क्राइम

जंगल मे हो रहा बावन पत्ती का खेल, पुलिस को भनक तक नही ।

राजनांदगांव:- चिचोला थाना क्षेत्र नेशनल हाईवे से दोनों ओर लगे सागौन प्लान मे जुआरियों ने जगह चयनित कर कभी इस जगह तो कभी उस जगह बदल बदल कर जुआ खेलाया जा रहा है जुआ खिलवाने वाले बाकायदा जुआरियों के लिए सुरक्षित जगह के साथ साथ पानी खाने की व्यवस्था भी किया जाता है और हर आने जाने वाले के उपर व पुलिस की सूचना करने आसपास लड़के रखा जाता है जिससे असानी से पकड़ मे ना आने पाए और अभी तक पकड़ मे नही आया है जिससे उनके हौसले बुलंद है क्राइम ब्रांच एक बार छापामारी किया था पर कुछ हाथ नही लगा था । पुलिस तो नक्सली क्षेत्र होने के कारण जंगल के भीतरी क्षेत्रों मे नहीं जा पाते जिसका जुआ खेलवाने वाले को फायदा होता है यहां पर जुआ खेलने देवरी महाराष्ट्र बागनदी, डोंगरगढ़, राजनांदगांव और आसपास के क्षेत्र से काफी जुआ के शौकीन लोग आते है । हाईवे के दोनों ओर सागौन व अन्य पेड़ घनी जंगल है जिसमे बीच बीच मे चट्टान छोटा पहाड़ है जहाँ पर साफ-सफाई कर जुआ खेला और खिलवाया जाता है । और पुलिस को भनक नही लगता या जानकारी होने पर नही जाता हो । कही जुआरियों से पुलिस की मिलीभगत तो नही???????

रासुदखोर के मामले में एक आरोपी गिरफ्तार

कोरिया :-जिले की पटना पुलिस ने सूदखोरी के मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी के घर में दबिश देकर बैंक खाते का पासबुक हस्ताक्षर किया हुआ चेक बुक वेतन भुगतान की पर्ची इकरारनामा और कोल इंडिया के चाँदी के सिक्के के साथ साथ आरोपी के पास से सात लाख बाईस हजार छ सौ तीस रुपये नगद बरामद किया।  पुलिस अधीक्षक को  पटना थाना के पंडोपारा क्षेत्र में लगातार सूदखोरी की शिकायत मिल रही थी। पंडोपारा एसईसीएल क्षेत्र में कार्यरत कर्मचारी रामनाथ उराव के  द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय में आवेदन दिया गया था कि आठ माह पूर्व अपनी लड़की की शादी के लिए सुखचैन मिश्रा के पास से पचास हजार रुपये बीस प्रतिशत ब्याज की दर से उधार लिया था। प्रार्थी के द्वारा ब्याज और मूल का पैसा आरोपी को वापस कर दिया गया फिर भी सुखचैन मिश्रा के द्वारा मूल धन एवं ब्याज की रकम बाकी होना बताकर रामनाथ के बैंक पासबुक चेक बुक को साइन करा कर अपने पास रख लिया था और पुलिस अधीक्षक कार्यालय में दिए गए आवेदन को वापस लेने के लिए उसे धमकी देकर डरा धमका रहा था तथा उससे शपथ पत्र बनवा कर अपने पास रख लिया था ।प्रार्थी के शिकायत पर पटना थाना में सुखचैन मिश्रा के विरुद्ध कर्जा एक्ट अपराध  कायम किया गया और पुलिस टीम गठित कर आरोपी के घर में दबिश देकर तलाशी ली गई। पुलिस के गिरफ्त में आने के बाद आरोपी सुखचैन मिश्रा अपने ऊपर लगा आरोप को गलत बता रहा है और सूदखोरी का काम करने से इंकार कर रहा है। वही पुलिस ने आरोपी सुखचैन मिश्रा को कर्जा एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस सूदखोरी के मामले में इसे बड़ी सफलता मान रही है ।

व्यापार का पैसा है

आरोपी का कहना है कि जो पैसा पुलिस ने पकड़ा है वह व्यापार का है सुख चैन मिश्रा आरोपी

शिकायत के आधार पर कार्यवाही हुई

 वही एडिशनल कहना है कि एस पी का कहना है कि शिकायत के बाद कार्यवाही की गई है निवेदिता पाल एडिश्नल एस पी कोरिया

पति को डंडे से पीट पीटकर मार डाली

कोरिया:- जिले की पटना पुलिस को हत्या के एक मामले में सफलता मिली है। पटना थाना के अंतर्गत ग्राम सावारावा मे रहने वाला राजेश्वर कुशवाहा नामक व्यक्ति की जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच कर रही थी पर पीएम रिपोर्ट के आने के बाद पता चला की ये हत्या का मामला है। पुलिस ने मामले की जांच की तो पता चला की पत्नी बाबी बाई ने अपने ही पति को डंडे से पीट कर मौत के घाट उतार दिया है। पुलिस ने मामले में आरोपी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है।आरोपी पत्नी के बिरुद्ध हत्या का मामला दर्ज किया गया है।14 नवम्बर को पुलिस को अस्पताल से सूचना प्राप्त हुई कि राजेश्वर कुशवाहा की जिला अस्पताल बैकुण्ठपुर में इलाज के दौरान मौत हो गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सिर में चोट आने से मौत होना पायागयापुलिस को हत्या का शक हुआ और जांच के दौरान पुलिस को पता चला की मृतक की पत्नी बॉबी बाई ने ही डंडे से पीटा था जिस कारन मौत हो गई ।बॉबीबाई सोलह साल पहले से मृतक राजेश्वर कुशवाहा को अपना पति बना कर पति पत्नी के रुप में एक साथ रह रहे थे। ग्यारह नवम्बर को शाम सात बजे मृतक राजेश्वर कुशवाहा मुर्गा लेकर आया ।बॉबी बाई ने मुर्गा पकाकर दे दिया।  मुर्गा को मृतक राजेश्वर पन्नी  में लेकर चला गया। करीब रात एक बजे मृतक शराब पीकर घर आया और दरवाजा को लात मारकर खोल अंदर आया। आरोपिया सो रही थी उसे जगाकर कर झगड़ा कर गाली करने लगा तब बाबी बाई गुस्से में आकर डंडे से मृतक को सर पर डंडे से मारी तो मृतक बेहोस हो गया और सर से खून निकलने लगा । खून को बॉबी बाई ने साफ कर गोबर से लिपाई कर साबुत को मिटा दिया।  अगले दिन अपने पति को जिला अस्पताल बैकुण्ठपुर ले जा कर भर्ती कर दिया जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस के गिरफ्त में आने के बाद बॉबी बाई घटना करने से इंकार कर रही है बता रही है की शराब पीकर घर में ही गिर गया था। वही पुलिस ने आरोपिया बॉबी बाई के बिरुद्ध अपने ही पति की हत्या का अपराध दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।  नही मारा मैने पति को बाबी बाई आरोपी (इस का कहना है कि उसने अपने पति को नही मारा है) PM रिपोर्ट के बाद आगे की कार्यवाही निवेदिता पॉल एडिसनल एस पी कोरिया(इनका कहना है कि पीएम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्यवाही की गई है)

पुलिस को मिली बड़ी सफलता तेंदुआ को मार कर खाल बेचने लगे आरोपी गिरफ्तार

कवर्धा :-कवर्धा के पंडरिया ब्लाक कुकदूर की पुलिस में 3 आरोपी को धरदबोज कुकदूर में तेंदुआ की खाल के साथ 3 आरोपी गिरफ्तार, 1 फरार। 15 दिन पुराना बतया जा रहा है खाल कवर्धा के , भोरमदेव अभ्यारण्य में शिकार की आशंका। खाल की अनुमानित कीमत 7 लाख रुपये, 3 आरोपी MP के रहने वाले, क्राइम ब्रांच व कुकदूर पुलिस की कार्यवाही।

बोलेरो पेड़ से टकराई, तीन लोगों की मौत, पांच घायल

आशीष कश्यप

पामगढ़-शिवरीनारायण:-शिवरीनारायण से बिलासपुर रेलवे स्टेशन की ओर जा रही बोलेरो गाय को बचाने के चक्कर में अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई। हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि पांच घायल हो गए। इन्हें सिम्स रेफर किया गया है। बलौदाबाजार-भाटापारा जिले के ग्राम गिधौरी निवासी संतोष कुमार निषाद खरीदारी करने रायपुर गया था। बुधवार की रात लगभग 9.30 बजे अमन केशरवानी अपने दोस्त संदीप भास्कर, लव कुमार साहू, योगेन्द्र कश्यप, भूपेन्द्र कैवर्त्य, गुरुवेन्द्र वैष्णव और सौरभ यादव के साथ बोलेरो क्रमांक सीजी 04 एक्सएल 2467 में संतोष को लेने बिलासपुर स्टेशन जा रहा था। इस दौरान रात लगभग 11 बजे नंदेली व्यासनगर के पास सड़क किनारे बैठी गाय को बचाने के चक्कर में बोलेरो अनियंत्रित होकर आम के पेड़ से टकरा कर पलट गई। हादसे में बोलेरो सवार अमन केशरवानी और संदीप भास्कर की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि लव कुमार साहू, योगेन्द्र कश्यप, भूपेन्द्र कैवर्त्य, गुरुवेन्द्र वैष्णव, सौरभ यादव गंभीर रूप से घायल हो गए। जानकारी मिलते ही मौके पर भीड़ लग गई और लोगों ने सूचना पुलिस को दी। पामगढ़ थाना प्रभारी विवेक पाटले सदल मौके पर पहुंचे और घायलों को 108 संजीवनी एक्सप्रेस की मदद से आनन-फानन में सीएचसी पामगढ़ पहुंचाया। सिम्स में उपचार के दौरान सौरभ यादव की मौत हो गई। वहीं अन्य घायलों का उपचार जारी है।

बोनस के 1 लाख 27 हजार के साथ जरूरी सामान को ले भागे लुटेरे

संदीप अग्रवाल

महासमुंद/सरायपाली:- सरायपाली जिला सहकारी बैंक अपने बोनस और अन्य मद में जमा रूपए को निकालने आए किसान पुत्र और माता आज सरायपाली के सबसे व्यस्त मार्ग पदमपुर रोड में लूट का शिकार हो गए। सरायपाली ब्लॉक के ग्राम पेलागढ़ निवासी दुर्गा शंकर पटेल अपनी मां भानूमोती पटेल को साथ लेकर अपने पिता के खाते में जमा बोनस और अन्य मद की राशि में से 1 लाख 27 हजार रूपए सरायपाली स्थित जिला सहाकारी बैंक से निकालकर उसे थैले में रखकर बाजार में कुछ सामान लेने गए थे और इसी दौरन बैंक से उनका पीछा कर रहे दो अज्ञात व्यक्ति जो नीले रंग की पल्सर गाडी में सवार हो कर आए और गलत साईड से उनके करीब आ कर भानूमोती के हाथे से पैसे वाला थैला लूटकर पदमपुर ओडिसा की ओर भाग निकले। पीडित दुर्गा शंकर और कुछ लोगों ने लूटेरों का पीछा भी किया पर लुटेरे चकमा देकर भागने में कामयाब रहे। पिड़ित ने थाने पहुंचकर अपने साथ हुए लूट के वारदात की रिपोर्ट दर्ज कराई है रिपोर्ट के बाद पुलिस ने बैंक और घटना स्थल के पास स्थित एक दुकान में लगे सासीटीव्ही कैमरे से लुटेरों की फुटेज निकलवाई और उसी के आधार पर नाकेबंदी कर आरोपीयों की धर पकड के लिए टीम रवाना की है। पिडित दुर्गाशंकर ने बताया कि थैले में रकम 1 लाख 27 हजार के अलावा पैन कार्ड, बैंक के पासबुक, जमीन का पटटा सहित कई जरूरी कागजात भी थे जो लूटेरे ले गए।

मजिस्ट्रेट का बँगला भी नहीं सुरक्षित ...चोर ले गए T V…

अम्बिकापुर:- संभाग मुख्यालय अंबिकापुर में एक अजीब वारदात हुई है.. अजीब इसलिए कहना पड रहा है की इस वारदात को अंजाम देने वालों की हिम्मत की दाद देनी पड़ेगी.. क्योकी बीती रात हुई एक चोरी की घटना किसी और के घर नहीं बल्की न्यायिक मजिस्ट्रेट के घर पर हुई है.. अपने पुलिस के घर चोरी तो सुनी होगी लेकिन इस बार चोरो ने मजिस्ट्रेट का घर भी नही छोड़ा.. दरअसल बीती रात अम्बिकापुर के गांधीचौक के समीप व्यवहार एवं न्यायिक मजिस्ट्रेट अपूर्वा खरे के सरकारी बंगले में कुछ अज्ञात चोरो ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया.. मजिस्ट्रेट अपूर्वा खरे वर्कशाप के लिए भोपाल गई हुई है और बँगला खाली पडा हुआ था जिसका फायदा उठाते हुए चोर उनके बंगले से एक 32 इंच एलईडी टीवी और एक टुल्लू पम्प ले गए है.. सुबह जब स्टाफ बंगले में आये तो देखा पूरा सामन बिखरा पडा था और कुछ सामान गायब था.. जिसकी सूचना पुलिस को दी गई और पुलिस बल मौके पर पहुच कर जाँच कर रहा है.. पर यहाँ पर सवाल यह नहीं की चोरी क्या हुआ सवाल यह की आखिर चोरी हुई कैसे.. *आपको बतादें की मजिस्ट्रेट अपूर्वा खरे के बंगले के आस पास कमिश्नर सहित कई अन्य प्रशासनिक अधिकारियों व नेताओं के बंगले है..* *कुछ ही दूरी पर एस पी बंगला और गृहमंत्री का सरकारी आवास भी है..* अब ज़रा सोचिये जब शहर का इतना पॉश इलाका सुरक्षित नहीं तो बाकी क्षेत्र के लोग अपनी सुरक्षा की क्या उम्मीद करे.. लिहाजा इस घटना से जिले की पुलिस को सतर्क रहने की आदत डालनी होगी..

नाबालिक युवती के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ाया युवक

बिलासपुर/पेंड्रा:–संगम लॉज संचालक की शिकायत पर पेन्ड्रा पुलिस ने एक व्यक्ति को नाबालिग आदिवासी युवती के साथ पकड़ा है। पुलिस ने आरोपी राजबीर दुग्गा के खिलाफ 376 और पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर कोर्ट में पेश किया है। नाबालिग आदिवासी युवती मरवाही की रहने वाली है।                           पेन्ड्रा पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार संगम लाज कर्मचारियों की सूचना पर राजवीर सिंह दुग्गा को नाबालिग आदिवासी युवती के साथ आपत्तिजनक स्थिति में लाज के कमरे से पकड़ा गया है।  आरोपी राजबीर सिंह दुग्गा उत्तरप्रदेश के बिजनौर का रहने वाला है। पिछले एक साल से पेन्ड्रा स्थित संगम लाज में रहता है। जबकि नाबालिग युवती मरवाही की रहने वाली है।                                                         मामले की जानकारी मिलते ही पेन्ड्रा पुलिस शनिवार की रात संगम लाज पहुंची। कमरे में राजबीर दुग्गा और नाबालिग युवती को आपत्तिजनक स्थिति में पाया। पुलिस ने दोनों को थाना लाकर पूछताछ की। सुबह लड़की की मां भी थाना पहुंच गयी। मां और नाबालिग लड़की की शिकायत पर पेन्ड्रा पुलिस ने 376,पास्को एक्ट 4,5 और एसटी एससी की धारा 3-10 के तहत अपराध दर्ज कर राजबीर को गिफ्तारी  की। रविवार को कोर्ट में पेश करने के बाद राजबीर दुग्गा को जेल भेज दिया गया है।

मां ने अपनी ही बेटी का 50 हजार रुपये में सौदा ....

सोनीपतः हरियाणा के सोनिपत से रोंगटे खड़े कर देने वाला मामला सामने अाया है। क्या अाप सोच सकते हैं कि एक मां अपनी बच्ची को बेच दे? नहीं न क्योंकि मां तो अपनी जान देकर अपने बच्चों को कोई अांच तक नहीं अाने देती। लेकिन गन्नौर के एक गांव में मां ने बेटी से अपने रिश्ते को लांछित कर दिया। मां ने अपनी ही बेटी का 50 हजार रुपये में सौदा कर किसी दूसरे के साथ भेज दिया। जहां व्यक्ति ने युवती से दुष्कर्म किया। घटना के बाद पीड़िता ने पुलिस में जाकर मामला दर्ज करवाया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। युवती ने बताया कि उसकी मां ने गांव बांय निवासी रणसिंह, ईश्तयाक खान व बढ़ी निवासी सतबीर उर्फ सत्तू को 50 हजार में उसे बेच दिया। पीड़िता को इस बात का अंदाजा नहीं था। पीड़िता अपनी मां और रणसिंह व सतबीर के साथ कश्मीर घूमने गई। जहां दोनों को अलग-अलग कमरे में रखा गया। कुछ देर बाद बांय गांव निवासी बाबुल उसके कमरे में आया और उसके साथ छेड़छाड़ करने लगा। जब पीड़िता ने शोर मचाया तो उसकी मां कमरे में आई और बताया कि उसने ईश्तयाक खान के साथ मिलकर 50 हजार रुपये में उसे बाबुल को सौंप दिया हैं। यह कहकर उसकी मां कमरे से चली गई। जिसके बाद बाबुल ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता का कहना है कि बाबुल कई दिनों तक उसके साथ दुष्कर्म व मारपीट करता रहा। जिसके बाद उसकी मां उसे दिल्ली लेकर अा गई। दिल्ली में ईश्तयाक खान ने पीड़िता को एक फैक्ट्री में नौकरी लगवा दिया। फैक्ट्री में उसकी मुलाकात बिहार निवासी शशि के साथ हुई। पीड़िता ने उसे अपनी आपबीती बताई तो वह उसे दिल्ली स्थित अपने मकान में ले गया और उसके साथ विवाह कर लिया। लेकिन कुछ दिन बाद पीड़िता की मां व इश्तयाक खान उनके घर पहुंच गए और उसके व पति के साथ मारपीट कर वहां से चले गए। मारपीट से घबरा कर पीड़िता व उसका पति दूसरे मकान में चले गए। इसके बाद पीड़िता ने हिम्मत जुटा कर अपने पिता से फोन पर संपर्क किया और मामले से अवगत करवाया। पिता के कहने पर पीड़िता गन्नौर पहुंची और सभी आरोपियों के खिलाफ थाना गन्नौर में शिकायत दी।

टेम्पो से हुई टक्कर के बाद 1 की मौत ३ हुए घायल देखे पूरी पोस्ट।

मुंबई: उपनगरीय मालद में एक टेम्पो से टक्कर होने के बाद 13 वर्षीय एक छात्र की मौके पर हो गई मृतयु और तीन अन्य घायल हो गए।

 पुलिस के अनुसार, पीड़ितों विभिन्न विद्यालयों के छात्र थे और स्कूल की ओर जा रहे थे, उस पल एक बेरहम गति से प्रेरित टेम्पो ने उन्हें माल्वे रोड के पास टक्कर मारा, मालाड के जंक्शन पर।

मृतक की पहचान मुस्कान मेनन बताई जा रही है। 

घायलों का एक अस्पताल में इलाज चल रहा है जहां उनमें से एक की स्थिति गंभीर है।

अधिकारी ने कहा कि दुर्घटना के बाद टेंपो चालक मौके से भाग गया और आईपीसी के संबंधित अनुभागों के तहत मामला दायर किया गया है।

चालक की पहचान की गई है और उसे पकड़ने के लिए एक खोज शुरू किया गया है।
पुलिस जांच में जुटी गयी है।  

Source : (http://www.dnaindia.com)

दो बच्चियों के साथ कुएं में कूदी माँ ऐसा था सुसायड नोट।

बिलासपुर में हुई घटना, दो मासूम बच्चियों को लेकर कुएं में कूदकर जान देने वाली महिला, अपने पति के मौत के बाद जिंदगी से तंग आग गई थी। इसके कारण उसने बच्चों के साथ खुदकुशी करने का फैसला किया। रविवार को महिला के हाथ में कपड़े से बंधा हुआ सुसाइड नोट बरामत हुआ, जिसके बाद यह खुलासा हुआ है।

गौरेला क्षेत्र के सरगांव, पिपरिया निवासी मीराबाई पति स्व. मूलचंद (26) मितानिन का काम किया करती थी। करीब साल भर पहले उसके पति की मौत हो गई थी। इसके बाद से वह परेशानिया बढ़ने लगी। शनिवार को गांव में मितानिनों की बैठक के दौरान वह अचानक बीना बताये घर चली गई।

कुछ ही देर में उसके घर से आग का धुआं उठते देख गांव वाले देखने पहुंचे, उसे बुझाने की कोसीस में पानी निकालने कुएं को पास पहुंचे। कुएं के पास जाने से ग्रामीणों का पता चला कि महिला के साथ दो बच्चियों की लाश पानी में तैर रही थी।

ग्रामीणों ने मीराबाई व उसकी बेटी रोशनी (डेढ़ साल) व गीतांजलि (3 साल ) के शव को बाहर निकाला। घटना की जानकारी पुलिस को दे दी गयी। खबर मिलते ही पुलिस भी गांव पहुंची। रविवार को पुलिस ने शव का पंचनामा कार्रवाई के दौरान देखा, तब पता चला कि उसके हाथ में कपडा बंधा है, जिसमे एक कागज बंधा हुआ पाया। पुलिस ने उसे निकालकर देखा, तो सुसाइड नोट निकला।

महिला ने नोट में लिखा है कि पति की मौत के बाद वह अकेली हो गयी है और जिंदगी से तंग आ कर यह कदम उठा रही है। उसकी मौत के लिए किसी का कोई दोष नहीं है। पुलिस ने सुसाइड नोट बरामद करने के बाद शव को पोस्टमार्टम करने के बाद उसे परिजन को सौंप दिया है। पुलिस इस मामले में मार्ग कायम कर जांच कर रही है।

अपना ही मोटर सायकल छोड़कर भाग निकला चोर

जांजगीर/ बलौदा _नगर के मुख्य मार्ग से रविवार की रात को पुनः पिकप से धान की कट्टी चोरी कर भागने का प्रयास कर रहे चोर को व्यवसायी ने अपने मकान की पहली मंजिल से छलांग लगाकर पकड़ने का प्रयास किया लेकिन चोर तो पकड़ में नहीं आया पर चोरी में प्रयुक्त मोटर सायकल छोड़कर भाग निकला |नगर में सिलसिलेवार चोरी व चोरी के प्रयासों की यह आठवी घटना है |चोर के बुलंद हौसले व पुलिस की असफलता से नगर में रोष व्याप्त है | आज की घटना में कोरबा रोड स्थित हुकुम चंद्र मित्तल की किराना दुकान के सामने खड़ी पिकप से अग्यात युवक द्वारा धान की दो कट्टी उतारकर उसे बिना नंबर प्लेट की बाइक में बांधकर ले जाने की तैयारी की जा रही थी |चूंकि शनिवार को भी इसी जगह से पिकप से दो कट्टी धान पार किया गया था |जिस कारण रात में व्यवसायी कमल मित्तल जाग रहा था |रात में लगभग तीन बजे जब बाइक में पहुंचे युवक ने धान उतारना शुरू किया तो कमल ने थाना प्रभारी हरीश टांडेकर व अन्य व्वसायियो को मोबाइल में जानकारी देकर तत्काल पहुंचने को कहा |जब तक कोई पहुंच पाता युवक धान लादकर भागने की तैयारी कर चुका था |तब कमल ने अपने घर की पहली मंजिल से कूदकर युवक को पकड़ने का प्रयास किया |इस हड़बड़ी में दोनो गिर गये |और युवक बाइक को वहीं छोड़कर भाग निकला |इतने देर में वहां थाना प्रभारी व अन्य लोग भी पहुंच गये |सबने युवक को काफी ढुंढने का प्रयास किया पर युवक नहीं मिला |पुलिस द्वारा बाइक को थाना ले जाया गया | गौरतलब है कि नगर में रोज चोरी व चोरी के प्रयास की घटना हो रही है |वह भी नगर के सबसे प्रमुख मार्गो से |पंद्रह दिनो के भीतर हुये चोरी की आठ घटनाओ के बाद भी एक मे भी पुलिस को सफलता हाथ नहीं लगी है |जिससे पुलिस की रात्रि गश्त की पोल तो खुलती ही है |साथ में पुलिस की कार्य प्रणाली पर भी सवालिया निशान लगते है |

करवाचौथ के दिन पति तमंचा दिखाकर दोस्त को परोसा

मामला मैनपुरी के थाना बेवर क्षेत्र के एक गांव का है। बताया जा रहा है कि रविवार को विवाहिता करवाचौथ के त्यौहार के लिए तैयार हुई। पूजा की ताली लेकर छत में पहुंची। जहां पति और उसका दोस्त भी आ धमके। पत्नी को सामने देखकर पति ने विवाहिता के साथ मारपीट शुरु कर दी और उसे तमंचा दिखाकर दोस्त के साथ रात गुजारने को मजबूर किया। इसके बाद उसने दोस्त और पत्नी को कमरे में बंद कर दिया, और खुद रात भर घर के बाहर चौकीदारी करता रहा। सुबह जब दोस्त चला गया तो पत्नी कमरे से बाहर आई तो पति ने उसे धमकी देते हुआ कहा कि अगर उसने घटना के बारे में किसी को बताया तो वह उसके भाई को मार देगा।

पीड़िता ने बताया कि घटना के दूसरे दिन वह घर में सबको चकमा देकर भाग निकली और अपनी मां के पास पहुंचकर उन्हें पूरी घटना के बारे में बताया। जिसके बाद पुलिस को इस बात की जानकारी दी गई। पुलिस ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। उन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जायेगा।

राजस्थान से आए बाबा ने किसान महिला को बेहोश कर चुरा ली बोनस की रकम, गिरफ्तार

बलोदा बज़ार  भाटापारा - फर्जी बाबाओं के बड़े-बड़े कारनामे उजागर हो रहे हैं। इसी कड़ी में बलौदाबाजार जिले के बिलाईगढ़ ब्लॉक के ग्राम परसापाली का मामला सामने आया है। गांव में राजस्थान से आए दो सगे भाई बाबाओं ने भीख मांगने की आड़ में एक महिला को भभूत फूंक मारकर बेहोश किया और घर में रखे धान बोनस के नकदी समेत लगभग 10 हजार रुपए लेकर फरार हो गया।

23 अक्टूबर की सुबह ग्राम परसापाली के डीपापारा निवासी लालबाई पटेल पति वृंदा प्रसाद पटेल (26 वर्ष) अपने घर में अकेली थी। तभी साधु बाबा घर में घुसा व महिला से पांच सौ रुपए भीक्षा मांगी। तब महिला ने पैसे नहीं है कहकर मना किया। तब बाबा ने महिला को कौन सा फूल पसंद है पूछा। महिला ने गुलाब कहा। इसी दौरान बाबा ने महिला के चेहरे की ओर कुछ भभूत जैसा फूंक मारा जिससे महिला बेचैन होने लगी और अपनी भतीजा बहू पिंकी के घर दौड़कर भागी और बेहोश हो गई। होश आने के बाद महिला जब घर आई तब उसके घर के आलमारी खुले पड़े थे तथा आलमारी में रखे किसान बोनस राशि सात हजार रुपए व घर के तीन हजार रुपए कुल दस हजार रुपए लेकर बाबा फरार हो गए। घटना के बाद गांव के कुछ लोग बाबा को ढूंढने चले गए जिसे बसना के आसपास पकड़ा गया। इसकी सूचना सलिहा पुलिस चौकी में दी।

चोरी करने वाले दोनों बाबा सगे भाई हैं तथा राजस्थान से अपने बोलेरो वाहन आरजे 06 यूए 5267 में आए थे। इनके पास से दस हजार नकदी राशि तथा पूजा-पाठ का सामान, बर्तन प्राप्त हुआ है। सलिहा पुलिस ने दोनों आरोपी प्रकाशनाथ व सुरेश नाथ को हिरासत में लेकर बिलाईगढ़ न्यायालय में पेश किया है।

पिछले साल जिले में 55 लाख 56 हजार क्विंटल धान खरीदी का लक्ष्य रखा गया था जबकि इस बार सूखाग्रस्त जिला घोषित होने के बावजूद इस सीजन धान खरीदी के लक्ष्य में सिर्फ 56 हजार क्विंटल कम कर 55 लाख क्विंटल का रखा गया है। जबकि इस बार शासन ने जिले के सभी तहसीलों को सूखाग्रस्त घोषित किया है साथ ही जो बचे हुए धान हैं उन्हें हवा व कीट प्रकोप का भी सामना करना पड़ रहा है। दूसरी ओर स्थानीय अधिकारियों का कहना है कि 2015 में भी सूखे की स्थिति निर्मित हुई थी लेकिन उत्पादन पहले ही जैसा हुआ था। वहीं खरीदी प्रभावित न हो इसके लिए साढ़े 8 लाख टीडीएस बारदाने की व्यवस्था करने के दावे किए जा रहे हैं।

6 महीने से नकली नोट छापकर खपा रहा था बाजार में क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

 रायपुर। क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे आरोपी को गिरफ्तार किया है जो नकली नोट छापकर उनसे जुआ खेलता था। टीम ने आरोपी के पास से 80 हजार रुपए के नकली नोटों के साथ एक कलर प्रिंटर भी बरामद किया है। आरोपी पिछले 6 महीने से नकली नोट छापकर उन्हें बाजार में खपा रहा था।

अपराध पुलिस अधीक्षक अजातशत्रु बहादुर सिंह के मुताबिक आरोपी मनोज विश्वकर्मा (44) श्यामनगर तेलीबांधा में वीडियो गेम और एसटीडी पीसीओ की दुकान चलाता था। क्राइम ब्रांच को मुखबिर के सूचना मिली थी कि मनोज नकली नोट छाप रहा है।

मुखबिर की सूचना पर कार्रवाई करते हुए क्राइम ब्रांच की टीम ने मनोज के घर पर छापामार कार्रवाई की। घर की तलाशी में 2-2 हजार रुपए के नकली नोट मिले हैं। साथ ही घर से कलर प्रिंटर भी मिला है। जिसके जरिए आरोपी नकली नोट छापता था।

6 महीने से छाप रहा था नकली नोट
टीम के मुताबिक आरोपी नकली नोट छापकर रात में जुआ खेलता था, और नकली नोटों से ही खरीदारी भी करता था। पूछताछ में आरोपी ने खुलासा किया है कि वो पिछले 6 महीने से नकली नोट छाप रहा था।