छत्तीसगढ़

नक्सलियों ने की ASI की हत्या, रविवार दोपहर किया था रास्ते से अपहरण- बीजापुर

2 साल से कुटरू में पदस्थ,छुट्टी पर निकला था जवान

बीजापुर:-जिले में अपहृत एक एएसआई की माओवादियों ने बेरहमी से हत्या कर दी. जवान का शव कुटरू-बीजापुर मार्ग पर केतुलनार के नजदीक सड़क पर फेंक फरार हो गया. जानकारी है कि मृतक के शव में एक कागज का टुकड़ा भी मिला जिसमे भैरमगढ़ एरिया कमिटी ने घटना की जिम्मेदारी ली है। जवान का नाम नागैय्या कोरसा है. जानकारी के मुताबिक एएसआई नागैय्या कोरसा रविवार दोपहर को छुट्टी पर निकले थे. तभी नक्सलियों ने रास्ते से जाते हुए देख उनका अपरहण कर लिया. लोगों को उनकी मोटर सायकिल कुटरू से कुछ ही दूर मंगापेटा के पास लावारिश हालत में मिली थी. अज्ञात मोटर सायकिल देख कर ग्रामीणों ने इसकी सूचना थाने में दी। जवान के अपहरण की घटना सुन कुटरू थाने में हड़कंप मच गया। बता दें कि मृतक जवान पिछले 2 साल से कुटरू थाने में पदस्थ था. वे बीजापुर के चेरामंगी गांव का निवासी था. इनकी पत्नी दंतेवाड़ा में शिक्षिका हैं, फिलहाल पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

कोरिया जिले के भरतपुर सोनहत विधानसभा में आजादी के 74 साल में गांवों का विकास कहा तक पंहुचा पढ़े पूरी ख़बर...

कोरिया:-आजादी के 74 साल में गांवों का विकास कहा तक हुआ है यह अगर देखना हो तो कोरिया जिले के भरतपुर सोनहत विधानसभा में जाकर देखा जा सकता है । भरतपुर विकाशखण्ड के सुदूर वनांचल के गांवों की हालत यह है कि वहाँ आने जाने के लिए न तो सड़क है और न ही नदी में पुल है गावो में बिजली तक नही है । ऐसे में ग्रामीणों को मुख्य मार्ग व ब्लाक मुख्यालय तक आने जाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जनप्रतिनिधि है कि चुनाव के समय केवल वोट मांगने आते है और उसके बाद पलटकर नही देखते।

देश को आजाद हुए 74 साल का समय हो गया इस दौरान देश ने विकास के कई बड़े बड़े आयाम स्थापित किये । पर असल मे गावो में बसने वाले भारत का विकास कहा तक पहुचा यह जनपद पंचायत भरतपुर के घघरा मुख्य मार्ग से लावाहोरी जाने वाले रास्ते मे जाकर आसानी से देखा जा सकता है । इस मुख्य मार्ग से भरतपुर जनपद पंचायत के सात गांव कोरमो ढाप कुदरा दुलारी खोहरा ठरगी और लावाहोरी आदि गांव जुड़े है पर इन गांवों में रहने वाले ग्रामीणों को सड़क पुल और बिजली नही होने से काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। समस्या बरसात के दिनों में ज्यादा बढ़ जाती है मुख्य मार्ग घघरा तक पहुँचने के लिए ग्रामीण जान जोखिम में डालकर नदी पार करते है और जंगल की कच्ची सड़क से होते हुए किसी तरह पहुँचते है। ग्रामीणों का कहना है कि अधिकारी कभी गांव आये तो काम हो जाने की बात कहकर चले जाते है और नेता चुनाव के समय वोट मांगने के बाद दुबारा पलटकर नही आते।

तस्वीरों में आप साफ देख सकते है कि किस तरह इन गांवों को जोड़ने वाली रापा नदी में पुल नही होने से ग्रामीण नदी पार कर रहे है अपने छोटे बच्चों और सामान को लेकर जान जोखिम में डालकर आ जा रहे है। इतना ही नही दुपहिया वाहन को भी किसी तरह पार कर रहे है ऐसे में कभी भी बड़ी घटना हो सकती है। बरसात में समस्या बढ़ जाती है पहले जान जोखिम में डालकर ग्रामीण नदी पार करते है फिर उसी मार्ग में बरसात में कीचड़ से सनी सड़क पर चलते हुए मुख्य मार्ग तक पहुँचते है। गाँव मे बिजली की परेशानी अलग है ऐसा नही है कि इन सभी समस्याओं की जानकारी विकास के लिए जिम्मेदार अधिकारी और जनप्रतिनिधियों को नही है पर सरकार बदली विधायक बदले नही हो पाया तो आज तक आजादी के बाद केवल विकास।

गिधौरी मे बाढ, तीन दिन के बाद पानी हुआ खाली,घर दुकान का समान डुबा,भारी नुकसान

मदन खांडेकर

गिधौरी/टुण्डरा:-बलौदाबाजार जिले के ग्राम पंचायत गिधौरी मे तीन दिनो की बाढ से जहां आवागमन चारो ओर बाधित थे और चारो ओर पानी भरने से गिधौरी का टुटा सम्पर्क और टापू बना था गिधौरी। पानी की वजह से गिधौरी मे बिजली सप्लाई बंद थे रात के अंधेरे पर लोगों को साप बिच्छू की डर सता रहे थे ।लगातार बारिश के कारण जनजीवन यस्त व्यस्त थे तो बाढ का कहर से गिधौरी मे लोगों घर ,दुकान, बुरी तरह से डुब चुके थे रविवार को सुबह से बाढ का पानी कम होने लगे जिससे दुकान दार समान को इधर उधर करने मे लगे रहे और कई दुकान समान ,बाढ का पानी से भीग कर खराब हो और पानी मे बह गया था बाढ का पानी रविवार कभ होने से बलौदाबाजार रायपुर मार्ग चालु हुआ ।जिसमे सैकड़ों बडे वाहनो किया लम्बी लाईन हो गया था सारंगढ़ मार्ग गिधौरी घटमडवा नाला पर बहुत पानी चल रहा था गाडी वाले घंटों से ज्यादा इंतजार कर रहे थे ।गिधौरी मे बाढ के चपेट आने वाले दुकान घर आदि की जायजा गिधौरी पटवारी केवलराम मिरी द्वारा जाकर जायजा लिया गया इधर किसानों का खेतों पर धान की फसल तथा सब्जी बाडी मे रविवार को ज्यादा पानी होने से भरा होने कू कारण निरीक्षण नही किया गया खेतों से पानी घटेगा ।उसके बाद सर्वे किया जायेगा। और दुकानो साफ सफाई कर समान की तैयार किया जा रहा था गिधौरी सारंगढ़ मार्ग पर मोटर गैरेज पर दो मेटाडोर ट्रक बाढ का पानी से भी डुबे थे और रिंकू गुप्ता गिधौरी ट्रक तथा वीक्की गुप्ता का आटो डुब गया था गिधौरी मे बाढ से किसी भी प्रकार जनहानि नही हुआ लेकिन घर खाने पीने कपडा दुकान का समान पानी मे बह गया और भीगकर खराब हो गया था .शासन प्रशासन के तरफ से कोई भी जिम्मेदार अधिकारी नही पहुचने से बाढ मे फंसे लोगों ने नाराजगी वक्त किया गयायह जो दुकानो का तस्वीर दिखाई दिया जा रहा है इस जगह पर बाढ का पानी 8 से 10फिट चल रहा था गिधौरी मे लकेशवर केवट मकान वट विश्राम रोड पर वहां शुक्रवार को रात मे पानी भरने से तुरंत घर निकले थे खाने पीने का समान बह गया ।महानदी का बाढ का जलस्तर घटने पर गिधौरी वासियों ने लिया राहत की सांस ।तथा महानदी गिधौरी शिवरीनारायण शबरी सेतु पुल पर एक बजे तक 1फिट ऊपर चल रहा ।और धीरे धीरे .पानी उतर रहथा परंतु गंगरेल बांध से रविवार 8बजे को पानी छोडे जाने खबर पर लोगों ने फिर चिंता बाढ जताया जा रहा था ।महानदी का पुल का पानी बहुत ही कम होने से आने जाने लोगो काफि घंटे इंतजार मे थे गिधौरी और शिवरीनारायण दोनो तरफ से आवागमन बंद कर दिया था ।और पानी घटने का इंतजार किया गयाबाढ का 1बजे बाद पानी स्थिर हो गया जिसमे महानदी शबरी सेतु से पुल से रविवार शाम तक 5बजे से पानी थे जिसके कारण से गिधौरी शिवरीनारायण मार्ग दिन भर बंद रहा गिधौरी घटमडवा नाला पर 6फिट पानी रहा ।सोमवार को सुबह को घटमडवा नाला खुलने की उम्मीद किया जा रहा है। गिधौरी के नीचे ईलाके पर अभी पानी भरा.हुआ है जिसमे घर एवं झोपडी डुबे हुये है छत्तीसगढ़ ग्रामीण बैंक मे कम्युटर समान एवं दस्तावेज पानी मे खराब हो गया है जनरल स्टोर, कपडा दुकान,मोटर पार्टस, फल दुकान ,टायर दुकान आदि दुकान पर भारी नुकसान हुआ है।

इसी तरह शिवरीनारायण महानदी में एक महिला बहती हुई देखी गई, तत्काल बचाव दल ने नाव की मदद से महिला को उफनती नदी के बीच से सुरक्षित बहार निकला| महिला को शिवरीनारायण पुलिस की मदद से फौरन खरौद के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया | घटना शनिवार के शाम की है |इस सम्बंध मे नायब तहसीलदार कसडोल से फोन पर जवाहर सिंह मार्के से जानकारी पुछने बताया गया की बाढ के चपेट आये गांव मे जहां जहां नुकसान हुआ है वहां पटवारी को हिदायत देकर सर्वे करने को कहा गया है।इस सम्बंध गिधौरी पटवारी केवल राम मिरी से जानकारी पुछने गिधौरी मे जो बाढ आया था उसका आर बीसी 6 4प्रकरण सर्वे कर का बनाया जायेगा। इस सम्बंध मे ग्राम पंचायत सरपंच श्रीमती कुमारी बाई से जानकारी पुछने पर बताया गया की जिसका नुकसान हुआ उसे मुआवजा दिलाया जायेगा।

स्वच्छ-कचरा मुक्त पर्यटन स्थल बनाने का संकल्प लिया युवोदय के वालेंटियर्स ने

जगदलपुर:-आज दिनांक 30 अगस्त 2020 को स्वच्छ-कचरा मुक्त पर्यटन स्थल बनाने का संकल्प युवोदय के वॉलिंटियर्स ने लिया है इसी दौरान आज युवोदय के वॉलिंटियर्स द्वारा बस्तर के जाने-माने पर्यटन स्थल चित्रधार जलप्रपात में जाकर इस पर्यटन स्थल को स्वच्छ कचरा मुक्त किया गया, लगातार सोशल मीडिया समाचार पत्रों व अनेकों संगठनों द्वारा पर्यटन स्थल में फैल रही गंदगी का उल्लेख हो रहा है इन्ही सब बातों से प्रभावित होकर युवोदय के टीम ने संकल्प लिया कि बस्तर में जितने भी पर्यटन स्थल है उनकी साफ-सफाई व कचरा-मुक्त पर्यटन बनाने का निर्णय लिया गया है, युवोदय के वालेंटियर्स लगातार इंद्रावती नदी के किनारे तीन लेयरो में वृक्षारोपण की जिम्मेदारी को लेकर काम कर रहें हैं अब तक 80 हजार पौधे सामाजिक संगठनों व ग्रामीणों के साथ मिलकर लगा चुके हैं, चित्रधारा पर्यटन स्थल पर युवोदय वॉलिंटियर्स ने संकल्प लिया कि जो भी परेशानी पर्यटकों को हो रही है, इसके बारे में भी जिला प्रशासन के साथ-साथ राज्य सरकार को भी अवगत कराया जाएगा जिससे पर्यटकों को असुविधा का सामना ना करना पड़े। साथ ही लोगों को जागरूक करने के लिये विभिन्न आयोजन किये जायेंगे। इस दौरान खास बात यह रही, इस दौरान खास बात यह रही कि स्थानीय ग्रामीणों एवम पर्यटकों के द्वारा भी साफ सफाई पर स्वस्फूर्त हमारा सहयोग किया इस दौरान युवोदय का वॉलिंटियर्स जिसमें रोहित सिंह आर्य, परमेश राजा,संग्राम सिंह राणा,बबला यादव,विनीता,रेखा,लखपाल,मितेश,दिव्यराज,धीरेंद्र,डॉ देवकांत,गजेंद्र ग्रामीणजन जिसमे मानुराम,स्क्रुराम,मोहन,कमलू राम,चेतन,सुखमन सहित कार्यकर्ता उपस्थित थे

छोटे अमेरि नाला में जलस्तर बढ़ने से मकान हुआ क्षतिग्रस्त,मुवावजे की मांग

कोटमी सोनार:-जांजगीर चंपा जिला अंतर्गत ग्राम पंचायत कोटमी सोनार के छोटे अमेरि धनवार मोहल्ला के नाला में बाढ़ आ जाने से दर्जनों घर पानी मे डूब गए।जिससे मकान क्षत्रिग्रस्त हो गया है।मोहल्ले के निवासरत ग्रामीणों को पंचायत की व्यवस्था से स्कूल ,समुदायिक भवन में ठहराया गया।नाला किनारे बसे लोगो का फसल के साथ साथ मकान का भारी नुकसान पहुंचा है ।ग्रामीणों ने प्रशासन से उचित मुवावजा देने की मांग किये है।

जब पूर्व मंत्री गागड़ा ने पकड़ा रापा,तो बना डाले पीड़ितो के आशियाने- बीजापुर

Danteshwar kumar (chintu)

बीजापुर:-आज जिले के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के दौरा के दौरान छत्तीसगढ़ भाजपा के कद्दावर नेता पूर्व मंत्री महेश गागड़ा पहुंचे बाढ़ प्रभावित कुटरू ब्लॉक के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र दरभा, तुमला । वहीं दरभा में बाढ़ पीड़ितों का जायजा लेकर पीड़ितों को वितरण किए राशन सामग्री कम्बल एवम् जरूरत की समाग्री। उपरांत कुटरू ब्लॉक के ही ग्राम तुमला में बाढ़ पीड़ितों से मिले पूर्व मंत्री महेश गागड़ा । बाढ़ एवम् बारिश में पीड़ित परिवारों के (कच्चे) मकान जो गिर (ढह) गए है । उनका पूरा जायजा लेकर पीड़ितों का वर्तमान स्थिति को देख कर उनका दर्द देखा नहीं गया और पूर्व मंत्री क्षेत्र के जननायक माननीय महेश गागड़ा जी ने तुरंत वही (ऑफ द स्पॉट) में ही भाजपा के जाबांज कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने रापा एवम् तगाड़ी पकड़ा और शुरू किया पीड़ितों के लिए (झोपड़ियां) आशियाने बनाना ! ऐसा करते करते 30 पीड़ित परिवारों के लिए बना डाला उनके रहने के लिए (झोपड़ियां) आशियाने । वहीं क्षेत्र की जनता पूर्व मंत्री महेश गागड़ा की तारीफ करते नहीं थक रही थी। पीड़ित परिवारों ने भी पूर्व मंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा हम खुशनसीब हैं कि आप जैसे महान व्यक्ति जनसेवक हमारे बीच में है । साथ ही क्षेत्र की जनता और पीड़ितों ने भाजपा के जाबांज कार्यकर्ताओं को आशीर्वाद देते हुए कहा कि । आप जैसे युवा इस क्षेत्र में है तो इस क्षेत्र का भविष्य भी उज्वल बनेगा। पूर्व मंत्री महेश गागड़ा ने पीड़ितों को आश्वाशन देते हुए कहा कि आप लोगों के मकान जल्द से जल्द बने इसके लिए शासन प्रशासन से बात चल रही है। मै आग्रह करूंगा शासन से की आप लोगों के मकान जल्दी बनाए। इस दौरान पूर्व मंत्री क्षेत्र के जननायक माननीय महेश गागड़ा जी के साथ रहे। भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार , भाजपा जिला उपाध्यक्ष घासी राम नाग , भाजपा जिला महामंत्री सतेंद्र ठाकुर , चिन्ना राम तेलम , जिला मंत्री हरीश , मीडिया प्रभारी भाजपा अरविंद पुजारी, महेश गोटा ,जनपद सदस्य प्रवीण पोंदी जी , चमन ठाकुर , दीपक चौहान , गौतम राव , जितेंद्र , जागर लक्ष्मैया , बिलाल खान एवम् भाजपा कार्यकर्ताओं सहित क्षेत्र की जनता थी मौजूद।

नेशनल हाइवे 49 कुटीघाट लीलागर नदी का पुल क्षतिग्रस्त पुल के अंतिम छोर में हुआ गहरा गड्ढा,

कोनारगढ:-जांजगीर-चांपा जिले को बिलासपुर जिले से जोड़ने वाला पुल ग्राम कोनारगढ़ के आश्रित ग्राम कुटीघाट में नेशनल हाईवे 49 में आता है जो यह लीलागर नदी का पुल बाढ से बहुत ही क्षतिग्रस्त हो गया है आवागमन अवरुद्ध हो गया है और छोटी गाड़ियां जिसमें मोटरसाइकिल वाहन का आवागमन कर पा रही है पुल की रेलिंग टूट कर बहते हुए पुल के ऊपर आ गए हैं पुल में बिलासपुर की ओर से पानी के दबाव के कारण गड्ढे बने हुए हैं इस कारण पुल के दोनों ओर लगभग 4 किलोमीटर तक बड़े छोटे वाहनों कतार में लगे हुए हैं वहां एक तरफ थाना मुलमुला के स्टॉपर और वहीं दूसरी ओर थाना मस्तूरी के थाना स्टॉपर लगाए हैं। लीलागर नदी का पुल जो पहले से क्षतिग्रस्त हालत में है वह अभी और कमजोर हो गई है जिसमें बड़े भारी वाहन को आने-जाने में दुर्घटना होने की खतरा बना हुआ है। जिसमें भारी वाहनों में प्रवेश बंद कर दिया गया है और नेशनल हाईवे 49 सड़क का भी हालात बहुत ही खराब स्थिति में है जो आने जाने में बहुत तकलीफ है जिसमें बड़े-बड़े गड्ढे हो गए हैं यह सडक़ बहुत ही खराब स्थिति में हैं। जिसमें आने-जाने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

विधायक हो तो ऐसा,देर रात नाव से सफर कर जनता का हाल जानने पहुँचे दर्जनों गांव…

हुमेश जायसवाल

जांजगीर चांपा/चंद्रपुर:-बहुत कम ऐसे जनप्रतिनिधि होते हैं जो चुनाव के बाद अपने जनता के पास जाते हैं उनके दुख सुख में शरीक होते हैं. लेकिन आज हम आपको ऐसे विधायक के बारे में बताने जा रहे हैं जिनके कार्यशैली की तारीफ की जाए वह कम है हम किसी विधायक का प्रमोशन नहीं बल्कि उनके अच्छे काम को प्रमोट कर रहे हैं ताकि अन्य जनप्रतिनिधि भी उनके जैसा कार्य कर सकें-

चुनावी दौरा में जनप्रतिनिधि लोकलुभावन वादे करते हैं चुनाव जीतने के बाद वह अपने क्षेत्र की जनता को भी भूल जाते हैं ऐसा आपने अक्सर सुना होगा . लेकिन आज हम आपको चंद्रपुर विधायक राम कुमार यादव के बारे में बताएंगे जो चुनाव जीतने के बाद विधायक बने विधायक के बाद सरकार ने उन्हें उपाध्यक्ष ग्रामीण विकास एवं पिछड़ा वर्ग विकास प्राधिकरण या नहीं राज्यमंत्री का दर्जा दिया लेकिन पद में रहने के बावजूद भी कभी उन्होंने अपने आप को विधायक के तौर पर क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के सामने पेश नहीं किया बल्कि क्षेत्र का बड़ा बेटा होने की जिम्मेदारी निभाई हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि रामकुमार यादव अक्सर अपने क्षेत्र की जनता की समस्या में उनका हौसला अफजाई के लिए वह पहुंच जाते हैं भारी बारिश के चलते महानदी रौद्र रूप ले लिया महानदी के तट क्षेत्र में जलभराव की वजह से कई गांव डूब गए फसल बर्बाद हो गए . इस दौरान रामकुमार यादव विधानसभा के चलते हो रायपुर में थे तबीयत खराब होने के बावजूद भी वह रायपुर से क्षेत्र की समस्या को देखते हुए आनन-फानन में कई समस्या को पार करके अपने क्षेत्र में पहुंचे और देर रात तक जान जोखिम में डालकर नाव के सहारे वे अपने क्षेत्र की जनता से मिलने पहुंचे उनका दुख सुख हालचाल जाना साथ ही साथ उन्होंने उनका हौसला अफजाई किया और कहा कि वह क्षेत्र के बड़े बेटे हैं और वह क्षेत्रवासियों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होने देंगे इसके लिए वह वचनबद्ध है ग्रामीण भी अपने जननायक को देखकर तकलीफों को भूलकर अपना हालचाल बताया. वही राम कुमार यादव ने ग्राम साराडीह में लगातार गांव में बाढ़ आने की वजह से उन्हें एक स्ट्रीमर यानी बड़ा नाव देने का फैसला

रायपुर से आने के बाद तुरंत क्षेत्र के दौरा पर निकल गए जहां चंद्रपुर विधानसभा के विभिन्न क्षेत्रों में उन्होंने दौरा भी किया और बाढ़ पीड़ितों से उनका हाल चाल जाना और उनका हौसला भी बढ़ाये. साथी साथ शासन प्रशासन की सभी जिम्मेदारियों को वे निर्देश भी दिए क्षेत्र की जनता को किसी भी प्रकार की समस्या ना हो

चंद्रपुर क्षेत्रवासी मेरे परिवार के सदस्य मैं यहां का विधायक नही बल्कि मैं यहां का बड़ा बेटा

देश और दुनिया कोरोना से परेशान है वही हमारे क्षेत्र के लोगों के लिए बाढ़ की समस्या दोहरी मार है.लेकिन हम इस समस्या से जल्द ही निपट लेंगे . फिर से खुशहाली आएगी और हम सब एक साथ उस खुशहाली को मनाएंगे.चंद्रपुर क्षेत्रवासी मेरे परिवार के सदस्य मैं यहां का विधायक नही बल्कि मैं यहां का बड़ा बेटा हूं।

रामकुमार यादव विधायक चंद्रपुर

जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल का किया गया स्व.पत्रकार मनोज यादव स्मृति कोरोना वारियर सम्मान, जिला प्रेस परिवार सभी कोरोना वारियर्स का करेगा सम्मान, जिला प्रेस परिवार के पहल की हो रही सराहना

जांजगीर-चांपा:-जिला प्रेस परिवार के द्वारा स्व.पत्रकार मनोज यादव स्मृति कोरोना वारियर सम्मान जिले मे फ्रंट फुट मे आकर कोरोना की जंग लड़ने वाले वारियर्स का किया जाएगा। इसी कड़ी मे आज जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल को कोरोना वारियर सम्मान प्रदान किया गया गौरतलब है कि आज सीईओ तीर्थराज अग्रवाल का जन्म दिन भी है जिसकी वजह से यह सम्मान और विशेष हो गया। जिला प्रेस परिवार के सदस्यों ने जिला पंचायत कार्यालय जाकर श्री अग्रवाल को प्रतीक चिन्ह और बुके भेंट किया। आपको बता दें की वैश्विक महामारी कोरोना  की वजह से कोई बड़ा आयोजन ना करते हुए जिला प्रेस परिवार कोरोना वारियर्स तक पहुॅचकर उनका सम्मान करेगा।

सेनेटाइजर ,मास्क व सोशल डिस्टेनसिंग के साथ सदर के राजा की हो रही है पूजा आरती , तीसरी पीढ़ी के युवाओं ने जारी रखा परपम्परा...

भाटापारा कोरोना संक्रमण के फैलाव को देखते हुए गणेश स्थापना हेतु शासन के कड़े नियमों व निर्देशों के कारण प्रायः बड़े पंडालों में गणेश जी की स्थापना कम ही हुई है । शहर में एक दो स्थानों में ही बड़ी प्रतिमा स्थापित की गई है जिसमे संजय सदर वार्ड में स्थापित सदर के राजा की प्रतिमा व पंडाल विशेष आकर्षण का केंद्र बना हुआ है ।यह आयोजन का 29 वां वर्ष है ।इस वर्ष शासन के आदेश के अनुरूप छोटा किन्तु सुसज्जित पंडाल बनाया गया है व गणेश जी की प्रतिमा भी 4 फिट की ही है जो हर वर्ष 8 से 10 फिट की हुआ करती थी दोनो समय की पूजा आरती में मुख्य जजमान नरेंद्र उपाध्याय व पुजारी   सोम तिवारी जी के अलावा सीमित संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहते है ।
पंडाल में सेनेटाइजर की व्यवस्था है व सभी सदस्यों के लिए मास्क अनिवार्य है सोशल डिस्टेनसिंग का भी पूरी तरह से पालन किया जा रहा है फैलक्स व माइक के माध्यम से कोरोना से बचाव के उपाय श्रद्धालुओं को बताए जाते है भीड़ ना हो इस हेतु बैरिकेड्स लगाए गए है ।
सीमित के वरिष्ठ सदस्य हरगोपाल शर्मा ने जानकारी दी कि प्रति वर्ष सदर के राजा गणेशोत्सव के पंडाल में झांकी के माध्यम से शिक्षा, पर्यावरण के रख रखाव,वृक्षारोपण, स्वास्थ्य व देश भक्ति का संदेश दिया जाता था एवं भजन संध्या, छप्पन भोग व महाआरती का विराट आयोजन किया जाता था जिसमे नगर के सैकड़ो गणमान्य नागरिक, राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि व श्रद्धालु उपस्थित होते थे किंतु इस वर्ष कोरोना महामारी को देखते हुए उक्त सभी आयोजन स्थगित रखे गए है एवं विसर्जन भी बिना बैंड बाजा व भीड़ भाड़ के सामान्य रूप से किया जाएगा ।
आज इस आयोजन की सारी जिम्मेदारी तीसरी पीढ़ी के युवाओं के द्वारा निभाई जाती है ।जिसमे प्रमुख रूप से राजा जैन, ललित पुरोहित,विपिन पुरोहित, शैलेन्द्र उपाध्याय,नितिन अग्रवाल,संदीप भट्टर,पराग जैन,संजय अग्रवाल, मयंक,साकेत,निखिल उपाध्याय,श्रेणिक गोलछा, आशीष भट्टर,,रौनक मूंधड़ा,अभिषेक शर्मा, दीपांशु जैन,कालू सोनी,शुभम नत्थानी,पीयूष जैन,मोंटू सोनी,पंकज कामनानी,यश जाधव,कपिल पुरोहित शालीन भट्टर आदि है ।
संरक्षक मण्डल व वरिष्ठ सदस्यों में विनोद अग्रवाल(बल्लू),राकेश उपाध्याय,पंकज जैन(बल्लू),राजेश अग्रवाल, राजेश उपाध्याय, सुभाष भट्टर,हरगोपाल शर्मा,रजनीकांत माहेश्वरी,चित्रसेन पुरोहित,नरेंद्र उपाध्याय,विपिन अग्रवाल, विनय उपाध्याय, अभिषेक उपाध्याय एवं सुनील शर्मा( लाला)जिनका मार्गदर्शन व सहयोग सदैव सीमिति को मिलता रहता है ।

स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) से जैजैपुर जनपद पंचायत अंतर्गत विभिन्न ग्राम पंचायत में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन के कार्य में भारी अनियमितता व भ्रष्टाचार की जांच कर दोषी ब्यक्तियों के खिलाफ कार्यवाही हेतु शिवसैनिकों ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

जांजगीर चाँपा:-शिवसेना जिलाध्यक्ष ठा.ओंकार सिंह गहलौत जी के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने कलेक्टर महोदय को ज्ञापन सौंपकर बताया है कि मिशन संचालक राज्य स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) का पत्र क्रमांक- 1201/ मिस /रा.स्व.भा.मि. / प.ग्रा.वि.वि. /2019 रायपुर दिनांक- 04.10.2017 एवं अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग रायपुर का पत्र क्रमांक- 334 / अमुस / रास्वभामिग्रा / 2017 दिनांक- 21.11.2017 के परिपालन में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) से जांजगीर जिले में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन का कार्य किया गया है। ततसंबंध में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत से प्राप्त प्रस्ताव के आधार पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत जैजैपुर का पत्र क्रमांक- 4094 / स्व.भा.मि.(ग्रा)/ ज.पं. दिनांक- 17.09.2019. 2053 दिनांक- 06.04.2019 के अनुसार एवं जिला स्वच्छ भारत मिशन (ग्रा.) प्रबंधन समिति से अनुमोदन उपरांत ग्राम पंचायत ठठारी, ग्राम पंचायत भोथिया, ग्राम पंचायत कांशीगढ, ग्राम पंचायत बेलादूला, ग्राम पंचायत कचंदा, ग्राम पंचायत कैथा, ग्राम पंचायत हसौद में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन सामाग्री/कार्य हेतु हांथ ठेला बडा कंटेनर युक्त प्रति युनिट लागत रू. 7500/- रिक्शा कंटेनर युक्त प्रति युनिट लागत रू.45000/- साईन बोर्ड प्रति युनिट लागत रू.2000/- समूह हेतु रिकॉर्ड किपिंग प्रति युनिट लागत रू.5000/- वजन मशीन प्रति युनिट लागत रू.15000/- हार्न, भोपू प्रति युनिट लागत रू.500/- सुरक्षा सामाग्री प्रति युनिट लागत रू.2500/- समूह कार्य समाग्री उपकरण प्रति युनिट लागत रू.2500/- फस्टर् एंड बाक्स प्रति युनिट लागत रू.2000/- का क्रय एवं समूह मानदेय एवं संचालन संधारण प्रति युनिट लागत रू.150000/- कार्य हेतु एस.बी.एम.मद से राशि की प्रशासकीय स्वीकृति संबंधित ग्राम पंचायतों के ग्राम जल एवं स्वच्छता समिति को प्रदान की गई थी। जिसमें सभी सामान गुणवत्ता विहीन है। इस प्रकार की भारी अनियमितता व भ्रष्टाचार की गई है। जिसपर ठा.ओंकार सिंह गहलौत शिवसेना जिलाध्यक्ष के निर्देशानुसार शुभम सिंह राजपूत जिलासचिव, अश्वनी कुमार साहू जिलासचिव, रमेश साहू, दिलीप साहू ने कलेक्टर महोदय से उक्त विषय पर जांच टीम गठित कर, जिसमें शिवसेना पदाधिकारी को भी शामिल करते हुए, जांच कराकर दोषी ब्यक्तियों के खिलाफ उचित कार्यवाही की मांग किया है।

चितावर गांव में शासन प्रशासन से नहीं मिली मदद, ग्राम पंचायत ही अपनी ओर से ले देकर चला रही काम

बिलासपुर:-बिलासपुर जिले के तखतपुर से तकरीबन 10 किलोमीटर दूर स्थित चितावर गांव में अंधाधुंध बारिश और बाढ़ के कारण हुई नुकसानी से ग्रामीण अभी तक उबर नहीं पाए हैं। एक तरफ मनियारी का ठेल तो दूसरी तरफ छोटी नर्मदा के पानी का ठेला-ठेल.. भयंकरतम बारिश के कारण हुई दो-तरफा मार से चितावर गांव के किसानों, उनके घरों और धान की फसल का हाल "दो पाटन के बीच में" सरीखा हो गया है। भयंकर अतिवृष्टि ने इस गांव के किसानों की साढे तीन सौ एकड़ से भी अधिक कृषि भूमि पर लगी धान की फसल को पूरी तरह नष्ट और बर्बाद कर दिया है। हालत यह है कि इस बर्बाद हो चुकी फसल को किसान ट्रैक्टर के जरिए जुताई कर उखाड़ रहे हैं, जिससे वहां फिर से धान की फसल लगाई जा सके। लेकिन मुश्किल यह है कि किसानों के पास इस समय धान का थरहा (नर्सरी) भी इतनी मात्रा में नहीं है जो सभी किसानों को रोपा के लिए पूरा हो सके। इसलिए कुछ किसान लईहरा (लईचोपी) पद्धति से धान की बोनी करने की जुगत भिड़ा रहे हैं। वहीं कुछ और किसान बाऊग पद्धति से पहले बोए गए खेतों से पौधे उखाड़ कर उन खेतों में रोपित करने की जुगत लगा रहे हैं, जिन खेतों में लगी धान की पूरी फसल को बारिश ने नष्ट कर दिया।

टुण्डरा अवैध कब्जा हटाने की मांग, तीन बार नगर पंचायत का नोटिस देने के बाद नही हटाया गया कब्जा, पार्षद ने तीन दिवस के अंदर कब्जा नही हटा तो सामुहिक त्याग पत्र देने तहसीलदार को ज्ञापन सौपा

गिधौरी/टुण्डरा:-नगर पंचायत टुण्डरा के शासकीय भवन टुण्डरा निवासी माया देवी देवांगन पति खुशीराम देवांगन के द्वारा कब्जा किया गया जिस पर महिला द्वारा कब्जा नही हटाया गया जिसमे नगर पंचायत टुण्डरा सीएमओ द्वारा तीन बार नोटिस जारी कर कब्जा हटाने को कहा गया था ।कब्जा नही हटाने पर कसडोल तहसीलदार को आवेदन दिया गया था जिसपर जांच एवं कब्जा हटाने के आदेश जारी किया गया था लेकिन अबतक किसी प्रकार का कार्यवाही नही होने पर नगर पंचायत टुण्डरा के पार्षद गण दिनांक 25/8/2020को तहसील दार कसडोल एवं एस डीएम कसडोल को लिखित आवेदन देकर उनको शासकीय भवन से तत्काल बेदखल नही किये ।जिसपय नगर पर तनाव का माहौल बन रहा है जिससे नगर पंचायत के पार्षद ने यदि तीन दिवस के भीतर अवैध कब्जा से बेदखल नही किया जाता समस्त पार्षद अपने पद से सामुहिक त्याग पत्र देंगे और नगर पंचायत के समक्ष पार्षद मे रमाकांत साहु ,दिनेश कुमार देवांगन ,शिवकुमार साहु ,सुनीता रात्रे ,विजयाकुमारीसाहु ,केवराबाई,देवमति,रविशंकर बंजारे ,मोतीराम साहु,अनसुईया पटेल ,जगन्नाथ केशरवानी आदि शामिल हैइस सम्बध मे नगर अध्यक्ष गीताराम पटेल से जानकारी पुछने पर बताया गया की अवैध बेजा कब्जा सम्बध मे उक्त महिला को नगर पंचायत टुण्डरा से तीन बार नोटिस दिया गया और किसी तरह से बेजा कब्जा हटाया जायेगा।

दंतेवाड़ा जिले के 526 माओवादियों की हुई पहचान, वर्राटू अभियान जारी

दंतेवाड़ा:-जिले में 526 माओवादियों की पहचान की गई है। सभी की पहचान थानेवार की गई है। सक्रिय माओवादी जिला दक्षिण बस्तर दंतेवाड़ा के मूल निवासी है। माओवादियों की पहचान कर उन्हें आत्मसमर्पण कर समाज के मुख्य धारा में जोड़ने के उद्देश्य से वर्राटू नामक योजना चलाई गई है। इसमें गाँव-गाँव में जाकर माओवादियों के पोस्टर लगाए जाते हैं। उन्हें आत्मसमर्पण के लिए प्रेरित किया जाता है।

चाँपा में बिर्रा फाटक के पास संचालित अरविंद इंडस्ट्रीज की जांच कर, उचित कार्यवाही हेतु शिवसैनिकों ने कलेक्टर महोदय को सौंपा ज्ञापन

जांजगीर चाम्पा:-शिवसेना जिलाध्यक्ष ठा.ओंकार सिंह गहलौत जी के नेतृत्व में शिवसैनिकों ने कलेक्टर महोदय को ज्ञापन सौंपकर बताया है कि चाम्पा में बिर्रा फाटक के पास संचालित अरविंद इंडस्ट्रीज द्वारा शासन के नियमों व मापदंड को ताक में रखकर मजदूरों के जीवन से खिलवाड़ करते हुए इंडस्ट्रीज संचालित किया जा रहा है। इस इंडस्ट्रीज में मजदूरों को सुरक्षा के दृष्टि से कोई सुविधा नहीं दी जाती। जिससे मजदूरों को जानमाल का खतरा से जूझना पडता है। शिवसैनिकों को मिली जानकारी के अनुसार ताजा मामला 11अगस्त की सुबह 10 बजे बालपुर चाम्पा की महिला श्रमिक राजकुमारी केंवट पति रामलाल केंवट इंडस्ट्रीज के क्रेशर मशीन में फंस गई। जिससे उसके गर्दन की हड्डी टूट गई है। जिसे चाम्पा के निजी अस्पताल में उपचार के बाद उन्हें बिलासपुर रिफर किया गया है। इसके बाद उन्हें रायपुर के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां वह जीवन और मौत से संघर्ष कर रही है। महिला श्रमिक राजकुमारी केंवट की हालत नाजुक बनी हुई है। यहां श्रमिकों को ईपीएफ का भुगतान नहीं होता है। और न ही ईएसआई की कटौती होती है। शासन द्वारा निर्धारित न्यूनतम पारिश्रमिक भी नहीं दिया जाता। पत्थर की पिसाई होने के कारण यहां कार्यरत मजदूरों में सिलीकोसिस बिमारी का खतरा बना रहता है। यहां धूल का स्तर नियंत्रित करने के लिए कभी औद्योगिक स्वास्थ्य एवं सुरक्षा तथा श्रम विभाग द्वारा श्रम कानूनों को लागू कराने का प्रयास नहीं किया जाता है। ऐसे में यहां काम करने वाले मजदूरों को जान जोखिम में डालकर काम करना पडता है। जिसपर ठा.ओंकार सिंह गहलौत जिलाध्यक्ष, चंदन धीवर जिला महासचिव, शुभम सिंह राजपूत जिलासचिव, अश्वनी कुमार साहू जिलासचिव, राजेन्द्र चन्द्रा जिला उपाध्यक्ष, धनाराम साहू किसान सेना जिलाध्यक्ष, बलभद्र पटेल विधानसभा अध्यक्ष सक्ती, हीरा लाल पात्रे, संजय साहू, प्रतीक राज, कुंजन केंवट, दिलीप साहू, रमेश चन्द्रा, भुषण, वेदराम टण्डन, दाऊभगत सिंह चौहान, द्वारिका साहू सहित अन्य शिवसैनिकों ने कलेक्टर महोदय को ज्ञापन सौंपकर मांग किया है कि चाम्पा में बिर्रा फाटक के पास संचालित अरविंद इंडस्ट्रीज की जांच कर उचित कार्यवाही किया जावे।