क्राइम

रिस्वत लेते पटवारी को एसीबी ने पकड़ा ..ये था पूरा मामला

गुलाब दीवान @BBN24 बलौदाबाजार जिले के पवनी गांव के स्कूल में बच्चो का आय जाती बनाने का शिविर चल रहा था. इसी बीच एंटी करप्शन ब्यूरो रायपुर की टीम ने पवनी गांव के पटवारी नरेन्द्र बोरसे को रंगे हाथ किसान से 5 हजार की घुस लेते गिरफ्तार कर लिया है. बिलाईगढ़ तहसील अंतर्गत हल्का नंबर 08 के पटवारी द्वारा पवनी गांव के किसान ओमप्रकाश से अपने खेत के पर्ची को तीन भाइयो के नाम में अलग अलग बनवाने के लिए पटवारी के पास आवेदन दिया गया था. जिसमे पटवारी नरेन्द्र बोरसे के द्वारा ग्राणीण से पहले 15 हजार का घुस मांगा गया था. जिस पर किसान ने अपनी परिस्थिति को देखते हुए अधिक पैसा नही दे पाने का गुजारिस किया उसी बीच किसान से पटवारी ने 9 हजार में बात तय किया और पटवारी पीड़ित किसान से 2 हजार ले लिया,, जिसका दूसरा किश्त 5 हजार आज दिया गया,, जिस पर एंटी करप्शन ब्यूरो ने पटवारी को रंगे हाथ घुस लेते गिरफ्तार कर लिया. :- पीड़ित किसान ने बताया की पटवारी उससे बार बार पैसे की मांग कर रहा था, और मेरा पर्ची का काम नही कर रहा था. तब मैने इसकी शिकायत एंटी करप्शन ब्यूरो रायपुर में किया , और आज पटवारी को रंगे हाथ ए सी बी द्वारा घुस लेते पकड़ लिया गया ।

पुलिस के नाक के नीचे फरार हुए डॉ तिवारी। फरीदाबाद से हुई नर्स की गिरफ्तारी...पढ़े पूरा मामला

BBN24NEWS.COM बलौदाबाजार– नसबंदी के बाद महिला की मौत मामले में फरार नर्स डगेश्वरी यादव को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि मामले के तूल पकड़ने के बाद आरोपी नर्स फरार हो गई थी. पुलिस लगातार सर्च ऑपरेशन चल रही थी. साथ ही उसके मोबाइल नंबर को जांच में लिया गया था. मोबाइल नंबर से आरोपी की लोकेशन फरीदाबाद में मिली. इसके बाद पुलिस टीम ने दबिश देकर नर्स को पकड़ा गया. वही इस मामले में अन्य आरोपी डॉक्टर तिवारी फरार हो गया है जबकि बलौदा बाजार पुलिस को यह जानकारी था कि इस पूरे मामले में सहर के जाने माने डॉ तिवारी भी शामिल है नाम जद रिपोर्ट होने के बावजूद थाने महज दस कदम की दूरी में रहने वाले डॉक्टर पुलिस के नाक के नीचे से फरार हो जाता है जिससे को पुलिस के कार्य प्रणली पर कई सवाल खड़े हो रहे है बता दें कि महिला ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक (एएनएम) बिना संसाधन के अपने घर पर महिलाओं की नसबंदी कर रही थी. ऐसे ही नसबंदी के एक प्रकरण में मरीज की मौत होने पर प्रशासन ने एएनएम के घर-क्लीनिक में छापा मारकर कार्रवाई कर सीलबंद किया था. वहीं प्रशासन की कार्रवाई से पहले ही आरोपी एएनएम घर-क्लीनिक में ताला लगाकर फरार हो चुकी थी.

लडकी की संदिग्ध अवस्था में हुई थी मौत ,एक माह के बाद भी नही हुई जांच, ग्रामीणों ने घेरा थाना....पढ़े क्या है पूरा मामला

सूर्यकान्त यादव @ राजनांदगांव-- लडकी की संदिग्ध अवस्था में हुई थी मौत, एक माह होने के बाद भी नही हुई जांच, छुरिया थाना क्षेत्र के भोलापुर गांव में 2 अप्रैल को लडकी की पेड पर मिली थी लाश, नाराज ग्रामीणो ने किया थाना का घेराव, पुलिस ने शक के आधार पर गांव के युवक को पूछताछ के लिये लाया थाना। राजनाांदगाव जिले के खुज्जी विधानसभा क्षेत्र और छुरिया थाना क्षेत्र के ग्राम भोलापुर में एक माह पहले 15 वर्षीय नाबालिग लडकी की जमीन पडी लाश मिली थी जिस पर लडकी के गर्दन पर गमछा और लडकी के अंदर के कपडे कुछ दूर पर थे और शरीर पर कई चोटे थे जिसपर परिवार और ग्रामीणो ने हत्या का आशंका जाहिर किया था लेकिन एक माह के बाद भी मामले की जाँच नही करने पर नाराज ग्रामीणो ने थाना का घेराव कर जाँच कर दोषीयो पर कार्यवाही करने की मांग की है। - जिले के छुरिया थाना क्षेत्र के ग्राम भोलापुर मे माहभर पहले एक 15 वर्षीय नाबालिग लडकी की लाश संदिग्ध अवस्था में पेड के नीचे मिली थी। पुलिस मर्ग कायम कर विवेचना में जुटी थी और विवेचना के दौरान लडकी के परिजनों ने उसकी हत्या की आशंका जाहिर की थी। वही घटना को माह भर बीत जाने के बाद भी पुलिस द्धारा किसी तरह की जांच नही करने का आरोप लगाकर ग्रामीणो ने छुरिया थाना का घेराव कर हंगामा मचाया और निष्पक्ष जाँच की मांग करते हुए आरोपी पर कार्यवाही की मांग की है। वही अपने लडकी के हत्या के आशंका जताते हुए लडकी की माँ ने बताया की लडकी अपने सहेली से बात करने की बात बनाकर गांव के एक लडके से करती थी और वह रोजना करती थी और लडकी 1 अप्रैल को घर से निकली थी और 2 तारीक को गांव के खेत पर लाश मिली मृतक लडकी जिस पेड पर फांसी लगी थी इस दौरान लडकी पेड से नीचे गिरी हुई थी और उसके पैर पर में चप्पल थी, जहाँ पर उसकी लाश थी वहा एक बोर था जिसपर लडकी के कपडे सुखा मिला शरीर पर चोटे के निशान थे वही लडकी एक रात किसके साथ थी ओ अब तक जाँच का विषय है वही गांव के लडके से लडकी की लगातार बात होती थी और लडकी जिस दिन घर से निकली उस दिन भी लडके से बात हुई थी उसके बाद लडकी लापता थी जिस पर परिजनो ने लडके पर शक जाहिर करते हत्या का आशंका जताया था पर एक माह बाद भी पुलिस ठीक से जाँच नही करने पर नाराज ग्रामीणो ने छुरिया थाना घेराव कर दोषीयो पर कार्यवाही करने की मांग कर हंगामा मचाया। - वही लडकी के संदिग्ध अवस्था में एक माह पहले लाश मिलने पर परिजनो ने लडकी की हत्या होने की आशंका जाहिर किया पर विवेचना अभी तक नही करने से नाराज ग्रामीणो ने छुरिया थाना का घेराव कर हंगामा मचाने की सूचना पर डोंगरगढ एसडीओपी एम एस चंद्रा और क्षेत्र की विधायक छन्नी साहू मौके पर पहुची और नाराज ग्रामीणो को जाँच का आश्वासन दिया और छुरिया थाना के जाँच अधिकारी भांडेकर को इस मामले से हटाकर मामले की जाँच की जिम्मेदारी चिचोला प्रभारी कमलेश देवागंन को दिया वही जिस दिन लडकी घर से निकली उस दिन भी लडके से बातचीत का रिकॉर्ड है वही लडकी का लडके के मोबाइल पर 192 बार बात करने का रिकॉर्ड सामने आया है जिस पर पुलिस ने गांव के अजय चतुर्वेदी नामक युवक को पूछताछ के लिये थाना लाया गया और निष्पक्ष जाँच कर दोषीयो पर कार्यवाही करने के आश्वासन पर ग्रामीण शांत हुए।

छतीसगढ़ : अंतरराज्यीय शराब तस्कर गिरफ्तार

सूर्यकान्त यादव@ राजनांदगांव -- अंतरराज्यीय शराब तस्कर को लालबाग पुलिस और विशेष टीम ने पकड़ा.. 35 पेटी अंग्रेजी शराब सहित परिवहन में प्रयुक्त कार जप्त, मध्य प्रदेश से लाकर छत्तीसगढ़ में खपाते थे अवैध शराब..बाघनदी के पास पुलिस नाकेबंदी को तोड़कर राजनांदगांव की ओर भाग रहे आरोपियों को चिचोला में घेराबंदी कर किया गया गिरफ्तार.. थाना लालबाग एवं पुलिस चौकी चिचोला की कार्यवाही।

3 शातिर चोर गिरफ्तार 1 फ़रार... पढ़े पूरा मामला

3 शातिर चोर गिरफ्तार और 1 अभी है फरार बलरामपुर पुलिस ने की कार्यवाही पेट्रोलपम्प .गुप्ता ऑटोमोबाइल . गुप्ता जनरल स्टोर के संचालक के घर में की थी चोरी 10 लाख से ऊपर की हुई थी उतरप्रदेश के बलिया जिले के रहने वाले है चोर . एसपी टी आर कोसीमा ने किया मामले का खुलासा। यह घटना रघुनाथनगर की है, जहां 22 तारीख की रात को थाना के ठीक सामने 5 लाख नगद और लगभग 8लाख रुपये की जेवर चोरी कर ली गई थी। ताराचंद गुप्ता के घर में चोरी करने के आरोप में वीर अभिमन्यु उर्फ मोनू, संदीप साहनी और मनोज साहनी को गिरफ्तार किया गया है। वहीँ आरोपी अरुण साहनी फरार है। आरोपी के पास से 2 लाख 70 हजार नगद और 5 लाख रुपए के जेवरात बरामद किया गया है।

सक्ति खरसिया बना सट्टेबाजों के लिए स्वर्ग ..... सट्टे के कर्ज तले लोग आत्महत्या करने हो रहे मजबूर....जिम्मेदार मौन .....

जांजगीर /रायगढ़:- सक्ति एवं खरसिया सट्टेबाजों के लिए इन दिनों स्वर्ग साबित हो रहा है भूतनाथ एवं मुंबई सट्टा के माध्यम से प्रतिदिन हजारों गरीबों की गाढ़ी कमाई को लूटने का खेल लंबे समय से बदस्तूर जारी है वर्तमान मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ भूपेश बघेल के द्वारा सभी पुलिस कप्तानों को सट्टे पर तत्काल कार्यवाही करने सख्त निर्देश दिए गए थे इसके बावजूद सक्ति एवं खरसिया में प्रतिदिन खुलेआम सट्टेबाजों की गद्दी पर कभी कोई कार्यवाही नहीं हुई इक्का-दुक्का सट्टा पट्टी लिखने वालों पर कार्यवाही करके वाहवाही लूटने का प्रयास जरूर किया गया लेकिन खरसिया एवं सक्ति के माध्यम से पूरे छत्तीसगढ़ में क्रिकेट सट्टा का कारोबार चलाने वाले सीधे नागपुर एवं मुख्यालय से संपर्क में रहकर प्रतिदिन करोड़ों रुपए का सट्टा खिलाने वाले इन खाई वालों तक पुलिस नहीं पहुंच सकी है जिस कारण सट्टा के माध्यम से रातों-रात धनवान बनने के चक्कर में आज का युवा वर्ग बर्बाद होता चला जा रहा है पिछले 1 वर्षों में सट्टा के वजह से ही रायगढ़ के पांच से छह लोगों ने मौत को गले लगा लिया था खरसिया में भी सैकड़ों परिवार सट्टेबाजों के गिरफ्त में बर्बादी के कगार पर हैं दुखद बात तो यह है कि दिल्ली चलने वाली मटका बाजार में अब महिलाएं भी बुरी तरीके से फंस चुकी है। दिखाने को अन्य धंधों के माध्यम से एवं विभिन्न सामाजिक संस्थानों धार्मिक संस्थानों को दान धर्म एवं डोनेशन देकर अपनी अलग छवि का प्रयास करने वाले यह सट्टा खाईवाल बकायदा एसी कमरों में बैठकर दर्जनों लैपटॉप एवं मोबाइल के माध्यम से अपने सैकड़ों हजारों लोगों की फौज के साथ प्रतिदिन करो रुपए के सट्टा के इस खेल को अंजाम देते हैं इनके घरों में सुरक्षा के तौर पर बकायदा 20 20 40 सीसी कैमरे लगे होते हैं ताकि यदि गलती से भी पुलिस अथवा प्रशासनिक कार्रवाई के लिए पहुंचे तो इन खाई वालों को उसकी सूचना हो जाए और यह अपना सामान समेट कर रफूचक्कर हो जाए कहते हैं पुलिस अगर चाहे तो पाताल से भी मुजरिम को खोज निकलती है ।लेकिन जब इन सट्टेबाजों के घर में छापा मारकर इन को गिरफ्तार करने की बात आती है तो पुलिस के अधिकारियों के द्वारा सर्च वारंट एवं विभिन्न कानूनी अड़चनों का हवाला देते हुए कार्यवाही कर पाने में असमर्थता जताई जाती है ना जाने ऐसी कौन सी मजबूरी है कि इन सवालों सट्टा खाई वालों के गिरेबान तक पुलिस के आला अधिकारियों के हाथ नहीं पहुंच पा रहे इसी का फायदा उठाते हुए यह सट्टा खाईवाल दिनदहाड़े अपनी गद्दी में बैठकर एसी कमरों में दर्जनों लैपटॉप के साथ दर्जनों मोबाइल के माध्यम से बेखौफ करो रुपए का अवैध कारोबार को अंजाम दे रहे हैं और यह खाईवाल बड़े शान से कहते घूमते फिरते हैं कि आगे पीछे हमारी सरकार यहां के हम हैं राजकुमार और निश्चित तौर पर या गाना इन खाई वालों के लिए फिट बैठता है कभी उच्चाधिकारियों के द्वारा कार्रवाई के निर्देश होते हैं तो पट्टी लिखने वाले या खेलने वालों को कार्रवाई के नाम पर 10716 151 आदि धाराओं के तहत कार्यवाही किया जाता है किंतु बड़े पैमाने पर प्रतिदिन करोड़ों का काला कारोबार करने वाले इन सट्टेबाजों तक आला अधिकारी पहुंचना भी नहीं चाहते कुछ सट्टा खाई वालों ने नाम न छापने की शर्त पर मीडिया को यह भी बताया कि हवलदार से लेकर के उच्चाधिकारियों तक जिसकी जितनी रसूख उसको उतना हफ्ता हमारे द्वारा दिया जाता है ।यही कारण है कि जब कभी कोई बड़ी कार्रवाई की संभावना होती है हमें पहले से ही शहर छोड़ भाग जाने या अपना कारोबार एक-दो दिन बंद करने सूचना मिल जाती है जिससे हम सतर्क हो जाते हैं सट्टा खाई वालों के इन बातों से तो स्पष्ट है की कार्यवाही करने वाले अधिकारियों के जो हाथ जिनके माध्यम से कार्यवाही की जानी है उनके इन सवालों से काफी मधुर संबंध रहते हैं यही कारण है छापा मारने के लिए टीम रवाना होने से पहले ही इन खाई वालों को कार्यवाही की सूचना दे दी जाती है पिछले एक-दो सालों में सट्टेबाजों के गिरफ्त में कर्ज के तले 1 दर्जन से अधिक लोगों ने आत्महत्या कर मौत को गले लगा लिया है दर्जनों परिवार इन सट्टेबाजों के चंगुल में फंसकर बर्बाद हो चुके हैं इसके बावजूद उनके विरुद्ध किसी प्रकार की ठोस कार्यवाही नहीं होना इस काले कारोबार को बढ़ावा देने का काम कर रही है ।क्रिकेट सट्टा के वालों ने मीडिया को नाम न छापने की शर्त पर बताया कि आईपीएल में मैच भले ही कोई जीते हर रोज खाई वालों की चांदी रहती थी और आईपीएल क्रिकेट के दौरान करोड़ों रुपए का प्रॉफिट इन खाई वालों को हुआ है किसी खाईवाल के द्वारा 15 से 20 लाख की नई गाड़ी ली गई है तो किसी के द्वारा करोड़ों की जमीन खरीदी गई है कोई खाईवाल करोड़ों की आलीशान बिल्डिंग तैयार कर रहा है और इन को किसी भी प्रकार का कोई कानूनी कार्रवाई का भय नहीं है ।यही कारण है कि आज हजारों परिवार बर्बाद होने के बाद भी इन खाईवालों तक कानून के हाथ नहीं पहुंच पा रहे हैं क्या कभी इन ऊंची पहुंच का दावा करने वाले खाई वालों तक कानून के हाथ पहुंच पाएंगे या सिर्फ छोटे-मोटे सट्टा पट्टी लिखने वालों एवं खेलने वालों के खिलाफ ई कारवाही कर कानून के रखवाले अपनी पीठ थपथपा आएंगे यह एक बड़ा सवाल उठने लगा है.....

चोरी के मामले में फरार आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

रायपुर:- गुढिय़री थाना क्षेत्र के रामनगर में एक मकान से 6 लाख नकदी रकम व जेवर चोरी करने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को पूर्व में गिरफ्तार किया था। वहीं मामले में फरार एक आरोपी को आज पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के पास से नकदी 1 लाख 2 हजार रुपए, 6 नग सोने की पत्ती, 4 नग सोने की गेहूं दाना, मोबाइल व तीन जोड़ी चांदी की पायल जब्त की है। मामले का खुलासा करते हुए एडिशनल एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि पकड़े गए आरोपी का नाम दीपक वर्मा उर्फ जीतू है। बताया जाता है कि 22 मई के दोपहर दीपक वर्मा अपने दो साथी कुशल साहू व कान्हा गिरी के साथ रामनगर निवासी सोहद्रा बाई के यहां चोरी करने घुसे थे। इस दौरान आरोपी कुशल साहू सोहद्रा बाई के पुत्री को अपनी बातों में उलझाकर रखा था और आरोपी दीपक वर्मा व कान्हा गिरी ने चोरी की थी। वही अपराध दर्ज होने के बाद पुलिस ने कुशल साहू व कान्हा गिरी को गिरफ्तार कर 4 लाख 70 हजार नकदी और कुछ जेवर बरामद किए थे। पुलिस ने आरोपी कुशल साहू व कान्हा गिरी को जेल भेज दिया था जबकि दीपक वर्मा फरार था। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर आज राजनांदगांव बस स्टैण्ड से गिरफ्तार किया है।

अवैध रूप से सिरप बेचने वाला आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। खमतराई पुलिस के टीम ने मुखबिर की सूचना पर अवैध रूप से आरसी कफ प्लस सिरप बेचने वाला आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के पास से 144 कफ सिरफ की प्लास्टिक शीशी जब्त की है। पकड़े गए आरोपी का नाम हिम्मत लाल बंजारे (30) निवासी कोटा बिलासपुर है। वर्तमान में वह मुर्राभट्ठी गुढिय़ारी में रहता है।

लव इश्क और धोखा ...रोशनी मिश्रा ने आखिर क्यों लगाई मौत को गले.....कौन है रोशनी के मौत के जिम्मेदार ...जल्द होगा इनसाइड स्टोरी का खुलासा BBN24 न्यूज़ पर

रायगढ़/खरसिया :- आखिर कौन है रोशनी मिश्रा .... कौन है जो रोशनी मिश्रा को आत्महत्या के लिए उकसाया..... क्यों अभी तक रसूखदार नेता के पुत्र के पास नहीं पहुंची खाखी..... आपने क्राइम की खबरों में हमेशा तो यह देखा होगा कि लव इश्क और धोखा होता है और जब धोखा मिलता है तो लोग ऐसी वारदात कर देते हैं जो क्राइम की दुनिया में अपना नाम छोड़ जाते हैं । ऐसा ही एक घटना भिलाई की युवती के साथ हुआ दरसल में भिलाई की युवती रोशनी मिश्रा का प्रेम प्रसंग खरसिया के रसूखदार नेता के पुत्र के साथ था लेकिन जब उसे प्यार में धोखा मिला तो उसने आत्महत्या कर ली जिसमें उसने सुसाइड नोट पर लिखा था उस धोखेबाज का नाम लेकिन अब तक खाकी रसूखदार नेता के पास नहीं पहुंच पाई ।आखिर क्या वजह रही की वारदात को घटे एक साल से भी ज्यादा होने पर भी नहीं हो पाई कार्यवाही.....पूरी खबर BBN24 न्यूज़ इनसाइड स्टोरी पर जल्द होगा खुलासा ......

छतीसगढ़ : राजधानी में सट्टा गिरोह का भंडाफोड़ 56 हजार नगद के साथ दो आरोपी गिरफ्तार

राजधानी रायपुर के सिविल लाइन पुलिस ने वर्ल्डकप में सट्टा खिलाते दो आरोपी को गिरफ्तार किया है. जानकारी के अनुसार पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि सटोरी वर्ल्ड कप में सट्टा खिला रहे हैं. सिविल लाइन पुलिस ने कटोरा तालाब और महावीर नगर छापामार कार्रवाई करते हुए रंगे हाथ आरोपी कपिल डोलाणी और नितिन तोलानी को गिरफ्तार किया है. उनके पास से नगद 56 हजार, डायरी केलकुलेटर, 1 एलईडी टीवी, 4 मोबाइल जब्त किया है. दोनों के खिलाफ पुलिस जुआ एक्ट के तहत की कार्रवाई कर रही है.

युवती की अधजली लाश मिलने से क्षेत्र में फैली सनसनी, पुलिस जुटी जांच में जुटी

Bbn24news। भिलाई। कुम्हारी थाना क्षेत्र के अकोला गांव में शनिवार सुबह एक युवती की अधजली लाश मिली। केडिया डिसलरी कंपनी की बंद पड़ी फैक्टरी के आगे झाड़ियों में लाश मिली। लाश मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। बताया जा रहा है कि मृतका का चेहरा और कपड़े जल हुए हैं। लाश के दांए हाथ का कंगना मिला है। कुम्हारी पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। पुलिस के अनुसार युवती की हत्या कर साक्ष्य मिटाने की नीयत से लाश में आग लगा दी गई। मृतका की आयु 25 से 35 वर्ष होने का अुनमान लगाया जा रहा है। वहीं पुलिस आसपास के लोगों से पूछताछ कर रही है और मृतका की शिनाख्त के प्रयास में जुटी है। युवती की अधजली लाश मिलने से क्षेत्र में दहशत व्याप्त है।

भाटापारा विधायक का भतीजा धान घोटाले मामले में गिरफ्तार,भाजपा विधायक शिवरतन ने भूपेश सरकार पर लगाया बदलापुर राजनीति आरोप

 रायपुर/ भाटापारा – भाटापारा के विधायक एवं भाजपा प्रवक्ता शिवरतन शर्मा के भतीजे अजय शर्मा को गरियाबंद के मैनपुर थाने 2014-15 के करोड़ों के हाई-प्रोफाइल मामले धान घोटाला मामले में पूछताछ एवम बयान दर्ज करने को लेकर बुलाया गया,लेकिन वही तुरंत मामला बना कर कारवाही करते हुए गिरफ्तार कर लिया गया, 2014-15 में अजय शर्मा की धान की ट्रांसपोर्टिंग का काम गरियाबंद में करते थे ,उसी समय धान घोटाले का मामला सामने आया था । वर्ष 2015 में मैनपुर थाने में मामला दर्ज हुआ था । उसी तरह धान घोटाले का प्रकरण 3 थानों में दर्ज हुया था जिसमे 9 मामले अजय शर्मा पर दर्ज है। विधायक शिवरतन शर्मा के भतीजे की गिरफ्तारी राजनीतिक गलियारों में माहौल को गरमा दिया ।

2 लोगो की हुई है इस मामले में गिरफ्तारी

भाटापारा से विधायक के भतीजे अजय शर्मा के साथ गोबरा नवापारा का रहने वाला संदीप कोटक को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। ये मामला 4 साल पुराना है। वही शिवरतन शर्मा इसे राजनीतिक रंजिस के साथ राजीनीतिक दबाव की कार्यवाही बात रहे है,भूपेश सरकार पर आरोप लगाते हुए बदलापुर की राजनीति करने की बात कही,न्यायालय में लड़ाई लड़ने की बात कही । शिवरतन शर्मा ने कांग्रेस पर राजनीतिक दृष्टिकोण से मुझे और मेरे परिवार को परेसान करने का आरोप लगाया और भूपेश सरकार को स्थानीय चैंनल में चर्चा करते हुए कहा कि भूपेश सरकार हमारे खिलाफ कितने भी मामले बना ले कितने दिन भी जेल में रहना पड़े लेकिन हमको झुका नही पाएगी ।
 
शिवरतन शर्मा ने मीडिया से चर्चा करते हुए  कहा कि हम पहले से ही बोलते रहे हैं कि भूपेश सरकार बदलापुर की राजनीति कर रही है,झूठे मामले बनाकर के भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को परेशान किया जा रहा है उसी के कड़ी में मेरे भतीजे का यह प्रकरण है जो प्रकरण 2014-15 का है मेरा भतीजा लगातार गरियाबंद में धान का एक्सपोर्टिंग का काम कर रहा था और जिस साल 2014-15 में मामला बना उस समय लगभग 6000 गाड़ियों की ट्रांसपोर्टिंग हुई थी,उसमें 15 गाड़ियों की धान की चोरी का मामला था , उसी समय वैसा ही मामला बलौदा बाजार में 13 गाड़ियों का हुआ था,13 गाड़ियों की चोरी करने वाले चोर पकड़े गए थे और मेरे भतीजे ने उस समय गरियाबंद थाने में लिख कर के दिया था कि जो गाड़ियां बताई जा रही है ट्रांसपोर्टिंग के लिए कि सोसायटीओं से धान निकला और संग्रहण केंद्रों में नहीं पहुंचा , वह गाड़ियां मेरी गाड़ी नहीं है क्योंकि ट्रांसपोर्टर जब ट्रांसपोर्टिंग करता है वह अपनी गाड़ियों का नंबर लिख करके देता है मार्कफेड में । हमने उन गाड़ियों का नंबर भी नहीं दिया है । कलेक्टर ने फ्री दिया था जो रेट टेंडर का है उस रेट में सोसायटीया धान का परिवहन करा सकती है सोसायटीओं ने धान का परिवहन कराया उसके लिए सोसायटी जिम्मेदार है और इसका सबसे बड़ा प्रमाण यह है कि जिन सोसायटीओं का धान गायब हुआ वह सोसायटीओ ने धान खरीद करके सोसायटीओं को उसकी भरपाई कर दिया । सोसायटीया गलत नहीं होती तो उसकी भरपाई क्यों करती सिर्फ राजनीतिक दृष्टिकोण से मुझे और मेरे परिवार को परेशान करने के लिए बयान लेने के लिए बुलाया गया और थाने में सीधा मामला कायम कर के गिरफ्तार कर लिया गया । बदलापुर की राजनीति है, मैं भूपेश सरकार को कहना चाह रहा हूं कि हमारे खिलाफ कितने भी मामले बना ले कितने भी दिन जेल में रहना पड़े पर हम को झुका नहीं सकती ।
शिवरतन शर्मा ने पुलिस पर राजीनीतिक दुर्भावनापूर्ण एवम राजीनीतिक दबाव में कार्यवाही का आरोप लगाया
शिवरतन शर्मा ने बताया कि अगला कदम वर्तमान में पहले हम जमानत कराएंगे और फिर न्यायालय में लड़ाई लड़ेंगे । इस मामले से जुड़े सारे दस्तावेज पुलिस को दिए जा चुके हैं लेकिन पुलिस दस्तावेज देखने को तैयार नहीं है , रायपुर से फोन जा रहा है उस फोन के आधार पर कार्यवाही की जा रही है , राजनीतिक दुर्भावना से और राजनीतिक दबाव पर कार्यवाही कर रही है पुलिस

पुलिस की बड़ी कार्यवाही 1400 पाव अग्रेजी शराब के साथ आरोपी गिरफ्तार

सूर्यकान्त यादव @BBN24NEWS. राजनांदगांव --अवैध शराब तस्कर के विरुद्ध लालबाग पुलिस एवम टीम की कार्यवाही,1400 पाव गोवा व्हिस्की अंग्रेजी शराब एवं तस्करी में प्रयुक्त महिंद्रा वाहन जप्त,आरोपी महाराष्ट्र से दुर्ग की तरफ ले जा रहे थे शराब..लालबाग पुलिस की कार्यवाही।

जांजगीर चांपा: फर्जी दस्तावेज के आधार पर शिक्षा कर्मी वर्ग 3 के नौकरी करने वाले जाल साज़ शिक्षाकर्मी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

जांजगीर चांपा:- फर्जी दस्तावेज के आधार पर शिक्षा कर्मी वर्ग 3 के नौकरी करने वाले जाल साज़ शिक्षाकर्मी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। दरसल में जिले के हसौद थाना क्षेत्र अंतर्गत मरघट्टी निवासी चितरंजन प्रसाद कश्यप जोकि 2007 में कक्षा बारहवीं का नियमित छात्र के रूप में पी पी एच आर हायर सेकेंडरी स्कूल मल्दा में बोर्ड परीक्षा दिया था। जिसमें वह एक विषय में अनुच्छेद हुआ था शिक्षा कर्मी वर्ग 3 के सीधी भर्ती हेतु फर्जी अंकसूची एवं खेल प्रमाण पत्र बनवा कर वर्ष 2007 में जनपद पंचायत कोरबा में आवेदन प्रस्तुत कर शिक्षा कर्मी वर्ग 3 की नौकरी प्राप्त कर दिनांक 20- 11 -2007 से प्राथमिक शाला ग्राम छूट में लगातार नौकरी अवैध रूप से करते चला आ रहा था। जिसकी शिकायत जांजगीर चांपा पुलिस अधीक्षक को किया गया था । जिसके बाद मामले की जांच की गई जांच में फर्जी शिक्षक होना पाया गया जिसके बाद आरोपी के खिलाफ मामला पंजीबद्ध किया गया मामला पंजीबद्ध होने के बाद से मुख्य आरोपी फरार हो गया गोपनीय सूत्र लगाकर मुख्य आरोपी की तलाश की जा रही थी। जिसके बाद 28 -05- 2019 को मुख्य आरोपी चितरंजन प्रसाद कश्यप को धारा  420 ,468,471,474 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया वही अन्य आरोपियों की तलाश जारी है।

 

 

जांजगीर चापा : सामाजिक बहिष्कार के मामले में 3 आरोपियों को शिवरीनारायण ने पुलिस किया गिरफ्तार..

आशीष कश्यप - bbn24news

जांजगीर चाम्पा जिले में सामाजिक बहिष्कार के मामले में 3 आरोपियों को शिवरीनारायण पुलिस ने गिरफ्तार किया वहीं इस मामले के 31 आरोपी अभी भी फरार हैं। दरअसल हसौद थाना क्षेत्र के कुर्मी समाज के युवक सनत कश्यप 2014 में साहू समाज की युवती से अंतरजातीय विवाह किया था। जिसके बाद उसका सामाजिक बहिष्कार कर दिया गया, काफी मिन्नतों के बाद ढाई लाख रुपये लेकर समाज मे शामिल किया गया जिसके बाद युवक ने सामाजिक बहिष्कार को चुनौती देते हुए शिवरीनारायण थाने में मामला दर्ज कराया।जिस पर 34 लोगों के खिलाफ एसपी पारुल माथुर के दखल देने के बाद 17 मार्च को मामला दर्ज हुआ जिस पर कार्यवाई करते हुए आज शिवरीनारायण पुलिस द्वारा 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 31 आरोपी अभी भी फरार चल रहे है जिसकी तफ्तीश जारी है।