीचे चोरी के जेवर गाड़ रखे हैं, इसके बाद खुद ही जमीन खोदकर रवि ने तमाम जेवर निकालकर पुलिस को दिए और टीम ने उसे गिरफ्तार कर लिया। जांच टीम को मिलेगा 25 हजार का पुरस्कार शातिर चोर रवि रजक को गिरफ्तार करने वाली अंबिकापुर पुलिस की जांच टीम को अब IG ने 25 हजार कैश प्राइज देने का फैसला किया है। जांच टीम ने बताया कि रवि इससे पहले भी कई इलाकों में चोरी की घटनाओं को अंजाम दे चुका है। मणिपुर चौक में रितेश अग्रवाल नाम के व्यक्ति के किराना दुकान में घुसकर आरोपी ने डेढ़ लाख रुपए की चोरी किए थे, मुख्य डाकघर में 23 हजार चुराए थे। वाड्रफनगर की एक ज्वेलरी शॉप में भी रवि ने चोरी की थी, इसके अलावा शहर के गर्ग किराना स्टोर, महावीर मोबाइल, गीता मोबाइल में भी चोरी के प्रयास कर चुका था। इन मामलों में कुछ दिनों की पहले वह जेल भी जा चुका है। इस वजह से बन गया चोर अंबिकापुर SP ने बताया कि रवि पेशे से शेयर मार्केट में ऑनलाइन ट्रेडिंग का काम किया करता था। इस काम से उसकी अच्छी खासी आमदनी हुआ करती थी, लेकिन जुए की लत की वजह से इसे और रुपयों की जरूरत पड़ने लगी। आरोपी ने रुपए कमाने का शॉर्टकट तरीका चोरी को बना लिया। वह लगातार इंटरनेट पर कई क्राइम सीरीज के वीडियो देखा करता था, जिससे उसे चोरी करने के नए-नए आईडिया मिला करते थे। चोरी की कमाई को वो जुए में लगाया करता था।

ब्राउन शुगर बिक्री करने वाले तीन व्यक्तियों को बैकुण्ठपुर पुलिस टीम ने पकड़ा

बैकुण्ठपुर-पुलिस अधीक्षक कोरिया संतोष कुमार सिंह के द्वारा ड्रग्स व नारकोटिक्स के खिलाफ चलाये जा रहे #NIJAAT अभियान के तहत आज दिनांक 19/09/2021 को मुखबिर से सूचना मिली कि तीन व्यक्ति फैजल खान उर्फ विक्की पिता अफसर खान उम्र 24 वर्ष निवासी आमा खेरवा वार्ड क्रमांक 15 मनेंद्रगढ़,ओम प्रकाश चौधरी पिता राममिलन चौधरी उम्र 30 वर्ष निवासी ग्राम राजनगर जिला अनूपपुर मध्य प्रदेश एवं सुभाष कुजूर उर्फ शिब्बू पिता स्व इसहाक कुजूर उम्र 35 वर्ष निवासी आमा खेरवा वार्ड क्रमांक 15 मनेंद्रगढ़, एक सफेद रंग की अल्टो कार में बैठकर घूम घूम कर लोक परलोक ढाबा के आसपास अवैध मादक पदार्थ ब्राउन शुगर रखकर बिक्री हेतु ग्राहक तलाश कर रहे है, मुखबिर सूचना मिलने पर पुलिस द्वारा गवाहों को ग्राहक बनकर बात करने हेतु भेज गया। गवाहों को आरोपियों द्वारा ब्राउन सुगर का सैंपल दिखाया गया जिन्हें घेराबंदी कर तीनों आरोपियो को पकड़ा गया, आरोपियों की तलाशी करने पर 0.520 ग्राम पुड़िया कागज में लपेटा हुआ, 1 आल्टो कार, 3 नग मोबाइल जप्त किया गया। जिसकी कुल कीमत लगभग 230000 रुपए है।आरोपीगण के विरुद्ध अपराध क्रमांक 198/2021 धारा 22 ( क ) एनडीपीएस एक्ट का अपराध दर्ज कर आरोपीगण को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। थाना प्रभारी द्वारा आश्वस्त किया गया कि पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में इसी प्रकार की कार्यवाही लगातार जारी रहेगी।

सत्यम ज्वेलर्स दुकान से 31 लाख की चोरी, आरोपी ने चोरी के जेवरात को घर के कमरे में रखा था छुपाकर

अंबिकापुर:-सत्यम ज्वेलर्स में हुये 31 लाख की चोरी की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। इस मामले में पुलिस ने मठपारा बिलासपुर चौक निवासी रवि रजक को गिरफ्तार किया है। आरोपी चोरी के अन्य मामलो में पहले भी जेल जा चुका है।जानकारी के मुताबिक 16 सितंबर को सत्यम ज्वेलर्स में सेंधमारी करके 30 लाख की ज्वेलरी और एक लाख रूपए नगदी चोरी हो गये थे, जिसकी सूचना दुकान के मालिक सत्यम अशोक सोनी ने अंबिकापुर थाने में दर्ज कराई थी। चोरी की इस शिकायत के बाद एसपी अमित तुकाराम कांबले ने विशेष टीम का गठन कर जांच के आदेश दिये। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घटना स्थल पर लगे सारे सीसीटीवी कैमरे और आसपास के लोगों से पूछताछ शुरू की गई। इस बीच पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि, मठपारा निवासी रवि रजक पूर्व में भी चोरी के मामलों में जेल जा चुका है। इस सूचना के बाद पुलिस ने संदेही को हिरासत में लेकर कढ़ाई से उससे पूछताछ की। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने चोरी की बात कबूल कर ली और पुलिस को बताया कि, चोरी से पहले उसने अच्छी तरह से ज्वेलरी दुकान की रेकी की थी। इसके बाद बिलासपुर से ड्रिल मशीन लाकर 15 सितंबर की रात चोरी की इस वारदात को अकेले ही अंजाम दिया था और चोरी किये हुए ज्वेलर्स को अपने घर में लाकर एक कमरे में रखे बैड के नीचे जमीन में गाड़ दिया था। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर उसके घर से चोरी के जेवरात और 17 हजार नगदी जब्त कर लिया है। पुलिस आरोपी के खिलाफ चोरी के तहत मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

बस्तर पुलिस ने आज 2 लाख 60 हजार का गांजा पकड़ा, दो तस्कर गिरफ्तार

बस्तर:-गांजा के परिवहन पर बस्तर पुलिस ने आज बड़ी कार्यवाही की है. मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी, कि बाइक सवार दो युवक गांजा तस्करी कर रहे है. जिस पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर पॉइंट लगाकर चेकिंग किया। इस दौरान दो युवक को रोककर कड़ाई से पूछताछ की गई. वही तस्करों के कब्जे से 52 किलो गांजा बरामद किया गया है.जिसकी अनुमानित कीमत 2,60,000/- रूपये बताई जा रही है।

युवती से छेड़खानी:कार चालक ने चुपचाप बनाया युवकों की हरकत का वीडियो, वायरल होते ही गिरफ्तार

रायपुर वीआईपी इलाके शंकर नगर में शुक्रवार शाम 4 बजे पैदल घर जा रही एक युवती से मोपेड सवार दो युवकों ने छेड़खानी की। सड़क पर ट्रैफिक कम था। इस बात का फायदा उठाकर दोनों काफी दूर से उसे परेशान करते आ रहे थे। उनके पीछे आ रही कार में सवार लोगों ने उनकी हरकत देख ली। उन्होंने युवकों को उस समय कुछ नहीं कहा, चुपचाप उनका वीडियो बनाया और युवती का चेहरा ब्लर किया, ताकि उसकी पहचान न हो सके और वीडियाे को सोशल मीडिया में शेयर कर दिया। कुछ ही देर में वीडियाे वायरल हो गया और बात पुलिस तक पहुंच गई। मोपेड का नंबर देखकर पुलिस अफसरों ने युवकों का पता लगाया और 24 घंटे के भीतर उन्हें पकड़ लिया। सिविल लाइंस पुलिस ने वीडियो के आधार पर छेड़खानी का केस दर्ज किया है। हालांकि न युवती ने उनके खिलाफ शिकायत की है और न ही उसके किसी परिजन ने। आमतौर पर पुलिस तभी किसी मामले में कार्रवाई करती है, जब कोई प्रार्थी होता है। इस मामले में सरेराह छेड़खानी को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने स्वत: संज्ञान लेकर कार्रवाई की है। उनके खिलाफ दर्ज अपराध के आधार पर कोर्ट से उन्हें जेल भेज दिया है। सिविल लाइंस थाना प्रभारी आरके मिश्रा ने बताया कि घटना शंकर नगर में वीआईपी इलाके की है। आस-पास मंत्रियों के बंगले भी है। इसी इलाके में शुक्रवार शाम 4 बजे छात्रा पैदल कहीं जा रही थी। तभी पीछे से सफेद मोपेड में प्रोफेसर कॉलोनी के राजू शर्मा (22) और नितिन शर्मा (19) आए। दोनों ने युवती को अकेले देखकर कमेंट्स शुरू कर दिया। मोपेड की रफ्तार धीमी कर वे युवती के करीब चलते हुए उससे छेड़खानी करने लगे। अकेली होने के कारण वह ज्यादा विरोध नहीं कर पा रही थी। उसकी स्थिति भांपकर युवकों का हौसला बढ़ता जा रहा था, वे लगातार उसके पीछे चल रहे थे। उनकी इस हरकत को पीछे आ रही कार में सवार लोगों ने देखा। उन्होंने पूरी घटना का वीडियो बनाया। इस बीच उनकी हरकतें इतनी बढ़ गईं कि युवती को उनका विरोध करना पड़ा। युवती का जबरदस्ती हाथ पकड़ा चार दिन पहले कटोरा तालाब चौक के पास भी एक युवती से सरेआम छेड़खानी हुई। हालांकि इसकी पुलिस में शिकायत नहीं हुई। दो युवतियां मोबाइल दुकान में चार्जर लेने पहुंची थीं। एक युवती मोपेड पर बैठी हुई थी। दूसरी दुकान के भीतर चार्जर खरीद रही थी। उसी समय पीछे से दो युवक मोपेड में आए। बाहर मोपेड में बैठकर सहेली का इंतजार कर रही युवती का हाथ पकड़ लिया। युवती हड़बड़ा गई। उसने शोर मचाया। आवाज सुनकर आसपास वाले भागकर आए। ये देखकर मोपेड सवार वहां भाग निकले आसपास वालों ने युवकों का पीछा भी किया, लेकिन युवक सिविल लाइंस की ओर निकल गए।

आरोपीयों से नगदी 1680/ रूपया एवं सट्टा पटटी जप्त भाटापारा शहर थाने का मामला

भाटापारा:-भाटापारा में सट्टा पट्टी लिखते सत्यनारायण ठाकुर सहित 3 लोग गिरफ्तार भाटापारा:- शहर निरीक्षक विजय चौधरी से मिली जानकारी के अनुसार भाटापारा के कल्याण सागर पार , सदर वार्ड भाटापारा, संत रवि दास वार्ड मंदिर के पास भाटापारा में अलग-अलग जगहों पर अंको पर रूपये पैसे की दांव लगाकर सट्टा पट्टी कागज में अंको के सामने रकम लेख कर अधिक रकम मिलने का लालच देकर सट्टा खेला रहे तथा लोगों की काफी अधिक भीड लगी है कि सूचना पर भाटापारा शहर पुलिस द्वारा टीम बनाकर एवं गवाहों को साथ लेकर मुखबीर के बताये स्थान पर जाकर रेड कार्यवाही कर *आरोपीगण 01- सत्यनारायण ठाकुर पिता स्व: सुखराम ठाकुर उम्र 40 साल साकिन के के वार्ड भाटापारा 02- आकाश लहरे पिता लक्ष्मण लहरे उम्र 24 साल साकिन सदर वार्ड भाटापारा 03- प्रदीप मनहरे पिता मनोज मनहरे उम्र 21 साल साकिन संत रवि दास वार्ड भाटापारा* थाना भाटापारा शहर जिला बलौदाबाजार बाजार को रंगे हाथ पकडे आरोपीयों के कब्जे से कुल नगदी रकम 1680/ रूपया एवं सट्टा पटटी लिखा मुताबिक जप्ती पत्रक के जप्त कर कब्जा पुलिस में लिया गया आरोपीयों का कृत्य अपराध धारा 4(क) जुआ एक्ट का घटित करना पाये जाने से विधिवत गिर. कर पृथक-पृथक अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया उक्त कार्यवाही में सउनि ओम साहू प्रधान आरक्षक बिसौहा साहू , अंशुमान पाण्डेय आरक्षक राकेश ठाकुर , भारत भूषण पठारी , श्रीचंद ध्रुव का विशेष योगदान रहा थाना भाटापारा शहर में अवैध जुआ-सटटा, शराब पर लगातार कार्यवाही की जा रही है।

अज्ञात चोरों ने कुटीघाट स्कूल से 6 नग बैटरी व प्रोजेक्टर यू.पी.एस.सेट सहित किया पार।

मुलमुला थाना क्षेत्र के ग्राम कोनारगढ के आश्रित ग्राम कुटीघाट में शासकीय उच्चत्तर माध्यमिक शाला कुटीघाट से बीती रात अज्ञात चोरों ने 6नग बैटरी एवं प्रोजेक्टर U.P.S. सेट को पार कर दिया। आज सुबह 7.15 बजे जब चपरासी स्कूल खोलने गये तब शाला का पहला शटर का चैनल टूटा हुआ दिखाई पड़ा। फिर चपरासी के द्वारा फोन से प्राचार्य को फोन से सूचना दिया प्राचार्य एस.आर.देवांगन सूचना मिलने पर वह शाला पहुंचे एवं घटना स्थल का निरीक्षण किया। कक्ष से 6 नग बैटरी व प्रोजेक्ट U.P.S सेट एवं अन्य सामाग्री गायब थी। घटना की सूचना पुलिस को दिए जाने पर पुलिस द्वारा मामले को विवेचना में लिया गया।

सामूहिक दुष्कर्म की घटना,हैवानों ने मुंह में कपड़ा ठुसकर किया दुष्कर्म,2 दिनों से बिना-खाए पिए रस्सी से बंधी मिली आदिवासी पीड़िता

कोरबा:-दीपका थाना क्षेत्र में पानी भरने गई एक आदिवासी युवती से सामूहिक दुष्कर्म की दर्दनाक घटना सामने आई है. 3 हवानों ने आदिवासी पीड़िता से न केवल दुष्कर्म किया बल्कि उसे रस्सी से बांधकर रखा. भूखी-प्यासी पीड़िता 2 दिनों बाद बेसुध पड़ी मिली. ये पूरा मामला कोरबा के दीपका थाना क्षेत्र का है. यहां एक 28 वर्षीय आदिवासी युवती को बंधक बनाकर उससे सामूहिक दुष्कर्म के मामले में पुलिस ने छात्रावास अधीक्षक सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों में से एक गांव की महिला सरपंच का देवर बल्ला मरकाम, हीरालाल यादव और नूनेरा बालक छात्रावास का अधीक्षक विजय कंवर शामिल है.पुलिस की प्रारंभिक जांच में ये बात सामने आई है कि 13 सितंबर की शाम करीब 4 बजे जब युवती पानी लेने बाल्टी लेकर घर से कुछ दूर हैंडपंप के पास पहुंची, तब आरोपी बल्ला अपने साथी हीरालाल यादव के साथ उसे उठाकर ले गया था. पीड़िता के अनुसार बल्ला और हीरालाल ने उससे दुष्कर्म किया था. आरोपियों ने दुष्कर्म के बाद पहले तो युवती को झाड़ियों में फेंक दिया था, फिर रात में उसको तीसरे आरोपी विजय कंवर के घर ले कर गए थे, इधर दो दिन बाद बुधवार को गांव वालों ने जब लापता युवती की खोजबीन तेज की, तो आरोपी पीड़ित युवती को गांव के ही एक घर के कोठार में छोड़कर भाग गए थे. पीड़िता शारीरिक रूप से पहले ही कमजोर बताई जा रही है।

अंबिकापुर के ज्वेलरी शॉप में बड़ी चोरी:

थाने से 100 मीटर दूर दुकान के बिजली मीटर से लिया कनेक्शन, कटर से दीवार काटी; 50 लाख रुपए के 900 ग्राम सोने और 8 किलो चांदी के गहने ले गए अंबिकापुर में थाने से महज 100 मीटर दूर सत्यम ज्वेलर्स में सेंध लगाकर चोर 50 लाख रुपए के गहने ले गए। चोरों ने इसके लिए दुकान के पीछे बांस की चाली बांधी और बाहर लगे मीटर से कनेक्शन लिया। इसके बाद कटर से करीब 7 फीट ऊपर दीवार काटकर अंदर घुसे और नगदी-गहने ले गए। खास बात यह है कि चोर 4 घंटे तक दीवार को काटते रहे, लेकिन पुलिस को पता नहीं चला। जबकि ये दुकान कोतवाली के ठीक सामने से दिखाई देती है। इतनी बड़ी चोरी दशकों में पहली बार हुई है। कंपनी बाजार निवासी अशोक सोनी का गुरुद्वारा चौक पर सत्यम ज्वेलर्स के नाम से शोरूम है। वह रोज की तरह गुरुवार सुबह भी करीब 10 बजे दुकान खोलने पहुंचे तो हैरान रह गए। दुकान में रखे सारे गहने गायब हो चुके थे। सूचना मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस की नाक के नीचे इतनी बड़ी चोरी ने सवाल खड़े कर दिए। जांच शुरू हुई तो पुलिस भी चोरी के तरीके से हैरान रह गई। पूरी वारदात दुकान के अंदर और बाहर लगे CCTV कैमरों में कैद हो गई थी। 4 घंटे तक दीवार काटते रहे चोर, एक घंटे में समेट ले गए सबकुछ जांच में पता चला कि बुधवार देर रात करीब 12.30 बजे चोरों ने दीवार को काटना शुरू किया। जो सुबह करीब 4.30 बजे तक चलता रहा। इसके बाद चोर दुकान में अंदर दाखिल हो गए। इसके बाद आराम से दुकान के शो केस में रखे सोने के 900 ग्राम और चांदी के 8 किलो जेवर व काउंटर में रखे 1 लाख रुपए लेकर उसी रास्ते से करीब 5 बजे भाग निकले। फुटेज में एक चोर दिख रहा जो चेहरे पर मास्क के आलावा बारिश से बचने रेनकोट पहने हुए है। उसने हाथ में दस्ताने भी पहन रखे थे। दुकान की दीवार 7 फीट तक RCC की, दो बार पहले भी हुई चोरी की कोशिश दुकान की दीवार को चारों ओर से 7 फीट की ऊंचाई तक RCC से ढाला गया है। मोटी ढलाई इसीलिए कि कोई सेंध न लगा सके। इसी के चलते चोर ने 7 फीट ऊपर से दीवार काटी, फिर भी उसे 4 घंटे लग गए। ऐसे में आशंका है कि दुकान में चोरी करने वाला इस बात को अच्छे से जानता था। शोरूम में इससे पहले भी 15 जुलाई और 24 जुलाई को सेंध लगाने की कोशिश हो चुकी है, लेकिन चोर कामयाब नहीं हो सके थे। अशोक सोनी ने बताया कि थाने में शिकायत की तो उन्होंने CCTV बढ़ाने की सलाह दे दी थी। गर्ल्स स्कूल परिसर के अंदर से चोरों के आने की संभावना महिला मंडल कॉम्प्लेक्स में ज्वेलर्स शोरूम है। इसके पीछे महिला मंडल और गर्ल्स स्कूल का परिसर है। दुकान में सेंध भी पीछे की दीवार में लगाई गई है। आशंका जताई जा रही है कि गर्ल्स स्कूल परिसर से चोर आया होगा और दुकान के पीछे वाले हिस्से में आराम से सेंध लगाई होगी। वहीं चोरी की घटना से सर्राफा कारोबारियों में डर है। घटना के बाद SP को ज्ञापन सौंपकर इसकी जानकारी दी गई है। जिसमें पहले की घटनाओं का भी जिक्र किया गया है और बताया गया है कि पुलिस की कार्रवाई संतोषजनक नहीं थी ।