राजनीति

भाजपा का धरना- प्रदर्शन केवल नॉटंकी - हितेंद्र

बलौदा बाजार- भाजपा के धरना प्रदर्शन के कार्यक्रम पर प्रतिक्रिया देते हुए जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हितेंद्र ठाकुर और प्रवक्ता सतीश शर्मा से इसे भाजपा का नॉटंकी करार दिया है । उन्होंने बताया कि कोरोना एक वैश्विक महामारी है और पूरी दुनिया इससे प्रभावित है । राष्ट्रीय आपातकाल जैसे हालात है इसमें केंद्र सरकार को पूरी जवाबदेही लेते हुए सभी के ट्रीटमेंट की ब्यवस्था करनी चाहिए थी तो केंद्र सरकार अपनी जवाबदारी से मुँह मोड़ लिया । जब 18 साल से ज्यादा वालो को टिका लगवाने की बारी आई तो वो राज्य सरकारों पर डाल दिये । ऐसे में भाजपा का जो धरना- प्रदर्शन का कार्यक्रम है वो केंद्र सरकार के खिलाफ होने चाहिए । भाजपाइयों में जरा सा भी मानवीय संवेदना है तो वो केंद्र सरकार के विरुद्ध प्रदर्शन कर राज्य सरकार को सहयोग प्रदान करने को कहे । राज्य की स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर ढंग से काम कर रही है ।ट्रीटमेंट, टेस्टिंग, वैक्सिनेशन के मामले में हमारा राज्य अच्छे ढंग से काम कर रहा है । स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर करने, आक्सीजन और वेंटिलेटर, उपलब्ध कराने, जीवन रक्षक दवाओं और इंजेक्शन उपलब्ध करवाने के मामले में राज्य सरकार बेहतर काम कर रही है । मुख्यमंत्री ने कहा है कि आक्सीजन की कोई कमी नही है बल्कि हमारा राज्य दूसरे राज्य को ऑक्सीजन सप्लाई कर रहा है । भाजपा कार्यकर्ताओं को भाजपा शासित राज्यों की स्थिति की ओर भी देखना चाहिए । प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी सहित पूरे उत्तरप्रदेश में स्थिति भयावह हो गई है। प्रधानमंत्री, गृहमंत्री के गृह राज्य गुजरात में स्थिति बेकाबू हो गया है । मध्यप्रदेश में कोरोना की क्या स्थिति है किसी से छुपा नहीं है। बिहार , हरियाणा भी देख ले वहाँ भी कैसे हालात है ।भाजपा वाले पहले इन राज्यो का आंकलन कर ले फिर छत्तीसगढ़ सरकार के विरुद्ध कोई प्रदर्शन करे। भाजपा के लोग आपदा में अवसर ढूंढ रहे है। कभी इंजेक्शन के दाम को लेकर गलतफहमी पैदा करते है तो कभी दवा आक्सीजन को लेकर । इनका काम केवल लोगो मे भ्रम पैदा करना है । धरना प्रदर्शन करने के बजाय इन लोग उसी समय धरातल में उतर कर लोगो का सहयोग करते तो ज्यादा अच्छा होता ।

15 सालों तक सत्ता में रहते हुए जिले की स्वास्थ्य सेवाओं को बर्बाद करने वाले लोग वर्तमान सरकार पर आरोप लगाए ये शोभा नहीं देता - सतीश शर्मा

बलौदाबाजार- दुनिया भर लोग वैश्विक महामारी कोरोना के प्रभाव से चिंतित व डरे हुए है । वैश्विक महामारी से भारत और हमारा प्रदेश और हमारा जिला भी पूरी तरह से प्रभावित है । राज्य की भुपेश सरकार कोरोना से निपटने के लिए पूरी ताकत लगाए हुए है। सरकार अपने काम को बेहतर ढंग से कर रही है।लोगो तक स्वास्थ्य सेवाएं पहुचे उसके लिए पूरी तरह से मॉनिटरिंग किया जा रहा है। जिला के भाजपा नेताओं के द्वारा सरकार पर आरोप लगाए जाने पर जिला काँग्रेस कमेटी के प्रवक्ता सतीश शर्मा ने भाजपा नेताओं को "विपदा में राजनीति" न करने की सलाह देते हुए ये आरोप लगाया है कि पिछले 15 सालों तक सत्ता में रहते हुए प्रदेश व जिले की स्वास्थ्य सेवाओं को पूरी तरह से बर्बाद करने वाले लोग वर्तमान सरकार पर आरोप लगाए ये शोभा नहीं देता है। भाजपा के तीन कार्यकाल के दौरान अस्पतालों की क्या स्थिति थी आम जन को मालूम है। अस्पतालों में डॉक्टरों की , दवाइयों की कमी तो कई अस्पतालों में तालाबंदी के हालात थे । जब से राज्य में भूपेश बघेल की सरकार बनी है तब से स्वास्थ्य के साथ सभी क्षेत्रों में बेहतर काम हुए है । टिका करण में प्रदेश आगे है, टेस्टिंग के मामले में प्रदेश बेहतर काम कर रहा है ।अभी तो ढाई साल ही हुए है सरकार को , उसमे भी पिछले 14 महीनों से सरकार कोरोना जैसे वैश्विक महामारी से लड़ रहा है । कोरोना के दौरान सरकार की चिंता लोगो की जान बचाने की है । मगर भाजपा के लोग "आपदा में भी अवसर" तलाश रहे है जो कि उनकी ओछी मानसिकता को दर्शाता है। उन्होंने भाजपा नेताओं को सलाह देते हुए कहा है कि "इस मुश्किल समय में सरकार को घेरने सरकार पर आरोप लगाने के बजाय लोगो की मदद के लिए आगे आने चाहिए"। अभी का वक्त मुश्किल भरा वक्त है इससे कैसे निपटें उसके लिए सरकार के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चलने का वक्त है । राजनीति करने के लिए तो बहुत से अवसर आएंगे । सतीश शर्मा ने कहा है कि भाजपा की जनता विरोधी नीतियों के कारण ही पिछले चुनाव में जनता उनको अच्छे से सबक सिखा चुकी है। जिले में कोरोना के प्रभाव को देखते हुए प्रशासन के सहयोग के लिए जिला अध्यक्ष हितेंद्र ठाकुर के द्वारा जिला स्तरीय कंट्रोल रूम बनाया गया है जिससे कोरोना संक्रमण के दौरान जरूरतमंदों को सहायता पहुचाया जा सके। ये कंट्रोल रूम स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर कोविड संक्रमण के रोकथाम व कोविड मरीजो को चिकित्सा, स्वास्थ्य, अस्पताल, टेस्टिंग, टिका एवं आक्सीजन ब्यवस्था तथा जरूरतमंद लोगों को खाना,राशन सामग्री से संबंधित ब्यवस्थाओ में सहयोग प्रदान करने हेतु कार्य करेंगे । साथ ही साथ सभी ब्लाकों में भी इसी तरह से एक टीम गठित की गई है जो स्थानीय प्रशासन के साथ सहयोग करेंगे । जिले के भाजपा नेताओं को आरोप लगाने के बजाय जनता की सेवा के लिए कार्य करने चाहिए । जिले की जनता भाजपा के कारनामो पर पूरी तरह से नजर रखे है आने वाले समय मे जनता भी बखूबी जवाब देने को तैयार रहेंगे । सतीश शर्मा ने कहा है कि आरोप लगाने वाले भाजपा नेताओं को एक बार भाजपा शासित राज्यो के स्थिति का भी आकलन कर लेना चाहिए।

सीएम बघेल और स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने दिए निर्देश, बिना टेस्टिंग के किसी भी व्यक्ति के प्रवेश पर रोक

रायपुर- राज्य सरकार ने बिना टेस्टिंग के किसी भी व्यक्ति के बस्तर के किसी भी गांव में प्रवेश पर रोक लगा दी है। यहां तक की छुट्टी से लौटने वाले सीआरपीएफ और पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों की टेस्टिंग एंट्री पाइंट पर होगी। मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि बस्तर में संक्रमण न फैले इसके लिए यह जरूरी है कि बाहर से आने वाला हर व्यक्ति बिना टेस्टिंग के न तो गांव में और न ही शहर में जाए। आवश्यकता अनुसार उन्हें क्वारिन्टाइन सेंटर और आइसोलेशन केेंद्र में रखने की व्यवस्था की जाए। बाहर से आने वालों की एयरपोर्ट, रेल्वे स्टेशन, बस स्टेंड, अंतर्राज्यीय सीमाओं के एंट्री पाइंट पर ही टेस्टिंग सुनिश्चित कर ली जाए। मंगलवार को वर्चुअल बैठक में बस्तर संभाग के 7 जिलों में कोरोना संक्रमण की वर्तमान स्थिति की समीक्षा के दौरान सीएम बघेल और स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने यह निर्देश दिए। सीएम ने कहा कि हमारा फोकस टेस्टिंग के साथ-साथ मरीजों के इलाज, वैक्सीनेशन, कोरोना संक्रमण की रोकथाम और संक्रमित व्यक्तियों की कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग तथा सघन जांच पर होना चाहिए। कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग से संक्रमण को रोकने में काफी हद तक मदद मिलेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि छुट्टी से लौटने वाले सीआरपीएफ और पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों की टेस्टिंग एंट्री पाइंट पर की जाए। उन्हें क्वारिन्टाइन और आइसोलेशन में रखने के बाद ही कैम्पों में जाने की अनुमति दी जाए। उन्होंने कहा कि पिछली बार इसी वजह से बस्तर में संक्रमण बढ़ा था। बस्तर आईजी आने वाले जवानों की जानकारी रखे और ऐसे जवानों को लाने के लिए पृथक वाहन की व्यवस्था करें। जवान सार्वजनिक परिवहन के साधनों से वापस न लौटे। उन्होंने कहा कि खदान क्षेत्रों में ट्रकों में आने वाले ड्राइवरों और क्लीनरों की जांच की जाए और उन्हें मजदूरों से अलग रखने की व्यवस्था की जाए।मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए मनरेगा और लघु वनोपजों के संग्रहण कार्य प्रारंभ किए जाएं। इससे लोगों को सुगमता से रोजगार उपलब्ध होगा और अतिरिक्त आमदनी भी मिलेगी। स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने बस्तर संभाग में कोरोना संक्रमण की स्थिति के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए हर आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा। साथ ही सभी कलेक्टरों को अपने-अपने जिले में पंचायतवार बाहर गए मजदूरों और लोगों की जानकारी भी एकत्रकर पोर्टल में प्रदर्शित करने को कहा। उन्होंने ग्राम पंचायतों में क्वारिन्टाइन सेंटर और आइसोलेशन सेंटर की स्थापना के संबंध में भी आवश्यक निर्देश दिए। मुख्यमंत्री बघेल ने संभाग के सभी जिलों में ऑक्सीजन बेड, आईसीयू बेड, वेंटिलेटर बेड और ऑक्सीजन सिलेंडरों, मेडिकल स्टाफ रेमडेसिविर और अन्य आवश्यक दवाइयों की उपलब्धता तथा सीएसआर मद से किये जा रहे कार्यों की समीक्षा की। ये निर्णय भी हुए बाहर से आने वाला हर व्यक्ति के टेस्टिंग के बिना शहर या गांवों में प्रवेश पर मनाही। छुट्टी से लौटने वाले सीआरपीएफ और पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों को टेस्टिंग और क्वारिन्टाइन के बाद ही कैम्पों में भेजा जाए। खदान क्षेत्रों में बाहरी ड्राइवर और क्लीनरों की जांच और मजदूरों से अलग रखने की हो व्यवस्था। कोविड गाइडलाइन के तहत होंगे मनरेगा और लघु वनोपजों के संग्रहण कार्य। कोरोना संक्रमितों के कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग का पता कर सघन जांच की हो कार्यवाही।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोरोना की चपेट में, ट्वीट कर दी जानकारी

रायपुर- कांग्रेस नेता राहुल गांधी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं. ट्वीट कर उन्होंने जानकारी दी है.इस कोरोना संक्रमण की चपेट में कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी आ गए है. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि मुझे कोरोना के माइल्ड सिम्टम्स थे. जिसके बाद मैने कोरोना टेस्ट कराया है और मेरी रिपोर्ट पॉजिटिवि आई है.

नगरीय प्रशासन विकास एवं श्रम विभाग के मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया 30 को रहेगे बिलासपुर दौरे पर

नगरीय प्रशासन विकास एवं श्रम विभाग के मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया 30 जनवरी 2021 को जिले के प्रवास पर रहेंगे। डॉ. डहरिया 30 जनवरी को दोपहर 12.30 बजे निजी निवास रायपुर से बिलासपुर के लिए कार द्वारा प्रस्थान करेंगे और बिलासपुर पहंुचकर दोपहर 3 बजे से शाम 4 बजे तक कपिल नगर सरकण्डा बिलासपुर में भूमिपूजन कार्यक्रम में शामिल होेंगे। वे शाम 4 बजे कपिल नगर सरकण्डा से मोपका के लिए प्रस्थान करेंगे तथा शाम 4.15 से शाम 6.30 बजे तक वार्ड क्र. 47 मोपका परिक्षेत्र बिलासपुर में बाबा गुरू घासीदास जन्मोत्सव व पारिवारिक मिलन समारोह कार्यक्रम में शामिल होेंगे। कार्यक्रम समाप्ति के पश्चात् वे शाम 6.30 बजे कार द्वारा रायपुर के लिए प्रस्थान करेंगे।

कमीशन के बगैर कोई कार्य नही , विकास दिखाने के लिए भाजपा के किये कार्यो पर वाह वाही लूट रही कांग्रेस - महेश गागड़ा

बीजापुर - प्रदेश सरकार की झूठी वादों और अहित नितियों के खिलाफ किसान उतरे भाजपाइयों के संग सड़क पर। प्रदेश भाजपा के आव्हान पर पूर्व मंत्री महेश गागड़ा और जिला भाजपा अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार के नेतृत्व में एक दिवसीय धरना प्रदर्शन और कलेक्ट्रेड घेराव किया। इस दौरान जन समुदाय को संबोधित करते हुए महेश गागड़ा ने प्रदेश सरकार को तीखा प्रहार करते हुए कहा कि सत्ता हतियाने के लिए कांग्रेस जनता से अनगिनत वादे थोक के भाव मे किये परंतु सरकार में आते ही इनका दोहरा चरित्र जनता के सामने आ गया,ऐसा कोई वर्ग हो जिसे कांग्रेस ने ठगा नही चाहे किसान हो,युवा वर्ग हो विभिन्न विभाग के कर्मचारी हर एक वर्ग के साथ छलावा प्रदेश की भूपेश बघेल सरकार ने किया है। एक दिवसीय धरना और कलेक्ट्रेट घेराव कार्यक्रम में उमड़ा जनसैलाब को आने वाले समय मे बदलाव का संकेत बताया। साथ ही श्री गागड़ा ने कहा कि यह अब शुरूआत है आने वाले समय मे जनता के साथ हो रही अन्याय के खिलाफ भाजपा सड़क की लड़ाई क्यों न लड़ना पड़े सदैव तत्पर रहेगी । आगे उन्होंने स्थानीय विधायक पर पुलिस की आड़ लेकर आदिवासियों को परेशान करने और डंडे खिलाने के कार्य करवाने का आरोप लगाया। वही जिला भाजपा अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार ने कहा कांग्रेस बार-बार बिना ज्ञान के केंद्र की मोदी सरकार पर दोष मढ़ना बंद करके अपने किये वादों को पूरा करें,अपनी नाकामी छुपाने के लिए केंद्र पर दोष लगा रही है जबकि बारदाना व्यवस्था करना प्रदेश सरकार की होती है। सिर्फ किसानो के साथ अन्याय नही हो रहा बल्कि हर वर्ग के साथ यथास्थिति है जो कि भूपेश सरकार की नाकामी बताने के लिए काफी है। सरकार चला नही पा रहे हैं तो कुर्सी छोड़ देनी चाहिये। आज बीजापुर जिले में विधायक सीधा-सीधा भ्रष्टाचार में संलिप्त है वे स्वयं अधिकारियों के साथ निर्माण कार्यों की भ्रष्टाचार के हिस्सेदारी में हैं ऐसे में क्षेत्र का विकास बेहतर कभी नही हो सकता। लंबे समय बाद बड़ी संख्या में जनता भाजपा के साथ पुनः खड़ी नजर आ रही है जन समर्थन देख भाजपा संगठन भी गदगद है एक दिवसीय धरना में जिले के अलग-अलग क्षेत्रों से हजारों लोग एकत्रित हुए थे। नया बस स्टैंड में धरना देने पश्चात हजारों भीड़ कलेक्टर कार्यालय का घेराव करने निकले हालांकि भारी पुलिस बल तैनात थी व जगह-जगह बैरिकेड लगा रखी थी एक बैरिकेड को तोड़ आगे बड़े पर आगे जाने से आंदोलनकरियों को पुलिस ने रोका इस दौरान सैकड़ों भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने किसानों के समर्थन में बाइक रैली भी निकाली.।

भाजपा का आंदोलन फ्लाप शो -कांग्रेस किसानों के नाम पर किये आंदोलन में किसान ही नही आये - कांग्रेस

रायपुर/22जनवरी 2021। भारतीय जनता पार्टी द्वारा किया गया आंदोलन पूरी तरह फ्लाप साबित हुआ। प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी महामंत्री और किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष चन्द्रशेखर शुक्ला ने कहा कि किसानों के नाम पर किये गए आंदोलन को किसानों ने ही नकार दिया। किसानों ने भारतीय जनता पार्टी द्वारा किये गए आंदोलन से दूरी बना कर यह बता दिया कि भारतीय जनता पार्टी के उठाये गए मुद्दों से राज्य के किसान सहमत नही है। कांग्रेस महामंत्री चन्द्रशेखर शुक्ला ने कहा कि जब राज्य में 90 प्रतिशत से अधिक धान की खरीदी हो चुकी है। राज्य के उन्नीस लाख से अधिक किसानों ने अपना धान बेच कर भुगतान प्राप्त कर लिया है तब भाजपाइयों को किसानों की सुध आ रही है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की किसानों से किये गए वायदे को निभाने की प्रतिबद्धता है कि धान खरीदी को अभी 9 दिन शेष है सरकार ने 84 लाख मीट्रिक टन धान की रिकार्ड खरीदी कर लिया है। कांग्रेस महामंत्री चंद्रशेखर शुक्ला ने कहा कि जब केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ के द्वारा मांगे गए धान बोरो में कटौती किया था तब कोई भाजपा का नेता राज्य किसानों के हित मे आवाज नही उठाया। जब केंद्र ने राज्य से लिये जाने वाले चावल के कोटे को 60 लाख मीट्रिक टन से घटा कर 24 लाख कर दिया तब रमन सिंह सहित किसी भी भाजपा नेता और सांसद ने इसका विरोध नही किया। जब मोदी सरकार ने छत्तीसगढ़ की भूपेश सरकार को धान पर बोनस देने पर रोक लगाया तब भी भाजपा के छत्तीसगढ़ के नेता राज्य के बजाय केंद्र सरकार के पक्ष में खड़े थे। आज भाजपा नेता किसानों के हित में घड़ियाली आंसू बहा कर आंदोलन की नौटंकी कर रहे।

विरोध करने वाले भाजपा नेताओं ने पहले अपना धान बेचा और अब दिखावे का विरोध कर रहे है- विक्रम शाह मंडावी

बीजापुर - छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार शुक्रवार को ज़िला कांग्रेस कमेटी बीजापुर के द्वारा विशेष प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया जिसमें प्रेस से चर्चा करते हुए बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं बीजापुर के विधायक ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा की मोदी सरकार प्रदेश सरकार से लगातार सौतेला व्यवहार कर रही है चाहे बरदाने की आपूर्ति की बात हो फिर किसानों से सम्बंधित कोई और हमेशा से मोदी सरकार और भाजपा के लोगों ने प्रदेश के किसानों से सौतेला व्यवहार ही किया है जबकि प्रदेश की जनता ने केंद्र में प्रदेश के हित की बात करने के लिए भाजपा को प्रदेश ने नौ सांसद दिए है पर आज तक प्रदेश हित में किसी भी सांसद ने संसद में या फिर केंद्र सरकार से एक भी ऐसी बात नहीं रखी जिससे प्रदेश की जनता को लाभ हो, केंद्र की मोदी सरकार के लगातार सौतेला रवैए के बावजूद प्रदेश की भूपेश सरकार ने बिना किसी दबाव के आज पर्यंत तक पिछले वर्षों की अपेक्षा अधिक धान की ख़रीदी कर रही है। विवादित काले क़ानूनों को लेकर बस्तर क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष और बीजापुर के विधायक ने भाजपा और मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की देश में जब से मोदी सरकार आई है तब से लगातार किसान विरोधी क़ानून ला रहे है मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल में अपने व्यापारिक मित्रों को लाभ पहुँचाने के लिए किसान विरोधी भूमि अधिग्रहण क़ानून लाई थी जिसका कांग्रेस पार्टी ने पुरज़ोर विरोध किया था जिसके फलस्वरूप मोदी सरकार को मजबूरन भूमि अधिग्रहण क़ानून को वापस लेना पड़ा अब फिर उसी रास्ते पर चलते हुए मोदी सरकार ने अपने व्यापारिक मित्रों को लाभ पहुँचाने के लिए विवादित तीन काले क़ानूनों को लाई है जिसका पूरे देश में विरोध है और देश के किसान आज सड़कों पर है और कई किसानों ने तीन काले क़ानूनों के विरोध करते करते अपने प्रणों तक की आहुति दे रहे है लेकिन भाजपा के सांसद इस पर भी राजनीतिक रोटियाँ सेंक रहे है। जबकि प्रदेश के भाजपा सांसदों को मोदी सरकार से माँग करनी चाहिए कि किसान हित में इन तीन काले क़ानूनों को पूरी तरह वापस ले। भाजपा और मोदी सरकार चाहती ही नहीं की किसानों की आय दुगुनी हो बल्कि भाजपा और मोदी सरकार की हमेशा से ये कोशिश रही है की किसी भी तरह देश के किसानों की ज़मीन को छीनकर मोदी सरकार के कुछ चुनिंदा व्यापारिक मित्रों को दिया जाय अब देश और प्रदेश का किसान जाग गया है अब मोदी सरकार और भाजपा के किसी भी जुमले में आने वाले नहीं है। प्रेस से चर्चा में विक्रम शाह मंडावी ने आगे कहा की भाजपा के लोग एक तरफ़ तो धान ख़रीदी का विरोध कर रहे है वहीं दूसरी तरफ़ धान के समर्थन मूल्य का लाभ ले रहे है भाजपा का ये कैसा विरोध ? भाजपा ने हमेशा से किसानों का अपमान ही किया है जिसका सबसे बड़ा उदाहरण किसान सम्मान निधि है जिसके नाम पर भाजपा और मोदी सरकार ने किसानों का अपमान करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है। इसके विपरीत कांग्रेस की भूपेश सरकार ने अपने दो वर्षों के कार्यकाल में किसानों से किए गए हर वादे को पूरी की है चाहे धान का समर्थन मूल्य 2500 देने की बात हो या फिर क़र्ज़ माफ़ी की बात हो भूपेश सरकार हर वो वादा पूरा करी है जो वादे किसानों से की गई थी। आगे विक्रम शाह मंडावी ने कहा कि भाजपा ने 2014 के घोषणा पत्र में किसानों को फसल के लागत एवं समर्थन मूल्य पर 50 प्रतिशत का वायदा किया था उसे आज तक पूरा नहीं किया गया। प्रदेश में भाजपा के 15 सालों में छत्तीसगढ़ में किसानों से एक एक दाना ख़रीदने का वादा, 5 हार्सपावर पम्पों को मुफ़्त बिजली, 2100 रुपए में धान का समर्थन मूल्य, 300 रुपए बोनस देने के वादे से पूरी तरह मुखर गई यहाँ तक की किसान आत्म हत्याओं पर भी भाजपा सरकार शून्य बनी रही और लगातार किसानों से पंद्रह सालों तक छल करती रही। वही स्थिति केंद्र की मोदी सरकार की है मोदी सरकार ने किसानों की आय दुगुनी करने का वादा किया पर आज तक इस पर कोई रोड मेप नहीं है स्वामिनाथन कमेटी लागू नहीं कर उसके मापदण्ड को ही बदल डाला और तीन किसान क़ानून जिसमें किसान क़ानून -1 प्राइवेट मंडी, किसान क़ानून -2 कॉंटेक्टफ़ार्मिंग, किसान क़ानून -3 बड़े जमाख़ोरों और बड़े मुनाफ़ाखीरों को खुली छूट देने की कोशिश मोदी सरकार और भाजपा लगातार कर रही है। जिसका पूरे देश में विरोध हो रहा है आने वाले दिनों में भाजपा और केंद्र की मोदी सरकार के किसान विरोधी रवैए का कांग्रेस लगातार विरोध करेगी। आज के प्रेस वार्ता में ज़िला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष लालू राठौर प्रदेश कांग्रेस सचिव अजय सिंह, ज़िला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियाम, बस्तर क्षेत्र आधिवासी विकास प्राधिकरण की सदस्य एवं ज़िला पंचायत सदस्य श्रीमती नीना रावतिया उद्दे के अलावा बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

किसान आंदोलन के समर्थन में NSUI ने भेजा धान एव्म नगद

कृषि बिल कानून के विरोध में दिल्ली में लगातार दो महीनों से आंदोलन किसानों के द्वारा किया जा रहा है जिसके समर्थन में एनएसयूआई द्वारा पूरे प्रदेश में चलाए जा रहे एक रुपए एक पहली ध्यान देकर बढ़ाएं किसानों का सम्मान अभियान तहत के संगठ्न के प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा द्वारा अपने जमीनी कार्यकर्ताओं को घर-घर जाके किसानों के सहयोग हेतु उन्हें प्रेरित करने,एव्म समाज के हर वर्ग को इस अभियान से जोड़ने का निर्देश दिया गया था, जिसका पालन करते हुए जिला जांजगीर-चाँपा इकाई के द्वारा विभिन्न ब्लॉकों से किसानों, जनप्रतिनिधियो, सम्मानीय कांग्रेस जनो की मदद से लगभग 100 बोरी धान एव्म 12000/- नगद इक्ट्ठा किया गया, BBN24 News को जानकारी देते हुए जिला अध्यक्ष अंकित सिंह सिसोदिया ने कहा की कार्यकर्ताओं के द्वारा किसानों के लिए समर्थन मे मदद जूटाने के लिए दिन रात मेहनत किया जा रहा है, अभी भी कुछ ब्लाको से कुछ सामान आना जारी है l जिन्हे पुनः राजीव भवन रायपुर भेजा जाएगा l विधानसभा अध्यक्ष आकाश तिवारी ने इस पुरे अभियान की सराहना करते हुए कहा कि किसानों की पीड़ा को समझते हुए प्रदेश अध्यक्ष आकाश शर्मा के द्वारा यह कदम उठाया गया यह कदम अत्यंत सराहनीय निश्चित तौर पर इससे दिल्ली बॉर्डर पर आंदोलनरत किसानों को सहायता मिलेगी l इस अवसर पर राष्ट्रीय संयोजक राजकुमार सिंह प्रदेश सह संयोजक अमित कुमार यादव गौरव शुक्ला अर्पित देवांगन गिरीश जायसवाल सहित अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे l

चिरमिरि में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार हेतु जे सी सी जे ने सौंपा ज्ञापन

चिरमिरि में स्वास्थ्य सुविधाओं के आभाव को देखते हुवे जनहित में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे)के एक प्रतिनिधि मंडल ने रीजनल अस्पताल चिरमिरि में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार हेतु प्रबंध-सह-निदेशक एस ई सी एल बिलासपुर के नाम रीजनल अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.राजीव दुबे को 23 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन सौंप कर तत्काल पूर्ण करने की मांग की,ज्ञात हो कि चिरमिरि क्षेत्र के सबसे बड़े हॉस्पिटल में बुनियादी सुविधाओं का आभाव है,तथा प्रबंधन इस ओर गंभीर नहीं है,जिसके कारण यहां के लोगों को इलाज हेतु बाहर जाना पड़ता है, तथा कई प्रकार की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है,मांग पूर्ण नहीं होने पर जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने आन्दोल की चेतावनी भी दी है, प्रतिनिधिमंडल में मुख्य रूप से वरिष्ठ नेता शिव नारायण राव,पार्षद आदित्य राज डेविड,शाहिद महमूद,समुद्र राज,उदय सिंह,फणीन्द्र हमाम मिश्रा,सानु जोंसी,सुनील सोनवानी,राजेन्द्र नाथ प्रधान,शेरू खान,फैजान रज़ा, संदीप सिंह,भोलेश्वर साहू,तिलकेश्वर चौहान,जोली रॉय,रामदेव लकड़ा,जीशान,अनस,पिंटू,योसेस जेफरसन,अनिल दलाई,छोटकन पांडेय,शामिल थे,

भाजपा के धरने से किसानों ने बनाई दूरी अनेकों ब्लाक में दर्जन भर भी भाजपाई नहीं जुटे - कांग्रेस

रायपुर/13 जनवरी 2021। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा के धरने को किसानों का समर्थन नहीं मिला। भारतीय जनता पार्टी के द्वारा आयोजित धरना से किसानों ने अपने आपको अलग रखा एक भी किसान और किसान संगठन ने भाजपा के धरने को समर्थन नहीं दिया। जो भाजपा तीन काले कानून बना कर देश के किसानों के खिलाफ षड़यंत्र रची है। उस भाजपा के छत्तीसगढ़ इकाई के लोग किसानों के समर्थन में आंदोलन की नौटंकी कर रहे है। भाजपा का प्रदर्शन फ्लाप साबित हुआ, अनेकों ब्लाक में दर्जन भर भी भाजपाई नहीं जुटे। भाजपा नेताओं को वास्तव में किसानों की चिंता है तो वह केन्द्र की मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन करें जो छत्तीसगढ़ के धान उत्पादक किसानों को 2500 रू. धान की कीमत देने में अडंगेबाजी लगाती है। मोदी सरकार छत्तीसगढ़ के चावल में कटौती करती है। मोदी सरकार ने किसान सम्मान निधि से छत्तीसगढ़ के 25 लाख किसानों को वंचित रखा। भाजपा के किसी नेता ने छत्तीसगढ़ के किसानों के हित में केन्द्र से प्रधानमंत्री मोदी से बात करने की हिम्मत नहीं जुटाई। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि राज्य में अब तक 70 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। प्रदेश में अब तक लगभग 17 लाख किसानों का धान सरकार खरीदी कर चुकी है। जब धान खरीदी का लक्ष्य 80 फीसदी पूरा हो गया तब भाजपा को किसानों की सुध आ रही है। भारतीय जनता पार्टी के नेता जवाब दें कि केन्द्र के द्वारा छत्तीसगढ़ के सेन्ट्रल पूल के चावल में कटौती कर 60 लाख मीट्रिक टन से घटा कर 24 लाख मीट्रिक टन किये जाने पर क्यों मौन है? जूट कमिश्नर ने छत्तीसगढ़ सरकार की मांग के अनुसार 3.5 लाख गठान बारदाने देने की सहमति नहीं दी, इस बारे में भाजपा नेताओं ने कब केन्द्र को पत्र लिखा? छत्तीसगढ़ के किसानों को धान की कीमत 2500 देने की छूट के लिये मोदी सरकार को भाजपा के किस नेता ने पत्र लिखा? जनता सांसदों का चुनाव तो इसीलिये करती है कि सांसद उनके हक की आवाज केन्द्र में उठायेंगे भाजपा के 9 सांसदों ने छत्तीसगढ़ के किसानों के हक की आवाज कब-कब केन्द्र के समक्ष उठाया है?

भाजपा किसानों के नाम पर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करे - कांग्रेस

रायपुर/12 जनवरी 2021। भाजपा द्वारा किये जा रहे आंदोलन पर कांग्रेस ने सवाल खड़ा किया है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा कौन सी नैतिकता से किसानों के लिये आंदोनल कर रही है। राज्य के मुद्दों के दिवालियापन से जूझ रही भाजपा किसानों के नाम पर अपनी डूब चुकी नैय्या को बचाने में लगी है। भाजपा दावा कर रही है कि प्रदेश में धान खरीदी सही ढंग से नहीं हो रही जबकि राज्य में अब तक 70 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हो चुकी है। प्रदेश में अब तक लगभग 17 लाख किसानों का धान सरकार खरीदी कर चुकी है। जब धान खरीदी का लक्ष्य 80 फीसदी पूरा हो गया तब भाजपा को किसानों की सुध आ रही है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा को किसानों के बारे में बोलने का प्रदर्शन करने का कोई नैतिक अधिकार नहीं, भाजपा की छत्तीसगढ़ में सरकार थी 15 सालों तक किसानों के साथ वादाखिलाफी किया जब केंद्र में सरकार बनी तब किसानों के हितों के खिलाफ उद्योगपतियों को बढ़ावा देने तीन काले कानून बनाया है। भाजपा को प्रदर्शन करना ही है तो मोदी सरकार के खिलाफ करें। छत्तीसगढ़ का किसान तो खुश है उसका धान समर्थन मूल्य पर बिक रहा है। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से छत्तीसगढ़ के किसानों को 10,000 रू. की अतिरिक्त सहायता मिल रही है, गोधन न्याय योजना से छत्तीसगढ़ के किसान अपने मवेशियों के गोबर तक बेच कर मुनाफा कमा रहे है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के नेता जवाब दें कि केन्द्र के द्वारा छत्तीसगढ़ के सेन्ट्रल पूल के चावल में कटौती कर 60 लाख मीट्रिक टन से घटा कर 24 लाख मीट्रिक टन किये जाने पर क्यों मौन है? जूट कमिश्नर ने छत्तीसगढ़ सरकार की मांग के अनुसार 3.5 लाख गठान बारदाने देने की सहमति नहीं दी, इस बारे में भाजपा नेताओं ने कब केन्द्र को पत्र लिखा? छत्तीसगढ़ के किसानों को धान की कीमत 2500 देने की छूट के लिये मोदी सरकार को भाजपा के किस नेता ने पत्र लिखा? जनता सांसदों का चुनाव तो इसीलिये करती है कि सांसद उनके हक की आवाज केन्द्र में उठायेंगे भाजपा के 9 सांसदों ने छत्तीसगढ़ के किसानों के हक की आवाज कब-कब केन्द्र के समक्ष उठाया है? भाजपाई यदि किसानों के हक में ईमानदारी से आंदोलन करना चाहते है तो मोदी सरकार के खिलाफ आंदोलन करें जो देश के किसानों और खेती को गुलाम बनाने पर तुली हुई है।

एनएसयूआई की मुहिम एक रुपए एक पैली धान देकर बढ़ाए किसानों का मान की समय सीमा.......

रायपुर एन एस यु आई संगठन द्वारा किसान आंदोलन के समर्थन में चलाई जा रही मुहिम "एक रुपया, एक पैली धन, देकर बढ़ाए किसान का मान" का प्रथम चरण आज 09 जनवरी 2021 को समाप्त होता हैं, अंतिम चरण 10 जनवरी 2021 से 13 जनवरी 2021 तक चलेगा, आगामी चरण हेतु संगठन की रणनीति इस प्रकार है-

छत्तीसगढ़ एनएसयूआई के कार्यकर्ता अब गांव, घर एवं सभी वर्गों के लोगों से किसानों की मदद के लिए एनएसयूआई के कार्यकर्ता मांग करेंगे।

कार्यक्रम की रूपरेखा

फ्लेक्स/बैनर, दानपेटी, झंडा, गाड़ी, पाम्पलेट के साथ “छेर-छेरा” स्वरूप घर-घर से दान एकत्रित करना है।

● कार्यक्रम को विधानसभा, नगर/ग्राम पंचायत, जनपद क्षेत्रो में प्रतिदिन पदयात्रा के रुप मे करना है।

● 13 जनवरी 2021 तक सभी क्षेत्रों से एकत्रित धान एवं राशि को जिला मुख्यालय (कांग्रेस भवन) में एकत्रित करना है।

14 जनवरी 2021 को जिला मुख्यालय से एकत्रित धान एवं राशि, राजधानी रायपुर लाया जाएगा।

15 जनवरी 2021 को राजधानी रायपुर में प्रेस-वार्ता कर एकत्रित धान एवं राशि के वाहन को आंदोलन स्थल दिल्ली हेतु हरि झंडी दिखाकर रवाना किया जाएगा

जांजगीर : सम्मान बढ़ाने Nsui ने लिए किसानों से एक रुपया और एक पैली धान, भेजेंगे दिल्ली....

NSUI के जांजगीर जिला अध्यक्ष अंकित सिंह सिसोदिया के निर्देशानुसार प्रदेश स्तरीय मुहिम के तहत एक रूपया एक पैली धान देकर बढ़ाएं किसानो का सम्मान कार्यकर्म के तहत अकलतरा विधानसभा मे कृषि उपज मंडी अकलतरा में धान इक्कट्ठा कर दिल्ली में बैठे किसानों के हक लड़ाई में छत्तीसगढ़ के किसानों से सहयोग मांगा गया. वही इस दौरान प्रमुख रूप से एनएसयूआई प्रदेश सह संयोजक अमित कुमार यादव विधानसभा अध्यक्ष अर्पित देवांगन विजय यादव देवेंद्र तिवारी नरेश यादव गोकुल पटेल छोटू कुमार ललित दिनकर उपस्थित थे

भोपालपटनम के सरपंच संघ के ब्लॉक अध्यक्ष समेत नौ भाजपाइयों ने किया कांग्रेस प्रवेश -बीजापुर

सीएम भुपेश बघेल के प्रवास से पहले भाजपा को लगा झटका बीजापुर - प्रदेश के मुख्यमंत्री भुपेश बघेल के प्रवास से दो दिन पहले भोपालपटनम ब्लॉक के सरपंच संघ के अध्यक्ष अशोक मढे ( चंदुर सरपंच) व मीना गोटे ( सरपंच तिमेड) ने बस्तर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व क्षेत्रिय विधायक के सामने नौ कार्यकर्ताओं सहित कांग्रेस के रीति नीति से प्रभावित होकर आज कांग्रेस में प्रवेश किया । क्षेत्रीय विधायक विक्रम मंडावी ने कांग्रेस का गमछा पहनाकर सरपंच समेत सभी कार्यकर्ताओं का स्वागत किया। सरपंच संघ के ब्लॉक अध्यक्ष अशोक मढे ने सम्बोधित करते हुए कहा की पिछले 15 सालो से वे भाजपा के कार्यकर्ता रहे लेकिन क्षेत्र के विकास में मुझे कोई उपलब्धि नही दिखी जिससे मेने ओर मेरे साथियो के साथ आज में कांग्रेस में प्रवेश कर रहा हु और वर्तमान में भुपेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की तारीफ़ भी की ओर कहा कि क्षेत्र के हर अंतिम व्यक्ति तक विकास पहुंचना ही कांग्रेस का लक्ष्य है। जिला अध्यक्ष लालू राठौर ने भी संबोधित करते हुए कहा कि इससे भोपालपटनम ब्लॉक के कांग्रेस पार्टी को ओर भी मजबुती मिली है जिससे की ग्रामीण अंचलों में क्षेत्र का विकास और भी बेहतर ढंग से किया जा सकेगा। सरपंचों समेत इस अवसर पर समेत चंदुर के महेंद्र बंदम, अभिजीत बंदम, कोड़े सुरेश, सुमन वासम, यालम सडवाली, राजाबाबू मढे, रामबाबू मढे ने कांग्रेस पार्टी में प्रवेश किया। इस अवसर पर जिला अध्यक्ष लालू राठौर, प्रदेश सचिव अजय सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुडियम व बस्तर आदिवासी विकास प्राधिकरण की सदस्य नीना रावतिया उद्दे , नगर अध्यक्ष संतोष गुप्ता, जिला कांग्रेस प्रवक्ता ज्योति कुमार भी उपस्थित थे।