बड़ी खबर

जम्मू-कश्मीर सरकार ने एक एडवाइजरी जारी कर तत्काल अमरनाथ यात्रियों को तुरंत घाटी छोड़ने को कहा ....बड़े आतंकी हमले की आशंका

जम्मू कश्मीर:- जम्मू कश्मीर सरकार ने पर्यटकों और अमरनाथ यात्रियों को तत्काल घाटी छोड़ने के निर्देश दिये हैं।साथ ही जम्मू-कश्मीर सरकार ने एक एडवाइजरी जारी कर तत्काल अमरनाथ यात्रियों को तुरंत घाटी छोड़ने को कहा है। एडवाइजरी में साफ तौर पर कहा गया है कि घाटी में आतंकी हमले का खतरा है। उन्होंने बताया कि अमरनाथ यात्रा के दौरान आतंकियों ने घाटी का माहौल बिगाड़ने की कोशिश की थी. बता दें कि घाटी में आतंकी बड़े हमले को अंजाम देने की फिराक में हैं, इसलिए हमने ग्राउंड पर ग्रिड को मजबूत करने की कोशिश की है. आपको बता दें कि 4 अगस्त तक पहले ही सरकार ने अमरनाथ यात्रा रोक दी थी, लेकिन अब यात्रा पूरी तरह से रोक दी गयी है। आतंकियों के पास से एम-24 स्नाइपर राइफल बरामद की गई थी. एडवाइजरी में कहा गया कि राज्य में बड़े आतंकी हमले इनपुट है, इसलिए आप लोग जल्द से जल्द अपनी यात्रा को पूरी करके लौट जाएं. इसके साथ ही अमरनाथ यात्रा को रोक दी गई है।

मुख्यमंत्री ने कृषि यंत्रों की पूजा करने के बाद हरेली यात्रा की शुरुआत की ..... गेड़ी डांस ..बैलगाड़ी की सवारी

रायपुर:– प्रदेश में छत्तीसगढ़ का लोक पर्व हरेली धूमधाम से मनाया जा रहा है  । सुबह हरेली तिहार यात्रा की शुरुवात मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निवास से हुई। मुख्यमंत्री निवास पर ग्रामीण साज़ सज्जा के साथ बैलगाड़ी में सवार होकर पहुँचे, जहां मुख्यमंत्री ने कृषि यंत्रों की पूजा करने के बाद हरेली यात्रा की शुरुआत की।

हरेली के दिन सुबह से किसान अपने हल, बैल,कुदाल और कृषि कार्य मे लगने वाले सभी यंत्रो को सफाई करने के बाद पूजा करते है, साथ ही गांव में अगल अलग खेल भी खेले जाते है। हरेली में गेड़ी का महत्व भी है। बच्चो से लेकर बड़ो तक गेड़ी चढ़कर घूमते और नाचते है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने हरेली यात्रा का शुभारम्भ कर अपने आवास से बैलगाड़ी की सवारी की। फिर गेड़ी में चढ़कर डांस किया, और प्रदेशवासियों को हरेली तिहार की बधाई दी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष बने 7 जुलाई से एक साल का होगा कार्यकाल भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने जारी की सूचना

रायपुर:- 7 जुलाई 2019 से आगामी एक साल के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष बनाए जाने पर कांग्रेस ने बधाई दी है। मध्य क्षेत्रीय परिषद के अध्यक्ष देश के गृहमंत्री होते है। भारत सरकार के गृह मंत्रालय के अन्तर्राज्य परिषद सचिवालय द्वारा इसकी सूचना जारी कर दी गई है। क्षेत्रीय परिषदें संबंधित क्षेत्रों के संतुलित सामाजिक-आर्थिक विकास के साथ ही अंतर राज्यीय समस्याओं को हल करने में परिषद में शामिल राज्यों के बीच और केन्द्र के साथ स्वस्थ्य वातावरण निर्माण में एक उच्च स्तरीय सलाहकार मंच स्थापित करता है। गौरतलब है कि राज्य पुनर्गठन अधिनियम 1956 के तहत उत्तर, मध्य, दक्षिण, पूर्वी और पश्चिमी क्षेत्रीय परिषदों का गठन किया गया है। वर्तमान में मध्य क्षेत्रीय परिषद में छत्तीसगढ़ के अलावा उत्तप्रदेश, उत्तराखण्ड और मध्यप्रदेश राज्य शामिल है। केन्द्रीय गृह मंत्री सभी क्षेत्रीय परिषद के अध्यक्ष होते है। प्रत्येक क्षेत्रीय परिषद में शामिल राज्य के मुख्यमंत्री को रोटेशन में परिषद का उपाध्यक्ष बनाया जाता है। जिनका कार्यकाल एक वर्ष का होता है। वर्तमान में उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष थे जिनका कार्यकाल बीते 6 जुलाई को समाप्त हो गया है। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अब मध्य क्षेत्रीय परिषद के उपाध्यक्ष होंगे।

हमारे सामने चुनौती है कि अपने संस्कृति को बचाएं: हरेली के रंग को उत्साह से भरे मुख्यमंत्री ने हरेली तिहार पर राज्य के नागरिकों को दी बधाई

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने हरेली तिहार पर छत्तीसगढ़ के सभी नागरिकों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है। उन्होंने कहा है कि आज के समय की चुनौती है कि हम अपने संस्कृति को बचाएं।

    मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ी में कहा है कि छत्तीसगढ़ के सब्बो निवासी मन ला हरेली तिहार के बहुत बहुत बधाई । उन्होंने कहा हमर छत्तीसगढ़ के कृषि संस्कृति के अनुसार हरेली हा पहली तिहार ए। गांव-गंवई के जिनगी मा खेती के स्थान महतारी असन होथे . खेती हा महतारी असन हमर भरन पोसन करथे . एखरे सेती सावन के अमावस के ए तिहार हा जन जन के जिनगी से जुड़ जथे।

    मुख्यमंत्री ने कहा हरेली हा हमर धरती माता के हरियाली के संदेस लेके आथे, अउ संग में हमर संस्कृति के संदेस घलो लेके आथे। हमर सामने ए समय चुनौती हे कि हम अपन संस्कृति ला कइसे बचाबो. आप मन के सरकार हा इही बात ला सोच के हरेली तिहार के छुट्टी देके फैसला करीस हे। आवव, हम अपन परंपरा ला, नवा जीवन देबर हरेली ला खूब धूम धाम से मनावन। गोठान के साफ सफाई करन. गऊ माता अउ पसुधन के जतन करन. नांगर, रापा, कुदारी के पूजा करन अउ गुड़-चीला के भोग चढ़ावन , लइका-जवान मन गेंड़ी चढ़ैं. गांव देहात के पारंपरिक खेल कूद के आयोजन करन. हरेली के रंग ला उत्साह ले भरना हे ।

    मुख्यमंत्री ने कहा भाई बहिनी अउ सब्बो सियान मन से मनुहार करत हंव कि आवव एक नवा सुरुआत करन अउ हरेली ला हम अपन बर अउ नवा पीढ़ी बर छत्तीसगढ़ के  संस्कृति के पहिचान बनावन. हमन छत्तीसगढ़ म नरवा, गरुवा, घुरुवा, बारी योजना सुरु करे हन, उखरो उद्देस्य इही हे. मोला विस्वास हे कि इही योजना हा छत्तीसगढ़ के चारो चिन्हारी ला फेर से जीवन दीही अउ हम सबके सपना साकार होही।

BBN24news: पढ़े निगम-मंडल के अध्यक्षों की पहली संभावित सूची

डॉ किरणमयी नायक – अध्यक्ष, नागरिक आपूर्ति निगम शैलेष नितिन त्रिवेदी – अध्यक्ष, गृह निर्माण मंडल अटल श्रीवास्तव – अध्यक्ष, सीएसआईडीसी रामगोपाल अग्रवाल – अध्यक्ष, खनिज विकास निगम दीपक दुबे (रायपुर)- अध्यक्ष, रायपुर विकास प्राधिकरण विभा साहू – अध्यक्ष, समाज कल्याण बोर्ड कविता साहू – अध्यक्ष, निःशक्तजन वित्त एवं विकास निगम अजय अग्रवाल – अध्यक्ष, वन विकास निगम जतीन जायसवाल – उपाध्यक्ष, वन विकास निगम अमरजीत छाबड़ा – उपाध्यक्ष, वन विकास निगम मलकीत सिंह गेंदू – अध्यक्ष, पर्यटन मंडल एजाज ढ़ेबर – उपाध्यक्ष, पर्यटन मंडल जितेंद्र मुदलियार – उपाध्यक्ष, पर्यटन मंडल फूलोदेवी नेताम – अध्यक्ष, महिला आयोग पंकज शर्मा – अध्यक्ष, मंडी बोर्ड भवानी शंकर शुक्ल – अध्यक्ष, युवा आयोग सुरेंद्र शर्मा – अध्यक्ष, बीज निगम आरपी सिंह – अध्यक्ष, पाठ्य पुस्तक निगम विकास तिवारी – अध्यक्ष, भवन एवं सन्निर्माण कर्मकार मंडल सफी अहमद – अध्यक्ष, ऊर्दू अकादमी नरेश डाकलिया – अध्यक्ष, मार्कफेड महेंद्र छाबड़ा – अध्यक्ष, राज्य भंडार गृह निगम हर्षद मेहता – अध्यक्ष, वेबरेज कॉर्पोरेशन

पैसों की कमी ,अस्पताल ने कैंसर का इलाज करने से कर दिया इंकार, जनचौपाल में सीएम भूपेश ने दी संजीवनी सहायता

Bbn24news : कैंसर की बीमारी से लड़ रहे अनूप गुप्ता , ने अपनी पत्नी और बेटी के साथ जनचौपाल में सीएम भूपेश बघेल से मुलाकात की. कैंसर की बीमारी और ऊपर से आर्थिक तंगी, इस वजह से वे उन्हें अपना इलाज कराने में दिक्कतें आ रही थी. पत्नी और बेटी सहित पहुंचे गुप्ता ने सीएम को बताया कि पैसा की कमी के कारण नया रायपुर के एक निजी कैंसर चिकित्सालय द्वारा उनका ईलाज नहीं किया जा रहा है. मुख्यमंत्री ने तुरंत उन्हें संजीवनी योजना से लाभान्वित करने के तत्काल निर्देश दिए और अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने को कहा है ।।

BBN24 BIG NEWS: दंतेवाड़ा - प्रेशर बम के चपेट में आने से CRPF का एक जवान शहीद । सातधार मालेवाहि कैम्प के समीप हुवा ब्लास्ट ।

BBN24NEWS: दंतेवाड़ा। एक बार फिर से नक्सलियों की नापाक कारतूत देखने को मिला है. नक्सली द्वारा छुपा कर रखे प्रेशर आईईडी बम के विस्फोट होने से सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया है. घटना बस्तर के मारडूम थानाक्षेत्र का है.

दंतेवाड़ा एसपी अभिषेक पल्लव ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि सीआरपीएफ 195 बटालियन में पदस्थ जवान रोशन कुमार (23 वर्ष) अपनी ड्यूटी से पूसपाल बोदली कैम्प लौट रहा था, तभी बुधवार सुबह 6.15 बजे 700 मीटर दूर आईईडी बम ब्लास्ट हो गया. जिससे जवान शहीद हो गया. शहीद रोशन कुमार बिहार का रहने वाला है. इसके अलावा उसके साथ मौजूद अन्य जवानों को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है सभी सुरक्षित है. सीआरपीएफ के जवान सर्चिंग कर लौट रहे थे. तभी नक्सलियों के आईईडी बम की चपेट में जवान रोशन आ गया. बता दें कि नक्सलियों द्वारा नक्सल शहीदी सप्ताह मनाया जा रहा है. जिस वजह से जगह-जगह बैनर पोस्टर और बम ट्रांसप्लांट कर छोड़ रहे हैं. जिससे उनके इस नापाक कारतूत में जवान फंस जाए औऱ ठीक हुआ भी कुछ ऐसा. जिससे एक जवान शहीद हो गया. कल एक ग्रामीण पर पुलिस की मुखबिरी करने का आरोप लगाते हुए नक्सलियों ने जन आदालत में हत्या कर दी थी.

मुख्यमंत्री निवास पर जन चौपाल: भेंट-मुलाकात का आयोजन आज

 रायपुर, 31 जुलाई 2019 मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल के रायपुर स्थित निवास में कल बुधवार 31 जुलाई को जनचौपाल, भेंट-मुलाकात का आयोजन किया जाएगा। मुख्यमंत्री के घर के दरवाजे आगंतुकों के लिए खुले रहेंगे। जनचौपाल में मुख्यमंत्री जनसमस्याओं, सुझावों, जनहितकारी योजनाओं के फीड बैक से अवगत होंगे और आमजनों तथा संस्थाओं के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेंगे। जन चौपाल का आयोजन सुबह 11 बजे से शुरू होगा, इसके लिए पंजीयन का कार्य दोपहर एक बजे तक होगा।

हॉफ बिजली बिल योजना से राज्य के 32 लाख उपभोक्ता को मिली बिजली बिल में 165 करोड़ रूपए की छूट

 रायपुर, 30 जुलाई 2019 मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज यहाँ मंत्रालय में छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी के कामकाज की विस्तार से समीक्षा बैठक ली। उन्होंने नागरिकों को दी जाने वाली विद्युत उपभोक्ता सेवाओं को और बेहतर बनाए जाने पर जोर दिया है।

     बैठक में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल सरकार द्वारा हॉफ बिजली बिल योजना के माध्यम से उपभोक्ताओं को मिलने वाले लाभ की जानकारी दी गई और बताया गया कि इस योजना से अब तक 32 लाख से अधिक उपभोक्ता लाभांवित हुए हैं तथा इन्हें 165 करोड़ रूपए की छूट बिजली बिलों में प्रदान की जा चुकी है। 

    बैठक में छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रिब्यूशन कंपनी के अधिकारियों ने पिछले वर्ष की तुलना में बिजली आपूर्ति में हुए सुधार और विद्युत व्यवधान में आए कमी की जानकारी दी। अध्यक्ष श्री शैलेन्द्र शुक्ला ने बताया कि विगत वर्ष 2018 की प्रथम छमाही में फीडर की खराबी से प्रति फीडर 4.48 घंटे प्रति माह विद्युत आपूर्ति बाधित हुई जिसकी तुलना में इस वर्ष 2019 की प्रथम छमाही में यह घटकर 3.67 घंटे प्रति फीडर प्रति माह हो गई। विगत वर्ष 4 हजार 444 मेगावॉट विद्युत मांग की तुलना में इस वर्ष यह मांग बढ़कर 4 हजार 760 मेगावॉट होने पर भी विद्युत की उपलब्धता रही तथा बिजली की कमी के कारण किसी भी प्रकार की कटौती नहीं की गई। 
        मुख्यमंत्री ने इस दिशा में और अधिक सुधार लाने पर जोर दिया तथा प्रगति पर संतोष व्यक्त करते हुए विद्युत उपलब्धता को निर्बाध और सुचारू बनाने की दिशा में और कदम उठाए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने उपभोक्ता सेवा के सरल, सुगम और त्वरित निराकरण करने के लिए तंत्र को तकनीकी तौर पर मजबूत करने तथा अधिकारियों की जवादेही सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। 

    मुख्यमंत्री   बघेल ने विगत वर्ष की तुलना में इस वर्ष पहली छमाही में विद्युत अवरोध में 18 प्रतिशत की कमी आने पर संतोष व्यक्त करते हुए निर्बाध और सुचारू विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने के प्रयास किए जाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों से बिजली बंद होने की शिकायतें प्राप्त हो रही है। बिजली की आपूर्ति सुचारू बनाए रखने के लिए फिल्ड के अधिकारियों तथा कर्मचारियों को अधिक जवाबदेह होना चाहिए।
 
    मुख्यमंत्री ने आम उपभोक्ताओं से विद्युत सेवा तथा शिकायत समाधान के लिए कंपनी के टोल फ्री नंबर 1912 का व्यापक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। उन्होंने खराब ट्रांसफार्मरों को जल्द से जल्द बदलने तथा इसके लिए संसाधनों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए। 

       बैठक में बिजली बिल की बकाया राशि की हो रही वृद्धि को ध्यान में रखते हुए बकाया राशि की वसूली के लिए अभियान चलाने के निर्देश दिए। बैठक में मुख्य सचिव   सुनील कुजूर,  ऊर्जा विभाग एवं मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव   गौरव द्विवेदी, पॉवर वितरण कंपनी के प्रबंध निदेशक श्री मोहम्मद कैसर अब्दुल हक, निदेशक द्वय   जी.सी.मुखर्जी एवं  एच.आर.नरवरे भी मौजूद थे। 

 

चिटौद बस हादसे में दो मृत, सात गंभीर रूप से घायल, मुख्यमंत्री ने की संवेदना व्यक्त मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रूपए व गंभीर रूप से घायलों को 25-25 हजार रूपए प्रदान किए जाने की घोषणा

धमतरी:- आज सुबह धमतरी एवं बालोद जिले की सीमा के समीप हुई दो बसों की भिड़ंत में दो व्यक्तियों की मृत्यु हो गई तथा कुल 33 यात्री रूप से घायल हो गए। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मृतकों एवं घायलों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करते हुए मृतकों के परिजनों को एक-एक लाख रूपए और गंभीर रूप से घायलों को 25-25 हजार रूपए और अन्य घायलों को 10-10 हजार रूपए की आर्थिक सहायता राशि प्रदान किए जाने की घोषणा की है। घायलों को जिला चिकित्सालय धमतरी में भर्ती कराया गया है, जबकि गम्भीर रूप से घायल हुए सात यात्रियों को मेकाॅहारा रायपुर के लिए त्वरित रिफर किया गया है। कलेक्टर रजत बंसल एवं एस.पी. बालाजी राव ने घायलों का हालचाल जानने जिला चिकित्सालय पहुंचकर उनके बेहतर से बेहतर उपचार के लिए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया। राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक-30 पर धमतरी जिले की सरहद से लगे बालोद जिले के ग्राम चिटौद के पास आज सुबह लगभग 8.20 बजे जगदलपुर से रायपुर आ रही कांकेर रोडवेज के बस क्रमांक सी.जी. 09 एफ 6003 एवं रायपुर से जगदलपुर की ओर जा रही पायल ट्रेवल्स के बस क्रमांक सी.जी. 07 ई 8090 में आमने-सामने से टक्कर हो गई। इनमंे सवार दो व्यक्तियों की मौत हो गई है, जिनमें से एक वाहन चालक धर्मेंद्र ठाकुर (निवासी जिला- रीवां मध्यप्रदेश) तथा दूसरे मृत व्यक्ति की शिनाख्ती फिलहाल नहीं हुई है। उक्त सड़क दुर्घटना में गम्भीर रूप से घायल हुए सात यात्रियों को रायपुर स्थित पंडित जवाहरलाल नेहरू मेडिकल काॅलेज हाॅस्पिटल में रिफर किया गया है। शेष घायल यात्रियों की जानकारी ली जा रही है।

बड़ी खबर:- भीषण सड़क हादसा दो बसों में टक्कर 2 की मौत 3 गंभीर रूप से घायल

धमतरी :- आज सुबह दिल दहला देने वाली भीषण सड़क हादसा हुआ जो कि धमतरी और पुरुर के बीच ज्योति कुंज ढाबा के पास की घटना हुई है । मनीष एवं कांकेर ट्रवल्स की दो बसों में आमने सामने की टक्कर से बसों में बैठे यात्रियों को चोट लगी जिसमे से आधिकारिक रूप से 2 की मौत की पुष्टि की गई हैं । घायलों को लेकर अस्पताल ले जाया गया है जिसमे से 3 की हालत बेहद गंभीर रूप से है जिसे इलाज के लिए रायपुर ले जाया गया है । मृतकों की संख्या बढ़ने की बात सामने आ रही होने ।वही 37 यात्रियों की इलाज जारी है।पुरुर थाना क्षेत्र का मामला।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने की नगरीय निकायों  से जुड़ी बड़ी घोषणाएँ

     मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा रेन वॉटर हार्वेस्टिंग के विषय पर आयोजित कार्यशाला में बड़ी घोषणा करते हुए स्वच्छता दीदियों के मानदेय में वृद्धि की घोषणा की। अब तक स्वच्छता दीदियों को कुल पांच हजार रूपए प्रति माह की मानदेय राशि प्राप्त होती थी। अब इसे छह हजार रूपए प्रति माह की बढ़ी हुई दर से मानदेय प्रदान किया जाएगा। इससे प्रदेश की दस हजार स्वच्छता दीदियों को सीधा लाभ मिलेगा। ज्ञात हो कि प्रदेश के 166 नगरीय निकायों में दस हजार स्वच्छता दीदियों के माध्यम से प्रतिदिन घर घर से गीले-सूखे  कचरे को एकत्रित किया जाता है। इन्हीं दीदियों के प्रयास के कारण मार्च महीने में राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद द्वारा छत्तीसगढ़ राज्य को पुरस्कृत किया गया था।     इसके साथ मुख्यमंत्री ने आज नगर पालिक एवं पंचायतों के अध्यक्षों को पुनः वित्तीय अधिकार प्रदत्त किए जाने की घोषणा की।     विकास कार्यों हेतु बड़ी घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा प्रत्येक नगर निगम को आबादी एवं आवश्यकता के अनुसार 5 से दस करोड़ रुपए, 44 नगर पालिकाओं हेतु एक-एक करोड़ एवं 111 नगर पंचायतों हेतु 50-50 लाख रुपए प्रदान किए जाने की घोषणा की।     जल संरक्षण हेतु गंभीर मुख्यमंत्री ने कहा कि रेन वाटर हार्वेस्टिंग हमारे लिए नई चीज नहीं है, हमारे पुरखे भी गुजरात और राजस्थान में पानी का संरक्षण करते थे। सबसे अच्छा जल संरक्षण का उदाहरण पोरबंदर में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के घर में है। उनके घर में छत का पानी घर के आंगन में बने कुंए में एकत्र किया जाता था। मुख्यमंत्री ने कहा कि शहरों के साथ-साथ गांवों की गलियों, सड़कोें और आंगन में कांक्रीटीकरण कर दिया गया है। जिसके कारण पानी जमीन के अंदर नहीं जा पाता। उन्होंने कहा कि लोग अपने आंगन में कुंए में छत का पानी एकत्र कर सकते हैं, असफल बोर रूफ वाटर हार्वेस्टिंग से जोड़ सकते है या छत का पानी जमीन के अंदर डाल सकते है। मुख्यमंत्री ने अपने घर का उदारहण देते हुए कहा कि उन्होंने वर्ष 2001 में ही अपने घर में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग करवाई थी। इस गर्मियों में  मोहल्ले के बोर में पानी सूख गया लेकिन मेरे घर में पानी था।     कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए नगरीय प्रशासन एंव विकास मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया ने कहा कि प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में 47 हजार भवनों में रेन वाटर हार्वेस्टिंग कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसके विरूद्ध अबतक 15 हजार 500 भवनों में यह कार्य पूरा कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में पेयजल आवर्धन योजनाओं के माध्यम से 3 लाख 50 हजार परिवारों को उनके घर में नल कनेक्शन देकर पेयजल की आपूर्ति की जाएगी।  आवास एवं पर्यावरण मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि ग्लोबल वार्मिग की वजह से मौसम बदल रहा है। चेरापूंजी में सबसे अधिक वर्षा होती थी लेकिन अब वहां एक-एक बूंद के लिए लड़ाई होती है। उन्होंने कहा कि पहले चेक डेम आदि बनाकर वाटर रिर्चाजिंग का प्रयास किया जाता था, लेकिन यह ज्यादा सफल नहीं हो पाया। राज्य सरकार द्वारा नरवा योजना के माध्यम से प्राकृतिक जल स्त्रोतों को पुर्नजीवित करने का प्रयास किया जा रहा है।     मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग द्वारा ई-गर्वनेस परियोजना पर तैयार विभागीय पोर्टल, स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 के लिए तैयार वीडियो, पौनी पसारी योजना के दिशा-निर्देशों पर ब्रोशर का विमोचन किया। श्री बघेल ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 पुरस्कार योजना के तहत प्रदेश के 23 नगरीय निकायों को सम्मानित किया। उन्होंने आवास योजना के अंतर्गत मोर प्रदर्शन - मोर सम्मान बुकलेट, मोर जमीन - मोर मकान मार्गनिर्देशिका, मोर मकान-मोर चिन्हारी मार्गनिर्देशिका का विमोचन किया। इसी तरह उन्होंने स्वच्छता मिशन के अंतर्गत नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी ’’सुघ्घर घर दुआरी पत्रक’’, स्वच्छता पॉकेट बुक, स्वच्छता सिरमौर-शहरी छत्तीसगढ़ बुकलेट, महिला स्वच्छता आर्मी बुकलेट और महिला स्वसहायता समूह के ब्रांडिग लोगो दुलारी का विमोचन किया। इस अवसर पर नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग की विशेष सचिव श्रीमती अलरमेलमंगई डी. सहित नगर निगम, नगर पालिका और नगर पंचायतों के अध्यक्ष, सभापति, नगरीय विकास विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री होंगे बिलासपुर जिले में हरेली तिहार के मुख्य अतिथि : जिलों में होंगे विभिन्न कार्यक्रम

 छत्तीसगढ़ी त्यौहारों की श्रृंखला में पहला तिहार हरेली को छत्तीसगढ़ी संस्कृति से जोड़ते हुए परम्परागत ढ़ंग से मनाने के लिए सभी जिलों में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल बिलासपुर जिले में आयोजित होने वाले कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे। जिलों में एक अगस्त को आयोजित होने वाले हरेली तिहार कार्यक्रम के मुख्य समारोह में मुख्य अतिथियों की सूची राज्य शासन द्वारा जारी कर दी गई है। जिला कोरबा में विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, रायपुर में गृह मंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, जांजगीर-चांपा में स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव, रायगढ़ में कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे मुख्य अतिथि होंगे। राजनांदगांव में वन मंत्री मोहम्मद अकबर, बेमेतरा में महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया, बस्तर में स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, धमतरी में आबकारी मंत्री श्री कवासी लखमा, सरगुजा में नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, जशपुर में खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत, बलरामपुर में उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, कांकेर में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री गुरू रूद्रकुमार, दंतेवाड़ा में राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल जिले के मुख्य अतिथि होंगे।  इसी प्रकार कोरिया में सांसद श्रीमती ज्योत्सना महंत, नारायणपुर में सांसद श्री दीपक बैज, बीजापुर में अध्यक्ष बस्तर विकास प्राधिकरण श्री लखेश्वर बघेल, दुर्ग में अध्यक्ष मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण श्री लालजीत सिंह राठिया, सूरजपुर में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष खेलसाय सिंह, बलौदाबाजार-भाटापारा में बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विक्रम मंडावी, सुकमा में बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष संतराम नेताम, गरियाबंद में सरगुजा क्षेत्र विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री गुलाब कमरो, महासमंुद में मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष डॉ. लक्ष्मी ध्रुव, बालोद में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री बृहस्पत सिंह, मुंगेली में मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री पुरूषोत्तम कवर, कोण्डागांव में विधायक श्री मोहन मरकाम, कबीरधाम में विधायक श्रीमती ममता चन्द्राकर जिले के लिए मुख्य अतिथि होंगे।  

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल राजधानी रायपुर में ध्वजारोहण कर लेंगे परेड की सलामी जिला मुख्यालयों के मुख्य समारोह में ध्वजारोहण के लिए मुख्य अतिथियों की सूची जारी

रायपुर :- आजादी के पर्व स्वतंत्रता दिवस पर मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल राजधानी रायपुर के पुलिस परेड ग्राउण्ड में आयोजित मुख्य समारोह में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेंगे। जिला मुख्यालयों में आयोजित होने वाले स्वतंत्रता दिवस के मुख्य समारोह में ध्वजारोहण के लिए मुख्य अतिथियों की सूची जारी कर दी गई है। विधानसभा अध्यक्ष डाॅ. चरण दास महंत दुर्ग में, पंचायत एवं ग्रामीण विकास व स्वास्थ्य मंत्री  टी.एस. सिंहदेव जांजगीर-चांपा में और गृह एवं लोक निर्माण मंत्री  ताम्रध्वज साहू बिलासपुर जिला मुख्यालय में ध्वजारोहण करेंगे। कृषि एवं जल संसाधन मंत्री  रविन्द्र चौबे रायगढ़ में, स्कूल शिक्षा एवं सहकारिता मंत्री डाॅ. प्रेमसाय सिंह टेकाम कोरबा में, आवास एवं पर्यावरण व परिवहन मंत्री मोहम्मद अकबर राजनांदगांव में, वाणिज्यिक कर (आबकारी) एवं उद्योग मंत्री कवासी लखमा धमतरी में, नगरीय प्रशासन एवं विकास तथा श्रम मंत्री डाॅ. शिवकुुमार डहरिया सरगुजा में, महिला एवं बाल विकास व समाज कल्याण मंत्री अनिला भेंड़िया कबीरधाम में, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन और पंजीयन एवं स्टाम्प मंत्री  जयसिंह अग्रवाल दक्षिण बस्तर दंतेवाड़ा में, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं ग्रामोद्योग मंत्री  गुरू रूद्रकुमार उत्तर बस्तर कांकेर में, उच्च शिक्षा और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री  उमेश पटेल बलरामपुर में, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति और,इस खबर को आप जोगी एक्सप्रेस पर पढ़ रहे ,संस्कृति मंत्री  अमरजीत भगत जशपुर जिला मुख्यालय में आयोजित समारोह में ध्वजारोहण करेंगे। इसी तरह कोरिया में लोकसभा सांसद ज्योत्सना महंत, बस्तर (जगदलपुर) में लोकसभा सांसद  दीपक बैज, बलौदाबाजार-भाटापारा जिला मुख्यालय में मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष लालजीत सिंह राठिया, गरियाबंद में मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष लक्ष्मी धु्रव, महासमुंद में मध्यक्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष पुरूषोत्तम कंवर, बालोद में विधायक संगीता सिन्हा, सूरजपुर में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष  खेलसाय सिंह, बेमेतरा में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष  बृहस्पत सिंह, मुंगेली में सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष  गुुलाब कमरो, कोण्डागांव में विधायक  मोहन मरकाम, बीजापुर में बस्तर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष  लखेश्वर बघेल, सुकमा में बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष संतराम नेताम तथा नारायणपुर जिला मुख्यालय में बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष  विक्रम मण्डावी ध्वजारोहण कर परेड की सलामी लेंगे।

छत्तीसगढ़ : माइंस प्रबंधन के खिलाफ 5 घंटे से चक्काजाम जारी*

 

< सुमंत सिन्हा : भानूप्रतापपुर ।डोंगरीडोंगरी 18 जुलाई से बन्द है कंपनी ने फरमान सुना दिया कि जब तक माईस इसमें 24 घंटे काम नहीं होगा तब तक माइंस चालू नहीं होगा इसका विरोध वहां के मजदूर संघ परिवहन संघ और मोटर मालिक संघ कर रहे हैं सुबह 8:00 बजे से लगातार चक्का जाम जारी है वहीं मौके पर एसडीएम सहित पुलिस विभाग के अधिकारी मौजूद है। आंदोलनरत मजदूरों को समझाने की कोशीश जारी, समस्या का हल निकालने जनपद पंचायत सभा कक्ष में प्रशासन की उपस्थिती में माइंस प्रबंधन, मजूदर संघ, परिवहन संघ, ड्राईवर संघ के साथ बैठक जारी।