क्राइम

चरित्र शंका पर पत्नी की शराबी पति ने की हत्या

अजीत मिश्रा @ BBN24 -- बिलासपुर के थाना सिटी कोतवाली क्षेत्र मे कल रात चरित्र शंका पर  एक शराबी पति ने अपनी पत्नी की हत्त्या कर फरार हो गया ।।मामले की जानकारी लगते ही थाना सिटी कोतवाली की पुलिस मौके पर पहुँच कर शव का पंचनामा कर आज पोस्टमाटर्म के लिए भेज दिया वही आरोपी की पतासाजी में जुट गई।कुछ ही घंटे के बाद आरोपी को बिलासपुर के लिंगयाढिह इलाके से पकड़ लिया गया ।।वही पुछताछ में आरोपी राजेश प्रधान ने बताया कि 6 वर्ष पूर्व दोनो का विवाह हुआ था और दो वर्ष पूर्व रतनपुर से बिलासपुर अपनी पत्नी और दो बच्चो के साथ यहाँ आया और रोजी मजदुरी कर अपना जीवन यापन करने लगा।।वही कुछ दिनों से वह अपनी पत्नी की हरकतों पर नजर रख रहा था और कल रात अपनी पत्नी चित्रलेखा प्रधान को फ़ोन में बात करते हुए पकड़ लिया और फ़ोन में हुई बात की रिकॉर्डिंग को सुना जिसके बाद उसने आपा खो दिया और घर मे रखे सिलबट्टा को उठाकर सर में ताबड़ तोड़ वार कर मौत के घाट उतार दिया।।और घटना को अंजाम देने के बाद मौके से फरार हो गया।।आरोपी पति राजेश प्रधान को पुलिस हिरासत में लेकर और पूछताछ कर रही है।।

BJP नेता पर लगे धोखाधड़ी के आरोप मामले में पुलिस कर रही FIR दर्ज करने में लेट लतीफी.... न्याय के लिए थाने का चक्कर लगा रहा आदिवासी युवक .....

रायगढ़:- आदिवासी युवक से धोखाधड़ी करने वाले बीजेपी नेता पिता पुत्र टिकेश डनसेना एवं श्रवण डनसेना के ऊपर अब तक एफ आई आर दर्ज नहीं हो पाई ।आपको बता दें कि पीड़ित आदिवासी युवक हेमलाल राठिया द्वारा छाल थाने में 28-03-2019 मामले की शिकायत दर्ज कराई गई है मगर अब तक पुलिस द्वारा जांच की बात कही जा रही है। अगर शिकायतकर्ता द्वारा शिकायत किए जाने के बाद भी लंबे समय पर एफ आई आर दर्ज ना होना एवं कार्यवाही नहीं होने के कारण बीजेपी नेता द्वारा मामले को दबाने के लिए पुरजोर कोशिश की जा रही है वहीं धोखाधड़ी के आरोप लगे पिता-पुत्र को बचाने के लिए बीजेपी के कई लोग जुगाड़ में लगे हुए हैं आपको बता दें कि एक और जहां बीजेपी आदिवासियों के हक की बात करती है तो वहीं दूसरी ओर बीजेपी के ही नेता बाप बेटे दोनों मिलकर एक आदिवासी से 9 लाख का धोखाधड़ी कर लेते हैं और जब पैसे की बात आती है तो उसे डरा धमका कर भगा भी देते हैं।वही आदिवासी युवक द्वारा शिकायत किए जाने के बाद भी आज हो न्याय के लिए थाने की चक्कर काट रहा है। शायद अभी भी अधिकारियों से भगवा रंग नहीं उतर पाया है यही कारण है कि अधिकारी भी मामले को दबाते हुए नजर आ रहे हैं क्योंकि लंबे समय तक पुलिस द्वारा साक्ष्य नहीं जुटा पाने पर आरोपियों द्वारा सबूत मिटाने के लिए पुरजोर कोशिश करेंगे। कहीं ऐसा ना हो जाए कि आदिवासी युवक न्याय की आस से बैठे ही रहा हो और आरोपी बच कर निकल जाए।

पुलिस की भूमिका पर भी संदेह

जहां सरकार डिजिटल इंडिया की बात कर रही है बैंकों को डिजिटलाइजेशन से जुड़ने की बात कर रही है वही बैंक से डिटेल निकालने में इतनी लेट लेती थी आखिर क्यों आज के दौर में बैंक हाईटेक टेक्नोलॉजी एवं डिजिटलाइजेशन के दौर से गुजर रहा है ऐसे में बैंक डिटेल निकालने में इतना लंबा वक्त क्यों कहीं ऐसा तो नहीं कि पुलिस द्वारा मामले को दबाने का प्रयास किया जा रहा हो। नहीं मिली जानकारी के अनुसार टिकेश का रिश्ता जहां तय हुआ है उसके रिश्तेदार छाल थाना में पदस्थ हैं। ऐसे में सवाल उठना तो लाजिमी है। अगर लोगों को ऐसे मामले में अगर समय दिया जाए तो मामले को दबाने के लिए वह पुरजोर तरीके से कोशिश करेंगे और आरोपी बच निकलेंगे और प्रार्थी थाने के चक्कर काटते रह जाएंगे।

शादी तक मामला को खिसकाने के फिराक में

मिली जानकारी अनुसार टिकेश की शादी 19 अप्रैल को है विश्वसनीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 19 अप्रैल तक किसी भी कार्यवाही ना होने की बात सामने आ रही है। जिसके लिए BJP नेता ऊपर लेवल तक जुगाड़ में लगे हुए है।अब देखना है पुलिस कब तक कार्यवाही करती है ।वही जनता के लिए आवाज उठाने वाले क्षेत्रीय विधायक व केबिनेट मंत्री भी चुप्पी साधे बैठे है ।ये बात तो सच चाहे सत्ता में कोई भी हो प्रार्थी को अपनी हक की लड़ाई खुद से लड़नी होगी

बैंक से डिटेल मंगाया गया है डिटेल के आधार पर कार्यवाही की जाएगी

वहीं थाना प्रभारी का कहना है कि प्रार्थी द्वारा शिकायत की गई है कि बरभौना निवासी टिकेश डनसेना और उसके पिता श्रवण डनसेना द्वारा 9 लाख रुपये की धोखाधड़ी की गयी है शिकायत के आधार पर बैंक बैंक से डिटेल मंगाया गया है जैसे ही डिटेल आएगा उसी के आधार पर कार्यवाही की जाएगी।

अमित सिंह थाना प्रभारी छाल

गर्लफ्रैंड के साथ नाइजीरियन ठग पुलिस के हत्थे चढ़ा

 

रायपुर - ठगों के लिए राजधानी रायपुर स्वर्ग से कम नहीं है। लड़कियों को बड़े ख्वाब दिखाकर फंसाने में माहिर नाइजीरियन ठग गर्लफ्रेंड के साथ पुलिस के हत्थे चढ़ गया। काला कलूटा नाउजीरियन ने फेसबुक पर अंग्रेजों वाला फोटो लगाकार गर्लफ्रेंड बनाकर ठगी करता था। पुलिस ने एक ऐसे नाइजीरियन ठग को गिरफ्तार किया है जो खुद को ब्रिटिश बताकर युवतियों को अपने चंगुल में फंसाता और फिर विदेश में सैर और ऐश कराने के नाम पर लाखों रुपये ठगा करता था। रायपुर की भी एक महिला को इस ठग ने अपना शिकार बनाया। कमाल की बात ये है कि ठगी के इस गैंग में एक युवती भी उस नाइजीरियन ठग की पार्टनर थी। युवती मणिपुर की रहने वाली है। दोनों को राजधानी की पुलिस ने दिल्ली से गिरफ्तार किया है। पकड़े गए नाइजीरियन आरोपी फेसबुक में अपना नाम और फोटो बदल-बदल कर युवतियों से दोस्ती करता था। आरोपियों ने अब तक के महिलाओं और युवतियों से लाखों की ठगी को अंजाम दिया था।

 

विदेश ले जाने का झांसा दिया

 

सिविल लाइन थाना क्षेत्र की एक महिला भी फेसबुक के जरिये नाइजीरियन के संपर्क में आयी थी। महिला को इस ठग ने ब्रिटिश नागरिक बताया था। मैसेंजर के जरिये हुई बातचीत के दौरान ठग ने खुद को स्टीफन एडवर्ड नाम का व्यक्ति बताया। दोनों में फेसबुक के जरिये काफी बातें होने लगी। इस दौरान स्टीफन बने नाइजीरियन ठग ने युवती को विदेश ले जाने का झांसा दिया। झांसे में आकर युवती ने अपने पति को बिना बताये नाइजीरियन व्यक्ति के अलग अलग खातों में 9 लाख 33 हजार रुपये ट्रांसफर कर दिये। थोड़े दिनों बाद आरोपी ने महिला से और पैसों की मांग की। जब महिला को ठगी होने का अहसास हुआ तो महिला ने इसकी जानकारी सिविल लाइन में की। शिकायत के बाद एसएसपी आरिफ शेख ने सिविल लाइन थाना और साइबर सेल की टीम गठित की गई। टीम ने दिल्ली में आरोपी की खोज के लिए एक हप्ते का कैम्फ किया। पुलिस की टीम ने आरोपी को दिल्ली से गिरफ्तार किया है। आरोपियों में एक चार्ली मगाने नाइजीरियन और दूसरी लिंडा मणिपुर की रहने वाली है जो कुछ दिनों से दिल्ली में रहकर इस तरह की घटनाओं को अंजाम देती थी।

लाखों रुपये की सरिया चोरी करने वाला ट्रक चालक गिरफ्तार

रायपुर:  ट्रक को लावारिस छोड़कर लाखों रुपये की सरिया चोरी करने वाला आरोपी को उरला पुलिस ने मध्यप्रदेश से गिरफ्तार किया है। बता दें कि पकड़े गए आरोपी का नाम विनीत कुमार दुबे (42) निवासी छतरपुर मध्यप्रदेश है। बताया जाता है कि आरोपी ने 25 मार्च 2019 को उरला अछोली स्थित ग्रेविटी फेरस प्राइवेट लिमिटेड से 13 लाख 37 हजार का सरिया लोड कर ट्रक क्रमांक यूपी 95 टी 3484 में लोड कर लखनऊ उत्तरप्रदेश के लिए रवाना किया गया था। जो कि आरोपी ने रास्तें में शिवपुरी के पास ट्रक को लावारिस छोड़कर सरिया लेकर फरार हो गया था। अपराध दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपी को उसके निवास स्थान से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के निशानदेही पर 10 लाख का सरिया बरामद किया है।

छतीसगढ़ : चाकू की नोक पर 1लाख पचास हजार की लुट,,,

 

नीलकमल सिंह ठाकुर

 

मुंगेली-(लोरमी)-लोरमी क्षेत्र मे एक बार फिर बदमाशों ने लुट की घटना को अंजाम दिया है सुत्रो से मिली जानकारी के अनुसार क्षेत्र के ग्रामीण पिता पुत्र से तीन नकाबपोशों ने चाकू अडाकर डेढ लाख रुपये लूट लिए जिस पर लोरमी पुलिस मामले दर्ज कर जांच में जूट गई हैअब तक आरोपियों की कोई सुराग नहीं लगा पाई है 
    ये पुरा मामला मुंगेली के लोरमी विकासखण्ड की है जहाँ बैहाकापा निवासी भानू साहू, साहूकार से कर्ज मे पैसे लेकर अपने पिता के साथ जमीन की रजिस्ट्री कराने लोरमी तहसील गये हुए थे वहीं काम नहीं होने पर अपने घर वापस लौट रहे थे तभी सोल्ड मोटरसाइकिल सवार नकाबपोशों ने ओवरटेक कर गालीगलौच करते हुए गाड़ी रोकने को कहा वहीं ग्रामीण ने झाफल नहर मोड के पास जैसे ही गाड़ी रोकी आरोपी ने पिस्तौल का डर दिखाते हुए चाकू से हमला कर दिया और ग्रामीण पिता-पुत्र को घायल कर पैसे से भरा बैग लुट कर फरार हो गया। जिसकी सूचना मिलते ही मुंगेली एसपी व एसडीओपी घटना स्थल पहुंचे और मामले की जांच में जूट गई है।

पुलिस ने बताया कि पीड़ित बैगाकापा के रहने वाले हैं,दोनों पिता पुत्र जमीन की रजिस्ट्री के लिए तहसील कार्यालय आए थे काम नहीं होने पर डेढ़ लाख लेकर घर जा रहे थे, तभी झाफल नहर मोड़ के पास अज्ञात बाइक सवार 3 नकाबपोश युवकों ने रास्ता रोक लिया और चाकू दिखाकर डराने की कोशिश की जब नहीं डरे तो बंदूक दिखाया इसके बाद लुटेरे और ग्रामीण के बीच झड़प भी हुई जहाँ बेटे पर चाकू से हमला कर दिया, जिससे वह घायल हो गया और तीनों लुटेरे नकाबपोश रुपए लेकर फरार हो गए।
फिलहाल पीड़ित की शिकायत पर लोरमी पुलिस ने मामला दर्ज कर इलाके में नाकाबंदी कर नकाबपोशों की तलाश कर रही है।

अपहरण कि कोशिश नाकाम पुलिस ने 4 आरोपी को किया गिरफ्तार।

 

 

नीलकमल सिंह ठाकुर

 

 मुंगेली - जिले में देर रात सनसनीखेज मामला सामने आया  जहाँ एक महिला को उसके पति और भाई के सामने ही फिल्मी तरीके से अपहरण की नाकाम कोशिश की गई।वहीं जरहागांव पुलिस की तत्परता व त्वरित कार्यवाही से 4 बदमाशों को स्कोर्पियो वाहन समेत गिरफ्तार कर लिया गया वहीं 2 आरोपी फरार,पुलिस फरार आरोपियों की पतासाजी जूटी है।

    पूरा मामला जरहागांव थाना अंतर्गत ग्राम खम्हरिया की है जहां महिला अपने पति व भाई के साथ पास के ही ग्राम बिरगहनी अपने रिस्तेदार के यहां व्यववाहिक कार्यक्रम में गई हुई थी जहाँ से देर रात तीनो पैदल ही अपने ग्राम घर वापस आ रहे थे जहां रात सुनसान रास्ते पर एक स्कोर्पियो गाड़ी में सवार 6 युवकों ने जबरन रास्ता रोककर महिला के पति व भाई के साथ मारपीट कर महिला को जबरन गाड़ी में बिठाने का प्रयास किया वहीं महिला द्वारा हाथापाई व चीखपुकार मचाने से आरोपी बदमाश के मंसूबों पर पानी फिर गया व लगातार ऊंची आवाज में चीखती रही साथ ही पति और भाई भी आरोपियों से हाथापाई करने भीड़ गये और बदमाश भाग खड़े हुए।वही महिला ने तत्परता दिखाते पूरी घटना की जानकारी जरहागांव थाने में परिवार जन संग आ कर दी व अपराध में प्रयुक्त स्कोर्पियो वाहन C. G.15 CE 5910 नंबर बताई जिस पर घटना की गंभीरता व अपराधियों के हौसले पस्त करने तत्काल थाना प्रभारी केशव नारायण आदित्य द्वारा घेरा बंदी कर टीम बना अपराधियो की तलाश की गई जिसमे उन्हे सफलता मिली जहाँ एक अपचारी बालक सहित 4 अपराधियों को गाड़ी सहित बिलासपुर रोड के मित्र मिलन ढाबा के समीप गिरफ्तार कर लिया गया दो आरोपी फरार बताया जा रहा है जिसकी पतासाजी की जा रही है वहीं प्रयुक्त स्कार्पियो गाड़ी में नेमप्लेट मिला जिसमें एक तरफ विधायक प्रतिनिधि प्रदेश उपाध्यक्ष लोधी समाज छ.ग. व दूसरी तरफ अध्यक्ष सरपंच संघ नवागढ़ महामंत्री सरपंच संघ बेमेतरा लिखा हुआ है वहीं आरोपियों खिलाफ धारा  141,354,341,294,323 आईपीसी की कार्यवाही की गई गिरफ्तार आरोपीयों में दो आरोपी मुंगेली के पथरिया थाने.के हैं वहीं दो थाना नांदघाट जिला बेमेतरा से है वहीं उप तहसील जरहागांव में सभी आरोपियों की पीड़ित महिला द्वारा पहचान करा कर अपचारी बालक सहित चारो आरोपियों को रिमांड मे भेजा दिया गया है।

बिलासपुर पुलिस ने जमीन मामले में लाखों की धोखाधड़ी करने वाले रियल बिल्ड प्रायवेट कम्पनी के फरार मैनेजिंग डायरेक्टर को किया गया गिरफ्तार

अजीत मिश्रा @ BBN24

 

लंबे समय से फरार आरोपी को पकड़ने में पुलिस को करनी पड़ी काफी मसक्कत 


 सिटी एस पी कार्यलय में मामले का खुलासा करते हुए बिलासपुर के सीटी एसपी ओमप्रकाश शर्मा ने बताया कि आरोपी मनोरंजन सिंह जमीन खरीद बिक्री को लेकर करीब आधा दर्जन से अधिक लोगों को पचास लाख रूपए से अधिक का चूना लगाया है। विगत एक  साल पहले मरवाही थाना क्षेत्र के निमिधा निवासी बृजभूषण जायसवाल ने ठगी की शिकायत सिविल लाइन थाना में दर्ज कराई थी।आरोपी को उसके खिलाफ मामला दर्ज होने की जानकारी लगते ही फरार हो चुका था। पुलिस कप्तान ने आरोपी को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने को कहा। आरोपी मनोरंजन सिंह ने जमीन बिक्री के नाम पर एडवांस में 72 हजार रूपए लिया।

लेकिन मनोरंजन ने न जमीन दिया और ना ही रूपए लौटाए। इसी तरह उसने प्रदीप जायसवाल,सुनील जायसवाल, बी.पी.गुप्ता आनन्द जायसवाल, गुलाब सिंह आरमों से भी धोखाधड़ी की। सभी लोगो  को करीब पचास लाख रूपए से अधिक का चूना लगाया। सिविल लाइन थाना में आरोपी पर जनवरी 2018 में 420 के तहत मामला दर्ज किया गया। लेकिन शिकायत की जानकारी मिलते ही आरोपी फरार हो गया।इसी क्रम में पुलिस कप्तान अभिषेक मीणा के निर्देश पर पुलिस जवानों के साथ आरोपी के ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की गयी और आरोपी को रायपुर के सड्डू इलाके में जहाँ वो रह रहा था वहाँ से उसको ग्रिफ्तार कर लाया गया।।

40 लीटर महुआ शराब बरामद

धमतरी:- धमतरी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी रजत बंसल के निदेर्शानुसार लोकसभा निर्वाचन 2019 के तहत आबकारी विभाग ने अवैध मदिरा निर्माण धारण संग्रहण विक्रय परिवहन के विरुद्ध सघन अभियान चलाया। जिला आबकारी अधिकारी एमके जायसवाल ने बताया कि गश्त के दौरान 40 लीटर हाथ भट्ठी कच्ची शराब नगरी विकासखण्ड के ग्राम सम्बलपुर, छिपली के निकट जंगल में दो जरीकेन में रखे लावारिस हालत में बरामद की गई। आबकारी अधिनियम की धारा 34;2 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर आरोपी की पतासाजी की जा रही है एवं प्रकरण विवेचना में लिया गया है। कार्यवाही के दौरान सहायक जिला आबकारी अधिकारी चन्द्रहास यदु और आबकारी मुख्य आरक्षक श्रवण दास वैष्णव उपस्थित थे।

जांजगीर चाम्पा : आईपीएल में सट्टा लगाते 3 गिरफ्तार

आशीष कश्यप @bbn 24 

जांजगीर चापा जिले में  आईपीएल में सट्टा लगाते 3 लोगो को पामगढ़  पुलिस ने  गिरफ्तार किया है,  वही  3 सटोरियों से  22 हजार 900 रु और लाखों की सट्टा पट्टी जब्त कि गई है  सटोरि  बिलासपुर  और बलौदाबाजार है  वही ये पामगढ़ थाना क्षेत्र में सट्टा खिलाने में सक्रीय थे | पामगढ़ पुलिस ने जुआ सट्टा एक्ट के तहत  कार्यवाई कि है  

रेलवे क्षेत्र के मोबाइल दुकानों में चोरी पुलिस ने प्राप्त कि सफलता

अजीत मिश्रा-BBN24 

 

बिलासपुर शहर में लगातार रेलवे क्षेत्र के मोबाइल दुकानों में छत काटकर चोरी की वारदातें हो रही थी। चोरियों पर रोक लगाने पुलिस अधीक्षक द्वारा बारीकी से समीक्षा करते हुए आसपास में लगे सभी सीसीटीवी कैमरा तथा रेलवे में लगे कैमरों के फुटेज को लगातार खंगाल कर चोरी के आरोपी को पकड़ पाने सफलता प्राप्त की।।

 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कार्यालय में मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना ने बताया कि रेलवे व बुधवारी में लगे सीसीटीवी फूटेज मे आरोपी की पहचान हुई। सूचना के आधार पर आरोपी की तलाश प्रारंभ की गई। वही मुखबिर से सूचना मिली कि आरोपी यादराम पटेल रायपुर रेलवे स्टेशन के आसपास घूम रहा है। 

 जिसको देखते हुए तत्काल घेरा बंदी कर पकड़ा गया। पकड़ाने पर उसने अपना अपराध स्वीकार किया। पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीणा ने बताया कि आरोपी स्टेशन के आस-पास के इलाकों में ही चोरी करता था। जिससे उसे भागने में आसानी होती थी। जिसे पकड़ने पर पूछताछ के दौरान चोरी की गई जप्त समान -30 मोबाईल, 1लेपटॉप,मेमोरी कार्ड सहित 6 लाख का सामान व छत काटने का कटर व पाना पेंचीस जप्त किया गया है।

जांजगीर चाम्पा : गांजा तस्करी करते दो आरोपी गिरफ्तार

आशीष कश्यप / BBN24 --

 

जांजगीर चाम्पा  जिले के पामगढ़ पुलिस ने  बड़ी कार्यवाही कि है पुलिस ने गांजा तस्करी करते दो आरोपी को  गिरफ्तार किया है दोनो आरोपी भाठापारा जांजगीर और पौना निवासी है जिनके पास से 5 किलो गांजा जब्त किया गया है पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपी  पामगढ़ में गांजा खपाने के लिए मोटरसाइकिल में घूम रहे थे  | पुलिस के द्वारा एनडीपीएस के तहत कार्यवाही की जा रही है।

BJP के छुटभैये नेता के ऊपर लगा धोखाधड़ी का आरोप ....आदिवासी युवक से लाखों का किया धोखाधड़ी पिता पुत्र दोनो के नाम पर हुआ थाने में हुआ शिकायत दर्ज

रायगढ़:- प्रदेश से बीजेपी के सरकार जाते हैं बीजेपी के नेताओं के काले चिट्ठे अब खुलने लग गए हैं शायद लोगों में डर था कि इनके ऊपर अगर शिकायत की जाए तो कोई कार्यवाही नहीं होती मगर सरकार बदलते ही अब लोगों में हिम्मत आ गई और इनके काले चिट्ठे अब एक-एक करके खुलने लग गए हैं प्रदेश के बाद अब रायगढ़ में भी धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। बीजेपी सहकारिता प्रकोष्ठ के जिला संयोजक टिकेश डनसेना के ऊपर यह आरोप लगा है कि उसने आदिवासी के साथ ठगी करके लाख गबन कर लिए । दरसल मे छाल थाना में एक आदिवासी युवक ने 9 लाख ठगे जाने का आरोप लगाकर टिकेश डनसेना जो कि बीजेपी के सहकारिता प्रकोष्ठ के जिला संयोजक है उसके ऊपर थाने में लिखित शिकायत की युवक ने बताया कि वह अनपढ़ है इसीलिए मौके का फायदा उठाकर टिकेश ने मुआवजे में मिली रकम को पहले तो बैंक में जमा करवाया फिर उसे फर्जी तरीके से निकाल लिया रुपए वापस मांगने पर धमका कर उसे भगा दिया जाता है और वही मामले की शिकायत होने पर टिकेश डनसेना कहता है यह कांग्रेस की चाल है दरसल में चाल वाली ऐसी कुछ बात है भी नहीं क्योंकि टिकेश डनसेना ऊपर न जाने कितने आरोप लग चुके हैं लेकिन पूर्व में बीजेपी के सत्ता होने के कारण हमेशा बचते रहा।

क्या है पूरा मामला

मिली जानकारी अनुसार हेमलाल राठिया निवासी छोटे जामपाली जिसे 2015 में भूमि अधिग्रहण के मुआवजे के रूप में 19 लाख 93 रुपये का चेक मिला था। राठिया शिक्षित होने के कारण टिकेश डनसेना और उसके पिता श्रवण डनसेना बरभौना निवासी के पास पहुंचा क्योंकि नेता है तो स्वाभाविक सी बात है उम्मीद लेकर जरूर पहुंचे थे और टिकेश ने उसे मदद का आश्वासन भी दिया। जिसके बाद शुरू हुई कहानी टिकेश के द्वारा बैंक ऑफ महाराष्ट्र की रायगढ़ शाखा में खाता खुलवाया और चेक बुक एटीएम बनाकर सभी अपने पास रख लिए जरूरत पड़ने पर बीच-बीच में ग्रामीण को उसके द्वारा 9लाख50हजार दिए गए जिसके बाद बाकी रकम 9लाख उसके द्वारा फिक्स डिपॉजिट करा देने की बात कही। लेकिन जब उस युवक को और पैसे की जरूरत पड़ी तो उसने टिकट से पैसा मांगा तो टिकट ने उसे 40 -50 खाते में जमा होने की बात कही लेकिन जब युवक पासबुक और एटीएम को मांगा तो उस दौरान टिकेश उसे भला बुरा कह कर वहां से भगा दिया। युवक को जब शक हुआ तब उसने बैंक जाकर पता किया तो पता चला कि उसके खाते में पैसे डाला ही नहीं गया है ना ही उसके खाते में फिक्स डिपॉजिट है जिसके बाद उसे लगा कि वह ठगी का शिकार हो गया फिर उसके बाद उसने छाल थाने में जाकर मामले की शिकायत दर्ज की।

जांच अभी तक नहीं हो पाई है मामले की जांच की जा रही है

ठगी के मामले की शिकायत मिली है मगर अभी तक मामले की पूरी जांच नहीं हो पाई है जांच अभी जारी है जांच आने की ही बात कुछ बता पाऊंगा और आगे की कार्यवाही की जाएगी ।

अमित सिंह थाना प्रभारी

सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, महिला दलाल और उसका पति फरार

जगदलपुर:- सेक्स रैकेट की सूचना पर पुलिस टीम ने शहर के धरमपुरा तिलकनगर स्थित एक मकान में दबिश देकर बंधक युवती को मुक्त कराया है। वहीं महिला दलाल अपने पति के साथ भागने में कामयाब हो गई। इसकी पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। बता दें कि महिला दलाल मनीषा अपने पति के साथ मिलकर बाहर से युवतियों को काम दिलाने के बहाने जगदलपुर लाती थी और बंधक बनाकर देहव्यापार करवाती थी। इससे एक युवती किसी तरह पड़ोस के एक युवक से मदद मांगते हुए डायल 112 से संपर्क किया। डायल 112 के टीम ने पुलिस के साथ मिलकर युवती को दलाल दंपत्ति के चंगुल से छुड़ा लिया। वहीं दलाल दंपत्ति भागने में कामयाब हो गए। उक्त पीडि़त युवती ने बताया कि वह कोलकाता की रहने वाली है। पुलिस मामले में फरार दंपत्ति की तलाश कर रही है।

राजधानी में अलग-अलग मामले में सट्टा खिलाते 7 आरोपी गिरफ्तार

रायपुर:- राजधानी पुलिस ने बीती रात मुखबिर की सूचना पर कटोरातालाब और राठौर चौक में दबिश देकर सट्टा संचालित करते 7 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से कुल 55 हजार नकदी रकम, 17 नग मोबाइल, लेपटाप व एलईडी टीवी जब्त किया है। मामले की खुलासा करते हुए एडिशनल एसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि बीती रात पुलिस को सूचना मिली कटोरातालाब में आईपीएल क्रिकेट मैच हैदराबाद और बैंगलोर के बीच रहे मैच में सट्टा खिला रहे है। जिससे पुलिस के टीम ने दबिश देकर आरोपी शादाब मेमन निवासी चौरसिया कालोनी को पकड़ा और उससे पूछताछ किया। जिससे आरोपी शादाब ने अपने बाकी साथी शिवनारायण वर्मा निवासी आमापारा, शुभम जैन निवासी सरस्वती चौक व योगेश उर्फ दुर्गेश डाहरे निवासी रावतपुरा कॉलोनी के बारे में बताया। जिससे पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 15 नग मोबाइल, 40 हजार नकदी रकम, लेपटाप व एलईडी टीवी जब्त किया है। वहीं दूसरे मामले में पुलिस ने राठौर चौक में दबिश देकर सट्टा खिलाते आरोपी निखिल गोडवानी, उमेश रजवानी और पवन मंगलानी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इन तीनों के पास से 2 नग मोबाइल, 15 हजार नकदी रकम व एलईडी टीवी जब्त किया है। पकड़े गए सभी आरोपियों के खिलाफ धारा 3, 4 जुआ एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही। बता दे कि रायपुर पुलिस की सट्टेबाजों के खिलाफ ये अब तक की तीसरी बड़ी कार्रवाई है और यह अभियान आगे भी जारी रहेगी।

दो इनामी नक्सली गिरफ्तार, भरमार बंदूक और दैनिक उपयोग का सामान जब्त

धमतरी:- पुलिस ने दो इनामी नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। दोनों नक्सलियों पर पुलिस ने इनाम घोषित किया था। इनमें से एक नक्सली पर पांच लाख और दूसरे पर एक लाख का इनाम था। दोनों पर कई बड़ी घटनाओं अंजाम देने का आरोप था। इनके पास से पुलिस ने बंदूक बरामद की है। धमतरी पुलिस अधीक्षक बालाजी राव ने प्रेसवार्ता में बताया कि रायपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा के निर्देश पर लगातार जिले में नक्सल उन्मूलन अभियान चलाया जा रहा है। एसपी ने बताया कि डीआरजी की सर्चिंग पार्टी को खल्लारी और आमझर के जंगल में पानी के काले जर्किन मिले और पुलिस को माओवादियों के होने का अंदेशा हुआ और इसके बाद क्षेत्र की घेराबंदी की गई। पुलिस को जगंल के रास्ते में खोदे गए गड्ढे में कुछ वायर दबे हुए नजर आए। नक्सली यहां पुलिस पार्टी को निशाना बनाने के लिए लैंड माइंस बिछा रहे थे। इसी बीच सर्चिंग पार्टी को वहां दो लोग नजर आए, जो पुलिस को देखकर भागने लगे इन्हें पुलिस ने पकड़ा। पूछताछ में दोनों ने नक्सल घटनाओं में संलिप्त होने की बात कबूल की। नक्सलियों में सीतानदी एरिया कमांडर अजीत मोडियम और रामसू कुंजाम है। अजीत मोडियम पर पांच लाख और रामसू कुंजाम पर एक लाख का इनाम थौ। ये दोनों सुकमा और बीजापुर के रहने वाले हैं। पुलिस ने इनके पास से बैनर पोस्टर, तीन टिफिन बम, एक भरमार बंदूक और दैनिक उपयोग का सामान जब्त किया है। बताया जाता है कि दोनों नक्सली दर्जन भर से ज्यादा वारदातों को अंजाम दे चुके हैं।