छत्तीसगढ़

पूर्व मंत्री महेश गागड़ा पंहुचे बाढ़ प्रभावितों के बीच,राहत सामग्री बांटने के साथ हर संभब मदद का दिया भरोसा

बीजापुर:-बीजापुर जिले के पूर्व विधायक व पूर्व मंत्री महेश गागड़ा गुरुवार को जिले के भोपालपटनम विकासखंड बाढ़ प्रभावित क्षेत्र पामगल,कोमटपल्ली, मिनकापल्ली,उसकालेड, कोंगुपल्ली, कोत्तापल्ली के दौरे पर थे।क्षेत्र के ग्रामीण,युवा एवम् बुजुर्गों में पूर्व मंत्री महेश गागड़ा को अपने बीच पाकर हर्ष एवं उत्साह देखने को मिला। वहीं क्षेत्र की जनता युवा, बुजुर्ग व महिलाओं ने पूर्व मंत्री महेश गागड़ा का गरिमामय व जोशीला अंदाज से स्वागत किया।ग्रामीणों से मिलने के बाद क्षेत्र के जननायक महेश गागड़ा कोमटपल्ली के दीवानराज मंदिर,पामगल के चिन्नाराज मंदिर तथा पातरपारा के शिव मंदिर का दर्शन कर क्षेत्र की खुशहाली व शांति के लिए प्रार्थना की।क्षेत्र की जनता को नवाखानी( कोत्तलपंडुम) की शुभकामनाएं दी।महेश गागड़ा के साथ भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार उपस्थित थे।विगत दिनों आई बाढ़ से प्रभाभित हुए खेतों व जर्जर मकानों का जायजा लिया।महेश गागड़ा ने बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री बांटने के साथ बाढ़ से हुई क्षति का पर्याप्त एवं उचित मुआवजा हेतु जिला प्रशासन व शासन स्तर पर मांग रखने की बात कही।पूर्व मंत्री महेश गागड़ा के समक्ष किसानों का दर्द छलका और जनता ने भाजपा शासन काल के समय हुई विकास कार्यों को याद किया।वहीं पूर्व मंत्री महेश गागडा ने क्षेत्र की जनता एवम् बाढ़ पीड़ितों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि । मैं हमेशा आप लोगों के सेवा के लिए तत्पर हूं और हमेशा रहूंगा।विगत दो माह से लगातार क्षेत्र में बाढ़ आपदा से पीड़ित जनता की सेवा में लगे पूर्व मंत्री क्षेत्र के पूर्व विधायक गागड़ा को क्षेत्र की जनता ने एक सच्चे जन नायक के रूप में निरूपित किया ।

प्रदेश में 19781 लोग कोरोना से बीमार, आज मिले 1688 केस,19 मरीजों की मौत

रायपुर:-छत्तीसगढ़ में शुक्रवार को 1688 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। राहत की बात है कि, 658 मरीजों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया है, लेकिन 19 मरीजों की मौत हुई है। आज रायपुर जिले से 567 मरीजों की पहचान हुई है। इसी तरह बिलासपुर से 268, दुर्ग से 165, कबीरधाम व रायगढ़ से 82-82, बालोद से 78, जांजगीर-चांपा से 72, राजनांदगांव से 70, जशपुर से 45, धमतरी से 38, सरगुजा से 35, महासमुंद से 34, गरियाबंद व नारायणपुर से 24, बस्तर से 23, कोण्डागांव से 19, बलरामपुर से 14, बेमेतरा व कोरबा से 12-12, कोरिया से 09, बीजापुर से 08, बलौदाबाजार से 03, अन्य राज्य से 04 मरीज मिले है। प्रदेश में 39723 मरीजों की अब तक पहचान हो चुकी है। इनमें 19608 मरीजों को डिस्चार्ज किया जा चुका है। मौत का आंकड़ा 334 पहुंच चुका है। प्रदेश में एक्टिव केस 19781 हो चुके हैं।

आईटीआई भवन कोविड-19 अस्पताल के लिए अधिग्रहित, जिला दण्डाधिकारी ने जारी किया आदेश

जांजगीर चांपा:-कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी यशवंत कुमार ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के प्रावधानों के तहत महुदा के औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था भवन को कोविड-19 अस्पताल संचालन के लिए अधिग्रहित करने का आदेश जारी किया है। जारी आदेश मे कहा गया है कि जांजगीर-चांपा जिले में कोराना वायरस के संक्रमण के रोकथाम एवं बचाव तथा संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए आईटीआई भवन का अधिग्रहण किया गया है। औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान का अस्थाई संचालन महुदा के शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला भवन से किया जाएगा।

शादी का झांसा देकर नाबालिग को ले गया भगाकर, छह माह बाद पकड़ा गया

जांजगीर चांपा:-नाबालिग का अपहरण कर दैहिक शोषण करने वाले युवक को पुलिस ने धरदबोचा। मामला जिले के डभरा थाना क्षेत्र के ग्राम भजपुर का है। यहां प्रार्थी हरिशंकर सिदार रिपोर्ट दर्ज कराई की उसकी नाबालिग भांजी 17 मार्च से घर से गायब है। थाना डभरा में अज्ञात आरोपी के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया था। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस अपहृता व अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर रही थी। साइबर सेल जांजगीर से प्राप्त काल डिटेल के आधार पर अपहृता का पता तलाश में 2 सितंबर को मनोहर चौहान उम्र 25 वर्ष निवासी संडा थाना बरमकेला के घर से नाबालिग लड़की को बरामद किया गया। नाबालिग लड़की को 6 माह बाद बरामद किया गया। आरोपी मनोहर चौहान द्वारा नाबालिग युवती से शादी का झांसा देकर 6 माह तक दैहिक शोषण करता रहा। आरोपी मनोहर चौहान विभिन्न धाराओं कक तहत गिरफ्तारी कर न्यायालय में पेश किया गया, जहाँ आरोपी को न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा गया।

महिला से छेड़छाड़ करने वाला आरोपी गिरफ्तार

जांजगीर चांपा:-महिला से छेड़छाड़ करने वाले युवक को पुलिस ने गिरफ्तार किया। 30 अगस्त को पीड़िता ने लिखित रिपोर्ट दर्ज कराई कि 29 अगस्त को शौच से लौटते समय ग्राम तेन्दुमुडी के अर्जुन दिव्या ने रास्ते में हाथ पकड़कर छेड़खानी किया। पीड़िता की रिपोर्ट पर थाना डभरा में छेड़छाड़ करने वाले आरोपी के विरुद्ध अपराध कायम कर विवेचना में लिया। डभरा थाना टीआई जितेंद्र बंजारे द्वारा आरोपी को गिरफ्तार करने टीम बनाई गईं। पुलिस टीम को जब पता चला की आरोपी घर में है तब तत्काल गांव पहुँचकर आरोपी अर्जुन दिव्या उम्र 32 वर्ष को शुक्रवार को गिरफ्तार किया। आरोपी अर्जुन दिब्या को न्यायिक अभिरक्षा में जेएमएफसी न्यायालय डभरा में पेश किया गया।

स्वास्थ्य विभाग ने किया तय : प्रदेश में रोजाना 22 हजार सैंपल कलेक्शन और जांच का लक्ष्य, रायपुर में करीब 2500

रायपुर:-स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश में प्रतिदिन 22 हजार सैंपल कलेक्शन और जांच का लक्ष्य रखा है। कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण के लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच के लिए सभी जिलों के लिए लक्ष्य तय किए गए हैं। आरटीपीसीआर और ट्रू-नाट मशीन से जांच के लिए सभी जिलों में सैंपल संकलित किए जा रहे हैं। रैपिड एंटीजन किट से भी सभी जिलों में कोरोना संक्रमण के संभावित मरीजों की जांच की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को परिपत्र जारी कर प्रतिदिन तय लक्ष्य के अनुसार सैंपल कलेक्शन और जांच तय करने के निर्देश दिए हैं। विभाग ने जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में रैपिड एंटीजन किट से जांच के भी निर्देश दिए हैं। आरटीपीसीआर और टू-नाट विधि से जांच के लिए सैंपल कलेक्शन के लिए प्रशिक्षित स्टॉफ नर्स, एएनएम, एमपीडब्लू. फॉर्मासिस्ट, नेत्र सहायक, दंत सहायक इत्यादि की सहायता लेने कहा गया है।

स्वास्थ्य विभाग ने रोजाना रायपुर जिले के लिए 2440, गरियाबंद के लिए 500, धमतरी, महासमुंद, कबीरधाम और बालोद के लिए 630-630, दुर्ग के लिए 1510, बेमेतरा के लिए 580, बलौदाबाजार-भाटापारा के लिए 670, रायगढ़ के लिए 1280, कोरबा और जांजगीर-चांपा के लिए 970-970, जशपुर के लिए 500, बस्तर, कांकेर और कोंडागांव के लिए 605-605, दंतेवाड़ा के लिए 590, सुकमा के लिए 490, नारायणपुर के लिए 480, बीजापुर के लिए 410, सूरजपुर और बलरामपुर-रामानुजगंज के लिए 530-530, कोरिया के लिए 570, सरगुजा के लिए 940, मुंगेली के लिए 600, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के लिए 350, बिलासपुर के लिए 1540 तथा राजनांदगांव के लिए 1340 सैंपल कलेक्शन एवं जांच का लक्ष्य रखा है। प्रदेश भर में प्रतिदिन आरटीपीसीआर जांच के लिए 5405 और ट्रू-नाट विधि से जांच के लिए 3520 सैंपल संकलित किए जाएंगे। वहीं रैपिड एंटीजन किट से रोज 13 हजार से अधिक सैंपलों की जांच की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने जिला अस्पतालों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, शहरी व ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के लिए भी जिला स्तर पर प्रतिदिन रैपिड एंटीजन किट से जांच के लिए लक्ष्य निर्धारित किया है।

तीन ट्रक रेती वाहन पकडाया,अवैध रेत कोट से कवर्धा के मोहगांव जा रहे थे,माईंनिंग विभाग की कार्यवाही

मदन खांडेकर

गिधौरी/टुण्डरा:-बलौदाबाजार जिले मे बेखौफ चल रहे रेत माफिया का राज खनिज विभाग की मिलीभगत से चल रहा क्षेत्र अवैध रेत का कारोबार माईनिंग विभाग ने ग्राम कोट से तीन ट्रक अवैध रेत भर कर कवर्धा मोहगांव जा रहे पकडाया ।और गिरौदपुरी चौकी सुपुर्द किया गया ।शासन के प्रतिबंध के बावजूद गिरौदपुरी क्षेत्र में रेत माफिया सक्रिय जोंक नदी कोट घाट से कवर्धा रेती ले जाते तीन ट्रक को खनिज विभाग ने पकड़ा शासन के द्वारा बरसाती चार माह 15 जून से 15 अक्टूबर तक रेत उत्खनन व परिवहन पर प्रतिबंध लगा हुआ है । इसके बावजूद क्षेत्र में सक्रिय रेत माफियाओ ने शासन के नियम कानून कायदों को दरकिनार कर बिना रायल्टी के जोंक नदी से अवैधानिक रूप से रेत उत्खनन व परिवहन करने का मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार कसडोल विकासखंड के ग्राम कोट (रा) जोंक नदी  से अवैध उत्खनन कर तीन ट्रक रेत से भरा वाहन परिवहन होते गिरौदपुरी से निकलने की आशंका पर स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा रोककर पूछताछ की गई । जिसमे ग्राम पंचायत कोट ( रा ) के घाट से जेसीबी से लोड कर कवर्धा डम्प करने की बात ड्राइवरों ने काबुल की तथा एक ट्रक की लोड  करने पर 9 हजार रुपये पेड़ करने की बात कही गई जबकि एक हाइवा रेत की निर्धारित कीमत 4 से 5 हजार रुपये है ।रेत माफिया अवैधानिक रूप से राशि वशूली कर शासन को लाखों रुपये का चूना लगाया जा रहा है । इस दरम्यान कुछ  पत्रकार भी पहुंच गए । पत्रकारों के द्वारा चौकी गिरौदपुरी ,तहसीलदार कसडोल को सूचना देने पर ब्यस्तता जाहिर कर कार्यवाही करने से पल्ला झाड़ लिया। आनन फानन में जिला खनिज विभाग के अधिकारी एम चंद्रशेखर को मोबाइल से जानकारी देने पर तत्काल सर्चिंग में तैनात अधिकारियों को निर्देशित कर ग्राम मड़वा चौक से अवैध परिवहन करते रेत से भरे ट्रक को रोक कर पुलिस चौकी गिरौदपुरी के सुपुर्द कर दिया गया । तीनो ट्रक मे सीजी 04एल सी 3241तथा सीजी 09जे सी 4359औरसीजी15ए सी 2045को जिसे खनिज अधिनियम के तहत कार्यवाही करने की बात कही गई ।इस सम्बंध में माइनिंग स्पेकटर बलौदाबाजार-भाटापारा बबलु पांडे से जानकारी पुछने पर बताया गया गिरौदपुरी में तीन गाड़ी अवैध परिवहन मिली है गिरौदपुरी में चौकी में खड़ा किया गया है।और छत्तीसगढ़ गौण खनिज अधिनियम 2015के तहत कार्यवाही की जावेगी

थाना प्रभारियों के कार्यप्रणाली पर व्हाट्सएप ग्रुप के जरिए नजर रखेंगे डीजीपी

रायपुर:-प्रदेश में बढ़ते अपराध को देखते हुए डीजीपी डीएम अवस्थी अब सीधे पुलिस मुख्यालय से भी सभी थाना प्रभारियों की कार्यप्रणाली पर नजर रखेंगे। अब सभी थाना प्रभारियों को व्हाट्सएप ग्रुप में जोड़ा जाएगा। जहां वे अपने थाने की कार्यप्रणाली, घटित अपराधों और उन पर की गई कार्रवाई की जानकारी देंगे। इस ग्रुप की मॉनिटर स्वयं डीजीपी करेंगे। डीजीपी डीएम अवस्थी ने गुरूवार को पुलिस मुख्यालय में वर्चुअल कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये थाना प्रभारियों के लिये आयोजित कार्यशाला में उक्त बातें कही। उन्होंने अपराधों पर अंकुश नहीं लगाने वाले थाना प्रभारी पर सख्त अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की बात कही। इस दौरान उन्होंने कहा कि थाने में वही आता है जो पीड़ित होता है। पुलिस का काम पीड़ित को न्याय दिलाना और दोषियों पर कार्रवाई करना है। महिला और बच्चों के विरुद्ध अपराधों पर तत्काल कार्रवाई होनी चाहिए। पुलिस थानों की कार्यप्रणाली में सुधार की आवश्यकता है। एक माह बाद थाना प्रभारियों के कामकाज की फिर से समीक्षा की जाएगी। इसके अपराधों पर नियंत्रण ना कर पाने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी और अच्छा काम करने पर थाना प्रभारियों को पुरस्कृत किया जाएगा।

बिलाईगढ़ के युवा पत्रकार पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष एवं कांग्रेस के युवा नेता “यूसुफ खान” का आकस्मिक निधन

गिधौरी /बिलाईगढ़:-युवा पत्रकार तथा कांग्रेस के युवा नेता, बिलाईगढ़ नगर पंचायत के पूर्व अध्यक्ष यूसुफ खान का आकस्मिक निधन हो गया, उनकी आकस्मिक निधन की समाचार सुनते ही क्षेत्र के लोगो मे शोक की लहर दौड़ पड़ी। बता दे कि कुछ दिनों से उनका स्वास्थ्य खराब चल रहा था। जिसके चलते वे अस्पताल में भर्ती थे।

 

मुख्य सचिव ने ली बैठक, राज्य की नदियों से जल उपलब्ध कराने के संबंध में की चर्चा

रायपुर:-मुख्य सचिव आरपी मंडल की अध्यक्षता में गुरुवार को मंत्रालय महानदी भवन में राज्य जल संसाधन उपयोग समिति की 48वीं बैठक हुई। बैठक में विभिन्न जलप्रदाय योजनाओं, विद्युत उत्पादन केन्द्रों और औद्योगिक संस्थानों को राज्य की विभिन्न नदियों से जल उपलब्ध कराने के संबंध में चर्चा की गई। बैठक में महासमुंद के सरायपाली और बसना आवर्धन जलप्रदाय योजना, राजनांदगांव के अंबागढ़ चौकी और खैरागढ़ जलप्रदाय आवर्धन योजना, बेमेतरा के बेरला जलप्रदाय आवर्धन योजना, जांजगीर-चांपा के सक्ती समूह और जांजगीरनैला आवर्धन जल प्रदाय योजना, बिलासपुर के बिल्हा, पेन्ड्रा आवर्धन जल प्रदाय योजना, मुंगेली के मुंगेली और लोरमी आवर्धन जल प्रदाय योजना, कबीरधाम के कवर्धा आवर्धन जल प्रदाय योजना, कोरिया के बैकुंठपुर आवर्धन जल प्रदाय योजना, रायपुर के बीरगांव आवर्धन जल प्रदाय योजना, कोरबा के छुरीकला और धनरास, छुरीखुर्द, चोरभट्ठी, आई.टी.आई., गोपालपुर समूह आवर्धन जल प्रदाय योजना के लिए वार्षिक आधार पर पेयजल आबंटन सहित विभिन्न औद्योगिक संस्थानों, कोल वॉशरी और विद्युत उत्पादन केन्द्रों को जल प्रदाय के संबंध में चर्चा की गई।

रायपुर के रायखेड़ा स्थित रायपुर एनर्जेन लिमिटेड, नारायणपुर और कांकेर जिले में प्रस्तावित रावघाट आयरन ओर माईनिंग प्रोजेक्ट, बिलासपुर के घुटुकू स्थित पारस पॉवर एण्ड कोल बेनीफिकेशन, दंतेवाड़ा के किरंदुल औरहिरोली के निकट प्रस्तावित आयरन ओर प्रोजेक्ट एनएमडीसी, जांजगीर चांपा के ग्राम बलौदा स्थित क्लिन कोल इंटरप्राइजेस, रायपुर के औद्योगिक विकास केन्द्र बोरई की जल प्रदाय योजना, ग्राम बहेसर के निकट प्रस्तावित एन.आर. स्पंज प्राईवेट लिमिटेड, रायगढ़ के ग्राम पाली स्थित मां काली एलॉयज उद्योग प्राईवेट लिमिटेड, ग्राम तराईमाल में स्थापित बीएस स्पंज प्राईवेट लिमिटेड, बस्तर के ग्राम घमरमुंड में प्रस्तावित जीएस एनर्जी प्राईवेट लिमिटेड, सूरजपुर के ग्राम माडर में प्रस्तावित उमा पॉवर प्रोजेक्ट्स और जांजगीर चांपा के ग्राम बिरगहनी में स्थित कोल वॉशरी हिन्द एनर्जी एण्ड कोल बेनिफिकेशन लिमिटेड को जल प्रदाय करने के संबंध में चर्चा की गई। बैठक में वित्त विभाग के अपर मुख्य सचिव अमिताभ जैन, जल संसाधन विभाग के सचिव अविनाश चम्पावत, खनिज विभाग के सचिव अन्बलगन पी., नगरीय प्रशासन विभाग की सचिव अलरमेल मंगई डी. सहित विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

अवैध रूप से महुआ शराब बिक्री करने वाला आरोपी चढ़ा सरसीवा पुलिस के हत्थे

मदन खांडेकर

आरोपी के कब्जे से 50 लीटर महुआ शराब कीमती 10,000/ रुपए जप्त

आरोपी शिवचरण रत्नाकर भेजा गया जेल

गिधौरी:-मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि आज दिनांक 03.09.2020 को जरिए मुखबीर से सूचना मिली कि ग्राम जोगेसरा का शिवचरण रत्नाकर अपने घर के बाड़ी में अवैध रूप से बिक्री करने हेतु महुआ शराब छिपाकर रखा है कि सूचना पर हमराह स्टाफ एवं गवाहन के तत्काल मौका घटना स्थल ग्राम जोगेसरा पहुंचकर घेराबंदी कर आरोपी शिवचरण रत्नाकर के द्वारा अपने घर के बाड़ी में छिपाकर रखें 50 लीटर हाथ भट्टी महुआ शराब कीमती 10,000/ रुपए को अवैध रूप से रखना पाए जाने से आरोपी को शराब रखने के संबंध मे कागजात पेश करने हेतु नोटिस दिया गया जिसके द्वारा शराब रखने/बिक्री करने संबंधी कोई वैद्य दस्तावेज पेश नहीं करने पर उक्त शराब को आरोपी शिवचरण रत्नाकर पिता जगनथिया रत्नाकर उम्र 38 वर्ष साकिन जोगेसरा थाना सरसीवा के कब्जे से समक्ष गवाहन के विधिवत जप्त किया जाकर आरोपी का कृत्य अपराध धारा 34(2) आबकारी एक्ट की घटना घटित करना पाए जाने से गिरफ्तार कर आरोपी के विरुद्ध अपराध क्रमांक 280/2020 पंजीबद्ध किया जाकर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है। उपरोक्त कार्यवाही में प्रधान आरक्षक समीर शुक्ला, आरक्षक कैलाश जांगड़े, अनिरुद्ध भगत एवं महिला आरक्षक उर्मिला एक्का का विशेष योगदान रहा है।

दुर्ग में औंचक निरीक्षण पर कोविड हॉस्पिटल पहुंचे विधायक, कलेक्टर-एसपी, भोजन किया और गुणवत्ता पर जताई संतुष्टि

दुर्ग:-कोविड केअर सेंटर की व्यवस्थाओं का जायजा लेने गुरुवार को विधायक देवेंद्र यादव, कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे,एसपी प्रशांत ठाकुर एवं निगम कमिश्नर ऋतुराज रघुवंशी औंचक निरीक्षण पर पहुंचे। सबसे पहले वे कचांदुर स्थित कोविड सेंटर गए। यहां पर उन्होंने सबसे पहले कैंटीन का निरीक्षण किया। इस समय लंच पैकेट भिजवाए जा रहे थे। खाने की गुणवत्ता का निरीक्षण करने इन सभी ने यहीं पर खाना खाया। खाने की गुणवत्ता पर संतुष्टि जताई। विधायक ने इस मौके पर कहा कि खाना और नाश्ता बिल्कुल तय समय पर पहुंचता रहे, इस सिस्टम की लगातार मोनीटरिंग करते रहें। इसमें बिल्कुल भी विलंब की गुंजाइश नहीं होनी चाहिए। इसके बाद इन्होंने सफाई व्यवस्था के बारे में जानकारी भी ली। कलेक्टर ने कहा कि हर घंटे सफाई की व्यवस्था की मॉनिटरिंग करें। इसकी जानकारी नोडल अधिकारी ऋतुराज रघुवंशी को दें। उन्होंने कहा कि पानी बिजली की व्यवस्था की सतत मॉनिटरिंग हो। जिस तरह से फीडबैक मरीजों से मिले उसके मुताबिक व्यवस्था में सुधार करने का निरंतर प्रयास करें। अस्पताल की व्यवस्था के लिए किसी भी तरह के संसाधन की जरूरत हो तो त्वरित जानकारी दें, यह सुविधा तुरंत उपलब्ध कराई जाएगी।

अस्पताल में काम कर रहे कोविड वारियर की सुरक्षा उपकरणों की व्यवस्था की जानकारी भी उन्होंने ली। उन्होंने कहा कि इसके लिए जो प्रोटोकॉल निर्धारित किये गए हैं उसी तरह से कार्य हों। कोविड वारियर को आराम देने के लिए जिस तरह से शिफ्टवार काम होता है उसी व्यवस्था के मुताबिक काम करें। विधायक एवं कलेक्टर ने शंकराचार्य कोविड केअर सेंटर का निरीक्षण भी किया। यहाँ भी उन्होंने साफ सफाई की स्थिति जानी। दोनों ही जगहों पर एड्रेस सिस्टम के प्रभावी काम करने और इससे आये फीडबैक के मुताबिक तुरंत कार्रवाई करने निर्देश दिए। यहां नोडल अधिकारी दुर्ग आयुक्त इंद्रजीत बर्मन हैं। यहां की व्यवस्था के संबंध में उन्होंने विस्तार से जानकारी दी। विधायक एवं कलेक्टर ने बुजुर्ग मरीजों के स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इनके ऑक्सीजन लेवल की जल्दी जल्दी जांच होती रहे ताकि आवश्यकता पड़ने पर ऑक्सीजन सपोर्ट उपलब्ध करा सकें। डिस्चार्ज हो चुके मरीजों को घर तक विदा करने और उन्हें भविष्य के प्रोटोकॉल भी समझाएं।

प्रदेश में आज मिले 837 कोरोना पॉजिटिव, रायपुर से 300 केस, 730 मरीज डिस्चार्ज, 13 मरीजों की मौत

रायपुर:-छत्तीसगढ़ में गुरुवार को 837 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान हुई है। आज 730 मरीजों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया है। 13 मरीजों की मौत हुई है। शाम 7 बजे की स्थिति में जारी मेडिकल बुलेटिन में यह आंकड़े सामने आए हैं। प्रदेश में आज रायपुर जिले से 300 मरीजों की पहचान हुई है। इसी तरह जांजगीर-चांपा से 112, राजनांदगांव से 92, गरियाबंद से 69, बिलासपुर से 64, महासमुंद से 53, कोरिया से 32, दुर्ग से 31, रायगढ़ से 21, धमतरी से 17, कबीरधाम से 14, बालोद से 13, बस्तर से 6, मुंगेली व सरगुजा से 04-04, अन्य राज्य से 02, बेमेतरा, बलौदाबाजार व कोण्डागांव से 01-01 मरीज मिले है। प्रदेश में 36520 मरीजों की पहचान अब तक हो चुकी है। इनमें 18950 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। 312 मरीजों की मौत अब तक हो चुकी है। प्रदेश में एक्टिव केस 17258 हैं।

करंट प्रवाहित विद्युत तार की चपेट में आने से दो भैसों की मौत

बिलासपुर:-विद्युत तार के करेंट से दो भैंसों की मौत का मामला सामने आया है। राज्य सरकार ने प्रदेश में जानवरों की सुरक्षा को लेकर रोका-छेका प्रथा लागू की है। शासकीय अमले के साथ लोग पशुओं के प्रति लापरवाह हो गये है। इसका परिणाम मेड़पार में पचास गाय मर गई। इसी तरह ग्राम पंचायतो की लापरवाही से नेशनल हाईवे बिलासपुर-रायपुर मार्ग पर आये दिन बड़ी संख्या में पशु सड़क दुघर्टना की चपेट में जाते हैं। गुरुवार को सरगांव विद्युत विभाग की लापरवाही से पेंड्री के पशुपालक शत्रुघन यादव की दो भैंस विद्युत टूटी लाइन की चपेट में आकर मर गईं। ज्ञात हो कि पेंड्री मोड से बदरा तक ठेकेदार द्वारा 11 केवी खंभे गड़ाकर लाइन बिछाने का काम लम्बे समय से किया जा रहा है। इसका तार सरगांव पेंड्री के बीच राइस मील के पास टूटा हुआ था। इसमें उधर से गई चालू लाइन का तार टच हो गया था। इस पर चारा चरने गई शत्रुघ्न यादव की दो भैंसे चपेट मे आ गई तथा घटनास्थल पर ही मर गई। इससे शत्रुघ्न को दो लाख का नुकसान हो गया। घटना की रिपोर्ट सरगांव थाने में की गई है। पशु-चिकित्सालय में डाक्टर न होने से पशुओं का पोस्टमार्टम नहीं हो पाया है। विद्युत विभाग द्वारा लाइन हैंडओवर न होने की बात कहकर पल्ला झाड़ा जा रहा है। यह तो संयोग है कि इस दुर्घटना की चपेट में ऐसे ही आईं। किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई।

रिंगनी से कुकदा को जोड़ने वाला पुल पर मूसलाधार बारिश से पुल का किनारा धसा, कभी भी हो सकता है बड़ा हादसा

रिंगनी:-ग्राम पंचायत रिंगनी से कुकदा को जोड़ने वाले पुल के किनारे पूरी तरह से धस गया है, तीन दिन से हो रही झमा झम मुसला घार बारीश से पुल के किनारे पुरी तरह से घस गया है और दो दिन से 10 फूट पुल उपर चल रहा था जो कि रविवार को दोपहर मे पुल से निचे चलने लगा तो लोगो ने पुल को पार करना चालू किया तो पुल के किनारे को देख कर सभी घबरा गया और रास्ते में डर डर कर पुल को पार करने को मजबुर हो गया है और बड़ी वाहन से पुल टूट जायेगा और अवागावन पुरी तरह से ठप पड़ जायेगा और लोगो को आने जाने में काफी परेसानी का सामना करना पड़ रहा है शानिवार की रात रिंगनी व कुकदा के बीच पड़ने वाले पुल के किनारे पूरी तरह से धस गया है पानी की बहाव इतना ज्यादा था की रोड के अन्दर भी पुरी तरह खोखला गया है और पुल की धसने से आस पास की इलाकों में हड़कंप व दहशत फैल गई है पुल के धसने से आवागमन व लोगो मे कमी आ गई है इस घटना में अभी तक किसी जानहानि की खबर नही मिली है आये दिन कुछ भी बड़ा घटना हो सकता है इसको देखकर लोगो मे काफी नाराजगी देखी जा रही है ग्रामीणों का कहना है की पुल का निर्माण लगभग 20 से 25 साल पूर्व हुआ था और यहा जांजगीर को जोडने वाला मुख्या मार्ग है लेकिन पुल बहुत छोटा है जिससे आये दिन पानी से पुल डुब जाता है जिससे आम लोगों को काफी परेशानी का समना करना पड़ता है जिसमे आज की स्थिति में पुल के ऊपर बड़े- बड़े गड्ढे हो गए हैं जिससे पुल में लगे रॉड भी दिखने लग गए है जिसमे हादसा होने की स्थिति और भी बेहद करीब है और इसकी मरम्मत के लिए शासन प्रशासन और थेकेदार गहरी नींद में सोई हुई है।