बड़ी खबर

नक्सल विरोधी अभियान - 6 नक्सली गिरफ्तार

नक्सल विरोधी अभियान के तहत अरनपुर थाना एवं डीआरजी दंतेवाड़ा की संयुक्त टीम ने नीलावाया क्षेत्र से 3 नक्सली और गीदम साप्ताहिक बाजार से 3 नक्सली को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार नक्सली विगत कई वर्ष से नक्सली संगठन से जुड़कर नीलावाया, पोटाली, नहाड़ी ककाड़ी क्षेत्र में काम कर रहे थे। ये नक्सली 30 अक्टूबर को सुबह नीलावाया रोड में न्यूज कवरेज कर रहे डीडी न्यूज की टीम एवं उनको सुरक्षा दे रहे पुलिस कर्मियों पर अंधाधुन फायरिंग करने की घटना में शामिल थे। इसमें 3 पुलिस जवान और 1 मीडियाकर्मी शहीद हुए थे। एक अन्य मामले में गीदम थाना एवं डीआरजी दंतेवाड़ा की संयुक्त पुलिस बल द्वारा मुखबीर की सूचना पर गीदम साप्ताहिक बाजार से 3 नक्सलियों को गिरफ्तार किया। उक्त नक्सली 16 जनवरी को गीदम से छिंदनार जा रही यात्री बस को आग लगाने की घटना में शामिल थे। इसमें माओवादी जनताना सरकार अध्यक्ष फूलदार तामो के पैर पर गोली लगी थी।

बड़ी खबर : नक्सली हमले में 2 जवान शहीद … DIG सुंदरराज पी ने की पुष्टि

बीजापुर में नक्सली हमले में 2 जवान शहीद हो गये हैं, वहीं एक जवान के गंभीर है। घटना बीजापुर के तोंगगुड़ा कैंप की बतायी जा रही है। घायल जवान को चेरला के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के अनुसार शाम के वक्त जवान किसी काम से अपने कैंप से बाहर निकले थे, उसी दौरान नक्सलियों की स्माल एक्शन टीम ने घात लगाकर दो जवानों की गला रेत कर हत्या कर दी।

ग्रामीणों ने लगाया आरोप : शिकायत के बाद भी बल पूर्वक चल रहा है डामर प्लांट

सूर्यकान्त यादव - BBN24.NEWS

बीना एनओसी के बल पूर्वक चला रहा प्लांट

प्लांट से निकलने वाली धूआ से ग्रामीणो को हो रही है परेशानी

 

राजनांदगांव जिले के नक्सल प्रभावित व आदिवासी क्षेत्र अंबागढ चौकी के जनपद ब्लाँक के ग्राम पंचायत कोटरा के आश्रित ग्राम तेलीटोला में दुर्ग के एपी सिंग ने न्यू गुजरात एक्यूपमेन्टस दुर्ग के नाम से डामर प्लांट ग्राम पंचायत के बीना एनओसी के पीछे 2 माह से चला रहा है वही प्लांट से निकलने वाली धूआ से आस पास के रहने वाले ग्रामीणो को खुजलिया होने शुरू हो गई है और वही डामर प्लांट चलाने का कोई समय निर्धारित नही है जिससे वायु प्रदूषण के साथ ध्वनि प्रदूषण भी काफी होती है मालिक जब चाहे चालू कर देता है जिस पर पास के ग्रामीण जब डामर प्लांट बंद कराने पहुचते है तो प्लांट मैनेजर आये महिलाओं को गाली और धमका कर प्लांट से भगा देता है जिसके बाद ग्रामीणो ने चौकी एसडीएम से लिखित शिकायत करने के बाद प्रशासन ने डामर प्लांट को बंद करने का आदेश दिया है।

 

वही डामर प्लांट के मालिक एपी सिंग दुर्ग वाले ने अपने साकिर्द को शिकायत महिला पार्वती वासू सहित सभी के पास रूपये लेकर शिकायत वापस लेने के लिए दबाव बना रहा है

 

 वही काँलेज में पढने वाले देवेन्द्र मंडावी ने बताया की पिछले 3 माह से डामर प्लांट चल रहा है और चलाने का कोई समय नही है जिससे ध्वनि प्रदूषण बहुत अधिक होता है जिस पर पेपर की तैयारी करने मे काफी दिक्कत हो रही है साथ ही डामर प्लांट की आवाज से सर मे दर्द होना बताया है।डामर प्लांट के आस पास रहने वाली पार्वती वासू अपने 2 बच्चो और सास ससूर के साथ रहती है और प्लांट से निकलने वाली धूआ से खुजलिया होने की शिकायत हो रही है साथ ही डामर प्लांट से निकालने वाली आवाज से सभी के सर मे काफी दर्द होता है पार्वती ने और बताई की अभी स्कूलो की छुट्टी है बच्चे गर्मी छुट्टी मनाने आये है और वही मेहमान डामर प्लांट बंद होने के बाद आने की बात कह रही है। इस डामर प्लांट से निकलने वाली काले धूआ से आस पास के फसल खराब होने लगे है। वही इन सभी परेशानियों को लेकर डामर प्लांट समय पर चलाने की बात को लेकर महिला प्लांट पहुची तो प्लांट के मैनेजर गाली गौलोज के साथ धमकी देकर भगा देते है वही इन्ही सभी परेशानी से तरस्त आ कर महिला के साथ पूरे ग्रामीणो ने एसडीएम से डामर प्लांट बंद कराने की लिखित शिकायत की है।

 

 शिकायत के बाद डामर प्लांट बंद होने के बाद प्लांट के मालिक एपी सिंग ने ग्रामीणो पर लगतार दबाव बना रहा की समझौता करे वही इसी समझौता की बात ग्रामीण स्वय खुद बता रहे हैं की बांधा बाजार मे रहने वाले कांग्रेस नेता सलीम खान, मुकेश, रींकू आरा मशीन वाले सहित डामर प्लांट के चमचे बसंत और गफूर लगातार शिकायतकर्ता ग्रामीण महिला को रूपये लेकर शिकायत वापस लेकर डामर प्लांट चालू कराने के लिए समपर्क कर रहे हैं वही ग्रामीण महिला सहित ग्रामीण अढे हुए है की डामर प्लांट बंद करे और प्लांट को गांव से हटाने के लिए नोटिस भी दिया है लेकिन डामर प्लांट के मालिक अपने दबंगाई से डामर प्लांट को चला रहा है। वही डामर प्लांट से ग्रामीण सहित पूरे पंचायत बांडी परेशान है और प्रशासन से शिकायत की है।

केबिनेट मंत्री रविन्द्र चौबे को हार्ट अटैक सहारा अस्पताल के ICU में भर्ती

लखनऊ में आया केबिनेट मंत्री रविन्द्र चौबे को हार्ट अटैक सहारा अस्पताल के ICU में भर्ती यूपी चुनाव प्रचार में गए थे मंत्री रविंद्र चौबे कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे की तबीयत बिगड़ी लखनऊ के सहारा अस्पताल में कराया गया भर्ती लखनऊ के गोमती नगर इलाके में स्थित है सहारा अस्पतालताल अस्पताल में मौजूद सीएम भूपेश बघेल

बिलासपुर के हाई प्रोफाइल विराट अपहरण कांड का बिलासपुर रेंज के आईजी प्रदीप गुप्ता ने किया खुलासा।।

 अजीत मिश्रा @ BBN24

 बिहार से जुड़े थे अपहरण के तार

प्रेस वार्ता में आई जी प्रदीप गुप्ता ने बताया कि इस घटना को अंजाम देने के लिये ये लोग एक माह पूर्व प्लानिंग कर लिए थे।ये लोग पहले गोंड़पारा के रहने सत्यनारायण सराफ के बच्चे को टारगेट किये थे लेकिन वो घूमने बाहर चले गए इस लिए वो प्लानिंग फेल हो गया और उसके बाद घटना को अंजाम तो देना था इसलिए इन लोग मासूम विराट को टारगेट किये और अपहरण की घटना को अंजाम दिए।।इस घटना के  तार बिहार से जुड़ा हुआ है मुख्य सरगना बिहार का रहने वाला है जो पुलिस की ग्रिफ्ट से बाहर है वही इस मामले मोबाइल के लोकेसन से और मोबाइल में संपर्क किये जाने कारण पुलिस इन आरोपियों तक पहुँच पाई है।वही आईजी ने बताया कि अपहरण करने वाले 6 करोड़ रुपये की डिमांड दूसरे दिन ही कर दी थी इस काल के बाद से  मोबाइल  लोकेसन सर्च होने के बाद देर रात रिंग रोड के एरिया में अपनी टीम को लगाकर घेराबंदी कर सर्च करने का काम शुरू किया गया और सुबह तड़के 5 बजे पन्ना नगर जो रिंग रोड में स्थित है वही एक घर मे दबिश दी गई जहाँ ऊपर के एक ब्लाक में बच्चे को एक लड़का रखा हुआ था।।पुलिस दरवाजा तोड़ कर अंदर दाखिल हुई तो अंदर जो आरोपी था वह छत के रास्ते से भाग गया लेकिन पुरे एरिया में पुलिस ने घेराबंदी कर रखी थी वह भाग नही पाया और उसे भी धरदबोचा गया। इस मामले में पुलिस तीन लोगों का सामने लायी है जो इस घटना में शामिल है और वही सराफ परिवार के एक किसी का घटना में शामिल होने बता रहे लेकिन उस बात का खुलासा नही किये।वही गोंड़पारा स्थित सराफ परिवार का पैतृक घर से एक महिला को हिरासत में लिया गया।।और वहाँ के लोगो का कहना है आरोपी अनिल सिंह का उक्त महिला के घर मे विगत दो वर्षों से आना जाना है पहले उसी वेगन आर से आया जाया करता जिसमे मासूम विराट का अपहण हुआ है।।उक्त घटना में पुलिस जिनकी ग्रिफ्तारी की गई है उन आरोपियों का नाम अनिल सिंह,हरिकृष्णविशाल,सतीश शर्मा ,इनको ग्रिफ्तार किया गया है वही मुख्य सरगना राज किशोर सिंग जो अभी भी फरार है।।और वही अभी भी कुछ लोगो को हिरासत में लेकर पूछताछ जारी होने की बात पुलिस कह रही है।।

भूपेश बघेल ने विराट सर्राफ के लिए किया ट्वीट , कहा ......

ट्वीट-1  -- विराट पांच दिनों बाद सुरक्षित घर लौट आया है। इन पांच दिनों मैं भी परिजनों की चिंता में शामिल रहा।

मैं छत्तीसगढ़ की जनता को विश्वास दिलाता हूं कि क़ानून व्यवस्था के साथ कोई समझौता नहीं होगा और हमारी सरकार हर किसी के साथ खड़ी रहेगी।

मुस्तैदी के लिए पुलिस विभाग को बधाई।

 

ट्वीट-2 -- विराट के पिता विवेक सराफ जी एवं मां से फोन पर बातचीत हुई। विराट की सकुशल घर वापसी की खुशी है। आप सभी की सेवा में सदैव हाज़िर रहूं, यही मेरा प्रयास है।

 

 

बिलासपुर : विराट पहुचा अपने घर - बिलासपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता... पढ़े पूरी खबर

अजीत मिश्रा @ BBN24 -- बिलासपुर पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए आज शुक्रवार की सुबह सकुशल बरामद कर लिया है सुबह के साढ़े पाँच बजे, बिलासपुर के सर्राफ़ परिवार के चेहरे पर वो ख़ुशी लौटी जिसका ऐहसास उनके चेहरो में साफ साफ झलक रहा है। पिछले 6 दिनों से अपने लाड़ले की राह तकते इस घर को सुबह साढ़े पाँच बजे अगर किसी की आवाज ने सबको ख़ुशी के आँसू से सराबोर कर दिया तो वो आवाज उसी मासूम विराट की थी। विराट को सुबह साढ़े पाँच बजे पुलिस दल लेकर उसके घर पहुँचा। भावुक माँ के लिए यह क्षण बेहद अहम था.. पूरा घर बाँहों में लिए विराट को लिए रहा। बीते पाँच दिनों से अनजान चेहरों के बीच परेशान पाँच बरस का विराट अपनो के बीच पहुँचा और आख़िरकार माँ के पास देर तक रहने और उससे दुलार पाने के बाद जब उसे ऐहसास हो गया कि वो अपनी मम्मी के पास है, पिता के साथ है याने दुनिया की सबसे सुरक्षित जगह पर है, तब वो मुस्कुराया। वही अपने कलेजे के टुकड़े को सही सलामत देख घरवालो के खुशी के आंसू थमने का नाम ही नही ले रहे थे । विराट को पुलिस के विशेष दल ने तड़के करीब पाँच बजे बिलासपुर के जरहाभाटा की पन्ना नगर कालोनी में एक घर से बरामद किया। इस अपहरण से बिलासपुर बुरी तरह उद्वेलित था। घटना में पाँच से अधिक आरोपीयों के शामिल होने की खबर हैं जिनमें से अधिकांश को पकड़ लिया गया है। बिलासपुर एसपी ने इसकीं पुष्टि की है बरहाल पुलिस प्रेस कांफ्रेंस के जरिये पूरे मामले की जानकारी कुछ देर बात देगी। फिलहाल पता नही चल पाया है कि मासूम का अपरहण किन वजहों से किया गया था

बड़ी खबर : बिलासपुर में कांग्रेस और बीजेपी के कार्यकर्ताओ में मतदान के बाद हुवा विवाद -- मारपीट के बाद थाना पहुचा मामला ...!

अजीत मिश्रा / BBN24-NEWS

घटना के बाद थाना सिविल लाइन में आनन फ़ानन में पुलिस बल को करना पड़ा हल्का बल का प्रयोग

बिलासपुर के थाना सिविल लाइन क्षेत्र में लोकसभा चुनाव के लिए बनाए गए मतदान केंद्र अम्बेडकर स्कूल में चुनाव समय समाप्त होने के बाद शाम 5 बजे के बाद कांग्रेस और बीजेपी के लोगो मे नारेबाजी को लेकर विवाद होगया जिसके बाद विवाद इतना गहराया की कांग्रेस के कार्यकर्ता और ब्लॉक कांग्रेस के अध्य्क्ष तैयब हुसैन बीजेपी की महिलाएं के साथ हाथापाई करने लगे वही इस घटना के बाद बीजेपी की महिलाएं थाना पहुच गई अपनी शिकायत लेकर तो कांग्रेस के लोग भी भीड़ लेकर थाना सिविल लाइन पहुँच गए और वहाँ भी पुलिस के सामने विवाद करने लगे इस घटना के बाद आनन फ़ानन में पुलिस बल को बुलाना पड़ा और हल्का बल प्रयोग कर भीड़ हटाई गई।इस घटना के बाद दोनों पक्ष के लोग अपने आप को सही बताना का प्रयास करते रहे और एक दूसरे के ऊपर आरोप लगा कर अपनी बात रखी।।वही इस घटना के बाद से चुनाव में लगे पुलिस बल  की पोल खुल के सामने आ गई जहाँ पर्याप्त बल होने का दावा कर चुनाव सम्पन किया जाना था लेकिन बिलासपुर शहर के एक मतदान केंद्र में जब बड़ी संख्या में लोग विवाद कर रहे थे तब उस मतदान केंद्र में महज दो चार पुलिस कर्मी ही वहाँ मौजूद थे।यदि मतदान केंद्र में विवाद और गहराता तो स्थिति को नियंत्रण करने में पुलिस फैल ही साबित होती और एक बड़ी घटना सामने आती ।।

देखे विडियो --

 

जांजगीर चांपा : मतदान कार्य में की जा रही है लापरवाही

हेमंत जयसवाल / BBN24-NEWS

 

लोकसभा चुनाव में मतदान के दौरान स्याही लगाने वाले मतदान कर्मी अलग अलग बूथों में मतदाताओं की अलग-अलग उंगलियों पर अमिट स्याही लगायी जा रही है। मिली जानकारी बिर्रा बुथ क्र.55 के मतदाता सचिन केशरवानी के दाहिने हाथ की मध्यम उंगली में तो शिवराम कहरा की दाहिने हाथ की तर्जनी, खुदाबक्श की बाएं हाथ की मध्यमा मे, पर, डभराखुर्द के बुथ 44 पर मनहरणलाल पटेल की दाएं हाथ की तर्जनी उंगली पर अमिट स्याही लगाएं जाने की खबर हैं,

 

जबकि मतदान के दौरान प्रायः बाएं हाथ की तर्जनी पर अमिट स्याही लगायी जाती है।

मतदाताकर्मी को जिला प्रशासन द्वारा बकायदा ट्रेनिंग दी जाती हैं लेकिन इसके बाद भी इस तरह की लापरवाही देखनो को मिल रही है।

 

वहीं इस मामले कि जानकारी जैसे ही स्थानीय पत्रकार जितेन्द्र तिवारी, हेमंत जायसवाल, जीवन साहू को हुई तो उनके द्वारा तत्परता दिखाते हुए इस मामले कि जानकारी जोन अधिकारी, पीठासीन अधिकारी को दी जिसपर पीठासीन अधिकारी द्वारा सुधार किया गया, साथ ही पत्रकारों का धन्यवाद किया।।।

छत्तीसग़ढ : आईटीबीपी के जवान सर्चिग करते हुए जा रहे थे ढब्बा मतदान केंद्र नक्सलियों ने किया ब्लास्ट

सूर्यकान्त यादव @ BBN24 राजनांदगाँव लोकसभा सीट के लिए गुरुवार सुबह 7 बजे शाम 5 बजे तक मतदान चला..राजनांदगाँव लोकसभा सीट मे 8 विधानसभा  सीट आता है..जिसमे मोहला-मानपुर विधानसभा क्षेत्र नक्सली अतिसंवेदनशील क्षेत्र माना जाता...जिसेक कारण चुनाव आयोग ने यहा सुबह 7 बजे से 3 बजे तक मतदान करवाया....सुरक्षित और सुगम मतदान करवाने के लिए इन क्षेत्र मे भारी मात्रा मे फोर्स के जवान तैनात थे.......जिले के धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र मानपुर थाना के ढब्बा गाँव मे नक्सलीयो ने आईईडी ब्लास्ट किया जिसमे मतदान केंद्र का निरिक्षण करने जा रही आटीबीपी का एक जवान उसकी चपेट मे आ गया....घायल जवान मानसिंह को आनन-फानन मे मानपुर अस्पताल लाया गया जहा उसका प्राथमिक उपचार किया गया...घटना उस समय कि है,जब आईटीबीपी के जवान सर्चिग करते हुए ढब्बा मतदान केंद्र जा रहे थे...तभी नक्सलीयो ने फोर्स को नुकसान पहुचाने की नियत से ब्लास्ट किया...जसमे एक जवान उसकी चपेट मे आ गया...नक्सलीयो ने पहले से आईईडी बम प्लांट करके रखा था..बाकि के  जवान सुरक्षित मानपुर पहुच गए.....मतदान को प्रभावित करने के लिए नक्सलीयो ने इस तरह की घटना को अंजाम दिया....

बलौदाबाजार के भाटापारा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आम सभा को किया संबोधित

बलौदाबाजार के भाटापारा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आम सभा को संबोधित किया. पीएम नरेंद्र मोदी ने जय जोहार और जय छत्तीसगढ़ महतारी के साथ भाषण की शुरुआत की और भाजपा के प्रत्याशियों के लिए वोट मांगे. प्रधानमंत्री ने कांग्रेस को आड़े हाथों लिया साथ ही रायपुर लोकसभा एवं बिलासपुर तथा जांजगीर चांपा लोकसभा के प्रत्याशी भी मंच पर मौजूद थे मोदी ने उन सभी भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशियों के लिए जनता से वोट की अपील की तथा कांग्रेस को आड़े हाथों लिया उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियों को जनता के सामने रखा कथा सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक जैसी उपलब्धियों को गिनाया सभा स्थल पर मौजूद जनता ने मोदी मोदी के नारों से प्रधानमंत्री का जोरदार अभिवादन किया तथा कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा सभा को पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह राजेश मुहूर्त विक्रम सैनी शिवरतन शर्मा आदि ने संबोधित किया

राजनांदगाँव जिले के धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र मानपुर थाना के खुर्सेकला मे एक बार फिर धधकने लगी पथलगढी की आग.... पढ़े पूरी खबर

सूर्यकान्त यादव @ BBN24 NEWS-- राजनांदगाँव जिले के धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्र मानपुर थाना के खुर्सेकला मे पथलगढी की आग एक बार फिर धधकने लगी है...आदिवासी समाज के द्वारा तीन वर्ष पुर्व इसकी शुरूवात की गई थी...जो आज फिर एक बडा रूप लेने लगा है.....कुर्सेकला के आस पास के 23 गाँव के ग्रामीण के लोग यहा एकत्रित हुए और इस आन्दोलन को बडा रूप देने की तैयारी मे है,,,इस आयोजन मे महिला,पुरूष और नवजवान सहित बच्चे बी शामिल थे....आदिसावीस समाज के नेता सरजु टेकाम का कहना है,कि पहले लिखित सविधान नही था..और हमारे पुरखे के लोग पत्थर गाढ कर सीमा निर्धारण करते थे.....वही जल,जंगल,जमीन हमारी है,जिसमे हमारा अधिकार है...जो पंचायत तय करेगी,...इन पुरे मामले को लेकर आदिवासी परंपरिक महाग्राम सभा का आयोजन किया गया है... - जिला मुख्यालय से लगभग एक सौ तीस किलोमीटर दुर नक्सल प्रभावित गाँव खुर्सेकला गाँव मे सैकडो की संख्या मे आदिवासी समाज के लोग जुटे जा यह तय किया गया कि,जल,जंगल जमीन हमारी है...इसे लेकर आदिवासी समाज लाबंध हो रहा है..जिसमे 23 गाँव के ग्रामीण शामिल हुए....जिसमे आदिवासी समाज के लोगो के द्वारा पारंपरिक तरीके से पुजा पाठ कर इस बैठक की शुरूवात हुई..जहा आदिवासी समाज के नेता गरजे औरक कहा कि जल,जंगल जमीन हमारी है..जिसमे हमारा अधिकार है.....और संविधान मे बी इसका उल्लेख है....जहा समाज के लोग तीर कमाल और बाजे गाजे के साथ इस बैठक मे पहुचे..... - आदिवासी समाज के नेता का कहना है,कि ग्राम सभा का सविधान और आदिवासी समाज का सविधान पुर्व से ही है,लेकिन लिखीत मे नही रहा और जिससे  हमारी अनदेखी की गई... हम कन्ही से गलत नही है,हम सरकार के सामने अपने अधिकार के लिए आवाज उठा रहे है,जो हमारा अधिकार है,पत्थलगढी आन्दोलन एक बार फिर बडा रूप ले रहा है,जो सीधे सरकार को चुनौत दे रहा है...वही पुरे मामले मे नक्सलीयो के इसारे से यह आन्दोलन तो नही हो रहा है....ये संभावनाओ भी बन रही है...बहरहाल आन्दोलन क्या रूप लेता है..और नक्सलीयो की क्या भुमिका है..यह सरकार के जाँच का विषय है..... ---पुरा आन्दोन समाज के सभी लोग इस, आन्दोलन मे शामिल होते है,तो यह आन्दोनल जन आन्दोलन का रूप न ले ले..जिससे प्रदेश सरकार और कंद्रे सरकार के लिए नया सिर दर्द पैदाकर सकता है.....वही जंगल के अंदर यह आयोजन होने से नक्सली दहशत के कारण

शिक्षा के संस्थान बन रहे लूट की दुकान

_________________________ विश्वगुरु का खिताब प्राप्त कर चुका हिन्दुस्तान एक समय मे दुनियाभर मे शिक्षा का अहम केंद्र था, नालंदा तक्षशिला जैसे विश्व विद्यालय सारी दुनियां को सर्वांग शिक्षा प्रदान करने के संस्थान के रुप मे जाने जाते थे, किन्तु गुलामी दर गुलामी ने भारत की सारी व्यवस्था को छिन्न भिन्न कर दिया और उसमे सबसे ज्यादा आहत हुई शिक्षा व्यवस्था तथा यह कार्य अंग्रेजों द्वारा सुनियोजित तरीके से किया गया, क्योंकि उन्हे मालूम था कि इस देश की असली ताकत है यहाँ कि शिक्षा व्यवस्था जो लोगों को ज्ञान के माध्यम से एक दूसरे से जोड़ती है और स्वालंबी बनाती है, और इसी स्वालंबन एवं एकजुटता पर वार करने के लिए उनके द्वारा बाबू बनाओ शिक्षा पद्धति लायी गयी जो स्वालंबन नही निर्भरता का पाठ पढ़ाती है,आजादी के बाद बहुत कुछ बदला किन्तु शिक्षा पद्धति नही बदली, _________________________ प्रारंभ मे शासकीय नियंत्रण _________________________ आजाद भारत मे बाबू बनाओ शिक्षा के जरिए ही नये भारत का सफर शुरू हुआ, और पूरी तरह शिक्षा शासकीय नियंत्रण मे थी जिसके चलते एक तरह से सेवा एवं वास्तविक ज्ञानार्जन का माहौल नजर आता था, वैसे उस समय बेरोजगारी ने अपने पर उतने नही फैलाए थे इसलिए इस शिक्षा की विडम्बना उतनी नजर नही आती थी, किन्तु नब्बे का दशक आते आते बेरोजगारी विकराल दशा की ओर बढ़ने लगी और यहीं से शुरू हुआ शिक्षा पर सवालिया निशान लगने का सिलसिला जिसे बड़ी चालाकी से बाजारवाद ने अपने कब्जे मे लिया और अंग्रेजी शिक्षा मे सुनहरे भविष्य का ख्वाब दिखाते हुए निजी स्कूलों का जाल फेंक दिया गया, जिसमे सरलता से आमजन इस जाल में फंसते चले गये और धीरे धीरे यह व्यवस्था मनमानी फीस एवं आडम्बर मय शिक्षा के रुप मे जनमानस को लूट की राह ले जाने लगी, _________________________ फीस कापी किताब मनमानी बेहिसाब _________________________ जिस सब्जबाग के चलते जनमानस निजी विद्यालयों के जरिए नई शिक्षा की ओर आकर्षित हुई उसमे नया कुछ नही है महज माध्यम का बदलाव है क्योंकि पद्धति तो वही है लिहाजा बेरोजगारी की कतार कम नही हुई वरन बढ़ती ही जा रही है, लेकिन इतना जरुर हुआ कि शिक्षा बेतहासा मंहगाई के रुप मे आगे बढ़ रही है और धीरे धीरे यह फीस से लेकर कापी किताबों मे भी लूट के रुप मे नजर आ रही है, बताया जाता है कि नर्सरी से लेकर आठवीं तक की पांच सौ से छः सौ मे एन सी ई आर टी की जो किताबें मिल जाती है वही किताबें विद्यालयों द्वारा निजी प्रकाशको की तीन हजार से चार हजार मे दी जाती है और ड्रेस नोट बुक मे भी इसी तरह की लूट की जानकारी पालकों के माध्यम से प्राप्त हो रही है, भाटापारा मे भी यह गोरखधंधा धडल्ले से चल रहा है बताया जाता है कि बकायदा इसके लिए विद्यालय अपने विद्यालय से या पसंदीदा स्टेशनरी दुकानों से इस लूट को अंजाम दे रहें है, चूंकि अभी नये सत्र का आगमन हो रहा है इसलिए इस तरह की विडम्बनाए खुलकर सामने आ रहीं है, _________________________ व्यवस्था एवं जनता की लाचारी _________________________ मुनाफाखोरी एवं कमीशनखोरी के जाल मे फंसती एवं पालकों को आर्थिक रुप से डसती इस विडम्बना के बारे मे व्यवस्था को पूरी जानकारी है, इसिलिए शिक्षा का अधिकार कानून लाया गया जिसमे इन विडम्बनाओं से निपटने के लिए प्रावधान तय है किन्तु उसका सही ढंग से क्रियान्वयन नही होना अवश्य ही व्यवस्था की लाचारी को प्रकट कर रही है, उसी तरह निजी विद्यालयों के शिक्षित पालकों को इस लूट का भान हैं किन्तु उनकी चुप्पी शायद उसी लाचारी को प्रकट करती है की कहीं इन विडम्बनाओं का विरोध उनके बच्चों के शैक्षणिक अवरोध का कारण न बन जाए, और इसी लाचारी का ये निजी संस्थान जमकर फायदा उठाते नजर आ रहें है, और इस लाचारी और मनमानी आचरण का प्रभाव पूरी तरह समाज पर पढ़ता नजर आ रहा है जिससे शिक्षा की सुचिता प्रभावित होकर प्रदूषित हो रही है

राजनांदगांव पुलिस द्वारा चलाये जा रहे एंटी नक्सल ऑपरेशन में पुलिस को मिली बड़ी सफलता

 

सूर्यकान्त यादव-BBN24NEWS.COM

 

राजनांदगांव पुलिस द्वारा चलाये जा रहे एंटी नक्सल ऑपरेशन में उस समय पुलिस को बड़ी सफलता मिली जब जिला पुलिस,एसटीएफ और डीआरजी की सयुक्त सर्चिंग पार्टी मानपुर थाना के बुकमरका के जंगल मे सर्चिंग पर निकली। पुलिस पार्टी को देख नक्सलियो ने अंधाधुन फायरिंग शुरू कर दी। फोर्स ने भी नक्सलियो को मुहतोड जवाब दिया । फोर्स को हावी होता देख नक्सली भाग खडे हुए। फोर्स को सूचना मिली कि नक्सली  कैम्प करके बुकमरका के जंगल मे  है। फोर्स ने नक्सली कैम्प को ध्वस्त कर दिया। घटना स्थल से 5 कुकर बम,2 पाइप बम,देशी रॉकेट लांचर,नक्सली साहित्य और भारी मात्रा में दैनिक उपयोग की चीजें बरामद हुई है।

 

फोर्स और नक्सलियो के बीच एक घण्टे तक फायरिंग चली फोर्स को हावी होता देख नक्सली महाराष्ट्र की ओर भाग खड़े हुए। फोर्स ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र में सर्चिंग तेज कर दी है। इसी कड़ी में महाराष्ट्र पुलिस,मध्यप्रदेश पुलिस और छत्तीसगढ़ की राजनांदगांव पुलिस सयुक्त सर्चिंग कर रही है। वंही लोकसभा चुनाव को लेकर राजनांदगांव पुलिस एलर्ट है। वंही दंतेवाड़ा में विधायक भीमा मंडावी के काफिले में हमला करने के बाद नक्सलियो ने विधायक को मौत के घाट उतार दिया। और पुलिस के जवान भी शहीद हुए। जिसके बाद राजनांदगांव पुलिस ने नक्सलिय पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया।और जिले में सर्चिंग तेज कर दिया है।

नक्सलियों ने की विधायक भीमा मंडावी की हत्या, डीआईजी ने की विधायक के मौत की पुष्टि

दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने हमला कर दिया . जानकारी के अनुसार नकुलनार के पास विधायक भीमा मंडावी के काफिले पर नक्सलियों ने हमला कर दिया . नक्सलियों ने भीमा मंडावी के काफिले की एक गाड़ी को ब्लास्ट कर उड़ा दिया है. लोकसभा चुनाव के पूर्व हुए इस हमले में एक पीएसओ समेत 5 जवानों के शहीद होने की खबर मिल रही है. कहा जा रहा है अभी तक दोंनो तरफ से फायरिंग जारी है. जानकारी मिल रही है कि नक्सलियों के इस हमले में विधायक भीमा मंडावी की मौत हुई है. कहा जा रहा है कि नक्सलियों ने विधायक भीमा मंडावी की हत्या कर दी है. हालाँकि इस खबर की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो सकी है. पुनः सूचना मिल रही है कि विधायक भीमा मंडावी की हत्या हो गई है. डीआईजी ने मौत की पुष्टि की है.