ब्रेकिंग न्यूज़

बिलासपुर : स्कूल से पढ़ा कर लौट रहे शिक्षकों की वेन को  हाईवा वाहन ने मारी ठोकर....1 की मौत 1 घायल

बिलासपुर के  तखतपुर क्षेत्र में बेलपान स्कूल से पढ़ा कर लौट रहे शिक्षकों की वेन को  हाईवा वाहन ने ठोकर मार दी जिससे एक शिक्षक और चालक की मौके पर ही मृत्यु हो गई वहीं एक शिक्षिका गंभीर रूप से घायल है जिसे सिम्स रिफर किया गया। हाईवा चालक मौके से फरार हो गया।पुलिस सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार तखतपुर विकासखंड अंतर्गत ग्राम बेलपान में नर्मदा पब्लिक स्कूल संचालित किया जाता है इस स्कूल में तखतपुर से सीता देवागन पिता गंगाराम देवांगन निवासी टिकरी पारा और रूबी ठाकुर पिता धनीराम उम्र 22 वर्ष शिक्षक प्रतिदिन ग्राम बेलपान नर्मदा पब्लिक स्कूल बेलपान‌ मे पढ़ाने जाते हैं आज स्कूल से पढ़ा कर दोनों वेन से  दोपहर 3:00 बजे वापस आ रहे थे तभी राजा कापा श्मशान घाट के पास तखतपुर से बेलपान की ओर जा रही  हाइवा जिसका क्रमांक cg 10 as 5701 ने सामने से ठोकर मार दी जिससे वेन सामने से पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई और सामने बैठे शिक्षक सीता देवांगन पिता गंगाराम निवासी उर्म 33 वर्ष की मौके पर ही मृत्यु हो गई वहीं चालाक आकाश खूटे पिता संतोष कुटे उम्र 23 वर्ष निवासी राजा कापा की भी मौके  पर ही मृत्यु हो गई।वहीं शिक्षिका रूबी ठाकुर पिता धनीराम उम्र 22 वर्ष को घायल अवस्था में तखतपुर स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां स्थिति गंभीर होने पर उसे सिम्स बिलासपुर रेफर कर दिया गया है हाईवा चालक हाईवा सहित मौके से फरार हो गया है पुलिस हाईवा चालक की पतासाजी कर रही है।

हाईवे पर लूटपाट करने वाले 5 आरोपियों को बलौदाबाजार पुलिस ने किया गिरफ्तार , बर्खास्त सिपाही भी था शामिल

बलौदाबाजार. नेशनल हाईवे में लूटपाट करने वाले पांच आरोपियों को सिमगा पुलिस ने धर दबोचा है. दिलचस्प बात है कि गिरोह की सरगना एक महिला है. मास्टर माइंड महिला ने अपने गिरोह में बर्खास्त सिपाही जोगेंद्र फेकर को शामिल किया था. पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में दो नाबालिग भी है. आरोपियों से करीब डेढ़ लाख रुपए के सोने की चैन, अंगूठी, नगद समेत लूट में प्रयुक्त हथियार बरामद किये गए. मामले का खुलासा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जेआर ठाकुर ने किया.

पुलिस के मुताबिक, ग्राम दरचुरा में 3 जून को हाईवे पर प्रिंस पेट्रोल पंप के सामने आर्मी जवान दीपक सिंह कार खड़ी कर आराम कर रहे थे. साथ में उनका परिवार भी था. इस दौरान चार आरोपियों ने धारदार हथियार से हमला बोल दिया, जिसमें उसे चोट भी आई. आरोपियों ने दो सोने की चैन लूट लिया. इसके बाद 10 दिसंबर को भी इसी तरह की घटना सामने आई. अतमरा निवासी रामकुमार सिन्हा पिता नारद राम सिन्हा से भृगु पेट्रोल पंप के सामने अपने साथियो के साथ कार में आराम कर रहा था. तभी रात में 2:35 बजे अज्ञात तीन आरोपियों ने कार के कांच को पत्थर से तोड़ दिया. रामकुमार पर चाकू से वार कर एक सोने की चैन एवं एक अंगूठी और नगद 5 हजार रुपये लूट कर भाग गए.

नेशनल हाईवे में इस प्रकार लगातार घटना को देखते हुए पुलिस अधीक्षक नीथू कमल ने थाना सिमगा में बैठक लेकर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जेआर. ठाकुर, निवेदिता पाल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एवं एसडीओपी के बी. द्विवेदी के निर्देशन में टीम गठीत कर आरोपियों को पकड़ने आवश्यक निर्देश दिए. टीम ने मुखबिरों के माध्यम से पता किया तो पता चला कि पुलिस विभाग से बर्खास्त सिपाही जोगेन्द्र फेकर पिता जय किशन फेकर (28) खरतौरा थाना पलारी हाल गणेशपुर में अरूणा मसीह को औरत बनाकर गणेशपुर में रह रहा है. करुणा मसीह एवं हिमांशु बांधे एवं अन्य 2 नाबालिगों को मिलाकर योजना बनाकर तथा रेकी कर लूटपाट की घटना को अंजाम देते  थे. आरोपियों की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने धावा बोला और सभी को गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों से लूटे गये सामान तथा चाकू जब्त किया गया, ये आरोपी गिरफ्तार-

करूणा मसीह पति अनिल मसीह (35) निवासी विश्रामपुर, थाना सिमगा.

जोगेंद्र फेकर पिता जयकिशन फेकर (28) निवासी खरतोरा, थाना पलारी.

हिमांशु बांधे पिता स्व राकेश बांधे (26) निवासी विश्रामपुर, थाना सिमगा.

 

अकलतरा : ठगी के आरोपियों को दो वर्ष की कैद

अकलतरा के गोपियापारा के महिला समूह की 25 से अधिक महिलाओं को मछली पालन, कुक्कुट पालन आदि योजनाओं में निवेश कर अत्यधिक लाभ का झांसा देकर लाखों रुपये एकत्र कर भाग जाने की शिकायत पर विवेचना उपरांत 40 गवाहों के परीक्षण, प्रतिपरीक्षण कर न्यायिक दण्डाधिकारी आनंद बोरकर द्वारा तीन आरोपियों को दो-दो वर्ष कारावास से दण्डित किया ।

आपको बतादे की अभियोजन के अनुसार वर्ष 2010 में आरोपी अयोध्या प्रसाद साहू, अश्वनी नामदेव, उषा ज्योति, शिवराज साहू एवं राजेन्द्र सिंह द्वारा गोपियापारा के महिला समूह की महिलाओं को मछली पालन एवं कुुक्कुट पालन में अत्यधिक लाभ का झांसा देकर उनसे लाखों रुपये एकत्र किये गये। कुछ दिनों बाद सभी आरोपी भाग गये थे। महिलाओं द्वारा घटना की शिकायत पुलिस में करने पर पुलिस द्वारा अपराध पंजीबद्ध कर वर्ष 2013 में आरोपियों के खिलाफ अकलतरा न्यायिक मजिस्ट्रेट के न्यायालय में चालान पेश किया गया। आरोपी शिवराज साहू एवं राजेन्द्र सिंह फरार हैं, जबकि अयोध्या प्रसाद, अश्वनी और उषा को भादवि की धारा 420 के लिए 2-2 वर्ष कारावास व अर्थदण्ड से दण्डित किया गया। अभियोजन की ओर से एडीपीओ सोनू अग्रवाल ने पैरवी किया।

बिलासपुर : जशपुर से रायपुर जा रही रायल बस अनियंत्रित होकर बिजली के खंभे से टकराई

बिलासपुर कोटा,,,,, रतनपुर, जशपुर से रायपुर जा रही रायल बस, क्रमांक 04 ea 0365, रतनपुर केरा पारा के पास सुबह साढ़े 6 बजे अनियंत्रित होकर बिजली खम्बे को ठोकते हुए सड़क किनारे गड्ढे में जा घुसी, सुचना पर तत्काल 112 पहुंची और , यात्रियों को बस से सुरक्षित निकाला गया ।।