राजनीति

जिला पंचायत सदस्य क्षेत्र क्रमांक 05 से कांग्रेस पार्टी द्वारा अधिकृत हुए संतोषी मनोज रात्रे

कोनारगढ। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार जिला कांग्रेस कमेटी जांजगीर चाम्पा द्वारा त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जिला पंचायत के लिए कांग्रेस पार्टी द्वारा समर्थित प्रत्याशियों का नाम घोषित किया गया ।क्षेत्र क्रमांक 05 से श्रीमति संतोषी मनोज रात्रे ग्राम उरैहा चंडीपारा को अधिकृत किया गया है ।संतोषी मनोज रात्रे के अधिकृत होने से क्षेत्र के कार्यकताओ में ख़ुशी की लहर है ।

जिला पंचायत सदस्य क्षेत्र क्रमांक 08 से कांग्रेस पार्टी द्वारा अधिकृत हुए संदीप कुमार थवाईत

कोटमी सोनार। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार जिला कांग्रेस कमेटी जांजगीर चम्पा द्वारा त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में जिला पंचायत के लिए कांग्रेस पार्टी द्वारा समर्थित प्रत्याशियों का नाम घोषित किया गया ।क्षेत्र क्रमांक 08 से संदीप कुमार थवाईत ग्राम कोटमी सोनार को अधिकृत किया गया है ।संदीप थवाईत के अधिकृत होने से क्षेत्र के कार्यकताओ में ख़ुशी की लहर है ।

जांजगीर चापा : जीवन साहू ने कि सरपंच पद के लिए उम्मीदवारी

रिपोर्टर:- हेमंत जायसवाल की रिपोर्ट

बिर्रा-बम्हनीडीह विकासखंड के ग्राम पंचायत गतवा के सरपंच पद के लिए युवा पत्रकार व कियोस्क बैंक संचालक जीवन साहू ने सरपंच पद के लिए फार्म भरा। उनका कहना है गतवा में अभी तक कोई विशेष विकास कार्य नहीं होने और सरकारी योजनाओं से वंचित होने के कारण ग्रामवासी काफी नाराजगी में चल रहे थे । इस कारण युवा वर्ग और बुजुर्गों के मार्गदर्शन में उन्होंने अपना सरपंच पद के लिए आज ग्राम पंचायत भवन बिर्रा पहुंचकर नामांकन दाखिल किया। युवा पत्रकार जीवन साहू के सरपंच पद के लिए दावेदारी करने पर युवाओं का भरपूर समर्थन मिला रहा है।

नगर पंचायत नवागढ़ अध्यक्ष पद की चुनाव में कांग्रेस के भुनेश्वर केशरवानी बने अध्यक्ष ,, वही निर्दलीय अनिल गोड़ उपाध्यक्ष

छतीसगढ़ डेस्क : नवागढ़ नगर पंचायत नवागढ़ के चुनाव में 15 सदस्यों परिषद में 9 वोट कांग्रेस के भनेश्वर केशरवानी 6 वोट भाजपा के बद्री केशरवानी को मिला एवं उपाध्यक्ष में निर्दलीय अनिल गोड़ को 9 वोट एवं इतवारी खूंटे को 6 वोट प्राप्त हुआ ।।

मुंगेली नगर पालिका में भाजपा का कब्जा

नीलकमल सिंह ठाकुर :: मुंगेली नगरपालिका में आखिर कार बीजेपी का कब्जा हो ही गया ..चुनाव परिणाम आने के बाद से चर्चाएं जोरो पर थी कि आखिर शहरी सरकार की कुर्सी पर किस पार्टी का कब्जा होगा...बता दे कि चुनाव परिणाम नगरपालिका के कुल 22 वार्डो में से 11 भाजपा ,9 कांग्रेस तो निर्दलीय और जोगी कांग्रेस 1-1 जीत कर आये थे ,ऐसे में दोनों पार्टियों की ओर से जोड़ तोड़ की राजनीति आज अध्यक्ष उपाध्यक्ष के चुनाव से कुछ समय पहले तक होती रही ..हालांकि तमाम राजनीति जोड़ तोड़ व कयासों के दौर पर पूर्ण विराम अध्यक्ष उपाध्यक्ष चुनाव परिणाम आने के बाद लग गया ..जहाँ बीजेपी के सन्तु लाल सोनकर कुल 22 मतों में से 12- 10 की स्थिति में कांग्रेस प्रत्याशी हेमेंद्र गोस्वामी को हराकर अध्यक्ष निर्वाचित हुए तो वही उपाध्यक्ष चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी मोहन मल्लाह एवं कांग्रेस प्रत्याशी अरविंद वैष्णव को 11 -11 बराबर मत प्राप्त हुए ..जिसके बाद टाई की स्थिति निर्मित होने पर सर्वसम्मति से नगर के एक बच्चे के हाथों बंद पेटी से चीट निकलवाई गई ..जिसमे बीजेपी के मोहन मल्लाह उपाध्यक्ष के लिए निर्वाचित हुए..।

नगर पंचायत पुसौर के अध्यक्ष बने ऋतेश थवाईत

रायगढ़ जिले के नगर पंचायत पुसौर में नगरीय चुनाव कांग्रेस पार्टी की सरकार नगरवासियों ने चुनी है आज अध्यक्ष पद की चुनाव में पार्षदों द्वारा युवा चेहरा ऋतेश थवाईत को अध्यक्ष चुना गया है नगर पंचायत पुसौर के वार्ड क्रमांक 04 से पार्षद मनोनीत हुए है।इस मौके पर कांग्रेस पार्टी की पर्यवेक्षक शेष हरबंश की उपस्थिति रही इसके साथ ही पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ता मौजूद रहे। कार्यकर्ताओ में ख़ुशी की लहर छाई रही एक दूसरे को मिठाई खिलाकर बधाई दिए।

खरसिया जनपद पंचायत क्षेत्र क्रमांक 18 से भाजपा समर्थित अमिता रूप नारायण पटेल को B. D. C पद के लिए मिला टिकट

खरसिया क्षेत्र के कद्दावर नेता अमिता रूप नारायण पटेल क्षेत्र क्रमांक 18 के भाजपा समर्थित प्रत्याशी को B.D.C पद के लिए टिकट पार्टी की तरफ से दिया गया है तथा क्षेत्र में इनकी एक मजबूत पकड़ है सभी के सुख दुख में काम आने वाले तथा जमीनी स्तर से जुड़े हुए रूप नारायण पटेल( सरदार) इनकी एक अलग पहचान है इनके क्षेत्र में आने वाले ग्राम बसनाझर,करूमौहा, तथा सोनबरसा पंचायत मे इनकी एक अमिट छाप है तथा ओम प्रकाश चौधरी के करीबी माने जाने वाले अमिता रूप नारायण पटेल को टिकट मिलने से राजनीति हलचल तेज हो गई है अब देखने वाली बात यह है की अब जनता इन्हें किस हद तक पसंद करती है

भाजपा ने चुनाव के पहले ही मानी हार

रायपुर। 5 जनवरी 2020। भाजपा द्वारा नगरी निकाय चुनाव को लेकर की गई आधारहीन और तिकडमी शिकायतों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा ने चुनाव के पहले ही हार स्वीकार कर ली है। दरअसल शहरों की जनता ने भाजपा को खारिज कर दिया है। कांग्रेस की तुलना में भाजपा के बहुत कम पार्षद जीत कर आए हैं। भाजपा को शहरी जनता के जनादेश को स्वीकार करना चाहिए और अपनी गलतियों पर आत्म चिंतन करना चाहिए।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि जनादेश को स्वीकार करने और जनादेश का सम्मान करने के बजाय भाजपा तिकड़म और साजिश की राजनीति करने में लगी है। इसी कारण तो प्रदेश की जनता ने भाजपा को खारिज किया है। भाजपा द्वारा की जा रही तिकड़म साजिश और झूठी शिकायतों की राजनीति को जनता पसंद नहीं करती है।

नगर पंचायत चुनाव का नतीजा घोषित भाजपा की अमृता प्रदीप कौशिक बैठेंगे अध्यक्ष की कुर्सी पर

चुनाव संपूर्ण होने के कुछ दिन बाद अध्यक्ष पद की दावेदारी करने उतरे दो प्रत्याशी जिसमें भाजपा से अमृता प्रदीप कौशिक और वहीं कांग्रेसी गीता संतोष गुप्ता ने अपनी दावेदारी पेश की 15 वार्डों में 9 सीट भाजपा ने दर्ज कराई वहीं 5 सीट कांग्रेसी ने अपने नाम किया एक सीट जनता कांग्रेस लेकर अपनी मौजूदगी का एहसास कराते हुए अपने नाम दर्ज कराया इसी के मद्देनजर अध्यक्ष पद की कुर्सी का फैसला होना था आम जनता यही सोचती रही की 9 सीट भाजपा के होने के बाद अमृता प्रदीप कौशिक ही अध्यक्ष पद की कुर्सी पर विद्वान होंगी जो कि उनको सूचना सही पर कहानी तब पलटी जब लोग नौ की जगह 11 वोट पाने के बात सुनाइ दी 9 सीट से जीतने के बाद अमृता प्रदीप कौशिक का वर्चस्व और भी ज्यादा बड़ा जब 9 की बजाए 2 वोट ज्यादा प्राप्त किया गया इससे लगता है कि जनता भी चाहती है कि अमृता प्रदीप कौशिक ही 5 साल नगर के विकास में अपना योगदान दें इस दौरान सुबह से ही नगर के थाना प्रभारी सुखनंदन पटेल के साथ एसडीओपी रश्मीत कौर चावला उपस्थित रही पूरी प्रक्रिया समाप्त होने के बाद अब कांग्रेस अपने विभीषण को तलाश करने में जुट जाएगी

बिलासपुर : रामशरण यादव बने निर्विरोध महापौर

रामशरण यादव निर्विरोध महापौर चुन लिए गए।बता दें, बिलासपुर नगर निगम में आज महापौर का चुनाव हो रहा है। कांग्रेस और भाजपा के बीच जोर आजमाइश चल रही है, क्रास वोटिंग से बचने के लिए अंतिम समय मे नाम की घोषणा की। दलीय आधार पर गौर करें तो 70 वार्ड वाले बिलासपुर नगर निगम में 37 सीट पर कांग्रेस और 32 सीट पर भाजपा के पार्षद हैं। परिणाम आने से पहले ही कांग्रेस के नेता शेख गफ्फार की मौत से एक सीट रिक्त हो गया है। गौरतलब है कि निकाय चुनाव में कांग्रेस के 35 और कांग्रेस के बागी तीन मिलाकर कुल 38 सीटें जीती हैं। ऐसे में भाजपा ने मेयर का चुनाव नहीं लड़ने का निर्णय लिया।