खेल

भाटापारा में क्लस्टर प्रतियोगिताओं का हुआ भव्य शुभारम्भ

भाटापारा-गुरुकुल सीनियर सेकेंडरी स्कूल भाटापारा में आज क्लस्टर 1 और क्लस्टर 2 फुटबॉल प्रतियोगिता का बड़े ही हर्षौल्लास के साथ भव्य शुभारम्भ हुआ I इस दौरान कार्यक्रम के मुख्य अतिथि क्षेत्र के विधायक माननीय  शिवरतन शर्मा ने अपने कर कमलो द्वारा श्री गणेशजी व माँ भगवती के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का श्रीगणेश किया I इस अवसर पर संस्था प्रमुख एवं विद्यालय के प्राचार्य, उप-प्राचार्य,समन्वयक अधिकारी के साथ-साथ प्रमोद शुक्ला ( सी.बी.एस.ई. के समन्वयक), अंबुजा विद्यापीठ के प्राचार्य  संजय कुमार पाण्डे उपस्थित रहे I उपस्थित सभी सम्माननीय जनों ने खिलाड़ियों का उत्साह वर्धन करते हुए कार्यक्रम को आगे बढ़ाया ी
 विद्यालय की छात्राओं ने  स्वागत गीत प्रस्तुत किया I उसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रमों का सिलसिला प्रारंभ हुआ तत्पश्चात विद्यालय के प्राचार्य ने सभी विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन करते हुए संक्षिप्त भाषण प्रस्तुत किया I कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ने झंडा वंदन किया तत्पश्चात सभी राज्यों से आए खिलाड़ियों ने मार्च पास्ट किया I  वही कार्यक्रम के मुख्य अतिथि  शिवरतन शर्मा ने  खेल प्रतियोगिता के शुभारम्भ की घोषणा करते हुए प्रतिभागियों को शपथ दिलाई गई I

अन्य सांस्कृतिक कार्यक्रमों के अंतर्गत देशभक्ति से परिपूर्ण नाटक एवं विभिन्न राज्यों की कला एवं संस्कृति से संबंधित नृत्य विद्यालय के छात्र और छात्राओं द्वारा प्रस्तुत किए गए I

आज कुल 15 मैच खेले जायेगे I कल के मैच सुबह 6 बजे से रात 8 बजे तक फ्लैट लाइट में होंगे I

गरियाबंद के अभय गरोड़कर ने पिस्टल प्रतियोगिता में दमदार प्रदर्शन करते हुए जीते 3 गोल्ड और 1 सिल्वर सहित जीते 4 पदक सहित जीते 4 पदक

गरियाबंद निवासी अभय गरोड़कर जो कि वर्तमान में छत्तीसगढ़ वॉलीबाल के कोच एवं रक्षित केंद्र रायपुर पुलिस विभाग में हेड कांस्टेबल के तौर पर अपनी सेवाएं दे रहे है पिछले 25 सालों से खेल से जुड़े हुए है और खेल के प्रति शुरू से ही जुनूनी रहे है पूर्व में नागपुर में सम्पन्न हुई यूथ नेशनल वॉलीबाल चेम्पियनशिप में रैफरी के तौर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने पर बेस्ट रेफरी का अवार्ड भी मिला था वॉलीबाल प्लेयर और राष्ट्रीय रैफरी के तौर पर कई मर्तबा राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में अपने प्रदर्शन से राज्य और नेशनल स्तर पर पुलिस का नाम रोशन करने वाले इस खिलाड़ी ने वर्तमान में जिंदल स्टाइल एवं पवार लिमिटेड द्वारा माना में आयोजित पिस्टल प्रतियोगिता में 3 स्वर्ण और 1 सिल्वर पदक अपने नाम करते हुए एक बार फिर खेल के प्रति अपने जुनून का प्रदर्शन किया । बीते दिनों जिंदल स्टील एवं पावर लिमिटेड द्वारा 14 से 22 अगस्त आयोजित तक राज्य स्तरीय राइफल एवं पिस्टल प्रतियोगिता का आयोजन 4थी बटालियन माना स्थित रेंज में किया गया था उक्त चैंपियनशिप में राज्य भर के करीब ढाई सौ से अधिक प्रतिभागियों ने इस प्रतियोगिता के सीनियर , जूनियर , पुरुष ,महिला जैसे अलग अलग वर्ग में हिस्सा लिया था इसमें सर्विसेस की तरफ से 10 मीटर एयर पिस्टल की प्रतियोगिता में प्रथम स्थान प्राप्त करते हुए गोल्ड मेडल प्राप्त किया एवं 25 मीटर स्टैंडर्ड पिस्टल की एकल प्रतियोगिता में भी प्रथम स्थान प्राप्त करते हुए गोल्ड मेडल प्राप्त किया साथ ही 25 मीटर की सामूहिक एयर पिस्टल प्रतियोगिता में दूसरे स्थान पर रहते हुए सिल्वर मैडल प्राप्त किया  । इसके अलावा टीम इवेंट्स में भी गोल्ड मैडल प्राप्त किया इस प्रकार कुल 3 गोल्ड और 1 सिल्वर मेडल अपने नाम कर नगर के साथ ही राज्य का  नाम रोशन किया । इनके पिता के पी गरोड़कर ने अपने पुत्र की उपलब्धियों पर गर्व जताते हुए बताया कि अभय स्कूल के समय से ही खेलों के प्रति जुनूनी था और आज जिस मुकाम पर है वो उसकी सच्ची लगन और खेलों के प्रति ईमानदार प्रयास की बदौलत है एक पिता के तौर पर यह मेरे जीवन की सर्वश्रेष्ठ उपलब्धि है उम्मीद करूँगा की आगे भी इससे अच्छा प्रदर्शन कर राज्य और देश का नाम रोशन करे ।

भारतीय टीम ने तीसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 203 रनों से हराया

दिल्ली - भारतीय टीम ने तीसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड को 203 रन के विशाल अंतर से रौंद डाला। 5 टेस्ट मैच की सीरीज का तीसरा मैच नॉटिंघम के ट्रेंटब्रिज में खेला गया। 0-2 से पीछे चल रही  विराट सेना ने इस जीत के साथ ही भारतीय उम्मीदों को जिंदा रखा है। अश्विन ने पांचवें दिन के तीसरे ओवर की पांचवीं गेंद पर जेम्स एंडरसन (11) को अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच करा भारत को जीत दिलाई।
टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया अपनी पहली पारी में 329 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। जवाब में मेजबान इंग्लैंड की टीम अपनी पहली पारी में 161 रन पर ढेर हो गई। इस तरह भारत को पहली पारी के आधार पर 168 रनों की बढ़त हासिल हुई।
इसके बाद टीम इंडिया ने अपनी दूसरी पारी में 7 विकेट पर 352 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और मेजबान इंग्लैंड के सामने जीत के लिए 521 रनों का विशाल लक्ष्य रखा। पहाड़ जैसे लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम 317 रन पर सिमट गई। इसी के साथ भारतीय टीम ने यह मैच 203 रन से अपने नाम कर लिया।

इंग्लैंड की तरफ से जोस बटलर ने 176 गेंद की अपनी पारी में 21 चौकों की मदद से 106 रन बनाने के अलावा स्टोक्स (187 गेंद, 60 रन, छह चौके) के साथ पांचवें विकेट के लिए 169 रन की बड़ी साझेदारी भी की।
विराट कोहली को 'मैन ऑफ द मैच' से नवाजा गया।  पहली पारी में जहां वह 97 रन बनाकर शतक से चूके तो दूसरी पारी में उन्होंने 103 रन जड़ते ही करियर का 23वां शतक जड़ डाला। गेंदबाजी में भी भारतीय टीम का प्रदर्शन जबरदस्त रहा।

हार्दिक पांड्या ने 6 विकेट (पहली पारी में 5 विकेट, दूसरी में 1) चटके तो बुमराह ने 7 विकेट (पहली पारी में 2 विकेट, दूसरी में 5)लेते हुए भारत की जीत की इबारत लिखी। उनके अलावा ईशांत शर्मा,  रविचंद्रन अश्विन और मोहम्मद शमी ने अहम योगदान दिया।

फ्रांस की टीम ने फीफा विश्व कप 2018 का खिताब जीतकर रचा इतिहास

फ्रांस की टीम ने फीफा विश्व कप 2018 का खिताब जीतकर इतिहास रच दिया। फाइनल मुकाबले में फ्रांस ने क्रोएशिया को 4-2 से हराकर दूसरी बार विश्व कप की ट्रॉफी पर कब्जा जमाया। इससे पहले टीम ने 1998 में पहली बार विश्व कप जीता था। इस खिताब को जीतने के साथ ही फ्रांस ने विश्व कप के सूखे को भी खत्म कर दिया है। फाइनल मुकाबले में फ्रांस की किस्मत का भी अच्छा साथ मिला और पहले दो गोल उन्हें क्रोएशियाई टीम की गलती से मिले। फ्रांस की टीम ने पहले हाफ में 2 और फिर दूसरे हाफ में भी 2 गोल कर इतिहास रच दिया।

फाइनल मैच में फ्रांस की जीत के हीरो रहे एंटोइन ग्रीजमैन, कीलियन एमबाप्पे और पॉल पोग्बा। तीनों ही खिलाड़ियों ने 1-1 गोल किए और टीम को एक गोल क्रोएशियाई खिलाड़ी के आत्मघाती गोल की मदद से मिला। इस जीत के साथ ही फ्रांस दुनिया की छठी टीम बन गई है जिसने विश्व कप को 1 से ज्यादा बार जीता है। फाइनल मुकाबले की बात करें तो फ्रांस को पहला गोल क्रोएशिया के मारियो मैंडजुकिक के आत्मघाती गोल के जरिए मिला।

 
हालांकि इसके बाद क्रोएशिया के इवान पेरिसिक ने गोल कर अपनी टीम को बराबरी पर ला दिया। लेकिन हाफ टाइम से पहले क्रोएशियाई खिलाड़ियों ने पेनल्टी बॉक्स के अंदर गेंद पर हाथ लगा दिया। जिसके बाद वीएआर के जरिए फ्रांस को पेनल्टी मिल गई और ग्रीजमैन ने गोल करने में कोई गलती नहीं की। इसके बाद हाफ टाइम तक स्कोर 2-1 था और फ्रांस की टीम मुकाबले में आगे चल रही थी।

हाफ टाइम के बाद फ्रांस के खिलाड़ियों (पॉल पोग्बा और कीलियन एमबाप्पे) ने जल्दी-जल्दी 2 और गोल कर अपनी टीम की जीत तय कर दी। इन दो गोलों ने क्रोएशिया के पहले विश्व कप जीतने के सपने को चूर-चूर कर दिया था। हालांकि आखिरी लम्हों में मैंडजुकिक ने गोल कर क्रोएशिया की उम्मीदों को जिंदा करने की कोशिश की लेकिन फ्रांस के डिफेंस ने उन्हें वापसी का कोई मौका नहीं दिया और क्रोएशिया को फाइनल में 2-4 से हार का सामना करना पड़ा

रोहित के शतक के दम पर इंग्लैंड में पहली बार जीती टी20 सीरीज

ब्रिस्टल में खेले गए तीसरे टी20 मैच में टीम इंडिया ने इतिहास रच दिया. टीम इंडिया ने इंग्लैंड के खिलाफ 7 विकेट से दर्ज की. इंग्लैंड में ये भारत की पहली टी20 सीरीज जीत है. भारत का कोई कप्तान ये कारनामा नहीं कर सका था लेकिन विराट की अगुवाई में हिंदुस्तान ने इंग्लैंड में तिरंगा लहरा दिया. भारत को जीत के लिए 199 रनों की बड़ी चुनौती मिली थी लेकिन रोहित शर्मा के नाबाद शतक और कप्तान विराट कोहली के तेज-तर्रार 43 रनों की बदौलत भारत ने ये चुनौती महज 18.4 ओवर में हासिल कर ली। 

बॉल टैम्परिंग पर स्मिथ ने मांगी माफी, कहा- मेरी लीडरशिप नाकाम रही

स्पोर्ट्स डेस्क। साउथ अफ्रीका में बॉल टैम्परिंग मामले में बैन के बाद स्टीव स्मिथ ऑस्ट्रेलिया लौटे। उन्होंने सबके सामने माफी मांगी और इस दौरान वे रो पड़े। स्मिथ ने कहा कि बॉल टेम्परिंग बहुत बड़ी भूल थी और इसके अंजाम का अंदाजा अब हो रहा है। उन्होंने कहा, ये लीडरशिप की नाकामी थी, ये मेरी लीडरशिप की नाकामी थी। स्मिथ से पहले वॉर्नर ने इंस्टाग्राम और कैमरन बेनक्रॉफ्ट ने ट्विटर पर माफी मांगी। वॉर्नर ने अपनी पोस्ट में लिखा, मैं ऑस्ट्रेलिया और दुनिया के सभी क्रिकेट फैंस से मांफी मांगता हूं। मैं सिडनी जा रहा हूं। मुझसे बड़ी गलती हो गई, जिससे क्रिकेट को नुकसान पहुंचा। मैं घटना की जिम्मेदारी लेता हूं। बुधवार को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ, वॉर्नर एक-एक साल, जबकि कैमरन बेनक्रॉफ्ट पर नौ महीने का बैन लगाया था। इसके चलते स्मिथ और वॉर्नर आईपीएल से भी बाहर हो गए हैं।

एयरपोर्ट पर ही की स्मिथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस

- स्मिथ ने सिडनी पहुंचने पर एयरपोर्ट पर ही प्रेस कॉंफ्रेंस की। उन्होंने कहा, ष्मैं किसी को दोष नहीं देता हूं। मैं आस्ट्रेलिया टीम का कप्तान था। यह मुझे देखना चाहिए था। पिछले शनिवार को जो कुछ भी हुआ उसका मैं जिम्मेदार हूं। यह बड़ी भूल थी, इसका अंजाम अब समझ में आ रहा है। यह कहते-कहते वह भावुक हो गए और रोने लगे, फिर उठकर चले गए।

- उन्होंने कहा, मैं टीम का कप्तान था, जो कुछ भी हुआ उसकी पूरी जिम्मेदारी मैं लेता हूं। प्रेस कॉंफ्रेंस के दौरान ही स्मिथ रोने लगे। उन्होंने कहा, मै बहुत दुखी हूं, मैंने पूरे ऑस्ट्रेलिया को दुख दिया।

परिवार के साथ वक्त बिताना चाहते हैंः वॉर्नर
- डेविड वॉर्नर ने इंस्टाग्राम पर लिखा, मैं बचपन से इस खेल से प्यार करता हूं। मैं अपने परिवार और दोस्तों के साथ वक्त बिताना चाहता हूं। साथ ही आप लोग मुझे जल्द ही सुनेंगे।

मुझे इसका जीवन भर पछतावा रहेगाः बेनक्रॉफ्ट

बेनक्रॉफ्ट ने ट्वीट कर कहा, मुझे बहुत दुख है... मैं बहुत निराश हूं। मुझे अपनी हरकत पर जीवन भर पछतावा रहेगा। मैंने झूठ बोला। मैंने रेगमाल को लेकर झूठ बोला। उस स्थिति में मैं बहुत घबरा गया था। मैंने आस्ट्रेलिया में हर किसी को निराश किया है। हम सभी ने जो किया, उसके लिए माफी मांगता हूं... मैं समाज को अपना सर्वश्रेष्ठ दूंगा।

ऑस्ट्रेलिया की कप्तानी नहीं कर पाएंगे वॉर्नर

- क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने वॉर्नर पर एक साल का बैन लगाया है। साथ ही उन्हें अब कभी कप्तानी नहीं देने का फैसला किया है। टैम्परिंग के वक्त वॉर्नर टीम के उपकप्तान थे।

 

टीम इंडिया का आज श्रीलंका से मैच, इन युवा भारतीय खिलाड़ि‍यों पर होंगी निगाहें

 इस प्रकार हैं टीमें...
भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन (उप कप्तान), केएल राहुल, सुरेश रैना, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक (विकेटकीपर), दीपक हुड्डा, वाशिंगटन सुंदर, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल, विजय शंकर, शारदुल ठाकुर, जयदेव उनादकट, मोहम्मद सिराज और ऋषभ पंत.

श्रीलंका:दिनेश चंदीमल (कप्तान), सुरंगा लकमल (उप कप्तान), उपुल थरंगा, धनुष्का गुणतिलके, कुसल मेंडिस, दासुन सनाका, कुसल परेरा, तिसारा परेरा, जीवन मेंडिस, इसुरू उदाना, अकिला धनंजय, अमिला अपोन्सो, नुवान प्रदीप, दुष्मंत चमीरा और धनंजय डिसिल्वा.

मैच भारतीय समयानुसार शाम 7 बजे से शुरू होगा.रोहित शर्मा की अगुवाई में भारत की युवा टीम अब से कुछ घंटों बाद यहां निधास टी20 कप त्रिकोणीय सीरीज के शुरुआती मैच में श्रीलंका के सामने होगी. भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने ज्‍यादातर सीनियर खिलाड़ि‍यों को रेस्‍ट हुए प्रतियोगिता के लिए युवा टीम चुनी है. जाहिर है, ऐसे में ऋषभ पंत, दीपक हुड्डा, जयदेव उनादकर, शारदुल ठाकुर और मोहम्मद सिराज युवा खिलाड़ी अपनी ओर से श्रेष्‍ठ प्रदर्शन देकर चयनकर्ताओं को आकर्षित करने का प्रयास करेंगे. बांग्लादेश इस सीरीज में तीसरी टीम है.
जिन खिलाड़ियों को मैच में खेलने का मौका मिलेगा, उनका लक्ष्य सिर्फ एक ही होगा कि वे इस मौके का पूरा फायदा उठा सकें क्योंकि आईसीसी वर्ल्‍डकप से पहले उन्हें इतने मौके नहीं मिलेंगे जिसमें बस 16 महीने का समय बचा है. हालांकि यह टी20 टूर्नामेंट है लेकिन वे अच्छे प्रदर्शन से राष्ट्रीय चयन समिति को आकर्षित कर सकते हैं जो मध्यक्रम में सीमित बल्लेबाजी स्थान और शायद रिजर्व तेज गेंदबाजों के लिये उनके नाम पर विचार कर सकते हैं. ज्यादातर मौकों पर भारतीय टीम ने श्रीलंका को पस्त किया है और कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा के पास ट्रॉफी घर लाने के कई कारण दिखते हैं. दक्षिण अफ्रीका दौरे के खराब प्रदर्शन के बाद रोहित शर्मा फॉर्म में वापसी को बेताब होंगे. वह अफ्रीकी दौरे पर एक वनडे में केवल ही सैकड़ा जड़ सके थे.

63वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ को मिला चेम्पीयन शीप ट्राफी

बलौदा बाजार-भाटापारा, 63 वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के समापन के अवसर पर श्रम खेल एवं युवा कल्याण मंत्री   भैयालाल राजवाड़े ने 21 राज्यों के प्रतिभागियों एवं कोच को संबोधित करते हुए  राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के बेहतर ढंग से संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन की प्रशंसा की। प्रदेश के मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह के मंशानुसार प्रदेश को खेलगढ़ के रूप में विकसित करने के लिए सभी खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है। प्रदेश के खिलाड़ी ओलम्पिक खेलों में मेडल प्राप्त करने पर दो करोड़ राशि का प्रावधान रखा गया है। उन्होंने सरगुजा अंचल के रेणु यादव को ब्राजील में आयोजित हाॅकी प्रतियोगिता में शामिल होने पर उनके मनोबल बढ़ाने के लिये प्रोत्साहन राशि दी गई है। राष्ट्रीय स्तर के खेल प्रतियोगिता में आयोजित कार्यक्रमों की सराहना करते हुए कहा कि खिलाड़ियों को शिक्षा के साथ खेल एवं भाईचारा की भावना की आवश्यक है। 
आगे कहा कि हमारा प्रदेश संस्कृति एवं संस्कार के प्रति सदैव छत्तीसगढ़ का देश में गौरवन्वित हुआ है। भाटापारा में खेल केन्द्र बनाया गया है। हर वर्ष राष्ट्रीय स्तर के प्रतियोगिता के आयोजन किए जाने के कारण शहर को राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिलेगी। राष्ट्रीय स्तर के खेल प्रतियोगिता नेट बाल, रोलबाॅल, ड्रापरोबाल आदि खेलों में विजेता टीम को प्रतीक चिन्ह एवं मेडल प्रदान कर तथा क्रीड़ा प्रतियोगिता से जुड़े हुए अधिकारी एवं कर्मचारियों को भी सम्मानित किया गया।

अध्यक्ष छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम  शिवरतन शर्मा ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर के खेल आयोजन के लिए स्थानीय युवाओं के प्रयासों से शहर में खेल प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। युवाओं में खेल के प्रति उत्साह के कारण शहर के उत्कृष्ट प्रतिभागी राष्ट्रीय स्तर के खेलों में भागीदारी निभा रहे हैं। उन्होंने कहा कि खिलाड़ी अपने मन में संकल्प लेकर प्रतियोगिता में शामिल होने से सफलता अवश्य मिलेगी। उन्होंने जिला प्रशासन, शिक्षा विभाग एवं अन्य आयोजनकर्ताओं ने बेहतर ढंग से आयोजन को सफल बनाया उसके के लिए उन्हें सहृदय से धन्यवाद दिया। कलेक्टर  राजेश सिंह राणा ने राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में शामिल प्रतिभागियों का अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय शालेय प्रतियोगिता में शामिल हुए सभी खिलाड़ियों ने खेल भावना के साथ उत्कृष्ट प्रदर्शन किया। नेट बाल 17 वर्ष बालक मंे प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय पंजाब, तृतीय दिल्ली, बालिका वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय दिल्ली, तृतीय कर्नाटक, रोल बाल 19 वर्ष बालक वर्ग में प्रथम महाराष्ट्र, द्वितीय छत्तीसगढ़, तृतीय असम, बालिका वर्ग में प्रथम महाराष्ट्र, द्वितीय छत्तीसगढ़, तृतीय गुजरात, ड्राप रोल बाल सिंगल 19 वर्ष बालक वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय सीबीएसई, तृतीय मध्यप्रदेश, बालिका वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय दिल्ली, तृतीय गुजरात, ड्राप रोल बाल डबल 19 वर्ष बालक में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय सीबीएसई, तृतीय मध्यप्रदेश, बालिका वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय मध्यप्रदेश, तृतीय गुजरात, ड्राप रोल बाल ट्रीपल 19 वर्ष बालक वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय दिल्ली, तृतीय विद्याभारती, बालिका वर्ग में प्रथम छत्तीसगढ़, द्वितीय दिल्ली, तृतीय डी ए व्ही प्राप्त किया। अतिथियों द्वारा खिलाड़ियों को प्रतीक चिन्ह एवं मेडल प्रदान कर सम्मानित किया गया। प्रतियोगिता में चेम्पीयन शीप छत्तीसगढ़ को प्राप्त हुआ। इस अवसर पर जनप्रतिनिधिगण, जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी  एस जयवर्धन, जिला शिक्षा अधिकारी  जी आर चंद्राकर, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री अरविन्द पाण्डेय, शासकीय व अशासकीय विद्यालय के प्राचार्य उपस्थित थे। 

63 वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन भाटापारा विधयाक ने छत्तीसगढ़ गुजरात व छत्तीसगढ़ हरियाणा के खिलड़ियों के बिच कराया टॉस

 भाटापारा  63 वीं राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन  भाटापारा में किया जा रहा है  इस बिच भाटापारा विधायक शिव रतन शर्मा  ने रोल बाल बालिका वर्ग में छत्तीसगढ़ विरूद्ध विद्या भारती  छत्तीसगढ़ विरूद्ध गुजरात के खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किए और पूरा मैच देखे मैच देखने के बाद मंत्र मुग्ध विधायक ने कहा की  आपसी तालमेल एवं समन्वय शिक्षा के क्षेत्र में ही नहीं अन्य क्षेत्रों में भी महत्वपूर्ण है। बच्चों में प्रतिभा की कमी नहीं है उन्होंने कहा कि खिलाडिय़ों ने इस खेल प्रतियोगिता में अपनी खेल प्रतिभा से सबका मन मोहा है।  उन्होंने  इस मैच मेंजीत ने एवं हारने वाली दोनों टीमों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि खेल में मिली असफलता अंतिम नहीं है। इससे सबक लेेते हुए और उत्कृष्ट प्रदर्शन करने का जज्बा होना चाहिए। आगे भी खेलने के अवसर है  जहां अपनी प्रतिभा का पूर्ण प्रदर्शन कर सफलता हासिल कर सकते है। खेल से ऊर्जा एवं सकारात्मकता परिलक्षित होती है। 
कल का खेल इस प्रकार रहा जिसमे 

 रोल बाल बालक वर्ग महाराष्ट्र विरूद्ध केरला जिसमें महाराष्ट्र विजयी,
 हरियाणा विरूद्ध केरला जिसमें केरला विजयी,
 सी.बी.एस.ई विरूद्ध असम जिसमें सी.बी.एस.ई. विजयी,
 गुजरात विरूद्ध जम्मू कश्मिर जिसमें गुजरात विजयी, 
असम विरूद्ध मध्यप्रदेश जिसमें असम विजयी,     
 हरियाणा विरूद्ध गुजरात जिसमें गुजरात विजयी, बालिका वर्ग में छत्तीसगढ़ विरूद्ध विद्या भारती जिसमें छत्तीसगढ़ विजयी,     
 जम्मू-कश्मिर विरूद्ध मध्यप्रदेश जिसमें मध्यप्रदेश विजयी, महाराष्ट्र विरूद्ध विद्या भारती जिसमें महाराष्ट्र विजयी,
 छत्तीसगढ़ विरूद्ध गुजरात जिसमें छत्तीसगढ़ विजयी रहें। ड्राप रो बाल सिंगल बालक में उत्तरप्रदेश विरूद्ध गोवा में उत्तरप्रदेश विजयी,
 विद्या भारती विरूद्ध डी.ए.वी. में विद्या भारती विजयी, तेलंगाना विरूद्ध मध्यप्रदेश में मध्यप्रदेश विजयी, 
छत्तीसगढ़ विरूद्ध सी.बी.एस.ई. में छत्तीसगढ़ विजयी, दिल्ली विरूद्ध गोवा में दिल्ली विजयी, गुजरात विरूद्ध विद्या भारती में विद्या भारती विजयी
, तेलंगाना विरूद्ध पंजाब में पंजाब विजयी, दिल्ली विरूद्ध उत्तरप्रदेश में उत्तरप्रदेश विजयी, डी.ए.वी. विरूद्ध गुजरात में गुजरात विजयी,
 मध्यप्रदेश विरूद्ध पंजाब में मध्यप्रदेश विजयी, बालिका वर्ग में मध्यप्रदेश विरूद्ध उत्तरप्रदेश में मध्यप्रदेश विजयी,
 दिल्ली विरूद्ध तेलंगाना में दिल्ली विजयी, गुजरात विरूद्ध डी.ए.वी. में गुजरात विजयी, 
छत्तीसगढ़ विरूद्ध सी.बी.एस.ई. में छत्तीसगढ़ विजयी, पंजाब विरूद्ध तेलंगाना में तेलंगाना विजयी, डी.ए.वी. विरूद्ध विद्या भारती में विद्या भारती विजयी, दिल्ली विरूद्ध पंजाब में दिल्ली विजयी, गुजरात विरूद्ध विद्या भारती में विद्या भारती की टीम विजयी रही। नेट बाल बालक वर्ग दिल्ली विरूद्ध चंडीगढ़ में दिल्ली विजयी, तेलंगाना विरूद्ध हरियाणा में हरियाणा विजयी, महाराष्ट्र विरूद्ध आई.पी.एस.सी. में महाराष्ट्र विजयी, छत्तीसगढ़ विरूद्ध तेलंगाना जिसमें छत्तीसगढ़ विजयी, दिल्ली विरूद्ध मध्यप्रदेश में मध्यप्रदेश विजयी, जम्मू-कश्मिर विरूद्ध विद्या भारती जिसमें विद्या भारती विजयी, तेलंगाना विरूद्ध सी.बी.एस.ई. में तेलंगाना विजयी, मध्यप्रदेश विरूद्ध गुजरात में गुजरात विजयी, पंजाब विरूद्ध तमिलनाडु में पंजाब विजयी, छत्तीसगढ़ विरूद्ध हरियाणा जिसमें छत्तीसगढ़ विजयी, पंजाब विरूद्ध कर्नाटक में पंजाब विजयी, महाराष्ट्र विरूद्ध विद्या भारती में महाराष्ट्र विजयी, बालिका वर्ग में तमिलनाडु विरूद्ध महाराष्ट्र में महाराष्ट्र, आई.पी.एस.सी. विरूद्ध कर्नाटक में कर्नाटक, तेलंगाना विरूद्ध हरियाणा, मध्यप्रदेश विरूद्ध गुजरात में गुजरात, हरियाणा विरूद्ध सी.बी.एस.ई. में हरियाणा, महाराष्ट्र विरूद्ध विद्या भारती में महाराष्ट्र, जम्मू-कश्मिर विरूद्ध मध्यप्रदेश में मध्यप्रदेश, दिल्ली विरूद्ध सी.बी.एस.ई. में दिल्ली, छत्तीसगढ़ विरूद्ध जम्मू-कश्मिर में छत्तीसगढ़, चंडीगढ़ विरूद्ध तमिलनाडु में चंडीगढ़, पंजाब विरूद्ध कर्नाटक मे पंजाब विजयी रहे। 

क्‍या आप जानते हैं कि शोएब से पहले सानिया की सगाई हो चुकी थी

भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्जा का जन्म 15 नवंबर 1986 को मुंबई में हुआ था. बता दे सानिया मिर्जा ने पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से निकाह किया है. पर, क्‍या आप जानते हैं कि शोएब से पहले सानिया की सगाई हो चुकी थी. जी हां, ये तो सभी जानते हैं कि सानिया मिर्जा और शोएब मलिक का अफेयर था, जिसके बाद दोनों ने शादी की. पर शोएब से मिलने से पहले सानिया का नाम किसी और से भी जुड़ा था. जिससे सानिया की सगाई हुई थी उसका नाम था सोहराब मिर्जा. ये सगाई 10 जुलाई 2009 को हैदराबाद में हुई थी. खबरों के अनुसार सानिया और सोहराब बचपन से एक-दूसरे के दोस्‍त हैं. दोनों ही मिर्जा परिवार भी लंबे समय से परिचित हैं और उन्‍होंने ही ये शादी तय कराई थी. बता दे, सोहराब मिर्जा सानिया से एक साल बड़े थे और उस समय विदेश में एमबीए की पढ़ाई कर रहे थे. सोहराब, आदिल मिर्जा और नूर बेगम के बेटे हैं, जो हैदराबाद में यूनिवर्सल बेकर्स श्रृंखला के मालिक हैं. वे अक्‍सर सानिया के मैच देखा करते थे. सानिया ने एक इंटरव्‍यू में कहा था कि वे दोनों अच्‍छे दोस्‍त हैं लेकिन एक दूसरे को कंपेटिबल नहीं पा रहे. फिर सानिया के जीवन में शोएब मलिक आए और उनसे उनकी शादी हुई. बता दें कि सानिया मिर्जा टेनिस के अलावा अपने फैशन ट्रेंड को लेकर भी हमेशा चर्चा में रहती हैं. सानिया मिर्जा को 2004 में अर्जुन अवॉर्ड और 2006 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था. उन्‍हें उम्‍दा खेल के लिए कई सम्‍मान मिले हैं. वे शादी के बाद भी भारत की ओर से टेनिस खेलती हैं. साभार....

फीफा ने पाकिस्तान फुटबॉल फेडरेशन (पीएफएफ) की मान्यता रद्द कर दी है

खेल /नई दिल्ली फीफा ने पाकिस्तान फुटबॉल फेडरेशन (पीएफएफ) की मान्यता रद्द कर दी है। अब पाकिस्तान फुटबॉल फेडरेशन फीफा से जुड़ी किसी भी गतिविधि में भाग नहीं ले सकता है। फीफा के प्रवक्ता के मुताबिक, पीएफएफ को उनकी मान्यता रद्द करने की जानकारी दे दी गई है और अब पीएफएफ तत्काल प्रभाव से फीफा के किसी भी आयोजन में भाग नहीं ले पाएगा। फीफा ने यह निर्णय इसलिए लिया है क्योंकि पीएफएफ के कामकाज और अकाउंट्स का नियंत्रण कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों द्वारा किया जा रहा है, जो कि पीएफएफ के अनुबंधों का उल्लंघन है। फीफा के अधिनियमों के अनुसार, पीएफएफ ने उन शर्तों को माना था कि उसका संचालन बिना किसी तीसरे पक्ष के पभाव के बिना स्वायत्त रूप से होगा। लेकिन कोर्ट द्वारा प्रशासकों की नियुक्ति करने से इन नियमों का पालन नहीं हुआ, जिस कारण फीफा ने पीएफएफ को सस्पेंड करने का फैसला लिया। फीफा द्वारा जारी स्टेटमेंट में बताया गया है कि पीएफएफ के ऊपर से यह प्रतिबंध तक तक नहीं हटाया जाएगा, जब तक पीएफएफ ऑफिस और उसके अकाउंट्स का संचालन स्वतंत्र रूप से संचालन करने के लिए उसके पास वापस नहीं आ जाता।

विराट कोहली भारतीय क्रिकेट टीम के साथ 29 वां जन्मदिन मानते हुए देहे तस्वीर।

विराठ कोहली ने अपना 29वा जन्मदिन मनाया, पूरी भारतीय टीम रही साथ में। भारत न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज़ को सील करने में असफल रहा लेकिन स्टार क्रिकेटर विराठ कोहली ने 65 रन बनाये और भारत की उम्मीदों को तब तक जीवित रखा जब तक वह मध्य में नहीं आये।   टीम इंडिया ने सुनिश्चित किया कि कोहली एक विशेष नोट पर अपने जन्मदिन का स्वागत करे। 

हालाँकि विराठ का जन्मदिन उतना यादगार नहीं बन पाया क्युकी भारत New Zealand के खिलाफ T20I में 40 runs हर गयी, लेकिन इन सब को नजरअंदाज करते हुए भारतीय टीम कोहली के जन्मदिन के अवसर पर जसन मनायी। 

ऑलराउंडर हरदिक पंड्या के लिए, यह बदला लेने का मौका था। उन्होंने ट्विटर पर एक फोटो पोस्ट किया जहां वह विराट कोहली के साथ उनके चेरे पर केक लगा कर selfie ली हुई हैं। 

5 नवंबर, 2017 को जन्मे कोहली ने टेस्ट मैचों में कुल 4658 रन बनाए, ODIS मैचों में 9030 और T20I में 1943 में विश्व के अग्रणी बल्लेबाजों में से एक बन गया। उन्होंने सभी प्रारूपों पर वर्चस्व हासील किया है और वर्तमान में ICC के  ODIs और T20I  बल्लेबाजों की सूची के शीर्ष पर स्थान हासील किया है। टीम को उनके नेतृत्व में बहुत सफलता मिली है और हाल ही में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड पर सीरीज में जीत दर्ज की गई है।

आज होगा भारत-न्यूजीलैंड के बीच पहला वन डे

मुंबई। श्रीलंका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शानदार जीत हासिल करने के बाद आत्मविश्वास से भरपूर भारतीय क्रिकेट टीम अब न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए तैयार है। दोनों टीमों के बीच 22 अक्टूबर से पांच वनडे मैचों की सीरीज शुरू हो जाएगी और इसका पहला मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेला जाएगा।

इस सीरीज में कोहली की टीम दो लक्ष्य साथ लेकर चलेगी। पहला, न्यूजीलैंड पर जीत हासिल करना और दूसरा, आईसीसी की वनडे रैंकिंग में फिर से पहला स्थान हासिल करना। हाल ही में जारी आईसीसी की वनडे टीमों की रैंकिंग में दक्षिण अफ्रीका ने भारत को पीछे धकेलते हुए पहला स्थान हासिल कर लिया। इस रैंकिंग में दोनों टीमों के अंक बराबर हैं, लेकिन दशमलव अंक के आधार पर दक्षिण अफ्रीका पहले स्थान पर है।


 


न्यूजीलैंड के गेंदबाजों का सामना करने के लिए भारतीय टीम के पास शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे और महेंद्र सिंह धोनी जैसे अनुभवी बल्लेबाज हैं और फिर कप्तान विराट कोहली भी शानदार फॉर्म में चल रहे हैं। कोहली ने बल्लेबाजी क्रम में स्वयं को तीसरे नंबर पर रखा है। यह देखना रोमांचक होगा कि चौथे नंबर पर कौन बल्लेबाजी के लिए आता है?

हाल ही में भारतीय टीम ने कई नए युवा खिलाड़ियों को मौका दिया, जिसमें हार्दिक पांड्या, मनीष पांडे और केदार जाधव के नाम शामिल हैं। इन खिलाड़ियों ने बीते आयोजनों में टीम की जीत में अहम भूमिका भी निभाई थी। दिनेश कार्तिक को भी इस सीरीज के लिए टीम में शामिल किया गया है और युवा खिलाड़ी पांड्या भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। इस प्रकार चौथे क्रम में बल्लेबाजी का अवसर किसे मिलता है, यह देखना रोमांचक होगा।

न्यूजीलैंड के खिलाफ इंडिया-ए टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करने वाले शार्दुल ठाकुर ने भी इस सीरीज के लिए भारतीय टीम में अपनी जगह बनाई। हालांकि, सभी की नजर अपनी मजबूत कलाई से बल्लेबाजों के छक्के छुड़ाने वाले भारतीय गेंदबाजों युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव पर होगी। इन दोनों ने आस्ट्रेलिया के बल्लेबाजों के लिए मैदान पर टिके रहना मुश्किल कर दिया था।

अच्छी फॉर्म में चल रहे चहल और कुलदीप निश्चित तौर पर न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों के लिए भी मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। न्यूजीलैंड टीम की बात की जाए, तो उसके पास रॉस टेलर और कप्तान केन विलियमसन जैसे बल्लेबाज हैं। इसके अलावा, मार्टिन गुप्टिल, टॉम लाथम और कोलिन मुनरो भी अच्छी फॉर्म में हैं।

पिछले अभ्यास मैच में लाथम और टेलर ने भारतीय बोर्ड अध्यक्ष एकादश के खिलाफ शानदार शतकीय पारियां खेली थीं। हाल ही में एक बयान में उप-कप्तान रोहित शर्मा ने कहा कि न्यूजीलैंड की गेंदबाजी भारतीय बल्लेबाजों के लिए चुनौतीपूर्ण साबित हो सकती है। मेहमान टीम की गेंदबाजी का नेतृत्व तेज गेंदबाज ट्रैंट बाउल्ट कर रहे हैं। इसमें टिम साउथी, एडम मिलने और मैट हेनरी भी शामिल हैं।

न्यूजीलैंड के स्पिन गेंदबाजों में मिशेल सेंटनर और कोलिन डी ग्रैंडहोम जैसे खिलाड़ी भारतीय बल्लेबाजों के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं। इसमें मुनरो भी टीम के लिए मददगार साबित हो सकते हैं।

टीमें (संभावित) :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, कुलदीप यादव, मनीष पांडे, हार्दिक पांड्या, अक्षर पटेल, अजिंक्य रहाणे और शार्दुल ठाकुर।

न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), मार्टिन गुप्टिल, कोलिन डी ग्रैंडहोम, रॉस टेलर, ट्रैंट बाउल्ट, मैट हेनरी, टॉम लाथम (विकेटकीपर), एडम मिलने, ईश सोढ़ी, केलिन मुनरो, हैनरी निकोल्स, ग्लेन फिलिप्स, मिशेल सेंटनर, टिम साउथी और जॉर्ज वॉर्कर।

कोलंबो टेस्ट टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बैंटिग का फैसला किया

भारत और श्रीलंका के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज का दूसरा मैच एसएससी स्टेडियम कोलंबो में खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने 10.1 ओवर में 1 विकेट गंवा कर 56 रन बना लिए हैं. चेतेश्वर पुजारा (0 रन) और के एल राहुल (21 रन) क्रीज पर हैं. इससे पहले भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया.

पहले टेस्ट मैच में शानदार जीत से उत्साहित टीम इंडिया दूसरे मैच में भी शानदार प्रदर्शन के दम पर सीरीज पर कब्जा जमाना चाहेगी. भारत सीरीज में 1-0 से आगे है. अगर टीम इंडिया कोलंबो टेस्ट जीत जाती है, तो यह उसकी श्रीलंका में लगातार दूसरी सीरीज जीत होगी. इससे पहले, भारत ने 2015 में तीन टेस्ट की सीरीज पर 2-1 से कब्जा किया था.

रवि शास्त्री करेंगे टीम इंडिया के कोच पद के लिए अप्लाई कोहली की हैं पहली पसंद

 टीम इंडिया के हेड कोच का पद खाली होने के बाद टीम इंडिया के डायरेक्टर रह चुके रवि शास्त्री ने मंगलवार को कोच बनने की इच्छा जता दी। सूत्रों के मुताबिक वह टीम इंडिया के कोच पद की रेस में शामिल हो गए हैं जल्दी ही वह इसके लिए आवेदन करेंगे। कोच के रूप में शास्त्री कप्तान विराट कोहली की पहली पसंद हैं। चैंपियंस ट्रॉफी से पहले कोहली ने सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण से कोच पद की दौड़ में शास्त्री का नाम शामिल करने का अनुरोध किया था। 
चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में हार के बाद कोच अनिल कुंबले ने अपना पद छोड़ दिया। हालांकि सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित सीओए ने कहा था कि वेस्टइंडीज दौरे पर कुंबले टीम इंडिया का कोच बने रहेंगे। लेकिन कुंबले टीम के साथ लंदन से वेस्टइंडीज नहीं गए। निजी कारणों का हवाला देकर वह स्वदेश लौट आए। 

टीम इंडिया का कोच बनने की दौड़ में पूर्व कप्तान वीरेंद्र सहवाग, सनराइजर्स हैदराबाद के कोच टॉम मूडी, डोडा गणेश,  लाल चंद राजपूत और रिचर्ड पायबस के नाम शामिल हैं। 24 जून को बीसीसीआई ने कोच पद के आवेदन की तारीख को बढ़ाकर 9 जुलाई कर दिया गया था। आवेदन की तारीख बढ़ाने की घोषणा करते हुए बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी ने कहा  कि जिन लोगों ने मुख्य कोच पद के लिए आवेदन कर दिया है, उन्हें अब दोबारा आवेदन करने की जरूरत नहीं है। उनका नाम अंतिम सूची में शामिल कर लिया जाएगा।