क्राइम

पोटा केबिन की 14 वर्षीय छात्रा दो माह की गर्भवती , पुलिस आरोपी युवक की कर रही तलाश

दंतेश्वर कुमार (चिंटू)

बीजापुर - पोटा केबिन की 14 वर्षीय छात्रा दो माह की गर्भवती , पुलिस आरोपी युवक की कर रही तलाश नैमेड टीआई के मुताबिक़ छात्रा गर्मी की छुट्टियों में गांव गई थी, तब वहां उसके ही रिश्तेदार राजेश पोड़ीयाम ने 28 मई को उसके साथ कुकृत्य किया। पोटा कैबिन की अधीक्षिका के साथ आकर बालिका ने नैमेड थाने में रिपोर्ट बुधवार को लिखवाई। बताया गया है कि पुलिस मुसालूर गांव के निवासी आरोपी को पकड़ने गई थी, लेकिन वह घर पर नहीं मिला। उसके खिलाफ भादवि की दफा 376 एवं पॉक्सो एक्ट के तहत मामला कायम किया गया है। पुलिस आरोपी की सरगर्मी से तलाश कर रही है।

कार में लिफ्ट देने के बहाने कपड़ा दुकान पर काम करने वाली युवती से किया गैंगरेप मामले के आरोपी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

तुलसी राम जायसवाल

तिल्दा :- कार में लिफ्ट देने के बहाने कपड़ा दुकान पर काम करने वाली युवती से किया गैंगरेप तिल्दा थाना क्षेत्र का मामला पुलिस ने आरोपी दिनु शर्मा को किया गिरफ्तार।

आपको बता दें तिल्दा क्षेत्र के एक कपड़ा दुकान में काम करने वाली युवती अपने घर के लिए निकली थी इसी बीच वह मंदिर में भगवान के दर्शन के लिए रुक गई भगवान के दर्शन करने के बाद मंदिर पर ही बैठी थी वहां से उनके गांव के दो युवक कार से निकल रहे थे उन्होंने देखा कि उनके गांव की लड़की मंदिर पर बैठी है लड़की के पास जाकर कहां चलो मैं गांव जा रहा हूं आपको भी छोड़ दूं क्या लड़की ने मना किया लेकिन लड़के ज़िद्द कर उसे कार पर बैठा लिए और ग्राम ना ले जाकर सोमनाथ धाम की ओर चल पड़े सोमनाथ धाम से लगे कुछ दूरी पर जंगल की तरफ कार को मोड़ दिया तथा साथ में बैठे एक दोस्त को पानी के लिए भेज दिया आरोपी दिनु शर्मा ने फिर लड़की के साथ कार में ही दुष्कर्म किया पीड़िता के आरोप पर तिल्दा पुलिस ने आरोपी व कार को अपने कब्जे में लिया है वही दोनों आरोपी के खिलाफ कानून की धारा 376 व अन्य धाराओं के तहत दोनों आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है

बिलासपुर : 40 लाख के गांजे के साथ 2 लोग गिरफ्तार

अजीत मिश्रा : बिलासपुर कोटा पुलिस को एक सप्ताह में गांजा तस्करी के 2 मामलों में सफलता हासिल की है। इस बार पुलिस ने तस्करी करते दो तस्कर माल सहित ग्रिफ्तार किया है। उड़ीसा से ट्रक में गाँजा लेकर तस्कर मध्यप्रदेश के झांसी जा रहे थे। इनसे 40 लाख कीमत का करीब 5 क्विंटल गाँजा जब्त हुआ है। पुलिस को चकमा देने तस्करों ने ट्रक में अलग-अलग पार्टिशन कर गाँजा छिपाकर रखा था।  -दरअसल कोटा एसडीओपी अभिषेक सिंह को पिछले कुछ दिनों से सूचना मिल रही थी कि गांजा तस्करों के लिए कोटा-रतनपुर मार्ग सुरक्षित रास्ता है। लिहाजा, तस्कर ओडिशा से गांजा लेकर इस मार्ग से उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश व झारखंड तक सप्लाई करते हैं। 24 जुलाई को उन्होंने गांजा तस्करों से दो क्विंटल गांजा जब्त किया था। एसडीओपी को खबर मिली कि एक ट्रक में गांजा सप्लाई की जा रही है। खबर मिलते ही उन्होंने अपनी टीम को शाम में नाकेबंदी में लगा दिया था। रात को पटैता बेरियर में पास टीम ने ट्रक को रोक लिया। इस दौरान चालक व उसमें सवार तस्कर को भागने का मौका ही नहीं मिला। पुलिस ने उन्हें पकडक़र तलाशी ली। तब उसमें अलग-अलग पैकेट्स में करीब 5 क्विंटल गांजा मिला।पूछताछ में पता चला कि एक आरोपी प्रेमचंद गुप्ता उत्तरप्रदेश के ग्राम बरदोलिया का रहने वाला है। वहीं दूसरा वासुदेव महतो ओडिशा के नोमाडा जिले के नेमाड़ का रहने वाला है। बहरहाल दोनों आरोपियों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत अपराध दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। 

आदिवासी युवक के साथ धोखाधड़ी करने वाले जालसाज बीजेपी के छूटभैय्ये नेता पिता पुत्र हुए गिरफ्तार..... पत्रकार पर हुए जानलेवा हमले की भी है मुख्य आरोपी

रायगढ़ :- प्रदेश में कांग्रेस सरकार के आते ही और बीजेपी की सरकार के जाते ही बीजेपी के छूटभैय्ये नेताओं के कारनामे सामने आने लगे हैं। ऐसा ताजा मामला रायगढ़ जिले के खरसिया में एक भाजपा के छूटभैय्ये नेता और उसके पिता को आदिवासी से धोखाधड़ी और गबन के मामले में गिरफ्तार किया गया है. गिरफ्तार किया गया भाजपा के छूटभैय्ये नेता एक युवा पत्रकार के ऊपर जानलेवा हमले के मामले में भी फरार चल रहा था।

मामला छाल थाना क्षेत्र के जामपाली बरभौना का है. यहां रहने वाले आदिवासी युवक हेमलाल राठिया ने बीजेपी के छूटभैय्ये नेता टिकेश डनसेना और उनके पिता श्रवण डनसेना के खिलाफ छाल थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई है. शिकायत में युवक ने बताया 2015 में भूमि अधिग्रहण के मामले में उसे मुआवजे के रूप में करीब 19 लाख रुपये का चेक मिला था. अशिक्षित होने की वजह से बरभौना निवासी टिकेश डनसेना और उसके पिता श्रवण डनसेना के पास मदद के लिए गया था. टिकेश डनसेना के द्वारा बैंक ऑफ महाराष्ट्र की रायगढ़ शाखा में पीड़ित के नाम से खाता खुलवाया गया और चेक बुक व एटीएम अपने पास रख लिएl

पीड़ित युवक हेमलाल राठिया ने शिकायत में बताया कि जरूरत पड़ने पर बीच में उसे आरोपियों ने उसे साढ़े 9 लाख रुपये दिया था. शेष रकम के बारे में आरोपियों ने बताया कि उसे फिक्स डिपॉजिट करा दिया है. इसी बीच पीड़ित आदिवासी युवक को पैसे की जरूरत पड़ी तो उसने टिकेश डनसेना से पैसा मांगा. जिस पर उन्होंने उसे बताया कि खाते में 40 -50 हज़ार रुपये ही जमा है. पीड़ित का कहना है कि जब उसने आरोपियों से अपना बैंक पासबुक और एटीएम मांगा तो टिकेश ने गाली गलौच करते हुए उसे भगा दिया।

आरोपियों के व्यवहार से पीड़ित को उनके ऊपर शक हुआ तो उसने बैंक जाकर पता किया तो उसे पता चला कि उसके खाते में पैसा ही नहीं है और न ही कोई फिक्स डिपोजिट ही किया गया है. जिसके बाद उसे अपने साथ ठगी होने का अहसास हुआ और उसने छाल थाना में जाकर मामले की शिकायत की. तकरीबन महीने भर तक जांच के बाद पुलिस ने आरोपी टिकेश डनसेना और उसके पिता के खिलाफ मामला दर्ज किया जिसके बाद आरोपी लंबे समय से फरार चल रहे थे ।आज पुलिस ने आरोपी टिकेश डनसेना और उसके पिता श्रवण डनसेना 420, 34 के तहत दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पत्रकार पर जानलेवा हमला के भी मुख्य आरोपी है टिकेश

इसके साथ ही बताया जा रहा है कि आरोपी टिकेश डनसेना एक पत्रकार के ऊपर जानलेवा हमले का मास्टरमाइंड भी है उसके खिलाफ भूपदेवपुर थाना में धारा 307, 394, 427, 34 के तहत अपराध दर्ज है. अपराध दर्ज होने के बाद से ही आरोपी फरार था।

एक परिवार के 4 लोगों पर हमले के 5 आरोपी गिरफ्तार, मुख्य आरोपी फरार

 

 

 

जांजगीर चाम्पा :- जिले के कटौद गांव में एक ही परिवार के चार सदस्यों पर हुए जानलेवा हमले के पांच आरोपियों को गिरफ्तार करने में डभरा पुलिस ने सफलता पाई है इस मामले का मुख्य आरोपी गोपाल चंद्रा अभी भी फरार है। ये  सभी आरोपी डभरा क्षेत्र के ही रहने वाले हैं। पुलिस के अनुसार मुख्य आरोपी गोपाल चंद्रा के पिता भाई और बहन तीनों पीड़ित परिवार के मुखिया  की हत्या के जुर्म में 2018 से जेल में है। जिसकी वजह से मुख्य आरोपी गोपाल चंद्रा इस परिवार से रंजिश रखता था और उसने 24 जुलाई की दरमियानी रात अपने साथियों के साथ घर में सो रहे पति पत्नी और उसके दो मासूम बच्चों पर लाठी डंडे और लोहे के राड से प्राण घातक हमला कर दिया। हमले में गंभीर रूप से घायल एक बच्चे की रायपुर में इलाज के दौरान मौत हो चुकी है, वही परिवार के 3 सदस्य अभी भी रायपुर के हॉस्पिटल में गंभीर हालत में भर्ती है। मामले का मुख्य आरोपी गोपाल चंद्रा अभी भी फरार है जिसकी तलाश पुलिस सरगर्मी से कर रही है।

ऐसा क्या हुआ जो महिला आरक्षक को लगानी पड़ी फांसी पढ़ें पूरी खबर

रायपुर– राजधानी में एक महिला आरक्षक ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली है। आरक्षक के सुसाइड की वजह सामने नही आई है। तेलीबांधा पुलिस मामले की जांच कर रही है। रायपुर के कांशीराम नगर के एक मकान में महिला आरक्षक फांसी पर लटकी मिली है। मिली जानकारी के मुताबिक महिला आरक्षक दुर्गा साहू नवापारा गोबरा में पदस्थ है। रविवार को महिला नवापारा से अपने पति के घर काशीराम नगर आई थी। उसके बाद रविवार तकरीबन रात तीन बजे के आसपास अपने कमरे के अंदर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची, और शव को पीएम के लिए भेजा दिया है।

दो पक्षों की लड़ाई को छुड़वाने गए युवक पर ब्लेड से हमला

भाटापारा : दो पक्षों की लड़ाई को छुड़वाने गए युवक पर ब्लेड से किया जानलेवा हमला युवक बुरी तरह से घायल आरोपी फरार भाटापारा पुलिस आरोपी की कर रही है खोजबीन। आपको बता दें भाटापारा के सिद्ध बाबा के पास दो पक्ष आपस में किसी बात को लेकर लड़ाई कर रहे थे वहां से संतोष साहू गुजर रहा था उसने देखा एक तो एक व्यक्ति उसकी पहचान की है उसने लड़ाई छुड़वाने की कोशिश की और लड़ाई शांत करवा वापस जा रहा था कुछ दूर चलने के बाद लालू गुप्ता सन्तोष साहू को यह कह कर रोका और ब्लेड निकाल के उसके गले चेहरे पर व शरीर के कई जगहों पर वार कर दिया जिससे संतोष साहू बुरी तरह से घायल हो गया आपको बता दें कि शहर थाना को जब इस घटना की लगी तो संतोष साहू का डॉक्टरी मुलाहिजा करा कर आरोपी लालू गुप्ता की तलाश में जुट गई, लेकिन शहर थाना पुलिस आरोपी को देर रात तक नहीं पकड़ पाई थी वहीं लोगों में चर्चा है कि आरोपी लालू गुप्ता रसूखदार परिवार से है, और परिवार का एक व्यक्ति पुलिस विभाग में है, अब देखना यह है की भाटापारा शहर थाना पुलिस लालू गुप्ता को कब तक पकड़ती है

बिलासपुर : सकरी स्थित सरकारी स्कूल के प्रधान पाठक ने अपने अधीनस्थ शिक्षिका के साथ किया दुष्कर्म , आरोपी प्रधान पाठक मोहन देव यादव गिरफ्तार

अजीत मिश्रा :

बिलासपुर– सकरी स्थित सरकारी स्कूल के प्रधान पाठक ने अपने अधीनस्थ शिक्षिका के साथ दुष्कर्म किया,पीड़िता की रिपोर्ट पर सिविल लाइन पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी प्रधान पाठक मोहन देव यादव को गिरफ्तार कर लिया है।

बिलासपुर के नेहरू नगर में रहने वाले आरोपी प्रधान पाठक मोहन यादव का बीते 6 साल से शिक्षिका के साथ संबंध था। दोनों साथ में स्कूल आना जाना करते थे। जिसका फायदा उठाकर आरोपी ने शिक्षिका पर दबाव बनाया, और उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता ने परेशान होकर आखिरकार मामले की रिपोर्ट की। पीड़ित शिक्षिका की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी प्रधान पाठक मोहन देव यादव के खिलाफ 376 मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

बोलोरो गाड़ी से 200 किलो गांजा जप्त

अजीत मिश्रा : 

बिलासपुर कोटा पुलिस की बड़ी कार्यवाही करते हुए एक गाड़ी से 200 किलो गांजा और एक बोलोरो गाड़ी को  पकड़ने में सफलता हासिल की है दो लोग जो माल ले जा रहे थे वो जंगल के रास्ते से फरार हो गए।।।  कोटा एसडीओपी ने बताया कि आज मुखबिर से सूचना मिली कि गोबरिपाठ के पास शिवतराई के तरफ से जंगल जाने वाले रास्ते मे एक बोलोरो जिसका क्रमांक or 10 h 1060 में गांजा ले जाया जा रहा है इसी सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी कर ओडिशा पासिंग बोलोरो को रुकवाया जिसमे से उस गाड़ी के वाहन चालक और उसका साथी पुलिस को देख कर भागने लगे और जंगल के रास्ते से वो दोनों फरार हो गए।।।वही गाड़ी की तालाशी लेने पर गाड़ी के अंदर से 5 किलो ग्राम के पैकेट में लगभग 200 किलो गांजा बरामद किया गया जिसकी बाजार कीमत लगभग 60 लाख रुपये आंकी जा रही है।।वही कोटा पुलिस ने दोनों आरोपी गाड़ी और गांजा के साथ हिरासत में ले लिया गया और पूछताछ की जा रही है।।

बलौदा बाजार के कसडोल थाना के सर्वा गांव में एक नवविवाहिता ने आग लगाकर कर ली खुदकुशी

संतोष साहू : bbn24news

बलौदा बाजार के कसडोल थाना के सर्वा गांव में एक नवविवाहिता ने आग लगाकर खुदकुशी कर ली ।बताया जा रहा है कि अभी 4 महीने पहले ही मनकोनी निवासी झाड़ू राम साहू बेटी मृतिका रजनी साहू की शादी सर्वा निवासी राज साहू से हुई थी. लेकिन अचानक मृतिका द्वारा आत्महत्या करना समझ से परे है ।फिलहाल आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल सका है। पुलिस जांच में जुटी हुई है ।

कसडोल थाना के सर्वा गांव में एक नवविवाहिता ने खुद को कमरे में बंद कर आग लगाकर खुदकुशी कर ली है. बताया जा रहा है, अभी 4 महीने पहले ही महिला की रजनी साहू, मृतका खुदकुशी की खबर के बाद मौके पर पहुंची कसडोल पुलिस मामले की जांच में जुटी है. मृतका का नाम रजनी साहू बताया जा रहा है. जो शादी के बाद से ससुराल में रह रही थी. इसी दौरान आज सुबह जब घर के सभी लोग घर से बाहर पोल्ट्री फार्म में  थे, उसी वक्त महिला ने अपने कमरे में खुद को आग लगा ली, जिससे महिला की मौके पर ही मौत हो गई.घटना के बाद ससुराल पक्ष के लोगों ने मृतका के माता-पिता को इसकी जानकारी दे दी है। वही मृतिका के पिता ने मीडिया को बताया कि उनकी बेटी किस कारण मौत को गले लगाया उनके समझ मे नही आ रहा है । उन्होंने लड़की के ससुराल पक्ष के ऊपर किसी प्रकार के आरोप से इनकार किया है ।

चोर को ग्रामीणों ने पीटा, दो जवान सस्पेंड


सुमंत सिन्हा : bbn24news
भानुप्रतापपुर। जिले के कप्तान गोवर्धन ठाकुर ने सहायक सब इंस्पेक्टर पलटू राम मंडावी और प्रधान आरक्षक लोकेश साहू को निलंबित कर दिया है। मामला बोगर गांव का है जहां चोरी के आरोपी की पिटाई के दौरान पुलिस बल द्वारा घोर लापरवाही की गई थी। इसी लापरवाही के कारण इन्हे निलंबित कर दिया गया है

बता दें कि कांकेर जिले से मॉब लिंचिंग का एक मामला सामने आया था। जिसमें दिन दहाड़े चोरी के आरोप में लोगों ने एक युवक की पिटाई कर दी। अब युवक की पिटाई का ये वीडियो काफी वायरल हो रहा है। सबसे चौकानी वाली बात ये है कि ग्रामीण जन पुलिस के सामने ही युवक की पिटाई कर रहे हैं। भानुप्रतापपुर के बोगर गांव का ये पूरा मामला है।

बड़े भाई ने आपसी विवाद में छोटे भाई को पीट पीटकर उतारा मौत के घाट

 

सुमंत सिन्हा :  भानुप्रतापपुर। 


दमकसा चौकी के अंतर्गत आने वाले ग्राम कानापाल के जुर्रीपारा मे बड़े भाई ने अपने ही सगे छोटे भाई की लकड़ी की बल्ली से पीट पीटकर  हत्या कर दी है। ग्रामीणों के अनुसार मृतक अपने घर से बाहर स्कुल मैदान मे पानी टैंक रखने के लिए बनाये गये चबूतरे पर गहरे नींद में सो रहा था तभी रात्रि 11 बजे आरोपी ने लकड़ी की बल्ली से मृतक के सिर पर ताबड़तोड़ वार कर दिया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना को अंजाम देने की मुख्य वजह परिवारिक विवाद होना बताया जा रहा है। पुलिस मौके पर पहुँचकर आरोपी को गिरफ्तार किया और जांच कर रही है। पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की तो पहले तो आरोपी ने पुलिस को चकमा देने की कोशिश की जिसके बाद डॉग स्क्वायड टीम पहुचकर जांच की जिसके बाद आरोपी ने अपना गुनाह कबूल किया है। 

ग्रामीण लालु राम गावड़े, नरेश कुमार, मनोज कुमार कोमरा, बज्जू रॉय नरेटी ने बताया आरोपी का नाम सजंय गावड़े है तथा मृतक मड्डूराम गावड़े है दोनों सगे भाई है सजंय का विवाह हो चुका है और मड्डू का विवाह होना बाकी था। सजंय गांव में घूम घूमकर गायता का काम करता है जबकी मड्डू ही कार्य कर परिवार को  चलाता था कई दिनों से दोनों भाइयों के बीच लड़ाई झगड़ा होता था 22 जुलाई को भी दोनों भाइयों के बीच झगड़ा हुआ। मृतक हमेशा ज्यादा  गर्मी  पर स्कुल मैदान में बने चबुतरे में जाकर सो जाता था और 22 कि रात्रि भी जाकर सोया हुआ था  । आरोपी ने गहरे नींद में सो रहे मड्डू को लकड़ी की बल्ली से उसके सिर जमकर मार दिया जिससे उसकी मौत हो गई। जिसकी सुचना दमकसा पुलिस को दिया गया। मौके पर एडिशनल एसपी कीर्तन राठौर, भानुप्रतापपुर एसडीओपी अमोलक सिंह ढिल्लो, चौकी प्रभारी लतेश कुमार शोरी, कच्चे चौकी प्रभारी पारस पटेल,दुर्गकोंदल थाना प्रभारी रामनरायण ध्रुव,लोहहतर थाना प्रभारी उत्तम तिवारी,एसआई शिव खूंटे,केशव लाल प्रधान आरक्षक,राधेलाल शोरी,ने जांच कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।


 एसडीओपी अमोलक सिंह ढिल्लो ने बताया मृतक के बड़े भाई ने ही उसकी हत्या की है आरोपी को गिरफ्तार किया गया है उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

गाँजे का तस्कर चढ़ा पुलिस के हत्थे

बलरामपुर: आकाश साहू@BBN24 : ■3 किलो गाँजे के साथ एक युवक गिरफ्तार■ ■उक्त क्षेत्र बना है अवैध नशे का ये व्यापार केंद्र■ वाड्रफनगर नगर पुलिश चौकी अंतर्गत आज एक गांजा तस्कर पुलिश के गिरफ्त में आ गया।मामला ग्राम पंचायत परसाडीहा निवासी संजय पटेल पिता ब्रिज कुमार पटेल अपने घर से 3 किलो गाँजे के साथ घर से क्षेत्र में खपाने निकला था।वहीं मुखबिर की सूचना के बाद पुलिस घेरा बंदी कर उक्त व्यक्ति को वाड्रफनगर बस स्टैंड में गाँजे के साथ धर दबोचा।अपने पास वह अलग अलग प्लास्टिक में कुल 3 किलो गांजा रखा था।पुलिस ने धारा 118/19 व 20 बी इन ड़ी पी एस एक्ट के तहत कार्यवही कर जेल भेज दिया।

12 दिन पहले हुई ढाई लाख रुपए की लूट के मामले का किया खुलासा, सक्ती पुलिस को मिली सफलता

जांजगीर-चांपा :- जिले सक्ती पुलिस ने ग्राम केरीबंधा में विगत 5 जुलाई को एलएनटी फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी से हुई 228500 ₹ की लूट के 3 आरोपियो ंको पकड़ने मे सलता पाई है इस मामले का एक आरोपी अभी भी फरार है। इस मामले मे खुलाशा करते हुए पुलिस ने जानकारी दी कि एल एण्ड टी फाइनेंस सर्विस के कर्मचारी कुमार सानू सेन जो कि अपने एलएनटी फाइनेंस के कार्य हेतु ऋण वसूली तथा रिकवरी के लिए ग्राम केरीबन्धा गया हुआ था तथा ग्राम केरीबंधा के गेंदराम के घर से वसूली की रकम करीब ₹228500 लेकर वह जब निकला, तो गेंदराम के घर से बमुश्किल 100-200 मीटर की दूरी पर ही पहुंचा होगा तभी तीन व्यक्तियों के द्वारा कर्मचारी कुमार सानू सेन के साथ लोहे की रॉड एवं हाथ मुक्का से मारपीट करते हुए गंभीर चोट पहुंचाकर उसके पास रखी ऋण वसूली की राशि ₹228500 एवं एक कंपनी की पावती प्रिंट मशीन तथा मोबाइल को लूटकर भाग निकले। घटना मे गंभीर रूप से घायल हो गया जिसे हॉस्पिटल मे भर्ती किया गया था । घटना की रिपोर्ट 8 जुलाई को सक्ती थाने मे की गई जिसके बाद से आरोपियों की पतासजी मे जुटी पुलिस ने लूट की वारदात मे संलिप्त केरीबंधा के ही 3 लोगों को गिरफ्तार किया है इस मामले का एक आरोपी अभी भी फरार है जिसकी तलाश की जा रही है। लूट की रकम 18420 रुपए एवं लूट की रकम से खरीदा हुआ करीब ₹7500 का एक मोबाइल बरामद किया तथा लूट की घटना में प्रयुक्त एक लोहे का पाइप, तथा एलएनटी कंपनी की बायोमेट्रिक मशीन, मोबाइल एवं एक बैग भी बरामद किया। आरोपियों को जेल दाखिल कर दिया गया है। 

पत्नी हत्या के आरोपी पति को आजीवन कारावास की सजा


रामनारायण गौतम

जांजगीर सक्ती :- न्यायालय द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश वंदना दीपक देवांगन सक्ती के न्यायालय में अपनी पत्नी की हत्या करने के अपराध में आरोपी ललित निषाद उम्र-38 वर्ष, पिता घांसीराम निषाद निवासी शशिपुर वार्ड क्र0-02 चन्द्रपुर, थाना चन्द्रपुर जिला-जांजगीर-चांपा को भारतीय दण्ड संहिता की धारा 302 में आजीवन कारावास एवं 500 रू0 के अर्थदंड से दंडित किया गया। विद्वान न्यायाधीश महोदया ने अपने आदेश में अर्थदंड की राशि अदा नही करने पर अतिरिक्त दो माह की कारावास की सजा का आदेश दिया। अपर लोक अभियोजक उदय कुमार वर्मा ने शासन की ओर से पैरवी किया। अभियोजन से प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना स्थल आरोपी अपने मकान में घटना दिनांक 08/04/2016 को अपनी पत्नी नर्मदा बाई से लड़ाई झगड़ा कर हत्या करने के आशय के उसके उपर मिटटी तेल छिड़कर माचिस से आग लगाकर जला दिया था। आरोपी की पत्नी को ईलाज कराने हेतु रायगढ़ के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया तथा गवाहों के कथन लेखबद्ध किया गया। घटना के 7 दिवस बाद दिनांक 14 अप्रैल 2016 को ईलाज के दौरान नर्मदाबाई की मृत्यु हो गई। मृतिका के द्वारा मृत्यु पूर्व मरणासन्न कथन लेने हेतु कार्यपालन दण्डाधिकारी की नियुक्ति एस डी एम चन्द्रपुर को की गई थी जिसके द्वारा मृतिका का मृत्युकालिक कथन अंकित किया गया था जिसमें मृतिका नर्मदा बाई के द्वारा अपने मृत्यु कालिक कथन में स्पष्ट रूप से अपने पति ललित निषाद के द्वारा उसके उपर मिटटी तेल छिड़क कर माचिस से आग लगा देने का कथन किया था। चन्द्रपुर थाना के पुलिस द्वारा आरोपी को गिरफ्तार कर विवेचना उपरांत न्यायालय न्यायिक मजिस्टेªट प्रथम श्रेणी डभरा के न्यायालय में चालान प्रस्तुत किया गया जहां से प्रकरण उपार्पण उपरांत न्यायालय वंदना दीपक देवांगन द्वितीय अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सक्ती के न्यायालय में प्रकरण का विचारण किया गया। प्रकरण के विचारण के दौरान अभियोजन पक्ष के द्वारा मामले में साक्ष्य प्रस्तुत किये गये जिसमें मामले का गवाहों का परीक्षण उपरांत मृतिका नर्मदा बाई के मृत्युकालिक कथन के अनुसार आरोपी ललित निषाद के द्वारा ही अपने पत्नि नर्मदा बाई की आशयपूर्वक हत्या करना मानते हुए आरोपी ललित निषाद को दोषी करार दिया है। अभियोजन द्वारा मामले में अपने गवाहों के कथन कराकर प्रकरण में अभियोजन के तथ्यों को प्रमाणित किया है तथा अभियोजन की ओर से पैरवी कर अपर लोक अभियोजक सक्ती उदय कुमार वर्मा ने न्यायालय से निवेदन किया था कि अभियुक्त द्वारा कारित अपराध से समाज पर विवाह जैसे संस्कारांे पर दुष्प्रभाव पड़ता है। अभियुक्त द्वारा अपनी पत्नी नर्मदा बाई को विभत्स तरीके से जिंदा जलाकर कर उसकी हत्या की गई है जो गंभीर प्रकृति का अपराध है उसे कड़ी से कड़ी सजा से दण्डादिष्ट करने का निवेदन किया गया था। जिस पर विद्वान न्यायाधीश महोदया श्रीमती वंदना दीपक देवांगन ने प्रकरण में आये तथ्यों एवं साक्षीयों के कथन उपरांत आरोपी ललित निषाद को आजीवन कारावास की सजा से दंडित किया है। उक्त प्रकरण में उदय कुमार वर्मा, अपर लोक अभियोजक सक्ती ने शासन की ओर से पैरवी की।