देश

चुनावी सभा में मनोहर पर्रिकर ने किया नोटबंदी का जिक्र,कहा- इसने कुछ नेताओं को भिखारी बना दिया

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने शनिवार (17 दिसंबर) को गोवा में एक रैली के दौरान कहा कि नोटबंदी के बाद कुछ नेता भिखारी बन गए हैं।

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने शनिवार (17 दिसंबर) को गोवा में एक रैली के दौरान कहा कि नोटबंदी के बाद कुछ नेता भिखारी बन गए हैं। उन्होंने कहा, ‘कुछ लोगों ने गोवा को लूटना ही अपना पेशा बना रखा था। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई नोटबंदी के बाद कुछ राजनेता भिखारी हो गए।’ पर्रिकर ने यह बात भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की विजय संकल्प रैली के दौरान कही। रैली पोंडा विधानसभा में हो रही थी। मनोहर पर्रिकर ने दावा किया कि कुछ राजनेताओं को तो दिल का दौरा भी पड़ गया था लेकिन बाद में बताना पड़ा कि दौरा नोटबंदी की वजह से नहीं आया था। पर्रिकर ने कहा कि ऐसे राजनेता फोन से मैसेज कर-करके अपने दोस्तों को कहते हैं कि नोटबंदी की वजह से उन्हें अटैक नहीं आया था।
पर्रिकर ने आगे गोवा का भी जिक्र किया। उन्होंने बताया कि एक पुल था जिसकी नींव उनसे पहले की सरकार तीन बार रख चुकी थी लेकिन उसका निर्माण शुरू ही नहीं हुआ था। पुल का जिक्र करते हुए पर्रिकर ने कहा, ‘मैंने आते ही उस पुल का काम किया। छह महीने में वह पुल पूरा हो गया। लोगों को यकीन नहीं हुआ। लोगों ने मुझसे आकर कहा कि वह काफी खुश हैं कि इतनी जल्दी पुल का काम हो गया। लेकिन उन लोगों ने मन में एक सवाल भी था, उन्होंने मुझे पूछा कि हमने सुना है कि पुल का काम किसी नरबलि की वजह से रुका हुआ था। इसपर मैंने उन्हें बताया कि हमने लोगों को समझाया था कि ऐसी बातों पर विश्वास ना करें और बलि देनी ही है तो किसी मुर्गे की दे दें।’
गौरतलब है कि अगले साल गोवा में विधानसभा चुनाव होने हैं। इस वजह से पर्रिकर ज्यादा वक्त गोवा में बिता रहे हैं। 4 दिसंबर को भारतीय नौसेना दिवस होता है। लेकिन मनोहर पर्रिकर उस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए भी नहीं पहुंचे थे। जबकि थलसेना प्रमुख दलबीर सिंह सुहाग, नेवी चीफ सुनील लांबा, वायुसेना प्रमुख अरुप राहा ने अमर जवान ज्योति पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी थी। इससे पहले एयरफोर्स दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में भी हिस्‍सा नहीं ले पाए थे।

जल रहा वेनेजुएला, दर्जनों दुकानें लुटीं, कई मौतें, भारत की तरह वहां भी हुई है नोटबंदी

भारत के बाद वेनेजुएला में भी नोटबंदी की गई। लेकिन वहां के लोग भारत के लोगों की तरह शांत स्वभाव के नहीं निकले जिसकी वजह से वहां हिंसा हो रही है।

भारत के बाद वेनेजुएला में भी नोटबंदी की गई। लेकिन वहां के लोग भारत के लोगों की तरह शांत स्वभाव के नहीं निकले जिसकी वजह से वहां हिंसा हो रही है। कुछ खबरों के मुताबिक, उस हिंसा में अबतक दर्जनों दुकानें लूटी जा चुकी हैं और तीन लोगों की जान भी जा चुकी है। हालांकि, सरकार लोगों की जान जाने की बात पर अपनी मुहर नहीं लगा रही। वेनेजुएला में 100 बोलिवर के नोट को बंद करने का ऐलान किया गया था। लोगों को अपने पैसों को खपाने के लिए तीन दिन का वक्त दिया गया था। लेकिन जैसे-जैसे क्रिसमस और नया साल पास आ रहा है लोगों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है। लोग हंगामे और हिंसा पर उतार आए हैं।
भारत की तरह वहां का विपक्ष भी नोटबंदी के खिलाफ है। वहां के विपक्ष के नेताओं ने राष्ट्रपति निकोलस माडरू को धमकी दी है कि वह छह साल का अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएंगे जो कि 2019 में खत्म होना है। वहीं राष्ट्रपति ने हिंसा को गलत बताते हुए कहा कि नए नोट जल्द ही चलन में आ जाएंगे और लोगों को हिंसा करने की जरूरत नहीं है। वेनेजुएला के लोगों को भी ज्यादा से ज्यादा ई ट्रांजेक्शन करने को कहा जा रहा है। लेकिन वेनेजुएला के 40 प्रतिशत लोगों के पास बैंक में खाता ही नहीं है। वहां भी बैंक के बाहर लंबी लाइनें लगी हुई हैं और एटीएम में पैसा नहीं है।
वेनेजुएला की सरकरा ने कहा था कि वे लोग माफिया और कालाधन रखने वालों को कमजोर करने के लिए नोटबंदी का कदम उठा रहे हैं। वेनेजुएला इस वक्त 700 प्रतिशत मुद्रास्फिति से जूझ रहा है। इसके अलावा भारत में नोटबंदी के ऐलान के बाद ऑस्ट्रेलिया में नोटबंदी का ऐलान किया जा चुका है। ऑस्ट्रेलिया की सरकार ने अपने यहां के सबसे बड़े नोट यानी 100 डॉलर के नोट को बंद करने का फैसला ले लिया है।

दुबई वर्ल्‍ड सुपरसीरीज फाइनल: पीवी सिंधू ने कैरोलिन मारिन को दी मात, टूर्नामेंट में उम्‍मीदें जिंदा

भारत की पीवी सिंधू ने रियो ओलंपिक की गोल्‍ड मेडलिस्‍ट केरोलिन मारिन को हराकर बीडब्‍ल्‍यूएफ वर्ल्‍ड सुपरसीरीज के सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। सिंधू ने मारिन को 21-17, 21-14 से सीधे सेटों में मात दी। स्‍पेन की मारिन ने सिंधू को रियो ओलंपिक के फाइनल में हराया था। इसके चलते सिंधू को सिल्‍वर मेडल से ही संतोष करना पड़ा था। सिंधू को इस टूर्नामेंट में ग्रुप बी के अपने पहले मैच में चीन की सून यू ने हरा दिया था। इसके चलते उन पर बाहर होने का खतरा मंडराने लगा था। सिंधू ने 3 में से दो मैच जीतकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। वहीं मारिन एक भी मैच नहीं जीत पाई और बाहर हो गईं।
47 मिनट तक चले मुकाबले में सिंधू आक्रामक मूड में नजर आईं। उन्‍होंने मारिन को वापसी का कोई मौका नहीं दिया। पहले गेम में सिंधू ने ताबड़तोड़ अंक बटोरते हुए 19-14 से बढ़त बना ली थी। इसके बाद मारिन ने लगातार तीन अंक बटोरे लेकिन सिंधू ने संयम रखते हुए दो अंक लेकर गेम अपने नाम कर लिया। दूसरे गेम में मुकाबला बराबरी पर शुरू हुआ लेकिन थोड़ी ही देर में 8-5 से बढ़त ली। इसके बाद तो सिंधू ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और 15-8 से बढ़त ले ली। मारिन इस स्‍कोर लाइन के बाद हताश हो गईं। इसका फायदा उठाते हुए विश्‍व की नंबर 10 की खिलाड़ी सिंधू ने 21-13 से गेम और मैच अपने नाम कर लिया।

पीएम नरेंद्र मोदी पर बरसे राहुल गांधी- नोटबंदी के फैसले ने लोगों पर फायर बॉम्बिंग की, सबको जला डाला

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने गोवा में भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला। उन्‍होंने मनरेगा के मुद्दे पर सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि मजदूर गड्ढ़े नहीं खोदता है वह देश का निर्माण करता है। उनका यह बयान पीएम मोदी के संसद में दिए गए उस बयान के जवाब में था जिसमें मोदी ने कहा था कि कांग्रेस की सरकार ने लोगों को गड्ढ़े खोदने को मजबूर कर दिया। राहुल ने आगे कहा कि पिछले ढाई साल में एक प्रतिशत अमीरों ने देश के 60 प्रतिशत पैसे पर कब्‍जा कर लिया। संसद में हंगामे को लेकर उन्‍होंने कहा कि उन्‍हें बोलने नहीं दिया गया।
उन्‍होंने नोटबंदी पर मुद्दे पर सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पीएम ने इस फैसले से गरीबों का अपमान किया है। सारा नकद धन काला धन नहीं होता है। साथ ही सारा काला धन नकदी में नहीं होता है। ईमानदार लोग काला धन नहीं रखते। सरकार नाटक कर रही है। हमारी अर्थव्‍यवस्‍था नकदी की है। साल 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान नरेंद्र मोदी के 15 लाख प्रत्‍येक बैंक खाते में आने के वादे का जिक्र करते हुए पूछा कि क्‍या किसी आदमी को 15 लाख रुपये मिले? क्‍या एक भी व्‍यक्ति के खाते में पैसा आया? किसी को भी एक रुपया नहीं मिला। एक प्रतिशत सुपर रिच लोगों ने देश के बैंकों का आठ लाख करोड़ रुपया हड़प लिया है। जब वे लोग पैसा नहीं लौटाते तो केंद्र सरकार उसे नॉन परफॉर्मिंग एसेट कहती है। पिछले ढाई साल में पीएम मोदी ने ऐसे लोगों का 1.10 लाख करोड़ रुपयो माफ कर दिया। उन्‍होंने विजय माल्‍या का 1200 करोड़ रुपये माफ किया।
भ्रष्टाचार को लेकर कांग्रेस के रूख को साफ करते हुए राहुल बोले, ”कांग्रेस देश से भ्रष्‍टाचार मिटाना चाहती है। यदि एनडीए सरकार इसके खिलाफ कदम उठाती है तो उनकी पार्टी शत प्रतिशत सहयोग देगी।” नोटबंदी पर निशाना साधते हुए उन्‍होंने कहा, “नरेंद्र मोदी जी ने कहा एक नया स्‍कीम निकालते हैं मार्केटिंग का, ”भ्रष्‍टाचार और काले धन पर सर्जिकल स्‍ट्राइक। ये सर्जिकल स्‍ट्राइक नहीं थी ये हिंदुस्‍तान के ईमानदार लोगों पर फायरबॉम्बिंग थी। मोदीजी आठ नवंबर को खड़े होते हैं जैसे ओबामाजी खड़े होते हैं और कहा- जो जेब में पैसा है हिंदुस्‍तान के गरीब लोगों का वो अब कागज हो गए हैं। नोटबंदी का मतलब है गरीबों से पैसा खींचो, अमीरो को पैसा सींचो। मोदीजी की कैशलेस इकॉनॉमी में 5-6 प्रतिशत पैसा जादुई रूप से हर ट्रांजेक्‍शन के बाद गायब हो जाएगा। “

स्टिंग में दावा: 40 फीसदी कमिशन पर करोड़ों के पुराने नोट बदलने को तैयार नेता, पार्टी ऑफिस में ही हुई डील

स्टिंग ऑपरेशन में बसपा, सपा, कांग्रेस, जदयू और एनसीपी पार्टी के नेता कमिशन पर पुराने नोट बदलने की डील करते हुए कैमरे में कैद हुए हैं।

नोटबंदी के बाद से पार्टियों के कई नेता कमिशन पर करोड़ों रुपए के पुराने नोट बदल रहे हैं। नेताओं ने अपनी पार्टी ऑफिस को अंडरग्राउंड बैंकों में बदल लिया है। इंडिया टुडे ने यह दावा किया है। इंडिया टुडे का कहना है कि उन्होंने एक स्टिंग ऑपरेशन करके इसका पर्दाफाश किया है। न्यूज चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक इनमें बसपा, सपा, कांग्रेस, एनसीपी और जदयू के नेता शामिल हैं। यह काम दिल्ली, नोएडा और गाजियाबाद में हो रहा है।
रिपोर्ट के मुताबिक न्यूज चैनल का एक पत्रकार बिजनसमैन बनकर बसपा के गाजियाबाद जिला अध्यक्ष वीरेंद्र जाटव से उनके पार्टी ऑफिस में ही मिला। वहां पर जाटव 10 करोड़ रुपए बदलने के लिए तैयार हो गए है। उन्होंने इसके लिए 40 फीसदी कमिशन की मांग की। साथ ही जाटव ने कहा कि वे आपके पुराने नोट तुरंत बदलकर कैश दे देंगे। इसके बाद पत्रकार ने समाजवादी पार्टी की नोएडा महानगर यूनिट के एक सदस्य टिटू यादव से मुलाकात की। यादव ने भी पत्रकार से 40 फीसदी कमिशन मांगा।
कुछ नेता तो यह काम दिल्ली में ही कर रहे हैं। इनमें कांग्रेस के नेता भी शामिल हैं। कांग्रेस हेडक्वार्टर में कांग्रेस सदस्य तारिक सिद्दिकी ने पुरानों नोटों को बदलने के लिए पत्रकार का एक एनजीओ से परिचय कराने की बात कही। साथ ही उसने बताया कि और भी कई लोग हैं जो कि पुराने नोटों को नए नोटों से बदल रहे हैं। सिद्दिकी दिल्ली के अल्पसंख्यक वित्त निगम के पूर्व डायरेक्टर हैं। इनके साथ ही एनसीपी दिल्ली ब्रांच के महासचिव रवि कुमार 30 फीसदी कमिशन पर एक करोड़ के पुराने नोट बदलने को तैयार हो गए। उन्होंने कहा कि वे चेक में आपकी 70 फीसदी रकम वापस लौटा देंगे। जब उनसे पूछा गया कि चेक को किस तरह से यूज किया जाएगा। तो उन्होंने एक फर्जी पीआर कंपनी बनाने का आइडिया दिया। और कहा कि उनकी पार्टी पेपर्स पर उनकी फर्जी कंपनी को हायर कर लेगी और दिखा देगी कि आपकी कंपनी ने हमारी पार्टी के लिए पीआर वर्क किया था।
इनके साथ ही जदयू दल के दिल्ली यूनिट के वाइस प्रेसिडेंट सतीश सैनी 30 फीसदी कमिशन पर 10 करोड़ के पुराने नोट बदलने को तैयार हो गए। यह स्टिंग इंडिया टुडे न्यूज चैनल पर प्रसारित किया गया है।

कोहरे का असर: 81 ट्रेन लेट, पांच रद्द और 10 का समय बदला, दो फ्लाइट भी कैंसल

राजधानी दिल्‍ली, उत्‍तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, बिहार और राजस्‍थान में घना कोहरा देखने को मिल रहा है। इसके चलते रेल और हवाई यातायात घुटनों पर आ गया है।

उत्‍तरी भारत में कोहरे का असर मंगलवार(13 दिसंबर) को भी जारी रहा। राजधानी दिल्‍ली, उत्‍तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, बिहार और राजस्‍थान में घना कोहरा देखने को मिल रहा है। इसके चलते रेल और हवाई यातायात घुटनों पर आ गया है। दिल्‍ली से रवाना होने वाली पांच ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। उत्‍तरी रेलवे की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, 81 ट्रेन देरी से चल रही हैं, 10 ट्रेनों के समय बदलाव किया गया है। जिन ट्रेनों पर सबसे ज्‍यादा असर पड़ा हैं उनमें से अधिकतर यूपी, बिहार को जाने या आने वाली हैं। रेलवे की ओर से हजरत निजामुद्दीन अंबाला पैसेंजर, महाबोधि एक्‍सप्रेस और बिहार संपर्क क्रांति शामिल है। ट्रेनों के लेट होने या रद्द होने से यात्रियों को असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। कई यात्री घंटों से रेलवे स्‍टेशनों पर बैठें हैं। रेलवे ने अगले तीन दिन तक की ट्रेनों को रद्द किया है। कई रेलगाडि़यां तो 22 से 24 घंटे तक देरी से चल रही हैं।
हवाई यातायात की बात करें तो दो फ्लाइट कैंसल कर दी गई हैं। इसके साथ ही पांच इंटरनेशनल फ्लाइट और आठ घरेलू फ्लाइट देरी से चल रही हैं। सड़क परिवहन पर ज्‍यादा असर देखने नहीं मिला है। इससे पहले सोमवार (12 दिसंबर) को भी दिल्‍ली से रवाना होने वाली 12 गाडि़यों को कैंसल कर दिया गया था। वहीं यहां से आने/जाने वाली 82 रेलगाडि़यां देरी से पहुंची थी। साथ ही 23 गाडि़यों का समय बदला गया था।

मुंबई टेस्ट: टीम इंडिया ने इंग्लैंड को पारी और 36 रन से हराया, सीरीज 3-0 से की अपने नाम

मुंबई। वानखेड़े में खेले गए चौथे टेस्ट में भारत ने इंग्लैंड को पारी और 36 रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने 5 मैचों की सीरीज 3-0 से अपने नाम कर लिया। इंग्लैंड ने मैच में पहले बैटिंग करते हुए 400 रन बनाए थे। भारतीय टीम ने पहली पारी में 631 रन बनाए। जवाब में इंग्लैंड 195 रन ही बना सकी। भारत के लिए आर. अश्विन ने जोरदार परफॉर्मेंस किया। उन्होंने पहली और दूसरी पारी में 6-6 विकेट अपने नाम किए। बता दें कि सीरीज का राजकोट में खेला गया पहला टेस्ट मैच ड्रॉ रहा था, जबकि विशाखापट्टनम और मोहली में खेले गए दूसरे और तीसरे टेस्ट मैच में भारत ने जीत दर्ज की थी। (लाइव स्कोर के लिए यहां क्लिक करें )
एक घंटे के अंदर सिमट गई पारी
चौथे दिन की समाप्ति पर 6 विकेट खोकर 182 रन बनाए थे। उसे पारी की हार से बचने के लिए 49 रन की जरूरत थी, लेकिन उसके 4 बैट्समैन मिलकर भी नहीं बना सके। 5वें दिन एक घंटे के अंदर सभी विकेट गिर गए। ये सभी विकेट आर. अश्विन के नाम रहे। उन्होंने 5वें दिन बैरिस्टो (51), क्रिस वॉक्स (0), आदिल राशिद (2) और जेम्स एंडरसन (2) को आउट किया।
इंडियन बॉलर्स के आगे बेबेस अंग्रेज
भारत ने अपनी पहली पारी में 631 रन बनाए थे। उसे पहली पारी के आधार पर 231 रनों की बढ़त मिली थी। रविवार को अपनी दूसरी पारी खेलने उतरी इंग्लैंड की टीम को पहला झटका पहले ओवर की दूसरी गेंद पर कीटन केंट जेनिंग्स को भेजकर दिया। जेनिंग्स अपना खाता भी नहीं खोल पाए थे, जब उन्हें भुवनेश्वर कुमार ने पगबाधा आउट किया।
कुक और रूट के बीच 42 रन की पार्टनरशिप
इसके बाद कप्तान एलिस्टर कुक (18) के साथ जोए रूट (77) ने दूसरे विकेट के लिए 42 रनों की साझेदारी की लेकिन रवींद्र जड़ेजा ने इस साझेदारी को तोड़कर इंग्लैंड को एक और झटका दिया। कुक का विकेट 43 के कुल योग पर गिरा। कुक के आउट होने के बाद रूट का साथ देने मोइन अली को जड़ेजा ने क्रीज पर टिकने का मौका ही नहीं दिया और मुरली विजय के हाथों कैच आउट करा पवेलियन भेज दिया। मोइन खाता भी नहीं खोल सके।
जो रूट ही टिक सके
रूट ने जॉनी बैरिस्टो (50) के साथ मंझी हुई साझेदारी के दम पर इंग्लैंड की बिखरती बल्लेबाजी को संभालते हुए टीम का स्कोर 141 तक पहुंचाया ही था कि इसी स्कोर पर जयंत यादव ने उन्हें पगबाधा आउट कर मेहमान टीम को कमजोर कर दिया और भारतीय टीम को जीत की ओर ले जाने में अहम भूमिका निभाई। जोए और रूट के बीच चौथे विकेट के लिए 92 रनों की साझेदारी हुई। रूट ने अपनी पारी में खेली गईं 112 गेंदों में 11 चौके लगाए।
बेन स्टोक्स भी हुए सस्ते में आउट
उनके बाद टीम बेयर्सट्रो का साथ देने आए बेन स्टोक्स (18) को भी अश्विन ने ज्यादार देर पिच पर टिकने नहीं दिया और 180 के कुल योग पर मुरली विजय के हाथों कैच आउट करा इंग्लैंड की टीम का 5वा विकेट गिराया। इसके बाद आए जैक बॉल भी कुछ खास कमाल नहीं कर पाए और इंग्लैंड के स्कोर में दो रन जोड़कर अश्विन की गेंद पर पार्थिव पटेल ते हाथों कैच आउट हो पवेलियन लौट गए।

चक्रवात ‘वरदा’ Live: तमिलनाडु में तूफान के कारण दो की मौत, रात आठ बजे तक सभी हवाई सेवाएं बंद

Cyclone Vardah Live: भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार वरदा की तीव्रता में थोड़ी कमी आई है लेकिन अभी भी ये 'गंभीर' श्रेणी में रखा गया है। मौसम विभाग ने पहले इसे 'बहुत गंभीर' श्रेणी में रखा था।

चक्रवात ‘वरदा’ की वजह से आए तूफान के कारण तमिलनाडु में दो लोगों की मौत हो गई है। आंध्र प्रदेश के कुछ इलाकों में कई पेड़ उखड़ गए हैं। दोनों राज्यों के कई इलाकों में तेज हवा और बारिश हो रही है। बारिश के कारण चेन्नई के कई इलाकों में बारिश के कारण पानी भर गया है। तूफान के कारण पूरे चेन्नई में बिजली भी गुल है। चेन्नई महानगर पालिका ने नागरिकों को पेड़ों के नीचे कार न पार्क करने की हिदायत दी है। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार वरदा की तीव्रता में थोड़ी कमी आई है लेकिन अभी भी ये ‘गंभीर’ श्रेणी में रखा गया है। मौसम विभाग ने पहले इसे ‘बहुत गंभीर’ श्रेणी में रखा था। ‘बहुत गंभीर’ चक्रवातीय तूफान के दौरान हवा की रफ्तार 12-130 किमी प्रति घंटा तक होती है। ‘गंभीर’ चक्रवातीय तूफान की रफ्तार 80-110 किमी प्रति घंटा होती है।
वरदा तूफान के चलते तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश को हाई अलर्ट पर रखा गया है। चक्रवात की वजह से आम लोगों को घरों के अंदर रहने की सलाह दी गई है। तमिलनाडु के चार जिलों के स्कूल-कॉलेजों को सोमवार को बंद रखा गया है। ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन ने आम लोगों की मदद के लिए फोन हेल्प लाइन और व्हाट्सऐप हेल्प लाइन नंबर जारी किए हैं। कॉर्पोरेशन ने आम लोगों के लिए  ईमेल हेल्प लाइन भी जारी की है।
हेल्पलाइन नंबर- तमिलनाडु : 044-28593990, आंध्र प्रदेश : 0866-2488000
ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन का चौबीसों घंटे जारी रहने वाले कंट्रोल रूम नंबर-  044-25619206 / 25619511 / 25384965 / 25383694 / 25367823 / 25387570

व्हाट्सऐप हेल्पलाइन नंबर-  9445477207, 9445477203, 9445477206, 9445477201, 9445477205
शिकायत करने के लिए ईमेल-
gccdm1@chennaicorporation.gov.in
gccdm2@chennaicorporation.gov.in
gccdm3@chennaicorporation.gov.in
gccdm4@chennaicorporation.gov.in
gccdm5@chennaicorporation.gov.in

जानिए दो साल में विराट कोहली ने कैसे खुद को बनाया जीरो से हीरो और अंग्रेजों से लिया बदला

विराट कोहली ने इस साल टेस्‍ट क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगाए हैं। उनका प्रदर्शन इतना गजब का रहा है कि टेस्‍ट क्रिकेट में भी उनका औसत 50 के पार चला गया है।

विराट कोहली वनडे और टी20 क्रिकेट में पिछले दो-तीन से भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्‍य स्‍तंभ बने हुए हैं। लेकिन टेस्‍ट क्रिकेट में वे उस तरह से झंडे नहीं गाड़ पाए थे जिस तरह छोटे फॉर्मेट में उन्‍हें कामयाबी मिली थी। दो साल पहले इंग्‍लैंड दौरे पर तो विराट कोहली बुरी तरह नाकाम रहे थे। पांच टेस्‍ट की सीरीज में कोहली एक भी अर्धशतक नहीं लगा पाए। दो बार तो कोहली खाता भी नहीं खोल पाए थे। उस सीरीज में कोहली का औसत 13.40 का था और जेम्‍स एंडरसन ने चार बार उन्‍हें आउट किया था। अंग्रेज गेंदबाजों ने ऑफ स्‍टंप से बाहर की लाइन पर कोहली को आउट किया। कोहली की नाकामयाबी भारत को भी भारी पड़ी थी और उसे 3-1 से हार झेलनी पड़ी। लेकिन साल 2016 यानि दो साल बाद कहानी पूरी तरह से बदली हुई। इंग्‍लैंड के खिलाफ वर्तमान सीरीज में भारतीय कप्‍तान ने अभी तक 128 की जोरदार औसत से रन बनाए हैं। इसमें एक दोहरा शतक, एक शतक और दो अर्धशतक शामिल हैं। उनका प्रदर्शन भारतीय टीम की कहानी भी सुनाता है। पांच टेस्‍ट की सीरीज में टीम इंडिया 3-0 से आगे है। हो सकता है चेन्‍नई में यह आंकड़ा 4-0 हो जाए।
विराट कोहली ने इस साल टेस्‍ट क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगाए हैं। उनका प्रदर्शन इतना गजब का रहा है कि टेस्‍ट क्रिकेट में भी उनका औसत 50 के पार चला गया है। ऐसा पहली बार है जब किसी खिलाड़ी का क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में औसत 50 से ज्‍यादा का है। कोहली ने वनडे में 52.93, टी20 में 57.13 और टेस्‍ट में 50.53 की औसत से रन बनाए हैं। टेस्‍ट क्रिकेटर के रूप में कोहली में बदलाव की शुरुआत कप्‍तान बनने के बाद हुई। साल 2014 में जब ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर उन्‍हें टीम इंडिया की कमान दी गई थी तो पहले ही टेस्‍ट में उन्‍होंने दोनों पारियों में शतक लगाया था। इसके बाद से उन्‍होंने पलटकर नहीं देखा। साल 2016 में तो उनका खेल अलग ही लेवल पर पहुंच गया। इस साल उन्‍होंने सभी तरह के मैचों में कुल मिलाकर 3000 से ज्‍यादा रन बनाए हैं। उनके प्रदर्शन और मिसालभरी कप्‍तानी के बूते सफेद जर्सी के फॉर्मेट में फिर से नंबर वन बन गया।
इंग्‍लैंड दौरे पर जब कोहली बुरी तरह से फ्लॉप रहे थे तो भारत आने के बाद उन्‍होंने सचिन तेंदुलकर की मदद ली। कोहली ने इस बारे में बताया, ”मैं वापस आया और 10 दिन बाद मुंबई गया। मैंने उनसे बात की। उन्‍होंने कहा कि मेरा खेल देखा है। तकनीकी स्‍तर पर उन्‍होंने मेरी मदद की। मैं कभी आगे जाकर नहीं खेलता था लेकिन उन्‍होंने कहा कि तेज गेंदबाज को आगे जाकर खेलो जैसे तुम स्पिनर को डिफेंड करते हो।” कोहली के खेल को देखकर लगता है कि उन्‍होंने सचिन के टिप्‍स को आत्‍मसात कर लिया। रविवार (11 दिसंबर) को जब जेम्‍स एंडरसन ने कहा कि विराट को भारतीय पिचों के कारण मदद मिल रही है। इंग्लैंड में उनके खेल को लेकर शंका बरकरार है। अगले साल इंग्‍लैंड में होने वाली चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान कोहली के पास एंडरसन की बात को गलत साबित करने का मौका होगा। भारत इस टूर्नामेंट में डिफेंडिंग चैंपियन के रूप में उतरेगा।

सरकारी कार्यक्रम के बाद कलेक्‍टर ने खुद उठाए खाने के झूठे पैकेट और की सफाई

 


मध्य प्रदेश में एक कार्यक्रम के दौरान कलेक्‍टर ने खाने के झूठे पैकेट उठाए। मामला बड़वानी जिले का है यहां पर किसान सम्मेलन का आयोजन हुआ था

मध्य प्रदेश में एक कार्यक्रम के दौरान कलेक्‍टर ने खाने के झूठे पैकेट उठाए। मामला बड़वानी जिले का है यहां पर किसान सम्मेलन का आयोजन हुआ था। इसमें कलेक्‍टर के साथ ही सांसद और अन्‍य सरकारी अमला भी शामिल हुआ था। सम्मेलन के दौरान किसानों को खाने के पैकेट बांटे गए थे। किसानों ने खाने के बाद जगह-जगह उन झूठे पैकेट्स को फेंक दिया। कार्यक्रम पूरे होने के बाद खाने के झूठे पैकेट जगह-जगह बिखरे पड़े थे। मौके पर काफी गंदगी हो गई थी।
इस पर कलेक्‍टर तेजस्‍वी एस नायक ने खुद ही कचरे को उठाना शुरू कर दिया। कलेक्‍टर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्‍वच्‍छ भारत अभियान का अनुसरण किया। उन्‍हें देखकर वहां मौजूद बाकी लोगों ने भी कचरा उठाना और उसे कचरा गाड़ी में डालना शुरू कर दिया। वहां मौजूद पुलिसकर्मियों और अन्‍य सरकारी अधिकारियों ने भी कलेक्‍टर की देखादेख कचरा उठाया और सफाई में हाथ बंटाया। इसका नतीजा यह हुआ कि थोड़ी देर में ही कार्यक्रम स्‍थल पर सफाई हो गई। लोगों ने कलेक्‍टर के बर्ताव की भी तारीफ की। गौरतलब है कि केंद्र सरकार स्‍वच्‍छता अभियान पर काफी जोर दे रही है और इस पर काफी पैसा भी खर्च हो रहा है। लेकिन नतीजे आशानुरुप नहीं आ रहे।
पीएम मोदी खुद भी कई बार झाड़ू उठाकर सफाई का संदेश दे चुके हैं। उनका कहना है कि 2019 में महात्‍मा गांधी की 150 वीं जयंती पर देश पूरी तरह से स्‍वच्‍छ हो जाए। इसके लिए केंद्र सरकार काफी काम भी कर रही है। देशभर में टॉयलेट बनाने का काम भी प्राथमिकता पर रखा गया है। साथ ही गांवों और शहरों को खुले में शौच से मुक्‍त करने को लेकर भी अभियान चलाया जा रहा है।

(जनसत्ता की रिपोर्ट )

मोबाइल के जरिए पीएम मोदी ने दिया भाषण, कहा- बीजेपी ही आपके सपनों को पूरा करेगी

पीएम 19 दिसंबर को कानपुर जाएंगे, जहां उनकी 'लकी कुर्सी' उनका इंतजार कर रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हेलीकाप्टर खराब मौसम के कारण आज यहां नहीं उतर सका। मोदी ने मोबाइल फोन के जरिए ही परिवर्तन रैली को संबोधित किया। मोदी ने फोन पर कहा, ‘‘यहां तक तो आया लेकिन खराब मौसम के कारण उतर नहीं पाया। मैं आपके दर्शन भी नहीं कर पाया।’’ उन्होंने कहा कि ये मौसम का तकाजा है कि हेलीकाप्टर नहीं उतर पाया इसलिए ‘‘मोबाइल फोन से मैं आपके पास पहुंच गया।’’ मोदी ने कहा कि नोटबंदी से सपा और बसपा को कठिनाई हुई है। ‘‘उत्तर प्रदेश की जनता भलीभांति जानती है। इससे ज्यादा मैं कुछ कहना नहीं चाहता।’’ उन्होंने कहा, ‘‘आप लोगों ने मोबाइल फोन से मेरी बात सुनी …. ईमानदार लोगों की मदद से देश ईमानदारी के रास्ते पर चलेगा और बेईमानों की खैर नहीं है।’’ मोदी ने कहा कि विरोधी दल संसद को चलने नहीं दे रहे हैं। आसन के सामने आकर नारेबाजी करते हैं और हंगामा करते हैं लेकिन हमारी सरकार नोटबंदी पर चर्चा चाहती है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद रोज बडे बडे नोट पकडे जा रहे हैं। मोदी ने कहा कि ये सरकार गरीबों की है और गरीबों के लिए है।
मोदी ने विश्वास जताया कि ईमानदार नागरिकों की मदद से वह ईमानदारी की लड़ाई जीतेंगे। उन्होंने कहा कि केन््रद सरकार बेईमानों के पीछे पड़ी है। रोज बड़े…बड़े बैंक वाले और बाबू पकड़े जा रहे हैं। यह सरकार गरीबों की है, गरीबों के लिये है और जिन-जिन लोगों ने गरीबों को परेशान किया, ऐसे बेईमानों के खिलाफ हम काम कर रहे हैं। मोदी ने उत्तर प्रदेश की अखिलेश यादव सरकार को कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर घेरते हुए कहा कि आज इस प्रदेश के हालात गुंडाराज में परिवर्तित हो गये हैं। हर व्यक्ति गुंडागर्दी से परेशान है। पुलिस भी ऐसे लोगों को नहीं रोक पा रही हैं। कहीं…कहीं पुलिसवाले गुंडों की मदद भी करते हैं। अगर इस प्रदेश को आगे ले जाना है तो गुंडों के रक्षकों को हटाना पड़ेगा। मैं विश्वास दिलाता हूं कि भाजपा आपके सपनों को पूरा करके रहेगी।
प्रधानमंत्री ने बहराइच के साथ भावनात्मक लगाव जाहिर करते हुए कहा कि खराब मौसम के कारण वह रैलीस्थल पर नहीं उतर सके। बहराइच के साथ उनका बेहद प्यार का नाता रहा है। वह जल्द ही फिर यहां आना चाहेंगे। यह मौसम का तकाजा है लेकिन मोबाइल फोन से मैं आप तक पहुंच गया हूं। इसके पूर्व प्रधानमंत्री का हेलीकॉप्टर खराब मौसम के कारण करीब 30 मिनट तक हवा में उड़ता रहा। इस बीच मंच से बार-बार ऐलान होता रहा कि प्रधानमंत्री जल्द ही आप सबके बीच आने वाले हैं।
बहरहाल, हवाई यातायात नियंत्रण कक्ष ने हेलीकॉप्टर को खराब मौसम की वजह से उतरने की इजाजत नहीं दी। उसके बाद मोदी ने भाजपा के प्रान्तीय अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य से बात की और मोबाइल फोन से सम्बोधन देने का फैसला किया।

जयललिता के निधन से सदमे में तमिलनाडु, अब तक 470 लोगों की गई जान: AIADMK

तमिलनाडु कैबिनेट ने फैसला किया कि वह जयललिता के नाम की सिफारिश ‘भारत रत्न’ सम्मान के लिए करेगी।

सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने आज कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी प्रमुख जे जयललिता के निधन के सदमे से 470 लोगों की मौत हो गई। जयललिता की मौत पांच दिसंबर को हो गई थी। पार्टी ने मृतकों के परिवारों के लिए तीन लाख रूपये की मदद की घोषणा की है। पार्टी ने ऐसे 190 लोगों की सूची जारी की है जिनकी मौत सदमे के कारण हुई और कहा है कि सदमे के कारण हुई मौत का आंकड़ा 470 है। पार्टी ने प्रत्येक मृतक के परिवार के लिए तीन लाख रूपये के कल्याण कोष की घोषणा की है। अन्नाद्रमुक ने आज कहा कि अब तक छह लोग आत्महत्या की कोशिश कर चुके हैं। ऐसे चार लोगों का ब्यौरा भी जारी किया है। जयललिता के निधन की खबर सुनने पर आत्महत्या की कोशिश करने वाले एक व्यक्ति और अपनी उंगली काटने वाले एक अन्य व्यक्ति का नाम पार्टी पहले ही बता चुकी है और उनके लिए 50,000 रूपये की मदद की घोषणा कर चुकी है। पार्टी ने आज चार लोगोंं को उनके उपचार के लिए 50,000 रूपये की मदद देने की घोषणा की।
गौरतलब है कि चेन्नई के अपोलो अस्पताल में भर्ती तमिलनाडु की पूर्व सीएम जयललिता का सोमवार रात 11.30 बजे निधन हो गया था। अंतिम दर्शन के लिए उनके पार्थिव शरीर को राजाजी हॉल में रखा गया। जयललिता को अंतिम विदाई देने के लिए लाखों लोग पहुंचे थे। तमिलनाडु कैबिनेट ने 10 दिसंबर को फैसला किया कि वह जयललिता के नाम की सिफारिश ‘भारत रत्न’ सम्मान के लिए करेगी। जयललिता के निधन के बाद मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम की अध्यक्षता में हुई पहली बैठक में कैबिनेट ने संसद परिसर में पूर्व मुख्यमंत्री की आदमकद प्रतिमा स्थापित करने की सिफारिश केंद्र सरकार से करने का फैसला भी किया।
राज्य सरकार ने एमजी रामचंद्रन स्मृति स्थल पर दिवंगत जयललिता के लिए एक स्मृति भवन के निर्माण का भी प्रस्ताव किया। जयललिता का अंतिम संस्कार एमजी रामचंद्रन स्मृति स्थल पर किया गया। बयान के मुताबिक, कैबिनेट ने स्मारक का नाम डॉ. पुरात्ची तलाइवार एमजीआर और पुरात्ची तलाइवी अम्मा सेल्वी जे जयललिता स्मारक रखने का भी फैसला किया।
मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम की डेस्क पर भी दिवंगत जयललिता की छोटी सी प्रतिमा रखी है। कैबिनेट ने जयललिता के निधन पर शोक व्यक्त करने वाला एक प्रस्ताव भी पारित किया।

पेट्रोल 80 और डीजल 68 रुपये प्रति लीटर होने का अनुमान, अगले कुछ महीनों में बढ़ सकती है कीमतें

पेट्रोल 80 और डीजल 68 रुपये प्रति लीटर होने का अनुमान, अगले कुछ महीनों में बढ़ सकती है कीमतें।

वैश्विक बाजार में तेल की कीमतें 55 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गई है। यह तेल उत्‍पादक व निर्यातक देशों के समूह (ओपेक) के समझौते के चलते हुआ है।
देश में पेट्रोल की कीमतें 80 रुपये प्रति लीटर और डीजल 68 रुपये प्रति लीटर तक जा सकती है। क्रेडिट रेटिंग्‍स एजेंसी क्रिसिल की रिपोर्ट के अनुसार यदि वैश्विक बाजार में यदि तेल की कीमतें 60 डॉलर प्रति बैरल पहुंचने के चलते ऐसा हो सकता है। वैश्विक बाजार में तेल की कीमतें 55 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गई है। यह तेल उत्‍पादक व निर्यातक देशों के समूह (ओपेक) के समझौते के चलते हुआ है। ओपेक दुनिया का एक तिहाई तेल उत्‍पादन करते हैं। इन देशों ने 28 नवंबर को समझौता किया कि एक जनवरी से 1.2 मिलियन बैरल प्रतिदिन तेल का उत्‍पादन कम किया जाएगा।
साल 2008 के बाद से ऐसा पहली बार होगा। इस फैसले के बाद से तेल की कीमतें 19 प्रतिशत बढ़ चुकी हैं। वहीं गैर ओपेक देश प्रति दिन 0.6 मिलियन बैरल उत्‍पादन बढ़ाने का फैसला ले सकते हैं। क्रिसिल की रिपोर्ट के अनुसार, ”ओपेक के फैसले के बाद मार्च 2017 तक ब्रेंट क्रूड 50-55 डॉलर प्रति बैरल तक जा सकता है। कुछ का मानना है कि यह 60 डॉलर जा सकता है ऐसा होने पर पेट्रोल की कीमत 80 रुपये और डीजल 68 रुपये प्रति लीटर हो सकती है। इसका मतलब है कि अगले तीन से चार महीनों में पेट्रोल की कीमत 5-8 प्रतिशत और डीजल की 6-8 प्रतिशत तक बढ़ेंगी। इसके चलते मुंबई में पेट्रोल 75 रुपये प्रति लीटर व डीजल 64 रुपये प्रति लीटर चला जाएगा।”
हालांकि क्रिसिल का अनुमान है कि साल 2017 के पहले छह महीनों में तेल की कीमतें 50 से 55 डॉलर प्रति बैरल के बीच रहेंगी। जानकारों का कहना है कि ओपेक के फैसले से कीमतें बढ़ सकती है लेकिन लंबी अवधि में इसका क्‍या असर होगा यह देखने वाली बात होगी। पहले भी कर्इ बार ओपेक देश इस तरह के फैसले ले चुके हैं लेकिन बाद में उनमें टूट हो चुकी है।
भारत में पेट्रोल और डीजल की कीमतें बाजार के अधीन हैं। इसके चलते तेल कंपनियां महीने में दो बार कीमतों पर विचार करती हैं। तेल की वैश्विक कीमतों और डॉलर के मुकाबले रुपये के स्थिति के अनुसार इस पर फैसला लिया जाता है। भारत अपनी जरूरत का तीन-चौथाई से ज्‍यादा तेल आयात करता है। इंडियन क्रूड बास्‍केट को तेल मंत्रालय बेंचमार्क के रूप में मानता है। इसके अनुसार नवंबर में तेल की कीमतें 45 डॉलर के करीब थी। इंडियन क्रूड बास्‍केट ओमान और दुबई क्रूड को आधार मानता है। वर्तमान में रुपये की स्थिति भी नाजुक बनी हुई है। रुपया वर्तमान में एक डॉलर के मुकाबले 68 रुपये के करीब है।

IND vs ENG चौथा टैस्ट: तीसरे दिन विराट की ‘सुपर’ बल्लेबाज़ी से भारत मज़बूत, इंग्लैंड पहली पारी 400

भारत ने चौथे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन शनिवार (10 दिसंबर) को इंग्लैंड के खिलाफ सात विकेट पर 451 रन बना लिये।

कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर बल्लेबाजी में अपनी बादशाहत साबित करते हुए नाबाद शतक जमाया जिसकी मदद से भारत ने चौथे क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन शनिवार (10 दिसंबर) को इंग्लैंड के खिलाफ सात विकेट पर 451 रन बना लिये। कोहली ने 15वां टेस्ट शतक पूरा करते हुए नाबाद 147 रन बना लिये हैं। वहीं मुरली विजय ने इससे पहले 136 रन बनाये जिसकी बदौलत भारत ने इंग्लैंड के 400 रन के जवाब में 51 रन की बढ़त ले ली। कोहली और जयंत यादव (30) ने आठवें विकेट के लिये 87 रन की नाबाद साझेदारी कर ली है। हर प्रारूप में नित नये रिकॉर्ड बना रहे कोहली की पारी शनिवार के खेल के आकर्षण का केंद्र रही। कोहली ने 359 मिनट की अपनी पारी के दौरान एक कैलेंडर वर्ष में 1000 टेस्ट रन पूरे कर लिये। इसके साथ ही टेस्ट क्रिकेट में भी उनके 4000 रन पूरे हो गए। वह 15वें टेस्ट शतक के साथ गुंडप्पा विश्वनाथ (14 शतक) से भी आगे निकल गए। कोहली ने अपनी पारी में 241 गेंद खेलकर 17 चौके लगाये। उन्होंने विजय के साथ भी 116 रन की साझेदारी की। विजय ने 282 गेंदों का सामना करके 10 चौके और तीन छक्के जड़े। यह विजय का आठवां शतक था जिन्होंने राजकोट में पहले टेस्ट में भी सैकड़ा बनाया था। कोहली और जयंत अगर रविवार (11 दिसंबर) को 100 रन से ऊपर की बढ़त दिला देते हैं तो इंग्लैंड के लिये वानखेड़े स्टेडियम की पिच पर वापसी करना मुश्किल होगा। इंग्लैंड के लिये स्पिनर मोईन अली, आदिल रशीद और जो रूट ने दो-दो विकेट लिये।
विजय के आउट होने के बाद भारत ने मध्यक्रम के कुछ विकेट जल्दी गंवा दिये। निचले चार विकेट 17 ओवर के भीतर गिर गए। इसके बाद कोहली और जडेजा (25) ने मिलकर पारी को संभाला। जयंत के रूप में कोहली को अच्छा साझेदार मिला। पिछले दो मैचों में नाकाम रहे विजय ने कोहली के साथ मिलकर इंग्लैंड के फिरकी आक्रमण को प्रभावहीन कर दिया। इससे पहले भारत ने चेतेश्वर पुजारा का विकेट दूसरी ही गेंद पर गंवा दिया था। लंच के बाद विजय, करुण नायर (13), विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल (15) और आर अश्विन (0) जल्दी आउट हो गए। कोहली ने हालांकि जडेजा और यादव के साथ मिलकर एक छोर संभाले रखा। चार तेज गेंदबाजों के होते हुए भी इंग्लैंड ने 130वें ओवर तक दूसरी नयी गेंद नहीं ली। सुबह चेतेश्वर पुजारा अपने शुक्रवार (9 दिसंबर) के स्कोर 47 रन पर आउट हो गए। भारतीय टीम ने अपने शुक्रवार के स्कोर एक विकेट पर 146 रन से आगे खेलना शुरू किया था। राजकोट में पहले टेस्ट में 126 रन बनाने वाले विजय ने अपने कैरियर का आठवां शतक बनाया। वह इस मैदान पर शतक जमाने वाले सुनील गावस्कर और वीरेंद्र सहवाग के बाद तीसरे भारतीय सलामी बल्लेबाज बने। पिछले 14 साल में किसी भारतीय सलामी बल्लेबाज का वानखेड़े स्टेडियम पर पहला शतक है। सहवाग ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अक्तूबर 2002 में 147 रन बनाये थे। पुजारा दिन में दूसरी ही गेंद पर तेज गेंदबाज जैक बाल का शिकार हुए। वह शुक्रवार के स्कोर 47 रन में कोई इजाफा नहीं कर सके। उन्होंने विजय के साथ दूसरे विकेट के लिये 107 रन की साझेदारी की।
पुजारा को आउट करने के बाद भारत पर दबाव बनाने की इंग्लैंड की कोशिशों को कोहली ने नाकाम कर दिया। कोहली 4000 टेस्ट रन पूरे करने वाले भारत के 14वें बल्लेबाज बन गए और वर्तमान क्रिकेटरों में इस मुकाम तक पहुंचने वाले वह अकेले भारतीय हैं। विजय लंच के बाद लेग स्पिनर आदिल रशीद को अपना विकेट गंवा बैठे। लंच से 12 मिनट पहले 116 के स्कोर पर उनके खिलाफ रशीद की गेंद पर पगबाधा की जोरदार अपील हुई थी। इस फैसले पर रिव्यू लिया गया और फैसला बल्लेबाज के पक्ष में गया। विजय के बाद नायर को मोईन अली ने पवेलियन भेजा जबकि जो रूट ने लगातार दो ओवरों में भारत को दो झटके दिये। भारत दो विकेट पर 262 रन से छह विकेट पर 307 रन पर पहुंच गया। नायर को मोईन ने पगबाधा आउट किया और रिव्यू का फैसला भारत के खिलाफ गया। पटेल और अश्विन चार गेंदों के भीतर आउट हुए। रशीद ने अगले ओवर में कोहली का रिटर्न कैच छोड़ा जब उनका स्कोर 68 रन था। यादव को भी जेम्स एंडरसन के पहले ओवर में रूट ने दूसरी स्लिप में जीवनदान दिया।
इंग्लैंड पहली पारी : 400 रन
भारत पहली पारी :
केएल राहुल बो अली 24
मुरली विजय का और बो रशीद 136
चेतेश्वर पुजारा बो बाल 47
विराट कोहली नाबाद 147
करूण नायर पगबाधा बो अली 13
पार्थिव पटेल का बेयरस्टा बो रूट 15
आर अश्विन का जेनिंग्स बो रूट 0
रविंद्र जडेजा का बटलर बो रशीद 25
जयंत यादव नाबाद 30
अतिरिक्त : 14 रन
कुल योग : 142 ओवर में सात विकेट पर 451 रन
विकेट पतन : 1/39, 2/146, 3/262, 4/279, 5/305, 6/307, 7/364
गेंदबाजी :
एंडरसन 15-5-43-0
वोक्स 8-2-34-0
अली 45-5-139-2
रशीद 44-5-152-2
बाल 14-5-29-1
स्टोक्स 8-2-24-0
रूट 8-2-18-2

ईशांत शर्मा ने प्रतिमा संग लिए सात फेरे, एमएस धोनी और युवराज बने मेहमान

तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने भी शादी कर ली है। शुक्रवार (9 दिसंबर) को गुड़गांव में उन्‍होंने प्रतिमा सिंह के साथ सात फेरे लिए।
तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने भी शादी कर ली है। शुक्रवार (9 दिसंबर) को गुड़गांव में उन्‍होंने प्रतिमा सिंह के साथ सात फेरे लिए। शादी का कार्यक्रम नॉटिंघम हिल्‍स होटल में हुआ।प्रतिमा बास्‍केटबॉल प्‍लेयर हैं और वाराणसी की रहने वाली हैं। दोनों ने 19 जून को सादे समारोह में सगाई की थी। शादी के लिए ईशांत को भारतीय टीम से रीलीज किया गया था। टीम इंडिया इस समय इंग्‍लैंड के साथ टेस्‍ट सीरीज खेल रही है। शादी में भारतीय वनडे टीम के कप्‍तान महेंद्र सिंह धोनी और स्‍टार प्‍लेयर युवराज सिंह, रेसलर योगेश्‍वर दत्‍त भी शामिल हुए। ईशांत ने शादी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी न्‍योता दिया था। न्‍योता देने के लिए ईशांत के साथ प्रतिमा भी गई थी। हालांकि मोदी शादी में नहीं आए।
ऐसा कहा जाता है कि इशांत और प्रतिमा दिल्ली के वसंत कुंज स्थित डीडीए स्पोर्ट्स कॉन्पलेक्स के पास ही बास्केटबॉल कोर्ट में मिला करते थे। 2011 में RIBA लीग में इशांत शर्मा चीफ गेस्ट बनकर आए थे तभी दोनों की पहली बार मुलाकात हुई थी। गौरतलब है कि हाल ही में युवराज सिंह ने भी शादी की है। उन्‍होंने मॉडल-एक्‍ट्रेस हेजल कीच को जीवनसंगिनी बनाया। इस शादी का कार्यक्रम तीन-चार दिन तक चला था। जालंधर के बाद गोवा में भी शादी कार्यक्रम हुआ था। इसमें विराट कोहली, धोनी, मोहम्‍मद कैफ, वीरेंंद्र सहवाग, वीवीएस लक्ष्‍मण, जहीर खान सहित कई पूर्व और वर्तमान क्रिकेटर शामिल हुए थे।
प्रतिमा सिंह वाराणसी से खेलती हैं और उन्होंने भारतीय बास्केटबाल टीम का विभिन्न अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओ में प्रतिनिधित्व किया है। वह भारतीय महिला बास्केटबाल टीम की पूर्व कप्तान भी हैं। देश के बास्केटबाल जगत में ‘सिंह बहनों’ के नाम से मशहूर प्रतिमा पांच बहनों में सबसे छोटी हैं। उनकी सभी बहनें भी बास्केटबाल खिलाड़ी हैं और वे भी राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेल चुकी हैं। वह दिल्ली के जीसस एंड मेरी कॉलेज से पढ़ी हैं और दिल्ली यूनिवर्सिटी टीम की कप्तान रही हैं। उन्होंने 2010 में हुए ग्वांग्झू एशियाई खेलों में और अन्य बास्केटबॉल चैंपियनशिप में हिस्सा ले चुकी हैं। प्रतिमा का परिवार खेलों से जुड़ा हुआ है। उनका छोटा भाई फुटबॉलर है। इस तरह से उनके परिवार में अब बास्‍केटबॉल, फुटबॉल और क्रिकेट खिलाड़ी भी हैं।