ब्रेकिंग न्यूज़

बड़ी खबर बिलासपुर : स्काउड गाइड कार्यक्रम में स्काउड गाइड के बच्चे हुए बेहोश रेलवे की लापरवाही ,नही की थी ठंड से बचने की कोई व्यवस्था

बिलासपुर में स्काउड गाइड कार्यक्रम में स्काउड गाइड के बच्चे बेहोश हो गए है बताया जा रहा है कि ठंड के चलते 8 बच्चे बेहोश हो गए है आपको बतादे की बच्चे गोरखपुर के रहने वाले हाउ रेलवे ने ठंड से बचने की कोई व्यवस्था नहीं की थी वही जानकारी के अनुसार एम्बुलेंस नही होने की वजह से 112 और पुलिस की मदद से बच्ची को अस्पताल में भर्ती कराया गया है आपको बता दे की रेलवे अस्पताल में सभी का इलाज चल रहा है , पोल खुलने के चलते जिम्मेदार महिला अधिकारी ने मीडिया से हुज्जतबाजी भी की है वही आपको ये बताना भी जरुरी है कि घटना की सुचना के बाद काफी देर से रेलवे के आला अधिकारी अस्पताल पहुचे है

बिलासपुर : छतौना स्थित धान मंडी केंद्र के संचालक कौशिक सस्पेंड ,सहकारीता मंत्री प्रेमसाय टेकाम ने किया बर्खास्त।

छतौना स्थित धान मंडी केंद्र के संचालक कौशिक सस्पेंड सहकारीता मंत्री प्रेमसाय टेकाम ने किया बर्खास्त। धान खरीदी केंद्र में अव्यवस्था से नाराज हुए मंत्री। औचक निरीक्षण के दौरान की कार्रवाई। बिलासपुर के हाईकोर्ट के करीब छतौना में स्थित है या धान उपार्जन केंद्र। मंत्री ने अधिकारियों को लगाई फटकार।

दिल्ली के 3 सरकारी स्कूलों ने देश के टॉप 10 सरकारी स्कूलों में बनाई जगह ◆ इराक में US सैन्य ठिकानों पर मिसाइल हमलों में 80 अमेरिकी आतंकी मारे गए - ईरान सरकारी मीडिया

दिल्ली के 3 सरकारी स्कूलों ने देश के टॉप 10 सरकारी स्कूलों में बनाई जगह इराक में US सैन्य ठिकानों पर मिसाइल हमलों में 80 अमेरिकी आतंकी मारे गए - ईरान सरकारी मीडिया

दो पालियों में ओपीडी से कामकाजी लोगों को नहीं लेनी पड़ेगी छुट्टी - स्वास्थ्य मंत्री स्वास्थ्य और जांजगीर जिले के प्रभारी मंत्री श्री सिंहदेव ने ली स्वास्थ्य विभाग की बैठक

रायपुर.. स्वास्थ्य एवं जांजगीर-चांपा जिले के प्रभारी मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने जांजगीर में स्वास्थ्य विभाग की बैठक ली। उन्होंने बैठक में विभागीय अधिकारियों से कहा कि सरकार हर नागरिक को बेहतर और नि:शुल्क स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने की दिशा में लगातार काम कर रही है। इंश्योरेंस और हाइब्रिड मॉडल में बदलाव करते हुए 1 जनवरी से ट्रस्ट मॉडल लागू किया गया है। प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी योजना डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता एवं मुख्यमंत्री विशेष स्वास्थ्य सहायता योजना भी 1 जनवरी से लागू की जा चुकी है। इस योजना के लिए नया सॉफ्टवेयर भी तैयार किया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि ट्रस्ट मॉडल में अस्पतालों को भुगतान राज्य नोडल एजेंसी के माध्यम से होगा। भुगतान के लिए प्रक्रिया नए सिरे से अपनाई जा रही है। सभी अस्पतालों में ट्रस्ट मॉडल के संचालन के लिए आयुष्मान मित्रों की नियुक्ति की जा रही है। इस योजना में उपचार करने वाले चिकित्सकों से लेकर मरीज को अस्पताल तक लाने वाले वाहन चालक को भी इंसेंटिव का लाभ मिलेगा। साथ ही अस्पताल की आधारभूत सुविधाओं के विस्तार के लिए इंसेंटिव के माध्यम से राशि उपलब्ध करवाई जाएगी। श्री सिंहदेव ने कहा कि इससे चिकित्सकों व स्वास्थ्य कर्मचारियों को बेहतर इलाज के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। स्वास्थ्य केन्द्रों में सुविधाओं का विस्तार होगा। श्री सिंहदेव ने बैठक में कहा कि नई व्यवस्था के तहत ओपीडी दो पालियों में संचालित की जा रही है। इसका लाभ कामकाजी लोगों को मिलेगा। उन्हें उपचार के लिए अवकाश नहीं लेना पड़ेगा। लैब जांच की रिपोर्ट मिलने पर चिकित्सक से जांच करवाकर परामर्श भी उसी दिन मिल जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने विभागीय निर्माण कार्यो की गुणवत्ता की सतत निगरानी करने तथा कार्य समय पर पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने परिवार कल्याण कार्यक्रम, अंधत्व निवारण कार्यक्रम, मातृत्व स्वास्थ्य, शिशु स्वास्थ्य, राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम की भी समीक्षा की। बैठक में बिलासपुर संभाग की संयुक्त संचालक डाॅ. मधुलिका सिंह, सीएमएचओ डाॅ एस.आर. बंजारे, जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डाॅ. कुर्रे सहित बीएमओ और चिकित्सा अधिकारी उपस्थित थे।