ब्रेकिंग न्यूज़

Chhattisgarh : मंत्री डॉ.डहरिया ने किया पांच नए उचित मूल्य दुकानों का शुभारंभ

नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने आरंग विकासखण्ड़ के नगरीय क्षेत्र में पांच नए शासकीय उचित मूल्य के दुकान संचालन के साथ नए भवन का लोकार्पण किया। उन्हांने आरंग नगरीय क्षेत्र में ज्योत्सना महिला स्व सहायता समूह, उज्ज्वला महिला स्व सहायता समूह, गौरी शंकर महिला स्व सहायता समूह, जय चण्डी महिला स्व सहायता समूह, हिना महिला स्व सहायता समूह के अंतर्गत संचालित होने वाले शासकीय उचित मूल्य की दुकानों का उद्घाटन किया। मंत्री डॉ.डहरिया ने उचित मूल्य की दुकानों में राशनकार्डधारियों का राशन तौलकर दुकान का शुभारंभ किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि नए उचित मूल्य की दुकानों का संचालन होने और नए भवन उपलब्ध होने से क्षेत्र के राशनकार्डधारियों को परेशानी नहीं होगी। उन्हें आसानी से राशन मिलेगा। उन्होंने स्व सहायता समूह की महिलाओं को बधाई देते हुए कहा कि कार्डधारियों को राशन उपलब्ध कराने में किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े इस बात का भी ख्याल अवश्य रखे। किसी तरह की शिकायत आने पर कार्यवाही भी की जा सकती है। इसलिए दुकान का संचालन बेहतर तरीके से किया जाना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर नगर पालिका अध्यक्ष श्री चंद्रशेखर चंद्राकर, जनपद अध्यक्ष श्री खिलेश देवांगन तथा वार्ड के पार्षद उपस्थित थे।

जिला पुलिस बल के आरक्षक (जी.डी.) संवर्ग हेतु शारीरिक दक्षता परीक्षा का दिनांक 28.01.2021 से आयोजन अभ्यर्थी 22 जनवरी से छत्तीसगढ़ पुलिस की वेबसाईट से डाउनलोड कर सकतें हैं प्रवेश पत्र

रायपुर 20 जनवरी 2021 । आरक्षक (जी.डी.) संवर्ग के अभ्यर्थियों की शारीरिक दक्षता परीक्षा 28 जनवरी से आयोजित की जाएगी। ऐसे अभ्यर्थी जो दिनांक 30.09.2018 को आयोजित लिखित परीक्षा में उपस्थित हुए थे वे ही शारीरिक दक्षता परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं। आरक्षक (जी.डी.) संवर्ग के 2259 रिक्त पदों की पूर्ति के लिए कुल 48278 अभ्यर्थियों की शारीरिक दक्षता परीक्षा के लिए रोल नंबरवार शेड्यूल जारी किया गया है।

शारीरिक दक्षता परीक्षा दिनांक 28.01.2021 से दिनांक 15.02.2021 तक आयोजित की जाएगी। शारीरिक दक्षता परीक्षा 5 केन्द्रों तथा स्वामी विवेकानंद स्टेडियम, कोटा (रायपुर), दूसरी वाहिनी, छसबल, सकरी (बिलासपुर), पांचवीं वाहिनी, छसबल, कंगोली (जिला बस्तर), शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय ग्राउंड, अंबिकापुर तथा पहली एवं सातवीं वाहिनी, छसबल, भिलाई (जिला दुर्ग) में आयोजित की जाएगी।

शारीरिक दक्षता परीक्षा में 5 प्रतिस्पर्धाएं होंगी- 800 मीटर, 100 मीटर, लंबी कूद, शॉट-पुट (गोला फंेक) एवं ऊंची कूद। इन प्रतिस्पर्धाओं के संबंध में मार्किंग पेटर्न एवं अन्य विस्तृत जानकारी छत्तीसगढ़ पुलिस की वेबसाईट https://cgpolice.gov.in पर उपलब्ध है। शारीरिक दक्षता परीक्षा हेतु अभ्यर्थी दिनांक 22.01.2021 के प्रातः 10:30 से अपना प्रवेश पत्र छत्तीसगढ़ पुलिस की वेबसाईट से डाऊनलोड कर सकते हैं। अभ्यर्थियों को एस.एम.एस. के माध्यम से भी जानकारियां प्रेषित की जा रही है।

जांजगीर/अकलतरा : के. एस. के. महानदी पावर कम्पनी के मजदूरो को मिलेगा 9% वेतन बढ़ोतरी AICC सदस्य मंजू सिंह को मजदूरो ने दिया धन्यवाद

नरियरा। के एस के महानदी पावर कम्पनी लिमिटेड के तालाबंदी के बाद मजदूरो ने लगातार आंदोलन छेड़ रखा था, जब से मजदूरो को पता चला था कि यूनाइटेड मजदूर संघ ने निशर्त तालाबंदी समाप्त करने पर सहमति दी है, जिसके बाद एचएमएस यूनियन ने लगातार विरोध प्रदर्शन किया था और तालाबंदी समाप्त नही करने दिया और फिर बाद में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह एवं AICC सदस्य मंजू सिंह के समझाईश के बाद 20 जनवरी को बैठक कर मजदूरो की समस्याओ को हल करने का आश्वासन दिया गया था तभी मजदूरो ने कार्य मे जाने पर सहमति प्रदान किया था। जांजगीर में होने वाली बैठक कारखाना में हुई

मजदूरो ने श्रेय की होड़ को खत्म करने के लिए आज कारखाना में ही बैठक कराने के लिए आंदोलन छेड़ दिया बाद में फिर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मधुलिका सिंह नवनियुक्त अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय महादेवा एसडीएम मेनका प्रधान की मध्यस्थता में बैठक हुई जिसमें 9% सालाना वेतनवृद्धि के लिए आपसी सहमति बनी, कारखाना प्रबन्धन की ओर से वेणुगोपाल राव जी के ओझा अजय अग्रवाल और राजू कुमार और एच एम एस यूनियन से बलराम गोस्वामी शेरसिंह राय लोभन साहू और यू एम एस यूनियन से सरजू केवट अजय सांडे शामिल थे।

एचएमएस यूनियन के अध्यक्ष विश्वनाथ प्रसाद साहू ने कहा कि यह मजदूरो की जीत है और इसका पूरा श्रेय AICC सदस्य मंजू सिंह को जाता है जिनके लगातार सहयोग और अथक प्रयास से यह कार्य पूरा हुआ है मंजू सिंह के द्वारा मजदूरो को लगातार मदद किया गया उन्होंने प्रशासन से लगातार वार्ता कर मध्यस्थता कर मजदूरो को सहयोग किया।

एचएमएस यूनियन के बलराम गोस्वामी ने पूरे जिला प्रशासन के अधिकारियों को धन्यवाद दिया और कहा कि जिला प्रशासन ने पूरे घटनाक्रम में गंभीरता से मामले को सुलझाया तथा कारखाना प्रबन्धन को भी धन्यवाद प्रेषित करते हुए कहा कि कारखाना के निर्बाध रूप से उत्पादन के लिए संघ हमेशा सहयोग करेगा, बलराम गोस्वामी ने मजदूरो को भी धन्यवाद दिया और मजदूरो को एकजुट रहने के साथ अनुशासन पूर्वक कार्य करने अपील किया अंत मे बलराम गोस्वामी ने संघर्ष के सभी साथियो को धन्यवाद देते हुए मीडिया को भी धन्यवाद कहा।

ओडिशा से छत्तीसगढ़ लाया जा रहा 30 बोरी अवैध धान पकड़ाया

BBN24न्यूज़, 19 जनवरी 2021: सीमावर्ती राज्य ओडिशा से अवैध रूप से लाया जा रहा 30 बोरी धान बीती रात रायगढ़ जिले के लारा (पुसौर) चेकपोस्ट पर पकड़ा गया। यह धान एक पिकअप में भरकर लाया जा रहा था। वाहन में धान भरे होने की सूचना चेकपोस्ट पर तैनात कर्मचारियों द्वारा जिला प्रशासन रायगढ़ द्वारा गठित खाद्य एवं मंडी विभाग के कर्मचारियों की टीम को दी गई। जांच पड़ताल के दौरान धान के अवैध परिवहन का मामला सामने आने पर वाहन सहित धान के जब्ती कार्रवाई की गई। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ राज्य में धान उपार्जन की अवधि में सीमावर्ती राज्यों से धान के परिवहन पर प्रतिबंध लगाया गया है। रायगढ़ छत्तीसगढ़ राज्य का सीमावर्ती जिला है। अन्य राज्यों से धान अवैध रूप से रायगढ़ जिले में न आ सके इसकी रोकथाम के लिए सीमावर्ती इलाकों में चेकपोस्ट स्थापित किए गए हैं। कलेक्टर श्री भीम सिंह के निर्देशन मे चेकपोस्ट से आने जाने वाले माल वाहकों की जांच पड़ताल की जा रही है। बीते 18 जनवरी को रात्रि गस्त के दौरान लारा (पुसौर) चेकपोस्ट में ड्यूटीरत कर्मचारियों के द्वारा एक पिकअप वाहन सीजी 13 एल 6923 में संदिग्ध पाये जाने पर इसकी सूचना संयुक्त जांच टीम का दी गई। वाहन में 30 बोरी यानि कुल 12.00 क्ंिवटल धान भरा पाया गया। वाहन चालक बिज्जू गुप्ता ने पूछताछ करने पर ओडिशा राज्य के ग्राम पिथिण्डा जिला-झारसुगुड़ा से धान लाने की बात स्वीकार की। प्रतिबंधित अवधि में धान का अवैध परिवहन के मामले में धान को वाहन सहित वाहन जब्त कर थाना पुसौर को सुपुर्द कर दिया गया है।

जांजगीर / अकलतरा : लापरवाही पूर्वक बाइक चलाना पड़ा महँगा आरोपी को 01 वर्ष कारावास एवं अर्थदंड की हुई सजा

युवक को लापरवाही पूर्वक बाइक चलाना बड़ा भारी पड़ गया मिली जानकारी के अनुसार न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी न्यायालय अकलतरा श्रीमान आनंद बोरकर द्वारा लापरवाही पूवर्क मोटरसायकिल चलाकर उपहति एवं मृत्यु करने के आरोपी बसंत श्याम मरावी को भा.द.वि.की विभिन्न धाराओं के तहत 01 वर्ष कारावास एवम अर्थदंड की सजा सुनाई।

पूरी घटना 23/10/2015 समय सुबह 7.30 बजे अकलतरा स्थित हरिकृष्ण अग्रवाल अस्पताल के पास की है,मृतक जनकराम निवासी ग्राम चोरभट्ठी अपनी मोटरसाइकिल में अपने भांजा मिथलेश(उम्र 1,1/2 वर्ष),नूतन(06वर्ष) तथा बहन लक्ष्मीन को बैठाकर अकलतरा से चोरभट्ठी तरफ जारहा था जब वह जांजगीर मोड़ के पास पहुचा तब विपरीत दिशा से आरोपी बसंत श्याम मरावी अपनी मोटरसाइकिल तेजी एवम लापरवाहीपूर्वक चलाते हुए आया और जनकराम की मोटरसायकिल को टक्कर मारा जिसके परिणामस्वरूप जनकराम और मिथलेश के सिर पर गंभीर चोट लगने से मौके पर ही दोनो की मृत्यु होगई तथा लक्ष्मीन और उसके पुत्र को चोट आई जिन्हें इलाज हेतु अस्पताल ले जाया गया। घटना के सम्बंध में जनकराम के भाई रामूप्रसाद की सूचना पर थाना अकलतरा द्वारा आरोपी के विरुद्ध अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना पश्चात धारा 279,337,304A भादवि के तहत चालान न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी न्यायालय अकलतरा के समक्ष पेश किया।

अकलतरा न्यायालय में गवाहों के परीक्षण-प्रतिपरीक्षण बाद न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी अकलतरा श्रीमान आनंद बोरकर द्वारा आरोपी बसंत श्याम मरावी को सार्वजनिक मार्ग पर लापरवाही पूर्वक वाहन चलाने का दोषी पाते हुए धारा 279भादवि के तहत 1माह कारावास,लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुये उपहति कारित करने का दोषी पाते हुए धारा 337भादवि(दो बार) के तहत 01-01 माह कारावास तथा लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुए उपेक्षा पूर्वक मृत्यु कारित करने का दोषी पाते हुए धारा 304A(दो बार) भादवि के तहत 01-01 वर्ष कारावास एवं अर्थदंड की सजा सुनाई साथ ही अर्थदंड अदा न करने पर अतिरिक्त कारावास का आदेश दिया।

मामले में शासन की तरफ से सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी एस. अग्रवाल ने पैरवी की।

आरक्षक के माता, पिता और भाई की कोरोना से मौत, स्पंदन में तत्काल मुराद पूरी स्पंदन कार्यक्रम में डीजीपी अवस्थी ने किया पुलिसकर्मियों और परिजनों की समस्याओं का निराकरण

रायपुर 18 जनवरी। सर कोरोना से मेरे घर में तीन लोगों की मौत हो गयी है। मेरे पिता, मां और भाई की कोरोना संक्रमण ने जान ले ली है। अब मेरे घर-परिवार की जिम्मेदारी मुझ पर ही है। कवर्धा में पदस्थ रायपुर निवासी छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के आरक्षक रामकुमार साहू डीजीपी अवस्थी को अपनी पीड़ा बताते हुये रो पड़े। डीजीपी डीएम अवस्थी स्पंदन कार्यक्रम में पुलिसकर्मियों और उनके परिजनों से वीडियो कॉल के जरिये बात कर रहे थे। आरक्षक रामकुमार साहू ने रायपुर संबद्ध करने की मांग की जिस पर डीजीपी ने तत्काल पुलिस मुख्यालय संबद्ध करने के लिये आदेश जारी कर दिया। डीजीपी डीएम अवस्थी ने स्पंदन कार्यक्रम आयोजित कर पुलिसकर्मियों और उनके परजिनों की समस्यायें सुनीं और उनका तत्काल निराकरण किया। महासमुंद की दीपांजली नाग ने बताया कि उनकी बेटी को थैलेसीमिया है। हर महीने उसे ब्लड की जरूरत होती है। उनके पति 11 साल से कोण्डागांव में पदस्थ हैं। बेटी की गंभीर स्थिति को देखते हुये पति की ट्रांसफर महासमुंद करने का आग्रह किया। डीजीपी अवस्थी ने तत्काल उनके पति ब्रजेश नाग को कोण्डागांव से महासमुंद स्थानांतरण करने के निर्देश जारी कर दिये। आरक्षक धनंजय सिंह की पत्नी ने बताया कि उनके पति को पुलिस नक्सली मुठभेड़ में दो गोली लगीं थीं। जिससे उनके शरीर के कई अंग काम नहीं करते हैं। वे पिछले 12 साल से बीजापुर में पदस्थ हैं। उनका स्थानांतरण बीजापुर से बिलासपुर हो जाये तो हम लोग उनकी अच्छे से देखरेख कर सकेंगे। अवस्थी ने आरक्षक धनंजय सिंह को तत्काल बीजापुर से बिलासपुर स्थानांतरित कर दिया। सब इंस्पेक्टर लालमन साव की पत्नी ने कहा कि उनका कई बार मिस्कैरिज हो चुका है। मैं अभी गर्भवती हूं। अस्पताल ले जाने के लिये कोई नहीं है। पति बस्तर में पदस्थ हैं, यदि कुछ दिन के लिये उन्हें रायपुर ट्रांसफर कर दिया जाये तो शायद हम लोगों को संतान सुख मिल जाये। डीजीपी श्री अवस्थी ने कहा कि छत्तीसगढ़ पुलिस हमेशा अपने पुलिसकर्मियों और उनके परिजनों के प्रति संवेदनशील है। डीजीपी ने लालमन साव को बस्तर से रायपुर स्थानांतरित करने के निर्देश जारी कर दिये।

जांजगीर-चांपा : कोविड टीकाकरण का शुभारंभ : सिविल सर्जन डॉ जगत को लगाया गया पहला टीका प्रथम चरण में 10 हजार हेल्थ वर्कर का होगा टीकाकरण आज जिला अस्पताल सहित बलौदा व अकलतरा में टीकारण का शुभारंभ

जांजगीर-, 16 जनवरी 2021

जिला अस्पताल परिसर के कोविड टीकाकरण सेंटर में अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ अनिल जगत को जिले का पहला टीका लगाकर टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया गया। जांजगीर-चांपा जिले में प्रथम चरण में जिले के 10,000 हेल्थ वर्करों का टीकाकरण किया जाएगा।

आज जिला अस्पताल जांजगीर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बलौदा और अकलतरा में टीकाकरण का शुभारंभ किया गया। टीकाकरण के दौरान जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती यनीता चंद्रा, उपाध्यक्ष श्री राघवेंद्र प्रताप सिंह, नगर पालिका जांजगीर नैला अध्यक्ष भगवानदास गढेवाल उपस्थित थे।

कलेक्टर यशवंत कुमार ने कोविड-19, के टीकाकरण के शुभारंभ के पूर्व वेक्सीनेटर्स टीम से चर्चा कर प्रशिक्षण एवं टीकाकरण के संबंध में पूरी प्रक्रिया की जानकारी लेते हुए उन्हें अपनी शुभकामनाएं दी। कलेक्टर ने कहा कि प्राथमिकता के आधार पहले चरण में 10 हजार हेल्थ वर्कर्स का टीकारण किया जाएगा। प्रथम दिन जिला अस्पताल, बलौदा और अकलतरा में 50-50 हेल्थ वर्कर्स को टीका लगाया जा रहा है। स्वास्थ्य विभाग के निर्देशानुसार टीकाकरण के लिए नियत मेडिकल प्रोटोकॉल की सभी तैयारियां सुनिश्चित की गयी है। सीएमएचओ डॉ एस आर बंजारे ने बताया कि टीकाकरण टीम को वैक्सीनेशन का समुचित तकनिकी प्रशिक्षण दिया गया है। टीकाकरण सेंटर में आब्जर्वेशन रूम, वेटिंग रूम, पंजीयन आदि की व्यवस्था की गयी हैं। टीकाकरण के दौरान स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों का पालन करने कहा गया है। टीकारण के पश्चात् हितग्राहियों को आब्जर्वेशन कक्ष में 30 मिनट तक निगरानी में रखा जाएगा। आवश्यक परामर्श एवं स्वास्थ्य संबधी दिक्कत होने पर इमरजेंसी नंबर 108 और चिकित्सा अधिकारियों के नंबर पर संपर्क करने कहा गया है।

टीकारण के दौरान टीकाकरण के जिला नोडल अधिकारी एवं डिप्टी कलेक्टर श्री करुण डहरिया, सहायक नोडल अधिकारी तहसीलदार श्री शेखर पटेल, डॉक्टर लहरें, डीपीएम सुश्री विभा टोप्पो, श्री देवेश सिंह, जिला चिकित्सालय के चिक्त्सिा अधिकारी सहित स्वास्थ विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

छत्तीसगढ़ में धान खरीदी के लिए खाद्य पदार्थों की पैकेजिंग में उपयोग किए गए जूट बारदानों का उपयोग की अनुमति : किसानों के हित में राज्य शासन का बड़ा निर्णय

रायपुर, 15 जनवरी 2021

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देशन पर किसानों के हित में एक और निर्णय लेते हुए राज्य शासन द्वारा प्रदेश में धान खरीदी के लिए खाद्य पदार्थों की पैकेजिंग में उपयोग किए गए जूट बारदानों का उपयोग करने की अनुमति दी गई है।

खाद्य नागरिक एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग संरक्षण विभाग द्वारा मंत्रालय महानदी भवन से इस संबंध में आज आदेश जारी किया गया है, जिसमें राज्य के सभी कलेक्टरों को स्थानीय स्तर पर बारदाना प्रदायकर्ताओं से समितियों, किसानों को उपयुक्त दरों पर बारदाना आपूर्ति कराने को कहा गया है।

गौरतलब है कि इसके पूर्व धान खरीदी के लिए8 नया जूट बारदाना, एचडीपीई, पीपी बारदाना, पीडीएस बारदाना, मिलरों, किसानों से प्राप्त बारदानों और समिति द्वारा उपलब्ध कराए गए पुराने जूट बारदानों की उपयोग के निर्देश दिए गए हैं। राज्य शासन द्वारा बारदानों की संभावित कमी को ध्यान में रखते हुए खाद्य पदार्थों की पैकेजिंग में उपयोग किए गए जूट के बारदानों का भी उपयोग धान खरीदी के लिए करने की अनुमति दी गई है।

आदेश के अनुसार खाद्य पदार्थों की पैकेजिंग में उपयोग किए गए जूट के पुराने बारदाने एक बार उपयोग किया गया होना चाहिए। बारदाने 50 किलो भर्ती के होने चाहिए और कटे-फटे नहीं होने चाहिए। खाद्य पदार्थों की पैकेजिंग उपयोग किए जूट बारदानों की गुणवत्ता एवं अन्य प्रक्रिया किसान बारदाने एवं समितियों द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाले पुराने जूट बारदानों के संबंध में जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार ही होंगे। इस बारदाने की दर पूर्व में निर्धारित पुराने बारदाने के अनुसार ही होगी।

छत्तीसगढ़ : राजस्व मंत्री ने जिला अस्पताल में आधुनिक सुविधाओं से लैस आॅपरेशन थियेटर, बर्न यूनिट, आईसीयू का किया लोकार्पण

राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल ने आज कोरबा शहर स्थित जिला अस्पताल में विभिन्न नई सुविधाओं का लोकार्पण किया। राजस्व मंत्री ने इंदिरा गांधी जिला चिकित्सालय में दो यूनिट माॅड्यूलर आॅपरेशन थियेटर, 10 बिस्तरों का इमरजेंसी ट्राॅमा यूनिट, 10 बिस्तरों का आधुनिक आई.सी.यु. एवं आठ बिस्तरों का बर्न यूनिट का उद्घाटन किया। श्री अग्रवाल ने जिले के लोगों की सेवा में स्वास्थ्य सुविधाओं की बढ़ोत्तरी करते हुए अत्याधुनिक, रिमोट कंट्रोल चलित सेंसर युक्त आॅपरेशन थियेटर को जिला अस्पताल में प्रारंभ किया। इस दौरान राजस्व मंत्री ने कहा कि जिला में इन सभी सुविधाओं के शुरू हो जाने से प्राइवेट अस्पताल से बेहतर सुविधाएं आज से उपलब्ध हो गईं हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार लोगों की स्वास्थ्य सुविधाओं में लगातार बढ़ोत्तरी कर रही है। मोहल्ला क्लीनिक भी शुरू किए जाएंगे जिसका परीक्षण चल रहा है। उन्होंने कहा कि जिला खनिज न्यास मद से सबकी सलाह से विचार-विमर्श करके जनसेवा में राशि खर्च की जाती है। डीएमएफ मद को ज्यादा से ज्यादा चिकित्सा और स्वास्थ्य क्षेत्र में सदुपयोग किया जा रहा है। आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित स्वास्थ्य सुविधाओं के लोकार्पण समारोह में महापौर नगर निगम कोरबा श्री राजकिशोर प्रसाद, सभापति नगर निगम श्री श्याम सुंदर सोनी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बी. बी. बोडे, सिविल सर्जन डाॅ. अरूण तिवारी सहित जिला अस्पताल के समस्त मेडिकल स्टाफ तथा गणमान्य नागरिकगण उपस्थित रहे।

राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने समस्त जिलेवासियों को बधाई देते हुए कहा कि जिन स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए बड़े शहर जाना पड़ता था तथा लाखों रूपए खर्च करने पड़ते थे अब वह सुविधाएं जिला अस्पताल में उपलब्ध है। डायलिसिस की आवश्यकता वाले मरीजों की सुविधा के लिए पांच डायलिसिस मशीन युक्त सेंटर भी जिलेवासियों के लिए निःशुल्क उपलब्ध है। आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित आॅपरेशन थियेटर शुरू किए गए हैं। दुर्घटना में जलने वाले मरीजों को पहले पांच-सात घंटे रायपुर ले जाने में समय लगता था। समय में देरी होने के कारण मरीज की जान बचाने में दिक्कत होती थी। अब जिला अस्पताल में स्थापित बर्न यूनिट के माध्यम से ऐसे मरीजों को तत्काल ईलाज की सुविधा मिल सकेगी जिससे मरीज की जान बच सकेगी। उन्हांेने कहा कि जिले में मेडिकल स्टाॅक की बढ़ोत्तरी के लिए 100 से अधिक डाॅक्टर, नर्सें, पैरामेडिकल स्टाफ की भर्ती की जाएगी जिससे लोगों को बेहतर सुविधाएं मिलेगी। उन्होंने सभी मेडिकल स्टाॅक से अनुरोध करते हुए कहा कि चिकित्सा के क्षेत्र में काम करते हुए आप लोग का फर्ज और नैतिक जिम्मेदारी यह है कि मरीजों की ईमानदारी से सेवा करें। आप लोग को यह जिम्मेदारी सेवा भाव के लिए दी गई है इसलिए मैं चाहूंगा कि आप लोग बेहतर तरीके से काम करें। आम आदमी, गरीब तथा दूरस्थ वनवासी ईलाज के लिए आते हैं उन्हें भटकना ना पड़े और सभी का उचित ईलाज किया जाए। राजस्व मंत्री ने डाॅक्टरों से कहा कि बिना वजह किसी भी मरीज को निजी अस्पताल में रिफर ना किया जाए।

राजस्व मंत्री श्री अग्रवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री बघेल के द्वारा किये गये जिले के विकास कार्यों की घोषणा को त्वरित गति से आगे क्रियान्वयन करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। घोषणाओं को पूर्ण कराने तथा बजट में जुड़वाने और विकास की रणनिति बनाने बैठक में चर्चा की गई है। उन्होंने कहा कि जिले में बनने वाले सड़कों को सुगम तरीके से पूरा करने बैठक रणनीति बनाई गई है। श्री अग्रवाल ने कहा कि जो काम पिछले 20 वर्षों में नहीं हुआ है वह बीते दो वर्षों में हुआ है। आने वाले तीन सालों में और भी बेहतर काम होंगे। विकास कार्यों को पूरा करने में प्रभारी मंत्री श्री टेकाम, महापौर, सभापति, कलेक्टर तथा जिले के अधिकारी-कर्मचारी लगे हुए हैं। स्कूलों में टाॅयलेट, बाउंड्रीवाॅल, छत का जीर्णोद्धार करके जिले के स्कूलों को बेहतर बना रहे हैं। बच्चों को खेल की सुविधा भी प्रदान की जा रही है। लगातार लोगों को मिलती रहेंगी सुविधाएं- महापौर श्री प्रसाद - कार्यक्रम को संबोधित करते हुए महापौर श्री राजकिशोर प्रसाद ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री बघेल के नेतृत्व में कोरबा जिले के निवासियों को लगातार सुविधाएं मिलती रहेंगी। ईलाज से लेकर पढ़ाई तक और सड़कों से लेकर अन्य जरूरी आधारभूत सुविधाएं लोगों को उपलब्ध कराना सरकार की प्राथमिकता है। महापौर ने जिले के लोगों को बेहतर और विकसित ईलाज की सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए राजस्व मंत्री श्री जयसिंह अग्रवाल का भी आभार व्यक्त किया।

जिले में लगातार स्वास्थ्य सुविधाओं की हो रही बढ़ोत्तरी- कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल ने कहा कि पहले ही जिला अस्पताल में उपलब्ध स्वास्थ्य सुविधाओं के कायाकल्प के लिए पुरस्कार मिल चुका है। औद्योगिक जिला होने के कारण कोरबा जिले में माॅड्यूलर आॅपरेशन थियेटर, बर्न यूनिट, आधुनिक आई.सी.यू. यूनिट की बहुत जरूरत थी। राजस्व मंत्री के निर्देशन में सबसे ज्यादा मद स्वास्थ्य क्षेत्र में उपयोग किया जा रहा है। जिले में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं लगातार उपलब्ध कराई जा रही है। डीएमएफ के माध्यम से पैरामेडिकल स्टाफ, डाॅक्टरों सहित नवीन भर्ती की जा रही है। उन्हांेने कहा कि आगामी समय में जिले की स्वास्थ्य सुविधाओं को और भी बेहतर किया जाएगा। अत्याधुनिक तकनीकों से सुसज्जित आॅटोमेटिक आॅपरेशन थियेटर- जिला अस्पताल में स्थापित दो नवीन माॅड्यूलर आॅपरेशन थियेटर आधुनिक सुविधाओं से लैस है। आॅपरेशन थियेटर में हाईटेक सेंसर युक्त दरवाजा लगा हुआ है। आॅपरेशन थियेटर को बैक्टेरिया और इंफेक्शन से बचाने के लिए कमरे का फ्लोर और दीवार एंटीबैक्टेरियल तत्वों से बनाया गया है। आॅपरेशन थियेटर में डिजिटल डिस्प्ले पैनल लगा हुआ है। पैनल में आॅक्सीजन सप्लाई, कमरे का तापमान, आर्द्रता तथा आॅपरेशन करते समय मरीज के शरीर की आवश्यक जानकारी प्रदर्शित होती रहेगी। जिला अस्पताल में स्थापित 10 बिस्तरों वाले नये आई.सी.यू. यूनिट भी आधुनिक तकनीकों से सुसज्जित हैं। आई.सी.यू. बेड में आॅक्सीजन सप्लाई पाइपलाइन की भी सुविधा है जिससे आईसीयू बेड में अलग से आॅक्सीजन सिलेण्डर की आवश्यकता नहीं होगी। कमरे में एंटीबैक्टेरियल पेंट से रंग-रोगन किया गया है। दुर्घटना में घायल मरीजों को तुरंत ईलाज की सुविधा मुहैया कराने आधुनिक 10 बिस्तरों वाले इमरजेंसी ट्राॅमा यूनिट की स्थापना की गई है।

उचित मूल्य दुकानों से माह जनवरी के साथ फरवरी का भी खाद्यान्न प्राप्त कर सकते हैं हितग्राही

बिलासपुर / जनवरी 2021

राशनकार्डधारी अपनी सुविधानुसार उचित मूल्य दुकानों में माह जनवरी 2021 के खाद्यान्न के साथ माह फरवरी 2021 का खाद्यान्न भी प्राप्त कर सकते हैं। राशनकार्डधारी अपनी सुविधानुसार वर्तमान माह में 1 या 2 माह का खाद्यान्न प्राप्त कर सकेगा। उसे 2 माह का खाद्यान्न एकमुश्त उठाव करने की बाध्यता नहीं होगी। माह फरवरी 2021 के सार्वजनिक वितरण प्रणाली के खाद्यान्न का आबंटन जारी कर दिया गया है। जिला खाद्य नियंत्रक बिलासपुर ने बताया कि राशनकार्डधारियों को 1 माह का केरोसिन पात्रतानुसार वितरण किया जायेगा। माह फरवरी 2021 के सार्वजनिक वितरण प्रणाली के खाद्यान्न के उचित मूल्य दुकानों में भण्डारण पश्चात ही उचित मूल्य दुकान संचालकों द्वारा राशनकार्डधारियों का माह फरवरी 2021 के खाद्यान्न का पात्रतानुसार वितरण किये जाने के निर्देश दिये गये हैं। राजस्व, खाद्य एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों के माध्यम से माह फरवरी 2021 के खाद्यान्न भण्डारण एवं वितरण व्यवस्था की निगरानी सुनिश्चित करने कहा गया है।

रायपुर : छत्तीसगढ़ के उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल का ऑफिसियल फेसबुक एकाउंट हैक

छत्तीसगढ़ के उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल का उमेश नंदकुमार पटेल के नाम से संचालित ऑफिसियल फेसबुक एकाउंट हैक हो गया है। उच्च शिक्षा मंत्री कार्यालय द्वारा एकाउंट हैक होने की सूचना प्रभारी साईबर सेल सिविल लाईन में दी गई है। सूचना के अनुसार उमेश नंदकुमार पटेल के नाम से संचालित ऑफिसियल फेसबुक एकाउंट 12 जनवरी को प्रातः से किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा हैक कर लिया गया है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने वर्कआउट कर पुलिस जवानों का बढ़ाया हौसला : दुर्ग में नवनिर्मित पुलिस परफारमेंस सेंटर का किया शुभारंभ

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को देर शाम दुर्ग के प्रथम बटालियन में नवनिर्मित पुलिस परफारमेंस सेंटर का शुभारंभ किया। इस मौके पर उन्होनें अपनी शुभकामनाएं दी और पुलिस परफारमेंस सेंटर में वर्कआउट कर जवानों का हौसला बढ़ाया। मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताते हुए कहा कि इस फिटनेस सेंटर से पुलिस के अधिकारी तथा कर्मचारी और जवान इसका लाभ लेकर अपनी ड्युटी मुस्तैदी से निभाएंगे। मुख्यमंत्री ने मेजरमेंट यूनिट सहित परफारमेंस सेंटर का अवलोकन किया। इस अवसर पर गृहमंत्री श्री ताम्रध्वज साहू, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, खाद्यमंत्री श्री अमरजीत सिंह भगत, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री शिव डहरिया, विधायक श्री अरुण वोरा, भिलाई महापौर और विधायक श्री देवेंद्र यादव, दुर्ग महापौर श्री धीरज बाकलीवाल, पूर्व महापौर भिलाई सुश्री नीता लोधी, पुलिस महानिरीक्षक विवेकानंद सिन्हा, कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे, मुख्य वन संरक्षक श्रीमती शालिनी रैना, विभागीय जांच आयुक्त दिलीप वासनिकर, पूर्व संभागायुक्त दुर्ग श्री त्रिलोकचंद महावर, पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

बिलासपुर : टीबी हारेगा देश जीतेगा अभियान के लिये नोडल अधिकारी नियुक्त 11 जनवरी से 15 फरवरी 2021 तक चलेगा अभियान

बिलासपुर 10 जनवरी 2021

जिले को टीबी मुक्त करने की दिशा में जिले के उच्च जोखिम समूहों में सघन खोज जांच अभियानटीबी हारेगा देश जीतेगा का आयोजन 11 जनवरी से 15 फरवरी 2021 तक किया जा रहा है। जिसके लिये कलेक्टर डॉ.सारांश मित्तर ने विभिन्न अधिकारियों को जिम्मेदारी दी है। जारी आदेश के अनुसार गृह विभाग जेल अधीक्षक को जेल के समस्त कैदियों का टीबी स्क्रीनिंग कार्य 11 से 13 जनवरी तक करना, महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी को जिले में संचालित समस्त अनाथालयों में टीबी स्क्रीनिंग कार्य 14 से 15 जनवरी तक, सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग को 14 से 15 जनवरी तक जिले में संचालित समस्त ट्रायबल हॉस्टल में टीबी स्क्रीनिंग कार्य, समाज कल्याण विभाग को जिले में संचालित समस्त वृद्धाश्रम में 14 से 15 जनवरी तक टीबी स्क्रीनिंग कार्य, खनिज विभाग को 18 से 22 जनवरी तक जिले मंे संचालित समस्त खदानों में टीबी स्क्रीनिंग कार्य, नगरीय निकायों को 25 जनवरी से 15 फरवरी तक जिले में संचालित समस्त रैन बसेरा एवं शहरी मलीन बस्तियों से टीबी स्क्रीनिंग कार्य, चिकित्सा शिक्षा एवं स्वास्थ्य विभाग को जिले मंे संचालित समस्त शासकीय स्वास्थ्य संस्था एवं एचआईवी के उच्च जोखिम समूहों मंे 6 से 9 फरवरी 2021 तक टीबी स्क्रीनिंग कार्य की जिम्मेदारी दी गई है।

आदेश में कहा गया है कि सभी नोडल अधिकारी कार्यों का सुचारू रूप से संपादन करेंगे एवं इस कार्य में स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से समस्त चिकित्सकीय जांच एवं उपचार का कार्य संपादन किया जाएगा। नोडल अधिकारियों द्वारा संबंधित संस्थानों से समन्वय स्थापित कर स्क्रीनिंग हेतु कार्य रोडमैप स्थल चयन कर कार्य संपादित कराया जाये। इस कार्य में राज्य शासन द्वारा जारी कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन करने के भी निर्देश दिये गये हैं।

भारत : अब खत्म हुआ इंतजार, देश में 16 जनवरी से लगेगा कोरोना का टीका, हाईलेवल मीटिंग के बाद हुआ फैसला

मिडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार आज शनिवार को कोरोना की स्थिति को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समीक्षा बैठक बुलाई, जिसमें टीकाकरण अभियान को शुरू करने पर फैसला लिया गया. वैक्सीन को मंजूरी मिलने के बाद से लोग टीकाकरण अभियान के शुरुआत का बेसब्री से इंतजार कर रहे थे.....