क्राइम

दर्री में निकाय चुनाव में नाम वापस लेने के लिए बनाया था दबाव, जांच के बाद हत्या के लिए प्रेरित करने वाला आरोपी गिरफ्तार

कोरबा:-दर्री में 19 दिसंबर 2019 को राखड डेम नदियाँ खार में 1 साल पुराने मामले में जांच पूरी होने के बाद पुलिस ने आरोपी राजकुमार को गिरफ्तार कर लिया है। दर्री सीएसपी खोमन लाल सिन्हा ने पत्रकारवार्ता में बताया कि वर्ष 2019 में नगरीय निकाय चुनाव हुए थे। उस समय दर्री क्षेत्र के एक वार्ड से रामबाई पटेल निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में मैदान में थी। उनके मुकाबले में एक अन्य प्रत्याशी सामने थी। उसके पति के द्वारा राजकुमारी को नाम वापस लेने के लिए कोमल पटेल पर लगातार दबाव बनाया जा रहा था, जिसके बाद 19 दिसंबर को कोमल पटेल की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। सीएसपी ने बताया कि मौके से एक सुसाइड नोट प्राप्त हुआ था जिसमें धमकी देने की बात लिखी हुई थी। फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट के माध्यम से इसकी जांच कराई गई। इसमें राइटिंग मृतिका की पाई गई। सीएसपी ने बताया कि इस मामले में परिजनों के बयान लिए जा चुके हैं और आगे की कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल पुलिस ने आत्महत्या के लिए उत्पीड़ित करने वाले आरोपी को धारा 306 आईपीसी के अंतर्गत गिरफ्तार कर लिया है।

महिला से ब्लेकमेलिंग करने वाला आरोपी गिरफ्तार, खींच था मोबाइल से फोटो

कोरबा:-रक्षाबंधन के मौके पर मायके आई नवविवाहिता के साथ सेल्फी लेकर ब्लेकमेलिंग करनेवाला आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा गया। 18 जुलाई को पीड़िता अपने मायके में रक्षाबंधन मनाने आई थी और वही रह रही है। पीड़िता के जन्मदिन पर आरोपी ने पीड़िता के साथ जबरदस्ती सेल्फी ले लिया था। आरोपी पीड़िता को अकेली पाकर छेड़छाड़ किया करता था। मना करने पर आरोपी खींचा गया फोटो को उसके पति को भेजने की एवं पीड़िता के माता पिता को जान से मारने धमकी देता था। पीड़िता ने इसकी रिपोर्ट दर्री थाना में दर्ज कराई। आरोपी के खिलाफ धारा 354, 509 (ख) भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया। जांच के दौरान आरोपी रिजवान खान उम्र 25 वर्ष के खिलाफ अपराध सिद्ध पाये जाने पर गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेज दिया गया है।

राजनांदगांव पुलिस ने अपहृत नाबालिग को 6 घंटे के भीतर किया बरामद,आरोपी युवक हुए गिरफ्तार

राजनांदगांव:-नाबालिग का अपहरण करने वाले ओरापियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। घुमका थाने में प्रार्थी ने रिपोर्ट लिखाई की उसकी नाबालिग लड़की घर से लापता है। इस पर थाने में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। थाना प्रभारी राजेश साहू के नेतृत्व में टीम गठित कर सूचना के आधार पर बस स्टैंड देवरी बंगला से धनेश साहू निवासी जिला बालोद के कब्जे से अपहृत लड़की को बरामद किया। पूछताछ में धनेश ने बताया कि उसने अपने दोस्त की मोटरसाइकिल में बैठाकर नाबालिग को देवरी बंगला ले गया था। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल जब्त कर आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया,जहाँ से दोनों को जेल भेजा। इस तरह पुलिस ने 6 घंटे में ही अपह्त नाबालिग को बरामद किया।

सहायक उप निरीक्षक के अपहरण और हत्या में शामिल 2 माओवादी गिरफ्तार

बीजापुर:-जिले के कुटरू थाने में पदस्थ सउनि कोरसा नागैया 30 अगस्त को अवकाश पर दंतेवाड़ा जाने के लिये निकले थे। अपरान्ह् 3 बजे थाना में सूचना मिली की कोरसा नागैया की मोटरसायकल लवारिस हालत में मंगापेंटा भैसावाड़ा के पास पड़ी हुई है। सूचना पर तत्काल डीआरजी एवं थाना कुटरू के बल द्वारा मौके पर पहुंचकर पता तलाश किया गया। 31 अगस्त को नागैया का शव केतुलनार मेलापारा के पास मिला। घटना पर थाना कुटरू में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। पुलिस अधीक्षक बीजापुर कमलोचन कश्यप के दिशा निर्देशन में आसपास के क्षेत्र में मुखबिर लगाकर घटना में शामिल माओवादी आरोपियों की गिरफ्तारी के लगातार प्रयास किये गये। 5 सितंबर को थाना कुटरू से डीआरजी की टीम केतुलनार की ओर निकली थी। पुलिस पार्टी द्वारा मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर घटना में शामिल 2 संदिग्ध को पकड़ा गया। इनसे पूछताछ पर अपना नाम जोगा पोयाम उम्र 32 वर्ष साकिन केतुलनार और इरपा पोडि़याम उम्र 29 वर्ष केतुलनार परलमेटा पारा थाना कुटरू बताया। पकड़े गए माओवादियों से पूछताछ पर इनके द्वारा घटना में शामिल होना बताया गया। आरोपियों से घटना के सबंध में पूछताछ की गई,जिनके द्वारा घटना में शामिल अन्य लोगों के नामों का खुलासा किया गया। पकड़े गये आरोपियों का मेमोरण्डम कथन लिया गया एवं उनके कब्जे से शहीद सउनि का आधार कार्ड,जिसपर खून का छिंटा लगा हुआ है,छाता,हेलमेट व चश्मा बरामद किया गया। थाना कुटरू में 6 सितंबर को गिरफ्तारी के बाद रिमाण्ड पर 7 सितंबर को न्यायालय बीजापुर पेश किया गया।

उरगा पुलिस टीम ने भारी मात्रा में शराब के साथ तस्कर गिरफ्तार, वाहन किया जब्त

कोरबा:-पुलिस ने शराब तस्कर को गिरफ्तार किया। मुखबिर की सूचना पर उरगा पुलिस टीम को मध्यप्रदेश तथा अन्य जगहों से शराब की तस्करी की सूचना मिली। इस पर घेराबंदी कर 10 पेटी विदेशी मदिरा कुल कीमत 61320 रुपए के साथ राजपुरी गोस्वामी को धर दबोचा। उसके कब्जे से कुल 511 पाव शराब को जब्त की। मामला में आरोपी के विरूद्ध मौके पर ही 34(2) आबकारी एक्ट की कार्यवाही की गई। उसे न्यायिक रिमाण्ड पर न्यायालय भेजा गया है। शराब संबंधी उक्त कार्यवाही भविष्य में भी थाना उरगा से लगातार जारी रहेंगी।

देवरी मोड़ के सबरिया डेरा के शराब माफियाओं को पकड़ने आखिर क्यों शिवरीनारायण पुलिस के काप रहें हाथ

आशीष कश्यप शिवरीनारायण

देवरी मोड़ में ही आबकारी विभाग के कार्यलय होने के बाद भी क्यों नही की जा रही कार्यवाही

शिवरीनारायण:-शिवरीनारायण पुलिस व आबकारी विभाग के आखिर क्यों काप रहे हाथ क्यों नही हो रही देवरी के सबरिया डेरा में शराब माफियाओं पर बड़ी कार्यवाही आबकारी विभाग द्वारा खाना पूर्ति कर अपनी वाहवाही लुटाई जा रही हैं वही शिवरीनारायण पुलिस की बात करें तो शराब तस्करों को पकड़कर छोटी मोटी कार्यवाही की जा रही है आखिर बड़ी कार्यवाही कब देखने को मिलेगी कही शिवरीनारायण पुलिस और आबकारी विभाग की मिली भगत से तो नही चल रहा देवरी के सबरिया डेरा में शराब बनाने का काम शिवरीनारायण क्षेत्र में अवैध कच्ची महुआ शराब की बिक्री जोरों पर है शाम ढलते ही शराबियों का जमावड़ा मुख्य मार्ग में बैठ कर जम कर शराब पिया जा रहा। और कच्ची महुआ शराब पीकर फेकन गए पॉलीथिन पाउच सड़क किनारे बिखरे पड़े रहते है देवरी खोरसी के सबरिया डेरा के घरों में जम कर शराब बेचा जा रहा वही सूत्रों की माने तो शिवरीनारायण थाने में महीना बांध कर शराब बेचने के बदले पुलिस को पैसा दिया जा रहा। अवैध रूप से कच्ची महुआ शराब बनाने और पैकिंग करने का खेल शिवरीनारायण क्षेत्र में धड़ल्ले से जारी है लेकिन शराब माफियाओं पर न तो आबकारी विभाग का ध्यान है और न ही शिवरीनारायण पुलिस का खास बात यह है कि गाँव की महिला कमांडो व समूहों के द्वारा गाँव मे बन रहे शराब की शिकायत करने के बाद भी शिवरीनारायण पुलिस और आबकारी विभाग द्वारा शिकायत को रद्दी की टोकरी में डाल पैसा लेकर खुलेआम शराब बनवाया और बेचवाया जा रहा है।

धोखाधड़ी का आरोपी गिरफ्तार, मुलमुला थाना की कार्यवाही

मुलमुला:-मुलमुला थाना की कार्यवाही में बिलासपुर से धोखाधड़ी का फरार आरोपी गिरफ्तार किया गया है, मिली जानकारी के अनुसार दिनांक 26, 08, 2020 को आरोपी संजय वाधवानी पिता खेमचंद उम्र 46 वर्ष निवासी सिंधी कॉलोनी बिलासपुर (सुपरवाइजर) व भोला साहू पिता केशव साहू निवासी मुन्ना डोल ति फरा बिलासपुर (ड्राइवर) दोनों मिलकर रांची पमनानी पिता श्रीधर पमनानी उम्र 50 वर्ष वेयर हाउस रोड आबकारी कार्यालय के पास से 54100 हजार तथा 4000 छाबड़ा ट्रेडर्स पथरिया से रांची के छोटा हाथी सीजी 13 बी 8301 को लेकर सामान लेने रायपुर रवाना हुआ था जो गाड़ी को दोनों मिलकर इधर-उधर श्री नारायण घुमाते हुए मूलमुला के पास आकर अपने मालिक को संजय वाधवानी ने अपने मालिक दीपक पमनानी को बताया कि भोला साहू मेरे पैसे को लूट कर ले गया है और भाग गया है सूचना पर श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदया श्रीमती पारुल माथुर, एवम् अति. पुलिस अधीक्षक श्रीमती मधुलिका सिंह के कुशल दिशा निर्देशन एवं अनुविभागीय अधिकारी श्रीमान जितेंद्र चंद्राकर के मार्गदर्शन पर सुपरवाइजर संजय वाधवानी से बारीकी से पूछताछ किया गया जो संजय वाधवानी तथा भोला साव दोनों मिलकर आपस में 58100 को आपस में बांट कर गबन कर जाना कुबूल किया। सूचना पर से अपराध क्रमांक 224/20 धारा 406,36 भादवी कायम कर आरोपी संजय वाधवानी को अभिरक्षा में लेकर आरोपी भोला साव तिफरा तथा मूल निवासी भिलाई तीन सुपेला दबिश दिया गया भोला सा व सकून त से फरार है संजय वाधवानी के कब्जे से ₹3000 बरामद किया गया शेष राशि 26000 को खर्च कर देना कुबूल किया है, भोला साहू फरार है। आरोपी को गिरफ्तार कर ज्यूडिशियल रिमांड लेने हेतु भेजा गया है ।

हत्या की गुत्थी सुलझी, महिला का झाड़ियों में नग्नावस्था में मिला था शव

कोरबा:-नीलगिरी के जंगल में महिला की नग्न हालत में मिली रक्तरंजित लाश मिलने की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली हैं। पुलिस ने बताया कि अवैध संबंध बनाने से मना करने पर महिला की हत्या की गई थी। दर्री थाना क्षेत्र अंतर्गत दर्री बस्ती के पीछे नीलगिरी के जंगल में स्थित झाड़ियों में दो दिन पहले एक अधेड़ महिला का शव नग्नावस्था में मिला था। इसकी जानकारी महिला का सौतेले पुत्र ने दर्री पुलिस को दी थी।पुलिस ने इस मामले में दर्री बस्ती में रहने वाले समीर कुमार हिंडोरे को पकड़ कर पूछताछ की। कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने पुलिस को बताया कि नशे की अवस्था में वह अधेड़ महिला से संबंध बनाने की कोशिश कर रहा था। इस दौरान महिला ने विरोध किया,जिसके बाद उसने सीमेंट के पिलहर से उसके सिर पर वार कर हत्या कर दी और शव को झाड़ी में फेंक दिया।घटना में आरोपी के विरूद्ध पर्याप्त साक्ष्य पाए जाने पर आरोपी समीर कुमार हिंडोरे उम्र 24 वर्ष को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया।

पामगढ़ के ग्राम पंचायत भैसों में आज पारिवारिक विवाद के बाद एक पिता ने बेटे की हत्या कर दी हत्या

पामगढ़:-पामगढ़ के ग्राम पंचायत भैसों में आज पारिवारिक विवाद के बाद एक पिता ने बेटे की हत्या कर दी हत्या के बाद पिता ने स्वयं गांव के सरपंच, पंच और अन्य लोगों को इसकी जानकारी दी| जिसके बाद कोटवार के साथ पामगढ़ थाना पहुंच कर पुलिस को इसकी जानकारी दी| पुलिस आरोपी पिता के साथ मौके पर पहुंची हुई है। मिली जानकारी के अनुसार भैसों निवासी आरोपी मनहरण साहू उम्र 62 ने अपने बेटे मृतक बिरशाय उम्र 27 की हत्या की है | बताया जा रहा है की मृतक के ब्यवहार को लेकर घर में सभी परेशान रहते थे | 7 माह पूर्व अपनी पत्नी से भी विवाद हुआ था, जिसके बाद वह घर छोड़कर चली गई है | मृतक अपने माता-पिता से अक्सर गाली-गलौच करता रहता था | इसी दौरान गुरुवार को भी दोनों के बीच में जमकर विवाद हुआ था | जिसके बाद रात में पिता ने डण्डे से मृतक पर वार कर दिया | जिससे उसका सिर से खून बहने लगा और वह जमीन पर गिर पड़ा | आज सुबह उसने सभी को इसकी जानकारी दी | फ़िलहाल पुलिस जांच में जुटी हुई है |

युवक पर चाकू से हमला, इलाज के दौरान मौत, दो आरोपी गिरफ्तार

भिलाई:-युवक पर पुरानी रंजिश को लेकर दो युवकों ने प्राणघातक हमला कर दिया। हमले में घायल युवक को सेक्टर 9 हॉस्पिटल भर्ती कराया गया,जहां युवक की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे तत्काल एम्स रायपुर ले जाया गया। यहां उपचार के दौरान गुरुवार को युवक की मौत हो गई। दोनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। भिलाई नगर उपनिरीक्षक राजीव तिवारी ने बताया कि प्रार्थी सेक्टर 6 का रहने वाला है व मजदूरी करता है। बीती रात सेक्टर 6 इस्पात क्लब के पीछे डी.मनीष और उसके बड़े पापा डी.रमेश बातचीत कर रहे थे। उसी दौरान जानपाल व रमेश आए और रंजिश की बात को लेकर डी.मनीष के साथ वादविवाद कर चाकू से हमला कर दिया।

छत्तीसगढ़ के इस छोटे से जिले में गांजे की बड़ी खेप पकड़ाई, महाराष्ट्र ले जा रहे थे तस्कर.गिरफ़्तार

बलौदाबाज़ार:-जिले के गिधौरी थाना में बलौदाबाज़ार पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। पुलिस ने एक स्वराज माजदा गाड़ी से 360 किलो गांजा जब्त किया है। पुलिस ने तस्करी करते महाराष्ट्र के गोंदिया निवासी दो तस्कर को गिरफ़्तार किया है। गिधौरी थाना प्रभारी ओम प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि मुखबिर की सूचना के आधार पर पुलिनी के पास घेराबंदी कर माजदा पकड़ा गया। गाड़ी की तलाशी लेने पर उसके अंदर 360 किलो गांजा बरामद किया। जिसकी कीमत 18 लाख रुपये बताई जा रही है। आरोपियों के खिलाफ नारकोटिक्स एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है।

फर्जी दस्तावेजों का उपयोग करना पड़ा महंगा, बिल्डर संजय अग्रवाल हुए गिरफ्तार, नागरिक एकता मंच ने की थी शिकायत

कोरिया:- जिले में नागरिक एकता मंच की शिकायत पर आज शहर के बिल्डर संजय अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। सिटी कोतवाली पुलिस ने धारा 420, 467, 468, 471 फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत व दस्तावेजों के साथ कूटरचना करने के अपराध में आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।

आपको बता दे की वर्ष 2014 में ग्राम नगर निवेश कार्यालय के विकास अनुज्ञा हेतु प्रस्तुत दस्तावेज जिनमें नगर पालिका सम्बंधित फर्जी दस्तावेजों का उपयोग कर विकास अनुज्ञा प्राप्त किया गया था। जिसकी शिकायत नागरिक एकता मंच अध्यक्ष संजय जायसवाल ने की थी जिस पर जांच उपरांत आज बिल्डर संजय अग्रवाल को गिरफ्तार किया गया।

मामले कि शिकायत नागरिक एकता मंच द्वारा 2017 में की गई थी। इस पूरे मामले को लेकर पक्ष विपक्ष के लोग धरने पर बैठे थे और यह वही मामला है जो तत्कालीन श्रम मंत्री भैया लाल राजवाड़े सहित मंच के लोग मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह के जनदर्शन में भी शिकायत कर उच्यस्तरीय जांच की मांग की थी।कार्यवाही का आश्वासन मिला था अब कांग्रेस सरकार आने के बाद कार्रवाई हो रही है। नागरिक एकता मंच के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बैकुण्ठपुर के बिल्डर्स संजय अग्रवाल के एमएलऐ नगर में कुछ दिनों पहले हुई प्रशासनीक कार्यवाही को सही बताते हुये कहा कि यह लड़ाई हमने लड़ी थी इसी का नतीजा है कि संजय अग्रवाल की अवैध शादी घर व दुकान परिसर को बैकुंठपुर नगर पालिका द्वारा गिराया गया।

नागरिक एकता मंच सदस्य अविनाश सिंह गांधी ने बताया कि आरटीआई के माध्यम से दस्तावेज निकाले गए हैं । हमारी लड़ाई भष्ट्राचार के खिलाफ है। संजय अग्रवाल के द्वारा एमएलए नगर में लगभग 221 मकान अवैध है वहीं शादी घर व व्यवासायीक परिसर गलत तरीके व अनुमति बगैर बनाया जा रहा था। बिल्डर्स संजय अग्रवाल द्वारा कई दस्तावेज फर्जी तरीके से लगाये गये है। यहां तक की काॅलोनाईजर लायसेंस में लगे दस्तावेज भी फर्जी है जिस वजह से एमएलए नगर अवैध घोषित कर दिया है।

आपको बता दें कि सिटी कोतवाली पुलिस बिल्डर संजय अग्रवाल के कोहिनूर बंगले में लगभग 4 घण्टे के मसक्कत के बाद अपने साथ लेकर कोतवाली थाने पहुची। कोतवाली प्रभारी विमलेश दुबे बताया कि बिल्डर अपने ऑफिस के बाथरूम में छुपे हुए थे। और ऑफिस के बाहर में ताला लगा हुआ था। जिसको खुलवाने में पुलिस को काफी समय लग गया। पुलिस ने स्थानीय चाभी बनवाने वाले को भी बुलवाया था पर उसके नकाम होने पर पुलिस ने दरवाजा तोड़ने की बात कहीं तब कहीं जाकर बिल्डर ने दरवाजा खोला और बाहर आए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल बिल्डर संजय अग्रवाल ने अपने ऊपर हुई कार्यवाही को राजनीतिक षड़यंत्र बताया हैं।

होटल में रूम बुक कर जुआ खेल रहे 9 गिरफ्तार, ढाई लाख रुपए जब्त, बर्खास्त पुलिसकर्मी भी शामिल

रायपुर:-शहर के मरीन ड्राइव स्थित एक होटल में रूम बुक कर जुआ खेल रहे 9 जुआरियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों में पुलिस का एक बर्खास्त सिपाही भी शामिल है। पुलिस ने जुआरियों के पास ढाई लाख रुपए नगद और मोबाइल फोन भी जब्त किया है। तेलीबांधा थाना पुलिस ने कार्रवाई को अंजाम दिया है। ​दबिश में गिरफ्तार आरोपियों में शिवम तांडी, अभिजीत सिंह, राहुल डिंबानी, मनोहर सिंह, मुकेश नारवानी, राजेंद्र साहू, मनीष सिंह, कमलेश साहू और इमरान कदरी पुलिस का बर्खास्त सिपाही शामिल है।

मुखबिर की सूचना पर जुआ खेलते 10 गिरफ्तार, 52 हजार से अधिक जब्त

कोरबा:-उरगा पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि कुछ लोग झीका मड़वारानी के पास जुआ खेल रहे हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस को देखकर जुआरी भागने लगे जिन्हें घेरा बंदी कर पकड़ा गया। निरीक्षक लखन लाल पटेल थाना प्रभारी उरगा की मौजूदगी में हुई कार्रवाई में आरोपियों के कब्जे से ताशपत्ती, तिरपाल और 52 हजार 500 रुपये जब्त किए गए। मामले में जुआ एक्ट धारा 13 के तहत कार्रवाई की गई।

जांजगीर : लोन दिलाने के नाम पर महिला से 11 हजार की ठगी

पूरा मामला जांजगीर चांपा जिले के मालखरौदा थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत पिरदा का है जहां की एक महिला गीता बाई ने थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई है महिला ने अपनी शिकायत में कहा है कि आठ वर्ष पहले पिरदा गांव के ही कन्हैया चौहान, सरिता चौहान एवं तरूण तीनों  ने शिकतकर्ता के घर आकर अपने आप को राज लक्ष्मी फाइनेंस रायगढ़ में काम करना बताते हुए एक लाख लोन दिला देने की बात कहकर महिला को अपने झांसे में लिया और लोन दिलाने मर्जीन मनी के लिए 11000 की मांग किये।

महिला ने 13/12/2012 को रुपयों की व्यवस्था कर 11000 रुपय तीनों को शौप दिया जिसके बाद महिला को बचत पास बुक दिया गया। जिसमे किसी प्रकार का कोई लेनदेन नही हुआ है। जिसके बाद महिला को 1 लाख लोन नही मिलने पर महिला अपने आप को ठगा हुआ महसूस की और अपने द्वारा दी गयी 11 हजार की वापस मांग करने लगी जिस पर तीनों ने आज कल कहकर गुमराह करने लगे। और आज 8 वर्ष बीत जाने के बाद भी महिला को न ही लोन मिला न उसके द्वारा दिया गया पैसा वापस हुआ थक हार कर अंततः थाने में महिला ने शिकायत दर्ज कराई है और पुलिस प्रशासन से पैसा वापस दिलाते हुए आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है।