क्राइम

करोड़ों रुपए गबन मामले में जेंटल इंटरटेनमेंट प्रायवेट लिमिटेड के चार आरोपियों को गिरफ्तार वही पांचवा फरार

रायपुर:- राजधानी के राजेन्द्र नगर पुलिस ने करोड़ों रुपए गबन मामले में जेंटल इंटरटेनमेंट प्रायवेट लिमिटेड के चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। बता दें कि पकड़े गए आरोपियों में मनोज कुमार उपवेजा(55) निवासी टैगोरनगर कोतवाली, जयपाल सिंह गुलाटी (43) निवासी कोरबा, सुरेश निहाल (53) निवासी न्यू शांति नगर रायपुर व अजय तिवारी (48)निवासी प्रोफेसर कालोनी पुरानी बस्ती शामिल है। बताया जा रहा है कि सेक्टर 7 स्थित जेंटल इंटरटेनमेंट प्रायवेट लिमिटेड कंपनी का केबल (चैनल) का व्यवसाय है। इस कंपनी में महेश गुप्ता के अलावा मनोज उपवेजा, संतोष पांडेय, अजय तिवारी, विक्की गुलाटी, गुरूचरण सिंह होरा, तरणजीत सिंह होरा, इंदरपाल सिंह चावला, आकाश दुबे, गुरूविंदर सिंह आनंद, राजेश खन्ना, नवीन शर्मा व रणधीर पांडेय संचालक है। वर्ष 2015 में कंपनी को सुचारू रूप से संचालन के लिए एक दूसरे पर पूर्ण रूप से विश्वास करते थे। निर्धारित किया गया की कंपनी का संचालन के लिए कंपनी के शेयर होल्डर सुरेश निहाल और संतोष पांडे द्वारा किया गया। इसके बाद मनोज उपवेजा, अजय तिवारी, विक्की गुलाटी उर्फ जयपाल सिंह गुलाटी कंपनी में वित्तीय वर्ष 2016-17 में संचालक नियुक्त किया गया। इसके बाद मनोज उपवेजा, संतोष पांडेय,अजय तिवारी, विक्की गुलाट, सुरेश निहाल द्वारा कंपनी के व्यवसाय का संचालन किया जाने लगा। जब कंपनी के आय के बारे में जानकारी मांगी गई तो उक्त व्यक्तियों द्वारा जानकारी नहीं दी गई। वहीं कंपनी के अन्य संचालकों द्वारा कंपनी में अपने पूंजी निवेश की गई थी। लेकिन पांचों व्यक्ति मनोज उपवेजा, संतोष पांडेय, अजय तिवारी, विक्की गुलाटी व सुरेश निहाल द्वारा लाभांश नहीं दिया गया और अन्य संचालकों द्वारा पूछने पर टालमटोल करते रहे। इस बीच पांचों आरोपी कंपनी में अप्रैल 2018 तक व्यवसाय करते रहे। जब कंपनी घाटे में चलने लगी तो अन्य संचालकों ने मिलकर इन पांचों आरोपी से हिसाब मांगे। हिसाब नहीं देने पर आशंका हुई, जब जानकारी लिया गया तो पता चला कि कंपनी को किसी भी प्रकार का लाभ नहीं दिया है। वहीं एक दूसरे का फर्जी हस्ताक्षर कर चेक को असल रूप में प्रयोग कर राशि आहरण कर आपस में बांट लिए है। जिससें कंपनी के अन्य संचालकों की शिकायत पर पुलिस ने पांचों आरोपियों के खिलाफ अमानत में ख्यानत का मामला दर्ज कर जांच में लिए थे। जांच के दौरान पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। वहीं पांचवा फरार आरोपी संतोष पांडेय की पतासाजी कर रही है।

पेट्रोल मांगने के मामूली विवाद फिर कर दी हत्या अब पहुँचे सलाखों के पीछे

रायपुर:-बीते मंगलवार को विधानसभा थाना क्षेत्र के पिरदा में हुई हत्या के आरोपियों को पुलिस ने महज 48 घंटे की भीतर गिरफ्तार कर लिया है। बता दें की पेट्रोल मांगने को लेकर मामुली विवाद हुआ था जिसमें तीन युवकों ने धारदार चाकू से वार कर सेंट्रिग ठेकेदार हत्या कर दी गई थी मामले में पुलिस ने तीन आरोपी भूपेंद्र बाग, संजय यादव और कन्हैया तांडी को गिरप्तार कर लिया है। पुलिस ने इनके पास से घटना में प्रयुक्त मोटसाइकिल और चाकू बरामद किया है। दरअसल खरोरा निवासी मृतक हरिओम माहेश्वरी (45) रायपुर में सेंट्रिग ठेकेदार का काम करता था। बताया जाता है कि हरिओम अपने दोस्त के साथ मोटरसाइकिल से जा रहा था तभी ग्राम पिरदा के पास बाईक सवार अज्ञात तीन युवकों ने हरिओम को रोका और पेट्रोल की मांग किये। जिस से हरिओम ने पेट्रोल देने से मना किया तो आरोपियों ने चाकू से ताबड़तोड़ वार किया। घटना के तीनो आरोपी वहाँ से भाग निकले। गम्भीर रूप से घायल हरिओम को उसके दोस्त ने आम्बेडकर अस्पताल पहुचाया, जहाँ डॉक्टरों ने जांच उपरांत मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना पर मौके में पहुँची पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर जांच में लिया था। जिसके दो दिनों बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

चोरी के जेवरात खरीदी के मामले में बलौदा बाजार के सराफा व्यवसायी गिरफ्तार जांजगीर पुलिस की कार्यवाही

जांजगीर-चांपा। पुलिस ने जिला मुख्यालय जांजगीर सहित खोखरा गांव में हुई चोरी का भांडाफोड़ किया है। पुलिस ने मामले में *बलौदा बाजार के सराफा व्यवसायी प्रांजल सोनी, गांधी चौक* सहित चार लोगों को धरदबोचा है। उनके कब्जे से 2 लाख 30 हजार नगद सहित सोने चांदी का जेवर बरामद कर लिया है। पुलिस के अनुसार बीते 6 अगस्त को तारकेश्वर राठौर ने जांजगीर थाना पहुंचकर रिपोर्ट लिखाई। उसने पुलिस को बताया कि चोरों ने उसके घर में रखी आलमारी को ले जाकर हाथ साफ कर दिया है। इसी तरह बीते 14 अगस्त को मिशन कंपाउंउ जांजगीर निवासी शैलेष रवानी ने चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने दोनों मामलों को गंभीरता से लिया। एसपी नीतू कमल के निर्देश पर मामले में जांच पड़ताल शुरू हुई। इस बीच पुलिस को खबर मिली कि शांति नगर जांजगीर निवासी छोटू उर्फ रंजीत देवार खूब पैसा खर्च कर रहा है तथा सोने चांदी के जेवर को बेचने के लिए ग्राहक तलाश रहा है। मामले की सूचना पर पुलिस ने उसे पकड़कर पूछताछ की । तब उसने अपने साथी राकेश उर्फ राका देवार, प्रकाश देवार व बबलू देवार सभी बलौदा बाजार निवासी के साथ मिलकर चोरी की वारदात को अंजाम देने की बात स्वीकार की। साथ ही चोरी के जेवर को *बलौदा बाजार निवासी प्रांजल सोनी* के पास बेचना तथा कुछ जेवर को आपस में बांटना बताया। पुलिस ने सराफा व्यवसायी सहित आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

कॉलोनी में मोबाइल चोरी करने वाले आरोपी गिरफ्तार

बलौदाबाजार आर.एन. दाश ने मोबाईल चोरी करने वाले के विरूद्ध कार्यवाही के लिये निर्देशित किया गया और अनुविभागीय अधिकारी बलौदाजार राजेश जोशी के मार्गदर्शन पर थाना प्रभारी सिटी कोतवाली बलौदाबाजार निरीक्षक रामअवतार ध्रुव के नेतृत्व में धारा 379 भादवि के तहत आरोपी रामावर्मा पिता मोहन वर्मा उम्र 41 साल साकिन रवान को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया । प्रार्थी पदम सिंह पदमवार पिता रतन सिंह पवार उम्र 52 साल पता अंबुजा कालोनी बलौदाबाजार ने सैमसंग गैलेक्सी नोट 4 अंबुजा सीमेंट मटेरियल गेट के पास चार्जिंग में चढाकर रखा था उसे कोई अज्ञात चोर चोरी कर ले गया अज्ञात चोर का पता तलाश किया जा रहा था। दिनांक 01-08-2018 को मुखबीर एवं विशेष सुत्र से पता चला कि ग्राम रवान का रामा वर्मा पिता मोहन वर्मा उम्र 41 साल के कब्जा में चोरी का मोबाईल रखा हुआ है तब संदेही रामा वर्मा को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ करने पर अपना जुर्म कबूल किया और उसके कब्जा से मोबाईल सैमसंग गैलक्सी नोट 4 कीमती 40000 रू को जप्त किया गया है । आरोपी को गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय पेश कर जेल भेजा गया इस कार्यवाही में सउनि ईश्वर टोप्पो प्रधान आरक्षक नरेन्द्र कुमार निषाद आरक्षक सत्यनारायण पैकरा, संजय कैवर्त का विशेष योगदान रहा है । *

फर्जी न्यूज़ वेब पोर्टल का फर्जी संचालक गिरफ्तार- फर्जी पत्रकारों के जरिये करा रहा था वसूली....!

जांजगीर-चाम्पा:-वैसे तो जिले में फर्जी पत्रकारो की बाढ़ सी आ गयी है वही आज जांजगीर पुलिस द्वारा पहली कार्यवाही करते हुए फर्जी न्यूज़ वेब पोर्टल के फर्जी संपादक को गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपी उत्पल सेन गुप्ता एक राष्ट्रीय चैनल सहारा समय के नाम से मिलता-जुलता अपना वेब पोर्टल संचालित कर रहा था. न्यूज़ वेब पोर्टल का नाम सहारा समय न्यूज़ पोर्टल रखा था। पुलिस द्वारा जाँच में ये बात सामने आई है कि इस नाम से कोई भी न्यूज़ वेब पोर्टल पंजीकृत नहीं है।पुलिस ने एक शिकायत के बाद अपनी जाँच में पाया कि न्यूज़ वेब पोर्टल का संचालक और संपादक उत्पल सेन भी बड़ा फर्जी निकला। फर्जी पत्रकारों के जरिये होता था अवैध वसूली का काम यहाँ तक उसने कई फर्जी पत्रकारों की भी नियुक्ति कर रखा था। फर्जी पत्रकारों के जरिये ही वसूली का सारा खेल संचालित हो रहा था। कूट रचित वसूली के इस बड़े खेल का पर्दाफाश तब हुआ जब जांजगीर-चाम्पा में नियुक्त किये गए फर्जी पत्रकार दिलीप यादव ने निजी प्रैक्टिस करने वाले एक झोलाछाप डॉक्टर के पास जाकर नर्सिंग होम एक्ट की क़ानूनी कार्रवाई का डर दिखाकर और अपने न्यूज़ वेब पोर्टल में खबर प्रकाशित करने का धौंस दिखाकर 45 हजार रुपए का मांग करने लगा।झोलाछाप डॉक्टर ने इस बात की लिखित शिकायत सारागांव थाने में दर्ज करा दी। पुलिस ने फर्जी पत्रकार दिलीप यादव को हिरासत में लेकर जब कड़ाई से पूछताछ की तो पता चला कि डर दिखाकर वसूली के इस खेल का मास्टर माइंड उत्पल सेन गुप्ता है।बाद में आरोपी उत्पल सेन गुप्ता के खिलाफ कई धाराओं के तहत अपराध पंजीबद्ध कर लिया गया था।पुलिस के पतासाजी में ये सभी चौंकाने वाले तथ्य सामने आये हैं।पुलिस आरोपी को बिलासपुर से गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया है।

ट्रेन टॉयलेट में युवती का अर्धनग्न शव बरामद, रेप की आशंका

असम के शिवसागर जिले में स्थित सिमलागुड़ी रेलवे स्टेशन पर मंगलवार को एक रेलगाड़ी में असम कृषि विश्वविद्यालय की एक छात्रा की हत्या कर दी गई. पुलिस ने कहा कि खून से सने लड़की के अर्धनग्न शव को देखकर संदेह जताया जा रहा है कि उसके साथ चलती रेलगाड़ी में पहले रेप किया गया और बाद में उसकी हत्या की गई.

बुआ और भतीजा की मिली लाश......!

राकेश दुबे BBN24 / जांजगीर, चाम्पा के अमझर प्लांट के पास सबरिया डेरा में बुआ और भतीजा की लाश मिलने से क्षेत्र में दहसत का माहौल है पूरा मामला चाम्पा थाना क्षेत्र का है

संदिग्ध अवस्था में 18 वर्षीय युवती की लाश तालाब में मिली - हत्या की आशंका !!

BBN24 जांजगीर चाम्पा। आज सुबह-सुबह जांजगीर चांपा क्षेत्र से सनसनी फैला देने वाली खबर प्रकाश में आई। यहां तालाब में एक युवती की संदिग्ध अवस्था में लाश मिली है। जानकारी के अनुसार मालखरौदा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पिरदा के तालाब में एक 18 वर्षीय युवती की लाश संदिग्ध अवस्था में पाई गई। आस-पास लोगों ने जब देखा तो उनके रोंगटे खड़े हो गए।इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी गई। मौका-ए-वारदात पर खून के निशान मिले हैं और एक लोहे का रॉड मिला है जिस पर खून के निशान लगे भी हैं ।पहली नजर में देखने पर हत्या की आशंका लग रही है। जानकारी के अनुसार मालखरौदा थाना क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पिरदा के तालाब में एक 18 वर्षीय युवती की लाश संदिग्ध अवस्था में पाई गई। आस-पास लोगों ने जब देखा तो उनके रोंगटे खड़े हो गए।इसकी सूचना तत्काल पुलिस को दी गई। मौका-ए-वारदात पर खून के निशान मिले हैं और एक लोहे का रॉड मिला है जिस पर खून के निशान लगे भी हैं ।पहली नजर में देखने पर हत्या की आशंका लग रही है।

भिलाई सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, पुलिस ने 2 महिलाओं सहित 3 लोगों को आपत्तिजनक हालत में किया गिरफ्तार

भिलाई -  भिलाई में एक सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ हुआ है। तालपुरी के परिजात कॉलोनी में ये रैकेट संचालित हो रहा था। पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर छापेमारी की, जिसके बाद पुलिस ने महिलाओं समेत एक युवक को गिरफ्तार किया है। छापेमारी के दौरान घर में नकद समेत आपत्तिनजनक समान भी बरामद हुआ है।

मिली जानकारी के मुताबिक भिलाई के पौष इलाके परिजात कॉलोनी में समय से पुलिस को सेक्स रैकेट संचालित होने की जानकारी मिली थी। पुलिस ने उसी सूचना के आधार पर आज इलाके के एक मकान में छापेमारी की, जिसमें दो कालगर्ल समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ पीटा एक्ट के तहत मामला दर्ज कर कार्यवाही की है। जानकारी के मुताबिक इस रेकेट के तार रायपुर और आसपास के क्षेत्र में था। कई लड़कियां बाहर से भी यहां आती थी  फिलहाल पुलिस इस मामले में पड़ताल कर रही है, पुलिस को उम्मीद है कि इस रैकेट से जुड़े अन्य तार भी जल्द पकड़ में आ सकते हैं।
 

नवागढ़ के सहकारी बैंक में हुई 58 लाख की सनसनीखेज चोरी के आरोपी धरे गये।।

सुदीप्तो चटर्जी "खबरीलाल" (क्राइम रिपोर्ट)::- 21 जनवरी 2017 को रात्रि 8 बजे के लगभग जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक मर्यादित शाखा नवागढ़ जिला बेमेतरा मे हुई 58 लाख रूपये की सनसनीखेज चोरी के आरोपी पुलिस के हाथों पकड़े गए। पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज आईपीएस जी.पी. सिंह द्वारा आज पुलिस अधीक्षक बेमेतरा कार्यलय में ली गई प्रेस क्रांफ्रेस में इसका खुलासा करते हुए बताया कि जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक नवागढ़ में अज्ञात व्यक्तियों द्वारा बैंक की शटर का ताला तोड़ कर लगभग 58 लाख 82 हजार 319 रुपये तिजोरी सहित चोरी कर ले गये थे। बैंक मैनेजर की रिपोर्ट पर थाना नवागढ़ में अपराध क्रमांक 227/17 पर धारा 457, 380, एवं 34 भादवि के तहत पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया था। इस सनसनीखेज चोरी के आरोपियों को पकड़ने के लिये आईजी दुर्ग जीपी सिंह के मार्गदर्शन में पुलिस अधीक्षक बेमेतरा धर्मेन्द्र गर्ग द्वारा अति. पुलिस अधीक्षक बेमेतरा श्रीमती गायत्री सिंह के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया था। इस टीम में क्राइम ब्रांच के निरीक्षक ध्रुवकुमार मारकण्डे एवं क्राइम ब्रांच के प्रधान आरक्षक व पांच आरक्षकों को शामिल किया गया था। टीम द्वारा लगातार चोरों को पकडने का प्रयास किया जा रहा था एवं मुखबिरों को सक्रिय किया भी जा रहा था साथ ही सादी वर्दी में पुलिस की टीम ग्रामीणों के बीच रहकर सूत्र तलाशने में लग गए थे। इसी दौरान मुखबीर से पता चला कि ग्राम कोैड़िया थाना नवागढ़ निवासी जसपाल सिंह व उसका भाई अमृत पाल सिंह एवं साहेब सिंह कुछ दिनो से अनाप शनाप राशि खर्च कर रहे है, जबकि दोनों की माली हालत ऐसी नहीं है कि वे बेहताशा खर्च कर सके। इस सूचना पर दोनों की गतिविधियों पर निगाह रखी गई एवं दोनो भाई की गतिविधियां संदिग्ध पाये जाने पर दोनों को हिरासत में ले कर पूछताछ किया गया। पूछताछ में दोनो ने जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक नवागढ़ में चोरी का अपराध करना कबूल करते हुए बताया कि उन पर एचडीएफसी बैंक, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक नवागढ़, श्री राम फायनेंस मुंगेली का लगभग 10 लाख रूपये का कर्ज है। इसके अलावा लगभग 8 लाख रू. का लोन भी अपने निकट ररिश्तेदारों से भी ले रखा था। कर्ज की उक्त राशि न पटा पाने के कारण आरोपी बहुत परेशान थे। इससे छुटकारा पाने के लिये दोनों ने बेंक में चोरी करने की योजना बनाई। आरोपियों ने अक्सर बैंक संबधी कार्य से जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक नवागढ़ आते जाते रहते थे। इसलिये बैंक में आने वाली रकम और बैंक के अंदर के कमरो की पूरी जानकारी रखते थे। इनको यह भी पता था कि बैंक के अंदर शाम 7.30 बजे के बाद कोई कर्मचारी नही रहता है। अतएव दोनो भाई ने एक राय होकर बैंक को लूटने की योजना बनाई। योजनानुसार घटना दिनांक को शाम 6.30 बजे दोनो भाई मोटर सायकिल का टायर खोलने वाले लीवर राॅड को ले कर बैंक के लिये निकले। बडा भाई जसपाल कौडिया रोड में बिजली घर के पास रूक गया तथा छोटा भाई अमृत पाल सिंह अपने दोस्त कोमलजीत सिंह के साथ पीछे के गेट से अंदर गया और डेयरी लोन का कोटेशन ले कर बाहर आकर कोैडिया रोड में खडे बडे भाई के पास गया, जबकि उसका दोस्त कोमलजीत सिंह अपने घर चला गया। दोनो भाई योजनानुसार 7.00 बजे बैंक के सामने आकर बैठ गये और बैंक के चपरासी के खाना खाने के लिये जाने का इन्तजार करने लगे। लगभग शाम 7.30 बजे बैंक का चपरासी जब खाना खाने के लिये चला गया तब ये लोग लीवर राॅड से चैनल गेट में लगे ताले को तोडकर बैंक के अंदर प्रवेश किये तथा बैंक के पीछे दरवाजे से तिजोरी को बाहर निकाल कर मोटर सायकिल में लाद कर अपने घर ले गये। घर में रखे कटर जिसको इन्होंने तीन साल पहले खरीदा था, से काटकर रकम निकाल ली तथा तिजोरी के कुछ भाग को बोरे में भर कर घर के छत में रखा व कुछ भाग को ग्राम कुटकुरा चौकी मारो के तालाब में फेंकना बताया गया है। आरोपियों ने ये बताया है कि वारदात के पहले इन्होंने भाठापारा से दस्ताना खरीदा था ताकि फिंगर प्रिंट न आने पाये और तिजोरी को चादर से ढककर ले गये थे तथा वारदात को अंजाम देने के बाद अपने पहने हुये कपड़ों एवं दस्ताने को जला दिये थे। आरोपियों के निशानदेही पर ग्राम कुटकुरा चौकी मारो के तालाब से व घर के छत से तिजोरी के टुकड़े, अपराध में प्रयुक्त राॅड, कटर व मोटर सायकिल सीडी 100 बरामद किया गया है। साथ ही चोरी के रकम से खरीदे गये बुलेट मोटर सायकिल तथा महिला मित्र को खरीदकर दी गई हीरो कम्पनी की डयूक स्कूटी को भी जप्त किया गया है। गौरतलब है कि चोरी की 58 लाख रकम में से मात्र 3 लाख 15 हजार रू. की रकम जप्त हो पाई है। बाकि रकम इनके द्वारा बैंक व रिश्तेदारों का कर्ज पटाने, कृषि उपकरणों की खरीदी मरम्मत एवं अय्याशी में खर्च करना बताया है। उपरोक्त वारदात के आरोपियों को पकड़ने में क्राईम ब्रांच बेमेतरा की अहम भूमिका रही है। क्राईम ब्रांच प्रभारी ध्रुव कुमार मारकण्डे के नेतृत्व में 1 हेड कांस्टेबल व 5 कांस्टेबल की टीम क्षेत्र के गांवो में ग्रामीणों एवं मुखबीरो के माध्यम से लगातार सूचना प्राप्त कर चोरी के आरोपी की पतासाजी करते रहे है। अंततः मुखबीर की महत्वपूर्ण सूचना पर सनसनीखेज बैंक चोरी के आरोपी पुलिस के गिरफ्त में आये। पुलिस के इस सराहनीय कार्य के लिये पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग रेंज आईपीएस जी.पी. सिंह द्वारा क्राईम ब्रांच की टीम को 30000 रूपये ईनाम की घोषणा की गई है। संपूर्ण घटनाक्रम में बैंक प्रबंधन की भी लापरवाही सामने आयी है। आरोपियों को ये अच्छी तरह पता था कि बैंक में सुरक्षा के लिये किसी तरह का इंतजाम नहीं है तथा रात्रि में भी वहां कोई नहीं रहता। बैंक प्रबंधन द्वारा सुरक्षा के प्रति बरती गयी इस गंभीर लापरवाही के कारण ही दोनों भाई अपने योजनानुसार चोरी करने में सफल हुए थे।

पति ने किया अपनी पत्नी का कत्ल।

सुदीप्तो चटर्जी "खबरीलाल" (क्राइम रिपोर्ट, रायपुर) :- रायपुर के पॉश नगर पं दीनदयाल उपाध्याय नगर के इंद्रप्रस्थ कॉलनी निवासी रवि शर्मा उम्र 40 वर्ष ने अपने पत्नी रीना शर्मा उम्र 34 वर्ष का कत्ल कर दिया जिससे पत्नी की तत्काल मृत्यु हो गई। रायपुर के दबंग अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल ने खबरीलाल को दूरभाष पर बताया कि दोनो पति व पत्नी इंदौर के मालवीय नगर के निवासी हैं जो वर्तमान में डीडी नगर के इंद्रप्रस्थ कॉलोनी में निवासरत थे। घटना 15 जून 2018 को घटित हुई है और पुलिस इसकी गहन छानबीन कर रही है।

रायपुर में पुलिस ने चलाया विशेष चेकिंग अभियान ।।

सुदीप्तो चटर्जी "खबरीलाल" क्राइम रिपोर्ट (रायपुर) ::- आगामी 14 जून को भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का भिलाई आगमन हो रहा है जिसके चलते रायपुर रेंज के आईजी प्रदीप गुप्ता, आईपीएस ने रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की विशेष बैठक ली जिसमे रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आईपीएस अमरेश मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल व अन्य पुलिस अधिकारियों ने बैठक में हिस्सा लिया। आईजी प्रदीप गुप्ता ने सभी उपस्थित अधिकारियों को विशेष दिशा निर्देश दिए साथ ही रायपुर के रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, विभिन्न होटलों, लॉजों तथा अन्य जगहों पर 12 जून 2018 को विशेष चेकिंग व्यवस्था की गई जिससे संदिग्ध लोगों को पकड़कर पूछताछ किया जा सके तथा किसी भी प्रकार के घटनाओं को रोका जा सके ।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल ने खबरीलाल सुदीप्तो चटर्जी को बताया कि पुलिस दल की कल 13 जून को रिहर्सल होगा जिससे वीवीआइपी के आने से जाने तक को लेकर सख्त पुलिस व्यवस्था कायम रहे और किसी भी परिस्थिति से निपटने हेतु पुलिस बल तैयार रहे। आगे उन्होंने बताया कि आईजी साहब एवं एसएसपी साहब ने बैठक बुलाकर महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए जिससे किसी भी प्रकार का बाधा न उत्पन्न हो और पूरी पुलिसिंग व्यवस्था शहर में सुगम रहे।

रायपुर में पुलिस ने चलाया विशेष चेकिंग अभियान ।।

सुदीप्तो चटर्जी "खबरीलाल" क्राइम रिपोर्ट (रायपुर) ::- आगामी 14 जून को भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का भिलाई आगमन हो रहा है जिसके चलते रायपुर रेंज के आईजी प्रदीप गुप्ता, आईपीएस ने रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की विशेष बैठक ली जिसमे रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आईपीएस अमरेश मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल व अन्य पुलिस अधिकारियों ने बैठक में हिस्सा लिया। आईजी प्रदीप गुप्ता ने सभी उपस्थित अधिकारियों को विशेष दिशा निर्देश दिए साथ ही रायपुर के रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, विभिन्न होटलों, लॉजों तथा अन्य जगहों पर 12 जून 2018 को विशेष चेकिंग व्यवस्था की गई जिससे संदिग्ध लोगों को पकड़कर पूछताछ किया जा सके तथा किसी भी प्रकार के घटनाओं को रोका जा सके ।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल ने खबरीलाल सुदीप्तो चटर्जी को बताया कि पुलिस दल की कल 13 जून को रिहर्सल होगा जिससे वीवीआइपी के आने से जाने तक को लेकर सख्त पुलिस व्यवस्था कायम रहे और किसी भी परिस्थिति से निपटने हेतु पुलिस बल तैयार रहे। आगे उन्होंने बताया कि आईजी साहब एवं एसएसपी साहब ने बैठक बुलाकर महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए जिससे किसी भी प्रकार का बाधा न उत्पन्न हो और पूरी पुलिसिंग व्यवस्था शहर में सुगम रहे।

रायपुर में पुलिस ने चलाया विशेष चेकिंग अभियान ।।

सुदीप्तो चटर्जी "खबरीलाल" क्राइम रिपोर्ट (रायपुर) ::- आगामी 14 जून को भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का भिलाई आगमन हो रहा है जिसके चलते रायपुर रेंज के आईजी प्रदीप गुप्ता, आईपीएस ने रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की विशेष बैठक ली जिसमे रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आईपीएस अमरेश मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल व अन्य पुलिस अधिकारियों ने बैठक में हिस्सा लिया। आईजी प्रदीप गुप्ता ने सभी उपस्थित अधिकारियों को विशेष दिशा निर्देश दिए साथ ही रायपुर के रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, विभिन्न होटलों, लॉजों तथा अन्य जगहों पर 12 जून 2018 को विशेष चेकिंग व्यवस्था की गई जिससे संदिग्ध लोगों को पकड़कर पूछताछ किया जा सके तथा किसी भी प्रकार के घटनाओं को रोका जा सके ।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल ने खबरीलाल सुदीप्तो चटर्जी को बताया कि पुलिस दल की कल 13 जून को रिहर्सल होगा जिससे वीवीआइपी के आने से जाने तक को लेकर सख्त पुलिस व्यवस्था कायम रहे और किसी भी परिस्थिति से निपटने हेतु पुलिस बल तैयार रहे। आगे उन्होंने बताया कि आईजी साहब एवं एसएसपी साहब ने बैठक बुलाकर महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए जिससे किसी भी प्रकार का बाधा न उत्पन्न हो और पूरी पुलिसिंग व्यवस्था शहर में सुगम रहे।

रायपुर में पुलिस ने चलाया विशेष चेकिंग अभियान ।।

सुदीप्तो चटर्जी "खबरीलाल" क्राइम रिपोर्ट (रायपुर) ::- आगामी 14 जून को भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी का भिलाई आगमन हो रहा है जिसके चलते रायपुर रेंज के आईजी प्रदीप गुप्ता, आईपीएस ने रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की विशेष बैठक ली जिसमे रायपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आईपीएस अमरेश मिश्रा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल व अन्य पुलिस अधिकारियों ने बैठक में हिस्सा लिया। आईजी प्रदीप गुप्ता ने सभी उपस्थित अधिकारियों को विशेष दिशा निर्देश दिए साथ ही रायपुर के रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, विभिन्न होटलों, लॉजों तथा अन्य जगहों पर 12 जून 2018 को विशेष चेकिंग व्यवस्था की गई जिससे संदिग्ध लोगों को पकड़कर पूछताछ किया जा सके तथा किसी भी प्रकार के घटनाओं को रोका जा सके ।अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल ने खबरीलाल सुदीप्तो चटर्जी को बताया कि पुलिस दल की कल 13 जून को रिहर्सल होगा जिससे वीवीआइपी के आने से जाने तक को लेकर सख्त पुलिस व्यवस्था कायम रहे और किसी भी परिस्थिति से निपटने हेतु पुलिस बल तैयार रहे। आगे उन्होंने बताया कि आईजी साहब एवं एसएसपी साहब ने बैठक बुलाकर महत्त्वपूर्ण सुझाव दिए जिससे किसी भी प्रकार का बाधा न उत्पन्न हो और पूरी पुलिसिंग व्यवस्था शहर में सुगम रहे।