ब्रेकिंग न्यूज़

छत्तीसगढ़ : सहकारी समितियों के पुनर्गठन के आदेश पर हाईकोर्ट ने लगाई ब्रेक

सहकारी समितियों के पुनर्गठन के आदेश पर हाईकोर्ट ने लगाई ब्रेक छत्तीसगढ़ बिलासपुर मेरा गांव मेरा शहर बिलासपुर। प्रदेश सरकार की वह आदेश जिसके तहत प्रदेश की 1333 समितियों को भंग कर का पुनर्गठन करने जा रही थी। राज्य सरकार के इस फैसले को करारा झटका देते हुए हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है। कोर्ट ने दायर याचिका की सुनवाई करते हुए प्रदेश सरकार के आदेश को स्थगित कर दिया है। बतादें कि प्रदेश सरकार ने 27 जुलाई और 30 जुलाई को आदेश जारी कर कहा था कि सहकारी समितियों का पुनर्गठन किया जाए। इस आदेश के विरोध में रिट दायर की गई थी। बिलासपुर हाईकोर्ट की डबल बैंच चीफ़ जस्टिस पी रामचंद्र और जस्टिस पी पी साहू की बेंच ने शासन के आदेश के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए यह आदेश जारी किया। याचिकाकर्ताओं की ओर से अधिवक्ता प्रफुल्ल भारत ने दलील रखी कि पुनर्गठन के नाम पर निर्वाचित प्रतिनिधियों को नही हटाया जा सकता, और उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के इस निर्णय के पीछे राजनैतिक कारण है। बिलासपुर हाईकोर्ट ने एक महिने के अंदर प्रदेश सरकार से जवाब मांगा है, जिसके बाद याचिका पर बहस की जाएगी।

आकाशीय बिजली गिरने से पिता-पुत्र की मौत हो गई। घटना सीपत थाना क्षेत्र के ग्राम खैरा की

बिलासपुर- मंगलवार दोपहर बाद अचानक मौसम ने ली करवट, आसमान में काले बादल छा गए और तेज बिजली कड़कने के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से पिता-पुत्र की मौत हो गई। घटना सीपत थाना क्षेत्र के ग्राम खैरा की है। सीपत थाना क्षेत्र के खैरा लगरा निवासी 60 वर्षीय गोरेलाल केवट अपने बड़े बेटे 40 वर्षीय रामफल केवट के साथ बारिश के दौरान मेड़ बांधने खेत पर गए हुए थे। इसी दौरान आसमान पर बिजली कड़की और पिता-पुत्र दोनों आकाशीय बिजली की चपेट में आ गए, जिससे मौके पर ही दोनों की मौत हो गई । सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर कार्यवाही शुरू कर दी है।

अमित जोगी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया जेल

A REPORT BY : अजीत मिश्रा : सुबह से ही जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के प्रदेष अध्यक्ष अमित जोगी को गिरफतार करने के लिये मरवाही सदन बिलासपुर में काफी संख्या में पुलिस बल पहुंचा और अमित जोगी को गिरफतार करके गौरेला थाना लाया गया। अमित जोगी के खिलाफ गौरेला थाना में भाजपा नेत्री समीरा पैकरा ने 3 फरवरी को धारा 420, 465, 467, 468 और 471 के तहत मामला दर्ज कराया था जिसके दस्तावेजों के सत्यापन और प्रतिपरीक्षण के बाद पुलिस अमित जोगी को गिरफतार करने पहुंची थी इसके पहले कल 2 सितम्बर को समीरा पैकरा अपने समर्थकों के साथ बिलासपुर पहुंचकर अमित जोगी को गिरफतार करने की मांग को लेकर प्रदर्षन किया था जिसके कुछ घंटे बाद ही बिलासपुर और गौरेला की पुलिस की संयुक्त टीम ने आज अमित जोगी को गिरफतार किया और डाॅक्टरी मुलाहिजा के बाद गौरेला के न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी के समक्ष पेष किया जहां वकील की बजाय अमित जोगी ने अपने जमानत आवेदन की पैरवी खुद ही किया वहीं सरकारी वकीलों के आपत्ति को सुनते हुये कोर्ट ने अमित जोगी के आवेदन को खारिज करते हुये अमित जोगी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है वहीं जमानत आवेदन खारिज होने के बाद अमित जोगी के वकील ने एडीजे कोर्ट गौरेला में अर्जेंट हियरिंग का आवेदन पेष किया साथ ही अमित जोगी के द्वारा खुद ही जमानत आवेदन पर पैरवी करने का आवेदन किया जिसको कि कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है और अब कल 4 सितम्बरको अमित जोगी के जमानत अर्जी पर सुनवाई होगी जिसके लिये अमित जोगी को प्रोटेक्षन वारंट जारी हो गया है और कल कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच अमित जोगी को कोर्ट लाया जाएगा।।

छतीसगढ़ - जांजगीर चापा - नहाने गया 19 वर्षीय युवक नहर में बहा,

पंकज दुबे -

घटना उस वक़्त घटी जब ग्राम नंदेली के 19 वर्षीय युवक चूड़ामणि पिता दिनेश भानु नहाने के लिए सुबह करीब 9 बजे घर से निकला एवं नहाते वक्त नहर की धाराओ में बह गया। कुछ घंटों में युवक के वापस न आने पर घर वालो ने खोजबीन चालू की तो युवक का कुछ पता नही चला, लगातार कुछ घंटों की खोजबीन करने पर शाम को करीब 5:30 बजे ग्राम नंदेली से लगे हुए कोसा नहर में एक अज्ञात युवक की लाश मिलने की सूचना मिली। सूचना पाकर घर वाले शिनाख्त करने पहुचे। अपने ही घर के युवक चूड़ामणि की लाश पाकर घरवालो में मातम छा गया एवं एक जवान युवक की मौत से ग्राम नंदेली मे शोक व्याप्त हो गया। पुलिस ने पंचनामा कर मर्ग कायम कर लिया है । रात्रि हो जाने के कारण मृतक का शरीर पोस्टमार्टम के लिए कल सुबह भेजा जाएगा।

नाबालिक लड़की ने की अज्ञात कारणो से आत्महत्या करने की कोशिश

जांजगीर चांपा नाबालिक लड़की ने की अज्ञात कारणो से आत्महत्या करने की कोशिश अपने ही घर के कमरे में आग लगाकर की आत्महत्या करने की कोशिश बुरी तरफ से झुलसी नाबालिक लड़की लड़की का नाम राजेश्वरी यादव उम्र 16 वर्ष ग्राम तुलसी की रहने वाली है लड़की डायल 112 की मदद से नवागढ़ सीएचसी में भर्ती कराया गया जहां लड़की का इलाज जारी नवागढ़ पुलिस जांच में जुटी

बड़ी खबर : छतीसगढ़ अमित जोगी गिरफ्तार

पूर्व सीएम अजीत जोगी के पुत्र अमित जोगी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, जोगी को गिरफ्तार करने मरवाही सदन में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात था, गिरफ्तार अमित जोगी की गौरेला कोर्ट में पेशी होगी। अमित पर नागरिकता को लेकर गलत जानकारी देने का आरोप है। अमित जोगी के खिलाफ अलग-अलग जन्म प्रमाण पत्र और दस्तावेज देने के मामले में धोखाधड़ी का केस दर्ज हुआ था। इस मामले में अमित जोगी की गिरफ्तारी की मांग करते हुए बिलासपुर के एसपी दफ्तर का घेराव भी किया गया था। अमित जोगी के खिलाफ गौरेला थाने मे मामला दर्ज है, जिसे लेकर सोमवार को समीरा पैकरा सहित मरवाही के आदिवासियों ने अमित जोगी की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एसपी ऑफिस का घेराव किया था। थाने में हुई शिकायत के मुताबिक जोगी ने शपथपत्र में अपना जन्म स्थान की गलत जानकारी दी थी. इस पर गौरेला थाने में अमित जोगी के खिलाफ केस दर्ज किया गया था। 3 फरवरी को मरवाही के पूर्व विधायक अमित जोगी के खिलाफ गौरेला थाने में धारा 420 का प्रकरण दर्ज किया गया था। मरवाही विधानसभा क्षेत्र से भाजपा की प्रत्याशी रहीं समीरा पैकरा ने दर्ज कराया था। चुनाव हारने के बाद समीरा पैकरा ने हाईकोर्ट में याचिका दायर करके अमित जोगी की जाति एवं जन्म तिथि को चुनौती भी दी थी।

मरवाही से सैकड़ों की संख्या पर पहुंचे आदिवासी ,अमित जोगी के खिलाफ,पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने धरने पर बैठ

अजीत मिश्रा :

मरवाही से सैकड़ों की संख्या पर पहुंचे आदिवासी। पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने धरने पर बैठ गए आदिवासी महिला सुश्री समीरा पैकरा ने बताया कि 7 माह पूर्व जिले के गोरेला थाना में अमित जोगी के खिलाफ 420 का मामला दर्ज कराया गया था जिस पर आज दिनांक तक गोरेला पुलिस के द्वारा किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं की गई साथ ही आदिवासी समाज के अध्यक्ष ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की जाति का मामला अभी प्रकाश में आया है जिसमें अजीत जोगी आदिवासी नहीं पाया गया है जिसका विरोध कंवर समाज ने की है और आदिवासियों की तरफ से पुलिस अधीक्षक कार्यालय में यही मांग की गई है कि अमित जोगी वल्द अजीत जोगी की गिरफ्तारी जल्द से जल्द की जाए अन्यथा आदिवासियों के द्वारा आगे उग्र आंदोलन की तैयारी होगी। समीरा पैकरा ने बताया कि पुलिस अधीक्षक के द्वारा आश्वासन के तौर पर जांच कर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है। और हम आदिवासियों का की मांग है कि उनकी गिरफ्तारी जल्द से जल्द की जाए जिसको लेकर धरने पर बैठे रहे।

मुंगेली बिलासपुर मुख्य मार्ग में बीती रात दो बाइकों की भिड़ंत,,,,2 लोगो की मौके पर ही मौत,,,1 की हालत गम्भीर,,जरहागाव थाना क्षेत्र की बरेला गांव के पास की घटना,,एक कि नही हुई शिनाख्त,,,अलवर ढाबे के पास की घटना

मुंगेली बिलासपुर मुख्य मार्ग में बीती रात दो बाइकों की भिड़ंत,,,,2 लोगो की मौके पर ही मौत,,,1 की हालत गम्भीर,,जरहागाव थाना क्षेत्र की बरेला गांव के पास की घटना,,, एक कि नही हुई शिनाख्त,,,अलवर ढाबे के पास की घटना

राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 पर सुकुरपाल के पास तीन वाहनों में जबरदस्त भिड़ंत

(बीबीएन24) शैलेश गुप्ता । छत्तीसगढ़ राज्य के कोंडागांव ज़िला में राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 पर सुकुरपाल के पास तीन ट्रकों में जबरदस्त भिड़ंत जिसमे दो वाहन तेज़ बारिश के चलते घटना हुआ है। वही आज सुबह विश्रामपुर से आते हुए केरावाही के नज़दीक एक यात्री बस अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई। यात्रियों को मामूली चोट आई है। कोंडागांव ज़िले में तेज़ बारिश के चलते यह सड़क दुर्घटना घटित हुई है

बिलासपुर मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल का निर्माण अच्छी गुणवत्ता के साथ तेजी से पूर्ण करने के निर्देश

रायपुर. 31 अगस्त 2019. स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने आज बिलासपुर के कोनी में निर्माणाधीन मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने अच्छी गुणवत्ता सुनिश्चित करते हुए अस्पताल का निर्माण तेजी से पूर्ण करने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य मंत्री को सी.पी.डब्लू.डी. के इंजीनियरों ने बताया कि अस्पताल का काम अगस्त 2018 से शुरू किया गया है जिसे सितम्बर 2020 तक पूर्ण कर लिया जाएगा। वर्तमान में प्लिंथ-लेवल और बेसमेंट की छत का काम पूरा हो चुका है। ग्राउंड फ्लोर के छत की स्लैब के लिए शटरिंग का काम प्रगति पर है। श्री सिंहदेव ने अधिकारियों को ड्रेनेज सिस्टम और गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि बिलासपुर मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल का निर्माण तीन एकड़ में किया जा रहा है। इसमें बेसमेंट और ग्राउंड फ्लोर के अलावा 10 मंजिलें होंगी। कुल 240 बिस्तरों वाले इस मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल की आई.सी.यू. में 60 और सामान्य वार्डों में 180 बिस्तर होंगे। कॉर्डियोलॉजी, न्यूरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी तथा कॉर्डियोथोरिक सर्जरी के विशेषज्ञ यहां लोगों को उच्च स्तरीय चिकित्सा सुविधा प्रदान करेंगे। इसी परिसर में ही 40 एकड़ में छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान (सिम्स) का नया भवन भी बनाया जाएगा। प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पी.एम.एस.एस.वाय.) के अंतर्गत बिलासपुर में मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल 109 करोड़ रूपए की लागत से बनाया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इसके लिए राशि प्राथमिकता से उपलब्ध कराई जाएगी। अस्पताल के कुल लागत का 60 फीसदी खर्च केन्द्र सरकार और 40 फीसदी छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल के बाद जिला अस्पाल और मातृ-शिशु अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने यहां मरीजों के प्रतीक्षालय में अतिरिक्त पंखे लगाने के निर्देश दिए। श्री सिंहदेव ने इस दौरान वहां मौजूद मरीजों से समस्याएं पूछीं। कुछ मरीजों ने बताया कि उन्हें कुछ दवाएं बाहर से लेनी पड़ रही हैं। इस पर स्वास्थ्य मंत्री ने मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी तथा सिविल सर्जन को जल्द से जल्द छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कार्पोरेशन के माध्यम से पर्याप्त दवाईयों का इंतजाम करने के निर्देश दिए। उन्होंने मेडिकल अपशिष्टों का निपटारा निर्धारित मानकों और दिशा-निर्देशों के अनुसार करने कहा। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री के साथ बिलासपुर के विधायक शैलेष पांडेय, कलेक्टर डॉ. संजय अलंग और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रीतेश अग्रवाल भी मौजूद थे।

बिलासपुर मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल का निर्माण अच्छी गुणवत्ता के साथ तेजी से पूर्ण करने के निर्देश

रायपुर. 31 अगस्त 2019. स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने आज बिलासपुर के कोनी में निर्माणाधीन मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने अच्छी गुणवत्ता सुनिश्चित करते हुए अस्पताल का निर्माण तेजी से पूर्ण करने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य मंत्री को सी.पी.डब्लू.डी. के इंजीनियरों ने बताया कि अस्पताल का काम अगस्त 2018 से शुरू किया गया है जिसे सितम्बर 2020 तक पूर्ण कर लिया जाएगा। वर्तमान में प्लिंथ-लेवल और बेसमेंट की छत का काम पूरा हो चुका है। ग्राउंड फ्लोर के छत की स्लैब के लिए शटरिंग का काम प्रगति पर है। श्री सिंहदेव ने अधिकारियों को ड्रेनेज सिस्टम और गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उल्लेखनीय है कि बिलासपुर मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल का निर्माण तीन एकड़ में किया जा रहा है। इसमें बेसमेंट और ग्राउंड फ्लोर के अलावा 10 मंजिलें होंगी। कुल 240 बिस्तरों वाले इस मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल की आई.सी.यू. में 60 और सामान्य वार्डों में 180 बिस्तर होंगे। कॉर्डियोलॉजी, न्यूरोलॉजी, नेफ्रोलॉजी, यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी तथा कॉर्डियोथोरिक सर्जरी के विशेषज्ञ यहां लोगों को उच्च स्तरीय चिकित्सा सुविधा प्रदान करेंगे। इसी परिसर में ही 40 एकड़ में छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान (सिम्स) का नया भवन भी बनाया जाएगा। प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना (पी.एम.एस.एस.वाय.) के अंतर्गत बिलासपुर में मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल 109 करोड़ रूपए की लागत से बनाया जा रहा है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि इसके लिए राशि प्राथमिकता से उपलब्ध कराई जाएगी। अस्पताल के कुल लागत का 60 फीसदी खर्च केन्द्र सरकार और 40 फीसदी छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव ने मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल के बाद जिला अस्पाल और मातृ-शिशु अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने यहां मरीजों के प्रतीक्षालय में अतिरिक्त पंखे लगाने के निर्देश दिए। श्री सिंहदेव ने इस दौरान वहां मौजूद मरीजों से समस्याएं पूछीं। कुछ मरीजों ने बताया कि उन्हें कुछ दवाएं बाहर से लेनी पड़ रही हैं। इस पर स्वास्थ्य मंत्री ने मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी तथा सिविल सर्जन को जल्द से जल्द छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कार्पोरेशन के माध्यम से पर्याप्त दवाईयों का इंतजाम करने के निर्देश दिए। उन्होंने मेडिकल अपशिष्टों का निपटारा निर्धारित मानकों और दिशा-निर्देशों के अनुसार करने कहा। निरीक्षण के दौरान स्वास्थ्य मंत्री के साथ बिलासपुर के विधायक शैलेष पांडेय, कलेक्टर डॉ. संजय अलंग और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रीतेश अग्रवाल भी मौजूद थे।

बिलासपुर : रात को ऑटो की बुकिंग पर निकला था युवक , सुबह मिली लाश...

A REPORT BY : अजीत मिश्रा

बिलासपुर। कोनी मुख्य मार्ग पर शुक्रवार की तडके सुबह मिली रक्तरंजिश लाश की शिनाख्त  पुलिस ने कर लिया।। मृतक ओला चालक का नाम अनिल मौर्य बताया जा रहा है पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार , जो गुरूवार की रात बुकिंग पर निकला था, लेकिन वापस नहीं लौटा। सुबह उसकी लाश सडक किनारे मिली।  कोनी मुख्य मार्ग पर मिली लाश ओला ड्राइवर अनिल मौर्य पिता बदलू मौर्य निवासी तोरवा धान मंडी के समीप की है। अनिल ओला गाडी क्रमांक  सीजी 10 एएल 5173 का ड्राइवर था। उसकी बीमार पत्नी श्रीमती गयाश्री का अपोलो हास्पिटल में उपचार चल रहा है। अनिल बीते गुरूवार रात लगभग 11 बजे बुकिंग आने पर अपोलो हास्पिटल से सरकंडा के लिए निकला था, लेकिन वापस नहीं लौटा।  सुबह कोनी में सडक किनारे उसकी रक्तरंजिश लाश मिली है। अनिल के शरीर पर 25 से 30 जगह पर किसी धार धार हथियार से वार  के निशान हैं । जिससे उसकी हत्या की आशंका है। पुलिस ने पंचनामा कार्रवाई करते हुए मामले में जांच शुरू कर दिया है।

दंतेवाड़ा : सात लाख के पांच इनामी नक्सलियों ने किया सरेंडर

. Danteshwar kumar, chintu दंतेवाड़ा - 5 इनामी माओवादीयो ने एसपी अभिषेक पल्लव के समक्ष किया आत्मसमर्पण।समर्पित माओवादियों में एक महिला माओवादी ने भी किया समर्पण। कुल 7 लाख का इनाम है सभी पे। सभी माओवादि अलग अलग वारदातों में थे शामिल। आत्मसमर्पण किये नक्सलियों में मिलिट्री प्लाटून कमांडर, मेडिकल टीम प्रभारी, सीएनएम अध्यक्ष व जनमिलिशिया कमांडर शामिल है । विधानसभा चुनाव के दौरान पत्रकार की हत्या,आगजनी,लूटपाट जैसे बड़े बड़े घटनाओं में थे शामिल। पूछताछ में कई अहम जानकारी मिलने की संभावना ।

आज आएंगे सीएम, विधायक ने लिया तैयारियों का जायजा

महासमुंद। पिछड़ा वर्ग को 27 प्रतिशत आरक्षण की सौगात देने पर आयोजित आभार रैली व सम्मान समारोह में आज 28 अगस्त को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल महासमुंद आएंगे। मंगलवार को हाईस्कूल मैदान में आयोजित कार्यक्रम की तैयारियों का विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने जायजा लिया। इस दौरान पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए। बुधवार 28 अगस्त को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल महासमुंद के हाईस्कूल मैदान में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। कार्यक्रम को लेकर पिछले कुछ दिनों से जोरशोर से तैयारी चल रही है। मंगलवार को विधायक श्री चंद्राकर ने कार्यक्रमस्थल पहुंचकर तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से तैयारियों के संबंध में जानकारी ली। इस अवसर पर प्रमुख रूप से अरूण चंद्राकर, भागीरथी चंद्राकर, राजेंद्र चंद्राकर, संजय शर्मा, प्रकाश राव साकरकर, नारायण नामदेव, वीरेंद्र चंद्राकर, नीतेंद्र बेनर्जी, जितेंद्र साहू आदि मौजूद थे।