छत्तीसगढ़

सिंघुल गाँव मे महिला कमांडो सहित ग्रामवासियों ने महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री को किया नमन

नवागढ़:-सिंघुल गाँव के सरपंच शांतिघासीराम सहीत महिला कमांडो की टीम ने शुक्रवार को आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर उनके चित्र पर माल्यार्पण करके उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर सिंघुल गाँव मे सफाई अभियान चलाया गया जिसमें वार्ड नंबर 5 के कान्हा पारा में ग्रामवासियों व महिला कमांडो की टीम के द्वारा इस कोरोना काल मे सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क लगाकर स्वच्छता अभियान के तहत गाँव मे सफाई अभियान चलाया गया जिसमें ग्राम पंचायत सिंघुल जनपद पंचायत नवागढ़ के सरपंच शांतिघासीराम कश्यप, उप सरपंच प्रेमलाल, परमानंद कश्यप, भूषण पटेल रामनारायण सतनारायण श्रीवास सोनू, गजेंद्र कुमार, नरेश, शिव कुमार कश्यप, लक्ष्मण दास, ज्ञानदास राजू कुमार, संतोष कुमार बलदाऊ मांझी, उचित राम, एवं महिला कमांडो के अध्यक्ष सचिव, कोषाध्यक्ष और समस्त सदस्य गण उपस्थित थे।

अनुसूचित जनजाति वर्ग के लोगों पर दर्ज केस की हुई समीक्षा, 8 जिलों के 528 प्रकरणों पर हुआ विचार

रायपुर:-उच्चतम न्यायालय के न्यायमूर्ति एके पटनायक (से.नि.) की अध्यक्षता में बीते कल वीडियो कांफ्रेंसिंग से अनुसूचित जनजाति वर्ग के रहवासियों के खिलाफ दर्ज प्रकरणों की समीक्षा की गई। इनमें बस्तर संभाग के जिले क्रमशः बस्तर, दंतेवाड़ा, कांकेर, नारायणपुर, सुकमा, बीजापुर, कोंडागांव और राजनांदगांव शामिल हैं। बैठक में 528 प्रकरणों पर विचार किया गया। इसमें से 216 प्रकरण अभियोजन से वापस लिए जाने की अनुशंसा समिति की ओर से की गई। इसी प्रकार 169 प्रकरण धारा 265 ए दंड प्रक्रिया सहिता के तहत अभिवाक् सौदेबाजी (प्ली ऑफ बारगेनिंग) के माध्यम से न्यायालय से निराकरण के लिए अनुशंसा की गई। बैठक में समिति के सदस्य एवं महाधिवक्ता छत्तीसगढ़ शासन सतीशचन्द्र वर्मा, अपर मुख्य सचिव गृह सुब्रत साहू, पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी, सचिव गृह विभाग एडी गौतम, महानिदेशक जेल एवं सुधारात्मक सेवाएं संजय पिल्लै, संचालक लोक अभियोजन प्रदीप गुप्ता, पुलिस महानिदेशक रेंज बस्तर सुंदरराज पी, उप पुलिस महानिरीक्षक सीआईडी एससी द्विवेदी, उप पुलिस महानिरीक्षक कांकेर डॉ. संजीव शुक्ला उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि पूर्व में अक्टूबर 2019 और मार्च 2020 में समिति की ओर से उक्त आठों जिलों के अनुसूचित जनजाति वर्ग के रहवासियों के विरुद्ध दर्ज कुल 404 प्रकरणों को अभियोजन से वापस लिए जाने और 81 प्रकरण धारा 265 ए दंड प्रक्रिया संहिता के तहत अभिवाक् सौदेबाजी (प्ली ऑफ बारगेनिंग) के माध्यम से न्यायालय से निराकरण के लिए अनुशंसा की गई थी। इस प्रकार अब तक अनुसूचित जनजाति वर्ग के रहवासियों के विरूद्ध दर्ज कुल 620 प्रकरणों को अभियोजन से वापस लिए जाने और 250 प्रकरण धारा 265 ए दंड प्रक्रिया संहिता के तहत अभिवाक् सौदेबाजी (प्ली ऑफ बारगेनिंग) के माध्यम से न्यायालय से निराकरण के लिए अनुशंसा की जा चुकी है।

परिवार से अंतिम संस्कार का अधिकार तक छीन लेना, ये कैसी क्रूरता है? - फूलो देवी नेताम

जगदलपुर:-राज्य सभा सांसद एवं महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलो देवी नेताम ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के इस्तीफे की मांग करते हुये कहा है कि सुबह-सुबह ढाई बजे, जिस तरह से उत्तर प्रदेश की सरकार ने हाथरस की बेटी के साथ अन्याय किया है उसे देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री से इस्तीफा प्रधानमंत्री को मांगना चाहिए।

राज्य सभा सांसद एवं महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलो देवी नेताम ने कहा है कि उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री का ट्वीट आया, उन्होंने एसआईटी का गठन किया। क्या इस एसआईटी के पास वो पावर है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को बुलाया जाए ? आज अपराधियों की गिरफ्तारी तो हुई लेकिन अब मुख्यमंत्री को एसआईटी के सामने जवाब देना चाहिए कि जिस बच्ची का इस तरह से बलात्कार हुआ, जिसकी रीढ़ की हड्डी टूटी, जिसकी जीभ को काट कर फेंक दिया गया,उस बच्ची को पहले डिस्ट्रिक्ट अस्पताल में रखा,उसको फिर अलीगढ़ के एक अस्पताल में रखा। 8 दिन एक नार्मल वार्ड में रखा और सफदरजंग अस्पताल तब पहुंचाया जब उसका अंतिम वक्त आ चुका था। बलात्कारियों की जांच एसआईटी करेगी, पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री की इस निर्दयता और मुख्यमंत्री के इस षड़यंत्र की जांच कौन करेगा, प्रधानमंत्री को जवाब देना चाहिये ?

राज्य सभा सांसद एवं महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलो देवी नेताम ने कहा है कि सुशासन की बात करने वाले मुख्यमंत्री के रहते, जैसे आज एक बच्ची का क्रियाकर्म किया गया किसी रीति रिवाज को नहीं माना गया, ढाई बजे रात को जिस तरह से किया गया। भाजपा की उत्तर प्रदेश की सरकार क्या छुपा रही हैं? आपकी नाकामी आज साबित नहीं हुई, जबसे आप मुख्यमंत्री के पद पर बैठे हैं, तब से आपकी नाकामी बार-बार साबित हुई है, पर जो कल या आज सुबह हाथरस की बेटी के साथ किया गया, आपने हर हद को पार किया, हर सीमा को पार किया।

प्रदेश महिला कांग्रेस मांग करती है कि एक ही तरीका है इस मामले में न्याय करने का कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी को नैतिकता के आधार पर अपनी गद्दी छोड़नी चाहिए। नरेन्द्र मोदी जी का नारा था बेटी बचाओ पर आज देश के बेटियाँ असुरक्षित है और आप इस पर मौन है।

मीडिया पत्रकार से दुर्व्यवहार करने वाले थाना प्रभारी के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग

मदन खांडेकर

बिलाईगढ़ ब्लॉक के अंतर्गत सभी थानाओं और चौकी से सम्बन्धित खबरों का आगामी बैठक तक बहिष्कार

गिधौरी/ बिलाईगढ़ ब्लॉक के सभी पत्रकारों का अतिआवश्यक बैठक 30 सितंबर को भटगांव रेस्ट हाउस में सम्पन्न हुआ। वही बैठक में कई मुख्य बातों पर चर्चा हुई ,साथ ही साथ बिलाईगढ़ ब्लॉक में हो रहे है जुआ,सट्टा,अवैध शराब की बिक्री जैसे गतिविधियों पर थाना प्रभारियों द्वारा कोई कार्यवाही नही करने जैसे मुद्दों पर भी चर्चा हुई। आपको बतला दें कि विगत दिवस भटगांव के थाना प्रभारी जितेंद्र कोसले ने मीडिया पत्रकार राजू निराला द्वारा खबरों को लेकर अपराधी जैसे दुर्व्यवहार किया था और पूछताछ के नाम पर उन्हें एक अपराधी की तरह एसपी कार्यालय बलौदाबाजार लेे जाया जा रहा था जिससे पूरे पत्रकार जगत के मान सम्मान को ठेस पहुंची है। जबकि उनके खिलाफ किसी प्रकार का कोई एफ आई आर दर्ज नही हुआ था, कानूनन कोई पुलिस किसी का बयान तभी लेे सकती है जब उनके पास लिखित में शिकायत पहुंची हो लेकिन उक्त थाना प्रभारी ने बल पूर्वक पत्रकार को एस पी ने बुलाया है करके अपनी निजी वाहन से बलौदाबाजार ले जा रहा था और जैसे ही टूण्डरी नाका से पहले उनके मोबाईल पर किसी का काल आया जिसके बाद उसे भटगांव थाना वापस लाया और एक अपराधी की तरह बयान लेकर हस्ताक्षर कराया गया जिसकी ब्लॉक के पत्रकारों ने इस घटना की निन्दा करते हुए उक्त थाना प्रभारी को बर्खास्त करने और उन पर कार्यवाही करने की मांग की है और ब्लॉक के समस्त पत्रकारों ने शासन प्रशासन से अपील करते हुए कहा कि इसकी जांच कर भटगांव थानेदार सहित इस घटनाक्रम में शामिल सभी आरोपियों के प्रति कड़ी कार्यवाही हो। इस घटना का चारों ओर विरोध हो रहा है कि संविधान के चौथे स्तम्भ को भटगांव थाना प्रभारी द्वारा दबाने का कार्य किया है जिन पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो। साथ ही भटगांव के थाना प्रभारी जितेंद्र कोसले के द्वारा पत्रकारों के साथ अक्सर दुर्व्यवहार करने की शिकायते भी मिलती रही है।

वहीं इसके पूर्व भी पत्रकारों के साथ इस प्रकार की घटना हो चुकी है और थाना प्रभारियों मनमाने रैवये पर एसपी की गाज गिरा था और कार्यवाही भी हुआ है । यदि एसपी द्वारा इस प्रकार पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार करने वाले थाना प्रभारी पर कार्यवाही नहीं किया गया तो संघ ने पुलिस के उच्च अधिकारियों के पास उसके खिलाफ कार्यवाही करने का मांग करेंगे।

जिसके मद्देनजर बैठक में सभी पत्रकारो ने प्रस्ताव पारित किए हैं कि आगामी बैठक तक कार्यवाही नहीं होने तक बिलाईगढ़ ब्लॉक के सभी थानों की खबरों का प्रकाशन नहीं किया जाएगा। इस अवसर पर पत्रकारों में मुख्यतः योगेश शर्मा,इस्माईल खान,नीलकांत खटकर,रूपेश श्रीवास,रघुनाथ साहू,बसंत सोनी,दरस राम टंडन,दसरथ साहू,राहुल पांडे,डगेश खटकर,रमेश साहू,,शांति देवांगन,सहदेव सिंह सिदार,दसरथ साहू,संदीप पटेल,झगेन्द्र साहू,कमलेश पटेल,भागवत साहू,विजय सोनी,कार्तिक जायसवाल,खोझन प्रसाद,गनपत बंजारे,किशन श्रीवास,अखिल मानिकपुरी,,योगेश केशरवानी,राजू निराला,संजय कुमार यादव,वेदभूषण स्नेही,अभिषेख चौहान,श्याम सुंदर,अखिलेश रॉय, प्रदीप देवांगन,वेदप्रकाश विश्वकर्मा,वीरेंद्र साहू,मानसाय साहू,मनीष कुमार चेलक,खिलेंद्र कुमार साहू,लकेश्वर साहू,सुनील यादव,राम कुमार चंद्रा,सेतकुमार नायक,,सतीश रात्रे,उमाशंकर धीवर,के पी पटेल, लक्की साहू सहित बिलाईगढ़ अंचल के सभी पत्रकार और मीडिया साथी उपस्थित रहे।

कोरबा ज़िले के मेडिकल टीम ने कोरोना संक्रमित महिला का कराया सुरक्षित प्रसव, जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ्य

कोरबा:-जिले के एक कोविड अस्पताल में गुरुवार को कोरोना संक्रमित महिला ने स्वस्थ बालक को जन्म दिया है। कोरोना महामारी के दौर में ईएसआईसी कोविड अस्पताल में मेडिकल टीम ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। कोविड अस्पताल के डाक्टरों ने कोरोना संक्रमित महिला का सुरक्षित प्रसव कराया है। प्रसव के बाद जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ्य हैं। मेडिकल टीम की ओर से नवजात शिशु की देखभाल की जा रही है तथा महिला का कोरोना इलाज जारी है। ईएसआईसी कोविड अस्पताल कोरबा में किसी कोरोना संक्रमित महिला का प्रसव का पहला मामला है। कलेक्टर किरण कौशल ने शिशुवती माता को बधाई दी और कोविड अस्पताल के पूरे मेडिकल स्टाफ की तारीफ कर हौसला बढ़ाया है।

कलेक्टर ने कहा कि गर्भवती महिला के कोविड-19 संक्रमित होने के कारण सुरक्षित प्रसव कराना चुनौतीपूर्ण कार्य था जिसे डाक्टरों की टीम ने अच्छे ढंग से पूर्ण किया। कलेक्टर ने कहा कि जिले में बनाए गए कोविड अस्पताल में इलाज कराने वाले मरीज लगातार ठीक हो रहे हैं। कोविड अस्पताल में कुशल डाक्टरों और नर्सों की मेडिकल टीम की ड्यूटी लगाई गई है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बीबी बोर्डे ने बताया कि 24 वर्षीय रजगामार निवासी गर्भवती महिला ऐ-सिम्प्टोमेटिक कोरोना पॉजिटिव है। महिला का इलाज होम आइसोलेशन में रखकर किया जा रहा था। प्रसव पीड़ा शुरू होने पर आज ईएसआईसी कोरबा में भर्ती कराया गया जहां उनका सफलतापूर्वक प्रसव कराया।

कृषि सुधार बिल के विरोध में विधायक दल की बैठक 5 बजे, विधानसभा के विशेष सत्र पर चर्चा

रायपुर:-कृषि सुधार बिल के विरोध में गुरुवार शाम पांच बजे विधायक दल की बैठक होगी। बैठक में सीएम भूपेश बघेल और पीसीसी चीफ मोहन मरकाम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए शामिल होंगे। बैठक में कृषि सुधार बिल के विरोध को लेकर नई रणनीति तय की जाएगी। शुक्रवार कांग्रेस कार्यकर्ता किसानों के बीच पहुंचकर रायपुर में आयोजित होने वाली किसान सम्मेलन पर चर्चा करेंगे। कृषि बिल के लिए विधानसभा के विशेष सत्र पर चर्चा की जाएगी।

भूपेश सरकार ने 5 अधिकारियों की वेतन वृद्धि रोकी,आवंटित राशि का निर्धारित समय-सीमा में आहरण नहीं करने का मामला

रायपुर:-राज्य शासन ने पांच अधिकारियों पर एक-एक इंक्रीमेंट रोकाने की कार्रवाई की है। सरकार ने बंधक श्रमिक पुनर्वास के लिए वित्तीय वर्ष 2018 -2019 के लिए आवंटित राशि को निर्धारित समय- सीमा में आहरित नहीं करने पर यह कार्रवाई की है। श्रमायुक्त कार्यालय से इस आशय का पत्र संबंधितों को भेज दिया है। उल्लेखनीय है कि भारत सरकार श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के निर्देश और श्रम आयुक्त रायपुर के आदेश पर बंधक श्रमिक पुनर्वास कोष के गठन के लिए 7 जुलाई 2018 को सहायक श्रम आयुक्त कार्यालय रायपुर व रायगढ़ और श्रम पदाधिकारी कार्यालय जगदलपुर, बलौदाबाजार,महासमुंद जिले को 10-10 लाख रुपए की राशि आवंटित की गई थी।

इन कार्यालयों की ओर से आवंटित राशि निर्धारित समय अवधि में आहरित नहीं की गई। इसके कारण वह राशि लैप्स हो गई। संबंधित जिलों में बंधक श्रमिक पुनर्वास कोष का गठन नहीं किया जा सका। इन जिलों के अधिकारियों की लापरवाही को राज्य शासन ने गंभीरता से लिया है। सरकार ने सहायक श्रमायुक्त जिला रायगढ़ विकास सरोदे, रायपुर जिले के तत्कालीन प्रभारी सहायक श्रमायुक्त शोएब काजी,जगदलपुर और बलोदा बाजार जिले के श्रम पदाधिकारी क्रमश: बीएस बरिहा और तेजेश चंद्राकर और महासमुंद जिले के सहायक श्रम पदाधिकारी घनश्याम पाणिग्रही की एक-एक इंक्रीमेंट रोकने के निर्देश दिए गए हैं।

भूपेश नगरीय क्षेत्रों के स्लम इलाकों में चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने की कछुआ चाल से नाराज, तेजी लाने दिए निर्देश

रायपुर:-मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को अपने निवास कार्यालय में राज्य के नगरीय इलाकों में मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के क्रियांवयन की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने नगरीय क्षेत्रों के स्लम इलाकों में नागरिकों को चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने में नगरीय प्रशासन एवं श्रम विभाग द्वारा बरती जा रही उदासीनता को लेकर नाराजगी जताई। उन्होंने नगरीय प्रशासन विभाग और श्रम विभाग को इस योजना के क्रियांवयन में तेजी लाने और जरुरतमंद लोगों को स्वास्थ सुविधा का लाभ दिलाने के निर्देश दिए।मुख्यमंत्री ने समीक्षा बैठक के दौरान स्लम इलाकों में नियमित रूप से घर पहुंच स्वास्थ्य सेवा के लिए मोबाइल मेडिकल यूनिट शुरू किए जाने की स्थिति की भी समीक्षा की। गौरतलब है कि राज्य के 14 नगर निगम क्षेत्रों के स्लम इलाकों में 60 मोबाइल मेडिकल यूनिट के संचालन के लिए 55 लाख रुपए का प्रावधान किया गया है।

मुख्यमंत्री बघेल ने नगरीय प्रशासन विभाग के सचिव को इस संबंध में आज ही सभी नगरीय निकायों से चर्चा करने और मोबाइल मेडिकल यूनिट सेवा का शीघ्र संचालन शुरू करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि स्लम इलाके के लोगों के स्वास्थ्य की नियमित रूप से जांच की जानी चाहिए। आवश्यकता अनुसार उन्हें उपचार और निशुल्क दवाएं दी जानी चाहिए।मुख्यमंत्री के निर्देश के परिपालन में नगरीय प्रशासन विभाग के सचिव ने राज्य के सभी नगरीय निकायों के अधिकारियों की वर्चुअल बैठक लेकर मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना के क्रियांवयन की जानकारी ली। इसमें निरंतरता और तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मोबाइल मेडिकल यूनिट के माध्यम से स्लम इलाकों में एमबीबीएस डॉक्टर के जरिए चिकित्सकीय परामर्श, पैथोलॉजी जांच, मुफ्त दवाएं, विशेष इलाज के लिए शासकीय अस्पताल में रेफरल आधारित फ्री एंबुलेंस और फ्री रेडियोलॉजी आदि की सुविधाएं लोगों को उपलब्ध कराई जाएंगी। बैठक में मुख्य सचिव आरपी मंडल मुख्यमंत्री के अपर सचिव सुब्रत साहू सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

नवागढ़ थाना क्षेत्र के पोड़ी गांव के खेत में काम करने के दौरान करंट की चपेट में आने से किसान की मौत, परिजनों ने शव सड़क पर रख कर की कार्यवाही की मांग

जांजगीर-चांपा:-जिले नवागढ़ थाना क्षेत्र के पोड़ी गांव में सोमवार शाम खेत में काम करने के दौरान करंट लगने से किसान की मौत हो गई थी। जिसके बाद परिजनों ने मृतक के शव को सड़क पर रखकर प्रदर्शन किया और आरोपी की गिरफ्तारी की मांग की। घंटे भर प्रदर्शन के बाद नवागढ़ पुलिस और प्रशासनिक टीम के जांच और कार्यवाही के आश्वासन पर परिजन माने जिसके बाद मृतक का अंतिम संस्कार किया गया।

नवागढ़ थाना प्रभारी प्रशिक्षु डीएसपी परमेश्वर तिलकवार ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि नवागढ़ थाना क्षेत्र के पोड़ी गांव में बीते 28 सितंबर को किसान आकाशदीप मनहर दोपहर मे खेत जाने निकले, लेकिन शाम तक घर वापस नही लौटे। परिजनों ने जब खोजबीन की तो आकाशदीप की लाश खेत मे पड़ी मिली। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच में पाया कि आकाशदीप की मौत गौठान की फेंसिग पर टूट कर गिरे तार की वजह से फैले करंट की चपेट मे आने से हुई है।

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने आस पास करंट चेक करवाया और लाईट काटी गई पुलिस को पास ही एक गाय भी मृत अवस्था मे मिली। परिजनों का आरोप है कि किसान संतोष साहू ने अवैध तरीके से अपने खेत तक बिजली पहुंचाने खुले तार का उपयोग किया है उसने लापरवाही की है जिसकी वजह से आकाशदीप की मौत हुई है परिजनों का कहना है कि लापरवाही के लिए किसान संतोष साहू पर कार्यवाई होनी चाहिए, पुलिस ने जांच के बाद कार्यवाई का आश्वासन परिजनों को दिया है।

योगीराज उत्तर प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं ,बेटी सुरक्षा में योगी आदित्यनाथ फेल दे इस्तीफा- पूनम पांडे प्रदेश महासचिव महिला कांग्रेस छत्तीसगढ़

रायपुर:-योगी सरकार को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए उनको शर्म आनी चाहिए कि उनके राज में बहू बेटियों के साथ इस तरह का व्यवहार होता है। वाह योगी सरकार आपने दस लाख उस पीड़ित परिवार को दे दिया तो क्या उनका दर्द कम हो गया ।उनकी बेटी वापस आ गई आपके राज में उन दरिंदों ने मिलकर उसके साथ जो घिनौनी हरकत किया रेप के बाद उसकी जीभ काटना, उसकी गले की हड्डी तोड़ ना ,आप समझ सकते हैं क्या योगी जी उसका दर्द उस मासूम को कितना रहा होगा हॉस्पिटल में 14 दिन तिल तिल कर के हमारी देश बेटी मनीषा मरी है, योगी सरकार जी कुछ तो शर्म करिए अगर आपको उस बेटी का दर्द का एहसास भी होता और अगर वह बेटी आपके घर की कोई होती तो योगी जी मैं कहती हूं कि आप तत्काल भरे चौराहे में उन गुनाहगारो गर्दन काट देते हैं,उनको फांसी में लटका देते।क्योंकि दर्द का एहसास उन्ही को होता है योगी जी जिनके ऊपर यह गुजरता है।

बलौदाबाजार:कोविड हॉस्पिटल में इलाज करा रहे एक आरोपी कैदी फरार, कोतवाली पुलिस मामले की जांच में जुटी

बलौदाबाजार:-कोविड हॉस्पिटल में इलाज करा रहे एक आरोपी कैदी फरार हो गया है, यह कैदी जेल में कोरोना संक्रमित हो गया था, जिसे संक्रमित होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। कैदी का नाम रज्जाक खान है। यह कैदी नाम का फायदा उठाकर फरार होने सफल हुआ है, दरअसल यहां एक ही नाम के दो कोरोना मरीज भर्ती थे, बस इसी बात का फायदा उठाकर कैदी फरार हो गया। फिलहाल कोतवाली पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

प्रदेश भाजपा पदाधिकारियों की घोषणा, शिवरतन शर्मा होंगे उपाध्यक्ष, तो गौरीशंकर अग्रवाल बनाए गए कोष

छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने बीजेपी के राष्ट्रीय नेतृत्व की सहमति से प्रदेश पदाधिकारियों की घोषणा की है रायपुर। भारतीय जनता पार्टी छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने बीजेपी के राष्ट्रीय नेतृत्व की सहमति से प्रदेश पदाधिकारियों की घोषणा की है. जिसमें नवनियुक्त प्रदेश पदाधिकारियों और प्रदेश कार्यसमिति सदस्यों के नाम शामिल है. प्रदेश पदाधिकारी में 23 नेताओं को जगह मिली है. जिसके अध्यक्ष विष्णुदेव साय और उपाध्यक्ष शिवरतन शर्मा बनाए गए हैं. प्रदेश महामंत्री (संगठन) पवन साय बने है. नलीनेश ठोकने मीडिया प्रभारी बनाये गए है. प्रदेश कार्यसमिति सदस्य में रमन सिंह, बृजमोहन अग्रवाल, सरोज पांडे, रामविचार नेताम समेत 40 नेताओं को अलग-अलग जिले में जगह मिली है. प्रदेश विशेष आमंत्रित सदस्य में 36 नेताओं को जिम्मेदारी दी गई है. प्रदेश स्थाई आमंत्रित सदस्य में 83 नेताओं को जगह मिली है।

नशीले पदार्थों के अवैध कारोबार मामले में लापरवाही बरतने वाले 2 टीआई लाईन अटैच, 1 SI और 1 ASI पर भी हुई कार्यवाही

सरगुजा:-सरगुजा आई जी रतन लाल डांगी ने नशीले पदार्थों के अवैध कारोबार के लगातार मामले सामने आने के बाद लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की है। सरगुजा कप्तान टी आर कोशिमा की रिपोर्ट मिलने के बाद आईजी ने रेंज मुख्यालय के दो टीआई को लाइन अटैच किया है। आईजी ने आदेश जारी कर कोतवाली टीआई आलक्ष्मी राम और गांधीनगर टीआई राहुल तिवारी को लाईन अटैच कर दिया है। जबकि गांधीनगर में ही पदस्थ ASI बृजकिशोर पांडेय और कोतवाली में पदस्थ ASI धनंजय पाठक को जशपुर ज़िला अटैच कर दिया गया है।

कोरिया को मिली एडवांस लाइफ सपोर्ट सिस्टम एम्बुलेंस की सौगात,अम्बिका सिंहदेव ने दिखाई हरी झंडी

कोरिया:-संसदीय सचिव व बैकुंठपुर विधायक अम्बिका सिंहदेव तथा कलेक्टर एसएन राठौर ने मंगलवार को बैकुंठपुर स्थित मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के कार्यालय परिसर में अत्याधुनिक जीवन रक्षक उपकरणों से सुसज्जित एम्बुलेंस 108 को हरी झंडी दिखाकर जनता की सेवा में समर्पित किया। कोविड-19 कोरोना वायरस के इस संक्रमण के दौर में कोरिया जिले में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार करते हुए जिलेवासियों को नई एडवांस लाइफ सिस्टम वाली एम्बुलेंस 108 की सौगात मिली है। इस अवसर पर विधायक सिंहदेव ने कहा कि नई एडवांस लाइफ सपोर्ट सिस्टम एम्बुलेंस दिए जाने से आपातकालीन परिस्थितियों में लोगों को और बेहतर सुविधाएं मिल पाएंगी। कलेक्टर राठौर ने कहा कि एडवांस लाइफ सपोर्ट सिस्टम से सुसज्जित यह एम्बुलेंस क्रिटिकल मरीजों के लिए अत्याधिक सहायक सिद्ध होगी।

यह जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। इस अवसर पर सीएमएचओ ने एम्बुलेंस की जानकारी देते हुए बताया कि यह एडवांस एम्बुलेंस वेन्टीलेटर, आक्सीजन, कार्डिकयक मॉनिटर, प्लस आक्सिमिटर जैसे अत्याधुनिक जीवन रक्षक उपकरणों से सुसज्जित वातानुकूलित एम्बुलेंस है। किसी भी क्रिटिकल परिस्थिति में मरीज को हॉस्पिटल लाने के दौरान उनकी जान बचाने में यह एम्बुलेंस अत्यंत सहायक सिद्ध होगी। एम्बुलेन्स में 2 ट्रेंड ईएमटी और पायलट का स्टाफ 24 घंटे अपनी ड्यूटी देंगे। आज विश्व हृदय दिवस मनाया जा रहा है। इस मौके पर बैकुंठपुर विधायक सिंहदेव एवं कलेक्टर राठौर ने जिले के सभी लोगों से स्वस्थ जीवनशैली अपनाने की अपील की है। साथ ही उन्होंने सभी जिलेवासियों से कोरोना संक्रमण से बचाव के उपायों का पालन करने की भी अपील की है। इस अवसर पर जिला स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

जांजगीर चाँपा कलेक्टर ने कहा,पॉजिटिव मरीजों की जानकारी भरने में सावधानी रखें,मोबाइल रक्षा एप डाउनलोड करवाने में मदद मिलेगी

जांजगीर चांपा:-कलेक्टर यशवंत कुमार ने मंगलवार को जिला स्तरीय कोविड-19 कोर कमेटी की बैठक ली। इसमें उन्होंने कहा कि कोरोना जांच में पाजिटिव मरीजों की संपूर्ण जानकारी भरने में सावधानी रखें। विशेषकर होम आइसोलशन वाले मरीजों से संपर्क के लिए मोबाइल नंबर की एंट्री सही होनी चाहिए। संबंधित डाक्टर फोन के माध्यम से स्वास्थ संबंधी जानकारी ले सकेंगे। इसके अलावा मोबाइल रक्षा एप डाउनलोड करवाने में भी मदद मिलेगी। कलेक्टर ने कहा कि कोरोना जांच में धनात्मक पाए गए मरीजों की जानकरी उसी दिन निर्धारित पोर्टल में दर्ज करें। इससे राज्य स्तरीय नियंत्रण कक्ष को अद्यतन जानकारी तत्काल उपलब्ध हो जाए। पुलिस अधीक्षक पारूल माथुर ने कोविड केयर सेंटर्स के सुरक्षा प्रबंध एवं होमआइसोलेशन के मरीजों के मोबाइल फोन पर डाउनलोड करवाने के संबंध में जानकारी दी। जिला पंचायत सीईओ तीर्थराज अग्रवाल ने धनात्मक पाए गए मरीजो डाटाएंट्री के संबंध में बताया। जिला स्वास्थ अधिकारी डाॅ पुष्पेन्द्र लहरे ने बताया जिले में 709 मरीज होम आइसोलेशन में है। संबंधित डाॅक्टर प्रतिदिन फोन करके मरीजों से आक्सीजन लेवल, फिवर आदि की जानकारी चेकलिस्ट के अनुसार प्राप्त कर रहे हैं एवं परामर्श भी दिया जा रहा है। बैठक में कोविड सेंटर्स में उपलब्ध सुविधाओं के संबंध में चर्चा की गई।