छत्तीसगढ़

सिलादेही में तीन दिवसीय श्री हरि कथा 23 से

आशीष कश्यप - BBN24

सतगुरु आशुतोष महाराज जी के सानिध्य में-दिव्य ज्योति जागृति संस्थान द्वारा आयोजित

बिर्रा-सतगुरु आशुतोष महराज जी के सानिध्य में बाजार चौक पुरानी बस्ती सिलादेही में तीन दिवसीय श्री हरि कथा का आयोजन 23 से  25 फरवरी को शाम 4 से 6 बजे तक किया गया है।जिसमें महात्मागण,संगीतकारों द्वारा भगवान श्री हरि के लीलाओं की विभिन्न प्रसंगों एवं सुमधुर भजनों के माध्यम में से व्याख्यान किया जाएगा।पुराणों एवं धार्मिक ग्रंथों में वर्णित आध्यात्मिक रहस्यों का विस्तार से वर्णन किया जाएगा।इस आयोजन का मुख्य उद्देश्य ईश्वर के अवतार लेने के पीछे क्या कारण,श्रीराम चरित मानस के सात कांड की आध्यात्मिक विवेचना, शास्त्रों के अनुसार परमात्मा की भक्ति की शास्वत विधि क्या है? तथा नवधाभक्ति की महता पर प्रकाश डाला जाएगा।इस अवसर पर गुरु दीक्षा(ब्रम्हज्ञान)भी दिया जाएगा।आयोजन को लेकर दिव्य ज्योति जागृति संस्थान व ग्रामवासी जूटे हुए हैं।

 

बिर्रा-शिवरीनारायण मार्ग पर हमेशा के लिए बंद हो भारी वाहनों की आवाजाही

आशीष कश्यप/BBN24/ *(शिवरीनारायण मेले को लेकर भारी वाहनों का रूट बदला गया)* केरा-शिवरीनारायण मार्ग पर बडे बडे मालवाहक ट्रक,हाईवा, कैप्सूल व ट्रेलर की आवाजाही से इस मार्ग पर काफी दबाव रहता है और आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है जिससे लोग जान जोखिम डालकर सफर करते है।लेकिन अभी 15 दिवसीय शिवरीनारायण मेले के कारण भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक लगाने हर समय बिर्रा थाना स्टाफ व यातायात पुलिस बस स्टैंड चौक पर मुस्तैदी के साथ ड्यूटी निभा रही है।इस समय बडे वाहनों को भटगांव होते हुए भेजा जा रहा है जिससे इस रूट पर दबाव कुछ कम हुआ है।क्षेत्र के लोगों का कहना है कि हमेशा के लिए बिर्रा-केरा-शिवरीनारायण मार्ग पर भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक लगानी चाहिए।जिससे बडे पैमाने पर विशालकाय वाहनों से छुटकारा मिल सके।

आईपीएस नीतू कमल बलौदा बाजार की कमान संभालने वाली पहली महिला पुलिस अधीक्षक,

बलौदा बज़ार   नई सरकार के आने के बाद की गई प्रशासनिक सर्जरी में बलौदा बाजार  में पहली बार महिला पुलिस अधीक्षक के तौर पर नीथू कमल की नियुक्ति की गई है. नीतू कमल ने गरुवार  को बलौदा बाजार पहुंचकर पदभार ग्रहण किया.  इस दौरान   जिले के तमाम पुलिस अधिकारी मौजूद थे.
2008 बैच की आईपीएस नीतू कमल इससे पहले रायपुर जिले की कमान संभाल रही थी. वहीं नीथू कमल पहली महिला एसपी होंगी जो बलौदा बाजार पुलिस की कमान संभालेंगी. बता दें कि नीतू कमल केरल की रहने वाली और इंजीनियरिंग की पढ़ाई के बाद सिविल सर्विसेज जॉइन की थी और 2008 में वो आईपीएस बन गई.

जशपुर के बगीचा में महिला बाल विकास विभाग की भर्ती प्रक्रिया में उठ रहे सवाल...पढ़े पूरी खबर

BBN24 के लिए भोज सिंह की रिपोर्ट● बगीचा कि आंगनबाड़ी कार्यकर्ता सहायिका की नियुक्ति हेतु आवेदन करीब एक साल पूर्व मंगाया गया था।पर तमाम प्रक्रियाओं नियुक्ति नियमों पंचायत राज अधिनियमो को तार – तार करते अब नियुक्ति आदेश बांटे जाने की खबर है।कहा यह जा रहा है कि इन नियुक्ति कार्यों में मोटे माल की वसूली होती है,इस पूरे प्रक्रिया को महिला बाल विकास विभाग बगीचा के एक रसूखदार सहायक ग्रेड 3 के लिपिक में पदस्थ कर्मचारी की गहरी सेटिंग के आरोप लगातार लगते रहे हैं। अभी फिलहाल कुछ महीनों पहले ही बच्चों को पोषण और जीवनरक्षक दवाइयों की लाखों की खरीद में गहरे आरोप लगे थे।जांच भी हुई पर कार्यवाही नही हो सकी, जिस जांच में नन्हे मुन्हे मासूमों के लिए खरीदी गई दवाइयां बाजार मूल्य से कई गुना ज्यादा दाम पर खरीदी किये जाने की पुष्टि हुयी थी। खैर ये तो बातें हो गई।अब इस भर्ती घोटाला के बारे में भी जान लीजिए :- कैसे हुआ यह भर्ती घोटाला? हम आपको बता दें कि एक वर्ष पूर्व बगीचा महिला बाल विकास विभाग द्वारा नियुक्ति का आवेदन लगाया गया था, नियमानुसार यह भर्ती प्रक्रिया 90 दिनों में पूर्ण कर लिए जाने की प्राक्रिया है जिसमे शासन के निर्देशानुसार समयबद्ध चरण है- पद 15 दिवस में आवेदन प्रकाशीत करना,आवेदन विभाग में आगे 15 दिवस में जमा हो जाना।अगले 4 दिवस में केन्द्रवार संकलन,अगले 7 दिवस में अंतिम योग्यता सुचि प्रकाशीत करना,अगले 10 दिनों में दावा आपत्ति प्राप्त करना,अगले 5 दिनों में मूल्यांकन समिति द्वारा अंतिम सूची तैयार कर जनपद पंचायत/एवं नगरीय निकाय को भेजना।अगले 21 दिनों में चयन समिति द्वारा अनुमोदन,अगले 3 दिवस में नियुक्ति आदेश का प्रसारण करना।

लापरवाही : 5 सप्ताह की नहीं मिली परिवार को मनरेगा की मजदूरी

BBN24 के लिए भोज सिंह की रिपोर्ट● विकाश खण्ड बगीचा के ग्राम पंचायत सारधापाठ के आश्रित ग्राम कुरकुरिया जहाँ आदिवासी पहाड़ी कोरवा विधवा महिला फुलमनी बाई के पुत्र एवं पुत्रियों के साथ मिल कर मनरेगा योजना के तहत 5 सप्ताह 2017 में काम किया गया था जिसमें उस परिवार को आज तक मजदूरी नई मिल पाई है और।इसकी शिकायत करने अधिकारियों के पास जाने में असमर्थ है हितग्राही महिला कई बार सचिव से गुहार लगा चुकी है सचिव द्वारा सिर्फ अस्वासन ही मिलता रहा है।की आपकी भुगतान करा दी जायेगी लेकिन इनकी बात को अनसुना कर रहे आखिर सोचने वाली बात यह हैं कि इनकी हक की मजदूरी भुगतान क्यों नही हो रही है।और राष्ट्रीय पति के दन्तक पुत्र कहे जाने वाले पहाड़ी कोरवा ग्राम पंचायत का चक्कर काट रहे है और कहीं ना कहीं पंचायत प्रतिनिधि की मिलीभगत के कारण मजदूरों को उनकी हक की मजदूरी नही मिल पा रही है। अब देखने वाली बात ये होगी की सोसल मीडिया में अवगत कराने के बाद इनकी हक की मजदूरी कब मिल पाती है।

जीनियस पब्लिक इंग्लिश मीडियम स्कूल बिर्रा में वार्षिकोत्सव 22 को

●हेमंत जायसवाल● बिर्रा :- बम्हनीडीह विकासखंड के ग्राम बिर्रा के जीनियस पब्लिक इंग्लिश मीडियम स्कूल में 22 फरवरी को वार्षिकोत्सव का आयोजन किया गया जिसमें वार्षिकोत्सव हर्षोल्लास व गरिमामय वातावरण में स्कूल के छात्र-छात्राओं के द्वारा रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम के बीच सम्पन्न होगा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सनत तिवारी (सेवानिवृत्त शिक्षक), अध्यक्षता डिम्पल गोपीचंद कर्ष, विशिष्ट अतिथि गीता प्रसाद तिवारी लखनलाल कश्यप, अरुण, डाॅ. जैनेंद्र कश्यप होगें वहीं मीडिया से भी पत्रकार बंधु विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे।।

संकूल स्तरीय वार्षिकोत्सव 23 को डीडीसीए स्कूल बिर्रा में होगा आयोजित

●हेमंत जायसवाल● (संकुल स्रोत केंद्र बिर्रा का आयोजन) बिर्रा-बम्हनीडीह विकासखंड के अंतर्गत संकुल स्रोत केंद्र बिर्रा के आयोजकत्व में "संकुल स्तरीय वार्षिकोत्सव"का आयोजन 23 फरवरी को सुबह 10 बजे शासकीय दीवान दुर्गेश्वर सिंह उमावि बिर्रा में किया गया है।जिसमें संकूल केंद्र बिर्रा के हर विद्यालय से एक एक सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा।बच्चों द्वारा गीत,नृत्य, कर्मा,सुआ नृत्य, नाटक व देशभक्ति सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी जाएगी।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि हरिराम जायसवाल-सहायक परियोजना अधिकारी जांजगीर, अध्यक्षता श्रीमती डिम्पल गोपीचंद कर्ष-सरपंच बिर्रा, विशिष्ट अतिथि कमलकपूर बंजारे-बीईओ बम्हनीडीह, हिमांशु मिश्रा-सहायक विकासखंड शि.अधिकारी बम्हनीडीह, कु.रत्ना थवाईत-सहायक वि.शि. अधिकारी बम्हनीडीह, हिरेन्द्र कुमार बेहार-विकासखंड समन्वयक बम्हनीडीह, लाल रेवतीरमण सिंह-राजमहल बिर्रा,मणीलाल कश्यप-अध्यक्ष सेवा सहकारी समिति बिर्रा, मनोजकुमार तिवारी-व्याख्याता शा. हाई स्कूल करही,तोषणप्रसाद तिवारी-प्राचार्य शा.डीडीसीए स्कूल बिर्रा, एफ एल साहू-प्राचार्य शास.उमावि बिर्रा होगे।आयोजन को लेकर संकूल प्रभारी लखनलाल कश्यप, शैक्षिक समन्वयक अरुणकुमार कश्यप व विद्यालय परिवार जुटे हुए हैं।

श्रद्धा ऐसी की जमीन पर लोटते लोटते चल पड़े 200 किलोमीटर

(शनि सूर्यवंशी) ■विशेष रिपोर्ट■ *पकरिया*- कहते हैं ना भगवान और भक्त का रिश्ता ही कुछ अजीब होता है अगर भक्तों को तकलीफ हो तो भगवान स्वयं उसकी मदद के लिए चले आते हैं और भक्त भी ऐसे जो भगवान के भक्ति में अपना सब कुछ भगवान के चरणों में अर्पित करने को आतुर हो जाते है मुंगेली जिले के तीन ऐसे शख्स है जो बाबा गुरु घासीदास जी के भक्ति में इस कदर लीन है कि वे अपने घर से लगभग 200 किलोमीटर दूर गिरौदपुरी धाम जाने के लिए जमीन लोटते हुए निकल पड़े बाबा गुरु घासीदास के प्रति आस्था इस कदर की जिसे देख लोग दंग रह जा रहे हैं जी हां मुंगेली जिले के तीन ऐसे संत हैं जो अपने गांव से लगभग 200 किलोमीटर दूर जमील लोटते हुए निकल पड़े हैं मुंगेली जिले के रहने वाले गणपत सतनामी देवा सतनामी एवं बहादुर सतनामी बाबा की भक्ति में इस कदर लीन है कि वह अपने घर से 25 दिन पहले बाबा गुरु घासीदास जी के जन्म स्थली गिरौदपुरी धाम जाने के लिए निकल पड़े वह भी बिना किसी साधन के 25 वे दिन वे लोग जब पकरिया पामगढ मार्ग पहुंचे तो जब हम उनलोगों से बात किए तो वह बताएं कि हम 25 दिन पहले अपने ग्राम से बाबा गुरु घासीदास जी की जन्म स्थली गिरौदपुरी धाम जाने के लिए निकले हैं और आने वाले 11 मार्च से शुरू होने वाले गिरौदपुरी धाम मेले में शामिल होने के लिए एवं बाबा के दर्शन के लिए जमीन लोटते हुए जा रहे हैं और हम 11 मार्च से होने वाले मेले में बाबा के दर्शन कर वापस अपने गांव के लिए रवाना होंगे। *समाज कर रहा सहयोग* हमने संतोष जी से जाना है कि वह 25 दिन पहले घर से निकले हुए हैं तो यह रास्ते में क्या खा रहे हैं और कैसे रात गुजार रहे हैं तो उन्होंने बताया कि हमारे समाज के लोग हमें खाना बनाने नहीं दे रहे हैं बल्कि हमें हमारे समाज के लोग ही खाना बनाकर खिला रहे हैं सब बाबा गुरु घासीदास दास जी की महिमा है और हमें यह भी पता है कि हमें गिरौदपुरी धाम के जाते तक कहीं खाना बनाना नहीं पड़ेगा क्योंकि बाबा गुरु घासीदास स्वयं हम लोगों की रक्षा कर रहे हैं और हमारे खाने पीने का व्यवस्था भी स्वयं गुरु घासीदास बाबा कर रहे हैं।

अकलतरा के चार खिलाड़ी हुए रवाना ,पुणे (महाराष्ट्र) में राज्य स्तरीय दिव्यांग क्रिकेट स्पर्धा के लिए हुवा चयन...!

शनि सूर्यवंशी @BBN24 - पुणे ( महाराष्ट्र) में आयोजित राज्य स्तरीय दिव्यांग क्रिकेट स्पर्धा 22 .23. फरवरी को होना है जिसमे भाग लेने छत्तीसगढ़ दिव्यांग क्रिकेट टीम हुए रवाना दुर्ग टीम के कोच श्री चंद्रशेखर जनबन्धु के द्वारा जांजगीर जिले के अकलतरा नगर से 4 युवा दिव्यांग खिलाड़ी का चयन कर उन्हें अपने साथ पुणे महाराष्ट्र लेकर गए उनके नाम इस प्रकार हैं टीम के कप्तान राजा भारते उप-कप्तान पंचराम खांडेल सदस्य शशिकांत सोनी कृष्णा कुमार शामिल है चयन होने पर टीम के सदस्यों ने अपने साथी खिलाड़ियों को बधाई दिया वही नगर में हर्ष ब्याप्त है।

जनप्रतिनिधियों की लापरवाही का नतीजा - आंगनबाड़ी भवन खण्डहरों में तब्दील 2008/9की स्वीकृत के बाद भी आज तक अधूरा है कार्य

★BBN24 के लिए भोज सिंह की रिपोर्ट★ विकाशखंड बग़ीचा के ग्राम पंचायत भड़िया के आश्रित ग्राम वेलवार में आंगनबाड़ी भवन 2008/9 की स्वीकृत थी जिसमें , भुतपूर्व सरपंच,सचिव के द्वारा बनवाया जा रहा था। लेकिन बीच में कार्य को अधूरा छोड़ दिया गया और सचिव सरपंच द्वारा भवन की राशि आहरण कर कर ली गयी इस विषय पर ग्रामीणों द्वारा कई बार कलेक्टर जनदर्शन जनपत सीईओ के पास शिकायत की गई मग़र अधिकारियों द्वारा कोई पहल नही की गई ना ही सचिव सरपंच के खिलाफ कोई कार्यवाही हुई। गमन राशि भी अधिकारीयों द्वारा नही वसूली गई और आज भी राष्ट्रीय पति के दन्तक पुत्र कहे जाने वाले पहाड़ी कोरवा के मिट्टी के मकान झोपड़ पट्टी में आंगनबाड़ी संचालित की जा रही है।और मोके पर कभी अधिकारी जांच के लिए आज तक नही आये इतने शासन प्रशासन को अवगत कराने के बाद भी कोई पहल नही की गई कहीं ना कहीं अधिकारियों की बड़ी लापरवाही सामने आयी है। भले ही शासन प्रशासन शिक्षा के क्षेत्र बड़े बड़े दावे करते है लेकिन आज भी सरकारी स्कूल की स्तर वही नजर आती है।

जनपत पंचायत बगीचा के ग्राम पंचायत खाखरा में उपसरपंच के द्वारा जमकर किया जा रहा भ्रष्ठाचार

■BBN24 के लिए भोज सिंह की रिपोर्ट■ बगीचा : आदिवासी पहाड़ी कोरवा में प्रधानमंत्री आवास सन 2017 /18 में स्वीकृत हुई थी जिसमें खखरा पंचायत के उपसरपंच रामप्रीत यादव के द्वारा बनवाया जा रहा था लेकिन आज भी मकान अधूरे पड़े हैं। और हितग्राही के मुताबिक मकान की गुणवत्ता भी सही तरीके से नहीं बनाया जा रहा था। जब हितग्राहियों के द्वारा उपसरपंच रामप्रीत यादव को मकान तैयार करने की बात कहा जाता है तो रामप्रीत यादव के द्वारा वजट नहीं होने की बात कही जाती है जब की हितग्राहियों के खाते से राशि आहरण करवा कर उपसरपंच रामप्रीत यादव के द्वारा ले लिया गया है।और हितग्राहियों के ऊपर जल्द मकान बनवाने की नोटिश आई हुई है जिसमें हितग्राहियों ने करवाई की डर से चिंतित हैं।इस बाबत जनपद पंचायत बग़ीचा के मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्री विनोद सिंह जी इस मामले पर जल्द जाँच कर कार्यवाही करने की मांग किये थे हितग्राहियों द्वारा लेकिन अभी तक अधिकारी मौन हैं ना ही जाँच हुई है ना ही उपसरपंच के खिलाफ कोई कार्यवाही आखिर क्यों अनसुना कर रहा है प्रशासन इस राष्ट्रीय पति के दन्तक पुत्र कहे जाने वाले इस पहाड़ी कोरवा की।

स्वामी विवेकानन्द समिति गंझियाडीह ने शहीदों को दी श्रंद्धाजलि

■BBN24 के लिए भोज सिंह की रिपोर्ट■ पुलवामा में 14 फरवरी को हुए भारतीय सैनिकों की आतंकी हमला जिसमे 40 जवान शाहिद हो गए जवानों को नम आँखों से श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए गंझियाडीह के स्वामी विवेकानंद समिति के सभी सदस्य एकत्रित होकर बाजारपारा से मंदिर चौक तक कैंडल मार्च निकालकर "हिंदुस्तान जिंदाबाद का नारा लगाते हुए पाकिस्तान मुर्दाबाद"का नारा लगाए और अपने अपने नम आंखों से शाहिद जवानों को श्रंद्धाजलि अर्पित किया गया ।

विस अध्यक्ष के खिलाफ विभिन्न माध्यम से आगे भी जारी रहेगा आंदोलन प्रेसवार्ता सहित विभिन्न कार्यक्रमों का होगा बहिष्कार, राहुल गांधी से की जाएगी शिकायत जब तक डॉ. महंत को अपनी भूल का एहसास नहीं होगा, जारी रहेगा आंदोलन

  जांजगीर-चांपा:- जिले के पत्रकारों ने बीते 18 फरवरी से अपने आंदोलन को तीन दिनों के लिए स्थगित किया था। इस बीच जिला प्रशासन और पत्रकारों के बीच हुई वार्ता में जिला पंचायत सीईओ मसले का पटाक्षेप हो गया। जबकि विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत की ओर से किसी तरह की पहल नहीं हुई। ऐसे में पत्रकारों ने आज शहर के बीडी महंत उद्यान में एक बैठक की, जिसमें अनिश्चतकालीन आंदोलन को समाप्त करते हुए डॉ. महंत की प्रेसवार्ता सहित विभिन्न कार्यक्रमों का बहिष्कार करते हुए अपने आंदोलन को तब तक जारी रखने का निर्णय लिया, जब तक डॉ. महंत को अपनी भूल का अहसास न हो जाए।

जिला मुख्यालय जांजगीर स्थित बीडी महंत उद्यान में आज दोपहर 12 बजे आयोजित बैठक में पत्रकार बड़ी संख्या में शामिल हुए। बैठक के दौरान तीन दिनों के लिए स्थगित आंदोलन के संबंध में चर्चा की गई। आपकों बता दें कि बीते 4 फरवरी को जिला पंचायत सीईओ अजीत बसंत के चेंबर में पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार हुआ था, तब पत्रकारों ने जाज्वल्यदेव लोक महोत्सव के प्रारंभ में मुख्य अतिथि विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत के समक्ष इस घटना का विरोध जताया, लेकिन डॉ. महंत ने यथास्थिति को समझने के बजाय उल्टा पत्रकारों को कार्यक्रम स्थल से बाहर जाने को कह दिया। इससे पत्रकार और भड़क गए और उन्होंने इसी समय से विधानसभा अध्यक्ष डॉ. महंत और जिला पंचायत सीईओ के खिलाफ बिगुल फूंक दिया। इस बीच पत्रकारों ने कैंडल मार्च और बाइक रैली निकालकर विरोध जताया। इसके बाद पत्रकारों ने बीते 12 फरवरी से अनिश्चितकालीन आंदोलन प्रारंभ हुआ। पत्रकारों कायह आंदोलन धीरे-धीरे तेज हो रहा था। इसी बीच बीते 17 फरवरी को कांग्रेस का एक प्रतिनिधि मंडल ने धरनास्थल पहुंचकर डॉ. महंत और जिला पंचायत सीईओ के संबंध में ठोस आश्वासन दिया था। इसके चलते पत्रकारों ने अपने आंदोलन को तीन दिनों के लिए स्थगित कर दिया था। इस बीच शहर के सर्किट हाउस में जिला प्रशासन और पत्रकारों की बैठक हुई, जिसमें जिला पंचायत सीईओ अजीत बसंत ने खेद प्रकट किया। लेकिन विधानसभा अध्यक्ष डॉ. महंत की ओर से अब तक किसी तरह का संदेश नहीं आया है। इससे नाराज पत्रकारों ने आज बैठक कर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. महंत की प्रेसवार्ता सहित उनके विभिन्न कार्यक्रमों का बहिष्कार करने का निर्णय लिया। बैठक के दौरान सबकी सहमति बनी कि जिले के पत्रकार जल्द रायपुर जाकर विधानसभा अध्यक्ष डॉ. महंत का मीडिया के प्रति दुर्व्यवहार को लेकर राज्यपाल, मुख्यमंत्री और कांग्रेस हाईकमान राहुल गांधी को शिकायत पत्र प्रेषित करेंगे। बैठक में यह भी सहमति बनी कि जब तक डॉ. महंत अपनी गलती स्वीकार नहीं करेंगे तब तक यहां के पत्रकारों का यह आंदोलन जारी रहेगा। चुनाव के दौरान यदि कांग्रेस के किसी बड़े नेता की प्रेसवार्ता होगी तो उसमें भी विधानसभा अध्यक्ष के इस रवैया पर सवाल उठाया जाएगा। बैठक में जांजगीर और चांपा को मिलाकर एक सशक्त प्रेस क्लब गठन करने पर भी सहमति बनी, ताकि पत्रकार एकता आगे भी कायम रहे।

दुर्ग-जयपुर-अजमेर सप्ताहिक ट्रेन का फेरा बढ़ाकर सामाजिक संस्था अवाम-ए-हिंद सोशल वेलफेयर कमिटी की मांग पूरा होने पर धन्यवाद ज्ञापित किया

भाटापारा- आवाम-ए- हिंद सोशल वेलफेयर कमेटी रायपुर के छत्तीसगढ़ अंचल से धार्मिक स्थल पुष्कर एवं अजमेर शरीफ चलने वाली सप्ताहिक ट्रेन दुर्ग जयपुर के फेरे बढ़ाने बाबत संस्था के प्रतिनिधि मंडल ने रायपुर लोकसभा सांसद रमेश बैस तथा राज्यसभा सांसद छाया वर्मा से मिलकर ज्ञापन सौंपा गया था संस्था के द्वारा उठाए गए जनहित मुद्दे के समाधान के लिए दोनों सांसदों ने तत्काल रेल मंत्री भारत शासन तथा दिल्ली रेल बोर्ड के अधिकारियों को ईमेल के जरिए अपनी अनुशंसा अग्रेषित करते हुए अनुशंसा पत्र की एक प्रति संस्था को सौंपी गई थी अतः संस्था की मांगों को मानते हुए दुर्ग-जयपुर-अजमेर सप्ताहिक ट्रेन का फेरा बढ़ाकर सामाजिक संस्था अवाम-ए-हिंद सोशल वेलफेयर कमिटी की उपरोक्त मांग के केंद्र सरकार राज्य के सांसद एवं रेलवे बोर्ड रायपुर डीआरएम के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया एवं मंगलवार को अजमेर दुर्ग एक्सप्रेस का भाटापारा में आवाम ए हिंद कमेटी के संरक्षक मोहम्मद सज्जाद खान के आदेशानुसार कमेटी के सदस्य सलीम खान एवं अन्य सदस्यों के द्वारा ट्रेन का स्वागत भाटापारा रेलवे स्टेशन में ट्रेन के चालक को माला पहनाकर एवं मुंह मीठा करा कर स्वागत किया गया जिसमें प्रमुख रूप से शहर के उमर बांठिया अब्दुल गॉड आसिफ बांठिया एजाज खान अली भाई शाहिद खान फारुख खान फिरोज खान आदि संस्था के सदस्य उपस्थित थे।

जशपुर:मेला पर शुरू हुआ “महादंगल”हंगामे पर उतारू हुए लोग

■ जशपुर से भोज सिंह की रिपोर्ट■ जशपुर जिले में लगने वाले पारम्परिक जतरा मेला को लेकर कुनकुरी में बवाल मचा हुआ है ।सोशल मीडिया से लेकर धरातल तक इसको लेकर विरोध शुरू हो गया है ।बताया जा रहा है कि सरकारी और हर प्रकार से सुरक्षित जमीन के अभाव में इस बार मेला कुनकुरी के एक निजी जमीन में लगाने की आज पूरी तैयारी हो गई थी।जमीन की सफाई और समतलीकरण का काम तो शुरू हो ही गया था मेला में लगने वाले मनोरंजक उपकरणों का यहाँ जमना भी शुरू हो गया था लेकिन इस बीच मेला स्थल के आस पास रहने वाले परिवारों ने मेला लगने का विरोध करना शुरू कर दिया बल्कि शिकायतों और आपत्तियों का पुलिंदा लेकर सीधे कलेक्टर के पास ही पहुंच गए। इन परिवारों का कहना है स्टेट हाईवे के किनारे होने और रिहायसी इलाका होने के चलते यह जगह मेला के लिए उपयुक्त नही है ।शिकायतकर्ताओं ने बताया कि कलेक्टर से शिकायत के बाद कलेक्टर ने कल कुछ अधिकारियों की टीम मेला स्थल निरीक्षण करने भेजा और कल्ड 11 बजे सुबह अधिकारियों की टीम आकर मेला स्थल का निरीक्षण करेगी। आपको बता दें कि इस बार पारम्परिक जतरा मेला को मीना बाजार के नाम से लगाया जा रहा था साथ ही साथ जगह की अनुमति देने से लेकर जगह चयन करने तक पर सोशल मीडिया पर आज सुबह से ही बहश शुरू है ।