बड़ी खबर

बड़ी खबर - निर्भया गैंगरेप के चारो दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी...

नई दिल्‍ली :- देश के सबसे बड़े चर्चित  निर्भया गैंगरेप कांड  के दोषियों के खिलाफ पटियाला हाउस कोर्ट ने मंगलवार शाम 4 बजकर 45 मिनट पर डेथ वारंट जारी कर दिया है. मुकेश, पवन, विनय और अक्षय की फांसी के लिए 22 जनवरी की तारीख मुकर्रर की गई है. कोर्ट ने कहा कि इस बीच चाहें तो बचे हुए कानूनी विकल्प का इस्तेमाल कर सकते हैं. चारों दोषियों को बुधवार यानी 22 जनवरी सुबह 7 बजे फांसी दी जाएगी. आज सुनवाई के दौरान सबसे पहले वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग से तिहाड़ के जेल नंबर 4 से विनय को पेश किया गया. वहीं, जेल नंबर 2 से अक्षय, मुकेश और पवन को पेश किया गया. सुनवाई के दौरान मीडिया को कोर्ट रूम से बाहर भेज दिया गया.  इस फैसले के बाद से न्याय व्यवस्था पर लोगों का विश्वास मजबूत होता दिखाई दे रहा है वही इस फैसले के बाद निर्भया को इंसाफ मिली है.

करगी रोड कोटा में कांग्रेस की रणनीति रही असफल, बी जे पी को मिला फायदा

साकेत शुक्ला

करगी रोड कोटा

बुजुर्गों द्वारा बनाया गया मुहावरा हमेशा से सही साबित होता आया है ऐसा ही एक मुहावरा इन दिनों कोटा नगर पंचायत चुनाव सम्पन्न होने बाद सार्थक साबित हो रहा है , साँप निकलने के बाद लकीर पीटने से क्या फायदा ,

लोक सभा चुनाव हारने के बाद कांग्रेस पार्टी ने विधानसभा चुनाव में अपनी तकदीर तरासने की कोशिश की मगर वहां भी हार का स्वाद चखा और अपनी कुर्सी गवाई , कुछ दिन बाद ही नगरीय निकाय चुनाव था जिसके लिए काँग्रेस पार्टी ने रणनीति बनानी शुरू की जीत का लड्डू चखने की लालसा से भरे हुए कांग्रेस पार्टी के सदस्यों से कहाँ चूक हुई इसकी समीक्षा बैठक तब रखी गई जब नगर पंचायत कोटा का चुनाव भी हार के सिलसिले को खत्म नही कर सका , कोटा काँग्रेस पार्टी को जले पर नमक छिड़कने की कहावत का मतलब तब पता चला जब अध्यक्ष के चुनाव के दौरान क्रॉस वोटिंग करते हुए कांग्रेस पार्टी के ही दो सदस्य भाजपा को ही अपना समर्थन दे बैठे , बहरहाल अब कांग्रेस पार्टी अपने विभीषण के खिलाफ मोर्चा खोल कर बैठ गई है और अपनी पार्टी के प्रमुख से यह मांग कर रही है कि कोटा कांग्रेस कमिटी को नए सिरे से गठित किया जाए ताकि सभी सदस्य ईमानदारी पूर्वक अपने पार्टी के प्रति कार्य कर सकें, अब देखना यह होगा कि कोटा कांग्रेस पार्टी किन सदस्यों पर विस्वास जताते हुए पार्टी में जगह देती है और ऐसा करने से कब तक घर का भेदी लंका ढाये जैसे मुहावरों से दूर रह सकती हैं

बलरामपुर जिले के रघुनाथनगर पुलिस ने देशी कट्टा और तीन जिंदा कारतूस के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार

बलरामपुर आकाश साहू

बलरामपुर जिले के रघुनाथनगर पुलिस ने देशी कट्टा और तीन जिंदा कारतूस के साथ दो लोगों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त किया है. मुख्य आरोपी समीम उल्ला खान पर पहले से ही 2 अपराध थाने में दर्ज है. पुलिस इसकी सरगर्मी से तलाश कर रही थी. पिछले कई दिनों से पुलिस को चकमा देकर बाग रहा था और आज यह पकड़ में आया है. मिली जानकारी के मुताबिक आरोपी समीमउल्ला खान झारखंड के करीमंडी थाना इलाके के हैदरनगर का रहने वाला है. बलरामपुर के रघुनाथनगर थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत पण्डरी के केनवारी पारा में उसकी शादी हुई है. जिसके कारण उसका यहाँ आना जाना लगा रहता था. अपने ससुराल वालों के साथ जेसीबी ख़रीदकर व्यापार कर रहा था. इसी दौरान समीमउल्ला खान व उसकी पत्नी में भी लड़ाई झगड़ा हो गया. जिसकी लिखित शिकायत कुछ माह पूर्व उसकी पत्नी ने रघुनाथनगर थाने में किया था. आरोपी समीम उल्ला और उसके फूफा ससुर इसहाक खान के बीच पैसे के लेन देन को लेकर विवाद हो गया. जिसके बाद समीमउल्ला खान अपने सहयोगी राशिद के साथ 7 दिसंबर 2019 को रात्रि 11 बजे के आस-पास अपने फूफा ससुर के घर केवरी में पहुंचकर 2 लाख रूपए की मांग करने लगा, नहीं तो कट्टा दिखाकर जान से मारने की धमकी दी थी. किसी प्रकार प्रार्थी ने अपनी जान बचाई और घटना की लिखित जानकारी पुलिस को दी. मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने टीम गठित कर आरोपियों की तलाश करने लगी. मुखबिर की सूचना पर बलरामपुर पुलिस अधीक्षक बलरामपुर के निर्देशन एसडीओपी ध्रुवेश जायसवाल और थाना रघुनाथनगर के स्टॉप ने उत्तरप्रदेश के ग्राम चपकी से दोनों आरोपियों को देसी कट्टे व तीन जिंदा कारतूस समेत गिरफ्तार किया. उनके खिलाफ 456, 384, 506, 34 आईपीसी, 25, 27 आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई कर जेल भेज दिया गया है. आरोपी समीमउल्ला के खिलाफ उत्तरप्रदेश के बीजपुर थाना झारखंड के डाल्टेनगंज थाना में भी आपराधिक प्रकरण दर्ज है. ज्ञात हो कि बलरामपुर जिला प्रदेश की तीन राज्यों की सीमाओं को छूता है और अपराधी राज्य बदल बदल कर एक दूसरे राज्यों में शरण लेते हैं.

कोरिया जिले में बड़ा हादसा..11 केवी हाईवोल्टेज तार की चपेट में आने से विवाहिता की मौत..नाराज मोहल्लेवासियों ने किया चक्काजाम..

छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में बड़ा हादसा..11 केवी हाईवोल्टेज तार की चपेट में आने से विवाहिता की मौत..नाराज मोहल्लेवासियों ने किया चक्काजाम..मौके पर पहुंचे एसडीएम, डीएसपी व विद्युत विभाग के अधिकारी.. समझाइश के बाद हटा जाम.. बिजली विभाग देगा 4 लाख का मुआवजा..

घर की छत में पानी की टंकी देखने गयी विवाहिता वहां से गुजरे 11kv हाई वोल्टेज तार करंट की चपेट में आ गई जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गयी। मृतिका के 6 छोटे-छोटे बच्चे हैं । घटना की जानकारी मिलने के बाद गुस्साए वार्ड के लोगों ने बैकुण्ठपुर-बिलासपुर मार्ग पर घंटों चक्का जाम कर दिया।

इस पूरे मामले में मिली जानकारी के अनुसार कोरिया जिला मुख्यालय बैकुण्ठपुर के डबरी पारा निवासी दिल्ली दरबार बिरयानी दुकान के संचालक साबिर अली थी 38 वर्षीय पत्नी रुबीना गुरुवार की शाम 5:00 बजे के लगभग घर के ऊपर छत में लगी टंकी में पानी देखने गई थी । उसी वक्त वहां से गुजरे 11kv हाई वोल्टेज तार की चपेट में आ गई और करंट लगने से वह छज्जे पर गिर गई और सम्भवतः मौके पर ही उसकी मौत हो गई। जब शाम होने तक जब रुबीना घर में नहीं दिखी तो लोगों ने उसकी काफी पतासाजी की, रात भर खोजबीन करने के बाद रुबीना का पता नहीं चला। सुबह पड़ोस की महिला ने अपने छत से रुबीना को छज्जे पर पड़ा देखा वह चिल्लाने लगी और उसकी जानकारी सभी को दी। दुर्घटना की जानकारी मिलते ही पूरे वार्ड के लोग इकट्ठा हो गए और बिजली विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे। इसी बीच मोहल्ले के लोगों ने चक्का जाम कर दिया, घंटों चक्का जाम रहा। मामले की जानकारी मिलते ही कांग्रेस जिलाध्यक्ष नजीर अजहर, एसडीएम एएएस पैकरा, डीएसपी धीरेंद्र पटेल, थाना प्रभारी एलपी पटेल सहित पूरा पुलिस बल पहुंच गया। सभी ने मोहल्ले वालों को समझाइश दी, जिसके बाद चक्काजाम खत्म किया गया।

वार्ड के पूर्व पार्षद आफताब अहमद ने बताया कि बिजली विभाग को कई बार तार को शिफ्ट करने की सूचना दी गई। लेकिन विभाग द्वारा हर बार लापरवाही बरती गई। पिछले 2 साल से बिजली पोल गाड़ कर रखा गया है लेकिन तारों को शिफ्ट नहीं किया गया है। जिससे आज इतना बड़ा हादसा हो गया इसके लिए बिजली विभाग ही जिम्मेदार है।

एसडीएम टीएस पैकरा ने कहा कि प्रशासन को मृतका के परिवार के साथ पूरी तरह सहानुभूति है प्रशासन की ओर से फिलहाल ₹20000 अंतिम संस्कार के लिए जा रहे हैं बिजली विभाग ₹400000 का मुआवजा परिजनों को देगा।

पाकिस्तान:- गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर पथराव सिक्खों पर हिंसा, बड़ी संख्या में श्रद्धालु अंदर फंसे

पाकिस्तान में स्थित सिख समुदाय के पवित्रतम स्थलों में से एक गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर आक्रोशित मुस्लिमों की एक भीड़ द्वारा पथराव किया गया। एक वीडियो क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें दावा किया जा रहा है कि मोहम्मद हसन के परिवार के नेतृत्व में एक भीड़ जुटी है। हसन पर पहले एक सिख लड़की के अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन व विवाह का आरोप लग चुका है। लाहौर से 75 किलोमीटर दूर ननकाना साहिब वह स्थान जहां सिख धर्म के पहले गुरु नानक देव जी का जन्म 1469 में हुआ था। भारत में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया, इमरान खान से अपील है कि तत्काल इस मामले में दखल दें और गुरुद्वारा में फंसे श्रद्धालुओं को सुरक्षित निकाला जाए और ऐतिहासिक गुरुद्वारा को आक्रोशित भीड़ से बचाया जाए।इस मामले पर सोशल मीडिया पर भी तीखी प्रतिक्रिया हुई है। एक यूजर ने लिखा कि एक किडनैपर फैमिली भीड़ का नेतृत्व कर रही है और पूजा स्थल पर पथराव कर रही है। ये लोग जंगली हैं। भारत ने पाकिस्तान में पवित्र ननकाना साहिब गुरद्वारे में तोड़फोड़ की शुक्रवार को कड़ी निन्दा की और पड़ोसी देश से वहां सिखों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने का आह्वान किया। विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान में श्री गुरु नानक देव जी के जन्मस्थान पवित्र ननकाना साहिब में सिखों के साथ हिंसा हुई है। विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा, भारत इस पवित्र स्थान पर तोड़फोड़ और बेअदबी की हरकतों की कड़ी निंदा करता है। इसने कहा, हम पाकिस्तान सरकार से सिखों की सुरक्षा एवं कल्याण सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने का आह्वान करते हैं। मंत्रालय ने कहा, उन बदमाशों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए जो इस पवित्र गुरद्वारे में बेअदबी में शामिल हैं और जिन्होंने अल्पसंख्यक सिखों पर हमला किया है। वहीं लुधियाना में पंजाब के शाही इमाम, मौलाना हबीब-उर-रहमान सानी लुधियानवी ने पाकिस्तान में ननकाना साहिब में पथराव की घटना का विरोध करते हुए निंदा की है। इसके अलावा लुधियानवी ने कड़ी कार्रवाई करने और गुरुद्वारा परिसर को नुकसान पहुंचाने की कोशिश करने वालों लोगों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की। उन्होंने हमले को दो समुदायों के बीच संघर्ष पैदा करने की एक बड़ी साजिश का हिस्सा भी बताया क्योंकि करतारपुर गलियारे के खुलने के बाद दोनों तरफ संबंध सुधर रहे थे।

गोलीकांड में पुलिस के हाथ खाली, एएसपी ने कहा मामले में अब तक कोई क्लू नहीं

रायपुर। राजधानी के टिकरापारा थाना इलाके के बोरियाखुर्द में नारियल व्यवसायी की हत्या के मामले में रायपुर पुलिस का कहना है कि उनके पास अब तक किसी प्रकार का क्लू नहीं है। अंतिम समय में मृतक के साथ कौन कौन था इसकी जांच की जा रही है। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायपुर प्रफुल्ल ठाकुर ने कहा कि टिकरापारा थाना इलाके के बोरियाखूर्द में आरडीए कॉलोनी का मामला है। मृतक राजकुमार जायसवाल विगत 2 वर्षों से यहां परिवार के साथ रहता था। राजकुमार मूलत: जौनपुर उत्तर प्रदेश का निवासी था। प्रारंभिक पूछताछ में पता चला कि मृतक नारियल पानी बेचने का काम करता था लेकिन विगत 6-7 महिनों से रोजगार नहीं था। इसकी पत्नी आरडीए कॉलोनी में किराना दुकान चलाती थी। गुरुवार शाम किसी काम से घर से बाहर चला गया था। जांच में बिजली ऑफिस के बाहर ठेले के पास संघर्ष के निशान मिले हैं। जिसमें आशंका है कि आरोपी और राजकुमार साथ बैठकर शराब पीने के बाद किसी बात पर झगड़ा किए हैं। इसक बाद देशी कट्टे से गोली मारकर हत्या कर दी गई। आशंका है कि आरोपी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हो सकते हैं। टिकरापारा थाना पुलिस के साथ मामले की जांच की जा रही है। अब तक किसी प्रकार का क्लू नहीं मिला है। पुलिस सिर्फ इस बात पर जांच कर रही है कि अंतिम समय में मृतक के साथ कौन कौन था।

तेंदुए की खाल के साथ 7 तस्कर गिरफ्तार, वन विभाग ने की कार्यवाही

दंतेवाड़। तेंदुए की खाल के साथ 7 तस्करों को गिरफ्तार किया है। मिली प्राथमिक जानकारी के मुताबिक कारली के पास गीदम वन अमला ने तस्करों को पकड़ लिया। सभी तस्कर बाइक पर सवार थे। तस्करों के पास से तेंदुए की 4 खाल बरामद हुई है। वनपरिक्षेत्र अधिकारी सतीश घुरला ने मामले की पुष्टि की है। तस्करों को गिरफ्तार करने में वन विभाग को पुलिस ने सहयोग किया हैं।

राजनांदगांव नगर निगम में कांग्रेस का कब्जा, हेमा देशमुख बनीं महापौर

राजनांदगांव। प्रदेश की संस्कारधानी में महापौर की कुर्सी पर इस बार कांग्रेस का कब्जा हो गया है। यहां कांग्रेस की हेमा देशमुख महापौर चुनीं गईं है। शुक्रवार को हुए मतदान में उन्हें 31 वोट मिले। आज वोटिंग में 51 वोट डाले गए थे। इसमें भाजपा की उम्मीदवार शोभा सोनी को 20 वोट मिले। सभापति की कुर्सी कांग्रेस को मिली है, जिसमें हरिनारायण पप्पू धकेता सभापति चुने गए। बता दें कि इससे पहले राजनांदगांव में महापौर भाजपा का था। राजनांदगावं नगर निगम में कांग्रेस के 22, भाजपा के 21 और निर्दलीय पार्षदों की संख्या 8 थी। 51 पार्षदों वाले निगम में बहुमत के लिए 26 पार्षदों के समर्थन की जरूरत थी। इनमें से सभी 8 निर्दलीय पार्षदों ने कांग्रेस का साथ दिया है। हेमा देशमुख 11 मतो से विजयी रहीं। बता दें कि शुक्रवार को निगम की पहली सभा में नवनिर्वाचित पार्षदों का शपथ ग्रहण हुआ। इसमें राजनांदगांव जिला के प्रभारी मंत्री मो.अकबर, कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष मोहन मरकाम,महामंत्री गिरीश देवांगन और करुणा शुक्ला उपस्थित थीं रही।

नागरिकता (संशोधन) कानून से एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी बीजेपी: गृह मंत्री शाह

मिडीया रिपोर्ट के अनुसार गृह मंत्री अमित शाह ने जोधपुर (राजस्थान) की रैली में कहा है, ये सारी की सारी पार्टियां एक हो जाएं लेकिन बीजेपी नागरिकता (संशोधन) कानून से एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी। वही उन्होंने कहा, जितना भ्रम फैलाना है फैला लें...हम भी लोगों, युवाओं और अल्पसंख्यकों के पास जाएंगे और बताएंगे कि इसका आपकी नागरिकता से कोई लेना-देना नहीं है।

NRC और CAA का समर्थन। पीएम मोदी के समर्थन में लगाये नारे।  नागरिक जागरण मंच ने निकाली विशाल रैली। बिलासपुर की भीगती सड़कों पर उतरे समर्थक।  नागरिक जागरण मंच ने की अगुवाई।

बिलासपुर छत्तीसगढ़ :: इन दिनों पूरे देश में एनआरसी और सीएए को लेकर खूब चर्चा है।  ऐसे में छत्तीसगढ़ के बिलासपुर शहर में नागरिक संशोधन अधिनियम के समर्थन में विशाल रैली निकाली गई। इस रैली में शामिल होने वाले लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए भी नारेबाजी की।  तख्ती बैनर, पोस्टर और विशाल जनसमूह के साथ निकाली गई इस रैली में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए । गौरतलब है कि रैली की अगुवाई नागरिक जागरण मंच ने की है।  जिसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए।  इस पूरी रैली में गौर करने लायक बात यह भी रही कि इस रैली के माध्यम से देश भक्ति का भी  संदेश देने का प्रयास किया गया।  NRC और CAA के समर्थकों ने  तकरीबन 100 फीट लंबे तिरंगे को अपने हाथ पर लेकर रैली निकाली । इसके अलावा मोदी के समर्थन में भी बैनर पोस्टर बनाए गए।  नागरिक जागरण मंच का यह उद्देश्य था बताने का जो आज पूरे देश में एनआरसी को लेकर भ्रम की स्थिति है।  ऐसे में उनका नैतिक कर्तव्य है कि वे इस भ्रम को दूर करने के लिए इस तरह की रैली निकाले।  आज  जिस तरह से तेज बारिश और खराब मौसम के बाद भी लोगों ने बढ़ चढ़कर इसमें हिस्सेदारी ली है।  इसलिए साफ हो जाता है कि देश में एनआरसी सीए और अब एनपीए को भी लेकर लोगों में जागरूकता आई है और लोग इसका समर्थन कर रहे हैं।

व्यापारी को लूटा, गोली मार कर हत्या की और मज़े से फरार हो गया, रायपुर बन गया है मर्डरपुर

रायपुर:-राजधानी में गुरुवार को हत्या का मामला प्रकाश में आया है। मिली जानकारी के अनुसार गोकुल नगर क्षेत्र में एक व्यवसायी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बताया जा रहा है कि लूट के इरादे से गोली मारी गई और आरोपी फरार हो गए। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। सूत्रों से अनुसार घटना रात 9 बजे के आसपास की है। बताया जा रहा है कि कारोबारी अपना व्यवसाय से वापस लौट रहा था तब उस पर गोलियां चलाई और अंधेरे का फायदा उठाते हुए आरोपी फरार हो गए। गोली लगने के बाद व्यवसायी को गंभीर हालत में अंबेडकर अस्पताल लाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत गई। सूचना पर पुलिस पहुंची और खोजबीन में जुटी है।

नई दिल्ली के पीरागढ़ी में बैटरी बनाने वाली फैक्ट्री में लगी भीषण आग, बिल्डिंग में रुक-रुककर हो रहे धमाके

नई दिल्ली:-राजधानी दिल्ली के पीरागढ़ी इलाके में बैटरी बनाने वाली फैक्ट्री में आग लगने से हड़कंप मच गया है। आग लगने की सूचना पाकर मौके पर फायरब्रिगेड की 35 गाड़ियां पहुंच चुकी हैं और बचाव कार्य जारी है। इस दौरान खबर आ रही है कि फंसे हुए लोगों को निकालने की कोशिश में कुछ दमकलकर्मी घायल हुए हैं। अभी भी कई लोगों के फैक्ट्री में फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, फैक्ट्री में रुक-रुक के धमाके भी हो रहे हैं।

कांग्रेस ने नगर पंचायत पर्यवेक्षकों की सूची की जारी

रायपुर:- नगर निगम और नगर पालिकाओं के आब्जर्बर नियुक्त करने के बाद अब कांग्रेस नगर पंचायत पर्यवेक्षकों की सूची भी जारी कर दी है। नगरी निकाय चुनाव में पार्षदों की संख्या में बढ़त बनाने के बाद रणनीतिक रूप से भी कांग्रेस ने भाजपा पर बढ़त हासिल करने की कोशिश की है। माना जा रहा है कि कांग्रेस के पर्यवेक्षकों की सूची पहले जारी होने से बेहतर प्रबंधन और रणनीतिक तैयारी संभव हो सकेगी। आपको बता दें कि भाजपा ने आज नगर निगमों के पर्यवेक्षकों की सूची आज जारी की है, जबकि कांग्रेस के पर्यवेक्षक तो पहुंचकर कांग्रेस के पार्षदों से और स्थानीय नेताओं से मुलाकात भी शुरू कर चुके हैं। संचार विभाग के चेयरमैन शैलेश नितिन त्रिवेदी के मुताबिक कांग्रेस को भाजपा पर पार्षदों की संख्या के बाद मनोवैज्ञानिक बढ़त और रणनीतिक पहल का भी लाभ मिलेगा।

आबकारी मंत्री को आया कॉल मामला रफा दफा करना है तो 2 लाख रुपये दो...जाने पूरा मामला

रायपुर:- छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा को ब्लैकमेल करने का मामला सामने आया है।सीबीआई में मामला होने की बात कहते हुए अंकुश शर्मा नाम के व्यक्ति ने रफा-दफा करने के नाम पर दो लाख रुपए मांग की है।मामले में कवासी लखमा के पीएसओ नोने सिंह बागरी ने सिविल लाइन थाना में मामला दर्ज कराया है। पुलिस मामला दर्ज करने के बाद जांच में जुट गई है। मामले की जानकारी देते हुए रायपुर एएसपी प्रफुल्ल ठाकुर ने बताया कि 20 दिसंबर को मंत्री के नंबर पर एक कॉल आया, जिसमें अपने आप को दिल्ली से सीबीआई इंस्पेक्टर अंकुश शर्मा बताते हुए मंत्री के खिलाफ सीबीआई में शिकायत होने की बात कही। मामले को रफा-दफा करने के लिए दो लाख रुपए की मांग की गई है। चूंकि मंत्री के नंबर पर व्हाट्सएप चलता नहीं है तो पीएसओ नंबर दिया गया। फिर उनके नंबर पर कुछ 2-3 दस्तावेज इंग्लिश में भेजा गया। इसके बाद से मंत्री और पीएसओ के नंबर पर लगातार फोन कर पैसे की मांग की जा रही है। अभी इसमे आईपीसी की धारा 384 के ताहत मामला दर्ज किया गया है। एक टीम का गठन कर मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी। पीएसओ द्वारा दिए गए फोन नंबर और अकाउंट नंबर को विवेचना मे लिया जाएगा और मामले में उक्त आरोपी की गिरफ्तारी की जाएगी। साथ ही उनसे पूछताछ के बाद यदि और किसी के इसमे शामिल होने की बात सामने आती है तो उनपर भी कारवाई की जाएगी।

पुलिस के विरोध मे भाजपा ने निकाली रैली , विधायक ने कहा नगर पालिका चुनाव मे पुलिस ने एक पक्ष बन कर काम किया , 24 घंटे के अंदर करे कार्यवाही नही तो हम लड़गे लड़ाई

भाटापारा मे मतगणना के दिन रामसागर वार्ड मे कुछ लोगो ने वार्ड वासियो के घर मे घुसकर मारपीट का मामला घटीत हुआ था जिसकी रिपोर्ट दर्ज नही करने एवं आरोपीयो की गिरफ्तारी नही होने से भाजपा ने निकाला रैली , बीच मे ही पुलिस ने रोका रैली को ,भाजपा विधायक शिवरतन शर्मा और पुलिस के बीच सड़क पर ही हुई तीखी नोकझोंक विधायक ने कहा 24 घंटे के अंदर कार्यवाही नही की तो जो लड़ाई हमको लड़ना है वो लड़ेंगें     बजरंग ध्रुव , खबर भाटापारा भाटापारा - भाटापारा के रामसागर वार्ड मे मतगणना की रात कुछ लोगो ने घरो मे घुसकर मारपाटी कर दी , जिसे वार्ड के लोगो ने बताया कि मारपीट करने वाले कह रहे थे कि तुम लोगो ने कांग्रेस का साथ नही दिया इसका भुगतान भुगतना पड़ेगा , और असामाजिक तत्वो ने रामसागर पारा वार्ड के कुछ घरो मे तोडफोड़ और मारपीट की जिसके बाद पार्षद पद के लिए विजयी हुए प्रत्याषी व्यास यदु के साथ वार्ड के सैकड़ो लोग भाटापारा शहर थाने पहुॅच गए और रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए कहा जिस पर पुलिस ने खानापुर्ति करते हुए कोरे कागज मे षिकायत लेकर आष्वासन दे कर छोड़ दिया जिसके बाद आज तक कोई कार्यवाही पुलिस के द्वारा नही की गई जिसके बाद भाटापारा विधायक षिवरतन शर्मा ने आज धरना प्रदर्षन के लिए भाटापारा भाजपा कार्यालय से पुलिस के खिलाफ रैली निकाल कर थाने के लिए रवाना हुए जिनकी रैली को बीच सड़क पर ही रोक लिया गया और भाजपा कार्यकर्ता व भाजपा विधायक के साथ पुलिस की जमकर बहस हुई जिसमे पुलिस मुर्दाबाद के नारे लगे वही षिवरतन शर्मा ने पुलिस पर कांग्रेस का समर्थन करने व पक्षपात करने का आरोप लगाया एवं जिला बलौदाबाजार एसपी से आरोपीयो पर निष्पक्ष कार्यवाही करने के लिए 24 घंटे देने की बात कही एवं अगर कार्यवाही नही होती तेा उग्र आदोलन के सामना करने के लिए तैयार रहने की चेतावनी देने की बात कही। शिवरतन ने कहा भाटापारा का पुलिस प्रशासन विशेष रूप से टीआई जो है पुरे भाटापारा शहर मे नगर पालिका चुनाव के दौरान एक पक्ष बन के काम किया है 24 तारिख को चुनाव का परिणाम आया , भाटापारा के रामसागर वार्ड मे भाजपा के प्रत्याशी को सफलता मिली , कांग्रेस समर्थित लोग हमारे कार्यकर्ताओ के घर पे , महिला कमाडों के घर पे जाकर के धमकी देते रहे , दरवाजे तोड़ते रहे , मारपीट करते रहे , कार्यकर्ता 1 बजे तक थाने का घेराव करके बैठे रहे लेकिन पुलिस प्रशासन ने कोई कार्यवाही नही की मैने स्वयं 24 तारिख को , 25 तारिख को , 26 तारिख को एसडीओपी,एसपी सबसे बात की लेकिन कोई कार्यवाही नही की तो मजबूरन कल शाम को घोषणा करनी पड़ी कि हम थाने के सामने धरना देंगे , हमारे थाने के सामने धरना की घोषणा के बाद रात को एफआईआर किया है , अभी पुलिस प्रशासन से बात हुई जिसमे आप के सामने बातचीत हुई है , भाटापारा मे एैसे कई मामले है जिसमे 307 लगना चाहिए उसमे पुलिस ने कोई कार्यवाही नही कि है पिछले 3 साल से 367 का अपराधी घुम रहा है उसपर कोई कार्यवाही नही हुई है , पुरे चुनाव के दौरान पुलिस के संरक्षण मे शराब बंटती है पुलिस कोई कार्यवाही नही करती , पुलिस अगर दोषियो पर कार्यवाही नही करेगा तो आज हमने संघर्ष की शुरूवात करने के लिए संाकेतिक धरना का कार्यक्रम आयोजित किया था एसपी मैडम भी आस्वासन दी कि तत्काल कार्यवाही करेंगे , एसडीओपी सामने थे ,उनके आश्वासन पर कार्यक्रम स्थगित कर रहे है और अगर 24 घंटे के अंदर कार्यवाही नही होगी फिर जो लड़ाई हमे लड़ना है वो लड़ाई हम लड़ेंगे।