छत्तीसगढ़

जांजगीर-चांपा विधायक नारायण चंदेल के जन्मदिन पर जिला पंचायत सदस्य गगन जयपुरिया ने अपना दो माह का मानदेय पीएम राहत कोष में दिया

हेमंत जायसवाल @BBN24 जांजगीर-चांपा - आज जिला पंचायत सदस्य गगन जयपुरिया ने जांजगीर चांपा के लोकप्रिय विधायक नारायण चंदेल के जन्मदिन के शुभ अवसर पर कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु प्रधानमंत्री राहत कोष में अपने 2 माह का मानदेय 12000/- की राशि का योगदान दिया I गौरतलब है कि जिला पंचायत सदस्य गगन जयपुरिया अपने क्षेत्र में इस त्रासदी से प्रभावित लोगों की लगातार मदद कर रहे हैं, चाहे वह मास्क वितरण हो, सैनिटाइजर का छिड़काव या जरूरतमंदों और गरीबों को राशन वितरण हो या फिर पुलिस विभाग में वाहन की आवश्यकता हो I वे सहयोग के लिए सदा तत्पर रहते है I इसी क्रम को जारी रखते हुए उन्होंने आज विधायक नारायण चंदेल के जन्मदिन के उपलक्ष्य में अपना 2 माह का मानदेय 12000/- प्रधानमंत्री राहत कोष मे भी दान किया I इस अवसर पर उन्होंने नारायण चंदेल को जन्मदिन की हार्दिक बधाई देते हुए उनके दीर्घायु जीवन के लिए मंगलकामनाएं की साथ ही उन्होंने माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के देशहित में लागू की गई लाकडाउन की सराहना करते हुए कहा कि आप सभी इस विषम परिस्थितियों में घर परिवार के साथ सुरक्षित रहें और कोरोना वायरस को जड़ से उखाड़ फेंकने में सहयोग प्रदान करें।

सेवानिवृत शिक्षक ने किया एक लाख ग्यारह हजार एक सौ ग्यारह रू ,प्रधानमंत्री राहत कोष में दान

सुबोध थवाईत-BBN24NEWS

कोटमी सोनार । विश्वव्यापी कोरोना महामारी से पूरा देश जूझ रहा है देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेंद मोदी जी ने देशवाशियो से अपील करते हुए कहा है कि प्रधानमंत्री राहत कोष में आर्थिक सहयोग करे जिससे कोरोना जैसे महामारी से लड़ा जा सके एंव कोरोना के जंग से लड़ रहे कर्मवीरों का सम्मान हो सके।आप सभी से सहयोग की अपेक्षा है। सेवानिवृत्त शिक्षक श्री बंशीलाल बंजारा जी प्रधानमंत्री जी के आह्वान पर ग्राम दर्री टार (कल्याणपुर)तहसील अकलतरा जिला जांजगीर निवासी सेवानिवृत्त शिक्षक श्री बंसी लाल बंजारा ने अपने पेंशन से पीएम केयर में 111111/ (एक लाख ग्यारह हजार एक सौ ग्यारह) रुपए की राशि का सहयोग किया है ।इसके आर्थिक सहयोग के लिए इनके जज्बे को सलाम ।

कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ नगरपालिका क्षेत्र के मौहारपारा को प्रशासन द्वारा मॉक ड्रिल हेतु 12 घण्टे के लिए पूरी तरह से आज लॉक डाउन किया गया जहाँ प्रशासन द्वारा हेल्पलाईन नम्बर जारी किया गया ।

Bbn24news - कोरिया एडिशनल एसपी पंकज शुक्ला ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा किसी भी आपदा से निपटने के लिए किसी भी क्षेत्र को अगर सील करना पड़े तो उसके लिए पूर्वाभ्यास किया जा रहा है पहले बैकुण्ठपुर के डबरी पारा और फिर दूसरे चरण में मनेन्द्रगढ़ के मौहारपारा में प्रशासन द्वारा 12 घण्टे का पूरी तरह से लॉक डाउन किया गया है यहां सेनेटाइज भी पूरे क्षेत्र को किया जा रहा है इसमें स्थानीय प्रशासन ,नगरपालिका ,राजस्व सहित मेडिकल और पुलिस विभाग की टीम लगाई गई है इसके लिए यहाँ प्रशासन द्वारा लगातार प्रचार प्रसार भी किया गया है आवश्यक सामग्री जैसे राशन ,दवाई ,सब्जी ,दूध आदि की आवश्यकता हो तो उसके लिए हेल्पलाइन नम्बर में फोन करके मंगा सकते है और लोगो को घरो में रहने की भी सलाह दी गई है वही यह वार्ड नेशनल हाइवे से सटा हुआ है जहाँ पुलिस द्वारा लगातार चारो ओर से बांस के बेरिकेट लगाए गए है और स्वास्थ्य विभाग की एक टीम भी लगाई गई है और हेल्पलाइन नम्बर भी यहाँ जारी किया गया ।

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव व नगर निगम के पार्षद रविन्द्र सिंह ने कोरोना महामारी के समय अपने साथीयो के साथ अलग अलग क्षेत्रो में पहुँच कर आज गरीब व जरुरत मंदो को सब्जी व फल वितरण किये ।

इस पुनीत कार्य में समाज सेवक रविन्द्र सिंह ठाकुर रज्जु अग्रवाल आनंद खेमका पकज बर्ड़े शिवा मुदिलयार हरीश तिवारी चन्द्रहास शर्मा उत्तम चटर्जी राघवेन्द्र सिंह परेश श्रीवास्तव संजय दवे प्रशांत पाण्डेय सतोष चौहान रिन्कु परिहार बटी अग्रवाल बब्लु केशरवानी सदीप मिश्रा गुड़्ड़ु चदेल पियुष अग्रवाल सदिप सिंह मुकेश दुबे संगीत मोईत्रा विक्की नानवानी अजय तिवारी सन्नी चौहान निटु परिहार रितिक सिंह अजय गोस्वामी नरेन्द्र सिंह जे के बजारे पिन्टु आड़ील योगेश पिल्ले राजा यादव अजय पत उदय गंगवानी मनोज साहु जावेद खान सजय यादव कर्ण सिंह हरीश चेलकर दिलीप साहु मजीत यादव नेब्रोन मसीह साईम सिंह मृत्युज्य तिवारी पप्पू विष्ट आदि शामिल थे।

हंगर फ्री बिलासपुर ने चालू की अन्नदान मुहिम ,130 से ज्यादा जरूरतमंद लोगों तक राशन पहुंचाया गया

हंगर फ्री बिलासपुर ने चालू की अन्नदान मुहिम जिसके तहत अभी तक 130 से ज्यादा जरूरतमंद लोगों तक राशन पहुंचाया जा चुके हैं और आगे भी जारी रहेगा जिसमें मुख्य रूप से गरीब मजदूर बेसहारा असहाय लोग इनके अलावा जो छात्र छात्राएं यहां पढ़ाई कर रहे हैं और हॉस्टल में फंसे हैं जो घर नहीं जा पा रहे हैं उनके पास पैसे का अभाव है उन सभी को भी राशन उपलब्ध कराया जा रहा है जैसे कि आप सभी को ज्ञात है कर्फ्यू लगने के बाद से अभी तक लगातार सुबह और शाम का भोजन इनके द्वारा जरूरतमंदों को उपलब्ध कराया जा रहा है जिसमे मुख्य रूप से नीरज गेमनानी, चन्द्रकान्त साहू, रूपेश, रोशन, प्रकाश, लकी, एवम मातृ शक्ति में चुन्नी मौर्य, नेहा तिवारी एवं सौम्य रंजीता अभी शामिल है

न्यायिक जांच कर उचित मुआवजा दिलाया जाए व घायल ग्रामीण का इलाज के बाद शासकीय सेवा में लेने की उचित व्यवस्था किया जाना न्यायहित में होगा - श्रीनिवास मुदलियार

बीजापुर :- जिले के मोदकपाल थाना क्षेत्र अंतर्गत आवापल्ली मार्ग पर ग्राम पुसगुड़ी में पुलिस दल द्वारा निर्दोष ग्रामीणों पर गोली चलाया गया। जिससे एक ग्रामीण की मौत हुई तथा एक गंभीर रूप से घायल है जो काफी दुर्भाग्यपूर्ण व निंदनीय हैं ।जिसका मेरे द्वारा जांच दल घटित कर घटना स्थल पर जाना चाहा पर कोविड--19 के चलते लॉक डॉउन की स्थिति में जिला प्रशासन द्वारा अनुमति नही दी गई । कॉग्रेस की भूपेश सरकार एवं जिला प्रशासन से मेरी मांग है कि उक्त घटना की न्यायिक जांच की जाये तथा मृतक परिवार को उचित मुआवजा दिलाई जाये और घायल ग्रामीण का समुचित ईलाज सरकार द्वारा की जाये एवं उसके जीवन यापन हेतु गंभीरतापूर्वक विचार कर उसे योग्यता आधार पर शासकीय सेवा में लेने की उचित व्यवस्था किया जाना न्यायहित में होगा ।चुनाव पूर्व कांग्रेस की भूपेश सरकार ने वादा किया था कि नक्सली प्रकरणों में संलिप्त आदिवासी ग्रामीणों के सभी प्रकरण वापिस ली जाएगी तथा जेलो में बंद आदिवासियों को रिहा किया जाएगा ।परंतु ठीक इसके विपरीत अब कांग्रेस की ही सरकार में उन्हें नक्सली मुठभेड़ बता कर निर्दोष ग्रामीणों को मौत के घाट उतारा जा रहा है, जो काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। कांग्रेस के कथनी और करनी में अंतर स्पष्ट है। तीन दिन पूर्व ही एक सहायक आरक्षक की अगवा कर हत्या की जाती है,जंहा एक ओर ग्रामीण सुरक्षित नही है, वंही दूसरी तरफ थानों में जवान भी असुरक्षित है। इससे सरकार के पास सुरक्षा के पुख्ता इंतजामात भी नही होना प्रदर्शित करता है।बड़ी दुर्भाग्य की बात है,इस वक़्त क्षेत्रीय विधायक क्षेत्र में मौजूद होते हुए भी पीड़ित परिवारों से मिलने तक उचित नही समझे इससे स्पष्ट है कि विधायकजी क्षेत्र के जनता के प्रति कितने संवेदनशील हैं।

गिधौरी : कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम के लिए पुलिस ने निकली जागरूकता रैली

गिधौरी कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम के लिए पुलिस ने जागरूकता रैली निकली गिधौरी बस स्टैंड से निकाल कर मेन रोड होते हुए गिधौरी बस्ती अंदर एवं टुण्ड्रा मोहतरा अमलीडीह बरपाली सेमरा होते हुए में रोड से वापस पहुची थाना ग्राम गिधौरी के बस्ती अंदर रोड में पुलिस द्वारा पेट्रोलिग की गई इस दौरान पुलिस ने लोगों को घर में रहने के लिए अपील की साथ ही यह अहसास दिलाया की आप की सुरक्षा के लिए ही हम बाहर हैं पुलिस ने लोगों से घर में सुरक्षित रहने घर में हाथ धोते रहने लॉक डाउन का पालन करने भीड़भाड़ वाली जगहों में ना जाने व माक्स लगा कर ही बाहर निकलने की अपील की जागरूकता रैली में थाना प्रभारी ओम प्रकाश त्रिपाठी ASI के . आर. जांगड़े प्रधान आरक्षक दिलीप टोप्पो आरक्षक सत्येंद्र बंजारे आरक्षक प्रवीण यादव आरक्षक पिलेस कुर्मी दिनेश साहू अनवर कुर्रे राजू वर्मा एवं चौकी प्रभारी कवर जी सामिल थे

जिला रेडक्रास सोसायटी को सामाजिक संगठनों व दानदाताओं से मिली सहयोग राशि बच्चें और महिलाएं भी दे रहीं अपना बहुमूल्य योगदान

गौरेला पेंड्रा मरवाही सुबीर चौधुरी

गौरेला-पेण्ड्रा-मरवाही/जिले के विभिन्न सामाजिक संगठनों व दानदाताओं के द्वारा जिला रेडक्रास सोसायटी में सहयोग राशि के रूप में अपना बहुमूल्य योगदान प्रदान किया जा रहा है।

शांतिनाथ दिगंबर जैन मंदिर के महिला मंडल जैन समाज के द्वारा 21000 रुपये की सहयोग राशि रेड क्रॉस समिति में प्रदान किया गया। महिला मंडल जैन समाज की ओर से जिला रेडक्रास हेतु कलेक्टर श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी को सहयोग राशि सौंपी गई।

इसी प्रकार माँ कल्याणिका पब्लिक स्कूल के छात्र 13 वर्षीय सौम्य जैन पिता नितेश जैन ने अपने पिग्गी बैंक में जमा 685 रुपये की राशि को रेडक्रॉस समिति में सहयोग हेतु कलेक्टर श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी को सौंपा।

पेंड्रा निवासी श्री रितेश फरमानिया ने जिला रेडक्रास सोसायटी को बीस हजार रुपये की सहयोग राशि प्रदान किया है।

इसी प्रकार पेंड्रारोड़ निवासी श्री आदित्य मोहन साहू ने 21 हजार रुपये की सहयोग राशि जिला रेडक्रास सोसायटी को जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु दिया है।

कलेक्टर श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी ने सभी दानदाताओं और स्वयंसेवी संगठनों के सहयोग की प्रशंसा करते हुए स्वेच्छा से ज्यादा से ज्यादा लोगों को रेडक्रास सोसायटी में सहयोग राशि देने की अपील की है।

वनग्राम में रहने वाली महिलाओं को स्वरोजगार स्थापित करने वन विभाग ने महिलाओं, युवतियों को फेस मास्क सिलाई का दिलवा रहे प्रशिक्षण।

सुबीर चौधुरी पेंड्रा गौरेला मरवाही

वन विभाग की पहल गरीबों में बाटेंगे निःशुल्क मास्क

वनग्राम में रहने वाली महिलाओं को स्वरोजगार स्थापित करने वन विभाग ने महिलाओं, युवतियों को फेस मास्क के माध्यम से सिलाई का प्रशिक्षण दिया जा रहा। दरअसल,मरवाही वन मंडल के दानिकुंडी बांस प्रसंस्करण केंद्र में महिलाओं व युवतियों को इस लॉक डाउन के समय आवश्यकता अनुसार मास्क तैयार करवाया जा रहा,जिसे विभाग उन लोगों को निःशुल्क वितरण करेगा जो मास्क नही खरीद सकता,य जिसे मास्क उपलब्ध नही हो रहा।इससे गरीबों में मास्क वितरण के साथ महिलाओं को सिलाई का प्रशिक्षण भी मिलने से लाभ हो रहा।प्रशिक्षित ट्रेनर द्वारा दिया जा रहा प्रशिक्षण। सोशल डिस्टेंसिंग का रखा जा रहा विशेष ध्यान

कोरोना वाइरस महामारी के मद्देनजर प्रशिक्षण में उपस्थित सभी महिलाओं को सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए,2 मीटर दूर बैठाया जा रहा,व प्रशिक्षणार्थियों को फेस मास्क व सेनेटाइजर के उपयोग का दिशा निर्देशन किया गया।

कोरोना के साथ ही आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं मेहमान प्रवक्ता,आईटीआई में कार्यरत मेहमान प्रवक्ताओं को 4 माह से नही मिला वेतन

हेमंत जायसवाल BBN24 रायपुर :- छत्तीसगढ़ में शासकीय आई टी आई में कार्यरत मेहमान प्रवक्ताओं को पिछले 04 माह से वेतन नहीं मिला है,एकतरफ जहां पूरा देश कोरोना वायरस से जंग लड़ रही है वहीं आईटीआई में कार्यरत लगभग 600 मेहमान प्रवक्ता आर्थिक तंगी से भी जूझ रहे हैं, जिससे औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था मे कार्यरत मेहमान प्रवक्ता मानसिक रूप से काफी परेशान हैं, उनको अपने जरुरी समानों के लिए भी लाले पड़ रहे हैं। वहीं छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष द्वारा संचालक संचालनालय रोजगार एवं प्रशिक्षण तकनीकि शिक्षा विभाग को पत्र लिखकर मेहमान प्रवक्ताओं के समस्या के बारे में जानकारी दी साथ ही वेतन को जल्द से जल्द ही दिलाने कि मांग की जिससे मेहमान प्रवक्ताओं को होने वाली परेशानी का समाधान हो सके।।

मृतक के पति का आरोप: मुलमुला में RMA की लापरवाही से जच्चा बच्चा की मौत पामगढ़ मुलमुला में RMA की लापरवाही से जच्चा बच्चा की मौत

मुलमुला के प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र में सोमवार सुबह 7 बजे प्रसव के लिए मुलमुला निवासी विस्वाजीत भैना अपनी पत्नी सरोजनी 20 वर्ष को लेकर मुलमुला प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र पहुंचा जहाँ पर 9 घण्टे बाद जच्चा-बच्चा की मौत हो गई। जच्चा-बच्चा की मौत के बाद आये परिजन ने अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया। साथ ही मामले की जांच कर दोषियों पर कार्रवाई की मांग की। हालांकि जच्चा-बच्चा की मौत की सूचना के बाद पामगढ़ तहसीलदार मौके पर पहुची। मृतक सरोजनी के पति का कहना है कि 7 बजे भर्ती करने के बाद मुलमुला प्रभारी लालती यादव RMA 10 बजे पहुची और दवाई दे कर वहां से चले गये 3 बजे आये औऱ 4 बजे मृत बच्चा पैदा हुआ जिसे घर मुलमुला ही था इस लिये दफनाने ले गये और 6 बजे महिला का भी मौत हो गया।

एक वर्ष पहले ही हुवा था विवाह

मुलमुला निवाशी विस्वाजीत के एक साल पहले ही बाराद्वार के पास केकरभाठा निवाशी मृतिका सरोजनी के साथ हुवा था दोनों एक वर्ष ही अपनी सुखी जिंदगी जी पाई औऱ हॉस्पिटल प्रबन्धक के लापरवाही का शिकार हो गई। जांजगीर जिले में आये दिन होते रहता है इस प्रकार की लापरवाही उसके बाद भी अधिकारी किसी प्रकार के कोई कार्यवाही नही करते।

------------------------------

सूचना मिलने पर प्राथमिक स्वास्थ केन्द्र मुलमुला गई थी जहाँ पर जच्चा बच्चा की मौत हुई हैं। पीएम करने के लिए पामगढ़ भेजा गया है कल पीएम होगा और जांच करने के बाद ही उचित कार्यवाही किया जायेगा। जयश्री पथे तहसीलदार / पामगढ़/

परधान आदिवासी समाज जिला बीजापुर ने दिया मुख्यमंत्री सहायता कोष में 87701/-₹ का दान

Danteshwar kumar ( chintu)

बीजापुर : आज पूरा विश्व नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) की महामारी से झूझ रहा है जिससे हमारा देश और प्रदेश भी अछूता नहीं है । इस वैश्विक महामारी के संक्रमण से अब तक लाखों लोगों की जान चली गई है और कोई भी दवाई का निर्माण नही होने के कारण एक मात्र रास्ता बचाव ही उपाय है । छत्तीसगढ़ मे भी विगत 14 दिनों से लाकडाऊन है और शासन प्रशासन लगातार संक्रमण से बचाने के लिए प्रयासरत है । इस वैश्विक महामारी ने अर्थव्यवस्था की भी कमर तोड़ कर दी है जिसको देखते हुए परधान आदिवासी समाज जिला बीजापुर ने मदद का हाथ बढाया है । जिले में अपनी आदिवासी सभ्यता और संस्कृति को जीवंत रखने वाले परधान आदिवासी समाज के 86 माटी पुत्र-पुत्रियों ने अपने मेहनत की कमाई से कुछ हिस्सा निकालकर कुल 87201/-( सत्यासी हजार सात सौ एक) रुपये का आर्थिक सहयोग मुख्यमंत्री सहयता कोष में जमा कर किया है ।परधान आदिवासी समाज के इस पहल से अन्य समाजिक संघटनों को प्रेरणा मिलेगी। इसके अलावा समाज के पदाधिकारीऔर बुद्धिजीवियों द्वारा अपने अपने गांव समाज में सोसल डिस्टेंसींग का पालन करने,अनावश्यक घर से बाहर नही निकलने व बार बार साबुन से लगभग 20 सेकेंड तक हाथ धोने, अत्यावश्यक कार्य होने पर मुँह में ट्रिपल लेयर मास्क, गमछा,दुपट्टा,रुमाल आदि से ढककर निकलने की सलाह यथा सम्भव मौखिक व सोसल मिडिया का माध्यम मोबाईल,फ़ेसबुक,व्हाटसफ इत्यादी से देकर जागरुकता फैलाई जा रही है । पारा मोहल्ला में कोई भी भूखा सोये नही इस बात भी ध्यान रखा जा रहा है और शासन के निर्देशों का पालन करते हुए परधान आदिवासी समाज जिला बीजापुर कंधे से कंधा और कदम से कदम मिलाकर कोरोना वायरस से लड़ने और जिन्दगी की जंग जितने की इस लडाई मे हमेशा तत्पर है । परधान आदिवासी समाज बीजापुर के पदाधिकारी सकनी चंद्रैया,जमुना सकनी ,राकेश गिरी,बीरा राजबाबू, अरुण सकनी,भानूप्रताप चिडियम ने बीजापुर कलेक्टर के.डी .कुंजाम को मुख्यमंत्री सहायता कोष मे जमा की गई डिमांड ड्राफ्ट पर्ची के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम ज्ञापन सौंपकर जानकारी दी। नोवेल कोरोना वायरस के वैश्विक महामारी से निपटने के लिए मुख्यमंत्री सहायता कोष में परधान समाज की ओर से सहयोग 87701.00 किया गया।

बीसी सखियों का काम राष्ट्रीय स्तर पर बना मानक

बैकुंठपुर ■ कोरिया जिले में ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत बैंक सखी के बेहतरीन कार्यों की पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्रालय भारत सरकार द्वारा भी सराहना की गई है। यँहा ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सेक्टर में नए मददगार के रूप में काम करने वाली बैंक सखियों के एक सामान्य से दिखने वाले वीडियो को विभाग के ट्विटर हैंडल पर भी शेयर किया गया है। ऐसे में जब कि पूरे देश में लाकडाउन जैसी गम्भीर स्थिति बनी हुई है, उस समय भी पूरी ततपरता और सुरक्षा के साथ कोरिया जिले में राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत बीसी सखियों द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में आम जन को बैंकिंग सहूलियत प्रदान करने का महत्वपूर्ण कार्य किया जा रहा है। सीईओ जिला पंचायत के निर्देशन में एन आरएलएल जिला प्रबंधन इकाई के द्वारा प्रशिक्षित सखियों से बेहतरीन बैंकिग कार्य सम्पादन कराया जा रहा है। इस वीडियो में एक बीसी सखी द्वारा किस प्रकार सुरक्षा का ध्यान रख हितग्राहियों को नगद लाभ आधार आधारित भुगतान से करना दिखाया गया है। कोरिया जिले में यह कदम दूरस्थ क्षेत्र में बैंकिंग सेक्टर में नए अध्याय लिख रहा है।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कोरिया द्वारा जनपद पंचायत खडगवा के ग्राम पंचायत धनपुर, लकरापारा, जरोंधा, सकडा, पैनारी, कोड़ा, नेवरी में चेक पोस्ट का किया गया निरीक्षण

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत कोरिया के द्वारा जनपद पंचायत खडगवा के ग्राम पंचायत धनपुर, लकरापारा, जरोंधा, सकडा, पैनारी, कोड़ा, नेवरी में चेक पोस्ट का निरीक्षण किया गया एव आवश्यक सुझाव व दिशा निर्देश दिए गए | साथ ही ग्राम पंचायत ,बोडेमुडा,पेंड्री, देवाडांड, सलका, कटकोना, मेंड्रा ग्राम पंचायतो का निरीक्षण कर अनिवार्य चावल एव दाल की स्थाई व्यवस्था बनाने निर्देश दिये गये | ग्रेन बैंक के तहत राशन सामग्री के संग्रहण हेतु ही निर्देश दिये गए | ग्राम के जरुरतमन्द लोगो को खाद्यान सामग्री वितरित किये जाने की जानकारी ली गई | हाटबाजार में 10-10 मीटर की दुरी पर दुकानों को लगाने एव आम जनता के बीच सोशल डिस्टेंस मेन्टेन रखने के लिए निर्देश दिया गया | मनरेगा कार्य को प्रारंभ कर सोशल डिस्टेंस का पालन करने मास्क का नियमित उपयोग करने हेतु समस्त ग्राम पंचायत सरपंच, सचिव , ग्राम रोजगार सहायक को निर्देशित किया गया | साथ ही सरपंच, सचिव को बाहर दुसरे राज्यों से एव कोरबा जिले के खासकर कटघोरा से पूरी तौर पे आने जाने की पाबन्दी लगाने हेतु निर्देश दिया गया | मैडम के द्वारा जरुरत मंदों को व् चेक पोस्ट के कर्मचारियों को मास्क एव सेनेटैजर का वितरण किया गया |

कोरिया बॉर्डर को किया गया सील ....पढ़े पूरा मामला

छत्तीसगढ़ के कोरिया जिला पड़ोसी जिले कोरबा मैं लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने से जिला कोरिया बॉर्डर को सील कर दिया गया है। जिला मुख्यालय बैकुंठपुर में कोरिया पुलिस द्वारा दुकानों को पूरी तरह से सैनेटाइज किया गया है। क्योंकि लगातार खाद सामग्री जो कोरिया जिले में जो पड़ोसी कोरबा जिले से आ रहा था । आपको बता दे की कोरिया जिले के पड़ोसी जिले कोरबा मैं लगातार कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़ने से जिला प्रशासन ने चाक चौबंद व्यवस्था की है, जिले की सीमा को सील कर दिया गया है, इसके साथ ही वहाँ से खाद्य सामग्री लाने वाले व्यापारियों के साथ बैठक आयोजित करा उनसे सहयोग की अपील कर रही हैं कि अगर आप लोगों द्वारा वहाँ से कोई सामग्री लाई गई हैं तो पुलिस को बताए जिससे कोरिया पुलिस सामानों सहित दुकानों को सैनेटाइज कर सके। जिससे कि वायरस के प्रकोप को नष्ट किया जा सके। इसी तारतम्भ में आज कोरिया जिला मुख्यालय में कोरिया पुलिस द्वारा 8 दुकानों को पूरी तरह से सैनेटाइज किया गया है। यह वह दुकानें है जिनके यहाँ कटघोरा से सामान लाए जाकर बैचे जाने की जानकारी पुलिस को मिली थी।